भारत में ऑटोनॉमस वाहनों का बाजार

  • हाल ही में, देश की तीसरी सबसे बड़ी कार कंपनी टाटा मोटर्स ने कहा है कि भारत इलेक्ट्रिक वाहनों का वैश्विक हब व सप्लाई चेन का एक प्रमुख केंद्र बनने की राह पर अग्रसर है।
  • टाटा मोटर्स ने बताया है कि वर्ष 2030 तक उसके कुल वाहन उत्पादन का 50 फीसद इलेक्ट्रिक वाहनों का होगा। कंपनी लंबी दूरी के ट्रकों को इलेक्ट्रिक वाहनों के रूप में परिवर्तित करने के लिए एक बड़ी राशि इसके शोध व विकास पर खर्च कर रही है।
  • सेल्फ ड्राइविंग की विशेषज्ञता वाले वाहनों को ऑटोनॉमस ड्राइविंग कहा जाता है। ऐसे वाहन को चलाने के लिए ....
क्या आप और अधिक पढ़ना चाहते हैं?
तो सदस्यता ग्रहण करें
इस अंक की सभी सामग्रियों को विस्तार से पढ़ने के लिए खरीदें |

पूर्व सदस्य? लॉग इन करें


वार्षिक सदस्यता लें
सिविल सर्विसेज़ क्रॉनिकल के वार्षिक सदस्य पत्रिका की मासिक सामग्री के साथ-साथ क्रॉनिकल पत्रिका आर्काइव्स पढ़ सकते हैं |
पाठक क्रॉनिकल पत्रिका आर्काइव्स के रूप में सिविल सर्विसेज़ क्रॉनिकल मासिक अंक के विगत 6 माह से पूर्व की सभी सामग्रियों का विषयवार अध्ययन कर सकते हैं |

PSC न्यूज बुलेट्स