एमेजॉन फ्यूचर इंजीनियर


ई-कॉमर्स प्रमुख एमेजॉन इंडिया ने 28 सितंबर, 2021 को भारत में अपने वैश्विक कंप्यूटर विज्ञान शिक्षा कार्यक्रम, 'एमेजॉन फ्यूचर इंजीनियर' (Amazon Future Engineer) लॉन्च करने की घोषणा की।

  • एमेजॉन फ्यूचर इंजीनियर का उद्देश्य छात्रों को कंप्यूटर विज्ञान की शिक्षा के लिए प्रारंभिक अनुभव और पहुंच प्रदान करके कंप्यूटर ज्ञान अंतर को दूर करना तथा छात्रों के लिए गुणवत्तापूर्ण कंप्यूटर विज्ञान शिक्षा और कैरियर के अवसरों तक पहुंच को सक्षम करना है।
  • अपने लॉन्च के पहले वर्ष में, एमेजॉन का लक्ष्य भारत के सात राज्यों- कर्नाटक, दिल्ली, हरियाणा, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, ओडिशा और तेलंगाना के 900 सरकारी और सहायता प्राप्त स्कूलों के 1 लाख से अधिक छात्रों को सीखने का अवसर प्रदान करना है।
  • यह पहल मुख्य रूप से कक्षा 6-12 के छात्रों पर ध्यान केंद्रित करेगी और कंप्यूटर विज्ञान को और अधिक आकर्षक तरीके से पढ़ाने के लिए शिक्षकों और प्रशिक्षकों को भी प्रशिक्षित करेगी।

टाटा समूह ने एयर इंडिया के लिए बोली जीती


टाटा समूह ने राष्ट्रीयकरण के लगभग 68 साल बाद एयर इंडिया को पुनः प्राप्त किया है। 4 अक्टूबर, 2021 को टाटा संस की सहायक कंपनी टैलेस प्राइवेट लिमिटेड को 18,000 करोड़ रुपए के उद्यम मूल्य बोली के साथ कर्ज में डूबी एयर इंडिया के लिए विजेता बोलीदाता घोषित किया गया।

(Image Source: The Hindu)

  • टाटा की एयर इंडिया में 100% हिस्सेदारी होगी, साथ ही इसकी अंतरराष्ट्रीय कम लागत वाली शाखा 'एयर इंडिया एक्सप्रेस' में भी 100% और ग्राउंड हैंडलिंग संयुक्त उद्यम 'एयर इंडिया एसएटीएस' में 50% की हिस्सेदारी होगी।
  • 141 विमानों और 55 अंतरराष्ट्रीय सहित 173 गंतव्यों के नेटवर्क तक पहुंच के अलावा, टाटा के पास ‘एयर इंडिया’, ‘इंडियन एयरलाइंस’ और ‘महाराजा’ जैसे प्रतिष्ठित ब्रांडों का स्वामित्व भी होगा।

माइक्रोसॉफ्ट एआई इनोवेट


देश में स्टार्टअप पारिस्थितिकी तंत्र का समर्थन करने के लिए, माइक्रोसॉफ्ट ने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) का लाभ उठाने वाले स्टार्टअप के पोषण और विस्तार के लिए 20 अक्टूबर, 2021 को एक कार्यक्रम, 'माइक्रोसॉफ्ट एआई इनोवेट' (Microsoft AI Innovate) लॉन्च किया है।

  • 10 सप्ताह तक चलने वाली पहल ‘माइक्रोसॉफ्ट एआई इनोवेट’ का उद्देश्य स्टार्टअप्स, कॉरपोरेट्स, उद्योग निकायों, सरकारों और उद्यम पूंजी फर्मों को एक साथ लाना है, ताकि सीखने और नवाचार के लिए एक साझा मंच तैयार किया जा सके।

पावर फाइनेंस कार्पोरेशन को 'महारत्न' का दर्जा


पावर फाइनेंस कार्पोरेशन लिमिटेड (पीएफसी) को 12 अक्टूबर, 2021 को ‘महारत्न’ केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यम (सीपीएसई) का दर्जा दिया गया, जिससे पीएफसी को बृहद् रूप से परिचालन और वित्तीय स्वायत्तता प्राप्त हो चुकी है।

  • 1986 में स्थापित, पीएफसी विद्युत मंत्रालय के प्रशासनिक नियंत्रण के तहत बिजली क्षेत्र को समर्पित सबसे बड़ी आधारभूत संरचना वित्त कंपनी है।
  • पीएफसी को 'महारत्न' का दर्जा देने से वित्तीय निर्णय लेने के दौरान पीएफसी के बोर्ड को बढ़ी हुई शक्तियां प्राप्त होंगी।
  • एक 'महारत्न' सीपीएसई का बोर्ड वित्तीय संयुक्त उद्यम और पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनियों को शुरू करने के लिए इक्विटी निवेश कर सकता है और भारत और विदेशों में विलय और अधिग्रहण कर सकता है, जो कि संबंधित सीपीएसई की निवल संपत्ति की 15 प्रतिशत की अधिकतम सीमा के अधीन, एक परियोजना में 5,000 करोड़ रुपये तक सीमित है।

देवव्रत मुखर्जी ऑडिट ब्यूरो ऑफ सर्कुलेशन के प्रमुख चुने गए


सितंबर 2021में यूनाइटेड ब्रेवरीज के मुख्य विपणन अधिकारी देवव्रत मुखर्जी को सर्वसम्मति से 2021-2022 के लिए ऑडिट ब्यूरो ऑफ सर्कुलेशन (Audit Bureau of Circulations: ABC) का अध्यक्ष चुना गया है।

  • 1948 में स्थापित ABC एक गैर-लाभकारी, स्वैच्छिक संगठन है, जिसमें प्रकाशक, विज्ञापनदाता और विज्ञापन एजेंसियां सदस्य के रूप में शामिल हैं। इसका मुख्यालय मुंबई में स्थित है।
  • यह ABC के सदस्य प्रकाशनों के प्रसार (Circulations) के आंकड़ों को प्रमाणित करने के लिए लेखा परीक्षा प्रक्रियाओं को विकसित करने में अग्रणी कार्य करता है।

फेसबुक इंडिया ने पूर्व आईएएस अधिकारी राजीव अग्रवाल को पब्लिक पॉलिसी डायरेक्टर नियुक्त किया


  • फेसबुक इंडिया ने 20 सितंबर, 2021 को पूर्व आईएएस अधिकारी और ऑनलाइन टैक्सी सेवा प्रदाता उबर (Uber) के पूर्व कार्यकारी राजीव अग्रवाल को 'पब्लिक पॉलिसी डायरेक्टर' (Director of Public Policy) नियुक्त किया है।
  • वे अंखी दास की जगह लेंगे, जिन्होंने अक्टूबर 2020 में पद छोड़ दिया था।
  • इस भूमिका में, राजीव अग्रवाल भारत में फेसबुक के लिए महत्वपूर्ण नीति विकास पहलों को परिभाषित करेंगे और उनका नेतृत्व करेंगे। इन पहलों में उपयोगकर्ता सुरक्षा, डेटा संरक्षण एवं गोपनीयता, समावेश और इंटरनेट शासन शामिल हैं।

देवव्रत मुखर्जी ऑडिट ब्यूरो ऑफ सर्कुलेशन के प्रमुख चुने गए (


सितंबर 2021में यूनाइटेड ब्रेवरीज के मुख्य विपणन अधिकारी देवव्रत मुखर्जी को सर्वसम्मति से 2021-2022 के लिए ऑडिट ब्यूरो ऑफ सर्कुलेशन (Audit Bureau of Circulations: ABC) का अध्यक्ष चुना गया है।

  • 1948 में स्थापित ABC एक गैर-लाभकारी, स्वैच्छिक संगठन है, जिसमें प्रकाशक, विज्ञापनदाता और विज्ञापन एजेंसियां सदस्य के रूप में शामिल हैं। इसका मुख्यालय मुंबई में स्थित है।
  • यह ABC के सदस्य प्रकाशनों के प्रसार (Circulations) के आंकड़ों को प्रमाणित करने के लिए लेखा परीक्षा प्रक्रियाओं को विकसित करने में अग्रणी कार्य करता है।