2020 के लिए स्वर्ण जयंती अध्येताओं का चयन


  • 12 नवंबर 2020 को जीवन विज्ञान, रसायन विज्ञान, गणित, पृथ्वी और वायुमंडलीय विज्ञान, भौतिक विज्ञान, और इंजीनियरिंग के क्षेत्रों में नवीन अनुसंधान विचारों से जुड़े और अनुसंधान एवं विकास पर प्रभाव बनाने की क्षमता रखने वाले कुल 21 वैज्ञानिकों को स्वर्ण जयंती फैलोशिप के लिए चुना गया।
  • स्वर्ण जयंती फैलोशिप योजना भारत सरकार द्वारा भारत की 50वीं स्वतंत्रता जयंती के अवसर पर शुरू की गई थी, जो विज्ञान और प्रौद्योगिकी के प्रमुख क्षेत्रों में बुनियादी अनुसंधान को आगे बढ़ाने में बेहतर प्रदर्शन करने वाले चयनित वैज्ञानिकों को सहायता और सहयोग प्रदान करती है।
  • योजना के तहत, पुरस्कार विजेताओं को विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग, भारत सरकार द्वारा पांच साल के लिए 25,000 रुपये प्रति माह की फेलोशिप के अतिरिक्त, डीएसटी पुरस्कार विजेताओं को 5 वर्षों के लिए 5 लाख रुपये का अनुसंधान अनुदान दिया जाता है। फैलोशिप उनके मूल संस्थान से मिलने वाले वेतन के अतिरिक्त प्रदान की जाती है।