भारत फसल जलाने से संबंधित उत्सर्जन में विश्व स्तर पर शीर्ष पर


जलवायु प्रौद्योगिकी स्टार्टअप 'ब्लू स्काई एनालिटिक्स' (Blue Sky Analytics) द्वारा अक्टूबर 2021 में जारी एक नई रिपोर्ट के अनुसार, 2015-2020 की अवधि के दौरान फसल जलाने से संबंधित उत्सर्जन में कुल वैश्विक उत्सर्जन में 13% योगदान के साथ भारत शीर्ष पर है।

महत्वपूर्ण तथ्य: 2016 और 2019 के बीच रिपोर्ट फसल जलने की घटनाओं में गिरावट की प्रवृत्ति की पुष्टि करती है, जिसमें ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन में 11.39% की कमी दर्ज की गई है।

  • हालाँकि, रिपोर्ट में 2019-20 में उत्सर्जन में 12.8% की वृद्धि का उल्लेख किया गया है, जिससे 2020 में भारत का वैश्विक उत्सर्जन में योगदान 12.2% हो गया है।
  • भारतीय जलवायु प्रौद्योगिकी स्टार्टअप ब्लू स्काई एनालिटिक्स वैश्विक गठबंधन ' क्लाइमेट ट्रेस' (Climate TRACE) का हिस्सा है।
  • ब्लू स्काई एनालिटिक्स की स्थापना एक आईआईटी की पूर्व छात्रा अभिलाषा पुरवार द्वारा की गई थी, जो इसकी सीईओ भी हैं।
  • क्लाइमेट ट्रेस स्वतंत्र उच्च-रिजॉल्यूशन और निकट-रियल टाइम ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन डेटा प्रदान करके जलवायु कार्रवाई में तेजी लाने के मिशन के साथ एक वैश्विक गठबंधन है।