देश का पहला वैश्विक पर्यटन शिखर सम्मेलन


पर्यटन मंत्रालय 10-12 अप्रैल, 2023 को नई दिल्ली में देश का पहला वैश्विक पर्यटन शिखर सम्मेलन (1st Global Tourism Investors’ Summit) आयोजित करेगा।

महत्वपूर्ण तथ्य :

  • इसमें सभी जी20 सदस्य देशों को आमंत्रित किया जाएगा।
  • भारतीय उद्योग परिसंघ (Confederation of Indian Industry) इस आयोजन भागीदार है।
  • जी20 2023, केंद्रीय पर्यटन मंत्रालय का मुख्य क्षेत्र होगा, जो सालभर के नेतृत्व के दौरान देश को एक प्रमुख पर्यटन स्थल के रूप में स्थापित करेगा।
  • भारत सरकार ने समावेशी विकास के माध्यम से 2030 तक पर्यटन में लगभग 140 मिलियन नौकरियां सृजित करते हुए 56 बिलियन डॉलर विदेशी मुद्रा अर्जित करने का लक्ष्य निर्धारित किया है।
  • सरकार विशेष रूप से क्रूज पर्यटन, पारितंत्र पर्यटन और साहसिक पर्यटन पर ध्यान केंद्रित कर रही है।
  • 'स्वदेश दर्शन 2.0' योजना पर्यटन गंतव्यों के सतत और जिम्मेदार विकास पर ध्यान केंद्रित करेगी।

16वें डायरिया रोग और पोषण पर एशियाई सम्मेलन (ASCODD)


केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण राज्य मंत्री डॉ. भारती प्रवीण पवार ने 11 नवम्बर, 2022 को कोलकाता में 16वें डायरिया (दस्त) रोग और पोषण पर एशियाई सम्मेलन (एएससीओडीडी) को संबोधित किया। सम्मेलन का आयोजन ICMR-नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ कॉलरा एंड एंटरिक डिजीज द्वारा किया गया था।

महत्वपूर्ण तथ्य :

  • सम्मेलन का विषय "सामुदायिक भागीदारी के माध्यम से निम्न और मध्यम आय वाले देशों में हैजा, टाइफाइड और अन्य आंत्र रोगों की रोकथाम और नियंत्रण: SARS-CoV-2 महामारी से परे" था।
  • यह सम्मेलन 2030 तक हैजा को समाप्त करने के लिए रोडमैप सहित आंत्र संक्रमण, पोषण, नीति और प्रैक्टिस,हैजा के टीके का विकास, आंतों के जीवाणुओं के रोगाणुरोधी प्रतिरोध के समकालीन दृष्टिकोण आदि मुद्दों पर केंद्रित था।

17वां पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन


17वां पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन (ईएएस) का आयोजन कंबोडिया की मेजबानी में आयोजित किया गया। कंबोडिया वर्तमान में आसियान (एसोसिएशन ऑफ साउथ-ईस्ट एशियन नेशंस) का अध्यक्ष है।

मुख्य विन्दु

  • उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने 13 नवंबर, 2022 को कंबोडियाई राजधानी नोम पेन्ह में आयोजित 17वीं पूर्वी एशिया शिखर में भाग लिया।
  • उपराष्ट्रपति द्वारा खाद्य और सुरक्षा पर भारत की चिंता पर प्रकाश डाला और मुक्त, खुले और नेविगेशन तथा ओवरफ्लाइट की स्वतंत्रता के साथ समावेशी इंडो-पैसिफिक को बढ़ावा देने में पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन (ईएएस) की भूमिका पर जोर दिया।
  • उपराष्ट्रपति 19वीं भारत-आसियान शिखर बैठक में भाग लेने के लिए तीन दिवसीय (11-13 नवंबर) कंबोडिया की यात्रा पर थे।
  • यह वर्ष भारतीय आसियान संबंधों के 30 वर्षों को चिह्नित करने के लिए स्मारक शिखर सम्मेलन के रूप में नामित किया गया है।
  • इस वर्ष को आसियान-भारत मैत्री वर्ष के रूप में भी मनाया जा रहा है।

पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन समूह

  • पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन समूह में 18 देश शामिल हैं।
  • पूर्व एशिया समूह की अवधारणा को पहली बार 1991 में तत्कालीन मलेशियाई प्रधान मंत्री महाथिर बिन मोहम्मद द्वारा दिया गया था।
  • इसे 2005 में एशिया-प्रशांत क्षेत्र में आम क्षेत्रीय चिंता के राजनीतिक, सुरक्षा और आर्थिक मुद्दों पर रणनीतिक संवाद और सहयोग को बढ़ावा देने के लिए एक मंच के रूप में स्थापित किया गया था।

राष्ट्रीय एससी-एसटी केंद्र का विशाल सम्मेलन


15 अक्टूबर, 2022 को भारत सरकार के सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय द्वारा मिजोरम के आइजोल स्थित दावरपुई बहुउद्देशीय केंद्र में राष्ट्रीय एससी-एसटी केंद्र (एनएसएसएच) सम्मेलन का आयोजन किया गया।

उद्देश्य- उद्यमिता संस्कृति को बढ़ावा देना और एनएसएसएच योजना व मंत्रालय की अन्य योजनाओं के बारे में जागरूकता फैलाना है।

महत्वपूर्ण बिंदु -

  • मिजोरम सरकार के वाणिज्य व उद्योग मंत्री डॉ. आर. ललथंगलियाना इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि थे। इस आयोजन में 300 से अधिक एससी-एसटी उद्यमियों ने हिस्सा लिया।

राष्ट्रीय पर्यटक पुलिस योजना सम्मेलन


19 अक्टूबर, 2022 को गृह मंत्रालय और पुलिस अनुसंधान और विकास ब्यूरो (Ministry of Home Affairs and the Bureau of Police Research and Development) के समन्वय द्वारा नई दिल्ली में एक समान पर्यटक पुलिस योजना के कार्यान्वयन के लिए राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन किया गया। पर्यटन मंत्रालय, गृह मंत्रालय और पुलिस अनुसंधान और विकास ब्यूरो के समन्वय से इस सम्मेलन का आयोजन किया गया|

उद्देश्य- विदेशी और घरेलू पर्यटकों को पर्यटन स्थलों में और उसके आसपास सुरक्षित पारिस्थितिकी तंत्र प्रदान करना है

महत्वपूर्ण बिंदु –

  • पर्यटक पुलिस व्यवस्था को विकसित करने के लिए देशभर में एक समान पर्यटक पुलिस योजना को लागू करना है।
  • पर्यटन मंत्रालय, गृह मंत्रालय, पुलिस अनुसंधान एवं विकास ब्यूरो और राज्य सरकारों/संघ शासित प्रदेशों के प्रशासन को एक मंच पर लाना है|
  • इस सम्मलेन में उपयुक्त भूमिकाओं, जिम्मेदारियों और प्रशिक्षण पहलुओं के साथ पर्यटक विशिष्ट पुलिस व्यवस्था विकसित करने पर भी विचार-विमर्श किया गया।

उद्योग 4.0 राष्ट्रीय सम्मेलन


7अक्टूबर, 2022 को ‘उद्योग 4.0 भविष्य की चुनौतियां’ विषय पर राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन गुजरात, केवड़िया के एकता नगर नामक स्थान पर किया गया।

उद्देश्य- भारत के विनिर्माण क्षेत्र में उद्योग 4.0 को बढ़ावा देना, रणनीतियों को समझने और 2030 तक विकास एवं प्रतिस्पर्धात्मकता के लिए सिस्टम, उत्पादों और प्रक्रियाओं को सक्षम करने के लिए उद्योग 4.0 प्रौद्योगिकियों को सक्षम करना है।

महत्वपूर्ण बिंदु-

  • उद्योग 4.0 पर राष्ट्रीय सम्मेलन के माध्यम से उद्योग, शैक्षणिक संस्थानों, युवा उद्यमियों और नीति निर्माताओं के बीच एक नया सामंजस्य स्थापित होगा।
  • उद्योग 4.0 विनिर्माण/उत्पादन और संबंधित उद्योगों और मूल्य निर्माण प्रक्रियाओं का डिजिटल परिवर्तन है। इसका उपयोग चौथी औद्योगिक क्रांति के साथ किया जाता है|
  • यह मुख्यत: इंटरनेट ऑफ थिंग्स (IoT), बाधा रहित इंटरनेट कनेक्टिविटी, तीव्र गति वाली संचार तकनीकियों और 3डी प्रिंटिंग जैसे अनुप्रयोगों पर आधारित है, जिसके अंतर्गत अधिक डिजिटलीकरण तथा उत्पादों, वैल्यू चेन, व्यापार मॉडल को एक-दूसरे से अधिकाधिक जोड़ने की परिकल्पना की गई है।

90वीं इंटरपोल महासभा


18 अक्टूबर, 2022 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दिल्ली के प्रगति मैदान में 90वीं इंटरपोल महासभा को संबोधित किया। अपने संबोधन में प्रधानमन्त्री ने स्थानीय हितों के लिए वैश्विक सहयोग का आह्वान किया।

महत्वपूर्ण बिंदु -

  • इंटरपोल की इस महासभा को 18 से 21 अक्टूबर, 2022 तक आयोजित की गई। इस बैठक में 195 इंटरपोल सदस्य देशों के प्रतिनिधिमंडल शामिल हुए, जिनमें देशों के मंत्री, पुलिस प्रमुख, राष्ट्रीय केंद्रीय ब्यूरो के प्रमुख और वरिष्ठ पुलिस अधिकारी शामिल हैं।
  • लगभग 25 वर्षों के अंतराल के बाद भारत में इंटरपोल महासभा की बैठक हुई है; यह पिछली बार वर्ष 1997 में आयोजित की गई थी।
  • भारत की स्वतंत्रता के 75वें वर्ष के समारोह के साथ नई दिल्ली में 2022 में इंटरपोल महासभा की मेजबानी करने के भारत के प्रस्ताव को महासभा द्वारा बहुमत से स्वीकार कर लिया गया था।
  • यह आयोजन पूरी दुनिया को भारत की कानून-व्यवस्था की प्रणाली के सर्वोत्तम तौर-तरीकों को प्रदर्शित करने का अवसर प्रदान करता है।
  • महासभा इंटरपोल की सर्वोच्च नियंत्रक संगठन है और इसके कामकाज से संबंधित महत्वपूर्ण निर्णय लेने के लिए वर्ष में एक बार बैठक करती है।

इंटरपोल-

  • अंतर्राष्ट्रीय आपराधिक पुलिस संगठन को इंटरपोल के नाम से भी जाना जाता है।
  • यह एक अंतरराष्ट्रीय संगठन है, जो दुनिया भर में पुलिस सहयोग और अपराध नियंत्रण की सुविधा प्रदान करता है। इसका मुख्यालय लियोन (फ्रांस) में है।
  • दुनिया भर में इसके 7 क्षेत्रीय ब्यूरो हैं तथा सभी 194 सदस्य देशों में इसके एक-एक राष्ट्रीय केंद्रीय ब्यूरो स्थापित हैं।