वेस्ट नाईल फीवर

  • हाल ही में केरल के स्वास्थ्य विभाग ने राज्य में वेस्ट नाइल फीवर (West Nile fever) के मामलों की पुष्टि की है।
  • वेस्ट नाइल वायरस फ्लेविवायरस जीनस (flavivirus genus) का सदस्य है और फ्लेविविरिडे (Flaviviridae) परिवार के जापानी एन्सेफलाइटिस एंटीजेनिक कॉम्प्लेक्स से संबंधित है।
  • सिंगल-स्ट्रैंडेड आरएनए वायरस पक्षियों में उत्पन्न होता है और मनुष्यों और जानवरों के बीच संक्रमित क्यूलेक्स मच्छरों के काटने से फैलता है।यह ज्यादातर वयस्कों को प्रभावित करता है और पहली बार 1937 में युगांडा में इसका पता चला था। यह पहली बार केरल में 2011 में पाया गया ....
क्या आप और अधिक पढ़ना चाहते हैं?
तो सदस्यता ग्रहण करें
इस अंक की सभी सामग्रियों को विस्तार से पढ़ने के लिए खरीदें |

पूर्व सदस्य? लॉग इन करें


वार्षिक सदस्यता लें
सिविल सर्विसेज़ क्रॉनिकल के वार्षिक सदस्य पत्रिका की मासिक सामग्री के साथ-साथ क्रॉनिकल पत्रिका आर्काइव्स पढ़ सकते हैं |
पाठक क्रॉनिकल पत्रिका आर्काइव्स के रूप में सिविल सर्विसेज़ क्रॉनिकल मासिक अंक के विगत 6 माह से पूर्व की सभी सामग्रियों का विषयवार अध्ययन कर सकते हैं |

करेंट अफेयर्स न्यूज़