जल से माइक्रोप्लास्टिक को साफ करना

भारतीय विज्ञान संस्थान (IISc) बेंगलुरु के शोधकर्ताओं ने एक हाइड्रोजेल विकसित किया है जो जल से माइक्रोप्लास्टिक को साफ करने में सक्षम है।

  • हाइड्रोजेल का विकास तीन-परत वाली बहुलक संरचना के रूप में किया गया है, जो पराबैंगनी (UV) प्रकाश का उपयोग करके माइक्रोप्लास्टिक्स को हटा सकता है।
  • यह हाइड्रोजेल विभिन्न तापमानों पर स्थिर रहता है और इसका विशिष्ट पॉलिमर नेटवर्क दूषित पदार्थों को एकत्रित करता है तथा पराबैंगनी प्रकाश विकिरण का उपयोग करके उन्हें नष्ट कर देता है।
  • माइक्रोप्लास्टिक छोटे प्लास्टिक कण होते हैं जिनका व्यास पांच मिलीमीटर से कम होता ....
क्या आप और अधिक पढ़ना चाहते हैं?
तो सदस्यता ग्रहण करें
इस अंक की सभी सामग्रियों को विस्तार से पढ़ने के लिए खरीदें |

पूर्व सदस्य? लॉग इन करें


वार्षिक सदस्यता लें
सिविल सर्विसेज़ क्रॉनिकल के वार्षिक सदस्य पत्रिका की मासिक सामग्री के साथ-साथ क्रॉनिकल पत्रिका आर्काइव्स पढ़ सकते हैं |
पाठक क्रॉनिकल पत्रिका आर्काइव्स के रूप में सिविल सर्विसेज़ क्रॉनिकल मासिक अंक के विगत 6 माह से पूर्व की सभी सामग्रियों का विषयवार अध्ययन कर सकते हैं |

पत्रिका सार