भारत में तम्बाकू महामारी

31 मई, 2024 को 'विश्व तंबाकू निषेध दिवस' मनाया गया। इस दिवस का उद्देश्य तंबाकू के उपयोग के स्वास्थ्य जोखिमों के बारे में जागरूकता बढ़ाना है। यह सार्वजनिक स्वास्थ्य, विशेषकर युवाओं के स्वास्थ्य की रक्षा के लिए सख्त उपायों की भी वकालत करता है।

  • ग्लोबल एडल्ट टोबैको सर्वे (GATS) और ग्लोबल यूथ टोबैको सर्वे (GYTS) क्रमशः वयस्कों और युवाओं के बीच तंबाकू के उपयोग का आकलन करते हैं।
  • राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण (NFHS) भी 15 वर्ष से ऊपर के लोगों में तंबाकू के उपयोग का अध्ययन करता है।
  • वर्तमान रुझानों के अनुसार, कुल मिलाकर तंबाकू के उपयोग में कमी आई है। किंतु, ....

क्या आप और अधिक पढ़ना चाहते हैं?
तो सदस्यता ग्रहण करें
इस अंक की सभी सामग्रियों को विस्तार से पढ़ने के लिए खरीदें |

पूर्व सदस्य? लॉग इन करें


वार्षिक सदस्यता लें
सिविल सर्विसेज़ क्रॉनिकल के वार्षिक सदस्य पत्रिका की मासिक सामग्री के साथ-साथ क्रॉनिकल पत्रिका आर्काइव्स पढ़ सकते हैं |
पाठक क्रॉनिकल पत्रिका आर्काइव्स के रूप में सिविल सर्विसेज़ क्रॉनिकल मासिक अंक के विगत 6 माह से पूर्व की सभी सामग्रियों का विषयवार अध्ययन कर सकते हैं |