46 UPSC Civil Services Mains 2021 Questions asked from Civil Services Chronicle Hindi

मौद्रिक नीति


भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) की मौद्रिक नीति समिति (MPC) ने 8 अक्टूबर, 2021 को प्रमुख ब्याज दरों को अपरिवर्तित रखा और वर्ष 2021-22 के लिए मुद्रास्फीति लक्ष्य को कम किया है।

(Image Source: https://www.business-standard.com/)

महत्वपूर्ण तथ्य: रेपो दर को लगातार 8वीं बार 4% पर अपरिवर्तित रखा गया है। रिवर्स रेपो दर भी 3.35% और सीमांत स्थायी सुविधा (MSF) दर और बैंक दर 4.25% पर अपरिवर्तित रखी गई है।

  • मौद्रिक नीति समिति ने टिकाऊ आधार पर संवृद्धि को बनाए रखने और अर्थव्यवस्था पर कोविड -19 के प्रभाव को कम करने के लिए जब तक आवश्यक हो, तब तक उदार रुख को जारी रखने का निर्णय लिया है।
  • RBI ने 2021-22 के लिए मुद्रास्फीति का अनुमान पहले के 5.7% से घटाकर 5.3% कर दिया है।
  • RBI ने 2021-22 में वास्तविक सकल घरेलू उत्पाद की वृद्धि के अनुमान को 9.5% पर बरकरार रखा है, जिसमें चालू वर्ष की दूसरी तिमाही में 7.9% की वृद्धि शामिल है।

अन्य घोषणा: तत्काल भुगतान सेवा लेनदेन (IMPS) की सीमा 2 लाख रुपये से बढ़ा कर 5 लाख रुपये की जाएगी।

  • आंतरिक शिकायत निवारण तंत्र को मजबूत करने के लिए एनबीएफसी के लिए उच्च ग्राहक इंटरफेस वाली आंतरिक लोकपाल योजना।
  • कम या दुर्लभ इंटरनेट एक्सेस वाले क्षेत्रों के लिए ऑफलाइन मोड में खुदरा डिजिटल भुगतान समाधान के लिए अखिल भारतीय रूपरेखा की शुरुआत।