बीस जिलों को स्वच्छता पुरस्कार 2020

( 19 November, 2020, , www.pib.gov.in )


केंद्रीय जल शक्ति मंत्रालय ने 19 नवंबर, 2020 को विश्व शौचालय दिवस के अवसर पर ‘ओडीएफ स्थिरता और ओडीएफ प्लस लक्ष्यों’ (ODF Sustainability and ODF Plus goals) को प्राप्त करने की दिशा में महत्वपूर्ण योगदान देने के लिए सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले 20 जिलों को स्वच्छता पुरस्कार 2020 से सम्मानित किया।

  • ये पुरस्कार जल शक्ति मंत्रालय के पेयजल और स्वच्छता विभाग (डीडीडब्ल्यूएस) द्वारा दिए गए।
  • 20 पुरस्कृत जिले हैं, पश्चिम गोदावरी और पूर्वी गोदावरी (आंध्र प्रदेश), सियांग (अरुणाचल प्रदेश), कांकेर और बेमेतरा (छत्तीसगढ़), वड़ोदरा और राजकोट (गुजरात); भिवानी और रेवाड़ी (हरियाणा); एर्नाकुलम और वायनाड (केरल); कोल्हापुर और नासिक (महाराष्ट्र); कोलासिब और सेरछिप (मिजोरम); मोगा और फतेहगढ़ साहिब (पंजाब); सिद्दीपेट और पेद्दापल्ली (तेलंगाना); और कूच बिहार (पश्चिम बंगाल)।
  • खुले में शौच से मुक्त (ओडीएफ) ग्रामीण भारत का लक्ष्य पांच साल की अवधि में मिशन मोड में प्राप्त करने के बाद स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के दूसरे चरण को इस साल के शुरू में लॉन्च किया गया था।
  • दूसरा चरण ओडीएफ स्थिरता तथा ठोस और तरल अपशिष्ट प्रबंधन पर केंद्रित है। इसका उद्देश्य गांवों में व्यापक स्वच्छता लाना है।