राष्ट्रीय आयुष मिशन को जारी रखने की मंजूरी


14 जुलाई, 2021 को केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने केंद्र प्रायोजित योजना राष्ट्रीय आयुष मिशन को जारी रखने की मंजूरी दी।

महत्वपूर्ण तथ्य: राष्ट्रीय आयुष मिशन को 1 अप्रैल, 2021 से 31 मार्च, 2026 तक 4607.30 करोड़ रुपये के वित्तीय व्यय के साथ जारी रखा जाएगा, जिसमें केंद्रीय हिस्से के रूप में 3,000 करोड़ रुपये और राज्य के हिस्से के रूप में 1607.30 करोड़ रुपये होंगे।

  • राष्ट्रीय आयुष मिशन 15 सितंबर, 2014 को शुरू किया गया था। इसे आयुष मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा सस्ती आयुष सेवाएं प्रदान करने के उद्देश्य से लागू किया जा रहा है।
  • इसका उद्देश्य आयुष अस्पतालों और औषधालयों के उन्नयन के माध्यम से व्यापक पहुंच के साथ-
  • प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों (PHCs), सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (CHCs) और जिला अस्पतालों में आयुष सुविधाओं को एक साथ मुहैया करना;
  • आयुष शैक्षणिक संस्थानों के उन्नयन के माध्यम से राज्य स्तर पर संस्थागत क्षमता को मजबूत करना;
  • 50 बिस्तरों वाले एकीकृत आयुष अस्पताल की स्थापना;
  • आयुष सार्वजनिक स्वास्थ्य कार्यक्रम और 12,500 ‘आयुष स्वास्थ्य एवं सेहत केंद्र’ (AYUSH Health and Wellness Centres) का संचालन करना है।