भारतीय जेलों में मासिक धर्म स्वच्छता

28 मई, 2024 को 'विश्व मासिक धर्म स्वच्छता दिवस' के रूप में मनाया गया। भारत में विगत कुछ वर्षों में 'मासिक धर्म स्वच्छता प्रबंधन (Menstrual Hygiene Management) के परिदृश्य में एक आशाजनक बदलाव देखा गया है। राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण के पांचवें दौर (NFHS 2019-2020) के आंकड़ों से पता चलता है कि 15-24 वर्ष की आयु की 10 में से लगभग 8 युवा महिलाएं अब सुरक्षित मासिक धर्म स्वच्छता उत्पादों का उपयोग कर रही हैं। साथ ही इस संबंध में जेलों की स्थिति भी चिंताजनक है; यह पाया गया है कि मासिक धर्म स्वच्छता में सुधार के बावजूद, भारत में ....

क्या आप और अधिक पढ़ना चाहते हैं?
तो सदस्यता ग्रहण करें
इस अंक की सभी सामग्रियों को विस्तार से पढ़ने के लिए खरीदें |

पूर्व सदस्य? लॉग इन करें


वार्षिक सदस्यता लें
सिविल सर्विसेज़ क्रॉनिकल के वार्षिक सदस्य पत्रिका की मासिक सामग्री के साथ-साथ क्रॉनिकल पत्रिका आर्काइव्स पढ़ सकते हैं |
पाठक क्रॉनिकल पत्रिका आर्काइव्स के रूप में सिविल सर्विसेज़ क्रॉनिकल मासिक अंक के विगत 6 माह से पूर्व की सभी सामग्रियों का विषयवार अध्ययन कर सकते हैं |