"बेटियां बनें कुशल" सम्मेलन


11 अक्टूबर, 2022 को महिला एवं बाल विकास मंत्रालय द्वारा अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ के बैनर तले लड़कियों के लिए गैर-पारंपरिक आजीविका (non-traditional livelihood) में कौशल पर राष्ट्रीय सम्मेलन "बेटियां बनें कुशल" का आयोजन किया गया।

उद्देश्य - लड़कियों को कौशल प्रदान करना, नए युग के कौशल और गैर-पारंपरिक आजीविका पर जोर देना |

महत्वपूर्ण तथ्य -

  • इस सम्मेलन में मंत्रालयों और विभागों के बीच एकजुटता पर जोर दिया गया है|
  • इस सम्मलेन में लड़कियों के कौशल का निर्माण करने के साथ-साथ विज्ञान, प्रौद्योगिकी, इंजीनियरिंग और गणित सहित विभिन्न व्यवसायों से जुड़े कार्यबल में उनकी सहभागिता को बढ़ाने पर बल दिया गया |

चौथा हेली-इंडिया शिखर सम्मेलन 2022


10 अक्टूबर, 2022 को नागरिक विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य एम. सिंधिया ने शेर-ए-कश्मीर इंटरनेशनल कॉन्फ्रेंस सेंटर, श्रीनगर में चौथे हेली-इंडिया शिखर सम्मेलन 2022 का उद्घाटन किया।

थीम - 'हेलीकॉप्टर फॉर लास्ट माइल कनेक्टिविटी'

महत्वपूर्ण तथ्य -

  • श्रीनगर के वर्तमान टर्मिनल को तीन गुना विस्तारित करने के साथ-साथ जम्मू में 861 करोड़ रुपये की लागत से सिविल एन्क्लेव बनाया जायेगा।
  • ऋषिकेश के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (ऐम्स) में आपातकालीन चिकित्सा सेवाएं प्रदान करने के लिए एक हेलीकॉप्टर तैनात करके ‘संजीवनी परियोजना’ शुरू की जाएगी|
  • देहरादून में तीसरे हेली-इंडिया शिखर सम्मेलन के दौरान 8 संकल्प लिए गए थे; जिसमेंहेली-सेवा पोर्टल, हेली-दिशा, हेलीकॉप्टर एक्सेलेरेटर सेल प्रदान करना हेलीकॉप्टर सेवा के लिए लैंडिंग और पार्किंग शुल्क को समाप्त करना, विशिष्ट हेलीकॉप्टर कॉरिडोर और हेलीपैड का निर्माण करना आदि।

जीके/जीएस फैक्ट

  • वर्ष 1947 से 2014 तक देश में केवल 74 हवाई अड्डे थे, वर्तमान समय में यह संख्या बढ़कर 141 हो गई है।

'चौथा एनआईसीडीसी निवेशक गोलमेज' सम्मेलन


10 अक्टूबर, 2022 को औद्योगिक टाउनशिप लिमिटेड (एमआईटीएल) द्वारा मुंबई, महाराष्ट्र में आयोजित चौथा एनआईसीडीसी (National Industrial Corridor Development Corporation) निवेशक गोलमेज सम्मेलन आयोजित किया गया ।

उद्देश्य - हितधारकों के बीच एक सार्थक चर्चा को सुगम बनाना है और इस प्रकार निवेशकों के लिए विभिन्न सहयोग अवसरों की पहचान करने में सहायता करना है।

महत्वपूर्ण तथ्य -

  • सम्मेलन का चौथा संस्करण पूरे भारत में आगामी ग्रीनफील्ड औद्योगिक शहरों के विकास को प्रदर्शित करेगा, जिनकी योजना राष्ट्रीय औद्योगिक गलियारा विकास निगम लिमिटेड द्वारा बनाई गई है।
  • निवेशक गोलमेज सम्मेलन इससे पूर्व दिल्ली, कोच्चि और अहमदाबाद में आयोजित किया जा चुका है।

जीतो कनेक्ट 2022


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 6 मई, 2022 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से 'जैन अंतरराष्ट्रीय व्यापार संगठन' (Jain International Trade Organisation) के 'जीतो कनेक्ट 2022' (JITO Connect 2022) के उद्घाटन सत्र को संबोधित किया।

  • तीन दिवसीय कार्यक्रम 'जीतो कनेक्ट 2022' का आयोजन 6 से 8 मई तक गंगाधाम एनेक्स, पुणे में किया गया।
  • जैन अंतरराष्ट्रीय व्यापार संगठन (JITO) दुनिया भर में जैन समुदाय को जोड़ने वाला एक वैश्विक संगठन है।
  • ' जीतो कनेक्ट' का आयोजन आपसी नेटवर्किंग और व्यक्तिगत बातचीत के लिए एक अवसर प्रदान करके व्यापार और उद्योग जगत की मदद करने का एक प्रयास है।

सांस्कृतिक कार्यक्रम 'मुक्ति-मातृका'


संस्कृति मंत्रालय द्वारा 6 मई, 2022 को विक्टोरिया मेमोरियल हॉल, कोलकाता में एक सांस्कृतिक कार्यक्रम 'मुक्ति-मातृका' (मां के रूप में स्वतंत्रता) आयोजित किया गया।

  • मुक्ति-मातृका 'मुक्ति' या स्वतंत्रता / आजादी के विचार के साथ-साथ 'मातृका' के विचार को शामिल करती है, एक ऐसा प्रतीक जिसमें एक भूमि या राष्ट्र की कल्पना की जा सकती है।
  • इन दो तथ्यों को पिरोते हुए, 'मुक्ति-मातृका' स्वतंत्रता और मां (देवी दुर्गा) के बीच संबंध स्थापित करती है, विशेष रूप से इस तथ्य के संदर्भ में कि दुर्गा हमारी ‘आजादी’ और बुराई (जो कि दानव का प्रतीक है) के चंगुल से हमारे उद्धार की प्रतीक है।
  • यूनेस्को द्वारा मानवता की अमूल्य सांस्कृतिक विरासत की सूची में 'बंगाल की दुर्गा पूजा' को शामिल किए जाने और विक्टोरिया मेमोरियल हॉल के 2021-22 में मनाए जा रहे शताब्दी वर्ष समारोह की पृष्ठभूमि में यह सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किया गया।

इंटरसोलर यूरोप 2022


11 से 13 मई, 2022 तक म्यूनिख, जर्मनी में 'इंटरसोलर यूरोप 2022' (Intersolar Europe 2022) का आयोजन किया गया।

(Image Source: https://www.businesswire.com/)

  • केंद्रीय नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा राज्य मंत्री भगवंत खुबा ने 12 मई को इंटरसोलर यूरोप 2022 में 'भारत के सौर ऊर्जा बाजार' विषय पर निवेश प्रोत्साहन कार्यक्रम में मुख्य वक्तव्य दिया। यह कार्यक्रम इंडो-जर्मन एनर्जी फोरम (IGEF) द्वारा आयोजित किया गया था।
  • केंद्रीय मंत्री ने वैश्विक निवेशकों को भारत के स्वच्छ ऊर्जा उद्योग में निवेश करने के लिए आमंत्रित किया है। भारत में स्वच्छ ऊर्जा क्षेत्र में लगभग 196.98 बिलियन डॉलर की परियोजनाएं संचालित की जा रही हैं।
  • इंटरसोलर सौर उद्योग और उसके भागीदारों के लिए दुनिया की अग्रणी प्रदर्शनी शृंखला है। यह हमारी ऊर्जा आपूर्ति में सौर ऊर्जा की हिस्सेदारी बढ़ाने के उद्देश्य से दुनिया भर के लोगों और कंपनियों को एकजुट करती है।
  • इंटरसोलर प्रदर्शनी और सम्मेलन म्यूनिख, साओ पाउलो, लॉन्ग बीच, गांधीनगर, दुबई और मैक्सिको सिटी में आयोजित किए जाते हैं।
  • इन वैश्विक आयोजनों को इंटरसोलर शिखर सम्मेलनों द्वारा सहायता दी जाती है, जो दुनिया भर में उभरते और बढ़ते बाजारों में आयोजित किए जाते हैं।

आहार मेले का 36वां संस्करण


कृषि और प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण (APEDA) ने भारत व्यापार संवर्धन संगठन (ITPO) के सहयोग से 26 से 30 अप्रैल, 2022 तक प्रगति मैदान, नई दिल्ली में खाद्य मेले, ‘आहार’ के 36वें संस्करण (36th edition of AAHAR) का आयोजन किया।

(Image Source: https://indiatradefair.com/aahardelhi/)

  • 'आहार' एशिया का सबसे बड़ा बिजनेस टू बिजनेस (B2B) अंतरराष्ट्रीय खाद्य और आतिथ्य मेला (International food and hospitality fair) है।
  • 'आहार' मेला 'भौगोलिक संकेत उत्पाद' विषय (Theme) के साथ आयोजित किया गया क्योंकि APEDA जीआई प्रमाणित कृषि उत्पादों के निर्यात को बढ़ावा देने पर ध्यान केंद्रित कर रहा है।
  • 'आहार' मेला खाद्य एवं पेय पदार्थ उद्योग में वैश्विक कंपनियों को कृषि एवं प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद प्रदर्शित करने के लिए एपीडा द्वारा निर्यात संवर्धन पहलों की शृंखला का एक हिस्सा है क्योंकि इस मेले में विश्व के विभिन्न हिस्सों से बड़ी संख्या में आयातक भाग लेते हैं।
  • आहार मेले के अतिरिक्त, APEDA कृषि उत्पादों को बढ़ावा देने के लिए ऑर्गेनिक वर्ल्ड कांग्रेस, बायोफैच इंडिया आदि जैसे राष्ट्रीय कार्यक्रमों का भी आयोजन करता है।
  • सरकार ने 1986 में वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय, भारत सरकार के तहत संसद के एक अधिनियम के माध्यम से APEDA की स्थापना की थी।

कान्स फिल्म बाजार में भारत 'कंट्री ऑफ ऑनर'


17 मई से 28 मई, 2022 तक कान्स फिल्म महोत्सव (Cannes Film Festival) के 75वें संस्करण के साथ आयोजित किए जाने वाले कान्स फिल्म बाजार ‘मार्शे डू फिल्म’ (Marché du Film) में भारत को आधिकारिक रूप से 'कंट्री ऑफ ऑनर' यानी 'सम्मानित देश' के रूप में चुना गया है।

(Image Source: https:// twitter.com/PIBHindi/)

  • पहली बार ‘मार्शे डू फिल्म’ में किसी देश को आधिकारिक 'कंट्री ऑफ ऑनर' सम्मान मिला है।
  • इंडिया पवेलियन की थीम (विषय) 'इंडिया द कंटेंट हब ऑफ द वर्ल्ड' (India the Content Hub of the World) है।
  • भारत को 'गोज टू कान्स सेक्शन' (Goes to Cannes Section) में 5 चयनित फिल्मों को प्रस्तुत करने का अवसर दिया गया है। ये फिल्में हैं- जयचेंग जक्सई दोहुतिया की 'बागजान' (असमिया, मोरानी); शैलेंद्र साहू की 'बैलाडीला' (हिंदी, छत्तीसगढ़ी); एकतारा कलेक्टिव की 'एक जगह अपनी' (हिंदी); हर्षद नलवाडे की 'फॉलोवर' (मराठी, कन्नड़, हिंदी); और जय शंकर की 'शिवम्मा' (कन्नड़)।
  • कान्स फिल्म महोत्सव में भारतीय सिनेमा के दिग्गज सत्यजीत रे की दुर्लभ फिल्म 'प्रतिद्वंदी' की एक विशेष स्क्रीनिंग की जाएगी।
  • 1978 में अरविंदन गोविंदन के निर्देशन में बनी भारतीय फिल्म थम्प (द सर्कस टेंट) का फिल्म गाला में रेस्टोरेशन वर्ल्ड प्रीमियर (Restoration World Premiere) होगा।
  • कान्स फिल्म महोत्सव में वर्ल्ड प्रीमियर में आर माधवन द्वारा निर्देशित और अभिनीत 'रॉकेट्री: द नम्बी इफेक्ट' को प्रदर्शित किया जाएगा। रॉकेट्री, इसरो वैज्ञानिक नंबी नारायणन के जीवन पर आधारित है, जिन पर जासूसी का आरोप लगाया गया था।
  • बॉलीवुड अभिनेत्री दीपिका पादुकोण कान्स फिल्म महोत्सव में उस आठ सदस्यीय जूरी का हिस्सा हैं, जो 28 मई को समापन समारोह के दौरान प्रतिष्ठित पाल्मे डी'ओर (Palme d'Or) के साथ प्रतिस्पर्धा में 21 फिल्मों में से एक को पुरस्कृत करेंगी।

बोडो साहित्य सभा का 61वां वार्षिक सम्मेलन


भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 4 मई, 2022 को असम के तामुलपुर में बोडो साहित्य सभा के 61वें वार्षिक सम्मेलन में भाग लिया।

(Image Source: https://twitter.com/rashtrapatibhvn/)

  • राष्ट्रपति कोविंद इस कार्यक्रम में शामिल होने वाले पहले भारतीय राष्ट्रपति हैं। बोडो साहित्य सभा का 61वां वार्षिक सम्मेलन 2 से 4 मई, 2022 तक आयोजित किया गया।
  • असम साहित्य सभा से प्रेरित होकर 1952 में साहित्य, संस्कृति और भाषा के विकास के लिए ‘बोडो साहित्य सभा’ का गठन किया गया था।

बोडो: यह भाषा बोडो समुदाय द्वारा बोली जाती है, जो पूर्वोत्तर में सबसे बड़ी मैदानी जनजाति है।

  • बोडो समुदाय के लोग ज्यादातर ‘बोडोलैंड प्रादेशिक क्षेत्र’ (Bodoland Territorial Region) में निवास करते हैं, जिसकी जड़ें अलग बोडोलैंड राज्य के आंदोलन में थीं।
  • ज्ञात हो कि असम के अलावा, बड़ी संख्या में बोडो भाषा बोलने वाले लोग बांग्लादेश, नेपाल, त्रिपुरा, नागालैंड और पश्चिम बंगाल में रहते हैं।
  • जनवरी 2020 में केंद्र, असम सरकार और चार बोडो उग्रवादी संगठनों के बीच ‘बोडो शांति समझौते’ पर हस्ताक्षर के बाद असम सरकार ने 2020 में बोडो भाषा को राज्य की सहयोगी आधिकारिक भाषा (associate official language) के रूप में मान्यता दी।
  • 2011 की जनगणना के अनुसार, असम में लगभग 14.16 लाख बोडो भाषी हैं, जो राज्य की कुल जनसंख्या का 4.53% है।

आपदा रोधी अवसंरचना पर चौथा अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन


आपदा प्रबंधन अवसंरचना पर अंतरराष्ट्रीय गठबंधन (Coalition for Disaster Resilient Infrastructure (CDRI) ने यूएस एजेंसी फॉर इंटरनेशनल डेवलपमेंट (यूएसएआईडी) के साथ साझेदारी में 4 से 6 मई, 2022 तक नई दिल्ली में हाइब्रिड प्रारूप में आपदा रोधी अवसंरचना पर चौथे अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन (Fourth edition of the International Conference on Disaster Resilient Infrastructure) की मेजबानी की।

उद्देश्य: मानव-केंद्रित दृष्टिकोणों पर जोर देने के साथ, बदलती अवसंरचना प्रणालियों के आपदा प्रबंधन को मजबूत करने के तरीकों का पता लगाना।

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो संदेश के माध्यम से आपदा रोधी अवसंरचना पर चौथे अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन के उद्घाटन सत्र को संबोधित किया।
  • प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि CDRI के नेतृत्व में 'आपदा प्रबंधन अवसंरचना प्रणाली का वैश्विक आकलन' (Global Assessment of Disaster Resilience of Infrastructure Systems) वैश्विक ज्ञान में मदद करेगा, जो बेहद मूल्यवान होगा।
  • ज्ञात हो कि 2021 में जलवायु परिवर्तन पर सम्मेलन कॉप-26 (COP-26) में भारत ने 2070 तक 'नेट जीरो' हासिल करने की प्रतिबद्धता जताई है।

आपदा प्रबंधन अवसंरचना पर अंतरराष्ट्रीय गठबंधन: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संयुक्त राष्ट्र जलवायु कार्रवाई शिखर सम्मेलन 2019 में आपदा प्रबंधन अवसंरचना पर अंतरराष्ट्रीय गठबंधन (CDRI) की घोषणा की।

  • इस वैश्विक गठबंधन का उद्देश्य जलवायु और आपदा जोखिमों के लिए नई और मौजूदा बुनियादी ढांचा प्रणालियों के अनुकूलन को बढ़ावा देना है। CDRI का सचिवालय नई दिल्ली में स्थित है।

सेमीकॉन इंडिया सम्मेलन 2022


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 29 अप्रैल, 2022 को वैश्विक सेमीकंडक्टर सम्मेलन 'सेमीकॉन इंडिया सम्मेलन 2022' (Semicon India Conference 2022) का उद्घाटन किया।

  • इस सम्मेलन को मौजूदा सेमीकंडक्टर क्षमताओं को प्रदर्शित करने, नवाचारों को आदर्श बनाने और वैश्विक सर्वोत्तम प्रथाओं पर चर्चा करने के लिए प्रमुख हितधारकों को एक साथ लाने के लिए आयोजित किया गया।
  • 'भारत के सेमीकंडक्टर इकोसिस्टम की गति में वृद्धि' (Catalyzing India’s Semiconductor Ecosystem) विषय के साथ यह सम्मेलन, 29 अप्रैल से 1 मई, 2022 तक बेंगलुरू में आयोजित किया गया।
  • इंडिया इलेक्ट्रॉनिक्स एंड सेमीकंडक्टर एसोसिएशन (IESA) ने 'सेमीकंडक्टर विनिर्माण आपूर्ति शृंखला - वैश्विक बाजार में भारत के अवसर' पर एक इंडस्ट्री रिपोर्ट लॉन्च की।

फसल बीमा पाठशाला


केंद्र सरकार आजादी का अमृत महोत्सव के तहत 25 अप्रैल से 1 मई, 2022 की अवधि के दौरान जनभागीदारी आंदोलन के रूप में ‘किसान भागीदारी प्राथमिक अभियान' के तहत 'फसल बीमा पाठशाला' का आयोजन कर रही है।

  • केन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने 27 अप्रैल, 2022 को ‘फसल बीमा पाठशाला’ पर राष्ट्रीय स्तर के विशेष कार्यक्रम की अध्यक्षता की।
  • अभियान का उद्देश्य किसानों को मौजूदा खरीफ सीजन 2022 में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (पीएमएफबीवाई) के प्रमुख योजना पहलुओं जैसे- बुनियादी योजना प्रावधानों, फसलों के बीमा के महत्व और योजना के लाभ आदि के बारे में जागरूक करना एवं पीएमएफबीवाई का लाभ प्राप्त करने में किसानों को सुविधा प्रदान करना है।
  • इस अभियान के तहत, पीएमएफबीवाई / पुनर्गठित मौसम आधारित फसल बीमा योजना (Restructured Weather Based Crop Insurance Scheme) के महत्व तथा किसान इस योजना के तहत कैसे नामांकन कर सकते हैं और किस प्रकार योजना का लाभ उठा सकते हैं, पर व्यापक ध्यान दिया जाएगा।

माधवपुर घेड़ मेला


भारत के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 10 अप्रैल, 2022 को गुजरात स्थित पोरबंदर के माधवपुर घेड़ में पांच दिवसीय 'माधवपुर घेड़ मेले' (Madhavpur Ghed Fair) का उद्घाटन किया।

  • वर्ष 2018 से संस्कृति मंत्रालय के सहयोग से गुजरात सरकार भगवान श्रीकृष्ण और रुकमिणी के पवित्र बंधन का उत्सव मनाने के लिये मेले का आयोजन कर रही है।
  • आज के उत्तर प्रदेश में जन्मे श्रीकृष्ण ने गुजरात को अपनी कर्मभूमि बनाया और हमारे देश के आज के पूर्वोत्तर क्षेत्र की राजकुमारी रुकमिणी से विवाह रचाया।
  • लोक आस्था के अनुसार, माधवपुर घेड़ वही गांव है, जो दोनों के विवाह का साक्षी रहा है।
  • माधवपुर मेला गुजरात को पूर्वोत्तर क्षेत्र से एक मजबूत बंधन में जोड़ता है।

यमुनोत्सव


आजादी का अमृत महोत्सव समारोह के हिस्से के रूप में, 27 मार्च, 2022 को राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन (एनएमसीजी) ने असिता ईस्ट रिवर फ्रंट, आईटीओ ब्रिज दिल्ली में गैर सरकारी संगठनों के एक समूह के साथ मिलकर "स्वच्छ रखने का संकल्प'' के साथ यमुना की महिमा का उत्सव मनाने के लिए 'यमुनोत्सव' (Yamunotsav) का आयोजन किया।

  • नमामि गंगे कार्यक्रम के अंतर्गत, गंगा बेसिन के मुख्य हिस्से पर ध्यान केंद्रित करने के सकारात्मक परिणाम अब दिखाई दे रहे हैं। अब लक्ष्य यमुना नदी को साफ करना है।
  • सभी प्रमुख नालों और गंदे पानी को यमुना में गिरने से रोकने के लिए हितधारकों के सहयोग से 3 बड़े सीवेज उपचार संयंत्र का निर्माण दिसंबर 2022 तक पूरा किया जाएगा।
  • राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन यमुना नदी के लिए सीवरेज के बुनियादी ढांचे के निर्माण के लिए लगभग 2300 करोड़ रुपए का अनुदान दे रहा है।

सतत विकास लक्ष्यों के स्थानीयकरण पर राष्ट्रीय सम्मेलन


11 अप्रैल, 2022 को भारत के उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने 'सतत विकास लक्ष्यों के स्थानीयकरण पर राष्ट्रीय सम्मेलन' (National Conference on Localisation of Sustainable Development Goals) का उद्घाटन किया।

(Image Source: https://webcast.gov.in/)

  • पंचायती राज मंत्रालय ने 11 से 17 अप्रैल, 2022 तक आजादी का अमृत महोत्सव को जन-उत्सव के रूप में जन-भागीदारी की भावना से मनाने के लिए ‘प्रतिष्ठित सप्ताह’ (Iconic Week) का आयोजन किया।
  • 'सतत विकास लक्ष्यों के स्थानीयकरण पर राष्ट्रीय सम्मेलन' राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में विज्ञान भवन में आयोजित किया गया।
  • प्रतिष्ठित सप्ताह का विषय 'पंचायतों के नवनिर्माण का संकल्पोत्सव' था।
  • इस अवसर पर पर्याप्त जल युक्त गांव पर उत्तराखंड की कुठार ग्राम पंचायत और स्वच्छ और हरित गांव के विषय पर तेलंगाना के मेटापल्ली ग्राम पंचायत के विषयगत वीडियो प्रदर्शित किए गए।

पोइला बोइशाख


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 15 अप्रैल, 2022 को ‘पोइला बोइशाख’ (POILA BOISHAKH) पर लोगों को बधाई दी।

(Image Source: https:// twitter.com/prakashjavdekar/)

  • पोइला बोइशाख, जिसे बंगाली नव वर्ष या 'नोबो बोर्सो' के नाम से भी जाना जाता है, बंगाली सौर कैलेंडर के बैशाख के शुरुआती महीने के पहले दिन को चिह्नित करता है।
  • यह त्यौहार 14 अप्रैल को बांग्लादेश में और 15 अप्रैल को भारतीय राज्यों पश्चिम बंगाल, त्रिपुरा और असम (बराक घाटी) में बंगालियों द्वारा मनाया जाता है।
  • इस दौरान बांग्लादेश में उत्सव 'मंगल शोभाजात्रा' आयोजित की जाती है। 2016 में, यूनेस्को ने ललित कला संकाय, ढाका विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित इस उत्सव को 'मानवता की सांस्कृतिक विरासत' (cultural heritage of humanity) के रूप में घोषित किया।

247वां सैन्‍य आयुध कोर स्थापना दिवस


सैन्य आयुध कोर (Army Ordnance Corps: AOC) इकाइयों ने 8 अप्रैल, 2022 को अपना 247वां स्थापना दिवस मनाया।

(Image Source: https://pib.gov.in/)

  • सैन्य आयुध कोर का दायित्व सेना के लिए विशाल और जटिल आयुध भंडार के प्रबंधन और साजोसामान की आपूर्ति का है।
  • 1775 में ब्रिटिश सेना को हथियारों, गोला-बारूद और उपकरणों के व्यवस्थित वितरण को सुनिश्चित करने के लिए 'आयुध बोर्ड' का गठन किया गया था।
  • इन वर्षों में, आयुध बोर्ड में कई परिवर्तन हुए और 1922 में इसे 'भारतीय सेना आयुध कोर' के रूप में जाना जाने लगा।
  • 1950 में भारत के गणतंत्र बनने के बाद से ही इस संगठन को 'सैन्य आयुध कोर' के नाम से जाना जाता है।
  • आयुध सेवा महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल आर.के.एस. कुशवाहा हैं।

राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण की 20वीं बैठक


केन्द्रीय पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री भूपेंद्र यादव की अध्यक्षता में 9 अप्रैल, 2022 को अरुणाचल प्रदेश के पक्के बाघ अभयारण्य में राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण (NTCA) की 20वीं बैठक आयोजित की गई।

(Image Source: https://twitter.com/byadavbjp)

  • NTCA के इतिहास में पहली बार इसकी बैठक राष्ट्रीय राजधानी के बाहर हुई।
  • केन्द्रीय मंत्री ने NTCA द्वारा तैयार ‘जंगलों में बाघों की पुनः प्रस्तुति और पूरकता’ (Tiger reintroduction and supplementation in wild) के संबंध में मानक संचालन प्रोटोकॉल तथा टाइगर रिजर्व के लिए वनाग्नि ऑडिट प्रोटोकॉल (forest fire audit protocol) जारी किया।
  • उन्होंने NTCA द्वारा तैयार भारत में टाइगर रिजर्व के प्रबंधन प्रभावशीलता मूल्यांकन पर तकनीकी मैनुअल का विमोचन भी किया।
  • बाघ अभयारण्यों में प्रबंधन प्रभावशीलता मूल्यांकन अभ्यास 2006 में शुरू हुआ था और जिसके चार चक्र पूरे हो चुके हैं। इसका 5वां चक्र 2022 में शुरू हो रहा है।
  • अरुणाचल प्रदेश ने ‘हॉर्नबिल नेस्ट एडॉप्शन’ (Hornbill Nest Adoption) और ‘एयर गन सरेंडर अभियान’ (Air Gun Surrender Abhiyan) जैसे कार्यक्रमों के मामले में एक अनुकरणीय उदाहरण पेश किया है।
  • इस अवसर पर, स्थानीय ग्रामीणों द्वारा लगभग 100 एयर गन सरेंडर की गईं। अरुणाचल प्रदेश ने मार्च 2021 में एयर गन सरेंडर अभियान शुरू किया था।

विंग्स इंडिया 2022


नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने 24 से 27 मार्च, 2022 तक हैदराबाद में 'विंग्स इंडिया 2022' (Wings India 2022) का आयोजन किया।

  • 'विंग्स इंडिया 2022' एशिया में नागरिक उड्डयन पर सबसे बड़ा कार्यक्रम है। नागरिक उड्डयन मंत्रालय (MoCA) ने फिक्की के सहयोग से इस कार्यक्रम का आयोजन किया।
  • इस आयोजन का विषय ‘इंडिया@75: एविएशन इंडस्ट्री के लिए नया क्षितिज’ था।
  • 'विंग्स इंडिया 2022' नए व्यापार अधिग्रहण, निवेश, नीति निर्माण और क्षेत्रीय संपर्क पर केंद्रित रहा।
  • इस आयोजन के दौरान केम्पेगौड़ा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा, बेंगलुरू ने अपने ग्राहक-केंद्रित दृष्टिकोण, स्मार्ट नवाचारों और अत्याधुनिक तकनीक को अपनाने के लिए विंग्स इंडिया अवार्ड्स 2022 में दो प्रमुख पुरस्कार जीते। हवाई अड्डे को सामान्य श्रेणी में 'सर्वश्रेष्ठ हवाईअड्डा' नामित किया गया है, साथ ही 'एविएशन इनोवेशन' पुरस्कार का विजेता भी घोषित किया गया।

साइबर अपराध जांच और डिजिटल फोरेंसिक पर दूसरा राष्ट्रीय सम्मेलन


केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव ने 4 अप्रैल, 2022 को साइबर अपराध जांच और डिजिटल फोरेंसिक पर दूसरे राष्ट्रीय सम्मेलन को संबोधित किया।

(Image Source: https://newsonair.com/)

  • यह सम्मेलन 4 से 7 अप्रैल, 2022 के बीच साइबर जागरूकता सप्ताह के अवसर पर केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) द्वारा आयोजित किया गया।
  • केंद्रीय मंत्री ने साइबर अपराधों के खतरे से निपटने के लिए कानूनी ढांचे में बदलाव की जरूरत पर जोर दिया।
  • उन्होंने कहा कि प्रौद्योगिकी के उपयोग ने उत्पादकता, दक्षता और सुविधा में वृद्धि की है। हालांकि, साथ ही, इससे "हमारे जीवन में किसी के द्वारा घुसपैठ (बिना अनुमति के प्रवेश) की संभावना कई गुना बढ़ गई है"।
  • घुसपैठ (intrusion) की समस्या से कानूनी रणनीति, प्रौद्योगिकी, संगठनों, क्षमता निर्माण और आपसी सहयोग से निपटा जा सकता है।

ग्रामीण विकास मंत्रालय ने किया 'लैंगिक संवाद' का आयोजन


ग्रामीण विकास मंत्रालय के तहत दीनदयाल अंत्योदय योजना-राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (डीएवाई-एनआरएलएम) द्वारा 11 मार्च, 2022 को 'लैंगिक संवाद' के तीसरे संस्करण का आयोजन किया गया।

(Image Source: https://twitter.com/DAY_NRLM)

  • इस संवाद में 34 राज्यों से 3000 से अधिक राज्य मिशन कर्मचारी और स्वयं सहायता समूह के सदस्यों ने ऑनलाइन माध्यम से भाग लिया।
  • यह डीएवाई-एनआरएलएम के अंतर्गत एक राष्ट्रीय पहल है, जिसका उद्देश्य पूरे देश में मिशन की पहलों पर बिना लैंगिक भेदभाव के साथ अधिक जागरूकता पैदा करना है।
  • इस संस्करण का विषय 'महिलाओं के समूह के माध्यम से खाद्य और पोषण सुरक्षा को बढ़ावा देना' था।
  • यह कार्यक्रम अमृत महोत्सव के अंतर्गत ग्रामीण विकास मंत्रालय के आइकॉनिक वीक उत्सव के एक भाग के रूप में 'नए भारत की नारी' विषय पर आयोजित किया गया था।

भाषा सर्टिफिकेट सेल्फी अभियान


21 फरवरी, 2022 को शिक्षा मंत्रालय द्वारा ‘भाषा सर्टिफिकेट सेल्फी अभियान’ (Bhasha Certifiate Selfie campaign) का शुभारंभ किया गया है।

(Image Source: https://pib.gov.in/)

  • यह अभियान सांस्कृतिक विविधता को प्रोत्साहित करने और बहुभाषावाद को बढ़ावा देने और एक भारत श्रेष्ठ भारत की भावना का प्रसार करने के लिए शुरू किया गया है।
  • इस पहल का उद्देश्य शिक्षा मंत्रालय और माईगव इंडिया द्वारा विकसित ‘भाषा संगम मोबाइल ऐप’ को बढ़ावा देना है। ऐप को ‘मल्टीभाषी’ नाम के एक स्टार्टअप ने विकसित किया है।
  • भाषा संगम मोबाइल ऐप की मदद से लोग 22 अनुसूचित भारतीय भाषाओं में दैनिक उपयोग के 100 से अधिक वाक्य सीख सकते हैं।
  • 'भाषा सर्टिफिकेट सेल्फी' पहल के तहत लोगों को अपने सोशल मीडिया अकाउंट से सर्टिफिकेट के साथ अपनी सेल्फी अपलोड करने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है।

इंडो-पैसिफिक मिलिट्री हेल्थ एक्सचेंज सम्मेलन


रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 7 मार्च, 2022 को चार दिवसीय 'इंडो-पैसिफिक मिलिट्री हेल्थ एक्सचेंज सम्मेलन' (Indo-Pacific Military Health Exchange conference) का वर्चुअल माध्यम में उद्घाटन किया।

(Image Source: https://www.ipmhe2021.org/)

सम्मेलन का विषय: 'एक अस्थिर, अनिश्चित, जटिल और अस्पष्ट दुनिया में सैन्य स्वास्थ्य सेवा' (Military Healthcare in a Volatile, Uncertain, Complex and Ambiguous World)।

  • इस सम्मेलन की सह-मेजबानी सशस्त्र बल चिकित्सा सेवा (AFMS) और यूएस इंडो-पैसिफिक कमांड (USINDOPACOM) द्वारा की गई।
  • सम्मेलन का उद्देश्य सैन्य चिकित्सा में सहयोग और संयुक्त कौशल को बढ़ाना है।
  • सम्मेलन में 38 से अधिक देशों के 600 से अधिक भारतीय और विदेशी प्रतिनिधियों ने भाग लिया।
  • इसमें ऑपरेशनल/कॉम्बैट मेडिकल केयर, ट्रॉपिकल मेडिसिन, फील्ड सर्जरी, फील्ड एनेस्थीसिया, एविएशन और मरीन मेडिसिन इमरजेंसी आदि सहित कई महत्वपूर्ण विषय शामिल थे।

संयुक्त सैन्य अभ्यास 'धर्म गार्जियन-2022'


भारत और जापान के बीच संयुक्त सैन्य अभ्यास 'धर्म गार्जियन-2022' (DHARMA GUARDIAN-2022) 27 फरवरी से 10 मार्च, 2022 तक बेलगावी (बेलगाम, कर्नाटक) के फॉरेन ट्रेनिंग नोड में किया जा रहा है।

  • 'धर्म गार्जियन' भारत और जापान के बीच एक वार्षिक सैन्य अभ्यास है। यह वर्ष 2018 से आयोजित किया जा रहा है।
  • भारतीय सेना की मराठा लाइट इन्फैंट्री रेजिमेंट की 15वीं बटालियन और जापानी ग्राउंड सेल्फ डिफेंस फोर्सेज की 30वीं इन्फैंट्री रेजिमेंट इस अभ्यास में भाग ले रही हैं।
  • संयुक्त सैन्य प्रशिक्षण अभ्यास में हाउस इंटरवेंशन ड्रिल, अर्ध-शहरी इलाकों में आतंकवादी ठिकानों पर छापेमारी, युद्ध प्राथमिक उपचार, बिना हथियार के मुकाबला करना आदि शामिल हैं।
  • इस अभ्यास के दौरान जंगल और अर्ध शहरी/शहरी इलाकों में जंगी कार्रवाई पर प्लाटून स्तर का संयुक्त प्रशिक्षण भी आयोजित किया जा रहा है।

राष्ट्रीय युद्ध स्मारक ने अपनी तीसरी वर्षगांठ मनाई


25 फरवरी, 2022 को राष्ट्रीय युद्ध स्मारक की तीसरी वर्षगांठ मनाई गई। इस अवसर पर भारतीय सेना, भारतीय नौसेना और भारतीय वायु सेना के प्रमुखों ने राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पर माल्यार्पण किया।

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 25 फरवरी, 2019 को राष्ट्रीय युद्ध स्मारक का उद्घाटन किया था।
  • राष्ट्रीय युद्ध स्मारक 1962 में भारत-चीन युद्ध, 1947, 1965 और 1971 के भारत-पाक युद्धों, श्रीलंका में भारतीय शांति सेना के संचालन और 1999 में कारगिल संघर्ष के दौरान शहीद हुए सैनिकों को सम्मानित करने के लिए बनाया गया है।
  • इंडिया गेट की पुरानी अमर जवान ज्योति ज्योति को 21 जनवरी, 2022 को एकीकृत रक्षा स्टाफ प्रमुख एयर मार्शल बलभद्र राधा कृष्ण द्वारा नए राष्ट्रीय युद्ध स्मारक की लौ के साथ विलय कर दिया गया था।

विश्व सतत विकास शिखर सम्मेलन 2022


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 16 फरवरी, 2022 को ‘द एनर्जी एंड रिसोर्सेज इंस्टीट्यूट’ (TERI) द्वारा आयोजित ‘विश्व सतत विकास शिखर सम्मेलन 2022’ (World Sustainable Development Summit 2022) में उद्घाटन भाषण दिया।

(Image Source: https://www.teriin.org/)

  • विश्व सतत विकास शिखर सम्मेलन TERI का वार्षिक प्रमुख कार्यक्रम है। यह शिखर सम्मेलन 16 से 18 फरवरी, 2022 तक आयोजित किया गया।
  • इस वर्ष के शिखर सम्मेलन का विषय 'टुवर्ड्स ए रेजिलिएंट प्लैनेट: एनश्योरिंग ए सस्टेनेबल एंड इक्वीटेबल फ्यूचर' (Towards a Resilient Planet: Ensuring a Sustainable and Equitable Future) था।
  • शिखर सम्मेलन में जलवायु परिवर्तन, सतत उत्पादन, ऊर्जा संक्रमण, वैश्विक साझा संसाधन और उनकी सुरक्षा जैसे वृहद विषयों पर चर्चा की गई।

भारत-इजराइल इनोवेशन ब्रिज का दूसरा संस्करण


भारत में इजराइल के राजदूत नाओर गिलोन ने 22 फरवरी, 2022 को बेंगलुरू में 'भारत-इजराइल इनोवेशन ब्रिज के दूसरे संस्करण' (second edition of Indo-Israel Innovation Bridge) का शुभारंभ किया।

  • उद्देश्य: स्वास्थ्य प्रौद्योगिकी (मेडटेक) और स्मार्ट कृषि में भारत और इजराइल स्टार्टअप इकोसिस्टम को एक साथ लाना।
  • इनोवेशन ब्रिज का दूसरा संस्करण कॉफी की खेती में कीट नियंत्रण, मिट्टी की गुणवत्ता का पता लगाने और संरक्षण और उपज की निधानी आयु (shelf life) में वृद्धि में नवाचारों पर केंद्रित था।
  • बेंगलुरू स्थित सेंटर फॉर सेल्युलर एंड मॉलिक्यूलर प्लेटफॉर्म्स (C-CAMP) ने इजराइल के बेंगलुरू स्थित वाणिज्यक दूतावास के साथ इनोवेशन ब्रिज का पहला चरण 2021 में लॉन्च किया था।
  • C-CAMP भारत सरकार के जैव प्रौद्योगिकी विभाग और कर्नाटक सरकार के आईटी, जैव प्रौद्योगिकी और विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा समर्थित एक पहल है।

'भारत में संग्रहालयों की पुनर्कल्पना' पर वैश्विक शिखर सम्मेलन


संस्कृति मंत्रालय ने 15-16 फरवरी, 2022 को 'भारत में संग्रहालयों की पुनर्कल्पना' पर अपनी तरह का पहला वैश्विक शिखर सम्मेलन (Global Summit on ‘Reimagining Museums in India’) आयोजित किया।

(Image Source: https://telanganatoday.com/)

  • संस्कृति मंत्रालय ने आजादी का अमृत महोत्सव के हिस्से के रूप में अपने लोगों, संस्कृति और उपलब्धियों के गौरवशाली इतिहास का जश्न मनाने के लिए ब्लूमबर्ग के साथ साझेदारी में इस शिखर सम्मेलन का आयोजन किया।

प्रतिभाग करने वाले देश: भारत, ऑस्ट्रेलिया, फ्रांस, इटली, सिंगापुर, संयुक्त अरब अमीरात, यूनाइटेड किंगडम और संयुक्त राज्य अमेरिका।

शिखर सम्मेलन के चार व्यापक विषय: वास्तुकला और कार्यात्मक आवश्यकताएं, प्रबंधन, संग्रह (क्यूरेशन और संरक्षण के तौर-तरीकों सहित) और शिक्षा एवं दर्शकों की भागीदारी।

शिखर सम्मेलन के प्रमुख उद्देश्य: संग्रहालय के विकास और प्रबंधन के लिए वैश्विक सर्वोत्तम प्रथाओं को साझा करना;

  • भारतीय संग्रहालयों की वर्तमान जरूरतों को समझना;
  • भारतीय और अंतरराष्ट्रीय संग्रहालयों के बीच रणनीतिक साझेदारी को बढ़ावा देना;
  • संग्रहालयों के नवीनीकरण के लिए एक खाका विकसित करना।

भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान का 60वां दीक्षांत समारोह


केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने 11 फरवरी, 2022 को आईसीएआर-भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान, नई दिल्ली के 60वें दीक्षांत समारोह को संबोधित किया।

  • इस अवसर पर उन्होंने फलों और सब्जियों की 6 किस्मों को राष्ट्र को समर्पित किया- जिनमें आम की दो किस्में 'पूसा लालिमा' और 'पूसा श्रेष्ठ'; बैंगन की किस्म 'पूसा वैभव'; पालक की किस्म 'पूसा विलायती पालक'; ककड़ी की किस्म 'पूसा गाइनोशियस कुकम्बर हाइब्रिड -18' (Pusa Gynoecious Cucumber Hybrid-18); और गुलाब की किस्म 'पूसा अल्पना' शामिल हैं।
  • सूक्ष्म जीव विज्ञान विभाग द्वारा विकसित जैव उर्वरक 'पूसा संपूर्ण' का भी विमोचन किया गया।
  • सरकार का लक्ष्य भारत को कृषि उत्पाद निर्यात के क्षेत्र में शीर्ष 5 देशों में शामिल करना है।

25वां राष्ट्रीय युवा महोत्सव


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 12 जनवरी, 2022 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पुडुचेरी में ‘25वें राष्ट्रीय युवा महोत्सव’ का उद्घाटन किया।

(Image Source: https://www.rninews.co.in/)

महोत्सव का विषय: ‘सक्षम युवा-सशक्त युवा’ (Saksham Yuva Sashakt Yuva)।

  • यह महोत्सव 12 - 13 जनवरी, 2022 को वर्चुअल माध्यम में आयोजित किया गया।
  • 12 जनवरी को स्वामी विवेकानंद की जयंती को राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में मनाया जाता है।
  • इस महोत्सव का उद्देश्य भारत के युवा मस्तिष्क (youth brain) को आकार देना और उन्हें राष्ट्र निर्माण के लिए एक संयुक्त शक्ति में बदलना है।
  • कार्यक्रम के दौरान, प्रधानमंत्री ने 'मेरे सपनों का भारत' और 'भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के गुमनाम नायकों' पर चयनित निबंधों का अनावरण किया।

फिशरीज स्टार्टअप ग्रैंड चैलेंज


भारत सरकार के मत्स्य विभाग ने स्टार्टअप इंडिया, वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय के सहयोग से 13 जनवरी, 2022 को 'फिशरीज स्टार्टअप ग्रैंड चैलेंज' (Fisheries Startup Grand Challenge) का शुभारंभ किया।

(Image Source: https://twitter.com/FisheriesGoI)

  • इस चैलेंज को देश के भीतर स्टार्ट-अप्स को मत्स्यपालन और जलीय जीव पालन (Aquaculture) में अपने अभिनव समाधानों को प्रदर्शित करने के लिए एक मंच प्रदान करने के उद्देश्य से शुरू किया गया है।
  • फिशरीज स्टार्टअप चैलेंज स्टार्ट-अप इंडिया पोर्टल (www.startupindia.gov.in) पर आवेदन जमा करने के लिए 45 दिनों तक लाइव रहेगा।

स्टार्टअप इंडिया नवाचार सप्ताह


वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय के अंतर्गत ‘उद्योग संवर्धन और आंतरिक व्यापार विभाग’ (DPIIT) द्वारा 10 से 16 जनवरी, 2022 तक 'स्टार्टअप इंडिया नवाचार सप्ताह' (Startup India Innovation Week) का आयोजन किया जा रहा है।

(Image Source: https://twitter.com/startupindia)

  • वर्चुअल तरीके से सप्ताह भर चलने वाले इस नवाचार उत्सव का उद्देश्य भारत की आजादी के 75वें वर्ष 'आजादी का अमृत महोत्सव' मनाना है।
  • इसे पूरे भारत में उद्यमिता के प्रसार और उसकी पहुँच को प्रदर्शित करने के लिए डिजाइन किया गया है।
  • स्टार्टअप इंडिया नवाचार सप्ताह में बाजार पहुंच के अवसरों को बढ़ाने, उद्योग जगत की हस्तियों के साथ चर्चा, राज्यों द्वारा अपनाई गई सर्वोत्कृष्ट कार्य प्रणालियों, सक्षम लोगों के क्षमता निर्माण, इन्क्यूबेटरों की नई भूमिका, प्रौद्योगिकी प्रदर्शनियों, कॉर्पोरेट से जुड़ाव जैसे विषयों पर सत्र होंगे।

छठा भारत जल प्रभाव शिखर सम्मेलन


गंगा नदी बेसिन प्रबंधन और अध्ययन केंद्र (c-Ganga) के साथ राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन (NMCG) ने 9 से 14 दिसंबर, 2021 तक 'छठा भारत जल प्रभाव शिखर सम्मेलन’ (6th India Water Impact Summit: IWIS) का आयोजन किया।

(Image Source: https://www.telegraphindia.com/)

  • शिखर सम्मेलन का इस वर्ष का विषय: 'नदी संसाधनों का आवंटन- क्षेत्रीय स्तर पर नियोजन एवं प्रबंधन' (River Resources Allocation “Planning and Management at the Regional Level)।
  • शिखर सम्मेलन हाइब्रिड मोड (ऑनलाइन और भौतिक रूप से) में एनएमसीजी कार्यालय, नई दिल्ली और आईआईटी, कानपुर में आयोजितकिया गया।
  • भारत में नदियों के कायाकल्प के लिए अनुसंधान और ज्ञान सृजन गतिविधियों में सहयोग हेतु NMCG और सार्वजनिक नीति अनुसंधान के प्रमुख थिंक टैंक 'सेंटर फॉर पॉलिसी रिसर्च (सीपीआर), नई दिल्ली’ के बीच एक समझौता ज्ञापन पर भी हस्ताक्षर किए गए।
  • इस सम्मेलन के दौरान चार महत्वपूर्ण विमोचन किए गए, जिनमें 'उत्तराखंड रिवर एटलस', 'अलकनंदा एंड भागीरथी रिवर बेसिन एटलस', 'यमुना रिवर बेसिन एटलस' और 'समर्थ गंगा रिपोर्ट' शामिल हैं।

फिनटेक हैकाथॉन 'स्प्रिंट04: मार्केट-टेक'


अंतरराष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र प्राधिकरण (IFSCA) ने 4 दिसंबर 2021 को I-Sprint'21 के तहत फिनटेक हैकाथॉन 'स्प्रिंट04: मार्केट-टेक' (Sprint04: Market-Tech) लॉन्च की।

  • अंतरराष्ट्रीय वित्तीय सेवा केन्द्रों में बैंकिंग, बीमा, प्रतिभूतियों और फंड प्रबंधन के आयामों में वित्तीय उत्पादों और वित्तीय सेवाओं में वित्तीय प्रौद्योगिकियों (फिनटेक) की पहल को बढ़ावा देने हेतु IFSCA ने I-Sprint’21 के बैनर तले इन क्षेत्रों में हैकाथॉन की एक शृंखला शुरू की है।
  • 'स्प्रिंट04: मार्केट-टेक' की मेजबानी नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के सहयोग से IFSCA और गिफ्ट सिटी द्वारा की जा रही है।
  • 'स्प्रिंट04: मार्केट-टेक' हैकाथॉन 'पूंजी बाजार क्षेत्र' (Capital Market Segment) पर केंद्रित है।

भारत अंतरराष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव 2021


भारत अंतरराष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव 2021 (India International Science Festival: IISF 2021) का सातवां संस्करण 10 से 13 दिसंबर, 2021 तक पणजी, गोवा में आयोजित किया गया।

(Image Source: https://twitter.com/iisfest)

IISF 2021 का विषय: 'आजादी का अमृत महोत्सव - एक समृद्ध भारत के लिए रचनात्मकता, विज्ञान, प्रौद्योगिकी और नवाचार का जश्न मनाना' (Azadi Ka Amrit Mahotsav – Celebrating Creativity, Science, Technology and Innovation for a prosperous India)

  • 'भारत अंतरराष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव' विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय, पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय और विज्ञान भारती (VIBHA) का एक संयुक्त कार्यक्रम है।
  • IISF का पहला कार्यक्रम वर्ष 2015 में आयोजित किया गया था और इस वार्षिक कार्यक्रम का छठा संस्करण वर्ष 2020 में आयोजित किया गया था।
  • IISF का मुख्य उद्देश्य भारत और दुनिया भर में लोगों के साथ विज्ञान का समारोह मनाना है।

स्वास्थ्य प्रौद्योगिकी मूल्यांकन पर अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी


केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण राज्य मंत्री, डॉ. भारती प्रवीण पवार ने 10 दिसंबर, 2021 को 'स्वास्थ्य प्रौद्योगिकी मूल्यांकन पर अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी (International Symposium on Health Technology Assessment) को संबोधित किया।


(Image Source: https://twitter.com/icmrdelhi)

  • इसका आयोजन केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के ‘स्वास्थ्य अनुसंधान विभाग’ द्वारा अंतरराष्ट्रीय निर्णय सहायता पहल (International Decision Support Initiative: iDSI) के सहयोग से किया गया।
  • इस आयोजन का विषय (थीम) "सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज के लिए हेल्थकेयर सेक्टर में साक्ष्य आधारित निर्णय लेने के लिए नीति में ज्ञान और सर्वोत्तम प्रथाओं का समावेश करना" था।
  • संगोष्ठी ने स्वास्थ्य प्रौद्योगिकी मूल्यांकन में वैश्विक सर्वोत्तम प्रथाओं पर चर्चा करने तथा सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज हासिल करने के लिए भारत में स्वास्थ्य प्रौद्योगिकी मूल्यांकन संस्थानीकरण के माध्यम से साक्ष्य-आधारित निर्णय लेने के एक स्थायी मॉडल का विकास के लिए एक मंच प्रदान किया।

स्वच्छ प्रौद्योगिकी चैलेंज


आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय के तहत स्वच्छ भारत मिशन-शहरी 2.0 (SBM-U 2.0) ने 6 दिसंबर, 2021 को 'स्वच्छ प्रौद्योगिकी चैलेंज' (Swachh Technology Challenge) लॉन्च किया।

(Image Source: https://amritmahotsav.nic.in/)

उद्देश्य: भारत में अपशिष्ट प्रबंधन क्षेत्र की उद्यमशीलता क्षमता का दोहन करना और स्वच्छ भारत मिशन-शहरी 2.0 के तहत उद्यम विकास के लिए एक सक्षम वातावरण को बढ़ावा देना है।

  • स्वच्छ प्रौद्योगिकी चैलेंज 6 दिसंबर 2021 से 15 जनवरी, 2022 तक निर्धारित है।
  • यह विशेष रूप से चार विषयगत श्रेणियों में समाधान की तलाश करेगा, अर्थात (i) सामाजिक समावेशन, (ii) शून्य ढेर (ठोस अपशिष्ट प्रबंधन) (zero dump), (iii) प्लास्टिक अपशिष्ट प्रबंधन और (iv) डिजिटल सक्षमता के माध्यम से पारदर्शिता।
  • देश भर से चार विषयगत श्रेणियों में से प्रत्येक में शीर्ष तीन समाधानों को सम्मानित किया जाएगा।
  • स्टार्ट-अप इकोसिस्टम को और अधिक प्रोत्साहित करने के लिए, आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय स्वच्छ प्रौद्योगिकी चैलेंज के विस्तार के रूप में जनवरी 2022 में एक 'स्वच्छता स्टार्ट-अप चैलेंज' भी शुरू करेगा।

आपदा प्रबंधन पर 5वीं विश्व कांग्रेस


रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 24 नवंबर, 2021 को 'आपदा प्रबंधन पर 5वीं विश्व कांग्रेस' का वर्चुअली उद्घाटन किया।

  • आपदा प्रबंधन पर 5वीं विश्व कांग्रेस (WCDM) का आयोजन नई दिल्ली में 24-27 नवंबर, 2021 के बीच IIT दिल्ली के परिसर में 'कोविड-19 के संदर्भ में आपदाओं के प्रति लचीलेपन के लिए प्रौद्योगिकी, वित्त और क्षमता' के व्यापक विषय पर किया गया।
  • यह 'डिजास्टर मैनेजमेंट इनिशिएटिव्स एंड कन्वर्जेंस सोसाइटी' (Disaster Management Initiatives and Convergence Society: DMICS) की एक पहल है, जिसका मुख्यालय हैदराबाद में है।
  • DMICS आपदा जोखिम प्रबंधन के विभिन्न चुनौतीपूर्ण मुद्दों पर चर्चा करने के लिए दुनिया भर के शोधकर्ताओं, नीति निर्माताओं और चिकित्सकों को एक ही मंच पर लाने का प्रयास करता है।
  • DMICS का उद्देश्य जोखिमों को कम करने और आपदाओं के प्रति लचीलेपन के लिए जोखिमों और अग्रिम कार्रवाई की समझ बढ़ाने के लिए विज्ञान, नीति और प्रथाओं हेतु संवाद को बढ़ावा देना है।

दवा क्षेत्र का प्रथम वैश्विक नवाचार शिखर सम्मेलन


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 18 नवंबर, 2021 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से दो दिवसीय ‘फार्मास्युटिकल या दवा क्षेत्र के प्रथम वैश्विक नवाचार शिखर सम्मेलन’ का उद्घाटन किया।

(Image Source: https://twitter.com/mygovassam)

  • यह एक विशिष्ट पहल है, जिसका उद्देश्य भारत के फार्मास्यूटिकल उद्योग में नवाचार के उत्कृष्ट परिवेश या माहौल को बढ़ावा देने हेतु विभिन्न प्राथमिकताओं पर चर्चा करने और रणनीति बनाने के लिए सरकार एवं उद्योग जगत के प्रमुख भारतीय व अंतरराष्ट्रीय हितधारकों, शिक्षाविदों, निवेशकों और शोधकर्ताओं को एक मंच पर लाना है।
  • इस शिखर सम्मेलन के दौरान भारतीय फार्मा या दवा उद्योग में उपलब्ध अवसरों पर भी प्रकाश डाला गया।
  • साथ ही नियामकीय माहौल, नवाचार का वित्त पोषण या धनराशि की व्यवस्था करने, उद्योग-अकादमिक सहयोग और नवाचार संबंधी बुनियादी ढांचागत सुविधाओं सहित कई विषयों पर भी विचार-विमर्श किया गया।

हिंद महासागर नौसेना संगोष्ठी – 2021


हिंद महासागर नौसेना संगोष्ठी (Indian Ocean Naval Symposium: IONS) के प्रमुखों के सम्मेलन के 7वें संस्करण की मेजबानी फ्रांसीसी नौसेना द्वारा पेरिस में 15-16 नवंबर, 2021 तक की जा रही है।

(Image Source: https://twitter.com/indiannavy)

  • प्रमुखों के सम्मेलन में IONS राष्ट्रों की नौसेनाओं के प्रमुख/ समुद्री एजेंसियों के प्रमुख भाग ले रहे हैं।
  • IONS संगोष्ठी का 7वां संस्करण 28 जून से 1 जुलाई, 2021 तक ले-रीयूनियन में कोविड प्रोटोकॉल के कारण हाइब्रिड प्रारूप में आयोजित किया गया था। संगोष्ठी के दौरान, पेरिस में मौजूदा प्रमुखों के सम्मेलन आयोजित करने पर सहमति हुई थी।
  • IONS की परिकल्पना भारतीय नौसेना द्वारा 2008 में एक ऐसे फोरम के रूप में की गई थी, जो क्षेत्रीय रूप से प्रासंगिक सामुद्रिक मुद्दों पर चर्चा के लिए एक खुला और समावेशी मंच प्रदान करके हिंद महासागर क्षेत्र के तटवर्ती देशों की नौसेनाओं के बीच समुद्री सहयोग को बढ़ाने का प्रयास करता है।
  • IONS का उद्घाटन संस्करण भारतीय नौसेना की दो साल की अध्यक्षता में फरवरी 2008 में नई दिल्ली में आयोजित किया गया था। वर्तमान में IONS की अध्यक्षता फ्रांस के पास है।

दुबई एयरशो


14 से 18 नवंबर, 2021 तक दुबई वर्ल्ड सेंट्रल के अल मकतूम अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर अब तक का सबसे बड़ा दुबई एयरशो आयोजित किया गया।

(Image Source: https://twitter.com/sarang_iaf/)

  • संयुक्त अरब अमीरात सरकार द्वारा निमंत्रण के बाद सारंग और सूर्यकिरण एरोबेटिक्स टीमों के साथ भारतीय वायु सेना (आईएएफ) दल ने भी दुबई एयर शो में भाग लिया।
  • इन टीमों ने दुनिया की कुछ बेहतरीन एरोबेटिक्स टीमों के साथ प्रदर्शन किया, जिनमें सऊदी हॉक्स (Saudi Hawks), रशियन नाइट्स (Russian Knights) और यूएई के अल फुरसान (Al Fursan) शामिल थे।

स्वच्छ हरित ग्राम सप्ताह


  • स्वतंत्रता दिवस के 75-सप्ताह लंबे उत्सव के हिस्से के रूप में, राज्यों / केंद्र-शासित प्रदेशों ने 29 अक्टूबर से 4 नवंबर, 2021 तक महात्मा गांधी नरेगा के तहत ‘स्वच्छ हरित ग्राम सप्ताह’ का आयोजन किया।
  • स्वच्छ हरित ग्राम सप्ताह के दौरान वर्मी कम्पोस्टिंग, अपशिष्ट पदार्थों के पुनर्चक्रण, अकार्बनिक कचरे के प्रसंस्करण और जल निकासी गड्ढों के निर्माण, वर्मी कम्पोस्टिंग, अपशिष्ट पदार्थों के दोबारा उपयोग, गैर-बायोडिग्रेडेबल कचरे के पुनर्चक्रण जैसी ‘वेस्ट टू वेल्थ’ पहलों पर ध्यान केन्द्रित किया गया।

आधार हैकाथॉन 2021


यूनिक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी ऑफ इंडिया (UIDAI) 28 से 31 अक्टूबर, 2021 तक युवा नवोन्मेषकों पर लक्षित 'आधार हैकथॉन 2021' नामक एक हैकथॉन की मेजबानी कर रहा है।

(Image Source: PIB)

  • हैकाथॉन में भारत के सभी इंजीनियरिंग कॉलेजों के छात्र प्रतिभाग कर सकते हैं। टीम के हिस्से के रूप में अधिकतम 5 सदस्य हो सकते हैं।
  • आधार हैकाथॉन 2021 दो विषयों पर आधारित है। पहला विषय "नामांकन और अपडेट" (Enrolment and Update) से संबंधित है, जो अनिवार्य रूप से निवासियों द्वारा अपना पता अपडेट करते समय सामना की जाने वाली कुछ वास्तविक चुनौतियों को कवर करता है।
  • हैकथॉन का दूसरा विषय यूआईडीएआई द्वारा पेश किए गए "पहचान और प्रमाणीकरण" समाधान से संबंधित है। इस विषय के तहत, UIDAI आधार संख्या या किसी भी जनसांख्यिकीय जानकारी को साझा किए बिना पहचान साबित करने के लिए अभिनव समाधान की तलाश रहा है।

फ्यूचर टेक 2021


इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय में राज्य मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने डिजिटल प्रौद्योगिकियों पर अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन और प्रदर्शनी - 'फ्यूचर टेक 2021' के उद्घाटन सत्र में हिस्सा लिया।

(Image Source: @FollowCII Twitter)

  • भारतीय उद्योग परिसंघ (CII) द्वारा 'फ्यूचर टेक 2021' का आयोजन 19 से 27 अक्टूबर, 2021 तक किया जा रहा है।
  • यह कार्यक्रम एक केंद्रित विषय "भविष्य के निर्माण के लिए प्रमुख वाहक तकनीक, हम सब भरोसा कर सकते हैं" के साथ 5 मुख्य विषयों: रणनीति, विकास, लचीलापन, समावेशिता, विश्वास पर आधारित है।
  • अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में उद्यमियों, उद्योग जगत की हस्तियों और सरकारी अधिकारियों के बीच डिजिटल प्रौद्योगिकियों के अनुप्रयोग पर चर्चा की जाएगी।

ग्लोबल सिटीजन लाइव


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 25 सितंबर, 2021 को ‘ग्लोबल सिटीजन लाइव’ (Global Citizen Live) कार्यक्रम को वीडियो के माध्यम से संबोधित किया।

(Image Source: globalcitizen.org)

  • ‘ग्लोबल सिटीजन’ एक वैश्विक संगठन है, जो 2030 तक अत्यधिक गरीबी को समाप्त करने की दिशा में काम कर रहा है।
  • ‘ग्लोबल सिटीजन लाइव’ एक 24 घंटे का कार्यक्रम था, जो 25 और 26 सितंबर को आयोजित किया गया और इसमें मुंबई, न्यूयॉर्क, पेरिस, रियो डि जेनेरो, सिडनी, लॉस एंजेलिस, लागोस और सियोल सहित प्रमुख शहरों में सजीव कार्यक्रम हुए।
  • इस वैश्विक कार्यक्रम का उद्देश्य ग्रह की रक्षा और गरीबी को समाप्त करने के लिए दुनिया को एकजुट करना था।
  • 'ग्लोबल सिटीजन लाइव' ग्लोबल सिटीजन के 2021 के वैश्विक अभियान, 'विश्व के लिए एक सुधार योजना' (Recovery Plan for the World) का हिस्सा है। सुधार योजना पांच प्रमुख उद्देश्यों पर केंद्रित है- सभी के लिए कोविड-19 को समाप्त करना, भुखमरी संकट को समाप्त करना, सभी के लिए शिक्षा को फिर से शुरू करना, ग्रह की रक्षा करना और सभी के लिए समानता को आगे बढ़ाना।

'सही पोषण-देश रोशन' अभियान


जनजातीय कार्य मंत्रालय द्वारा पोषण माह गतिविधियों के हिस्से के रूप में 9 सितंबर, 2021 को पोषण और स्वास्थ्य पर गैर-सरकारी संगठनों के लिए एक कार्यशाला का आयोजन किया गया।

  • कार्यशाला का उद्देश्य: जनजातीय कार्य मंत्रालय के साथ काम करने वाले गैर- सरकारी संगठनों को 'सही पोषण-देश रोशन' अभियान में शामिल करना।
  • कार्यशाला के दौरान गर्भावस्था, स्तनपान कराने वाली माताओं और उसके बाद के दौरान उचित पोषण की आवश्यकता पर प्रकाश डाला गया।

बुजुर्गों की बात - देश के साथ


  • केंद्रीय संस्कृति मंत्री जी.के. रेड्डी ने 7 सितंबर, 2021 को नई दिल्ली स्थित इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केन्द्र में 'बुजुर्गों की बात - देश के साथ' कार्यक्रम का शुभारंभ किया।
  • 'बुजुर्गों की बात-देश के साथ' कार्यक्रम का उद्देश्य युवाओं और उन बुजुर्गों के बीच संवाद को बढ़ाना है, जो 95 वर्ष और उससे अधिक उम्र के हैं और आजादी से पहले भारत में लगभग 18 साल बिता चुके हैं।
  • आदर्श रूप में, बातचीत का वीडियो 60 सेकेंड से कम होना चाहिए और इसे www.rashtragaan.in पर अपलोड किया जा सकता है।
  • केंद्रीय संस्कृति मंत्री ने डॉ. उत्पल के. बनर्जी द्वारा लिखित पुस्तक 'गीत गोविंद: जयदेव डिवाइन ओडिसी' (Gita Govinda :Jaydeva’s Divine Odyssey) का भी विमोचन किया।
  • इसके अलावा ‘गीत गोविन्द' पर एक प्रदर्शनी का शुभारंभ किया गया।
  • गीत गोविन्द मूल रूप से 12वीं शताब्दी के कवि जयदेव की रचना है।

मंथन 2021


‘पुलिस अनुसंधान एवं विकास ब्यूरो’ और ‘अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद’ ने 26 अगस्त, 2021 को नेशनल मीडिया सेंटर में 'मंथन 2021' का शुभारम्भ किया।

  • 'मंथन 2021' हमारी खुफिया एजेंसियों के सामने 21वीं सदी की सुरक्षा चुनौतियों का समाधान करने के लिए नवीन अवधारणाओं और प्रौद्योगिकी समाधानों की खोज करने के लिए एक विशिष्ट राष्ट्रीय हैकथॉन पहल है।
  • 28 नवंबर से 1 दिसंबर, 2021 तक होने वाली 36 घंटों की इस ऑनलाइन हैकाथन में देश भर के शैक्षणिक संस्थानों से चुने गए युवा और पंजीकृत स्टार्टअप्स भाग लेंगे।
  • मंथन मूल रूप से 6 विषय वस्तुओं पर केंद्रित है- छवि और वीडियो विश्लेषिकी (Image and Video Analytics), भावनाओं का विश्लेषण (Sentiment Analysis), नेचुरल लैंग्वेज प्रोसेसिंग (Natural Lang. Processing), डेटा विश्लेषण (Data Analytics), फेक कंटेंट की पहचान (Fake Content Detection) और साइबर अपराध (Cybercrime)।

'आयुष आपके द्वार' अभियान


केंद्रीय मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने 3 सितंबर, 2021 को मुंबई से 'आयुष आपके द्वार' अभियान की शुरुआत की।

  • आयुष मंत्रालय ने देश भर में 45 से अधिक स्थानों से ‘आयुष आपके द्वार’ अभियान शुरू किया है।
  • अभियान का उद्देश्य एक वर्ष में 75 लाख घरों में पौधारोपण के लिए औषधीय पौधे वितरित करना है।
  • इन औषधीय पौधों में तेजपत्ता, स्टीविया (Stevia), अशोक, गिलोय, अश्वगंधा, लेमनग्रास, तुलसी, सर्पगंधा और आंवला शामिल हैं।

किसानों के लिए ‘राष्ट्रीय खाद्य एवं पोषण अभियान’


  • केंद्रीय कृषि मंत्री ने 26 अगस्त, 2021 को किसानों के लिए ‘राष्ट्रीय खाद्य एवं पोषण अभियान’ का शुभारंभ किया।
  • इसका आयोजन भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद (आईसीएआर) ने किया है।
  • उद्देश्य: कृषि व किसानों को नई तकनीक से जोड़ना;
  • उत्पादन में महारत हासिल करना, उत्पाद गुणवत्तापूर्ण हो तथा वैश्विक मानकों पर खरे उतरें;
  • किसानों को महंगी फसलों की ओर आकर्षित करना;
  • कम रकबे( area)-कम सिंचाई में, पर्यावरण अनुकूल रहते हुए शिक्षित युवाओं को कृषि की ओर आकर्षित करना।
  • अन्य तथ्य: सरकर ने प्रधानमंत्री के नेतृत्व में कुपोषण की समस्या हल करने का संकल्प लिया है, साथ ही इस दिशा में अनेक योजनाएं व कार्यक्रम शुरू किये हैं।
  • वर्ष 2023 को भारत के नेतृत्व में पोषक-अनाज वर्ष मनाया जाएगा ।

माउंट मणिरंग


  • स्वतंत्रता के 75 साल के प्रतीक 'आजादी के अमृत महोत्सव' के लिए स्मरणीय गतिविधियों के अंतर्गत भारतीय वायु सेना ने 1 अगस्त, 21 को वायु सेना स्टेशन, नई दिल्ली से एक महिला त्रि-सेवा पर्वतारोहण दल को झंडी दिखाकर रवाना किया। टीम ने 15 अगस्त को ‘माउंट मणिरंग’ (Mount Manirang) पर सफलतापूर्वक पर्वतारोहण किया।
  • माउंट मणिरंग (21,625 फीट) हिमाचल प्रदेश की सबसे ऊंची चोटियों में से एक है, जो किन्नौर और स्पीति जिलों की सीमा पर स्थित है।
  • चोटी के करीब मणिरंग दर्रा है, जो वाहन चलाने योग्य सड़क बनने से पहले स्पीति और किन्नौर के बीच शुरुआती व्यापार मार्गों में से एक था।
  • 15 सदस्यीय अभियान दल का नेतृत्व भारतीय वायु सेना की विंग कमांडर भावना मेहरा ने किया।

री-इमेजिनिंग अर्बन रिवर


  • 19 अगस्त, 2021 को नमामि गंगे ने ‘नेशनल इंस्टीट्यूट फोर अर्बन अफेयर्स’ (NIUA) के साथ मिलकर आयोजित की गयी राष्ट्रीय स्तर की थीसिस प्रतियोगिता 'री-इमेजिनिंग अर्बन रिवर’ (Re-Imagining Urban Rivers) के विजेताओं की घोषणा की।
  • उद्देश्य: छात्रों की बौद्धिक क्षमता और रचनात्मकता का दोहन करना, ताकि वे शहरों से होकर बहने वाली नदियों और उनसे जुड़ी विशेषताओं के दृष्टिकोण तथा प्रबंधन की पुन: कल्पना कर सकें।
  • महत्वपूर्ण तथ्य: यह आयोजन नमामि गंगे और NIUA द्वारा सितंबर 2020 में देश के शहरों में नदी-संवेदनशील विकास को बढ़ावा देने के लिए कार्यान्वित की जा रही एक संयुक्त परियोजना के तहत किया गया था।
  • यह शहरी नदी के मुद्दों के समाधान की परिकल्पना और शोध की खातिर युवा मस्तिष्कों को जोड़ने के लिए अपनी तरह की पहली पहल है।
  • प्रतियोगिता के तीन विषय थे - जल निकायों और / या आर्द्रभूमि की पुन: कल्पना, पर्यावरण के अनुकूल रिवरफ्रंट परियोजनाओं का विकास और नदी पर्यटन को बढ़ावा देना।
  • अन्य तथ्य: प्रायोजित थीसिस परियोजना प्रतियोगिता का दूसरा संस्करण भी शुरू किया गया। इस वर्ष के विषय होंगे- 'नदी प्रदूषण को कम करना', 'जल निकायों का कायाकल्प', 'एक जीवंत नदी क्षेत्र बनाना', 'नदी से संबंधित अर्थव्यवस्था का निर्माण' और 'नदी प्रबंधन गतिविधियों में नागरिकों को शामिल करना'।

ऑपरेशन ब्लू फ्रीडम


  • केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री डॉ. वीरेंद्र कुमार ने 15 अगस्त, 2021 को 'ऑपरेशन ब्लू फ्रीडम' (Operation Blue Freedom) को हरी झंडी दिखाई।
  • 'ऑपरेशन ब्लू फ्रीडम', देश भर से जुटे शारीरिक रूप से अशक्त लोगों की एक टीम द्वारा दुनिया के सबसे ऊंचे युद्ध क्षेत्र - सियाचिन ग्लेशियर तक ट्रेकिंग करने का एक अभियान है।
  • सशस्त्र बलों के पूर्व कर्मियों की एक टीम, 'टीम क्लॉ' (Team CLAW) द्वारा प्रशिक्षित शारीरिक रूप से अशक्त लोगों की टीम ने कुमार चौकी (सियाचिन ग्लेशियर) (15,632 फीट की ऊँचाई) तक जाने का यह अभियान शुरू किया है, ताकि दिव्यांगों की इस सबसे बड़ी टीम के दुनिया के सबसे ऊंचे युद्ध क्षेत्र तक पहुंचने का एक नया विश्व रिकॉर्ड बनाया जा सके।
  • यह 'ऑपरेशन ब्लू फ्रीडम ट्रिपल वर्ल्ड रिकॉर्ड्स' के स्थलीय विश्व रिकॉर्ड अभियान का हिस्सा है।
  • यह अभियान सामाजिक न्याय अधिकारिता मंत्रालय के शारीरिक रूप से अशक्त लोगों की अपार उत्पादक क्षमता का दोहन करने के प्रयास के अनुरूप है।

वृक्षारोपण अभियान-2021


  • आजादी का अमृत महोत्सव समारोह के एक हिस्से के रूप में कोयला मंत्रालय का ‘वृक्षारोपण अभियान-2021’ 19 अगस्त, 2021 को आरंभ किया जाएगा।
  • कोयला मंत्रालय की कोयला/लिग्नाइट पीएसयू ने इस वर्ष के दौरान 'जैव सुधार/वृक्षारोपण' (bio-reclamation/plantation) के अंतर्गत 2,385 हेक्टेयर क्षेत्र को कवर करने के लिए ‘ग्रो ग्रीनिंग’ अभियान के तहत एक महत्वकांक्षी लक्ष्य निर्धारित किया है।
  • ‘वृक्षारोपण अभियान-2021’ से निश्चित रूप से खनन प्रचालनों में पर्यावरणीय निरंतरता आएगी तथा यह कोयला क्षेत्र को संचालित करने का सामाजिक और पर्यावरण संबंधी लाइसेंस प्राप्त करने में मदद करेगा।
  • खनन क्षेत्रों के आस-पास ‘ग्रो ग्रीनिंग’ अभियान एक प्रमुख पहल रहा है, जो न केवल स्थानीय वातावरण में सुधार ला रहा है, बल्कि जलवायु परिवर्तन के कारणों को कम करने के लिए अतिरिक्त कार्बन सिंक का भी निर्माण कर रहा है।

फिट इंडिया फ्रीडम रन 2.0


केंद्रीय युवा कार्यक्रम और खेल मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने 13 अगस्त 2021 को नई दिल्ली स्थित मेजर ध्यानचंद नेशनल स्टेडियम से आजादी का अमृत महोत्सव के हिस्से के रूप में ‘फिट इंडिया फ्रीडम रन 2.0’ (Fit India Freedom Run 2.0) के राष्ट्रव्यापी कार्यक्रम का शुभारंभ किया।

अभियान का उद्देश्य: लोगों को दैनिक जीवन में दौड़ने और खेलकूद जैसी फिटनेस गतिविधियों को अपनाने और मोटापा, तनाव, चिंता और अन्य बीमारियों आदि से मुक्ति पाने के लिए प्रोत्साहित करना।

  • प्रत्येक सप्ताह 75 जिलों और प्रत्येक जिले के 75 गांवों में 2 अक्टूबर, 2021 तक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। इस प्रकार, फिट इंडिया फ्रीडम रन 744 जिलों में, 744 जिलों के प्रत्येक जिले में 75 गांवों और देश भर के 30,000 शैक्षणिक संस्थानों में आयोजित की जाएंगी।
  • इस अभियान के माध्यम से नागरिकों को प्रतिदिन कम से कम 30 मिनट की शारीरिक गतिविधि को अपने जीवन में शामिल करने का संकल्प "फिटनेस की डोज-आधा घंटा रोज" लेने का आह्वान किया जाएगा।
  • 'फिट इंडिया फ्रीडम रन' की कल्पना पिछले साल कोविड-19 महामारी के मद्देनजर की गई थी। अभियान का पहला संस्करण 15 अगस्त से 2 अक्टूबर, 2020 तक आयोजित किया गया था।

शंघाई सहयोग संगठन की 8वीं न्याय मंत्री बैठक


6 अगस्त, 2021 को शंघाई सहयोग संगठन की 8वीं न्याय मंत्री बैठक को संबोधित करते हुए केन्द्रीय कानून और न्याय मंत्री किरेन रिजिजू ने न्याय तक किफायती और आसान पहुंच प्रदान करने के लिए भारत सरकार द्वारा की गई पहलों पर प्रकाश डाला।

  • ‘भ्रष्टाचार के खिलाफ संयुक्त राष्ट्र अभिसमय’ (United Nations Convention against Corruption) के अनुपालन के लिए भारत द्वारा किए गए विधायी और कार्यकारी उपायों से मंत्री ने बैठक को अवगत कराया और सरकार द्वारा वैकल्पिक विवाद समाधान के माध्यम से विवादों को हल करने तथा वाणिज्यिक न्यायालय अधिनियम और मध्यस्थता कानूनों सहित व्यवसाय को सुविधाजनक बनाने वाले कानूनों और नियमों को लागू करने को दी गयी उच्च प्राथमिकता को रेखांकित किया।
  • उन्होंने ई-लोक अदालत को लॉन्च करने की भी जानकारी दी, जो विवादों के समाधान के लिए एक प्रभावी उपकरण है। इसके तहत प्रौद्योगिकी और वैकल्पिक विवाद समाधान (एडीआर) तंत्र का संयोजन किया गया है,जो देश के नागरिकों को एक तेज, पारदर्शी और सुलभ विकल्प प्रदान करता है।

डिजिटल सर्वोत्तम अभ्यास पर राष्ट्रीय सम्मेलन और पूर्वोत्तर राज्यों का शिखर सम्मेलन


सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय के दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग के तहत ऑटिज्म (autism), सेरेब्रल पाल्सी, मानसिक मंदता और बहु-विकलांगता से पीड़ित व्यक्तियों के कल्याण के लिए राष्ट्रीय न्यास ने 7 अगस्त, 2021 को नई दिल्ली के डॉ. अम्बेडकर इंटरनेशनल सेंटर में ‘डिजिटल सर्वोत्तम अभ्यास पर राष्ट्रीय सम्मेलन और पूर्वोत्तर राज्यों का शिखर सम्मेलन’ आयोजित किया।

उद्देश्य: बौद्धिक और विकासात्मक दिव्यांगजनों को डिजिटल प्रौद्योगिकी से सशक्त बनाना और इस क्षेत्र में राष्ट्रीय न्यास की योजनाओं और गतिविधियों की संख्या में वृद्धि करना।

  • देश के उत्तर पूर्व क्षेत्र में सात राज्यों के लिए यह अपनी तरह का पहला शिखर सम्मेलन था।
  • सात पूर्वोत्तर राज्यों के प्रतिनिधियों ने इस बात पर प्रकाश डाला कि सरकार की योजनाओं के अभिसरण की व्यापक रूप से आवश्यकता है।
  • उत्तर पूर्व की ग्रामीण आबादी तक पहुंचने के लिए महिला और बाल विकास मंत्रालय की आंगनबाड़ियों को राष्ट्रीय न्यास के ‘दिशा प्रारंभिक हस्तक्षेप केंद्रों’ के साथ सहयोग करने की आवश्यकता है।

रेंज प्रौद्योगिकी पर दूसरा इंस्टीट्यूट ऑफ इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियर्स अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन 2021’


रेंज प्रौद्योगिकी पर दूसरा इंस्टीट्यूट ऑफ इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियर्स अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन 2021’ (IEEE ICORT-2021) वर्चुअल रूप से 5-6 अगस्त, 2021 को आयोजित किया गया।

  • सम्मेलन का उद्देश्य: विशेष रूप से रेंज प्रौद्योगिकी में नवाचारों, सर्वोत्तम प्रथाओं और उभरते रुझानों का आदान-प्रदान करने के लिए और सामान्य रूप से प्रासंगिक इंजीनियरिंग और विज्ञान विषयों में प्रतिभाशाली वैज्ञानिकों और शोधकर्ताओं के लिए संवाद के लिए एक अनुकूल प्लेटफॉर्म प्रदान करना।
  • सम्मेलन का आयोजन रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) के तहत चांदीपुर स्थित एकीकृत परीक्षण रेंज (ITR) प्रयोगशाला द्वारा किया गया।
  • IEEE ICORT विशेष रूप से दुनिया भर में रक्षा प्रणालियों के परीक्षण और रेंज प्रौद्योगिकी के क्षेत्रों में काम करने वाले टेस्ट रेंज पेशेवरों, सहयोगियों और वैज्ञानिकों और शोधों के लिए आयोजित किया जाता है।
  • द्विवार्षिक रूप से आयोजित इस अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन पहली बार ITR द्वारा 2019 में किया गया था।
  • ओडिशा के बालासौर में बंगाल की खाड़ी के तट पर एकीकृत परीक्षण रेंज, चांदीपुर की स्थापना वर्ष 1982 में की गई थी।

सारंग हेलीकाप्टर प्रदर्शन टीम


भारतीय वायुसेना की ‘सारंग हेलीकाप्टर प्रदर्शन टीम’ (Sarang Helicopter Display Team) रूस के जुकोवस्की अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे में पहली बार ‘माक्स अंतरराष्ट्रीय एयर शो’ (MAKS International Air Show) में प्रदर्शन कर रही है।

  • इस द्विवार्षिक एयर शो का आयोजन 20 से 25 जुलाई, 2021 तक किया जा रहा है।
  • यह पहला अवसर है जब सारंग टीम अपने मेड इन इंडिया ‘ध्रुव’ उन्नत हल्के हेलीकॉप्टर के साथ रूस में चार हवाई करतब दिखाएगी।
  • सारंग: इस टीम का निर्माण 2003 में बेंगलुरू में हुआ था और इसका पहला अंतरराष्ट्रीय प्रदर्शन 2004 में सिंगापुर में एशियन एयरोस्पेस एयर शो में हुआ था।
  • उसके बाद से सारंग ने अभी तक संयुक्त अरब अमीरात, जर्मनी, ब्रिटेन, बहरीन, मॉरीशस तथा श्रीलंका में एयर शो तथा औपचारिक अवसरों पर भारतीय उड्डयन का प्रतिनिधित्व किया है।
  • इसके अलावा इस टीम ने उत्तराखंड में ‘ऑपरेशन राहत’ (2013), केरल में ओखी तूफान (2017) तथा केरल में ‘ऑपरेशन करूणा’ बाढ़ राहत (2018) जैसे अनगिनत मानवीय सहायता और आपदा राहत मिशनों में सक्रिय रूप से हिस्सा लिया है।

ब्रिक्स पर्यटन मंत्रियों की बैठक


पर्यटन मंत्री जी. किशन रेड्डी ने भारत की ब्रिक्स अध्यक्षता के हिस्से के रूप में 13 जुलाई, 2021 को 'ब्रिक्स पर्यटन मंत्रियों की बैठक' की अध्यक्षता की। बैठक में 'अंतर ब्रिक्स पर्यटन सहयोग' (intra BRICS Tourism cooperation) की समीक्षा की गई।

उद्देश्य: ब्रिक्स देशों के बीच पर्यटन सहयोग को बढ़ावा देने के प्रभावी तरीके विकसित करना।

  • बैठक में जिम्मेदार और दीर्घकालिक पर्यटन को बढ़ावा देने, पर्यटन बुनियादी ढांचे में निवेश, पर्यटन उद्यमों के बीच घनिष्ठ संपर्क और मानव संसाधन विकास के क्षेत्रों में पर्यटन में सहयोग को मजबूत करने के महत्व पर प्रकाश डाला गया।

हरित पर्यटन के लिए ब्रिक्स गठबंधन: भविष्य के लिए पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए, यह माना गया कि 'हरित पर्यटन के लिए ब्रिक्स गठबंधन' (BRICS alliance for Green Tourism) स्थायी रूप से पर्यटन उद्योग में तेजी ला सकता है।

  • इस गठबंधन के कुछ प्रमुख घटक पर्यटन क्षेत्र की नीतियों, संरक्षण प्रयासों, सतत विकास लक्ष्यों में स्थिरता को मुख्यधारा में लाना; ऊर्जा के नवीकरणीय स्रोत की ओर बदलाव; और हरित पर्यटन के लिए संरक्षण के प्रयास हैं, जो प्रकृति आधारित समाधानों में निवेश को प्रोत्साहित करेंगे और नाजुक पारिस्थितिकी प्रणालियों का समर्थन करेंगे।

को-विन ग्लोबल कॉन्क्लेव


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 5 जुलाई, 2021 'को-विन ग्लोबल कॉन्क्लेव' (Co-WIN Global Conclave) का उद्घाटन किया।

उद्देश्य: एक डिजिटल सार्वजनिक हित के रूप में को-विन प्लेटफॉर्म को विश्व के सामने प्रस्तुत करना।

  • ग्लोबल कॉन्क्लेव का आयोजन स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय, विदेश मंत्रालय और राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण द्वारा संयुक्त रूप से किया गया था।
  • स्वदेशी रूप से विकसित को-विन प्लेटफॉर्म को 142 देशों के प्रौद्योगिकी एवं स्वास्थ्य विशेषज्ञों के सामने प्रस्तुत किया गया।
  • कोविन प्लेटफॉर्म को सभी देशों के लिए उपलब्ध होने वाला ओपन सोर्स बनाया जा रहा है।
  • ‘एक धरती, एक स्वास्थ्य’ ('One Earth, One Health): प्रधानमंत्री ने भारत की मानवीय नीति के मार्गदर्शी सिद्धांत की व्याख्या की।
  • को-विन प्लेटफार्म कोविड-19 के खिलाफ विश्व के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान को कार्यान्वित करने के लिए भारत में अग्रणी आईटी विशेषज्ञों द्वारा विकसित दुनिया में अपनी तरह का पहला सॉफ्टवेयर/ऐप है।

बाढ़ प्रबंधन


केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने 15 जून, 2021 को बाढ़ प्रबंधन पर नई दिल्ली में एक उच्चस्तरीय बैठक की।

  • जल शक्ति मंत्रालय को बड़े बांधों से मिट्टी निकालने के लिए एक व्यवस्था बनाने का सुझाव दिया गया, जिससे बांधों की क्षमता बढ़ाने और बाढ़ नियंत्रण में मदद मिल सकेगी।
  • गृह मंत्री ने बिजली गिरने संबंधी भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की चेतावनी को विभिन्न माध्यमों से जनता तक शीघ्र पंहुचाने के लिए तुरंत एक SOP तैयार करने का निर्देश दिया।
  • भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के मौसम भविष्यवाणी संबंधी विभिन्न मोबाइल ऐप जैसे -‘उमंग’, ‘रेन अलार्म’ और ‘दामिनी’ का अधिकतम प्रचार करने का भी निर्देश दिया।
  • ‘दामिनी’ ऐप के माध्यम से 3 घंटे पहले बिजली गिरने संबंधी चेतावनी दी जाती है ताकि जान माल का कम से कम नुकसान हो।

विवा टेक


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 16 जून, 2021 को ‘विवा टेक’ (VivaTech) आयोजन में बतौर अतिथि मुख्य भाषण दिया। विवाटेक का 5वां संस्करण 16-19 जून 2021 को आयोजित किया गया।

  • प्रधानमंत्री ने पांच स्तंभों- प्रतिभा, बाजार, पूंजी, इकोसिस्टम और खुलेपन की संस्कृति के आधार पर भारत में निवेश के लिए दुनिया को आमंत्रित किया।
  • विवा टेक यूरोप में सबसे बड़े डिजिटल और स्टार्टअप आयोजनों में एक है। इसका आयोजन 2016से हर वर्ष पेरिस में संयुक्त रूप से एक प्रमुख विज्ञापन और विपणन समूह ‘पब्लिसिज ग्रुप’ (Publicis Groupe) और अग्रणी फ्रांसीसी मीडिया समूह लेस इकोस (Les Echos) द्वारा किया जाता है।
  • यह प्रौद्योगिकी नवाचार और स्टार्टअप इकोसिस्टम के हितधारकों को एक साथ लाता है। इस आयोजन में प्रदर्शनियां, पुरस्कार, पैनल चर्चा और स्टार्टअप प्रतियोगिताएं शामिल की जाती हैं।

पहला एकल महिला मोटरसाइकिल अभियान


सीमा सड़क संगठन (BRO) ने पहले ‘एकल महिला मोटरसाइकिल अभियान’ का आयोजन किया, जिसे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 11 जून, 2021 को बीआरओ मुख्यालय, नई दिल्ली से झंडी दिखाकर रवाना किया।

  • इस अभियान में 29 वर्षीया कंचन उगुरसांडी अकेले हिस्सा ले रही हैं। इस अभियान के तहत वे 24 दिनों में 3,187 किलोमीटर की दूरी तय करेंगी। इस दौरान वे उमलिंग ला दर्रे (Umling La) को पार करेंगी। अभियान का रूट नई दिल्ली-मनाली-लेह-उमलिंग ला दर्रा-नई दिल्ली है। उमलिंग ला:सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) ने जम्मू-कश्मीर के लद्दाख क्षेत्र में 19,300 फीट से अधिक की ऊंचाई पर उमलिंग ला से गुजरते हुए दुनिया की सबसे ऊंची मोटर योग्य सड़क का निर्माण किया है।
  • इस सड़क का निर्माण बीआरओ के 'प्रोजेक्ट हिमांक' (Project Himank) के तहत किया गया है। यह सड़क लेह से 230 किमी दूर हानले के पास है।
  • उमलिंग ला दर्रे से गुजरने वाली सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण यह 86 किलोमीटर लंबी सड़क चिसुमले (Chisumle) और डेमचोक (Demchok) गांवों को जोड़ती है।

भारतीय हस्तशिल्प और उपहार मेला, दिल्ली का 51वां संस्करण


‘भारतीय हस्तशिल्प और उपहार मेला, दिल्ली का 51वां संस्करण’ (51st edition of Indian Handicrafts & Gift Fair Delhi) वर्चुअल रूप से 19 से 23 मई, 2021 तक आयोजित किया गया।

  • यह एशिया के सबसे बड़े हस्तशिल्प और उपहार मेले में से एक है, जो हर साल दो बार (वसंत और शरद ऋतु संस्करण) ‘हस्तशिल्प निर्यात संवर्धन परिषद’ (Export Promotion Council for Handicrafts- EPCH) द्वारा आयोजित किया जाता है।
  • 2021 का 51वां संस्करण होम, फैशन, लाइफस्टाइल, टेक्सटाइल्स और फर्नीचर क्षेत्र में भारत का सबसे बड़ा वर्चुअल मेला था।
  • EPCHद्वारा आयोजित मेले में 1500 से अधिक निर्माताओं और निर्यातकों की भागीदारी रही, जिन्होंने 2000 से अधिक उत्पाद का प्रदर्शन करेंगे।
  • हस्तशिल्प निर्यात संवर्धन परिषद (EPCH) की स्थापना कंपनी अधिनियम के तहत वर्ष 1986-87 में की गई थी। यह एक गैर-लाभकारी संगठन है, जिसका उद्देश्य हस्तशिल्प के निर्यात को बढ़ावा देना, समर्थन करना, सुरक्षा करना, बनाए रखना और वृद्धि करना है।

गोवा समुद्री संगोष्ठी 2021


  • अपने समुद्री पड़ोसियों के साथ मैत्रीपूर्ण संबंधों को बढ़ावा देने की दिशा में भारतीय नौसेना ने 11- 12 मई 2021 को गोवा के नेवल वॉर कॉलेज के तत्वावधान में 'गोवा समुद्री संगोष्ठी 2021’ (GOA MARITIME SYMPOSIUM 2021) की मेजबानी की।
  • संगोष्ठी का विषय: ‘समुद्री सुरक्षा और उभरते गैर-पारंपरिक खतरे: हिन्द महासागर क्षेत्र में स्थित नौसेनाओं हेतु सक्रिय भूमिका निभाने वाले हालात’ (Maritime Security and Emerging Non-Traditional Threats: A Case for Proactive Role for IOR Navies)।
  • वर्चुअल मोड में आयोजित संगोष्ठी में तटवर्ती हिंद महासागर के 13 देशों की नौसेना प्रतिनिधियों ने ऑनलाइन भागीदारी थी।
  • कार्यक्रम में भारत, बांग्लादेश, कोमोरोस, इंडोनेशिया, मेडागास्कर, मलेशिया, मालदीव, मॉरीशस, म्यांमार, सेशेल्स, सिंगापुर, श्रीलंका एवं थाईलैंड शामिल थे।
  • संगोष्ठी में उभरते साझा समुद्री खतरों से निपटने के लिए हिंद महासागर क्षेत्र की नौसेनाओं के बीच क्षमता निर्माण पर जोर दिया गया था।

हाइड्रोजन अर्थव्यवस्था नई दिल्ली संवाद- 2021


पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय के अंतर्गत द एनर्जी फोरम (टीईएफ) और फेडरेशन ऑफ इंडियन पेट्रोलियम इंडस्ट्री (FIPI) ने 15 अप्रैल, 2021 को वर्चुअल माध्यम से 'हाइड्रोजन अर्थव्यवस्था भारतीय संवाद-2021' विषय के साथ हाइड्रोजन गोलमेज सम्मेलन का आयोजन किया।

उद्देश्य: विश्व के महाद्वीपों पर मौजूद हाइड्रोजन की वर्तमान पारिस्थितिकी की प्रगति को समझना और थिंक टैंक, सरकारों तथा उद्योग जगत के लिए एक ऐसा मंच उपलब्ध कराना, जहां सभी पक्ष एक साथ आ सकें और सस्ती तथा टिकाऊ प्रौद्योगिकी विकसित करने के अभियान से जुड़ सकें।

  • केंद्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय के अनुसार भारत हाइड्रोजन इकोसिस्टम विकसित करने की प्रक्रिया शुरू करने के लिए काम कर रहा है।
  • भारत सरकार ने देश में हाइड्रोजन रोडमैप तैयार करने के लिए केंद्रीय बजट 2021 में राष्ट्रीय हाइड्रोजन मिशन की घोषणा की है।

11वां इंडिया केम-2021


रसायन एवं उर्वरक मंत्री डी.वी सदानंद गौड़ा ने 17 मार्च, 2021 को ‘11वें इंडिया केम-2021’ (11th edition of India Chem-2021) का उद्घाटन किया।

विषय: 'भारत: रसायन और पेट्रोकेमिकल्स के लिए वैश्विक विनिर्माण केंद्र' (India: Global Manufacturing Hub for Chemicals and Petrochemicals)।

उद्देश्य: भारत को एक वैश्विक विनिर्माण केंद्र में परिवर्तित करने हेतु भारतीय रसायन और पेट्रो-केमिकल उद्योग में विशेष रूप से पेट्रोलियम, रासायनिक और पेट्रो-केमिकल निवेश क्षेत्र में निवेश क्षमता को उजागर करना।

  • इंडिया केम एशिया-प्रशांत क्षेत्र में रासायनिक और पेट्रोकेमिकल क्षेत्र के सबसे वृहद आयोजनों में से एक है। फिक्की के सहयोग से रसायन एवं पेट्रो-रसायन विभाग ने 17 से 19 मार्च, 2021 तक नई दिल्ली में 11वें इंडिया केम- 2021 का आयोजन किया।

आजादी का अमृत महोत्सव


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 12 मार्च, 2021 को अहमदाबाद के साबरमती आश्रम से 386 किमी. की ‘दांडी पदयात्रा’ (स्वतंत्रता मार्च) को झंडी दिखाई तथा ‘आजादी का अमृत महोत्सव’India@75 के पूर्वावलोकन कार्यकलापों का उद्घाटन किया। यह पदयात्रा 25 दिनों के बाद 5 अप्रैल को समाप्त होगी।

  • 75 वर्षों के समारोह के लिए पांच स्तंभों का निर्णय लिया गया है। ये हैं- स्वतंत्रता संग्राम, 75 पर विचार, 75 पर उपलब्धियां, 75 पर कदम तथा 75 पर संकल्प।
  • ज्ञात हो कि भारत की स्वतंत्रता के 75 वर्षों का जश्न मनाने के लिए 5 मार्च, 2021 को प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में एक उच्च स्तरीय समिति का गठन किया गया।
  • प्रधानमंत्री के नेतृत्व में 259 सदस्यों की इस राष्ट्रीय समिति में समाज के सभी क्षेत्रों के गणमान्य व्यक्ति और नागरिक शामिल हैं।
  • यह समिति भारत की स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में आयोजित होने वाले महोत्सव के लिए राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कार्यक्रम संबंधी नीतिगत निर्देश एवं मार्गदर्शन प्रदान करेगी।
  • भारत सरकार ने 15 अगस्त, 2022 को भारत की स्वतंत्रता के 75 वर्षों के महोत्सव को राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के रूप में मनाने का फैसला किया है।

ग्लोबल बायो-इंडिया 2021


1 से 3 मार्च‚ 2021 तक दूसरा ग्लोबल बायो-इंडिया 2021 (Global Bio India 2021) वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से आयोजित किया गया।

विषय: ‘बदलती जिंदगियां’ (Transforming lives)।

इस कार्यक्रम की टैग लाइन: ‘जैव विज्ञान से जैव अर्थव्यवस्था’ (Biosciences to Bio-economy)।

  • ग्लोबल बायो-इंडिया‚ जैव प्रौद्योगिकी पक्षधारकों के सबसे बड़े संगठनों में से एक है। ग्लोबल बायो-इंडिया‚ 2021 में 50 से ज्यादा देशों के 6000 प्रतिनिधि शामिल हुए।
  • यह कार्यक्रम जैव प्रौद्योगिकी विभाग‚ विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय‚ भारत सरकार और उसके सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम‚ जैव प्रौद्योगिकी उद्योग अनुसंधान सहायता परिषद (BIRAC) द्वारा भारतीय उद्योग परिसंघ (CII), एसोसिएशन ऑफ बायोटेक्नोलॉजी लेड एंटरप्राइजेस (ABLE) और इन्वेस्ट इंडिया के साथ भागीदारी में आयोजित किया गया।
  • जैव प्रौद्योगिकी क्षेत्र भारतीय अर्थव्यवस्था के अभिन्न अंग के रूप में उभरा है और भारत सरकार 2025 तक 150 अरब डॉलर की जैव अर्थव्यवस्था के निर्माण के लिए एक परिवर्तनकारी और उत्प्रेरक की भूमिका निभा रही है।
  • पहला ग्लोबल बायो-इंडिया 2019 में नई दिल्ली में आयोजित किया गया था।

पहला आसियान-भारत हैकाथॉन 2021


5 फरवरी, 2021 को ‘पहला आसियान-भारत हैकाथॉन 2021’ (1st ASEAN-India Hackathon 2021) सम्पन्न हुआ।

लक्ष्य: भारत और आसियान देशों के बीच विज्ञान, प्रौद्योगिकी और शिक्षा के क्षेत्र में सहयोग को बढ़ाना।

  • नीली अर्थव्यवस्था और शिक्षा के दो व्यापक विषयों के मामले में सामने आने वाली चुनौतियों से निपटने के लिए अभिनव समाधान प्रदान करने की इस अनूठी पहल में भारत के साथ-साथ सभी 10 आसियान देशों के छात्रों की टीमों ने भाग लिया।
  • शिक्षा मंत्रालय के नवाचार प्रकोष्ठ और अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद ने विदेश मंत्रालय और आसियान देशों के सहयोग से आसियान-भारत हैकाथॉन का आयोजन किया।

8वां भारतीय अंतरराष्ट्रीय सिल्क मेला


केंद्रीय महिला एवं बाल विकास और कपड़ा मंत्री श्रीमती स्मृति जुबिन ईरानी ने 31 जनवरी, 2021 को 8वें भारतीय अंतरराष्ट्रीय सिल्क मेले का उद्घाटन किया।


  • यह मेला भारत का सबसे बड़ा रेशम मेला माना जाता है। इसे कपड़ा मंत्रालय के तत्वावधान में भारतीय रेशम निर्यात संवर्धन परिषद द्वारा वर्चुअल प्लेटफॉर्म पर 31 जनवरी से 4 फरवरी, 2021 तक आयोजित किया गया। इस मेले को वाणिज्य विभाग ने प्रायोजित किया।
  • भारत रेशम का दूसरा सबसे बड़ा उत्पादक देश है। भारत दुनिया का एकमात्र देश है जो रेशम सभी चार प्रमुख किस्मोंमुलबरी, एरी, टसर, और मुगा का उत्पादन करता है।

हिंद महासागर क्षेत्र के रक्षा मंत्रियों का सम्मेलन


भारत द्वारा 4 फरवरी, 2021 को एयरो इंडिया 2021 की पृष्ठभूमि में ‘हिंद महासागर क्षेत्र के रक्षा मंत्रियों का सम्मेलन’ (Indian Ocean Region Defence Ministers’ Conclave) आयोजित किया गया।

सम्मेलन का विषय: हिंद महासागर में शांति, सुरक्षा और सहयोग में वृद्धि।

  • यह सम्मेलन एक पहल है, जो संस्थागत, आर्थिक और सहकारी वातावरण में बातचीत को बढ़ावा देने का प्रयास है। सम्मेलन में हिंद महासागर क्षेत्र के 28 में से 26 देशों ने भाग लिया था।
  • यह सम्मेलन हिंद महासागर क्षेत्र के देशों को हिंद महासागर क्षेत्र में शांति, स्थिरता और समृद्धि के विकास को बढ़ावा देने में मदद करता है।

सम्मेलन का उद्देश्य: हिन्द महासागर क्षेत्र के देशों के बीच रक्षा उद्योग सहयोग; समुद्री निगरानी और सहयोग; डिजाइन और जहाज निर्माणके लिए भारतीय रक्षा शिपयार्ड में उपलब्ध संसाधनों को साझा करना; मित्र राष्ट्रों के साथ भारतीय बंदरगाहों को साझा करना; समुद्री डोमेन में जागरूकता बढ़ाने के लिए सूचना साझा करना; मानवीय सहायता और आपदा राहत; समुद्री संसाधनों के दोहन के लिए प्रौद्योगिकियों और क्षमताओं का विकास तथा समुद्री प्रदूषण के विरुद्ध प्रतिक्रिया।

विश्व सतत विकास शिखर सम्मेलन 2021


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 10 फरवरी, 2021 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से विश्व सतत विकास शिखर सम्मेलन 2021 का उद्घाटन किया।

शिखरसम्मेलन का विषय: 'हमारे सामान्य भविष्य को पुनर्परिभाषित करना: सभी के लिए सुरक्षित एवं संरक्षित वातावरण' (Redefining Our Common Future: Safe and Secure Environment for All)।

  • ऊर्जा और संसाधन संस्थान (The Energy and Resources Institute’s-TERI) के प्रमुख कार्यक्रम विश्व सतत विकास शिखर सम्मेलन का 20वां संस्करण 10 से 12 फरवरी, 2021 तक ऑनलाइन माध्यम से आयोजित किया गया।
  • सम्मेलन के दौरान प्रमुख विषयों जलवायु परिवर्तन, ऊर्जा एवं उद्योग परिवर्तन, अनुकूलन तथा लचीलापन, प्रकृति आधारित समाधान, जलवायु वित्त, चक्रीय अर्थव्यवस्था, स्वच्छ महासागर और वायु प्रदूषण पर चर्चा की गई।

11वां भारत-यूरोपीय संघ मैक्रो-इकॉनमिक संवाद


19 फरवरी, 2021 को अर्थव्यवस्था के विभिन्न पहलुओं को लेकर ‘11वां भारत-यूरोपीय संघ मैक्रो-इकॉनमिक संवाद’ (11th India-EU Macroeconomic dialogue) वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित हुआ। आर्थिक मामलों के सचिव तरुण बजाज ने भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व किया।

  • संवाद में दोनों पक्षों ने अपने अनुभवों को साझा किया, इसके तहत वित्तीय मामले, जी-20 के फ्रेमवर्क के कार्यकारी समहू के कार्य, जी-20 कार्य-योजना, कर्ज संबंधित मुद्दे और डिजिटल अर्थव्यवस्था में अंतरराष्ट्रीय कर प्रणाली पर भी चर्चा की गई।
  • भारत-यूरोपीय संघ संबंध एक बहुपक्षीय साझेदारी के रूप में विकसित हुए हैं, जिसमें राजनीतिक, आर्थिक, सुरक्षा, व्यापार और निवेश, पर्यावरण, अनुसंधान और नवोन्मेष जैसे सभी आयाम शामिल हैं।
  • यूरोपीय संघ, भारत के सबसे बड़े व्यापारिक साझेदारों में से एक है। वह भारत में सबसे बड़े निवेशकों में से एक है तथा प्रौद्योगिकी, नवोन्मेष और सर्वोत्तम कार्य-प्रथाओं के लिए एक महत्वपूर्ण स्रोत है।

दूसरा सीसीटीएनएस हैकाथॉन और साइबर चैलेंज 2020-21


3 फरवरी, 2021 को राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (NCRB) के ‘दूसरे सीसीटीएनएस हैकाथॉन और साइबर चैलेंज 2020-21’ (2nd CCTNS Hackathon and Cyber Challenge 2020-21) का उद्घाटन समारोह नई दिल्ली में आयोजित किया गया।

उद्देश्य: पुलिस कर्मियों के विश्लेषण और समझ को बढ़ाना तथा उसे गहरा करना।

  • यह हैकाथॉन मार्च 2020 में समाप्त हुई हैकाथॉन और साइबर चैलेंज की निरंतरता में है।
  • इस अवसर पर मोबाइल ऐप 'लोकेट नीयरेस्ट पुलिस स्टेशन' (Locate Nearest Police Station) भी लॉन्च किया गया।
  • इस ऐप के माध्यम से महिला यात्रियों, अंतरराज्यीय यात्रियों, घरेलू और विदेशी पर्यटकों सहित विभिन्न उपयोगकर्ताओं को विशेष रूप से किसी भी आपात स्थिति के दौरान मदद मिलेगी और 112 डायल करने की सुविधा होगी।

पराक्रम दिवस


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 23 जनवरी, 2021 को नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती के अवसर कोलकाता में विक्टोरिया मेमोरियल में ‘पराक्रम दिवस’ के उद्घाटन समारोह की अध्यक्षता की।

  • इस अवसर पर नेताजी पर एक स्थायी प्रदर्शनी और एक प्रोजेक्शन मैपिंग शो का उद्घाटन किया गया।
  • प्रधानमंत्री द्वारा एक स्मारक सिक्का और डाक टिकट जारी किया गया। इसके साथ ही नेताजी पर आधारित एक सांस्कृतिक कार्यक्रम ‘आमरा नूतोन जोउबोनेरी दूत’ का भी आयोजन किया गया।
  • केंद्र सरकार ने नेताजी के अदम्य साहस और राष्ट्र की निःस्वार्थ सेवा को सम्मान देने और याद करने के क्रम में नेताजी की जयंती 23 जनवरी को हर साल ‘पराक्रम दिवस’ के रूप में मनाने का फैसला किया है।

राष्ट्रीय युवा महोत्सव 2021


इसका आयोजन हर वर्ष 12 से 16 जनवरी को किया जाता है। 12 जनवरी को स्वामी विवेकानंद की जयंती है, जिसे राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में मनाया जाता है।

महोत्सव का विषय: युवा – उत्साह नये भारत का।

उद्देश्य: देश के युवाओं को अपनी प्रतिभा का परिचय देने के लिए एक साथ एक मंच पर लाना है; जहां एक लघु भारत का निर्माण करते हुए युवा औपचारिक और अनौपचारिक रूप से अपनी सामाजिक और सांस्कृतिक विशिष्टता पर विचारों का आदान-प्रदान करते हैं।

  • 24वां राष्ट्रीय युवा महोत्सव वर्चुअल माध्यम में आयोजित किया गया। यह महोत्सव युवा मामलों और खेल मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा किसी एक राज्य सरकार के सहयोग से आयोजित किया जाता है।

एमएएससीआरएडीई 2021


केन्द्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने 21जनवरी, 2021 को 'फिक्की कास्केड' (FICCI Cascade) द्वारा 'तस्करी किए गए और फर्जी व्यापार के खिलाफ आंदोलन' विषय पर आयोजित 'एमएएससीआरएडीई 2021' (MASCRADE 2021) के 7वें संस्करण का उद्घाटन किया।

उद्देश्य: विशेष रूप से कोविड युग के बाद जालसाजी और तस्करी की चुनौतियों को कम करने के लिए नई और व्यावहारिक रणनीतियों पर एक स्वस्थ चर्चा को बढ़ावा देना।

  • भारत सरकार ने नकली दवाओं के खतरे की जाँच करने के लिए औषधि एवं प्रसाधन सामग्री अधिनियम, 1940 में औषधि एवं प्रसाधन सामग्री (संशोधन) अधिनियम, 2008 के तहत संशोधन किया गया था।
  • इस कानून के अनुसार, अगर किसी भी दवा को मिलावटी या नकली माना जाता है, तो अपराधी व्यक्ति को न्यूनतम 10 वर्ष के कारावास का सामना करना पड़ सकता है, जिसे आजीवन कारावास में बदला जा सकता है।
  • शीघ्र निपटान के लिए औषधि एवं प्रसाधन सामग्री अधिनियम के तहत अपराधों की सुनवाई के लिए ‘विशेष न्यायालयों’ की स्थापना की गई है।

प्रारंभ: स्टार्टअप इंडिया अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 16 जनवरी, 2021 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से ‘प्रारंभ: स्टार्टअप इंडिया अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन’ (Prarambh: Startup India International Summit) को संबोधित किया।

  • सम्मेलन का आयोजन 15-16 जनवरी, 2021 को वाणिज्य तथा उद्योग मंत्रालय के उद्योग तथा आतंरिक व्यापार विभाग द्वारा किया गया।
  • सम्मलेन के दौरान प्रधानमंत्री ने 1000 करोड़ रुपये के ‘स्टार्टअप इंडिया सीड फंड’ की घोषणा की उन्होंने ‘इवोल्यूशन ऑफ स्टार्टअप इंडिया’ शीर्षक से एक पुस्तिका का भी विमोचन किया, जिसमें स्टार्टअप क्षेत्र में भारत की 5 साल के सफर के अनुभवों को दर्ज किया गया है।
  • सम्मलेन का मुख्य फोकस वैश्विक स्तर पर सामूहिक रूप से स्टार्टअप इकोसिस्टम को विकसित करने और मजबूत बनाने के लिए पूरे विश्व के देशों के साथ द्विपक्षीय सहयोग बढ़ाना था।
  • दो दिवसीय सम्मेलन प्रधानमंत्री द्वारा अगस्त 2018 में काठमांडू में आयोजित चौथे बिम्सटेक शिखर सम्मेलन में की गई घोषणा की दिशा में आगे का कदम है।
  • 16 जनवरी, 2016 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा ‘स्टार्टअप इंडिया पहल’ लॉन्च की गई।

राष्ट्रीय युवा संसद महोत्‍सव-2021


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 12 जनवरी, 2021 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से दूसरे ‘राष्ट्रीय युवा संसद महोत्सव-2021’ [National Youth Parliament Festival (NYPF) – 2021] के समापन कार्यक्रम को संबोधित किया।

उद्देश्य: 18 से 25 वर्ष के बीच के युवाओं के विचारों को सुनना, जो मतदान करने का अधिकार रखते हैं और आने वाले वर्षों में सार्वजनिक सेवाओं सहित विभिन्न सेवाओं में शामिल होंगे।

  • दूसरा NYPF 23 दिसंबर, 2020 को शुरू किया गया था।
  • NYPF की अवधारणा प्रधानमंत्री के 31दिसंबर, 2017को अपने ‘मन की बात’ के संबोधन में व्यक्त किए गए विचार पर आधारित है। पहला NYPF जनवरी - फरवरी 2019 में आयोजित किया गया था।

16वां प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन 2021


9 जनवरी, 2021 को 16वें प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन 2021का वर्चुअल रूप में आयोजन किया गया।

सम्मेलन 2021 का विषय: ‘आत्मनिर्भर भारत में योगदान’।

  • प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन ‘विदेश मंत्रालय’ का एक प्रमुख कार्यक्रम है और यह विदेश में रहने वाले भारतीयों के साथ जुड़ने तथा संबंध स्थापित करने के लिए एक महत्वपूर्ण मंच प्रदान करता है।
  • प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन में मुख्य अतिथि सूरीनाम गणराज्य के राष्ट्रपति चंद्रिका प्रसाद संतोखी थे।
  • 2020-21 के लिए प्रवासी भारतीय सम्मान पुरस्कार विजेताओं के नामों की भी घोषणा की गई।

भारत के प्रवासी सदस्यों को उनकी उपलब्धियों और भारत तथा विदेश दोनों में विभिन्न क्षेत्रों में उनके योगदान को सामने लाने के लिए ‘प्रवासी भारतीय सम्मान पुरस्कार’ प्रदान किया जाता है।

पृष्ठभूमि: भारत के विकास में प्रवासी भारतीय समुदाय के योगदान को चिह्नित करने के लिए 9 जनवरी को यह दिवस मनाया जाता है, क्योंकि 1915 में इसी दिन महात्मा गांधी दक्षिण अफ्रीका से भारत लौटे थे।

  • वर्ष 2003 में पहला प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन का आयोजन किया गया था। वर्ष 2015 से प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन हर दो साल में एक बार आयोजित किया जाता है।

युवा प्रवासी भारतीय दिवस: यह दिवस 8 जनवरी, 2021 को ‘भारत और भारतीय समुदाय से सफल युवाओं को एक साथ लाना’ विषय पर वर्चुअल रूप में मनाया गया।

  • युवा मामलों और खेल मंत्रालय द्वारा इस आयोजन के लिए विशेष अतिथि न्यूजीलैंड की सामुदायिक और स्वैच्छिक क्षेत्र मंत्री प्रियंका राधाकृष्णन थी।

वर्चुअल अंतरराष्ट्रीय अखंड सम्मेलन ‘एडुकॉन 2020’


केन्द्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने 7 जनवरी, 2021 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से दो दिवसीय वर्चुअल अंतरराष्ट्रीय अखंड सम्मेलन ‘एडुकॉन 2020’ (Virtual International Akhand Conference ‘EDUCON-2020’) का शुभारम्भ किया।

एडुकॉन- 2020 का मुख्य विषय: ‘वैश्विक शांति को साकार करने को युवाओं में बदलाव के लिए शिक्षा की संकल्पना’ (Envisioning Education for Transforming Youth to Restore Global Peace)।

  • यह अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन ग्लोबल एजुकेशनल रिसर्च एसोसिएशन (GERA) के सहयोग से सेंट्रल यूनिवर्सिटी ऑफ पंजाब, बठिंडा द्वारा आयोजित किया गया।
  • यह सम्मेलन भारत में अपनी तरह का पहला आयोजन है, जहां दुनिया भर के विद्वानों ने भारत में समान गुणवत्ता वाली शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए उच्च शिक्षा में सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी के उपयोग की संभावनाओं के बारे में चर्चा की।

मिशन सागर-III


मिशन सागर-III के अंतर्गत भारतीय नौसेना का पोत ‘किलटन’ 29 दिसंबर, 2020 को कंबोडिया के ‘सिहानोकविले’ बंदरगाह पर पहुंचा।

  • भारतीय नौसैनिक जहाज ने कंबोडिया के बाढ़ प्रभावित लोगों के लिए 15 टन मानवीय सहायता और आपदा राहत सामग्री सौंपी।
  • इससे पहले 24 दिसंबर को इस पोत ने सेंट्रल वियतनाम के बाढ़ प्रभावित लोगों के लिए भी 15 टन मानवीय सहायता और आपदा राहत सामग्री सौंपी थी।
  • मिशन सागर- III वर्तमान में चल रही कोविड महामारी के दौरान मित्र देशों को भारत की ओर से मानवता के नाते मानवीय सहायता और आपदा राहत (Humanitarian Assistance and Disaster Relief -HADR) पहुंचाने का एक हिस्सा है।
  • यह मिशन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 'सागर' (क्षेत्र में सभी के लिए सुरक्षा और विकास) दृष्टिकोण के अनुरूप चलाया जा रहा है।

वर्ल्ड ऑफ कोरिऐन्डर वेबिनार


4 जनवरी, 2021 को भारतीय मसाला बोर्ड तथा डीबीटी-एसएबीसी बायोटेक किसान हब ने आईसीएआर-एनआरसीएसएस, राजस्थान राज्य कृषि विपणन बोर्ड और कोटा कृषि विश्वविद्यालय के सहयोग से गुणवत्तायुक्त धनिये के उत्पादन, फसल कटाई के बाद, मूल्य संवर्धन तथा भारत से धनिये का निर्यात बढ़ाने पर ‘वर्ल्ड ऑफ कोरिऐन्डर वेबिनार’ (World of Coriander Webinar) आयोजित किया।

  • राजस्थान को अगला मसाला उत्पादन और निर्यात हब बनाने के लिए सभी विभागों के एकीकृत और समन्वित प्रयासों की आवश्यकता पर जोर दिया गया।
  • दक्षिण पूर्व राजस्थान का ‘हदोती क्षेत्र’ तथा मध्य प्रदेश का ‘गुना जिला’ धनिया उत्पादन के लिए जाना जाता है और देश से धनिया के निर्यात में इनका महत्वपूर्ण योगदान है।
  • जोधपुर, रामगंज, मंडी (कोटा) तथा गुना में मसाला पार्कों में मसाला बोर्ड द्वारा कॉमन सुविधा केंद्र (common facility centre) स्थापित किए गए हैं।
  • कोटा जिला की रामगंज एपीएमसी मंडी एशिया में धनिया की सबसे बड़ी मंडी है और इसे ‘कोरिऐन्डर सिटी या धनिया का शहर’ (Coriander city) के रूप में जाना जाता है।
  • हाल में भारत सरकार के खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय ने ‘एक जिला एक उत्पाद’(One District One Product- ODOP) की सूची में धनिया को कोटा जिले के उत्पाद माना है।

एग्री इंडिया हैकथॉन


केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने 31 दिसंबर, 2020 को ‘एग्री इंडिया हैकथॉन’ (Agri-hackathon 2020) के पहले संस्करण का शुभारंभ किया।

  • एग्री इंडिया हैकथॉन कृषि क्षेत्र में संवाद करने और नवाचारों में तेजी लाने के लिए सबसे बड़ा ऑनलाइन कार्यक्रम है।
  • एग्री इंडिया हैकथॉन का आयोजन केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय के कृषि, सहकारिता और किसान कल्याण विभाग एवं पूसा कृषि, आईसीएआर- आईएआरआई द्वारा 60 दिनों तक किया जाएगा।
  • विभिन्न फोकस क्षेत्रों से 24 सर्वश्रेष्ठ नवाचारों को 1,00,000 रुपये का नकद पुरस्कार दिया जाएगा।

फोकस क्षेत्र: हैकथॉन नए युग के लिए तेज व मितव्ययी नवाचारों के लक्ष्य के साथ 5 परस्पर क्षेत्रों पर प्रभाव पैदा करना चाहता है। ये क्षेत्र हैं- खेती-सम्बद्ध गतिविधियों का मशीनीकरण; सेंसर, डब्ल्यूएसएन, आईसीटी, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, आईओटी और ड्रोन के अनुप्रयोग को शामिल करते हुये ‘परिशुद्धता कृषि’(precision agriculture); आपूर्ति शृंखला और कृषि रसद; फसलोपरांत एवं खाद्य प्रौद्योगिकी तथा मूल्य संवर्द्धन; कृषि अपशिष्ट से धन एवं कृषि में हरित ऊर्जा।

ब्रह्मपुत्र आमंत्रण अभियान


  • जल शक्ति और सामाजिक न्याय और अधिकारिता राज्य मंत्री रतन लाल कटारिया ने 30 दिसंबर, 2020 को ‘ब्रह्मपुत्र आमंत्रण अभियान’ में हिस्सा लिया।
  • ब्रह्मपुत्र आमंत्रण अभियान एक रिवर राफ्टिंग अभियान है, जिसे अरुणाचल प्रदेश के पासीघाट में भारत सरकार के जल शक्ति मंत्रालय के अंतर्गत ‘ब्रह्मपुत्र बोर्ड’ द्वारा आयोजित किया जाता है।
  • 917 किमी. लंबा यह राफ्टिंग अभियान और आउटरीच कार्यक्रम 23 दिसंबर को अरुणाचल प्रदेश में गेलिंग(Gelling) से शुरू हुआ था, जिसका समापन 21 जनवरी, 2021 को असम के असमरलगा (Assameralga) में होगा।
  • ‘नदियों के साथ जीवन’ (Living with the River) विषय से आयोजित इस कार्यक्रम का उद्देश्य लोगों को ब्रह्मपुत्र नदी के बारे में जागरूक करना है।

जल शक्ति अभियान II: कैच द रेन' जागरूकता अभियान


राष्ट्रीय जल मिशन (एनडब्ल्यूएम), जल शक्ति मंत्रालय ने नेहरू युवा केंद्र संगठन (एनवाईकेएस), युवा कार्यक्रम और खेल मंत्रालय के सहयोग से 21 दिसंबर, 2020 को 'जल शक्ति अभियान II: कैच द रेन' जागरूकता अभियान की शुरुआत की।

  • नेहरू युवा केंद्र संगठन देश के 623 जिलों में दिसंबर 2020 से मार्च 2021 के मध्य तक 'कैच द रेन' जागरूकता अभियान के इस चरण को चलाएगा।
  • राष्ट्रीय जल मिशन ने एक अभियान ‘कैच द रेन’ शुरू किया है, जिसकी टैग लाइन है- ‘बारिश के पानी का संरक्षण, जहां भी संभव हो, जैसे भी संभव हो’ (catch the rain, where it falls, when it falls)।
  • इसका उद्देश्य सभी स्थितियों के आधार पर जलवायु परिस्थितियों के अनुकूल और मानसून के चार/ पांच महीनों में होने वाली वर्षा के रूप में बारिश के पानी को संग्रहित करने के लिए वर्षा जल संचयन संरचना का निर्माण करना है।

5वां भारत जल प्रभाव शिखर सम्मेलन


राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन (एनएमसीजी) और ‘गंगा नदी बेसिन प्रबंधन तथा अध्ययन केंद्र- सी-गंगा’ (Centre for Ganga River Basin Management and Studies -cGanga) द्वारा ‘5वां भारत जल प्रभाव शिखर सम्मेलन’ 10 से 15 दिसंबर, 2020 तक आयोजित किया गया।

  • इसमें ‘अर्थ गंगा- नदी जल संरक्षण समन्वित विकास’ के तहत स्थानीय नदियों और जल निकायों के व्यापक विश्लेषण तथा समग्र प्रबंधन पर ध्यान केंद्रित किया गया।
  • नॉर्वे के जैव-अर्थव्यवस्था शोध संस्थान ने सी-गंगा (एनएमसीजी के थिंक टैंक) के साथ भारत में कीचड़ प्रबंधन (sludge management) हेतु एमओयू पर हस्ताक्षर किए।

जलवायु परिवर्तन महत्वाकांक्षी शिखर सम्मेलन 2020


पेरिस में हुये जलवायु समझौते की पांचवीं वर्षगांठ पर संयुक्त राष्ट्र, यूनाइटेड किंगडम और फ्रांस ने 12 दिसंबर, 2020 को वर्चुअली आयोजित ‘जलवायु परिवर्तन महत्वाकांक्षी शिखर सम्मेलन 2020’ की सह-मेजबानी की।

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सम्मेलन को संबोधित करते हुआ कहा कि भारत ने 2005 के स्तर पर अपनी उत्सर्जन तीव्रता को 21% तक कम कर दिया है।
  • भारत की सौर क्षमता 2014 में 2.63 गीगावाट से बढ़कर 2020 में 36 गीगावाट हो गई है। भारत दुनिया में चौथी सबसे बड़ी नवीकरणीय ऊर्जा क्षमता वाला देश है।
  • वैश्विक मंच पर भारत दो प्रमुख पहलों अंतरराष्ट्रीय सौर गठबंधन और आपदा प्रतिरोधी अवसंरचना गठबंधन में अग्रणी रहा है।

'फिटनेस का डोज आधा घंटा रोज' अभियान


10 दिसंबर, 2020 को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने 'फिटनेस का डोज आधा घंटा रोज' (Fitness Ka Dose Aadha Ghanta Roz) अभियान के लिए भारत की सराहना की है।

  • यह अभियान केंद्रीय युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्री किरेन रिजिजू द्वारा 1 दिसंबर को राष्ट्रव्यापी फिट इंडिया मूवमेंट के एक भाग के रूप में शुरू किया गया है।
  • अभियान को विभिन्न क्षेत्रों की प्रमुख हस्तियों का समर्थन मिला है तथा बॉलीवुड कलाकारों, खिलाड़ियों, लेखकों, डॉक्टरों तथा फिटनेस जगत की हस्तियों ने उत्साहपूर्वक भारतीयों से हर दिन 30 मिनट के फिटनेस के मूल मंत्र का पालन करने का आग्रह किया है।

26वां प्रौद्योगिकी शिखर सम्मेलन 2020


भारत और पुर्तगाल के बीच 7 से 9 दिसंबर 2020 तक ‘26वां प्रौद्योगिकी शिखर सम्मेलन 2020’ डिजिटल प्लेटफॉर्म पर आयोजित किया गया।

  • इस वर्ष शिखर सम्मेलन में मुख्य तौर पर वाटरटेक, एग्रीटेक, हेल्थटेक, ऊर्जा, जलवायु परिवर्तन, क्लीनटेक, आईटी, आईसीटी औरउन्नत प्रौद्योगिकी जैसे क्षेत्रों पर ध्यान केंद्रित किया गया।
  • इस वर्ष सम्मेलन में भागीदार देश के रूप में पुर्तगाल था।
  • विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) पिछले 26 वर्षों से सीआईआई की भागीदारी में इस प्रौद्योगिकी शिखर सम्मेलन का सह-आयोजन करता रहा है।

14वीं 'एडीएमएम-प्लस’


  • रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ‘एडीएमएम-प्लस’ (ASEAN Defence Ministers’ Meeting Plus- ADMM-Plus) की 10वीं वर्षगांठ पर 10 दिसम्बर, 2020 को वियतनाम के हनोई में ऑनलाइन आयोजित 14वीं 'एडीएमएमप्लस’ में हिस्सा लिया।
  • ‘एडीएमएम-प्लस’ एशिया-प्रशांत क्षेत्र में रक्षा मंत्री की बैठकों का एकमात्र आधिकारिक मंच है। यह आसियान और उसके आठ संवाद साझेदारों के लिए एक मंच है, जो क्षेत्र में शांति, स्थिरता और विकास के लिए सुरक्षा और रक्षा सहयोग को मजबूत करता है।
  • एडीएमएम-प्लस में दस आसियान देशों के साथ-साथ ऑस्ट्रेलिया, चीन, जापान, भारत, कोरिया गणराज्य, न्यूजीलैंड, रूस और संयुक्त राज्य अमेरिका शामिल हैं।
  • एडीएमएम-प्लस की शुरुआत 12 अक्टूबर, 2010 को हनोई, वियतनाम में हुई थी।

इंडिया मोबाइल कांग्रेस 2020


  • प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 8 दिसंबर, 2020 वर्चुअल इंडिया मोबाइल कांग्रेस (आईएमसी) 2020 को संबोधित किया। यह कांग्रेस 8 से 10 दिसंबर, 2020 तक आयोजित की गई।
  • विषय: ‘समावेशी नवाचार - स्मार्ट, सुरक्षित, स्थायी’ (Inclusive Innovation - Smart, Secure, Sustainable)।
    • आईएमसी 2020 का आयोजन दूरसंचार विभाग, भारत सरकार और सेलुलर ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (सीओएआई) द्वारा किया गया।
  • मुख्य उद्देश्य: प्रधानमंत्री के 'आत्मनिर्भर भारत', 'डिजिटल समावेशिता' एवं 'सतत विकास, उद्यमिता और नवाचार' के विजन को बढ़ावा देने में मदद करना।
    • विदेशी और स्थानीय निवेश संचालित करना, दूरसंचार और उभरते हुए प्रौद्योगिकी क्षेत्रों में अनुसंधान तथा विकास को प्रोत्साहित करना।

फिट इंडिया साइक्लोथॉन


केंद्रीय खेल मंत्री किरेन रिजिजू ने सोशल मीडिया के माध्यम से ‘फिट इंडिया साइक्लोथॉन’ का दूसरा संस्करण लॉन्च किया।

उद्देश्य: आउटडोर गतिविधियों में लोगों को शामिल करना और देश भर में साइकिल चलाने की संस्कृति शुरू करना।

  • मेगा साइकिलिंग प्रतियोगिता 7 से 31 दिसंबर, 2020 तक देश भर में प्रत्येक जिले में आयोजित की जाएगी।
  • फिट इंडिया साइक्लोथॉन के आरम्भिक संस्करण को खेल मंत्री ने गोवा के पणजी में जनवरी 2020 में शुरू किया था।

भारतीय नौसेना और रूसी नौसेना का ‘पासेज अभ्यास’


4 से 5 दिसंबर, 2020 के बीच भारतीय नौसेना ने रूसी फेडरेशन नेवी के साथ पूर्वी हिंद महासागर क्षेत्र) में ‘पासेज अभ्यास- पासेक्स’ (PASSEX) में हिस्सा लिया।

उद्देश्य: दोनों मित्र देशों की नौसेनाओं के बीच पारस्परिकता बढ़ाना, तालमेल को बेहतर करना और बेहतरीन कार्य-प्रणाली को अपनाना।

  • इस अभ्यास में पनडुब्बी-रोधी और सतह के उन्नत युद्ध अभ्यास, हथियारों से फायरिंग, नाविक कला का अभ्यास और हेलिकॉप्टर संचालन शामिल था।
  • पासेक्स का आयोजन नियमित रूप से भारतीय नौसेना द्वारा अपने मित्र देशों की नौसेनाओं के साथ किया जाता है, जिसमें वह एक-दूसरे के बंदरगाहों पर जाते हैं या समुद्र में किसी निश्चित स्थान पर मिलते हैं।

80वां अखिल भारतीय पीठासीन अधिकारी सम्मेलन


गुजरात के केवड़िया में 25-26 नवंबर, 2020 को 80वें अखिल भारतीय पीठासीन अधिकारी सम्मेलन का आयोजन किया गया।

सम्मेलन का विषय: विधायिका, कार्यपालिका और न्यायपालिका का सद्भावपूर्ण समन्वय- एक जीवंत लोकतंत्र की कुंजी।

  • 25 नवंबर को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सम्मेलन का उदघाटन किया।
  • अखिल भारतीय पीठासीन अधिकारी सम्मेलन की परम्परा वर्ष 1921 में प्रारंभ की गई थी।

बेंगलुरु टेक समिट-2020


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 19 नवंबर, 2020 को वीडियो कांफ्रेंस के जरिए तीन दिवसीय प्रौद्योगिकी शिखर सम्मेलन 'बेंगलुरु टेक समिट-2020' उद्घाटन किया।

सम्मेलन का विषय: ‘नेक्स्ट इज नाऊ' (Next is Now)।

  • इस सम्मेलन का आयोजन कर्नाटक सरकार ने कर्नाटक नवाचार और प्रौद्योगिकी सोसाइटी (केआईटीएस), कर्नाटक सरकार का सूचना प्रौद्योगिकी संबंधी विजन ग्रुप, बायोटेक्नोलॉजी एंड स्टार्टअप, सॉफ्टवेयर टेक्नोलॉजी पार्क ऑफ इंडिया (एसटीपीआई) और एम.एम. एक्टिव साइंस टेक कम्युनिकेशन्स के सहयोग से किया है।
  • शिखर सम्मेलन में 'सूचना प्रौद्योगिकी और इलेक्ट्रॉनिक्स' और 'जैव प्रौद्योगिकी' के क्षेत्र में प्रमुख प्रौद्योगिकियों और नवाचारों के प्रभाव पर ध्यान देने के साथ महामारी के बाद की दुनिया में उभर रही प्रमुख चुनौतियों पर विचार-विमर्श किया गया।
  • कर्नाटक द्वारा फिनलैंड, ब्रिटेन, स्वीडन, अमेरिका और हॉलैंड के साथ आठ समझौता ज्ञापनों की घोषणा की गई।

री-इन्वेस्ट 2020


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 26 नवंबर, 2020 को तीसरे वैश्विक नवीकरणीय ऊर्जा निवेश बैठक और प्रदर्शनी (री-इन्वेस्ट 2020) का वर्चुअल माध्यम से उद्घाटन किया। यह सम्मेलन नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय द्वारा आयोजित किया जाता है।

विषय: 'सतत ऊर्जा परिवर्तन के लिए नवोन्मेष' (Innovations for Sustainable Energy Transition)

उद्देश्य: नवीकरणीय ऊर्जा के विकास और तैनाती को बढ़ाने और वैश्विक निवेश समुदाय को भारतीय ऊर्जा हिस्सेदारों के साथ जोड़ने के विश्वव्यापी प्रयास को तेज करना;

  • 2015 और 2018 में आयोजित पहले दो संस्करणों की सफलता को आगे बढ़ाना और नवीकरणीय ऊर्जा में निवेश को बढ़ावा देने के लिए एक अंतरराष्ट्रीय मंच प्रदान करना।

संविधान दिवस यूथ क्लब गतिविधि कार्यक्रम


रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 18 नवंबर, 2020 को नेशनल कैडेट कोर (एनसीसी) द्वारा आयोजित एक महीने के राष्ट्रव्यापी ‘संविधान दिवस यूथ क्लब गतिविधि कार्यक्रम’ (Constitution Day Youth Club activities programme) का नई दिल्ली से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से शुभारंभ किया।

उद्देश्य: देश भर में लोगों में भारतीय संविधान के बारे में जागरूकता के प्रसार के लिए युवाओं को सक्रिय करना।

  • 18 नवम्बर से 13 दिसम्बर, 2020 तक चलने वाला यह अभियान देश भर में नेशनल कैडेट कोर (एनसीसी),राष्ट्रीय सेवा योजना (एनएसएस), नेहरू युवा केन्द्र संगठन, द भारत स्काउट्स एंड गाइड्स, हिन्दुस्तान स्काउट्स एंड गाइड्स एसोसिएशन और रेड क्रॉस जैसे देश के युवा संगठनों द्वारा संचालित किया जाएगा।

ब्लूमबर्ग न्यू इकोनॉमी फोरम


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 17 नवंबर, 2020 को ब्लूमबर्ग न्यू इकोनॉमी फोरम को संबोधित किया।

  • 'ब्लूमबर्ग न्यू इकोनॉमी फोरम' 2018 में माइकल ब्लूमबर्ग द्वारा स्थापित किया गया था।
  • यह फोरम विश्व अर्थव्यवस्था के ऐतिहासिक अंतरण के समय उसके सामने मौजूद गंभीर चुनौतियों के लिए कार्रवाई योग्य समाधान सुझाने के लिए वैश्विक समुदाय के नेताओं को विचार-विमर्श के लिए मंच उपलब्ध कराता है।
  • फोरम की पहली उद्घाटन बैठक सिंगापुर में और दूसरी वार्षिक बैठक बीजिंग में हुई थी।
  • इनमें वैश्विक आर्थिक प्रबंधन, व्यापार और निवेश, प्रौद्योगिकी, शहरीकरण, पूंजी बाजार, जलवायु परिवर्तन और समावेशन सहित कई विषय शामिल किए गए थे।

हुनर हाट


  • कोरोना की चुनौतियों के चलते लगभग 7 महीनों के बाद हुनर हाट 'लोकल के लिए वोकल' (Vocal for Local) विषय के साथ, दिल्ली हाट, पीतमपुरा में 11 नवम्बर 2020 से पुनः शुरू हो गया है।
  • 22 नवम्बर तक आयोजित होने वाले इस हुनर हाट में ‘माटी (मिट्टी उत्पाद), मेटल और मचिया (लकड़ी-जूट उत्पाद)’ जैसे उत्पाद प्रमुख आकर्षण का केंद्र होंगे।
  • अल्पसंख्यक कार्य मंत्रालय देश भर में ‘हुनर हाट’ का आयोजन करता है, जहाँ लाखों कारीगरों, शिल्पकारों को इन 'हुनर हाट' के माध्यम से रोजगार के अवसर और बाजार प्रदान किए जाते हैं।

वर्चुअल ग्लोबल इन्वेस्टर राउंडटेबल


  • प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 5 नवंबर, 2020 को ‘वर्चुअल ग्लोबल इन्वेस्टर राउंडटेबल- वीजीआईआर’ की अध्यक्षता की।
  • इस वीजीआईआर का आयोजन वित्त मंत्रालय, भारत सरकार तथा राष्ट्रीय निवेश और अवसंरचना कोष (एनआईआईएफ) द्वारा किया गया।
  • यह अग्रणी वैश्विक संस्थागत निवेशकों, भारतीय व्यापार जगत के प्रमुखों और भारत सरकार तथा वित्तीय बाजार नियामकों के शीर्ष नीति-निर्माताओं के बीच एक विशेष संवाद था।

फिट इंडिया वॉकेथॉन


केंद्रीय खेल मंत्री किरेन रिजिजू ने बॉलीवुड अभिनेता विद्युत जामवाल के साथ 31 अक्टूबर, 2020 को राष्ट्रीय एकता दिवस (सरदार वल्लभभाई पटेल की जयंती) के अवसर पर, राजस्थान के जैसलमेर में 200 किलोमीटर लंबी 'फिट इंडिया वॉकेथॉन’ (Fit India Walkathon) को झंडी दिखा कर रवाना किया।

उद्देश्य: भारत में फिट और स्वस्थ जीवन शैली के बारे में जागरूकता पैदा करना।

  • 3 दिन तक चली इस वॉकेथॉन का आयोजन भारत तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) द्वारा किया गया।
  • वॉकेथॉन में 200 से अधिक आईटीबीपी के जवान और विभिन्न केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) के कर्मियों ने भारत-पाकिस्तान सीमा के साथ स्थित क्षेत्र में थार रेगिस्तान के टीलों से होकर गुजरते हुए 200 किमी. से अधिक दूरी तक पैदल मार्च किया।

सीआईआई हरित भवन कांग्रेस 2020


भारत के उपराष्ट्रपति एम.वेंकैया नायडू ने 29 अक्टूबर, 2020 को ‘सीआईआई हरित भवन कांग्रेस (Green Building Congress) 2020’ का उद्घाटन किया।

विषय: हरित आधारित पर्यावरण में 'स्वच्छता, स्वास्थ्य और कल्याण' ('Hygiene, Health and Wellbeing' in Green Built Environment)

  • ‘सीआईआई हरित भवन कांग्रेस’ हरित आधारित पर्यावरण पर भारत का प्रमुख वार्षिक कार्यक्रम है। यह इस कांग्रेस का 18वां संस्करण था।
  • इसके तहत 29 से 31 अक्टूबर, 2020 तक भारतीय हरित भवन परिषद (Indian Green Building Council- IGBC) द्वारा ‘वर्चुअल हरित भवन सम्मेलन’ (Green building conference) का आयोजन किया गया तथा 27 नवंबर, 2020 तक वर्चुअल एक्स्पो का आयोजन किया जा रहा है।
  • उपराष्ट्रपति ने इस अवसर पर 'भारतीय हरित भवन परिषद' को 'शुद्ध शून्य कार्बन भवन' (Net Zero Carbon Buildings) को बढ़ावा देने के लिए एक अभियान शुरू करने सुझाव दिया।
  • ‘विश्व हरित भवन परिषद’ की परिभाषा के अनुसार एक 'शुद्ध शून्य कार्बन भवन' वह भवन है, जो अत्यधिक ऊर्जा कुशल है और पूरी तरह से ऑन-साइट और / या ऑफ-साइट अक्षय ऊर्जा स्रोतों से संचालित होता है।
  • भारतीय हरित भवन परिषद (IGBC), भारतीय उद्योग परिसंघ (CII) का हिस्सा है, इसकी स्थापना वर्ष 2001 में की गई थी।

सामाजिक सशक्तिकरण के लिए उत्तरदायी एआई 2020 सम्मेलन


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस यानि कृत्रिम बुद्धिमत्ता पर बड़े वर्चुअल सम्मेलन ‘सामाजिक सशक्तिकरण के लिए उत्तरदायी एआई 2020’ (Responsible AI for Social Empowerment 2020-RAISE 2020) का 5 अक्टूबर, 2020 को उद्घाटन किया।

उद्देश्य: जवाबदेह एआई के द्वारा सशक्तिकरण, सामाजिक परिवर्तन, सभी को शामिल करने के भारत के दृष्टिकोण का रोड मैप प्रस्तुत करना।

  • इलेक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय और नीति आयोग द्वारा एआई पर इस बड़े वर्चुअल सम्मेलन का आयोजन 5 से 9 अक्टूबर, 2020 के बीच किया गया।
  • वैश्विक मंच RAISE 2020 के माध्यम से सामाजिक बदलाव समेत स्वस्थ्य, कृषि, शिक्षा व स्मार्ट मोबिलिटी आदि क्षेत्रों में एआई के इस्तेमाल की संभावनाओं पर दुनियाभर के विशेषज्ञों ने विचारों का आदान प्रदान किया।

वैश्विक भारतीय वैज्ञानिक (वैभव) सम्मेलन 2020


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2 अक्टूबर, 2020 को दिल्ली में वैश्विक भारतीय वैज्ञानिक (वैभव) सम्मेलन का वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से उद्घाटन किया। सम्मेलन का समापन 31 अक्टूबर, 2020 को होगा।

उद्देश्य: समग्र विकास के समक्ष उभरती नई चुनौतियों का मुकाबला करने के लिए वैश्विक भारतीय शोधकर्ताओं के ज्ञान और उनकी विशेषज्ञता की मदद से एक समग्र खाका तैयार करना।

  • वैभव सम्मेलन एक वर्चुअल सम्मेलन है, जिसमें भारतीय और भारतीय मूल के प्रवासी अनुसंधानकर्ता तथा शिक्षाविद हिस्सा ले रहे हैं।
  • वैभव सम्मेलन भारत सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार के नेतृत्व में 200 भारतीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी और शैक्षिक संस्थानों द्वारा आयोजित किया जा रहा है।

लूज डायमंड्स के लिए पहली वर्चुअल क्रेता विक्रेता बैठक


4-5 सितंबर, 2020 को ‘लूज डायमंड्स’ के लिए अब तक की ‘पहली वर्चुअल क्रेता विक्रेता’ बैठक का आयोजन किया गया।

  • बैठक का आयोजन रत्न एवं आभूषण निर्यात के लिए शीर्ष निकाय ‘भारतीय रत्न एवं आभूषण निर्यात संवर्धन परिषद (जीजेईपीसी) द्वारा किया गया।
  • लूज डायमंड्स अर्थात ऐसे हीरे, जिन्हें आभूषणों में नहीं जड़ा गया है और उनका इस्तेमाल किसी भी प्रकार/आकार में किया जा सकता है।

वर्चुअल क्रेता विक्रेता बैठक की मुख्य विशेषताएं: सुरक्षित ऑनलाइन ट्रेडिंग के लिए क्लाउड स्टोरेज, क्रेता विक्रेता मैचिंग; क्रेताओं एवं विक्रेताओं के लिए प्रदर्शकों द्वारा प्रदर्शित विविध विकल्पों में से ईष्टतम चयन।


नौसेना के कमांडरों का वार्षिक सम्‍मेलन


नौसेना के कमांडरों का तीन दिवसीय वार्षिक सम्‍मेलन 19 से 21 अगस्त, 2020 तक नई दिल्‍ली में आयोजित किया गया।

  • इसमें नौसेनाध्‍यक्ष कमांडर्स-इन-चीफ के साथ वर्ष के दौरान की गयी संचालन प्रकियाओं, साजो-सामान और लॉजिस्टिक्‍स संबंधी प्रमुख गतिविधियों के साथ-साथ मानव संसाधन, प्रशिक्षण और प्रशासनिक कामकाज की समीक्षा की गई।

आसियान-इंडिया नेटवर्क ऑफ थिंक टैंक का छठा-गोलमेज सम्मेलन


20-21 अगस्त, 2020 को विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने बैंकॉक में आयोजित आसियान-इंडिया नेटवर्क ऑफ थिंक टैंक (AINTT) में भाग लिया। यह भारत और AINTT के बीच छठा-गोलमेज सम्मेलन था।

विषय: 'आसियान-भारत: कोविड महामारी के बाद के युग में साझेदारी सुदृढ़ करना' (ASEAN-India: Strengthening Partnership in the Post COVID Era)

  • विदेश मंत्री ने सम्मेलन के दौरान वैश्विक आपूर्ति श्रृंखलाओं की चिंताओं को कम करने तथा आपूर्ति श्रृंखला का विविधीकरण और लचीलापन करने तथा भारत और आसियान देशों के बीच आपूर्ति श्रृंखला को बढ़ावा देने के लिए सहयोग का एक मॉडल लागू किए जाने पर जोर दिया।

‘वोकलफॉरहैंडमेड’ सोशल मीडिया अभियान


7 अगस्त, 2020 को छठे राष्ट्रीय हथकरघा दिवस के अवसर पर हथकरघा को बढ़ावा देने के लिए हैशटैग #Vocal4Handmade के जरियेदो सप्ताह के ‘वोकलफॉरहैंडमेड’ सोशल मीडिया अभियान की शुरुआत की गई है।

  • इसके तहत हथकरघा व देश के विभिन्न क्षेत्रों के उच्च स्तरीय हथकरघा उत्पादों को बढ़ावा देने हेतु हथकरघा उत्पादों के निर्माताओं और बुनकरों/कारीगरों को ट्वीट करने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है, ताकि वे आम लोगों के बीच अपने हथकरघा उत्पादों का प्रचार-प्रसार कर सकें।
  • केंद्रीय वस्त्र और महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने हैंडलूम मार्क योजना (एचएलएम) के लिए मोबाइल ऐप और वेबसाइट लॉन्च किया।
  • उन्होंने ब्लॉक स्तर के समूहों, हथकरघा विपणन सहायता योजनाओं और पुरस्कारों के लिए आवेदन करने के लिए व्यक्तिगत बुनकरों के साथ-साथ अन्य संगठनों के लिए 'माई हैंडलूम' पोर्टल भी लॉन्च किया।

वायु सेना के कमांडरों का सम्मेलन


वायु सेना के कमांडरों का सम्मेलन 22 से 24 जुलाई, 2020 तक वायु सेना मुख्यालय (वायु भवन), नई दिल्ली में आयोजित किया गया।

सम्मेलन का विषय:अगले दशक में भारतीय वायुसेना’।

  • वायु सेना प्रमुख, एयर चीफ मार्शल आर.के.एस. भदौरिया इस सम्मेलन की अध्यक्षता की।
  • तीन दिवसीय सम्मेलन में वर्तमान सैन्य तैयारियों और तैनाती का जायजा लिया गया तथा अगले दशक में भारतीय वायुसेना की सैन्य परिचालन क्षमता बढ़ाने की कार्य योजना विजन 2030 पर भी चर्चा की गई।

एससीओ में शामिल देशों के स्वास्थ्य मंत्रियों की डिजिटल बैठक


केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने 24 जुलाई, 2020 को शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) में शामिल देशों के स्वास्थ्य मंत्रियों की डिजिटल बैठक में हिस्सा लिया।

  • बैठक की अध्यक्षता रूस के स्वास्थ्य मंत्री मिखाइल मुराशको ने की। इस बैठक में चर्चा का प्रमुख विषय दुनिया भर में जारी कोविड संकट था।
  • भारत ने विश्व स्वास्थ्य संगठन पारंपरिक चिकित्सा रणनीति 2014-2023 को पूरा करने के लिए एससीओ स्वास्थ्य मंत्रियों की मौजूदा संस्थागत बैठकों के तहत ‘पारंपरिक चिकित्सा पर एक उप-समूह स्थापित करने’ का प्रस्ताव रखा।

जी20 डिजिटल अर्थव्यवस्था के मंत्रियों की बैठक


जी20 की अध्‍यक्षता कर रहे सऊदी अरब की मेजबानी में जी20 डिजिटल अर्थव्यवस्था के मंत्रियों की 22 जुलाई, 2020 को एक वर्चुअल बैठक आयोजित की गई।

  • केंद्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने इस वर्चुअल बैठक के दौरान भारत का प्रतिनिधित्व किया।
  • बैठक में भारत ने डिजिटल प्लेटफॉर्मों को ‘रक्षा, गोपनीयता और नागरिकों की सुरक्षा सहित देशों की संप्रभु चिंताओं’ के प्रति उत्तरदायी और जवाबदेह होने पर जोर दिया। साथ ही भारत ने समाज में बदलाव हेतु एक मजबूत ‘कृत्रिम बुद्धिमता प्रणाली’ तैयार करने की आवश्यकता पर भी जोर दिया।

'नेशनल क्लिनिकल ग्रैंड राउंड्स ऑन कोविड-19' कार्यक्रम


अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, दिल्ली ने 22 जुलाई, 2020 को एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया के नेतृत्व में 'नेशनल क्लिनिकल ग्रैंड राउंड्स ऑन कोविड-19' (National Clinical Grand Rounds on Covid-19) कार्यक्रम का पहला सत्र आयोजित किया।

कार्यक्रम का उद्देश्य: कोविड-19 रोगियों में मृत्यु दर को एक प्रतिशत से कम करना।

  • अपने अनुभव को साझा करने और कोविड-19 से संबंधित आम मुद्दों के प्रबंधन पर चर्चा शुरू करने के प्रयास में, नीति आयोग और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के संयोजन में एम्स दिल्ली ने यह कार्यक्रम लॉन्च किया है।
  • सत्र का उद्देश्य कोविड-19 से संबंधित मुद्दों पर चर्चा को सुविधाजनक बनाना था। पहले सत्र में गंभीर तीव्र श्वसन संक्रमण वाले रोगियों को प्रबंधित करने पर ध्यान केंद्रित किया गया।

प्लाज्मा दान अभियान


केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने 19 जुलाई, 2020 को दिल्ली स्थित एम्स अस्पताल में ‘प्लाज्मा दान अभियान’ की शुरुआत की।

  • इस कार्यक्रम की सह-आयोजक दिल्ली पुलिस थी। इस अवसर पर कोविड-19 से स्वस्थ हुए दिल्ली पुलिस के 26 पुलिसकर्मियों ने अपनी स्वेच्छा से प्लाज्मा दान किया।

  • कोविड-19 से ठीक हुए रोगियों से प्राप्त प्लाज्मा सार्स-सीओवी-2 वायरस के लिए सुरक्षात्मक एंटीबॉडी होती है। इसके संभावित लाभ को ध्यान में रखते हुए, प्लाज्मा थैरेपी उन रोगियों को प्रदान की जाती है जो पारंपरिक उपचार से ठीक नहीं हो पा रहे हैं।

एयरोस्पेस और रक्षा विनिर्माण प्रौद्योगिकी पर 5वां सम्मेलन


रक्षा राज्य मंत्री श्रीपद नाइक ने 15 जुलाई, 2020 को एयरोस्पेस और रक्षा विनिर्माण प्रौद्योगिकी पर 5वें सम्मेलन का शुभारम्भ किया।

  • सम्मेलन में भारतीय एयरोस्पेस और रक्षा उद्योग से देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए 2025 तक 26 अरब डॉलर के रक्षा उत्पादन को हासिल करने का आह्वान किया गया।

  • रक्षा क्षेत्र में 2008 से 2016 के बीच 9.7% चक्रवृद्धि वार्षिक वृद्धि दर (सीएजीआर दर) से वृद्धि हुई है, जो वर्ष 2017-18 में 42.83 अरब डॉलर के स्तर पर पहुंच गया है। भारत में एयरोस्पेस और रक्षा उद्योग 2030 तक 70 अरब डॉलर तक पहुंचने का अनुमान है।

  • भारत का नागरिक उड्डयन बाजार हर साल पर्यटकों की संख्या में 20% की बढ़ोतरी के साथ दुनिया के सबसे तेजी से उभरते बाजारों में से एक है और 2026 तक हवाई अड्डा आधारभूत ढांचे के विकास में लगभग 1.83 अरब डॉलर के निवेश की योजना है।

  • सम्मेलन तमिलनाडु डेवलपमेंट एंड प्रमोशन सेंटर (TNDPC), सोसायटी ऑफ इंडियन डिफेंस मैन्युफैक्चरर्स (SIDM) और भारतीय उद्योग परिसंघ (CII) द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित किया गया।

 

‘वर्चुअल कोविड-19 डेमो दिवस’ श्रृंखला


नीति आयोग के प्रमुख कार्यक्रम अटल इनोवेशन मिशन ने 14 जुलाई, 2020 को कोविड-19 समाधान हेतु स्टार्ट अप्स की सहायता करने के लिए ‘वर्चुअल कोविड-19 डेमो दिवसों’ (Virtual Covid-19 demo days) की एक श्रृंखला का समन्वय तथा समापन किया।

  • वर्चुअल कोविड-19 डेमो दिवस’ संभावित कोविड -19 नवाचारों के साथ भरोसेमंद स्टार्ट-अप्स की पहचान करने और उनके सोल्यूशन्स को देश भर में तैनात करने और विस्तारित करने मेंमदद करने हेतु एक पहल है।

  • यह पहल भारत सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार डॉ. विजय राघवन एवं नीति आयोग के सदस्य डॉ. विनोद पॉल के निर्देशन के तहत अन्य मंत्रालयों तथा जैव प्रौद्योगिकी उद्योग अनुसंधान सहायता परिषद, जैव प्रौद्योगिकी विभाग, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग तथा अन्य सरकारी निकायों की साझीदारी में लॉन्‍च की गई।

 

‘वज्रपात एवं आकाशीय बिजली’ पर वेबिनार


14 जुलाई, 2020 को केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन संस्थान, गृह मंत्रालय और भारतीय मौसम विज्ञान विभाग, पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय द्वारा संयुक्त रूप से आयोजित वेबिनार वज्रपात एवं आकाशीय बिजलीके उद्घाटन सत्र की अध्यक्षता की।

उद्देश्य: प्रतिभागियों को ‘वज्रपात एवं आकाशीय बिजली’ के जोखिम आकलन, पूर्वानुमान, तैयारी और शमन के साथ-साथ समय पर प्रतिक्रिया और बचाव कार्य के लिए तकनीकी ज्ञान और उपलब्ध संसाधनों के बारे में जागरूक करना।

  • एक दिवसीय वेबिनार का केंद्र-बिंदु वज्रपात एवं आकाशीय बिजली के जोखिमों की बेहतर समझ के संदर्भ में मानव क्षमता को विकसित करना तथा आपदा जोखिम न्यूनीकरण पर प्रधानमंत्री के 10 सूत्री एजेंडे और सेंडाइ फ्रेमवर्क को लागू करके प्रभावी सहयोगात्मक कार्रवाई करना था।