सामयिक

पीआईबी न्यूज :

नवीकरणीय ऊर्जा प्रमाणपत्र तंत्र

29 सितंबर, 2021 को केंद्रीय विद्युत और नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री आर के सिंह ने मौजूदा नवीकरणीय ऊर्जा प्रमाणपत्र तंत्र (Renewable Energy Certificate (REC) mechanism) में संशोधन के लिए अपनी सहमति प्रदान की।

उद्देश्य: विद्युत परिदृश्य में उभरते परिवर्तनों के साथ 'तंत्र' को अनुरूप बनाना और नई नवीकरणीय प्रौद्योगिकियों को बढ़ावा देना।


इंडिया एक्सपोर्ट पहल

29 सितंबर, 2021 को सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम (एमएसएमई) मंत्री नारायण राणे ने ‘इंडिया एक्सपोर्ट पहल’ (India Export Initiative) और ‘इंडियाएक्सपोर्ट्स 2021 पोर्टल’ (IndiaXports 2021 Portal) लॉन्च किया।

प्रमुख उद्देश्य: मौजूदा टैरिफ लाइनों में अप्रयुक्त निर्यात क्षमता पर ध्यान केंद्रित करना तथा वर्ष 2022 में एमएसएमई निर्यात को 50% तक बढ़ाने और 5 ट्रिलियन अर्थव्यवस्था के लक्ष्य को पूरा करने में योगदान देना।


क्वाड लीडर्स समिट

24 सितंबर, 2021 को, अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने व्हाइट हाउस में क्वाड के पहले-व्यक्तिगत नेताओं के शिखर सम्मेलन 'क्वाड लीडर्स समिट' (Quad Leaders’ Summit) के लिए ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन, भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और जापान के प्रधानमंत्री योशीहिदे सुगा की मेजबानी की।

महत्वपूर्ण तथ्य: शिखर सम्मलेन के दौरान 'क्वाड' समूह ने कई पहलों की घोषणा की।


‘भारत में शहरी नियोजन क्षमता में सुधार' रिपोर्ट

नीति आयोग ने 16 सितंबर, 2021 को भारत में शहरी नियोजन क्षमता में सुधार करने वाले उपायों पर ‘भारत में शहरी नियोजन क्षमता में सुधार’ शीर्षक से एक रिपोर्ट जारी की।

रिपोर्ट में दिए गए सुझाव: सभी शहर 2030 तक ‘सभी के लिए स्वस्थ शहर’ बनने की भावना से प्रेरित हों।

  • 5 साल की अवधि के लिए एक केंद्रीय क्षेत्र की योजना ‘500 स्वस्थ शहर कार्यक्रम’ को लाने का सुझाव, जिसमें राज्यों और स्थानीय निकायों द्वारा संयुक्त रूप से प्राथमिकता वाले शहरों और कस्बों का चयन किया जाएगा।

विशेष गुणों वाली 35 फसल किस्में

जलवायु अनुकूल प्रौद्योगिकियां अपनाने को लेकर जन जागरूकता पैदा करने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 28 सितंबर, 2021 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए एक अखिल भारतीय कार्यक्रम में विशेष गुणों वाली 35 फसलों की किस्में राष्ट्र को समर्पित की।

विशेष गुणों वाली फसलों की किस्म: जलवायु को लेकर लचीलापन और ऊंची पोषक तत्व सामग्री जैसे विशेष गुणों वाली 35 ऐसी फसलों की किस्मों को भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद (आईसीएआर) द्वारा वर्ष 2021 में विकसित किया गया।


लॉजिस्टिक्स और आपूर्ति शृंखला प्रबंधन में उत्कृष्टता केंद्र

केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्री ने 23 सितंबर, 2021 को राष्ट्रीय औद्योगिक इंजीनियरिंग संस्थान, मुंबई में 'लॉजिस्टिक्स और आपूर्ति शृंखला प्रबंधन में उत्कृष्टता केंद्र’ (Centre of Excellence in Logistics and Supply Chain Management) का उद्घाटन किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: वैश्विक प्रतिस्पर्धा और आर्थिक संकट से उत्पन्न चुनौतियों के कारण आपूर्ति शृंखलाओं का प्रबंधन अधिक से अधिक जटिल होता जा रहा है। इस परिदृश्य में, यह केंद्र अनुप्रयुक्त अनुसंधान और विकास गतिविधियों के माध्यम से लॉजिस्टिक्स और आपूर्ति शृंखला प्रबंधन में अत्याधुनिक अनुसंधान, जानकारियों में बढ़ोतरी और क्षमता निर्माण में योगदान देगा।


आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 27 सितंबर, 2021 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन का शुभारंभ किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: प्रधानमंत्री ने 15 अगस्त, 2020 को लाल किले की प्राचीर से आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन की पायलट परियोजना की घोषणा की थी। वर्तमान में, आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन छ: केंद्र-शासित प्रदेशों में प्रारंभिक चरण में लागू किया जा रहा है।

  • आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन स्वास्थ्य संबंधी व्यक्तिगत जानकारी की सुरक्षा, गोपनीयता और निजता को सुनिश्चित करते हुए एक विस्तृत शृंखला के प्रावधान के माध्यम से डेटा, सूचना और जानकारी का एक सहज ऑनलाइन प्लेटफॉर्म तैयार करेगा।

निवेशकों और व्यवसायों के लिए राष्ट्रीय एकल खिड़की प्रणाली

केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने 22 सितंबर, 2021 को निवेशकों और व्यवसायों के लिए राष्ट्रीय एकल खिड़की प्रणाली शुरू की।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह एकल खिड़की पोर्टल निवेशकों के लिए अनुमोदनों और मंजूरी हेतु एक ही स्थान पर समस्त सुविधायें (one-stop-shop) उपलब्ध कराएगी।


‘शून्य’ अभियान

नीति आयोग ने आरएमआई (Rocky Mountain Institute) और आरएमआई इंडिया के सहयोग से 15 सितंबर, 2021 को उपभोक्ताओं और उद्योग के साथ मिलकर शून्य-प्रदूषण वाले वाहनों को बढ़ावा देने वाले ‘शून्य’ अभियान (Shoonya campaign) की शुरुआत की।

अभियान का उद्देश्य: शहरी क्षेत्र में डिलीवरी के मामले में इलेक्ट्रिक वाहनों (ईवी) को अपनाने में तेजी लाना और शून्य-प्रदूषण उत्सर्जन से होने वाले लाभों के बारे में उपभोक्ताओं के बीच जागरूकता पैदा करना।


परशुराम कुंड

केंद्रीय पर्यटन मंत्री जी. किशन रेड्डी ने केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के साथ 25 सितंबर, 2021 को अरुणाचल प्रदेश में 'परशुराम कुंड विकास' परियोजना की आधारशिला रखी।

महत्वपूर्ण तथ्य: योजना के तहत “परशुराम कुंड, लोहित जिला, अरुणाचल प्रदेश का विकास” परियोजना को जनवरी 2021 में 37.88 करोड़ रुपये की लागत से पर्यटन मंत्रालय द्वारा अनुमोदित किया गया था।

  • इस परियोजना में पार्किंग क्षेत्र, पर्यटक सूचना केंद्र, वर्षा आश्रय स्थल, कियोस्क, मेला मैदान के पास जल आपूर्ति लाइन, फूड कोर्ट / प्रसादम केंद्र आदि सुविधाएं प्रदान की जाएंगी।

Showing 21-30 of 690 items.