UPPCS (Main) Questions for राजनीति विज्ञान और अंतरराष्ट्रीय संबंध (द्वितीय प्रश्न पत्र) 2015


Time Allowed: Three Hours [Maximum Marks: 200]

खण्ड-अ (Section-A)

  1. (क) अन्तरराष्ट्रीय संबंध के एक अनुशासन के रूप में विकास के विभिन्न चरणों को रेखांकित कीजिए। - 15
    (ख) व्यवस्था सिद्धांत की मुख्य विशेषताओं का आलोचनात्मक परीक्षण कीजिए। -15
    (ग) अन्तरराष्ट्रीय संबंध के क्षेत्र में नूतन प्रवृत्तियों की समीक्षा कीजिए। -10
    (a) Underline the different stages of evolution of International Relations as a discipline.
    (b) Critically examine the main features of System theory.
    (c) Review the new trends in the field of International Relations.
  2. (क) यथार्थवाद के आधारभूत अवधारणाओं की विवेचना कीजिए। -15
    (ख) अंतरराष्ट्रीय राजनीति पर शीत युद्ध के प्रभाव का परीक्षण कीजिए। -15
    (ग) नव शीत युद्ध की उत्पत्ति के कारणों का विवेचन कीजिए। -10
    (a) Discuss the core concept of Realism.
    (b) Examine the impact of Cold War on International Politics.
    (c) Discuss the causes of origin of New Cold War.
  3. (क) कूटनीति की परिभाषा दीजिए तथा विदेश नीति से इसका अन्तर स्थापित कीजिए। -15
    (ख) अन्तरराष्ट्रीय संबंधों में अन्तरराष्ट्रीय कानून की भूमिका का विवेचन कीजिए। -15
    (ग) नाभिकीय युग में राजनयिकों की कठिनाइयों का विश्लेषण कीजिए। -10
    (a) Define diplomacy and distinguish it from foreign policy
    (b) Discuss the role of International law in International Relations.
    (c) Analyse the difficulties of diplomates during the nuclear age.
  4. (क) निःशस्त्रीकरण की परिभाषा दीजिए तथा शस्त्र नियंत्रण एवं सामूहिक सुरक्षा से इसकी भिन्नताओं की विवेचना। -15
    (ख) दक्षिण एशिया में सार्क (दक्षेस) की भूमिका का परीक्षण कीजिए। -15
    (ग) शीत युद्धोत्तर काल में निःशस्त्रीकरण के प्रयासों की समीक्षा कीजिए। -10
    (a) Define disarmament and discuss its difference with arms control and Collective security.
    (b) Examine the role of SAARC in South Asia.
    (c) Review the efforts at disarmament in the post cold war period.
  5. खण्ड-(Section-B)

  6. (क) भारत की विदेश नीति के मूल आधारों को रेखांकित कीजिए। -15
    (ख) संयुक्त राज्य अमेरिका की विदेश नीति की मुख्य विशेषताओं का वर्णन कीजिए। -15
    (ग) नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारतीय विदेश नीति में निरन्तरता एवं परिवर्तन के कारकों का विश्लेषण कीजिए। क्या भारत एक उदीयमान शक्ति है?
    (a) Underline the basic foundations of India's Foreign Policy.
    (b) Describe the main features of U.S.A.'s Foreign Policy.
    (c) Analyse the factors of continuity and change in India's Foreign Policy under the leadership of Narendra Modi. Is India a rising power?
  7. (क) रूस की विदेश नीति के सैद्धांतिक आधारों की विवेचना कीजिए। -15
    (ख) अन्तरराष्ट्रीय राजनीति में चीन के उदय के कारकों का विश्लेषण कीजिए। -15
    (ग) क्या आप मानते हैं कि चीन का उदय अमेरिका एवं भारत के लिए एक चुनौती है? तर्कपूर्ण उत्तर दीजिए। -10
    (a) Discuss the theoretical bases of Russia's Foreign Policy.
    (b) Analyse the factor accountable for rise of China in International Politics.
    (c) Do you think that rise of China is a challenge to America and India? Give logical answer.
  8. (क) अन्तरराष्ट्रीय राजनीति में दक्षिण-पूर्व एशिया के महत्त्व की विवेचना कीजिए। -15
    (ख) दक्षिण एशिया में विद्यमान संघर्षों की प्रकृति का विश्लेषण कीजिए। -15
    (ग) दक्षिण-दक्षिण सहयोग पर एक संक्षिप्त टिप्पणी लिखिये। -10
    (a) Discuss the significance of South-East Asia in International Politics.
    (b) Analyse the nature of conflicts prevalent in South Asia.
    (c) Write a short note on South-South Cooperation.
  9. (क) तृतीय विश्व के आविर्भाव के लिए उत्तरदायी कारकों की विवेचना कीजिए। -15
    (ख) उत्तर-दक्षिण संवाद के मुख्य मुद्दों का परीक्षण कीजिए। -15
    (ग) पश्चिम एशिया में संघर्ष के कारणों का विवेचन कीजिए। -10
    (a) Discuss the factors accountable for the emergence of the 'Third World'.
    (b) Examine the main issues of North-South dialogue.
    (c) Discuss the courses of conflict in West Asia.