Medha IAS

सांस अभियान


कर्नाटक के स्वास्थ्य और चिकित्सा शिक्षा मंत्री के. सुधाकर ने 20 अप्रैल, 2022 को ‘सांस’ (Social Awareness and Action to Neutralise Pneumonia Successfully: SAANS) अभियान शुरू किया।

  • सांस अभियान 'निमोनिया' को सफलतापूर्वक बेअसर करने के लिए सामाजिक जागरूकता और कार्रवाई का अभियान है।
  • यह पांच साल से कम उम्र के बच्चों में निमोनिया के बारे में अधिक जागरूकता और शीघ्र पता लगाने के लिए एक अभियान है।
  • निमोनिया एक फेफड़ों का संक्रमण है, जो बैक्टीरिया, वायरल या फंगल संक्रमण के कारण होता है।
  • नमूना पंजीकरण प्रणाली (एसआरएस) 2018 के अनुसार कर्नाटक की पांच वर्ष से कम आयु में मृत्यु दर 28/1000 जीवित जन्म है।
  • कर्नाटक का लक्ष्य 2025 तक पांच वर्ष से कम उम्र के बच्चों की मृत्यु दर को 23/1,000 जीवित जन्मों तक कम करना है।
  • राष्ट्रीय स्वास्थ्य नीति के लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए, निमोनिया मृत्यु दर को प्रति 1,000 जीवित जन्मों पर 3 से कम करना होगा।