डीबीजेनवोक


जुलाई 2021 में ‘नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ बायोमेडिकल जीनोमिक्स (NIBMG), कल्याणी ने मुंह के कैंसर में जीनोमिक बदलाव का एक डेटाबेस ‘डीबीजेनवोक’ (dbGENVOC) तैयार किया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह दुनिया में अपनी तरह का पहला डेटाबेस है। NIBMG ने इस डेटाबेस को सार्वजनिक तौर पर मुफ्त उपलब्ध कराया है।

  • यह मुंह के कैंसर के जीनोमिक वेरिएंट्स का ब्राउज करने योग्य ऑनलाइन डेटाबेस (browsable online database) है।
  • डीबीजेनवोक की पहली रिलीज में भारत के 100 मुंह के कैंसर रोगियों के संपूर्ण एक्सोम अनुक्रम (whole exome sequences) और 5 मुंह के कैंसर रोगियों के संपूर्ण जीनोम अनुक्रम (whole genome sequences) से प्राप्त 2.4 लाख सोमैटिक एवं जर्मलाइन वेरिएंट्स (somatic and germline variants) शामिल हैं।

मुंह का कैंसर: यह भारत में पुरुषों में पाया जाने वाला कैंसर का सबसे प्रचलित रूप है, जो मुख्य रूप से तंबाकू चबाने के कारण होता है।

  • तंबाकू चबाने से ओरल कैविटी (oral cavity) में कोशिकाओं की आनुवंशिक सामग्री में परिवर्तन होता है। ये परिवर्तन (म्यूटेशन) मुंह के कैंसर का कारण बनते हैं।

NIBMG: जैव प्रौद्योगिकी विभाग के तत्वावधान में भारत सरकार द्वारा एक स्वायत्त संस्थान के रूप में नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ बायोमेडिकल जीनोमिक्स (NIBMG) की स्थापना की गई है।

  • यह भारत का पहला ऐसा संस्थान है, जो स्पष्ट तौर पर बायोमेडिकल जीनोमिक्स में अनुसंधान, प्रशिक्षण, ट्रांसलेशन एवं सेवा (translation & service) और क्षमता निर्माण के लिए समर्पित है।
  • यह पश्चिम बंगाल में कोलकाता के समीप कल्याणी में स्थित है।