Civil Services Chronicle One Year Subscription With 28 Years Solved Paper @ Rs.1290/-

औद्योगिक पार्क रेटिंग प्रणाली 2.0 रिपोर्ट


वाणिज्य एवं उद्योग राज्य मंत्री सोम प्रकाश द्वारा 5 अक्टूबर, 2021 को औद्योगिक पार्क रेटिंग प्रणाली रिपोर्ट का द्वितीय संस्करण (Industrial Park Rating System: IPRS 2.0 report) लॉन्च किया गया।

महत्वपूर्ण तथ्य: उद्योग संवर्धन और आंतरिक व्यापार विभाग (DPIIT) द्वारा जारी औद्योगिक पार्क रेटिंग प्रणाली रिपोर्ट में 41 औद्योगिक पार्कों को ‘अग्रणी’ (Leaders) श्रेणी के रूप में आंका गया है।

  • 90 औद्योगिक पार्कों को ‘चैलेंजर’ (Challenger)श्रे णी के तहत आंका गया है, जबकि 185 की रेटिंग ‘आकांक्षियों’ के रूप में की गई है।
  • यह रिपोर्ट भारत औद्योगिक भूमि बैंक (IILB) का एक विस्तार है, जिसमें निवेशकों को निवेश के लिए उनके पसंदीदा स्थान की पहचान करने में सहायता करने के लिए एक जीआईएस-सक्षम डाटाबेस में 4,400 से अधिक औद्योगिक पार्क शामिल है।
  • भारत औद्योगिक भूमि बैंक एक बटन के क्लिक पर 5.6 लाख हेक्टेयर से अधिक का विवरण प्रदान करता है।
  • औद्योगिक पार्क रेटिंग प्रणाली को औद्योगिक पार्क की प्रतिस्पर्धात्मकता का मूल्यांकन करने के लिए 4 स्तंभों के आधार पर विकसित किया गया है - आंतरिक बुनियादी ढांचे और उपयोगिताओं, बाहरी बुनियादी ढांचे और कनेक्टिविटी, व्यावसायिक सेवायें और सुविधायें तथा पर्यावरण और सुरक्षा प्रबंधन।
  • IPRS प्रायोगिक प्रक्रिया 2018 में आरंभ की गई थी, जिसका उद्देश्य देश भर में औद्योगिकीकरण को सक्षम करने के लिए औद्योगिक बुनियादी ढांचे की प्रतिस्पर्धात्मकता को बढ़ाना तथा नीतिगत विकास का समर्थन करना था।
  • प्रायोगिक चरण से मिले सीखों के आधार पर, सरकार ने 2020 में ‘IPRS 2.0’ आरंभ किया।