भूगोल

  • सप्तर्षि तारामंडलः यह पृथ्वी के उत्तरी गोलार्द्ध के आकाश में रात्रि में दिखने वाला एक तारामंडल है। इसे फाल्गुन-चैत्र महीने से श्रावण-भाद्र महीने तक आकाश में सात तारों के समूह के रूप में देखा जा सकता है।
    • सप्तर्षि तारामंडल उरसा मेजर (Ursa Major) का एक हिस्सा है, इसका अंग्रेजी नाम ग्रेट बियर है। यह तारामंडल आकाश में बड़े भालू जैसी आकृति बनाता है, इसीलिए प्राचीन सभ्यताओं में इसे यह नाम दिया गया।
    • सप्तऋषि मण्डल ध्रुव तारे के चारों ओर 24 घण्टे में एक चक्कर पूरा करता है। इस मण्डल के प्रथम दो तारे सदैव ध्रूव तारे की सीध में ही दिखाई देते ....
क्या आप और अधिक पढ़ना चाहते हैं?
तो सदस्यता ग्रहण करें
इस अंक की सभी सामग्रियों को विस्तार से पढ़ने के लिए खरीदें |

पूर्व सदस्य? लॉग इन करें


वार्षिक सदस्यता लें
सिविल सर्विसेज़ क्रॉनिकल के वार्षिक सदस्य पत्रिका की मासिक सामग्री के साथ-साथ क्रॉनिकल पत्रिका आर्काइव्स पढ़ सकते हैं |
पाठक क्रॉनिकल पत्रिका आर्काइव्स के रूप में सिविल सर्विसेज़ क्रॉनिकल मासिक अंक के विगत 6 माह से पूर्व की सभी सामग्रियों का विषयवार अध्ययन कर सकते हैं |