बाजार आधारित आर्थिक प्रेषण - चरण 1


विद्युत मंत्रालय ने 8 अक्टूबर, 2021 को उपभोक्ताओं को बिजली खरीद की लागत कम करने के लिए केंद्रीय विद्युत विनियामक आयोग (CERC) द्वारा शुरू किए गए 'बाजार आधारित आर्थिक प्रेषण - चरण 1' (Market Based Economic Despatch (MBED) – Phase1) के कार्यान्वयन के लिए रूपरेखा जारी की है।

महत्वपूर्ण तथ्य: MBED को लागू करना बिजली बाजार के संचालन में सुधार और "एक राष्ट्र, एक ग्रिड, एक फ्रीक्वेन्सी, एक मूल्य" (One Nation, One Grid, One Frequency, One Price) ढांचे की ओर बढ़ने में एक आवश्यक अगला कदम है।

  • MBED यह सुनिश्चित करेगा कि देश भर में सबसे सस्ता उत्पादन संसाधन समग्र प्रणाली की मांग को पूरा करने के लिए भेजा जाए और इस प्रकार वितरण कंपनियों और और बिजली उत्पादकों दोनों के लिए लाभप्रद होगा।
  • MBED के चरण 1 का कार्यान्वयन 1 अप्रैल, 2022 से शुरू करने की योजना है। इससे पहले CERC अपने नियमों को संरेखित करेगा और इस व्यवस्था को सुचारू रूप से चलाने के लिए मॉक ड्रिल किया जाएगा।