बांग्लादेश:


बांग्लादेश दक्षिण एशिया का एक स्वतंत्र राष्ट्र है। देश की जलवायु उष्णकटिबंधीय प्रकार की है। बांग्लादेश पहले पूर्वी पाकिस्तान का एक प्रांत था। 1971 में स्वतंत्र देश के रूप में बांग्लादेश का आविर्भाव हुआ। इसके स्वतंत्रता संग्राम के नेता शेख मुजीबुर्रहमान यहां के प्रथम प्रधानमंत्री बने। बांग्लादेश संसदी गणतंत्र है तथा शेख हसीना यहां की वर्तमान प्रधानमंत्री हैं। बांग्लादेश के बोगरा में स्थित महास्थानगढ़ पुरातात्विक स्थल को वर्ष 2016-17 के लिए सार्क की सांस्कृतिक राजधानी घोषित किया गया था। विदित हो कि वर्ष 2016-17 को ‘सार्क सांस्कृतिक विरासत वर्ष’ के रूप में मनाया गया। यह बिम्सटेक और दक्षेस का सदस्य देश भी है।

राजधानीः ढाका_ शासन प्रणालीः बहुदलीय एकात्मक गणतंत्र_ क्षेत्रफलः 148,460 वर्ग किमी-_ सरकारी भाषाः बांग्ला_ धर्मः इस्लाम, हिंदू_ मुद्राः टका_ घनत्वः 1199-87 व्यक्ति/वर्ग किमी-_ प्रति व्यक्ति जी-डी-पी- (पी-पी-पी-)ः $3900_ कुल जनसंख्या 157,826,578_ (वृद्धि दर) 1-04»_ नगरीय जनसंख्याः 35-8 प्रतिशत_ जीवन प्रत्याशा (वर्षों में)ः 73-4_ साक्षरताः 72-8»_ प्रजातियांः बंगाली, बिहारी, जनजातीय_ कृषियोग्य भूमिः 59 प्रतिशत_ उद्योगः कपास, जूट, सूत्री वस्त्र, चाय, पेपर, सीमेंट_ आयातः मशीनरी, कच्चा कपास_ निर्यातः गारमेन्ट्स, जूट, मछली_ राष्ट्रीय दिवसः 26 मार्च।

1- गुरुदेव रवीन्द्रनाथ ठाकुर विश्व के एकमात्र व्यत्तिफ़ हैं, जिनकी रचना को एक से अधिक देशों क्रमशः भारत और बांग्लादेश में राष्ट्रगान का दर्जा प्राप्त है। उनकी कविता ‘आमार सोनार बाँग्ला’ बांग्लादेश का राष्ट्रगान है।

2- बांग्लादेश में अपनी मूल भाषा के रूप में 98» से अधिक बंगाली भाषा बोलते हैं, जो यहाँ की आधिकारिक भाषा है।

3- बांग्लादेश की संसद को जातीय संसद कहा जाता है। इसके 300 सदस्य प्रत्यक्ष मतदान द्वारा चुनकर आते हैं

4- बांग्लादेश का राज्य पशु, बाघ है तथा यह देश गुलाबी मोती के लिए प्रसिद्ध है।

5- बांग्लादेश प्राकृतिक जूट का विश्व में सबसे बड़ा उत्पादक है।


Download as PDF