Chronicle Hindi Book 2022

रेलवे ने टी- 49 सुरंग को सफलतापूर्वक जोड़ा


रेलवे ने उधमपुर-श्रीनगर-बारामूला रेल लिंक (USBRL) परियोजना के अंतर्गत कटरा-बनिहाल खंड की मुख्य सुरंग ‘टी-49’ (tunnel T-49) को 15 फरवरी, 2022 को सुंबर और अरपिंचला स्टेशनों के बीच सफलतापूर्वक जोड़ लिया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: टी-49 एक 12.758 किमी लंबी सुरंग है और यह बनिहाल-काजीगुंड खंड पर निर्मित 11.2 किमी लंबी पीर पंजाल सुरंग को पीछे छोड़ते हुए भारतीय रेलवे की सबसे लंबी सुरंग होने जा रही है।

  • टी-49 सुरंग का दक्षिण प्रवेश द्वार सुंबर गांव में स्थित है, जो जम्मू और कश्मीर में रामबन जिला मुख्यालय से 45 किमी दूर 1400 मीटर की ऊंचाई पर है।
  • टी-49 सुरंग का उत्तरी प्रवेश द्वार महू-मंगत घाटी में रामबन जिले के तहसील खारी में अरपिंचला गांव में लगभग 1600 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है।
  • उधमपुर-श्रीनगर-बारामूला रेल लिंक 272 किलोमीटर लंबा होगा। 272 किलोमीटर में से 161 किलोमीटर को पहले ही चालू कर दिया गया है। शेष 111 किलोमीटर के मार्ग पर तेजी से काम चल रहा है।

सुरंग की विशेषताएं: टी-49 सुरंग में दो ट्यूब हैं- मुख्य सुरंग (main tunnel) और एस्केप टनल (escape tunnel)।

  • इसका निर्माण 'न्यू ऑस्ट्रियन टनलिंग मेथड' (New Austrian Tunneling Method: NATM) द्वारा किया गया है, जो एक आधुनिक ड्रिलिंग और ब्लास्ट तकनीक का उपयोग करता है।
  • सुरंग का क्रॉस-सेक्शन प्रोफाइल (cross-section profile) एक संशोधित घोड़े की नाल के आकार (modified horseshoe-shaped) का है।
  • निर्माण को सुगम बनाने के लिए उरनिहाल अदित (Urnihal Adit), हिंगनी अदित (Hingni Adit) और कुंदन अदित (Kundan Adit) नाम से तीन एग्जिट का भी निर्माण किया गया है।