कार्ड-ऑन-फाइल टोकेनाइजेशन पर नए दिशा-निर्देश

  • हाल ही में, RBI द्वारा ‘कार्ड-ऑन-फाइल टोकेनाइजेशन’ (CoFT) पर नए दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। टोकेनाइजेशन प्रक्रिया का उपयोग कार्ड का पूरा डिटेल भरने की जगह एक ‘यूनिक टोकन’ या ‘कोड’ से भुगतान करने के लिए किया जाता है।
  • नए निर्देशों में CoFT टोकन सृजन को सीधे बैंक के स्तर पर जारी करने का प्रस्ताव किया गया है। इस कदम का उद्देश्य प्रत्येक एप्लीकेशन (App) पर टोकन प्रक्रिया के डुप्लीकेशन को समाप्त करने के साथ-साथ ट्रांजेक्शन संबंधी सुरक्षा में वृद्धि करना है। इससे कार्ड के डेटा से संबंधित धोखाधड़ी में कमी ....
क्या आप और अधिक पढ़ना चाहते हैं?
तो सदस्यता ग्रहण करें
इस अंक की सभी सामग्रियों को विस्तार से पढ़ने के लिए खरीदें |

पूर्व सदस्य? लॉग इन करें


वार्षिक सदस्यता लें
सिविल सर्विसेज़ क्रॉनिकल के वार्षिक सदस्य पत्रिका की मासिक सामग्री के साथ-साथ क्रॉनिकल पत्रिका आर्काइव्स पढ़ सकते हैं |
पाठक क्रॉनिकल पत्रिका आर्काइव्स के रूप में सिविल सर्विसेज़ क्रॉनिकल मासिक अंक के विगत 6 माह से पूर्व की सभी सामग्रियों का विषयवार अध्ययन कर सकते हैं |
आर्थिक परिदृश्य