न्यायमूर्ति संजीव खन्ना

हाल ही में, भारत के राष्ट्रपति ने न्यायमूर्ति संजीव खन्ना को राष्ट्रीय कानूनी सेवा प्राधिकरण (NALSA) का कार्यकारी अध्यक्ष नियुक्त किया है। सुप्रीम कोर्ट के सबसे वरिष्ठ न्यायाधीश न्यायमूर्ति खन्ना ने न्यायमूर्ति एस. के. कौल का स्थान लिया है।

  • राष्ट्रीय कानूनी सेवा प्राधिकरण (NALSA): यह 1987 के कानूनी सेवा प्राधिकरण अधिनियम के तहत स्थापित एक वैधानिक निकाय है। यह संगठन समाज के कमजोर वर्गों को निःशुल्क कानूनी सेवाएं प्रदान करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है और इसका उद्देश्य विवादों के सौहार्द पूर्ण समाधान के लिए लोक अदालतों का आयोजन करना है।
  • यह दोहरी नेतृत्व संरचना इसके कामकाज के लिए ....
क्या आप और अधिक पढ़ना चाहते हैं?
तो सदस्यता ग्रहण करें
इस अंक की सभी सामग्रियों को विस्तार से पढ़ने के लिए खरीदें |

पूर्व सदस्य? लॉग इन करें


वार्षिक सदस्यता लें
सिविल सर्विसेज़ क्रॉनिकल के वार्षिक सदस्य पत्रिका की मासिक सामग्री के साथ-साथ क्रॉनिकल पत्रिका आर्काइव्स पढ़ सकते हैं |
पाठक क्रॉनिकल पत्रिका आर्काइव्स के रूप में सिविल सर्विसेज़ क्रॉनिकल मासिक अंक के विगत 6 माह से पूर्व की सभी सामग्रियों का विषयवार अध्ययन कर सकते हैं |