पेलागिया नोक्टिलुका

  • विशाखापत्तनम तट पर समुद्री शोधकर्ताओं द्वारा जहरीली जेलीफ़िश, पेलेगिया नोक्टिलुका को देखा गया है।
  • पेलागिया नोक्टिलुका को माउव स्टिंगर या बैंगनी-धारीदार जेलीफ़िश के रूप में भी जाना जाता है।
  • यह जेलीफ़िश बायोलुमिनसेंट हैं, जिनमें अंधेरे में रोशनी पैदा करने की क्षमता है।
  • पेलागिया नोक्टिलुका दुनिया भर में उष्णकटिबंधीय और गर्म तापमान वाले समुद्रों में पाया जाता है।
  • यह भारत के पूर्वी तट पर बहुत कम देखा जाता है, लेकिन यह जहरीला है और अलग-अलग स्तर की बीमारी का कारण बनता ....
क्या आप और अधिक पढ़ना चाहते हैं?
तो सदस्यता ग्रहण करें
इस अंक की सभी सामग्रियों को विस्तार से पढ़ने के लिए खरीदें |

पूर्व सदस्य? लॉग इन करें


वार्षिक सदस्यता लें
सिविल सर्विसेज़ क्रॉनिकल के वार्षिक सदस्य पत्रिका की मासिक सामग्री के साथ-साथ क्रॉनिकल पत्रिका आर्काइव्स पढ़ सकते हैं |
पाठक क्रॉनिकल पत्रिका आर्काइव्स के रूप में सिविल सर्विसेज़ क्रॉनिकल मासिक अंक के विगत 6 माह से पूर्व की सभी सामग्रियों का विषयवार अध्ययन कर सकते हैं |

PSC न्यूज बुलेट्स