रक्षा प्रौद्योगिकी में एम.टेक. कार्यक्रम


रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) और अखिल भारतीयत कनीकी शिक्षा परिषद (AICTE) द्वारा 8 जुलाई, 2021 को रक्षा प्रौद्योगिकी में नियमित मास्टर ऑफ टेक्नोलॉजी (एम.टेक.) कार्यक्रम शुरू किया गया है।

उद्देश्य: विभिन्न रक्षा प्रौद्योगिकी क्षेत्रों में आवश्यक सैद्धांतिक और प्रायोगिक ज्ञान, कौशल और अभिक्षमता प्रदान करना।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह एम.टेक. रक्षा प्रौद्योगिकी कार्यक्रम किसी भी AICTE से संबद्ध संस्थानों / विश्वविद्यालयों, आईआईटी, एनआईटी या निजी इंजीनियरिंग संस्थानों में संचालित किया जा सकता है।

  • रक्षा वैज्ञानिक और प्रौद्योगिकीविद संस्थान (Institute of Defence Scientists & Technologists- IDST) इस कार्यक्रम के संचालन के लिए संस्थानों को सहायता प्रदान करेगा, जिसे ऑनलाइन के साथ-साथ ऑफलाइन प्रारूप में भी संचालित किया जा सकता है।
  • इस कार्यक्रम में छ: विशेष स्ट्रीम (streams) हैं - युद्धक प्रौद्योगिकी (Combat Technology), एयरो टेक्नोलॉजी, नौसेना प्रौद्योगिकी, संचार प्रणाली और सेंसर, निर्देशित ऊर्जा प्रौद्योगिकी (Directed Energy Technology) और उच्च ऊर्जा सामग्री प्रौद्योगिकी (High Energy Materials Technology)।