एनपीपीए के तहत गोवा में मूल्य निगरानी और संसाधन इकाई स्थापित


भारत सरकार के रसायन और उर्वरक मंत्रालय के औषधि विभाग के तहत राष्ट्रीय औषधि मूल्य निर्धारण प्राधिकरण (एनपीपीए) के तहत 22 अक्टूबर, 2020 को गोवा में एक मूल्य निगरानी और संसाधन इकाई (पीएमआरयू) की स्थापना की गई है।

महत्वपूर्ण तथ्य: एनपीपीए ने उपभोक्ता जागरूकता, प्रचार और मूल्य निगरानी (सीएपीपीएम) नामक अपनी केंद्रीय क्षेत्र योजना के तहत 15 राज्यों/केन्द्र शासित प्रदेशों, केरल, ओडिशा, गुजरात, राजस्थान, हरियाणा, नागालैंड, त्रिपुरा, उत्तर प्रदेश, पंजाब, आंध्र प्रदेश, मिजोरम, जम्मू-कश्मीर, कर्नाटक, तेलंगाना और महाराष्ट्र में पीएमआरयू की स्थापना की है।

  • एनपीपीए की देश के सभी 36 राज्यों / केंद्र-शासित प्रदेशों में पीएमआरयू स्थापित करने की योजना है।
  • योजना के तहत एनपीपीए द्वारा पीएमआरयू के आवर्ती और गैर-आवर्ती दोनों का खर्च वहन किया जाता है।
  • पीएमआरयू का प्राथमिक कार्य दवाओं की कीमतों की निगरानी, दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने और उपभोक्ता जागरूकता बढ़ाने में एनपीपीए की सहायता करना है।