भारत-भूटान संबंध: द्विपक्षीय प्रगति और विकास

भारत और भूटान के बीच आपसी विश्वास, सद्भावना और समझ पर आधारित अद्वितीय द्विपक्षीय संबंध विकसित हुए हैं। दोनों देशों के बीच 1949 में हस्ताक्षरित 'मित्रता और सहयोग की संधि', जिसे 2007 में नवीनीकृत किया गया, इस संबंध में मूल ढांचे के रूप में कार्य करती है।

भारत-भूटान संबंध: द्विपक्षीय प्रगति और विकास

  • व्यापार एवं आर्थिक संबंध: वर्ष 1972 में दोनों देशों के मध्य 'व्यापार, वाणिज्य तथा पारगमन समझौते' पर हस्ताक्षर किए गए थे, जिसे वर्ष 2016 में अद्यतन किया गया।
    • इस समझौते के माध्यम से दोनों देशों के मध्य एक मुक्त व्यापार क्षेत्र की स्थापना हुई है।
  • बहुपक्षीय सहयोग: ....
क्या आप और अधिक पढ़ना चाहते हैं?
तो सदस्यता ग्रहण करें
इस अंक की सभी सामग्रियों को विस्तार से पढ़ने के लिए खरीदें |

पूर्व सदस्य? लॉग इन करें


वार्षिक सदस्यता लें
सिविल सर्विसेज़ क्रॉनिकल के वार्षिक सदस्य पत्रिका की मासिक सामग्री के साथ-साथ क्रॉनिकल पत्रिका आर्काइव्स पढ़ सकते हैं |
पाठक क्रॉनिकल पत्रिका आर्काइव्स के रूप में सिविल सर्विसेज़ क्रॉनिकल मासिक अंक के विगत 6 माह से पूर्व की सभी सामग्रियों का विषयवार अध्ययन कर सकते हैं |

मुख्य विशेष