यमुना को साफ करने के लिए दिल्ली सरकार की छ: सूत्री कार्य योजना


दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 18 नवंबर, 2021 को कहा कि सरकार ने फरवरी 2025 तक यमुना नदी को स्नान मानकों के अनुरूप साफ करने के लिए छ: सूत्री योजना तैयार की है।

  • सरकार नए सीवेज उपचार संयंत्रों का निर्माण कर रही है और सीवेज उपचार क्षमता को प्रतिदिन लगभग 600 मिलियन गैलन अपशिष्ट जल प्रतिदिन से बढ़ाकर 750 - 800 मिलियन गैलन प्रतिदिन किया जाएगा।
  • यमुना में गिरने वाले चार प्रमुख नालों नजफगढ़, बादशाहपुर, सप्लीमेंट्री और गाजीपुर से निकलने वाले अपशिष्ट जल का यथास्थान उपचार किया जा रहा है।
  • "झुग्गी-झोपड़ी" समूहों में अपशिष्ट जल तूफान के जल वाले नालों (Stormy Drains) के माध्यम से यमुना में बहता है। इन नालों को सीवर नेटवर्क से जोड़ा जाएगा।
  • सरकार यमुना में औद्योगिक कचरे को छोड़ने वाले उद्योगों को बंद करेगी।
  • सरकार उन क्षेत्रों में घरेलू कनेक्शन उपलब्ध कराएगी, जहां सीवर नेटवर्क है।
  • सरकार ने सीवर नेटवर्क की गाद निकालने और उसके पुनर्वास का काम भी शुरू कर दिया है।