सिविल सर्विसेज क्रॉनिकल फ़रवरी 2021

राष्ट्रीय परिदृश्य

राष्ट्रीय मुद्दे

राजव्यवस्था

महाराष्ट्र का शक्ति विधेयक

महाराष्ट्र में महिलाओं और बच्चों के खिलाफ अपराधों पर अंकुश लगाने के लिए राज्य मंत्रिमंडल ने हाल ही में शक्ति अधिनियम (Shakti act) नामक एक मसौदा विधेयक को मंजूरी दी। प्रस्तावित विधेयक में महिलाओं और बच्चों के खिलाफ अपराध के मामलों में मृत्युदंड तथा आजीवन कारावास जैसे सख्त दंडात्मक प्रावधान शामिल किये गए हैं। राज्य मंत्रिमंडल ने इसके अतिरिक्त 'महाराष्ट्र शक्ति आपराधिक कानून के कार्यान्वयन हेतु विशेष न्यायालय और मशीनरी 2020' नामक एक अन्य मसौदा विधेयक को भी मंजूरी दी। इन विधेयकों में सोशल मीडिया पर महिलाओं को धमकाने और बदनाम करने, बलात्कार व एसिड अटैक के बारे में झूठी शिकायत

ओवरसीज सिटिजन ऑफ इंडिया-ओसीआई

कर्नाटक उच्च न्यायालय ने हाल ही में राज्य सरकार को निर्देश दिया कि 'विदेश में स्थित भारतीय नागरिकों' (Overseas Citizens of India-OCI) को स्नातक स्तरीय व्यावसायिक पाठ्यक्रमों के लिए एनआरआई कोटे के अतिरिक्त संस्थागत एवं सरकारी कोटा के तहत भी प्रवेश दिया जाए। उच्च न्यायालय ने कहा कि 'विदेश में स्थित भारतीय नागरिकों' (OCI) की श्रेणी वाले प्रवासी भारतीय छात्रों को पेशेवर पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए "भारत का नागरिक" माना जाना चाहिए। इस प्रकार न्यायमूर्ति बी.वी. नागरत्ना तथा न्यायमूर्ति एन.एस. संजय गौड़ा की पीठ ने अप्रैल 2019 के अपने एकल न्यायाधीश के फैसले के खिलाफ सरकार द्वारा दायर अपील को खारिज

कार्यक्रम एवं पहल

प्रधानमंत्री वाईफाई एक्सेस नेटवर्क इंटरफेस: पीएम वाणी

वायरलेस कनेक्टिविटी को बेहतर बनाने के लिए केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 9 दिसंबर, 2020 को देश भर में सार्वजनिक वाईफाई नेटवर्क (Public WiFi Networks) स्थापित करने को मंजूरी दे दी। सार्वजनिक वाई-फाई नेटवर्क सेवा को प्रधानमंत्री वाईफाई एक्सेस नेटवर्क इंटरफेस (Prime Minister WiFi Access Network Interface) यानी पीएम वाणी (PM-WANI) के नाम से जाना जाएगा। इस कदम का लक्ष्य देश में पब्लिक वाई-फाई नेटवर्क के माध्यम से ब्रॉडबैंड इंटरनेट सेवाओं के प्रसार में तेजी लाना है। यह सार्वजनिक वाई-फाई सेवा देश भर में फैले पब्लिक डेटा ऑफिसेज (PDOs) के माध्यम से प्रदान की जाएगी तथा इसके लिए पब्लिक वाई-फाई नेटवर्क की स्थापना

पीएम-जेएवाई के तहत निजी अस्पतालों की भूमिका

राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण (NHA) द्वारा हाल ही में 'निजी अस्पतालों की भूमिका' (The role of Private Hospitals) नामक शीर्षक से प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (PM-JAY) पर संक्षिप्त नीतिगत विवरण दस्तावेज प्रकाशित किया। इस नीतिगत दस्तावेज के अनुसार निजी अस्पतालों में भर्ती रोगियों की औसत आयु (48 वर्ष) सार्वजनिक अस्पतालों (42 वर्ष) की तुलना में अधिक है। ऐसा इसलिए है क्योंकि सरकारी अस्पतालों में प्रसव के मामले अधिक होते हैं। इसके अतिरिक्त महिलाओं की तुलना में पुरुष, निजी अस्पतालों का उपयोग अधिक करते हैं। ब्राउनफील्ड राज्यों (brownfield states) में निजी अस्पतालों का नेटवर्क अपेक्षाकृत सघन है, लेकिन आकांक्षी जिलों में निजी

आयुष्मान भारत पीएम-जेएवाई सेहत योजना

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 26 दिसंबर, 2020 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से केंद्रशासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में आयुष्मान भारत पीएम-जेएवाई सेहत (Ayushman Bharat PM-JAY SEHAT) का शुभारंभ किया; इस योजना में जम्मू एवं कश्मीर के सभी निवासियों को शामिल किया जाएगा। मुख्य बिंदु पीएम-जेएवाई सेहत योजना ‘पूरे परिवार को कवर करते हुए’ (floater basis) जम्मू-कश्मीर केंद्रशासित प्रदेश में रहने वाले सभी लोगों को मुफ्त बीमा कवर प्रदान करती है। इसके अंतर्गत जम्मू-कश्मीर के सभी निवासियों को 5 लाख रुपये प्रति परिवार वित्तीय कवर उपलब्ध कराया जाएगा। यह लगभग 15 लाख अतिरिक्त परिवारों के लिए ‘प्रधानमंत्री-जन आरोग्य

श्रमिकों के लिए पूर्व शिक्षण की विशेष मान्यता कार्यक्रम

कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय (MSDE) उत्तर प्रदेश के चंदौली और वाराणसी में पंचायती राज विभाग के साथ श्रमिकों के लिए ‘पूर्व शिक्षण की विशेष मान्यता’ (Special Recognition of Prior Learning (RPL) कार्यक्रम का आयोजन कर रहा है। इस कार्यक्रम का शुभारंभ कौशल विकास कार्यक्रमों के बेहतर नियोजन और कार्यान्वयन के लिए विकेंद्रीकरण और स्थानीय शासन को बढ़ावा देने की अवधारणा के अनुरूप किया गया है। मुख्य बिंदु कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय के संकल्प कार्यक्रम के तहत यह कार्यक्रम वाराणसी के सेवापुरी और बड़ागांव ब्लॉक तथा चंदौली के नियामताबाद और शहाबगंज ब्लॉक में शुरू किया गया। कार्यक्रम

सामाजिक न्याय

विजन 2035 : भारत में जन स्‍वास्‍थ्‍य निगरानी

14 दिसंबर, 2020 को नीति आयोग द्वारा अधिक संवेदनशील और नागरिक-अनुकूल सार्वजनिक स्वास्थ्य निगरानी प्रणाली से संबंधित ‘विजन 2035 : भारत में जन स्वास्थ्य निगरानी’ (Vision 2035 : Public Health Surveillance in India) नामक एक श्वेत पत्र जारी किया गया। विज़न 2035 दस्तावेज यह बताने का प्रयास करता है कि वर्ष 2035 में भारत की सार्वजनिक स्वास्थ्य निगरानी प्रणाली कैसी होगी। विजन एवं लक्ष्य सभी स्तरों पर कार्रवाई हेतु तत्परता को बढ़ाने के लिए भारत की सार्वजनिक स्वास्थ्य निगरानी प्रणाली को और अधिक प्रतिक्रियाशील और भविष्योन्मुखी बनाना। नागरिकों के अनुकूल जन स्वास्थ्य निगरानी प्रणाली ग्राहक फीडबैक तंत्र तैयार कर व्यक्ति की निजता

विविध

ऑप्टिकल फाइबर के जरिये लक्षद्वीप की मुख्य भू-भाग से कनेक्टिविटी

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने हाल ही में भारत के मुख्य भू-भाग (कोच्चि) तथा लक्षद्वीप के बीच सबमरीन ऑप्टिकल फाइबर केबल कनेक्टिविटी परियोजना (Submarine Optical Fibre Cable Connectivity Project) को मंजूरी दी। इस परियोजना में एक समर्पित सबमरीन ऑप्टिकल फाइबर केबल के जरिए कोच्चि और लक्षद्वीप के 11 द्वीपों के बीच एक सीधा दूरसंचार लिंक उपलब्ध कराने की परिकल्पना की गई है। लक्षद्वीप के ये 11 द्वीप हैं: कवरत्ती, कल्पेनी, अगत्ती, अमिनी, अंद्रोत, मिनीकॉय, बंगाराम, बितरा, चेतलत, किल्टन और कदमत। 5 वर्ष के संचालन व्यय सहित इस परियोजना के क्रियान्वयन की कुल अनुमानित लागत 1072 करोड़ रुपये है। इस परियोजना का वित्तपोषण

संक्षिप्तिकी

पीआईबी कॉर्नर

पीआईबी कॉर्नर

लाइट हाउस परियोजनाः हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 6 राज्यों में वैश्विक आवासीय प्रौद्योगिकी चुनौती- इंडिया’ (GHTC-India) के तहत लाइट हाउस परियोजनाओं (LHPs) की आधारशिला रखी। यह केंद्रीय शहरी मंत्रलय की महत्वाकांक्षी परियोजना है। यह सभी भौतिक और सामाजिक सुविधाओं के साथ 1000 घरों वाली परियोजना है। जिसके तहत स्थानीय जलवायु और इकोलॉजी का ध्यान रखते हुए आधुनिक तकनीक और नवीन प्रक्रियाओं के माध्यम से कम समय में किफायती और आरामदायक घर बनाए जाएंगे। इस प्रोजेक्ट में फैक्टरी से ही बीम-कॉलम और पैनल तैयार कर घर बनाने के स्थान पर लाया जाएगा जिससे निर्माण की अवधि और लागत

आर्थिक परिदृश्य

परिवहन एवं अवसंरचना

कृष्णापटनम और तुमकुरु में औद्योगिक गलियारे का निर्माण

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने 30 दिसंबर, 2020 को चेन्नई-बेंगलुरु औद्योगिक गलियारे (CBIC) के तहत आंध्र प्रदेश के कृष्णापटनम और कर्नाटक के तुमकुरु में औद्योगिक गलियारे के निर्माण के लिए उद्योग संवर्धन और आंतरिक व्यापार विभाग (DPIIT) के प्रस्तावों को मंजूरी दी। आंध्र प्रदेश में कृष्णापट्टनम औद्योगिक क्षेत्र में 2,139.44 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से परियोजना का निर्माण तथा कर्नाटक के तुमकुर औद्योगिक क्षेत्र में 1,701.81 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से निर्माण किया जाएगा। औद्योगिक गलियारा कार्यक्रम बंदरगाहों, हवाईअड्डों से आदि से सटे ईस्टर्न एंड वेस्टर्न डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर्स, एक्सप्रेसवेज

नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 28 दिसंबर, 2020 को दिल्ली मेट्रो की एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन पर 'राष्ट्रीय कॉमन मोबिलिटी कार्ड' (National Common Mobility Card- NCMC) सेवा का उद्घाटन किया। एनसीएमसी परिवहन कार्ड (NCMC transport card) देश के किसी भी हिस्से से यात्रियों को दिल्ली मेट्रो की एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन पर यात्रा के लिए अपने एनसीएमसी-अनुपालन रुपे डेबिट कार्ड का उपयोग करने की अनुमति देता है। नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड भारत में 'वन नेशन वन कार्ड' की टैगलाइन के साथ नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड (NCMC) का शुभारंभ 4 मार्च, 2019 को किया गया था। वन नेशन वन कार्ड मॉडल, यानी नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड

पूर्वी डेडीकेटेड फ्रेट कॉरिडोर का न्यू भाऊपुर-न्यू खुर्जा सेक्शन

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 29 दिसंबर, 2020 को वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से पूर्वी डेडीकेटेड फ्रेट कॉरिडोर (Eastern Dedicated Freight Corridor) के ‘न्यू भाऊपुर-न्यू खुर्जा सेक्शन’(New Bhaupur- New Khurja section) तथा प्रयागराज में ईडीएफसीके संचालन नियंत्रण केन्द्र (Operation Control Centre) का उद्घाटन किया। ईडीएफसी का 351 किलोमीटर लम्बा न्यू भाऊपुर- न्यू खुर्जा सेक्शन उत्तर प्रदेश में स्थित है और इसे 5,750 करोड़ रुपये की लागत से बनाया गया है। मुख्य बिंदु यह सेक्शन स्थानीय उद्योगों जैसे एल्यूमीनियम उद्योग (कानपुर देहात जिले का पुखरायां क्षेत्र), डेयरी क्षेत्र (औरैया जिला), कपड़ा उत्पादन / ब्लॉक प्रिंटिंग (इटावा जिला),

मुद्रा-बैंकिंग

भारत में बैंकिंग की प्रवृत्ति और प्रगति पर रिपोर्ट

भारतीय रिज़र्व बैंक ने हाल ही में ‘भारत में बैंकिंग की प्रवृत्ति और प्रगति पर रिपोर्ट, 2019-20’ (Report On Trend And Progress Of Banking In India 2019-20) जारी की। यह रिपोर्ट 2019-20 और 2020-21 की अब तक की अवधि के दौरान सहकारी बैंकों और गैर-बैंकिंग वित्तीय संस्थाओं सहित बैंकिंग क्षेत्र के कार्यनिष्पादन को प्रस्तुत करती है। प्रमुख बिंदु यह बैंकिंग विनियमन अधिनियम (Banking Regulation Act), 1949 की धारा 36 (2) के अनुपालन के तहत एक सांविधिक (Statutory) प्रकाशन है। इस वर्ष की रिपोर्ट का व्यापक विषय बैंकिंग और गैर-बैंकिंग क्षेत्रों पर कोविड-19 का प्रभाव और आगे के उपाय है। जीएनपीए अनुपात: अनुसूचित वाणिज्यिक

अवसंरचना

फ्लोटिंग स्ट्रक्चर्स के तकनीकी विनिर्देश

पत्तन, पोत परिवहन तथा जलमार्ग मंत्रालय ने हाल ही में भारतीय तटरेखा पर विश्व स्तरीय फ्लोटिंग बुनियादी ढांचे को स्थापित करने के उद्देश्य से ‘फ्लोटिंग स्ट्रक्चर्स के तकनीकी विनिर्देशों’ (Technical Specifications of Floating Structures) के लिए मसौदा दिशानिर्देशों को संकलित किया तथा इसे सार्वजनिक परामर्श के लिए जारी किया। अपने अंतर्निहित लाभों के कारण फ्लोटिंग स्ट्रक्चर्स एक आकर्षक समाधान हैं तथा इसी कारण से पत्तन, पोत परिवहन और जलमार्ग मंत्रालय इसे बढ़ावा दे रहा है। बंदरगाहों पर जहाज़ों से माल उतारने-लादने के प्लेटफॉर्म- पारंपरिक क्वे (conventional quay) तथा फिक्स्ड कंक्रीट स्ट्रक्चर्स (fixed concrete structures) की

नौका सेवाओं हेतु नए मार्गों की पहचान

भारत सरकार ने तटीय शिपिंग को बढ़ावा देने और पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए हाल ही में अंतर्देशीय जलमार्ग (Inland Waterways) के माध्यम से नौका सेवाओं के लिए नए मार्गों (new routes for ferry services) की पहचान की। मंत्रालय ने अंतर्देशीय जलमार्गों के जरिए नौका सेवाओं की शुरुआत करने के उद्देश्य से घरेलू स्थलों के रूप में हजीरा, ओखा, सोमनाथ मंदिर, दीव, पीपावाव, दाहेज, मुंबई/जेएनपीटी, जामनगर, कोच्चि, घोघा, गोवा, मुंदरा तथा मांडवी की पहचान की है। साथ ही 4 अंतरराष्ट्रीय स्थलों- छातोग्राम (बांग्लादेश), सेशेल्स (पूर्व अफ्रीका) मेडागास्कर (पूर्व अफ्रीका) और जाफना (श्रीलंका) को जोड़ने वाले 6

कृषि एवं संबंधित क्षेत्र

जैविक केंद्र शासित प्रदेश बनने की ओर अग्रसर लक्षद्वीप

सिक्किम के बाद अब केंद्रशासित प्रदेश लक्षद्वीप 100% जैविक राज्य बनने की राह पर है। लक्षद्वीप केंद्र शासित प्रदेश के कृषि विभाग द्वारा केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय को एक प्रस्ताव प्रस्तुत किया गया था, जिसमें लक्षद्वीप के सम्पूर्ण 32 वर्ग किलोमीटर के भौगोलिक क्षेत्र को जैविक घोषित करने की मांग की गई थी। परंपरागत कृषि विकास योजना के तहत आवश्यक प्रमाणन प्राप्त करने के बाद इस प्रस्ताव को 26 अक्टूबर, 2020 को मंजूरी प्रदान की गई। सितंबर 2020 में लक्षद्वीप प्रशासन द्वारा औपचारिक रूप से यह घोषणा की गई थी कि उसका पूरा कृषक समुदाय, कम्पोस्ट, पोल्ट्री खाद, हरी पत्ती

संस्थान एवं निकाय

औद्योगिक वित्त निगम की स्थापना

हाल ही में सरकार ने घोषणा की है कि अगले 3 से 4 महीनों में एक विकास वित्त संस्थान (Development Finance Institution - DFI) स्थापित करने की योजना है। विकास वित्त संस्थान की स्थापना महत्वाकांक्षी राष्ट्रीय अवसंरचना पाइपलाइन के वित्तपोषण के उद्देश्य से की जाएगी| मुख्य बिंदु बुनियादी ढांचे के वित्तपोषण के लिए सरकार बांड बाजार को विकसित करने पर ध्यान दे रही है| वर्तमान में सरकार विकास वित्त संस्थान की शेयरधारिता, क़ानूनी प्रावधान आदि जैसे विवरणों को अंतिम रूप देने की प्रक्रिया में हैं| विकास वित्त संस्थान उन परियोजनाओं को भी निधि प्रदान करेगा जहां विभिन्न जोखिमों के

विविध

विद्युत (उपभोक्ताओं के अधिकार) नियम, 2020

सरकार ने 21 दिसंबर, 2020 को विद्युत (उपभोक्ताओं के अधिकार) नियम, 2020 [Electricity (Rights of Consumers) Rules, 2020] को अधिसूचित किया। विद्युत (उपभोक्ताओं के अधिकार) नियम, 2020 के प्रावधान वितरण कंपनियों को उपभोक्ताओं के प्रति अधिक जवाबदेह बनाते हैं। ये नियम उपभोक्ताओं को उन अधिकारों के साथ "सशक्त" करने का काम करेंगे जो उन्हें गुणवत्ता, विश्वसनीय बिजली की निरंतर आपूर्ति तक पहुंचने की अनुमति देंगे। मुख्य बिंदु वेबसाइट, वेब पोर्टल, मोबाइल ऐप तथा अपने क्षेत्रवार कार्यालयों द्वारा आवेदन प्रस्तुति, आवेदन की स्थिति की निगरानी, बिलों का भुगतान, शिकायतों की स्थिति आदि के लिए उपभोक्ताओं को ऑनलाइन एक्सेस होगा। वितरण लाइसेंसी, वरिष्ठ नागरिकों

संक्षिप्तिकी

हरित राष्ट्रीय राजमार्ग गलियारों हेतु ऋण समझौता

सरकार ने हाल ही में राजस्थान, आंध्र प्रदेश, हिमाचल प्रदेश और उत्तर प्रदेश राज्यों में 783 किलोमीटर लंबे सुरक्षित और हरित राष्ट्रीय राजमार्ग गलियारों को विकसित करने के लिए विश्व बैंक (WB) के साथ 500 मिलियन डॉलर के ऋण समझौते पर हस्ताक्षर किये। मुख्य बिंदु इसके अंतर्गत विभिन्न भौगोलिक क्षेत्रों में 783 किलोमीटर लंबे एकीकृत, सुरक्षित और हरित प्रौद्योगिकी डिजाइनों से राजमार्गों का निर्माण किया जायेगा तथा यह सुरक्षा और हरित प्रौद्योगिकियों के संबंध में सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय की क्षमता को बढ़ाएगा। इस परियोजना में सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय, राजमार्गों के निर्माण में स्थानीय और सीमांत सामग्री, औद्योगिक

यात्रा बीमा के लिए इरडा का मानक दिशानिर्देश प्रस्ताव

हाल ही में भारतीय बीमा नियामक एवं विकास प्राधिकरण (Insurance Regulatory and Development Authority of India-IRDAI) ने यात्रा बीमा के लिए मानक दिशानिर्देशों का प्रस्ताव किया है। प्रमुख बिन्दु यह स्वास्थ्य बीमा पॉलिसीधारकों और उनके परिवारों को अनिश्चितताओं के विरुद्ध वित्तीय रूप से कवरेज प्रदान करता है। उद्देश्य: घरेलू के साथ-साथ अंतरराष्ट्रीय यात्रा के दौरान बीमा कवरेज, इसके दायरे से बाहर की चीजों तथा कवरेज की शर्तों में सुनिश्चितता लाना। दिशानिर्देशों में कहा गया है कि मानक यात्रा बीमा उत्पाद इरडा के माध्यम से उपलब्ध होंगे। यात्रा बीमा कवरेज और इसकी शब्दावली समूचे उद्योग में एकसमान होगी। इस

पीआईबी कॉर्नर

पीआईबी कॉर्नर

निवेश प्रोत्साहन पुरस्कार 2020: संयुक्त राष्ट्र के अंकटाड (UNCTAD - UN Conference on Trade And Development)ने हाल ही में भारत की राष्ट्रीय निवेश संवर्धन एजेंसी- इन्वेस्ट इंडिया को संयुक्त राष्ट्र निवेश प्रोत्साहन पुरस्कार 2020 का विजेता घोषित किया। यह पुरस्कार समारोह जिनेवा में अंकटाड मुख्यालय में आयोजित किया गया। यह पुरस्कार दुनिया भर में निवेश संवर्धन एजेंसियों (IPA) की उत्कृष्ट उपलब्धियों और बेहतरीन कार्य- प्रणालियों को प्रतिबिंबित करता है। संयुक्त राष्ट्र निवेश प्रोत्साहन पुरस्कार, निवेश प्रोत्साहन एजेंसियों के लिए सबसे प्रतिष्ठित पुरस्कार है। अंकटाड एक केंद्रीय एजेंसी है, जो निवेश संवर्धन एजेंसियों के प्रदर्शन की निगरानी करती है और वैश्विक

अंतरराष्ट्रीय संबंध एवं संगठन

इन फोकस

तुर्की पर अमेरिकी प्रतिबंध एवं भारत की चिंताएं

हाल ही में संयुक्त राज्य अमेरिका ने ‘काउंटरिंग अमेरिकाज एडवर्सरीज थ्रू सैंक्शंस ऐक्ट’ (CAATSA) के तहत तुर्की पर रूस से एस-400 मिसाइल प्रणाली (S-400 Missile System) की खरीद के बाद प्रतिबंध लगाए। प्रमुख बिन्दु अमेरिका ने रूस में बने मिसाइल डिफेंस सिस्टम की तैनाती को लेकर नाटो (NATO) के सहयोगी देश तुर्की पर प्रतिबंध लगाया। तुर्की ने हाल ही में रूस से ये मिसाइल प्रतिरक्षा प्रणाली प्राप्त की थी। तुर्की नाटो समूह का पहला ऐसा देश है जिसके विरुद्ध सीएएटीएसए (CAATSA) अधिनियम का प्रयोग किया गया है। अमेरिका का कहना है कि रूस का ज़मीन से हवा में मार करने वाला मिसाइल सिस्टम

भारत के पड़ोसी देश

बांग्लादेश द्वारा रोहिंग्याओं का पृथक द्वीप पर स्थानांतरण

हाल ही में बांग्लादेश के शरणार्थी शिविरों में रह रहे रोहिंग्या शरणार्थियों को बंगाल की खाड़ी में स्थित भासन/भाषण चार (Bhasan Char) द्वीप पर स्थानांतरित किया जा रहा है। प्रमुख बिन्दु बंगाल की खाड़ी में मेघना नदी के मुहाने पर हिमालयन गाद द्वारा लगभग 20 वर्ष पूर्व भासन चार द्वीप का निर्माण हुआ था। यह निर्जन द्वीप दक्षिण-पूर्व बांग्लादेश में स्थित हटिया द्वीप से 30 किलोमीटर की दूरी पर पूर्व में स्थित है। यह द्वीप बाढ़, कटाव और चक्रवात से प्रभावित क्षेत्र है, इसलिये बांग्लादेश सरकार यहाँ लगभग तीन मीटर ऊँचे तटबंध का निर्माण कर रही है। चिंता का कारण यह

द्विपक्षीय संबंध

भारत द्वारा अफगानिस्तान में शहतूत बांध का निर्माण

हाल ही में भारत ने अफगानिस्तान सम्मेलन-2020 के अवसर पर सामुदायिक विकास परियोजनाओं के चौथे चरण में अफगानिस्तान में विकास कार्यों के लिये 80 मिलियन अमेरिकी डॉलर की लगभग 150 परियोजनाओं की घोषणा की। प्रमुख बिन्दु भारत के विदेश मंत्री ने इस सम्मेलन में भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व किया। इस सम्मेलन की सह-मेजबानी संयुक्त राष्ट्र, इस्लामिक रिपब्लिक ऑफ अफगानिस्तान और फ़िनलैंड सरकार द्वारा की गयी। शहतूत बांध (Shahtoot Dam): इस अवसर पर भारत ने अफगानिस्तान के साथ शहतूत बांध के निर्माण के लिये एक समझौते पर हस्ताक्षर किये हैं। इस बांध के माध्यम से काबुल शहर के 20 लाख लोगों को

भारत-वियतनाम आभासी शिखर सम्मेलन

हाल ही में भारत और वियतनाम के मध्य आभासी शिखर सम्मेलन का आयोजन किया गया। इस सम्मेलन में दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों ने मौजूदा द्विपक्षीय सहयोग की पहलों की समीक्षा की तथा क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर चर्चा हुई। प्रमुख बिन्दु भविष्य में भारत-वियतनाम व्यापक रणनीतिक साझेदारी का मार्गदर्शन करने के लिए शिखर सम्मेलन के दौरान 'शांति, समृद्धि और लोगों के लिए एक संयुक्त दृष्टिकोण' दस्तावेज को अपनाया गया। दोनों देशों ने रक्षा, पेट्रोकेमिकल और परमाणु ऊर्जा जैसे क्षेत्रों में 7 समझौतों पर हस्ताक्षर किये तथा अपनी विकास साझेदारी को आगे बढ़ाने पर सहमति व्यक्त की। दोनों देश एक दूसरे की राष्ट्रीय विकास

संगठन एवं फोरम

आसियान रक्षा मंत्रियों की बैठक-प्लस

हाल ही में वियतनाम की अध्यक्षता में भारत के रक्षा मंत्री ने वियतनाम के हनोई में ऑनलाइन आयोजित 14वें आसियान रक्षा मंत्रियों की बैठक-प्लस (ASEAN Defence Ministers’ Meeting Plus: ADMM-PLUS) में भाग लिया। प्रमुख बिन्दु भारत के रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने एशिया में एक बहुलवादी सामूहिक सुरक्षा व्यवस्था के लिए वार्ता और सामंजस्य को बढ़ावा देने के लिए आसियान केन्द्रित मंच की महत्वपूर्ण भूमिका के बारे में चर्चा की। रक्षा मंत्री ने रणनीतिक संवाद और व्यावहारिक सुरक्षा कार्यक्रमों के माध्यम से बहुपक्षीय सहयोग को आगे बढ़ाने में पिछले एक दशक में एडीएमएम प्लस की सामूहिक उपलब्धियों पर प्रकाश डाला। रक्षा मंत्री ने कहा

जनसंख्या एवं विकास भागीदार

हाल ही में जनसंख्या एवं विकास भागीदारों (Partners in Population and Development- PPD) द्वारा एक अंतर-मंत्रालयी सम्मेलन का आयोजन किया गया। इसमें वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से भारत के केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री ने भाग लिया। प्रमुख बिन्दु भारत ने उल्लेख किया कि वह नैरोबी शिखर सम्मेलन में की गयी प्रतिबद्धताओं की पुन: पुष्टि करता है तथा मातृ मृत्यु को समाप्त करने, परिवार नियोजन के लिए आवश्यक जरूरतों को पूरा करने, लिंग आधारित हिंसा को कम करने और महिलाओं और लड़कियों से संबंधित हानिकारक प्रथाओं को समाप्त करने की दिशा में काम करता है। इन लक्ष्यों को प्राप्त करने की

रिपोर्ट एवं सूचकांक

मानव स्वतंत्रता सूचकांक 2020

हाल ही में संयुक्त राज्य अमेरिका के थिंक टैंक कैटो इंस्टीट्यूट (Cato Institute) और कनाडा के फ्रेजर इंस्टीट्यूट (Fraser Institute) द्वारा संयुक्त रूप से व्यक्तिगत, नागरिक और आर्थिक स्वतंत्रता से संबंधित मानव स्वतंत्रता सूचकांक 2020 प्रकाशित किया गया। प्रमुख बिन्दु सूचकांक में वर्ष 2008 से 2018 तक की अवधि के लिए 162 देशों की व्यक्तिगत, नागरिक और आर्थिक स्वतंत्रता संबंधी 76 संकेतकों के आधार पर रैंकिंग की गयी है। सूचकांक में वैश्विक स्तर पर वर्ष 2008 से व्यक्तिगत स्वतंत्रता में गिरावट देखी गई है। सूचकांक में न्यूजीलैंड शीर्ष स्थान पर है, उसके बाद स्विट्जरलैंड दूसरे, हांगकांग तीसरे, डेनमार्क चौथे तथा ऑस्ट्रेलिया पांचवें स्थान

अंतरराष्ट्रीय घटनाक्रम

इजरायल और मोरक्को के मध्य सामान्य होते संबंध

हाल ही में मोरक्को और इज़राइल दोनों देशों ने संयुक्त राज्य अमेरिका की मध्यस्थता में संबंधों को सामान्य करने पर सहमति व्यक्त की। संयुक्त अरब अमीरात, बहरीन और सूडान के बाद मोरक्को राजनयिक संबंधों को सामान्य करने और इजरायल को मान्यता देने वाला चौथा अरब देश बन गया है। प्रमुख बिंदु दोनों देशों ने राजनयिक और आधिकारिक संबंध को पुनः स्थापित करने हेतु मोरक्को की राजधानी रबात तथा इजरायल के तेल अवीब में संपर्क कार्यालयों को फिर से खोलने के लिए समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं। आर्थिक संबंधों की भी पुनः बहाली की जाएगी ताकि इजरायल तथा मोरक्को की कंपनियों के मध्य आर्थिक

मिशन एवं युद्धाभ्यास

भारत-इंडोनेशिया के मध्य समन्वित गश्त कॉरपैट का 35वां संस्करण

हाल ही में भारतीय नौसेना और इंडोनेशियाई नौसेना के बीच भारत-इंडोनेशिया समन्वित गश्त (इंड-इंडो कॉरपैट) के 35वें संस्करण का आयोजन किया गया। प्रमुख बिन्दु भारतीय नौसेना का पोत (INS) कुलिश, पी8आई समुद्री पेट्रोल एयरक्राफ्ट (MPA) के साथ स्वदेश निर्मित मिसाइल कोरवेट तथा इंडोनेशिया का नौसेना पोत केआरआई कट न्याक दीन, कापिटन पेटीमुरा (पर्चिम आई) क्लास कार्वेट और इंडोनेशियन एमपीए ने समन्वित गश्त की। समुद्री संबंधों को मजूबत बनाने के लिए दोनों देशों की नौसेनाएं 2002 के बाद से अपनी अंतरराष्ट्रीय समुद्री सीमा रेखा से सटे क्षेत्र में शिपिंग और अंतरराष्ट्रीय व्यापार मार्ग की सुरक्षा सुनिश्चित करने के मकसद से काम

विविध

विश्व में हथियारों के बाजार पर सिपरी रिपोर्ट

हाल ही में स्टॉकहोम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट-सिपरी (Stockholm International Peace Research Institute– SIPRI) द्वारा विश्व में हथियारों के बाजार पर एक रिपोर्ट जारी की गई। प्रमुख बिन्दु इस रिपोर्ट के अनुसार वर्ष 2019 में वैश्विक हथियारों के बाजार में अमेरिका और चीन की कंपनियों का वर्चस्व रहा। वर्ष 2019 में विश्व के शीर्ष 25 निर्माताओं द्वारा की गयी कुल बिक्री में अमेरिकी हथियार उद्योग का 61% हिस्सा और चीनी हथियार उद्योग का 15.7% हिस्सा था। पहली बार एक मध्य पूर्व की हथियार कंपनी भी शीर्ष 25 कंपनियों में जगह बनाने में कामयाब रही है। संयुक्त अरब अमीरात की कंपनी ऐज (EDGE) को सूची

संक्षिप्तिकी

बेटर देन कैश एलायंस

हाल ही में भारत और संयुक्त राष्ट्र स्थित बेटर देन कैश एलायंस (Better Than Cash Alliance) ने जिम्मेदार डिजिटल भुगतान के लिए फिनटेक समाधानों हेतु सहकर्मी साझा-शिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया। प्रमुख बिन्दु बेटर देन कैश एलायंस में 75 से अधिक देशों, कंपनियों और अंतरराष्ट्रीय संगठनों की साझेदारी है। यह सतत विकास लक्ष्यों को आगे बढ़ाने के लिए नकदी के स्थान पर जिम्मेदार डिजिटल भुगतानों को तेजी से बढ़ावा देने के लिए प्रतिबद्ध है। इसे यूनाइटेड नेशंस कैपिटल डेवलपमेंट फंड, यूनाइटेड स्टेट्स एजेंसी फॉर इंटरनेशनल डेवलपमेंट, बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन, सिटी ग्रुप, फोर्ड फाउंडेशन, ओमिडयार नेटवर्क और वीजा इंक द्वारा 2012 में लॉन्च

भारत-उज़्बेकिस्तान आभासी शिखर सम्मेलन

हाल ही भारत और उज़्बेकिस्तान के मध्य एक आभासी शिखर सम्मेलन का आयोजन किया गया जिसमें कई महत्त्वपूर्ण क्षेत्रों में द्विपक्षीय सहयोग बढ़ाने की बात कही गई। प्रमुख बिन्दु दोनों देशों द्वारा नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा, डिजिटल प्रौद्योगिकी तथा साइबर सुरक्षा जैसे कई महत्वपूर्ण क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने हेतु सहमति व्यक्त की गयी। भारत के प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत और उज्बेकिस्तान आतंकवाद के खिलाफ दृढ़ता से एक साथ खड़े हैं और उग्रवाद, कट्टरवाद तथा अलगाववाद के बारे में दोनों देशों की चिंताएं एकसमान हैं। दोनों देशों ने द्विपक्षीय व्यापार और निवेश सहयोग को बढ़ावा देने तथा इस क्षेत्र में 1

न्यू डेवलपमेंट बैंक के साथ ऋण समझौता

हाल ही में ग्रामीण विकास और बुनियादी ढाँचे को बढ़ावा देने के लिये भारत सरकार ने न्यू डेवलपमेंट बैंक (New Development Bank- NDB) के साथ 1 बिलियन अमेरिकी डॉलर के ऋण समझौते पर हस्ताक्षर किए। प्रमुख बिन्दु इस राशि का उपयोग प्राकृतिक संसाधन प्रबंधन (Natural Resource Management-NRM) से संबंधित ग्रामीण आधारभूत संरचनाओं में निवेश और ग्रामीण क्षेत्र में रोजगार सृजन हेतु महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के लिए किया जाएगा। 1 बिलियन अमेरिकी डॉलर के इस ऋण की अवधि 30 वर्ष है जिसमें 5 वर्ष की छूट भी सम्मिलित है। यह कोविड-19 महामारी से उत्पन्न प्रतिकूल आर्थिक प्रभाव को कम करने

पीआईबी कॉर्नर

पीआईबी कॉर्नर

संयुक्त राष्ट्र जनसंख्या पुरस्कारः हाल ही में भारत की स्वयंसेवी संस्था हेल्पएज इंडिया (HelpAge India) को वर्ष 2020 का संयुक्त राष्ट्र जनसंख्या पुरस्कार प्रदान किया गया है। किसी भी भारतीय संस्था को यह सम्मान पहली बार प्रदान किया जा रहा है। इससे पूर्व वर्ष 1992 में व्यक्तिगत श्रेणी में यह पुरस्कार जेआरडी टाटा को प्रदान किया गया था। संयुक्त राष्ट्र जनसंख्या पुरस्कार 2020 की व्यक्तिगत श्रेणी में भूटान की रानी मां ग्यालियम संगे चोडेन वांगचुक का चयन किया गया है। संयुक्त राष्ट्र जनसंख्या पुरस्कार की स्थापना संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा वर्ष 1981 में की गयी थी। एससीओ ऑनलाइन प्रदर्शनीः

विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी

इन फोकस

क्वांटम सुप्रीमेसी तथा क्वांटम कंप्यूटिंग: महत्व एवं चुनौतियां

हाल ही में चीनी वैज्ञानिकों की एक टीम ने दुनिया के सबसे शक्तिशाली क्वांटम कंप्यूटर का निर्माण कर इस क्षेत्र में अपनी क्वांटम सुप्रीमेसी (Quantum Supremacy) का दावा किया है। यह क्वांटम कंप्यूटर दुनिया के सबसे तेज सुपरकंप्यूटरों की तुलना में किसी भी कार्य को 100 ट्रिलियन गुना तेजी से करने में सक्षम है। क्वांटम सुप्रीमेसी क्या है? इस शब्द का सर्वप्रथम प्रयोग वर्ष 2012 में कैलिफ़ोर्निया इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी के सैद्धांतिक भौतिकी के प्रोफेसर जॉन प्रेस्किल द्वारा प्रस्तावित किया था। उनके अनुसार क्वांटम कंप्यूटर किसी भी ऐसी गणना को कर सकता है जिसे आधुनिक सुपर कंप्यूटर करने में सक्षम नहीं हैं। क्वांटम

अंतरिक्ष/ब्रह्माण्ड विज्ञान

कंप्यूटर एवं रोबोटिक्स

रोबोटिक सर्जरी संबंधी दिशानिर्देश

हाल ही में भारतीय बीमा विनियामक और विकास प्राधिकरण (IRDAI) ने स्वास्थ्य संबंधी सभी बीमा कंपनियों की स्वास्थ्य नीतियों को मानकीकृत किया है जिससे रोबोटिक सर्जरी को भी स्वास्थ्य बीमा के तहत कवर किया जा सके। प्रमुख बिंदु रोबोटिक सर्जरी: मानवीय क्रियाओं के स्थापन के रूप में अथवा उनकी नकल करने वाली मशीनों के रूप में डिज़ाइन, निर्माण, संचालन एवं अनुप्रयोगों हेतु निर्मित किये गये रोबोट्स के माध्यम से इस प्रकार की सर्जरी की जाती है। साधारण भाषा में कहें तो रोबोटिक सर्जरी एक स्वचालित, स्वनियंत्रित, बहुउद्देशीय मशीन द्वारा की जाने वाली सर्जरी है जिसमें कुछ हद तक कृत्रिम बुद्धिमत्ता (artificial intelligence) का

सोलरविंड्स हैक साइबर हमला

हाल ही में संयुक्त राज्य अमेरिका में सोलरविंड्स हैक साइबर हमला हुआ। यह अमेरिकी सरकार, इससे संबंधित एजेंसियों तथा कई अन्य निजी कंपनियों के विरुद्ध सबसे बड़े साइबर हमले के रूप में उभरा है। प्रमुख बिन्दु सोलरविंड्स हैक (SolarWinds hack) पहली बार अमेरिकी साइबर सुरक्षा कंपनी फायर आई (FireEye) द्वारा खोजा गया था। अमेरिका द्वारा इसे अत्यधिक परिष्कृत खतरे वाला हमला करार दिया गया तथा इसे राज्य प्रायोजित हमला भी कहा गया। हालांकि इसमें रूस का नाम नहीं था। अमेरिका ने कहा कि हमले को एक राष्ट्र ने शीर्ष स्तरीय आक्रामक क्षमताओं के साथ अंजाम दिया और हमलावर ने मुख्य रूप से

नवीन प्रौद्योगिकी

सुरक्षित संचार हेतु क्वांटम कुंजी वितरण तकनीक

हाल ही में रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (DRDO) द्वारा सुरक्षित संचार हेतु क्वांटम कुंजी वितरण (Quantum Key Distribution– QKD) प्रौद्योगिकी का सफलतापूर्वक प्रदर्शन किया गया। प्रमुख बिन्दु इस तकनीक को डीआरडीओ की एक प्रयोगशाला सेंटर फॉर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एंड रोबोटिक्स (CAIR), बेंगलुरू तथा डीआरडीओ के यंग साइंटिस्ट लेबोरेटरीज (DYSLs), मुंबई द्वारा विकसित किया गया है। डीआरडीओ ने क्वांटम कुंजी वितरण प्रौद्योगिकी का उपयोग करते हुए अपनी दो प्रयोगशालाओं के बीच संचार का सफल परीक्षण किया तथा क्वांटम आधारित संचार कुंजी को सुरक्षित रूप से साझा करने के लिए एक ठोस समाधान प्रदान किया। क्वांटम संचार आधारित क्वांटम कुंजी वितरण योजना का उपयोग यथार्थ

लाइट डिटेक्शन और रेंजिंग सर्वेक्षण तकनीक

नेशनल हाई स्पीड रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड द्वारा प्रस्तावित दिल्ली-वाराणसी हाई स्पीड रेल कॉरिडोर पर विस्तृत परियोजना रिपोर्ट तैयार करने में लाइट डिटेक्शन और रेंजिंग सर्वेक्षण (LiDAR) का उपयोग किया जाएगा। प्रमुख बिन्दु दिल्ली-वाराणसी एचएसआर कॉरिडोर की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट बनाने की जिम्मेदारी रेल मंत्रालय ने नेशनल हाई स्पीड रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड (NHSRCL) को सौंपी है। कॉरिडोर की अनुमानित लम्बाई 800 किलोमीटर है। संरेखण (अलायन्मेन्ट) और स्टेशनों के संबंध में सरकार से परामर्श कर निर्णय लिया जाएगा। इसमें हेलीकॉप्टर पर स्थापित लेजर उपकरण के माध्यम से जमीन का सर्वेक्षण किया जाएगा। दिल्ली-वाराणसी एचएसआर अलायन्मेन्ट (HSR alignment) के भौगोलिक क्षेत्र में सघन बसावट वाले नगरीय और

चीन के कृत्रिम सूर्य का संचालन

हाल ही में चीन ने पहली बार अपने कृत्रिम सूर्य परमाणु संलयन रिएक्टर (HL-2M Tokamak reactor) को सफलतापूर्वक संचालित किया। यह चीन की परमाणु ऊर्जा क्षमताओं की दिशा में एक महत्वपूर्ण उपलब्धि है। प्रमुख बिंदु एचएल-2एम (HL-2M) टोकामक रिएक्टर चीन का सबसे बड़ा और सबसे उन्नत परमाणु संलयन प्रौद्योगिकी अनुसंधान उपकरण है। इसमें गर्म प्लाज्मा को संलयित (Fuse) करने के लिए एक शक्तिशाली चुंबकीय क्षेत्र का उपयोग किया जाता है। इस प्रक्रिया में तापमान 150 मिलियन डिग्री सेल्सियस से भी अधिक तक पहुंच सकता है जोकि सूर्य के कोर (Core) की तुलना में लगभग 10 गुना अधिक है। यह दक्षिण-पश्चिमी सिचुआन प्रांत

चिकित्सा विज्ञान

हवाना सिंड्रोम एवं माइक्रोवेव हथियार

हाल ही में नेशनल एकेडमी ऑफ साइंसेज (NAS) की एक रिपोर्ट में हवाना सिंड्रोम (Havana syndrome) नामक बीमारी का संभावित कारण निर्देशित माइक्रोवेव विकिरण (directed microwave radiation) बताया गया है। प्रमुख बिन्दु यह रिपोर्ट दवा और अन्य क्षेत्रों में 19 विशेषज्ञों की एक समिति द्वारा तैयार की गयी थी। एनएएस रिपोर्ट ने लक्षणों की व्याख्या करने के लिये चार संभावनाओं- संक्रमण, रसायन, मनोवैज्ञानिक कारक और माइक्रोवेव ऊर्जा के आधार पर जाँच की। हवाना सिंड्रोम नामक एक रहस्यमय न्यूरोलॉजिकल बीमारी से लगभग चार वर्ष पूर्व क्यूबा, चीन और अन्य देशों में तैनात अमेरिकी राजनयिक और खुफिया अधिकारी ग्रसित हो गए थे। रूस ने भी

प्लाज्मोडियम ओवेल मलेरिया प्रजाति

हाल ही में सूडान से लौटे केरल के एक सैनिक को मलेरिया की एक प्रजाति प्लाज्मोडियम ओवेल (Plasmodium ovale) से ग्रसित पाया गया है। यह मलेरिया की एक विरल प्रजाति है। प्लाज्मोडियम ओवेल क्या है? मलेरिया परजीवी के 5 प्रकार पाये जाते हैं; प्लाज्मोडियम ओवेल उनमें से एक है। इसके अलावा अन्य चार प्रकार हैं- प्लाज्मोडियम फैल्सीपेरम (Plasmodium falciparum), प्लाज्मोडियम वाईवेक्स (Plasmodium vivax), प्लाज्मोडियम मलेरीया (Plasmodium malariae) और प्लाज्मोडियम नॉलेसी (Plasmodium knowlesi)। प्लाज्मोडियम ओवेल के लगभग 20% परजीवी कोशिका की तरह अंडाकार होते हैं, इसलिये इसे ओवेल कहा जाता है। ये परजीवी व्यक्ति के प्लीहा या यकृत में लंबे समय तक रह सकते

विविध

संक्षिप्तिकी

सीएमएस-01 उपग्रह

हाल ही में भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) द्वारा पीएसएलवी-सी50 के माध्यम से संचार उपग्रह (Communication Satellite) सीएमएस-01 को भू-तुल्यकालिक अंतरण कक्षा (Geosynchronous Transfer Orbit- GTO) में सफलतापूर्वक स्थापित कर दिया गया। प्रमुख बिन्दु सीएमएस-01 एक संचार उपग्रह फ्रीक्वेंसी स्पेक्ट्रम के विस्तारित सी बैंड में सेवाएं प्रदान करता है। विस्तारित सी बैंड के कवरेज क्षेत्र में भारतीय मुख्य भूमि, लक्षद्वीप, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह सम्मिलित हैं। इसरो के अनुसार उपग्रह का जीवन काल 7 वर्ष से अधिक का होगा। इससे पहले 7 नवंबर को पीएसएलवी-सी49 के माध्यम से भू-निगरानी उपग्रह को प्रक्षेपित किया गया था। सीएमएस-01 इसरो का 42 वां संचार

धातु कार्बन डाईऑक्साइड बैटरी

हाल ही में स्वर्ण जयंती फेलो द्वारा धातु-कार्बन डाईऑक्साइड (Metal CO2) बैटरी पर कार्य किया जा रहा है, जिससे मंगल मिशन जैसे भारत के अंतरिक्ष मिशन के पेलोड भार को कम करने में मदद मिल सकती है. साथ ही प्रक्षेपण में ऊर्जा वाहक के रूप में स्वदेशी रूप से विकसित धातु- कार्बन डाईऑक्साइड बैटरी की मदद ली जा सकेगी। प्रमुख बिन्दु भारत के मंगल मिशन के लिए एक ऊर्जा वाहक के रूप में कार्बन डाईऑक्साइड के साथ धातु-कार्बन डाईऑक्साइड बैटरी की वैज्ञानिक समझ और तकनीकी विकास को प्राप्त करने के लिए आईआईटी हैदराबाद के केमिकल इंजीनियरिंग विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर द्वारा काम

वैक्सीन हिचकिचाहट संबंधी समस्या

हाल ही में सामान्य लोगों के बीच वैक्सीन की स्वीकृति के संबंध में एक ऑनलाइन सर्वेक्षण से पता चला है कि कोविड-19 से निपटने के लिए केंद्र सरकार को आम लोगों द्वारा टीकाकरण हिचकिचाहट (Vaccine Hesitancy) संबंधी समस्या का सामना करना पड़ सकता है। प्रमुख बिन्दु विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने वैक्सीन हेसिटेंसी को वैक्सीन सेवाओं की उपलब्धता के बावजूद टीके की स्वीकृति में देरी या अस्वीकृति के रूप में परिभाषित किया है। यह अवधारणा समय, स्थान, सुविधा के साथ ही आत्मसंतुष्टि और आत्मविश्वास जैसे कारकों से प्रभावित हो सकती है। कारण: सोशल मीडिया आदि के माध्यम से गलत सूचनाओं का प्रसार वैक्सीन हेसिटेंसी

मौसम और भूगर्भ विज्ञान

पीआईबी कॉर्नर

पर्यावरण एवं जैवविविधता

इन फोकस

हरित हाइड्रोज़न : भविष्य का स्वच्छ ईंधन

जलवायु परिवर्तन पर अंतर सरकारी पैनल ने हाल ही में पुनः दोहराया है कि जलवायु परिवर्तन के कुछ सबसे बुरे प्रभावों को रोकने के लिए हमें वैश्विक तापमान को पूर्व-औद्योगिक स्तर के 1.5 डिग्री सेल्सियस से ऊपर जाने से रोकने की आवश्यकता है। ऐसे में सस्ती और टिकाऊ ऊर्जा के भविष्य के लिये हरित हाइड्रोज़न, एक बेहतर विकल्प हो सकता है। ग्रीन हाइड्रोजन ग्रीन हाइड्रोजन (Green Hydrogen) को विद्युत अपघटन (Electrolysis) प्रक्रिया के माध्यम से बनाया जाता है। इसमें इलेक्ट्रोलाइज़र उपकरण के माध्यम से विद्युत प्रवाह का उपयोग करके यौगिक को घटक तत्वों में विभाजित किया जाता है। यह यौगिक तत्व अधिकांशतः जल

संरक्षण

ग्रेट इंडियन बस्टर्ड हेतु फायरफ्लाई बर्ड डाइवर्टर

हाल ही में भारतीय वन्यजीव संरक्षण सोसायटी (Wildlife Conservation Society– WCS) और पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय (MoEFCC) द्वारा ग्रेट इंडियन बस्टर्ड (Great Indian Bustard-GIB) की आबादी वाले क्षेत्रों में ऊपर से गुजरने वाली बिजली की लाइनों पर फायरफ्लाई (जुगनू) बर्ड डायवर्टर (Firefly bird diverter) के प्रयोग संबंधी पहल शुरू की गई है। प्रमुख बिन्दु पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय द्वारा नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल को सौंपी गई रिपोर्ट के अनुसार वर्तमान में थार क्षेत्र में कई ओवरहेड तार लाइनें विशेष रूप से उच्च-वोल्टेज संचरण लाइनें ग्रेट इंडियन बस्टर्ड के लिये सबसे बड़ा खतरा बन गयी हैं। यह उच्च-वोल्टेज संचरण लाइनें

हाथी गलियारों पर कार्य योजना

हाल ही में राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण (NGT) ने ओडिशा सरकार को हाथियों के 14 चिह्नित अधिवास क्षेत्र में बाधा मुक्त आवागमन हेतु हाथी गलियारों पर एक कार्य योजना तैयार करने का निर्देश दिया है। प्रमुख बिन्दु इन प्रस्तावित गलियारों में किसी भी प्रकार का अतिक्रमण करने तथा वन संरक्षण अधिनियम 1980 एवं भारतीय वन अधिनियम 1927 के प्रावधानों का उल्लंघन करने वालों के विरुद्ध कानूनी कार्रवाई की जाएगी। इस क्षेत्र में अक्सर मानव-हाथी संघर्ष संबंधी घटनाएँ होती रहती हैं इसलिए एनजीओ द्वारा सरकार से आरक्षित वन भूमि से अनाधिकृत इमारतों को हटाए जाने और वनभूमि को अतिक्रमण से मुक्त किए जाने की मांग

जैव-विविधाता

मिरिस्टिका दलदली ट्रीफ्रॉग

हाल ही में केरल के त्रिशूर जिले में वाझाचल रिजर्व फ़ॉरेस्ट (Vazhachal Reserve Forest) के शेंकोटा दर्रे (Shencottah gap) के उत्तर में पहली बार मिरिस्टिका स्वैम्प ट्रीफ्रॉग (Myristica swamp treefrog) प्रजाति को देखा गया। मिरिस्टिका दलदली ट्रीफ्रॉग इस मेंढक प्रजाति को पहली बार वर्ष 2013 में कोल्लम जिले के अगस्त्यमलाई की पश्चिमी तलहटी में स्थित कुलथुपुझा रिजर्व फ़ॉरेस्ट के पास अरिप्पा के मिरिस्टिका दलदल में देखा गया था। अगस्त्यमलाई की तलहटी में पाए जाने वाले मिरिस्टिका दलदली ट्रीफ्रॉग के विपरीत ये मेढक पूरे जून और जुलाई में सक्रिय पाए गए थे। इस प्रजाति का वैज्ञानिक नाम मर्कुराना मिरिसिकापालुस्ट्रिस (Mercurana myristicapalustris) है। विशेष लक्षण यह

प्रदूषण

वायु प्रदूषण से वर्ष 2019 में 17 लाख भारतीयों की मृत्यु: रिपोर्ट

हाल ही में जारी लैंसेट प्लेटनरी हेल्थ रिपोर्ट के अनुसार भारत में वर्ष 2019 में वायु प्रदूषण के कारण 17 लाख लोगों की मृत्यु हुई है। ‘द इंडिया स्टेट लेवल डिजीज बर्डन इनीशिएटिव’ नामक इस रिपोर्ट में इनडोर और आउटडोर स्रोतों से होने वाले वायु प्रदूषण के स्वास्थ्य और आर्थिक प्रभावों का आकलन किया गया है। प्रमुख बिन्दु नवीनतम रिपोर्ट में कहा गया है कि वर्ष 2019 में भारत में वायु प्रदूषण के कारण होने वाली मृत्यु देश में होने वाली कुल मृत्यु का 18% थी। रिपोर्ट के अनुसार आउटडोर स्रोतों से होने वाले वायु प्रदूषण या परिवेशीय वायु प्रदूषण

पेरिस जलवायु समझौते के पाँच वर्ष

हाल ही में पेरिस समझौते की पांचवीं वर्षगांठ पर संयुक्त राष्ट्र, यूनाइटेड किंगडम और फ्रांस द्वारा चिली और इटली की साझेदारी में संयुक्त रूप से अंतरराष्ट्रीय जलवायु महत्वाकांक्षी शिखर सम्मेलन का वर्चुअली आयोजन किया गया। सम्मेलन में भारत ने पेरिस जलवायु समझौते के लिये अपनी प्रतिबद्धता दोहराई है। प्रमुख बिन्दु सम्मेलन को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारत ने 2005 के स्तर से अपनी उत्सर्जन तीव्रता को 21% तक कम कर दिया है। भारत की सौर क्षमता 2014 में 2.63 गीगावाट से बढ़कर 2020 में 36 गीगावाट हो गई है। भारत द्वारा वर्ष 2022 से पहले 175 गीगावाट

ग्रीन चारकोल हैकाथॉन

हाल ही में भारत में कार्बन उत्सर्जन में कमी तथा पर्यावरण अनुकूल प्रौद्योगिकी समाधान लाने के दृष्टिकोण हेतु एनटीपीसी लिमिटेड की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी एनटीपीसी विद्युत व्यापार निगम (NVVN) द्वारा ग्रीन चारकोल हैकाथॉन का शुभारंभ किया गया। प्रमुख बिन्दु त्वरित प्रौद्योगिकी विकास हेतु एनवीवीएन ने एनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेज लिमिटेड (EESL) के साथ साझेदारी कर ग्रीन चारकोल हैकाथॉन का आयोजन किया। भारत में एक अनुकूल वातावरण के निर्माण की अवधारणा के साथ कार्बन उत्सर्जन को कम करते हुए प्रौद्यौगिकी समाधानों का विकास किया जा रहा है। इसमें कृषि अवशेष को हरित चॉरकोल में बदलने की प्रौद्योगिकी पर विचार-विमर्श और विकास प्रमुखता में

जलवायु परिवर्तन

तापमान में 3 डिग्री सेल्सियस तक की वृद्धि: उत्सर्जन गैप रिपोर्ट

हाल ही में संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (UNEP) द्वारा उत्सर्जन गैप रिपोर्ट-2020 (Emissions Gap Report-2020) जारी की गई। जिसमें चिंता जताई गई है कि यदि तापमान में हो रही वृद्धि इसी तरह जारी रहती है, तो सदी के अंत तक यह वृद्धि 3.2 डिग्री सेल्सियस के पार चली जाएगी। प्रमुख बिन्दु UNEP की वार्षिक रिपोर्ट अनुमानित उत्सर्जन स्तरों के मध्य अंतर को मापती है ताकि पेरिस समझौते के लक्ष्यों के अनुरूप इस सदी में वैश्विक तापमान वृद्धि को पूर्व-औद्योगिक स्तर (Pre-Industrial level) से 2 डिग्री सेल्सियस कम रखा जा सके। महामारी का प्रभाव: रिपोर्ट के अनुसार महामारी से आई आर्थिक मंदी के

विविध

कच्छ का हाइब्रिड नवीकरणीय ऊर्जा पार्क

हाल ही में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गुजरात में कई विकास परियोजनाओं का शिलान्यास किया। इन परियोजनाओं में एक हाइब्रिड नवीकरणीय ऊर्जा पार्क, विलवणीकरण संयंत्र और एक पूर्ण रूप से स्वचालित दूध प्रसंस्करण और पैकेजिंग संयंत्र सम्मिलित है। हाइब्रिड नवीकरणीय ऊर्जा पार्क गुजरात के कच्छ जिले के खावड़ा गांव में बनने वाला यह नवीकरणीय ऊर्जा पार्क दुनिया में अपनी तरह का सबसे बड़ा पार्क है, जिसकी उत्पादन क्षमता 30 गीगावाट (GW) होगी। यह नवीकरणीय ऊर्जा पार्क 72600 हेक्टेयर भूमि पर विस्तृत होगा जिसमें 49,600 हेक्टेयर भूमि पर हाइब्रिड पार्क ज़ोन और 24,800 मेगावाट क्षमता के पवन और सौर ऊर्जा संयंत्र होंगे

संक्षिप्तिकी

वन्यजीवों हेतु इको-ब्रिज

उत्तराखंड के नैनीताल ज़िले में रामनगर वन प्रभाग ने हाल ही में सरीसृप और छोटे स्तनधारियों के लिये अपने पहले इको-ब्रिज (eco-bridge) का निर्माण किया है। इको-ब्रिज वन्यजीव कनेक्टिविटी को बढ़ावा देने की दृष्टि से काफी महत्त्वपूर्ण होते हैं, जो प्रायः राजमार्गों के कारण बाधित हो जाते हैं। प्रमुख बिन्दु यह इको-ब्रिज 90 फीट लंबा और 5 फीट चौड़ा है। यह रामनगर वन प्रभाग में कालाढूंगी- नैनीताल राजमार्ग पर अवस्थित है, जिसे बांस, रस्सी और घास से तैयार किया गया है। इको-ब्रिज: इन पुलों को मुख्यत: स्थानीय बेलों और लताओं द्वारा तैयार किया जाता है, ताकि यह प्राकृतिक परिदृश्य से मेल खा सके।

देश के 8 समुद्र तटों पर इंटरनेशनल ब्लू फ्लैग फहराया

हाल ही में केन्द्रीय पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री प्रकाश जावडेकर ने वर्चुअल रूप से देश के 8 समुद्री तटों पर अंतरराष्ट्रीय ब्लू फ्लैग फहराया। प्रमुख बिन्दु जिन स्थानों पर इंटरनेशनल ब्लू फ्लैग फहराये गए उनमें कप्पड (केरल), शिवराजपुर (गुजरात), घोघला (दीव), कसरकोड तथा पदुबिदरी (कर्नाटक), रूशिकोन्डा (आंध्र प्रदेश), गोल्डेन (ओडिशा) तथा राधानगर (अंडमान और निकोबार दीव समूह) हैं। भारत ने 6 अक्टूबर, 2020 को इन समुद्री तटों के लिए अंतरराष्ट्रीय ब्लू फ्लैग प्रमाणन, अंतरराष्ट्रीय निर्णायक मंडल द्वारा कोपेनहेगेन, डेनमार्क में पुरस्कार की घोषणा के बाद प्राप्त किया था। ब्लू फ्लैग प्रमाणीकरण वैश्विक रूप से मान्य पर्यावरण-लेबल हैं, जिसे 33

पीआईबी कॉर्नर

पीआईबी कॉर्नर

ऑपरेशन ऑलिवः भारतीय तटरक्षक बल ने ओडिशा में ‘ऑलिव रिडले कछुओं’ की सुरक्षा के लिए ‘ऑपरेशन ऑलिव’ शुरू किया है। ऑपरेशन ऑलिव को वर्ष 1999 में केंद्र सरकार द्वारा समुद्री प्रजातियों की सुरक्षा के लिए लॉन्च किया गया था। ऑलिव रिडले कछुए का वैज्ञानिक नाम ‘लेपिडोचिल्स ऑलिवैसिया’ (Lepidochelys olivacea) है, इसे दुनिया का सबसे बहुल समुद्री कछुआ माना जाता है। IUCN द्वारा इसे ‘अतिसंवेदंशील प्रजाति’ (Vulnerable Species) के रूप में सूचीबद्ध किया गया है। राष्ट्रीय उर्जा संरक्षण दिवसः प्रतिवर्ष 14 दिसंबर को ऊर्जा दक्षता और संरक्षण में भारत की उपलब्धियों को प्रदर्शित करने के उद्देश्य से राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण दिवस

लघु संचिका
खेल परिदृश्य
राज्यनामा

संसद प्रश्नोत्तरी

विशेष

Content Index