पीआईबी न्यूज आर्थिक

चंदन की खेती


केंद्रीय ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री गिरिराज सिंह ने 11 अक्टूबर, 2021 को बेंगलूरू के ‘इंस्टीट्यूट ऑफ वुड साइंस एंड टेक्नोलॉजी’ (Institute of Wood Science and Technology: IWST) के सहयोग से चंदन (Sandalwood) की खेती एवं उसका स्वास्थ्य प्रबंधन विषय पर आयोजित एक प्रशिक्षण कार्यक्रम का उद्घाटन किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह कार्यक्रम भारतीय चंदन की बुनियादी बातों एवं फायदों, बीजों के प्रबंधन, नर्सरी तकनीक और पौधे के स्वास्थ्य प्रबंधन पर आधारित है।

  • चंदन लंबे समय से भारतीय विरासत एवं संस्कृति से जुड़ा हुआ है क्योंकि देश ने चंदन के वैश्विक व्यापार में 85% का योगदान किया था। हालांकि बाद में यह तेजी से घटने लगा है।
  • एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-बायोटिक और कैंसर-रोधी लाभों के साथ चंदन का उपयोग फार्मास्युटिकल्स, पर्सनल केयर और फर्नीचर में होता है।
  • वैश्विक स्तर पर भारत और ऑस्ट्रेलिया चंदन के सबसे बड़े उत्पादक हैं, जबकि सबसे बड़े बाजारों में संयुक्त राज्य अमेरिका, चीन, जापान और भारतीय घरेलू बाजार शामिल हैं।
  • 2020 में चंदन का वैश्विक बाजार 30 करोड़ डॉलर था, जबकि विश्व व्यापार अनुसंधान (World Trade Research) ने 2040 तक इस बाजार का आकार 3 अरब डॉलर तक पहुंचने का अनुमान जाहिर किया है।

पीआईबी न्यूज विज्ञान और तकनीक

भारतीय अंतरिक्ष संघ


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 11 अक्टूबर, 2021 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ‘भारतीय अंतरिक्ष संघ’ (Indian Space Association: ISpA) का शुभारंभ किया।

(Image Source: @ISpA_India Twitter)

महत्वपूर्ण तथ्य: ISpA अंतरिक्ष और उपग्रह कंपनियों का प्रमुख उद्योग संघ है, जो भारतीय अंतरिक्ष उद्योग की सामूहिक आवाज बनने की आकांक्षा रखता है।

  • ISpA नीतिगत हिमायत करेगा और सरकार एवं इसकी एजेंसियों सहित भारतीय अंतरिक्ष क्षेत्र में सभी हितधारकों के साथ अपना जुड़ाव सुनिश्चित करेगा।
  • प्रधानमंत्री के ‘आत्मनिर्भर भारत’ दृष्टिकोण को रेखांकित करते हुए ISpA भारत को आत्मनिर्भर, तकनीकी रूप से उन्नत और अंतरिक्ष क्षेत्र में एक अग्रणी देश बनाने में मदद करेगा।
  • ISpA का प्रतिनिधित्व अंतरिक्ष और उपग्रह प्रौद्योगिकियों में उन्नत क्षमताएं रखने वाली प्रमुख देशी कंपनियों के साथ-साथ वैश्विक कंपनियां भी करती हैं।
  • ISpA के संस्थापक सदस्यों में लार्सन एंड टुब्रो, नेल्को (टाटा ग्रुप), वनवेब, भारती एयरटेल, मैपमायइंडिया, वालचंदनगर इंडस्ट्रीज और अनंत टेक्नोलॉजी लिमिटेड शामिल हैं। इसके अन्य प्रमुख सदस्यों में गोदरेज, ह्यूजेस इंडिया, अजिस्ता-बीएसटी एयरोस्पेस प्राइवेट लिमिटेड, बीईएल, सेंटम इलेक्ट्रॉनिक्स, मैक्सार इंडिया शामिल हैं।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

आदिवासियों के लिए केंद्र-शासित प्रदेश की मांग


10 अक्टूबर, 2021 ओडिशा के कोरापुट जिले में ओडिशा, छत्तीसगढ़ और आंध्र प्रदेश के राजनेताओं ने 'दंडकारण्य केंद्र-शासित प्रदेश' की मांग के लिए एक बैठक आयोजित की।

महत्वपूर्ण तथ्य: कोरापुट जिला उस 'दंडकारण्य पुनर्वास परियोजना' का हिस्सा था, जिसमें 1950 के दशक के अंत में, भारत सरकार द्वारा बांग्लादेश (पूर्वी पाकिस्तान) से विस्थापित लोगों को बसाया गया था और इसे 'दंडकारण्य विकास प्राधिकरण' का नाम दिया था। वे ओडिशा और वर्तमान छत्तीसगढ़ में बस गए थे।

  • इस क्षेत्र के आदिवासियों का मानना है कि उन्हें सरकारी नीतियों में न तो राज्य सरकार और न ही केंद्र सरकार द्वारा कभी भी कोई महत्व दिया जाता है।
  • आंध्र प्रदेश, ओडिशा, छत्तीसगढ़ और तेलंगाना के सीमावर्ती इलाकों में रहने वाले आदिवासी अलग राज्य की मांग कर रहे हैं।
  • इसी आंदोलन को आगे बढ़ाने के लिए एक छत्र निकाय 'दंडकारण्य पर्वतमाला विकास परिषद' (DPBP) का गठन किया गया है, जो पिछले कई महीनों से, ओडिशा और आंध्र प्रदेश के बीच विवादित कोरापुट जिले की कोटिया ग्राम पंचायत के स्थायी समाधान का प्रयास कर रहा है।
  • अविभाजित कोरापुट जिला, जिसे 1936 में गठित किया गया था, ने ओडिशा के साथ बने रहने का फैसला किया था।

सामयिक खबरें पर्यावरण

छत्तीसगढ़ में भारत का सबसे नया टाइगर रिजर्व


5 अक्टूबर, 2021 को, राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण (एनटीसीए) ने छत्तीसगढ़ सरकार के गुरु घासीदास राष्ट्रीय उद्यान और तमोर पिंगला वन्यजीव अभयारण्य के संयुक्त क्षेत्रों को टाइगर रिजर्व घोषित करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी।

महत्वपूर्ण तथ्य: नया रिजर्व मध्य प्रदेश और झारखंड की सीमा से लगे राज्य के उत्तरी भाग में स्थित है।

  • उदंती-सीतानदी, अचानकमार और इंद्रावती रिजर्व के बाद छत्तीसगढ़ में यह चौथा टाइगर रिजर्व होगा।
  • गुरु घासीदास राष्ट्रीय उद्यान कोरिया जिले में है; तमोर पिंगला छत्तीसगढ़ के उत्तर-पश्चिमी कोने में सूरजपुर जिले में है।
  • गुरु घासीदास राष्ट्रीय उद्यान देश में एशियाई चीतों का अंतिम ज्ञात निवास स्थान था। राज्य गठन से पहले यह मूल रूप से संजय दुबरी राष्ट्रीय उद्यान का हिस्सा था।
  • गुरु घासीदास झारखंड और मध्य प्रदेश को जोड़ता है और बांधवगढ़ और पलामू टाइगर रिजर्व के बीच बाघों के आवागमन के लिए एक गलियारा प्रदान करता है। इस दृष्टि से इसे टाइगर रिजर्व घोषित करना महत्वपूर्ण है।
  • वन्यजीव (संरक्षण) अधिनियम, 1972 की धारा 38V(1) के तहत इस टाइगर रिजर्व को मंजूरी दी गई है।

सामयिक खबरें पर्यावरण

महत्वपूर्ण हाथी कनेक्टिविटी क्षेत्रों की पहचान (


अक्टूबर 2021 में एक नए अध्ययन में महत्वपूर्ण हाथी कनेक्टिविटी क्षेत्रों की पहचान की गई है।

महत्वपूर्ण तथ्य: अध्ययन के अनुसार हाथी उच्च वनस्पति आवरण और कम मानव जनसंख्या घनत्व वाले वनों के आस-पास के क्षेत्रों को पसंद करते हैं।

  • पूर्वोत्तर-स्थित एनजीओ 'कंजर्वेशन इनिशिएटिव्स' की दिव्या वासुदेव और वरुण आर. गोस्वामी ने हाथियों के परिदृश्य में रहने वाले लोगों से डेटा एकत्र किया और नए विकसित मॉडल 'रैंडमाइज्ड शॉर्टेस्ट पाथ' (Randomised shortest path) का प्रयोग किया।
  • अध्ययन के अनुसार भविष्य में प्रजातियों के अस्तित्व के लिए कनेक्टिविटी महत्वपूर्ण है। विशेष रूप से एशियाई हाथी जैसी प्रजातियों के लिए।
  • ज्ञात हो कि हाथी अपने भोजन और पानी की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए व्यापक रूप से, कभी-कभी सैकड़ों किलोमीटर के दायरे में पाये जाते हैं।
  • मानव गतिविधि और भूमि-उपयोग परिवर्तन ने वैश्विक स्तर पर जानवरों की आवाजाही को औसतन 50-67% तक सीमित कर दिया है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप निधन

मलयालम अभिनेता नेदुमुदी वेणु का निधन


मलयालम सिनेमा के सबसे बहुमुखी चरित्र अभिनेताओं में से एक नेदुमुदी वेणु का 11 अक्टूबर, 2021 को निधन हो गया। वे 73 वर्ष के थे।

(Image Source: @Forumkeralam2 Twitter)

  • नेदुमुदी वेणु ने कवलम नारायण पणिकर के नाटकों के साथ एक 'थिएटर कलाकार' के रूप में अपना करियर शुरू किया।
  • उन्होंने 1978 में जी अरविंदन द्वारा निर्देशित फिल्म 'थंबू' (Thambu) के साथ फिल्मों में अपनी शुरुआत की।
  • मलयालम और तमिल फिल्मों में अपने अभिनय के लिए प्रख्यात वेणु ने 500 से अधिक फिल्मों में अभिनय किया।
  • नेदुमुदी वेणु ने अपने प्रदर्शन के लिए तीन राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार और छ: केरल राज्य फिल्म पुरस्कार जीते थे।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप पुरस्कार/सम्मान

22वां लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय उत्कृष्टता पुरस्कार 2021


उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने 11 अक्टूबर, 2021 को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के निदेशक और प्रख्यात पल्मोनोलॉजिस्ट डॉ. रणदीप गुलेरिया को '22वां लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय उत्कृष्टता पुरस्कार 2021' प्रदान किया।

(Image Source: www.lbsim.ac.in/)

  • हाल के दिनों में कोविड-19 महामारी के बारे में जागरूकता पैदा करने में डॉ. रणदीप गुलेरिया की शानदार भूमिका के लिए उन्हें इस पुरस्कार से सम्मानित किया गया।
  • डॉ. रणदीप गुलेरिया को एक अत्यधिक कुशल और समर्पित अस्पताल प्रशासक के रूप में भी जाना जाता है।
  • 'लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय उत्कृष्टता पुरस्कार' को लाल बहादुर शास्त्री प्रबंधन संस्थान, दिल्ली द्वारा स्थापित किया गया है। यह पुरस्कार प्रति वर्ष अपने चुने हुए क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले एक विशिष्ट व्यक्ति को दिया जाता है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस (10 अक्टूबर)


2021 का विषय: 'एक असमान दुनिया में मानसिक स्वास्थ्य' (Mental Health in an Unequal World)

2021 का अभियान नारा: 'सभी के लिए मानसिक स्वास्थ्य देखभाल: आइए इसे एक वास्तविकता बनाएं' (Mental health care for all: let’s make it a reality)

महत्वपूर्ण तथ्य: इस दिवस का उद्देश्य पूरे विश्व में मानसिक स्वास्थ्य से संबंधित मुद्दों के बारे में जागरूकता बढ़ाना और मानसिक स्वास्थ्य के समर्थन में प्रयासों को बढ़ावा देना है।

  • विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार देश औसतन अपने राष्ट्रीय स्वास्थ्य बजट का लगभग 2% से कम मानसिक स्वास्थ्य पर खर्च करते हैं।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

विश्व अंतरिक्ष सप्ताह (4-10 अक्टूबर)


2021 का विषय: 'अंतरिक्ष में महिलाएं' (Women in Space)

महत्वपूर्ण तथ्य: हर वर्ष 4 से 10 अक्टूबर तक ‘विश्व अंतरिक्ष सप्ताह’ अंतरिक्ष अन्वेषण के क्षेत्र में दो महत्वपूर्ण घटनाओं की याद में मनाया जाता है; 4 अक्टूबर, 1957 को पहला मानव निर्मित पृथ्वी उपग्रह 'स्पुतनिक-1' का प्रमोचन और 10 अक्टूबर, 1967 को संयुक्त राष्ट्र के चंद्रमा और अन्य खगोलीय पिंडों सहित बाहरी अंतरिक्ष के अन्वेषण और उपयोगगतिविधियों को नियंत्रित करने वाले सिद्धांतों से संबंधित संधि लागू हुई थी।

  • 'स्पेस फॉर वुमेन' (Space4Women) अंतरिक्ष में महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देने के लिए संयुक्त राष्ट्र के बाहरी अंतरिक्ष मामलों के कार्यालय (UNOOSA) की एक परियोजना है।
  • रिपोर्ट के अनुसार, अंतरिक्ष इंडस्ट्री में 20-22 फीसदी महिलाएं कार्यरत हैं।

संक्षिप्त खबरें संस्थान-संगठन

राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग


12 अक्टूबर, 2021 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग (National Human Rights Commission: NHRC) के 28वें स्थापना दिवस समारोह को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संबोधित किया।

(Image Source: National Human Rights Commission)

  • राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग का गठन मानवाधिकार संरक्षण अधिनियम, 1993 के तहत 12 अक्टूबर, 1993 को हुआ था। इसका उद्देश्य मानवाधिकारों को प्रोत्साहन देना और उनका संरक्षण करना है।
  • आयोग किसी भी प्रकार के मानवाधिकार हनन का स्वतः संज्ञान लेता है और ऐसे मामलों में पड़ताल करता है, पीड़ितों को मुआवजा देने के लिये लोकाधिकारियों को अनुमोदन करता है, मानवाधिकारों का हनन करने वाले जनसेवकों के खिलाफ कानूनी और अन्य दण्डनीय कार्रवाई करता है।
  • राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग का गठन पेरिस सिद्धांतों के अनुरूप है, जिन्हें अक्टूबर1991 में पेरिस में मानव अधिकार संरक्षण एवं संवर्द्धन के लिए राष्ट्रीय संस्थानों पर आयोजित पहली अंतरराष्ट्रीय कार्यशाला में अंगीकृत किया गया था तथा 1993 में संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा संकल्प के माध्यम से समर्थित किया गया था।
  • वर्तमान में न्यायमूर्ति अरुण कुमार मिश्रा राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के अध्यक्ष हैं। 1993 में न्यायमूर्ति रंगनाथ मिश्रा राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के पहले अध्यक्ष थे।

राज्य समाचार दिल्ली

दिल्ली सरकार की स्वास्थ्य सूचना प्रबंधन प्रणाली परियोजना


दिल्ली सरकार ने 5 अक्टूबर, 2021 को अपनी महत्वाकांक्षी 'स्वास्थ्य सूचना प्रबंधन प्रणाली परियोजना' (Health Information Management System project) को वित्तीय मंजूरी दी।

  • परियोजना के हिस्से के रूप में, प्रत्येक नागरिक के पास एक स्वास्थ्य कार्ड होगा, जिसमें उनकी चिकित्सा संबंधित जानकारी होगी।
  • डॉक्टर कार्ड का उपयोग करके मरीज की मेडिकल हिस्ट्री देख सकेंगे और मरीज घर से ही अपॉइंटमेंट ले सकेंगे।
  • 1 से 18 वर्ष के बीच के सभी नागरिकों को उनके माता-पिता के स्वास्थ्य कार्ड से जुड़ा स्वास्थ्य कार्ड जारी किया जाएगा।
  • सभी नवजात शिशुओं (1 वर्ष तक) को उनकी मां के स्वास्थ्य कार्ड से जोड़ा जाएगा।