कॉइनडीसीएक्स ने शुरू की संस्थागत निवेशकों के लिए क्रिप्टो ट्रेडिंग सुविधा


क्रिप्टो एक्सचेंज 'कॉइनडीसीएक्स' (CoinDCX) ने 20 अक्टूबर, 2021 को अपनी ओवर-द- काउंटर (OTC) डेस्क सुविधा शुरू की है।

  • ओटीसी डेस्क सुविधा के माध्यम से, संस्थागत निवेशक बिटकॉइन और अन्य लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसी जैसी क्रिप्टो परिसंपत्तियों के लिए थोक ऑर्डर को निष्पादित करने में सक्षम होंगे।
  • कॉइनडीसीएक्स ने क्रिप्टो में निवेश के बारे में जागरूकता और जानकारी के उद्देश्य से नए अभियान 'फ्यूचर यही है' के लिए आयुष्मान खुराना को अपने साथ जोड़ा है।
  • कॉइनडीसीएक्स एक क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज प्लेटफॉर्म है, जिसे 2018 में सुमित गुप्ता और नीरज खंडेलवाल द्वारा सह-स्थापित किया गया था।

आईसीआईसीआई लोम्बार्ड ने लॉन्च किया 'बीफिट'


आईसीआईसीआई लोम्बार्ड जनरल इंश्योरेंस ने 26 अक्टूबर, 2021 को 'बीफिट' (BeFit) सॉल्यूशन लॉन्च किया, जो ग्राहकों को उनकी संपूर्ण ओपीडी आवश्यकताओं के लिए कैशलेस आधार पर कवरेज प्रदान करेगा।

  • ग्राहक सामान्य, विशेषज्ञ और सुपर-स्पेशलिस्ट डॉक्टरों के साथ-साथ फिजियोथेरेपी सत्रों द्वारा भौतिक और आभासी परामर्श कवरेज की एक शृंखला का लाभ उठा सकते हैं।
  • भार्गव दासगुप्ता आईसीआईसीआई लोम्बार्ड जनरल इंश्योरेंस के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं।

कर्नाटक बैंक को मानव संसाधन प्रथाओं के लिए पुरस्कार


कर्नाटक बैंक को 26 अक्टूबर, 2021 को 'एशिया प्रशांत एचआरएम कांग्रेस' (Asia Pacific HRM Congress) के 19वें संस्करण में 'नवोन्मेषी मानव संसाधन प्रथाओं वाले शीर्ष संगठन' पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।

  • कर्नाटक बैंक को ग्राहकों की बदलती मांगों को पूरा करने के लिए अपने कार्यबल को प्रासंगिक नए युग के कौशल से लैस करने के लिए 'ऑनलाइन ई-लर्निंग मॉड्यूल' जैसी नवीन मानव संसाधन प्रथाओं के लिए यह पुरस्कार दिया गया है।
  • 'महाबलेश्वर एमएस' कर्नाटक बैंक के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं।

इंडियन बैंक ने किया प्राथमिकता प्राप्त क्षेत्र को ऋण देने के लिए एनबीएफसी के साथ समझौता


इंडियन बैंक ने 1 अक्टूबर, 2021 को तीन प्रमुख गैर-बैंकिंग वित्त कंपनियों (एनबीएफसी) और हाउसिंग फाइनेंस कंपनियों (एचएफसी) के साथ प्राथमिकता प्राप्त क्षेत्रों को ऋण देने के लिए एक समझौता ज्ञापन किया है।

  • चेन्नई स्थित ऋणदाता इंडियन बैंक ने इस सह-ऋण व्यवस्था (co-lending arrangement) पर इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस, इंडियाबुल्स कमर्शियल क्रेडिट और आईआईएफएल होम फाइनेंस के साथ साझेदारी की है।
  • नवंबर 2020 में, आरबीआई ने 'सह-ऋण मॉडल' (Co-Lending Model) दिशानिर्देश जारी किए थे, जिसमें बैंकों को सभी पंजीकृत एनबीएफसी (एचएफसी सहित) के साथ मिलकर सह-ऋण सुविधा उपलब्ध कराने की अनुमति दी गई थी, जिसका उद्देश्य कम बैंकिंग सेवा वाले क्षेत्रों में ऋण के प्रवाह में सुधार करना था।

इंडिया मोबाइल पेमेंट्स मार्केट रिपोर्ट 2021


27 अक्टूबर, 2021 को जारी 'इंडिया मोबाइल पेमेंट मार्केट रिपोर्ट 2021'(India Mobile Payments Market Report 2021) के अनुसार भारत में मोबाइल भुगतान अब कार्ड भुगतान की तुलना में तेजी से बढ़ रहा है।

  • रिपोर्ट के अनुसार, 2020 में क्रेडिट कार्ड को पीछे छोड़ते हुये ऐप्स के माध्यम से भुगतान 67%बढ़कर 478 बिलियन डॉलर हो गया। वे 2021 में वार्षिक मूल्य में 1 ट्रिलियन डॉलर से अधिक की कमाई कर रहे हैं।
  • तुलनात्मक रूप से, भुगतान इंडस्ट्री में क्रेडिट कार्ड लेनदेन मूल्य में वित्त वर्ष 2021 में 14% की गिरावट आई है।
  • यह रिपोर्ट 'एसएंडपी ग्लोबल मार्केट इंटेलिजेंस' (S&P Global Market Intelligence) की फाइनेंशियल इंस्टीट्यूशंस रिसर्च टीम द्वारा प्रकाशित की गई।

बीसी पटनायक एलआईसी के प्रबंध निदेशक


बीसी पटनायक ने 1 अक्टूबर, 2021 को भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) के प्रबंध निदेशक के रूप में कार्यभार संभाल लिया है।

  • एलआईसी के प्रबंध निदेशक के रूप में कार्यभार संभालने से पहले, पटनायक बीमा लोकपाल परिषद (Council for Insurance Ombudsmen), मुंबई के महासचिव थे।
  • वे मार्च 1986 में एलआईसी में अधिकारी के तौर पर शामिल हुए थे।

पीएफसी ने जारी किया भारत का पहला यूरो-मूल्यवर्ग वाला ग्रीन बॉन्ड


विद्युत क्षेत्र में अग्रणी गैर-बैंकिंग वित्त कम्पनी (एनबीएफसी) पावर फाइनेंस कॉरपोरेशन लिमिटेड (PFC) ने 13 सितंबर, 2021 को अपना पहला 300 मिलियन यूरो का 7 वर्षीय यूरो बॉन्ड जारी किया है।

  • यह भारत की ओर से जारी होने वाला अब तक का पहला यूरो मूल्यवर्ग का ग्रीन बॉन्ड (Euro-denominated Green bond) है।
  • इसके अलावा, यह किसी भारतीय एनबीएफसी द्वारा पहली बार जारी किया गया यूरो है और 2017 के बाद भारत से पहला यूरो बॉन्ड जारी किया गया है।
  • 1986 में स्थापित पावर फाइनेंस कॉर्पोरेशन लिमिटेड एक अनुसूची-ए नवरत्न सीपीएसई है, और एक प्रमुख गैर-बैंकिंग वित्तीय कम्पनी है। यह विद्युत मंत्रालय के प्रशासनिक नियंत्रण के अधीन है। इसका मुख्यालय नई दिल्ली में स्थित है।