58वां ज्ञानपीठ पुरस्कार 2023

संस्कृत विद्वान जगद्गुरु रामभद्राचार्य तथा प्रसिद्ध उर्दू गीतकार गुलजार को 58वें ज्ञानपीठ पुरस्कार (2023) के लिए चयनित किया गया है।

  • गुलजार के नाम से प्रसिद्ध संपूर्ण सिंह कालरा हिंदी सिनेमा में अपने कार्य के लिए पहचाने जाते हैं और वर्तमान समय के लोकप्रिय उर्दू कवियों में से एक हैं।
  • इससे पहले गुलजार को उर्दू में अपने कार्य के लिए 2002 में साहित्य अकादमी पुरस्कार, 2013 में दादा साहब फाल्के पुरस्कार, 2004 में पद्म भूषण और कई राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार मिल चुके हैं।
  • रामभद्राचार्य रामानंद संप्रदाय के वर्तमान 4 जगद्गुरु रामानंदाचार्यों में से एक हैं और 1982 से इस ....
क्या आप और अधिक पढ़ना चाहते हैं?
तो सदस्यता ग्रहण करें
इस अंक की सभी सामग्रियों को विस्तार से पढ़ने के लिए खरीदें |

पूर्व सदस्य? लॉग इन करें


वार्षिक सदस्यता लें
सिविल सर्विसेज़ क्रॉनिकल के वार्षिक सदस्य पत्रिका की मासिक सामग्री के साथ-साथ क्रॉनिकल पत्रिका आर्काइव्स पढ़ सकते हैं |
पाठक क्रॉनिकल पत्रिका आर्काइव्स के रूप में सिविल सर्विसेज़ क्रॉनिकल मासिक अंक के विगत 6 माह से पूर्व की सभी सामग्रियों का विषयवार अध्ययन कर सकते हैं |