​तेल रिसाव की समस्या से निपटने हेतु संगोष्ठी का आयोजन

22-23 मई, 2024 के मध्य भारतीय तटरक्षक बल (ICG) ने पश्चिम बंगाल के हल्दिया में 'प्रदूषण प्रतिक्रिया संगोष्ठी एवं मॉक ड्रिल' (Pollution Response Seminar and Mock Drill) का आयोजन किया। इस कार्यक्रम में समुद्र में तेल रिसाव की घटना से निपटने की महत्वपूर्ण चुनौतियों का समाधान करने के लिए विभिन्न हितधारकों ने भाग लिया।

  • तेल रिसाव से तात्पर्य टैंकरों, अपतटीय प्लेटफार्मों, ड्रिलिंग रिग्स या कुओं से पर्यावरण में तरल पेट्रोलियम हाइड्रोकार्बन की निर्मुक्ति है। यह परिष्कृत पेट्रोलियम उत्पाद हो सकते हैं या बड़े जहाजों द्वारा उपयोग किए जाने वाले ईंधन भी हो सकते हैं।
  • तेल रिसाव से मछलियों पक्षियों स्तनधारियों और अन्य ....
क्या आप और अधिक पढ़ना चाहते हैं?
तो सदस्यता ग्रहण करें
इस अंक की सभी सामग्रियों को विस्तार से पढ़ने के लिए खरीदें |

पूर्व सदस्य? लॉग इन करें


वार्षिक सदस्यता लें
सिविल सर्विसेज़ क्रॉनिकल के वार्षिक सदस्य पत्रिका की मासिक सामग्री के साथ-साथ क्रॉनिकल पत्रिका आर्काइव्स पढ़ सकते हैं |
पाठक क्रॉनिकल पत्रिका आर्काइव्स के रूप में सिविल सर्विसेज़ क्रॉनिकल मासिक अंक के विगत 6 माह से पूर्व की सभी सामग्रियों का विषयवार अध्ययन कर सकते हैं |