बच्चों को मातृभाषा में पढ़ाने के संदर्भ में स्कूलों को निर्देश

  • 7 मई, 2024 को केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने एक परिपत्र जारी करते हुए अपने सभी स्कूलों को मातृभाषा में बच्चों को पढ़ाने एवं सीखने पर ध्यान केंद्रित करने वाली शैक्षिक सामग्री का इस्तेमाल करने का निर्देश दिया है।
  • CBSE का परिपत्र 'राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020' (NEP 2020) और 'राष्ट्रीय पाठ्यचर्या रूपरेखा 2022' (NCF 2022) के अनुरूप है, जो बच्चों की मातृभाषा अथवा क्षेत्रीय एवं स्थानीय भाषा में शिक्षण और सीखने पर जोर देते हैं।
  • भारतीय संविधान के अनुच्छेद 350-ए (भाषाई अल्पसंख्यक समूहों के बच्चों के लिए) तथा 'शिक्षा अधिकार अधिनियम, 2009' की धारा-29 के तहत शिक्षा के माध्यम के ....
क्या आप और अधिक पढ़ना चाहते हैं?
तो सदस्यता ग्रहण करें
इस अंक की सभी सामग्रियों को विस्तार से पढ़ने के लिए खरीदें |

पूर्व सदस्य? लॉग इन करें


वार्षिक सदस्यता लें
सिविल सर्विसेज़ क्रॉनिकल के वार्षिक सदस्य पत्रिका की मासिक सामग्री के साथ-साथ क्रॉनिकल पत्रिका आर्काइव्स पढ़ सकते हैं |
पाठक क्रॉनिकल पत्रिका आर्काइव्स के रूप में सिविल सर्विसेज़ क्रॉनिकल मासिक अंक के विगत 6 माह से पूर्व की सभी सामग्रियों का विषयवार अध्ययन कर सकते हैं |

करेंट अफेयर्स न्यूज़