Chronicle Hindi Book 2022

चालू वित्त वर्ष में भारत की 8% वृद्धि दर का अनुमान: विश्व बैंक


विश्व बैंक ने 13 अप्रैल, 2022 को अपनी 'साउथ एशिया इकोनॉमिक फोकस स्प्रिंग 2022' (South Asia Economic Focus spring 2022) रिपोर्ट जारी की।

(Image Source: https://www.business-standard.com/)

महत्वपूर्ण तथ्य: इस रिपोर्ट का शीर्षक 'साउथ एशिया इकोनॉमिक फोकस रिशेपिंग नॉर्म्स: ए न्यू वे फॉरवर्ड' (South Asia Economic Focus Reshaping Norms: A New Way Forward) है।

  • विश्व बैंक ने वित्तीय वर्ष 2022-23 के लिए भारत के सकल घरेलू उत्पाद के पूर्वानुमान को 8.7% से घटाकर 8% कर दिया है।
  • विश्व बैंक ने यूक्रेन पर रूस के आक्रमण के कारण आपूर्ति की बाधाओं और बढ़ते मुद्रास्फीति जोखिमों का हवाला देते हुए भारत की जीडीपी का अनुमान घटाया है।
  • वित्त वर्ष 2023-24 में भारत की जीडीपी के 7.1% की दर से बढ़ने का अनुमान है।
  • भारत में, श्रम बाजार के अपूर्ण सुधार और मुद्रास्फीति के दबाव के कारण घरेलू उपभोग बाधित होगा।
  • दक्षिण एशिया क्षेत्र के लिए, विकास दर 2022 में 6.6% और अगले वित्त वर्ष में 6.3% होने का अनुमान है।
  • यूक्रेन पर रूस के युद्ध से दक्षिण एशिया क्षेत्र, जो पहले से ही 'असमान और कमजोर' विकास दर और वस्तुओं की कीमतों में बढ़ोतरी से जूझ रहा है, आपूर्ति में बाधाओं और वित्तीय क्षेत्र की कमजोरियों का अनुभव कर रहा है।
  • हरित करों (green taxes) की शुरूआत दक्षिण एशिया क्षेत्र में सरकारी राजस्व का एक नया स्रोत होगी।