मकाउ:


यह चीनी तट पर स्थित है। इसका सबसे पहले 1521 ई- में पुर्तगालियों द्वारा व्यापार चौकी के रूप में उपयोग किया गया था। 1557 ई- में पुर्तगालियों ने यहां अपना स्थायी बेड़ा स्थापित किया। सन् 1885 से 1974 तक चीन ने मकाउ पर पुर्तगाल की संप्रभुता को मान्यता दी। 1976 ई- में पुर्तगाल ने मकाउ को विस्तृत स्वायत्तता प्रदान की। वर्ष 1987 में पुर्तगाल एवं चीन के मध्य हुए समझौते के अनुसार मकाउ को वर्ष 1999 में चीन को हस्तांतरित कर दिया गया। 19 दिसम्बर, 2000 को मकाउ पूर्णरूपेण चीन का अंग बन गया।

राजधानीः मकाउ

शासन प्रणालीः विशेष चीनी प्रशासनिक क्षेत्र

क्षेत्रफलः 28-2 वर्ग किमी

जनसंख्याः 601,969

सरकारी भाषाः पुर्तगाली, कैंटोनीज

धर्मः कन्फ्रयूशियस

मुद्राः पटाका

नगरीय जनसंख्याः 100 प्रतिशत।

1- मकाउ विशेष प्रशासनिक क्षेत्र चीन का एक विशेष प्रशासनिक क्षेत्र है और यह चीन के दो विशेष प्रशासनिक क्षेत्र में से एक है, हांगकांग दूसरा क्षेत्र है।

2- मकाउ पर्ल नदी डेल्टा की पश्चिमी ओर स्थित है, इसकी सीमायें गुआंग्डोंग प्रांत से उत्तर में मिलती हैं और दक्षिण और पूर्व में दक्षिण चीन सागर है।

3- मकाउ के प्रमुऽ उद्योगों में वस्त्र, इलेक्ट्रॉनिक्स उपकरण और िऽलौने और पर्यटन शामिल है, यह सब मिलकर इसे विश्व के सबसे धनी शहरों मे से एक बनाते हैं। यहां व्यापक श्रेणी के होटल, रिसॉर्ट, स्टेडियम, रेस्तरां और जुआघर हैं।

4- विशेष प्रशासनिक क्षेत्र के रूप में, मकाओ की ऽुद की कानून व्यवस्था, टेलीफोन कोड, पुलिस बल होने के साथ अपनी मुद्रा भी है।

5- मकाउ चीन का पहला और अंतिम यूरोपीय उपनिवेश है। पुर्तगाली व्यापारियों सबसे पहले यहां 16 वीं शताब्दी में आकर बसे और तब से लेकर 20 दिसम्बर 1999 तक जब इसे चीन को हस्तांतरित किया गया मकाउ का प्रशासन पुर्तगालियों के अधीन रहा।


Download as PDF