भारत-अमेरिका 2+2 वार्ता


भारत और अमेरिका के बीच तीसरी 2+2 मंत्रिस्तरीय वार्ता 27 अक्टूबर, 2020 को नई दिल्ली के हैदराबाद हाउस में सम्पन्न हुई।

महत्वपूर्ण तथ्य: विदेश मंत्री एस. जयशंकर और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भारतीय शिष्टमण्डल का नेतृत्व किया। जबकि अमरीकी शिष्टमंडल का नेतृत्व वहां के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो और रक्षा मंत्री मार्क एस्पर ने किया।

  • दोनों देशों ने अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था पर आधारित नियमों का पालन करने, कानून के शासन का सम्मान करने, अंतरराष्ट्रीय समुद्र में नौ संचालन की स्वतंत्रता और सभी देशों की क्षेत्रीय अखण्डता तथा सम्प्रभुता को बनाए रखने पर सहमति जताई।
  • ऐतिहासिक बुनियादी आदान-प्रदान और सहयोग समझौते (Basic Exchange and Cooperation Agreement on geospatial cooperation-BECA) पर हस्ताक्षर किए गए। यह समझौता क्रूज और बैलेस्टिक मिसाइलों को सही स्थान पर तैनात करने के लिए भारत को अमेरिका के वैश्विक भू-स्थानिक मानचित्रों के उपयोग की अनुमति प्रदान करता है।

अन्य समझौते: पृथ्वी पर्यवेक्षण और पृथ्वी विज्ञान में तकनीकी सहयोग पर एक समझौता।

  • परमाणु ऊर्जा साझेदारी के लिए वैश्विक केंद्र के बारे में समझौता ज्ञापन की अवधि बढ़ाने के लिए समझौता।
  • इसके अलावा दोनों देशों के डाक विभाग ने सीमा शुल्क डेटा के इलेक्ट्रॉनिक विनिमय; तथा पारंपरिक भारतीय दवाओं में सहयोग के बारे में एक आशय पत्र पर भी हस्ताक्षर किए गए।
  • संयुक्त राज्य अमेरिका भारत के लिए शीर्ष निर्यात गंतव्य है (लगभग 17%), जो डाक माध्यम से माल के आदान-प्रदान में भी परिलक्षित होता है।