नैनोजाइम

  • हाल ही में, इंडियन इंस्टीटड्ढूट आफ साइंस के वैज्ञानिकों ने NanoPtA (नैनोजाइम) नामक एक नए प्रकार का ‘एंजाइम मिमेटिक’ विकसित किया है।
  • यह एंजाइम सूर्य के प्रकाश की उपस्थिति में औद्योगिक अपशिष्ट जल में मौजूद जहरीले रसायनों को प्रभावी ढंग से नष्ट कर सकता है।
  • परीक्षण के दौरान, वैज्ञानिकों ने पाया कि जल को प्रदूषित करने वाले फिनोल और रंजक जैसे सामान्य अपशिष्टों को सूर्य की रोशनी में नैनोजाइम 10 मिनट के भीतर नष्ट करने में सक्षम है।
  • ये नैनोजाइम प्राकृतिक एंजाइमों के कार्य की नकल करते हैं, इनकी उत्पादन लागत भी कम ....
क्या आप और अधिक पढ़ना चाहते हैं?
तो सदस्यता ग्रहण करें
इस अंक की सभी सामग्रियों को विस्तार से पढ़ने के लिए खरीदें |

पूर्व सदस्य? लॉग इन करें


वार्षिक सदस्यता लें
सिविल सर्विसेज़ क्रॉनिकल के वार्षिक सदस्य पत्रिका की मासिक सामग्री के साथ-साथ क्रॉनिकल पत्रिका आर्काइव्स पढ़ सकते हैं |
पाठक क्रॉनिकल पत्रिका आर्काइव्स के रूप में सिविल सर्विसेज़ क्रॉनिकल मासिक अंक के विगत 6 माह से पूर्व की सभी सामग्रियों का विषयवार अध्ययन कर सकते हैं |
विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी