विशेष पशुधन क्षेत्र पैकेज


आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडल समिति ने 14 जुलाई, 2021 को पशुपालन और डेयरी योजनाओं के विभिन्न घटकों को संशोधित और पुन: व्यवस्थित करके कई गतिविधियों से युक्त एक विशेष पशुधन क्षेत्र पैकेज (Special livestock sector package) के कार्यान्वयन को मंजूरी दी है।

महत्वपूर्ण तथ्य: 2021-22 से शुरू होने इस पैकेज के तहत केंद्र सरकार अगले पांच वर्षों के दौरान 54,618 करोड़ रुपये का कुल निवेश जुटाने के लिये 9800 करोड़ रुपये की सहायता देगी।

  • इसके आधार पर विभाग की सभी योजनाओं को तीन व्यापक श्रेणियों में समाविष्ट कर दिया जायेगा -
  1. 'विकास कार्यक्रम' में राष्ट्रीय गोकुल मिशन, राष्ट्रीय डेयरी विकास कार्यक्रम, राष्ट्रीय पशुधन मिशन और पशुधन गणना एवं एकीकृत नमूना सर्वेक्षण को उप-योजनाओं के तौर पर शामिल किया गया है।
  2. 'रोग नियंत्रण कार्यक्रम' का नाम बदलकर ‘पशुधन स्वास्थ्य और रोग नियंत्रण’ कर दिया गया, जिसमें वर्तमान पशुधन स्वास्थ्य और रोग नियंत्रण योजना और राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम शामिल हैं।
  3. 'अवसंरचना विकास निधि' में पशुपालन अवसंरचना विकास निधि और डेयरी अवसंरचना विकास निधि का विलय कर दिया गया है तथा डेयरी गतिविधियों में संलग्न डेयरी सहकारी समितियों और किसान उत्पादक संगठनों को समर्थन की वर्तमान योजना भी इस तीसरी श्रेणी में शामिल है।