समसामयिकी - September 2021

पीआईबी न्यूज आर्थिक

विशेष गुणों वाली 35 फसल किस्में


जलवायु अनुकूल प्रौद्योगिकियां अपनाने को लेकर जन जागरूकता पैदा करने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 28 सितंबर, 2021 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए एक अखिल भारतीय कार्यक्रम में विशेष गुणों वाली 35 फसलों की किस्में राष्ट्र को समर्पित की।

(Source: Agriculture India)

विशेष गुणों वाली फसलों की किस्म: जलवायु को लेकर लचीलापन और ऊंची पोषक तत्व सामग्री जैसे विशेष गुणों वाली 35 ऐसी फसलों की किस्मों को भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद (आईसीएआर) द्वारा वर्ष 2021 में विकसित किया गया।

  • इनमें सूखे को बर्दाश्त करने वाली चने की किस्म, विल्ट और स्टरिलिटी मौजेक प्रतिरोधी अरहर, सोयाबीन की जल्दी पकने वाली किस्म, चावल की रोग प्रतिरोधी किस्में और गेहूं, बाजरा, मक्का, चना, क्विनोआ (quinoa), कुटु, पंख सेम (winged bean) और फाबा बीन (faba bean) की जैव- संवर्धित किस्में शामिल हैं।

ग्रीन कैंपस अवार्ड्स: इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने कृषि विश्वविद्यालयों को ग्रीन कैंपस अवॉर्ड भी वितरित किये।

  • इस अवॉर्ड की शुरुआत राज्य और केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालयों को ऐसी प्रथाओं को विकसित करने या अपनाने के लिए प्रेरित करने के लिए की गई है, जो उनके परिसरों को अधिक हरा-भरा और स्वच्छ बनाएगी और छात्रों को 'स्वच्छ भारत मिशन', 'वेस्ट टू वेल्थ मिशन' में शामिल होने और राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 के मुताबिक सामुदायिक जुड़ाव के लिए प्रेरित करेगी।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

लॉजिस्टिक्स और आपूर्ति शृंखला प्रबंधन में उत्कृष्टता केंद्र


केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्री ने 23 सितंबर, 2021 को राष्ट्रीय औद्योगिक इंजीनियरिंग संस्थान, मुंबई में 'लॉजिस्टिक्स और आपूर्ति शृंखला प्रबंधन में उत्कृष्टता केंद्र’ (Centre of Excellence in Logistics and Supply Chain Management) का उद्घाटन किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: वैश्विक प्रतिस्पर्धा और आर्थिक संकट से उत्पन्न चुनौतियों के कारण आपूर्ति शृंखलाओं का प्रबंधन अधिक से अधिक जटिल होता जा रहा है। इस परिदृश्य में, यह केंद्र अनुप्रयुक्त अनुसंधान और विकास गतिविधियों के माध्यम से लॉजिस्टिक्स और आपूर्ति शृंखला प्रबंधन में अत्याधुनिक अनुसंधान, जानकारियों में बढ़ोतरी और क्षमता निर्माण में योगदान देगा।

  • केंद्र उन्नत ज्ञान का प्रसार करने और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और मशीन लर्निंग एप्लिकेशन के माध्यम से डिजिटलीकरण, एनालिटिक्स, और इंटेरनेट ऑफ थिंग्स (IoT) एप्लिकेशन और डिसीजन सपोर्ट सिस्टम को बढ़ावा देने के लिए उच्च गुणवत्ता वाले कार्यक्रमों को शुरू करने और प्रशिक्षित करने के लिए एक प्रेरक शक्ति के रूप में कार्य करेगा।
  • केंद्र उद्योग तथा राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय निकायों के सहयोग से नवीन समाधान खोजने के लिए अनुसंधान परियोजनाओं को अंजाम देगा।
  • स्थिरता और हरित आपूर्ति शृंखलाओं के साथ-साथ लॉजिस्टिक्स और आपूर्ति शृंखला प्रबंधन पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 27 सितंबर, 2021 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन का शुभारंभ किया।

(Image Source: PIB)

महत्वपूर्ण तथ्य: प्रधानमंत्री ने 15 अगस्त, 2020 को लाल किले की प्राचीर से आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन की पायलट परियोजना की घोषणा की थी। वर्तमान में, आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन छ: केंद्र-शासित प्रदेशों में प्रारंभिक चरण में लागू किया जा रहा है।

  • आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन स्वास्थ्य संबंधी व्यक्तिगत जानकारी की सुरक्षा, गोपनीयता और निजता को सुनिश्चित करते हुए एक विस्तृत शृंखला के प्रावधान के माध्यम से डेटा, सूचना और जानकारी का एक सहज ऑनलाइन प्लेटफॉर्म तैयार करेगा।
  • आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन के प्रमुख घटकों में प्रत्येक नागरिक के लिए एक स्वास्थ्य आईडी शामिल है, जो उनके स्वास्थ्य खाते के रूप में भी कार्य करेगी, जिससे व्यक्तिगत स्वास्थ्य रिकॉर्ड को मोबाइल एप्लिकेशन की मदद से जोड़ा और देखा जा सकता है।
  • इसके तहत, हेल्थकेयर प्रोफेशनल्स रजिस्ट्री (HPR) और हेल्थकेयर फैसिलिटीज रजिस्ट्रियां (HFR), आधुनिक और पारंपरिक चिकित्सा प्रणालियों दोनों ही मामलों में सभी स्वास्थ्य सेवा प्रदाताओं के लिए एक संग्रह के रूप में कार्य करेंगी।
  • अभियान के एक हिस्से के रूप में तैयार किया गया आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन सैंडबॉक्स, प्रौद्योगिकी और उत्पाद जांच के लिए एक ढांचे के रूप में कार्य करेगा और ऐसे निजी संगठनों को भी सहायता प्रदान करेगा, जो राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य परितंत्र का हिस्सा होंगे।

सामयिक खबरें आर्थिकी

जीएसटी दरों को युक्तिसंगत बनाने के लिए मंत्रियों का समूह गठित


वस्तु और सेवा कर (जीएसटी) व्यवस्था के तहत कई कर दरों में सुधार हेतु, केंद्र सरकार ने सितंबर 2021 में जीएसटी दरों को युक्तिसंगत बनाने के लिए कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज एस बोम्मई के नेतृत्व में मंत्रियों के एक समूह का गठन किया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: वर्तमान में, जीएसटी व्यवस्था में शून्य, 5%, 12%, 18% और 28% की पांच व्यापक कर दर स्लैब हैं, कुछ सामानों पर 28% से अधिक उपकर और कीमती पत्थरों और हीरे जैसी वस्तुओं के लिए विशेष दरें हैं। .

  • बोम्मई के नेतृत्व में सात सदस्यीय समूह में पश्चिम बंगाल के वित्त मंत्री अमित मित्रा और केरल के वित्त मंत्री के.एन. बालगोपाल के साथ ही गोवा, बिहार, उत्तर प्रदेश और राजस्थान के जीएसटी परिषद के सदस्य शामिल हैं।
  • मंत्रियों का समूह विशेष दरों सहित जीएसटी की मौजूदा दर स्लैब संरचना की समीक्षा करेगा और जीएसटी में एक सरल दर संरचना के लिए आवश्यक कर दर स्लैब के विलय सहित युक्तिकरण उपायों की सिफारिश करेगा।
  • महाराष्ट्र के उप-मुख्यमंत्री अजीत पवार को जीएसटी व्यवस्था सुधार पर एक अन्य 'मंत्रियों के एक समूह' का संयोजक बनाया गया है, जो कर चोरी को कम करने और करदाताओं के लिए अनुपालन को आसान बनाने के लिए आईटी टूल्स के संभावित इस्तेमाल की पहचान करेगा।

सामयिक खबरें आर्थिकी

दूरसंचार क्षेत्र में सुधार


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 15 सितंबर, 2021 को दूरसंचार क्षेत्र में कई ढाँचागत और प्रक्रिया सुधारों को मंजूरी दी है।

महत्वपूर्ण तथ्य: गैर-दूरसंचार राजस्व को समायोजित सकल राजस्व (AGR) की परिभाषा से संभावित रूप से बाहर करने के लिए AGR परिभाषा को युक्तिसंगत बनाया गया है।

  • सभी दूरसंचार सेवा प्रदाताओं के लिए, कैबिनेट ने AGR फैसले से उत्पन्न होने वाले बकाया के वार्षिक भुगतान में 4 साल तक की मोहलत को मंजूरी दी है।
  • निवेश को प्रोत्साहित करने के लिए, दूरसंचार क्षेत्र में स्वचालित मार्ग के तहत 100% प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (FDI) की अनुमति दी गई है।
  • स्पेक्ट्रम उपयोगकर्ता शुल्क को युक्तिसंगत बनाया गया है। ब्याज को मासिक के बजाय सालाना संयोजित किया जाएगा तथा जुर्माना और जुर्माने पर ब्याज को हटा दिया जाएगा।
  • भविष्य की नीलामी में स्पेक्ट्रम की अवधि 20 से बढ़ाकर 30 वर्ष कर दी गई है। स्पेक्ट्रम साझेदारी को प्रोत्साहित किया गया है।
  • प्रीपेड से पोस्टपेड और पोस्ट-पेड से प्री-पेड में बदलाव करने की केवाईसी प्रक्रिया को समाप्त कर दिया गया है।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

राष्ट्रीय सांस्कृतिक मानचित्रण मिशन


2017 में संस्कृति मंत्रालय ने, राष्ट्रीय सांस्कृतिक मानचित्रण मिशन (National Mission on Cultural Mapping) की शुरुआत की थी, जिसका संचालन अब इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केंद्र (IGNCA) को सौंप दिया गया है।

(Source: Ministry of Culture)

महत्वपूर्ण तथ्य: संस्कृति मंत्रालय ने 2017-2018 से 2019-2020 तक 469 करोड़ रूपये के बजट के साथ 2017 में मिशन को मंजूरी दी थी।

  • संस्कृति मंत्रालय, मंत्रालय के अधीन संगठनों से कलाकारों, कला रूपों और अन्य संसाधनों का एक व्यापक डेटाबेस बनाने के लिए सांस्कृतिक मानचित्रण मिशन पर काम कर रहा था।
  • इस मिशन के माध्यम से पंजीकृत कलाकारों/संस्था को कोई प्रत्यक्ष लाभ या सहायता नहीं दी गई है।
  • लोक कलाओं के लिए एक डेटाबेस बनाने और गांवों की विरासत के मानचित्रण का कार्य पांच वर्षों में पूरा किया जाना है।
  • IGNCA का लक्ष्य वित्तीय वर्ष 2021-2022 के अंत तक 5,000 गांवों में मानचित्रण का काम पूरा करना है। IGNCA अक्टूबर 2021 में 75 गांवों में प्रायोगिक तौर पर कार्यक्रम की शुरुआत करेगा।
  • प्रत्येक राज्य और केंद्र- शासित प्रदेश के गांवों के साथ-साथ ‘स्वतंत्रता आंदोलन’ का हिस्सा रहे गांवों का चयन भी किया जाएगा।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

माओवादियों का प्रभाव सिर्फ 41 जिलों में : केंद्र


26 सितंबर, 2021 को गृह मंत्रालय द्वारा मुख्यमंत्रियों और अन्य अधिकारियों के साथ आयोजित बैठक में उपलब्ध कराए गए आंकड़ों के अनुसार, माओवादियों का भौगोलिक प्रभाव देश के केवल 41 जिलों तक सीमित हो गया है, जो 2010 में 10 राज्यों के 96 जिलों से काफी कम है।

महत्वपूर्ण तथ्य: देश के केवल 25 जिलों में वामपंथी उग्रवाद की 85% हिंसा होती है।

  • पिछले दो वर्षों में, विशेष रूप से छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र और ओडिशा में, जहां सुरक्षा कड़ी नहीं थी, वहां सुरक्षा शिविरों को बढ़ाने के लिए एक सफल प्रयास किया गया है।
  • मंत्रालय के अनुसार, पिछले एक दशक में वामपंथी उग्रवाद की घटनाओं की संख्या में धीरे-धीरे गिरावट आई है। 2009 में 2,258 से घटकर इस साल 31 अगस्त तक 349 घटनाएं हुई हैं। इसी अवधि के दौरान मौतों की संख्या 908 से घटकर 110 हो गई है।
  • केंद्रीय गृह मंत्रालय ने पहली बार 2006 में माओवादी मुद्दे के समाधान के लिए मंत्रालय में एक अलग ‘वामपंथी उग्रवाद प्रभाग’ का सृजन किया था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप अभियान/सम्मेलन/आयोजन

ग्लोबल सिटीजन लाइव


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 25 सितंबर, 2021 को ‘ग्लोबल सिटीजन लाइव’ (Global Citizen Live) कार्यक्रम को वीडियो के माध्यम से संबोधित किया।

(Image Source: globalcitizen.org)

  • ‘ग्लोबल सिटीजन’ एक वैश्विक संगठन है, जो 2030 तक अत्यधिक गरीबी को समाप्त करने की दिशा में काम कर रहा है।
  • ‘ग्लोबल सिटीजन लाइव’ एक 24 घंटे का कार्यक्रम था, जो 25 और 26 सितंबर को आयोजित किया गया और इसमें मुंबई, न्यूयॉर्क, पेरिस, रियो डि जेनेरो, सिडनी, लॉस एंजेलिस, लागोस और सियोल सहित प्रमुख शहरों में सजीव कार्यक्रम हुए।
  • इस वैश्विक कार्यक्रम का उद्देश्य ग्रह की रक्षा और गरीबी को समाप्त करने के लिए दुनिया को एकजुट करना था।
  • 'ग्लोबल सिटीजन लाइव' ग्लोबल सिटीजन के 2021 के वैश्विक अभियान, 'विश्व के लिए एक सुधार योजना' (Recovery Plan for the World) का हिस्सा है। सुधार योजना पांच प्रमुख उद्देश्यों पर केंद्रित है- सभी के लिए कोविड-19 को समाप्त करना, भुखमरी संकट को समाप्त करना, सभी के लिए शिक्षा को फिर से शुरू करना, ग्रह की रक्षा करना और सभी के लिए समानता को आगे बढ़ाना।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

विश्व पर्यटन दिवस (27 सितंबर)


2021 का विषय: 'समावेशी विकास के लिए पर्यटन' (Tourism for inclusive growth)

महत्वपूर्ण तथ्य: संयुक्त राष्ट्र विश्व पर्यटन संगठन (UNWTO) संविधि को अपनाने की 10वीं वर्षगांठ के अवसर पर वर्ष 1980 में पहली बार यह दिवस मनाया गया था। UNWTO संविधि को 27 सितंबर, 1970 को अपनाया गया था।

  • संयुक्त राष्ट्र विश्व पर्यटन संगठन, जो जिम्मेदार, टिकाऊ और सार्वभौमिक रूप से सुगम्य पर्यटन को बढ़ावा देता है, आर्थिक विकास और रोजगार सृजन को प्रोत्साहित करता है। इसका मुख्यालय मैड्रिड, स्पेन में स्थित है।

संक्षिप्त खबरें संस्थान-संगठन

राष्ट्रीय जैविक स्ट्रेस प्रबंधन संस्थान


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 28 सितंबर, 2021 को राष्ट्रीय जैविक स्ट्रेस प्रबंधन संस्थान, रायपुर (National Institute of Biotic Stress Management) का नवनिर्मित परिसर राष्ट्र को समर्पित किया।

  • रायपुर (छत्तीसगढ़) में राष्ट्रीय जैविक स्ट्रेस प्रबंधन संस्थान की स्थापना जैविक स्ट्रेस (Biotic Stress) में बुनियादी और रणनीतिक अनुसंधान करने, मानव संसाधन विकसित करने और नीतिगत सहायता प्रदान करने के लिए की गई है। इस संस्थान ने शैक्षणिक सत्र 2020-21 से पीजी कोर्स शुरू कर दिए हैं।
  • संस्थान की आधारशिला 7 अक्टूबर, 2012 को भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद, नई दिल्ली के तहत 99वें शोध संस्थान के रूप में रखी गई है।
  • पौधों में जैविक स्ट्रेस (Biotic stress) जीवित जीवों, विशेष रूप से वायरस, बैक्टीरिया, कवक, नेमाटोड, कीड़े, और खरपतवार के कारण होता है।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

निवेशकों और व्यवसायों के लिए राष्ट्रीय एकल खिड़की प्रणाली


केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने 22 सितंबर, 2021 को निवेशकों और व्यवसायों के लिए राष्ट्रीय एकल खिड़की प्रणाली शुरू की।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह एकल खिड़की पोर्टल निवेशकों के लिए अनुमोदनों और मंजूरी हेतु एक ही स्थान पर समस्त सुविधायें (one-stop-shop) उपलब्ध कराएगी।

(Image Source: PIB)

  • यह पोर्टल आज की स्थिति में 18 केंद्रीय विभागों और 9 राज्यों में अनुमोदनों की मेजबानी करता है तथा अन्य 14 केन्द्रीय विभागों और 5 राज्यों को दिसंबर 2021 तक इस पोर्टल में जोड़ लिया जाएगा।
  • पोर्टल को ‘इन्वेस्ट इंडिया’ के साथ ‘उद्योग संवर्धन और आंतरिक व्यापारविभाग’ (DPIIT) द्वारा संयुक्त रूप से विकसित किया गया है।
  • इससे इको-सिस्टम में पारदर्शिता, उत्तरदायित्व और जवाबदेही आएगी और सभी सूचनाएं एक ही डैशबोर्ड पर उपलब्ध होंगी।
  • आवेदन करने, ट्रैक करने और प्रश्नों का जवाब देने के लिए एक आवेदक डैशबोर्ड भी उपलब्ध होगा।
  • सेवाओं में 'नो योर अप्रूवल' (Know Your Approval: KYA), सामान्य पंजीकरण और राज्य पंजीकरण फॉर्म, दस्तावेज संग्रह और ई-संचार शामिल हैं।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

‘शून्य’ अभियान


नीति आयोग ने आरएमआई (Rocky Mountain Institute) और आरएमआई इंडिया के सहयोग से 15 सितंबर, 2021 को उपभोक्ताओं और उद्योग के साथ मिलकर शून्य-प्रदूषण वाले वाहनों को बढ़ावा देने वाले ‘शून्य’ अभियान (Shoonya campaign) की शुरुआत की।

(Source: SHOONYA)

अभियान का उद्देश्य: शहरी क्षेत्र में डिलीवरी के मामले में इलेक्ट्रिक वाहनों (ईवी) को अपनाने में तेजी लाना और शून्य-प्रदूषण उत्सर्जन से होने वाले लाभों के बारे में उपभोक्ताओं के बीच जागरूकता पैदा करना।

  • इस अभियान के हिस्से के रूप में, अंतिम स्थान (Final mile) की डिलीवरी के लिए इलेक्ट्रिक वाहनों को अपनाने की दिशा में उद्योग जगत के प्रयासों को मान्यता प्रदान करने और उन्हें बढ़ावा देने के लिए कॉर्पोरेट ब्रांडिंग और प्रमाणन संबंधी एक कार्यक्रम शुरू किया जा रहा है।
  • एक ऑनलाइन निगरानी प्लेटफॉर्म, इलेक्ट्रिक वाहनों के संदर्भ में विद्युतीकृत किलोमीटर, कार्बन संबंधी बचत, मानक प्रदूषक संबंधी बचत और स्वच्छ डिलीवरी वाहनों से होने वाले अन्य लाभों से जुड़े आंकड़ों के माध्यम से इस अभियान के प्रभावों को साझा करेगा।
  • भारत में माल ढुलाई में से होने वाले कार्बन डाइ-ऑक्साइड के कुल उत्सर्जन का 10% शहरी मालवाहक वाहनों से होता है और 2030 तक इस उत्सर्जन में 114% की वृद्धि होने की सम्भावना है।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

परशुराम कुंड


केंद्रीय पर्यटन मंत्री जी. किशन रेड्डी ने केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत के साथ 25 सितंबर, 2021 को अरुणाचल प्रदेश में 'परशुराम कुंड विकास' परियोजना की आधारशिला रखी।

महत्वपूर्ण तथ्य: योजना के तहत “परशुराम कुंड, लोहित जिला, अरुणाचल प्रदेश का विकास” परियोजना को जनवरी 2021 में 37.88 करोड़ रुपये की लागत से पर्यटन मंत्रालय द्वारा अनुमोदित किया गया था।

  • इस परियोजना में पार्किंग क्षेत्र, पर्यटक सूचना केंद्र, वर्षा आश्रय स्थल, कियोस्क, मेला मैदान के पास जल आपूर्ति लाइन, फूड कोर्ट / प्रसादम केंद्र आदि सुविधाएं प्रदान की जाएंगी।
  • यह परियोजना पर्यटन मंत्रालय की 'तीर्थयात्रा कायाकल्प और आध्यात्मिक, विरासत संवर्धन अभियान’ (प्रसाद) (Pilgrimage Rejuvenation and Spiritual, Heritage Augmentation Drive: PRASHAD) योजना के तहत स्वीकृत है।

प्रसाद योजना: यह भारत सरकार द्वारा पूर्ण वित्तीय सहायता के साथ एक केंद्रीय क्षेत्र की योजना है।

  • यह योजना पर्यटन मंत्रालय द्वारा वर्ष 2014-15 में तीर्थयात्रा और विरासत पर्यटन स्थलों का उपयोग करने हेतु केंद्रित बुनियादी ढांचे के विकास की दृष्टि से शुरू की गई है।

सामयिक खबरें आर्थिकी

बैड बैंक


केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 17 सितंबर, 2021 को नेशनल एसेट रिकंस्ट्रक्शन कंपनी (NARCL) के लिए 30,600 करोड़ रुपये की सरकारी गारंटी को मंजूरी दी, जिससे बैड बैंक (bad bank) के संचालन का मार्ग प्रशस्त हुआ।

महत्वपूर्ण तथ्य: बैड बैंक के गठन के पीछे प्रमुख विचारों में से एक बैंकों की बैलेंस शीट पर दबाव कम करना है।

  • एक बैड बैंक एक कॉर्पोरेट संरचना है, जो बैंकों की जोखिम भरी परिसंपत्तियों (खराब ऋण आदि) को अलग करती है।
  • यह एक बैंक से गैर-निष्पादित परिसंपत्ति (एनपीए) खरीदने के लिए स्थापित किया गया है, जिसकी कीमत बैड बैंक द्वारा ही निर्धारित की जाती है।
  • बैड बैंक या NARCL ऋण के लिए सहमत मूल्य का 15% नकद में भुगतान करेगा और शेष 85% सरकार द्वारा गारंटीकृत सुरक्षा प्राप्तियां (security receipts) होगी।
  • यदि बैड बैंक खराब ऋणों (bad loans) को बेचने में असमर्थ है, या उसे घाटे में बेचना है, तो सरकारी गारंटी लागू की जाएगी।
  • NARCL को हस्तांतरण के लिए बैंक बही से निकाले जा रहे खराब ऋणों का मूल्य लगभग 2 लाख करोड़ रुपये है। पहले चरण में करीब 90,000 करोड़ रुपये के खराब ऋण ट्रांसफर किए जायेंगे। 30,600 करोड़ रुपये की गारंटी 2 लाख करोड़ रुपये के पूरे पूल को कवर करेगी।

सामयिक खबरें आर्थिकी

अखिल भारतीय ऋण और निवेश सर्वेक्षण


राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (NSO) द्वारा 10 सितंबर, 2021 को अखिल भारतीय ऋण और निवेश सर्वेक्षण (All India Debt & Investment Survey) जारी किया गया।

महत्वपूर्ण तथ्य: राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (एनएसओ), ने जनवरी-दिसंबर, 2019 की अवधि के दौरान राष्ट्रीय नमूना सर्वेक्षण (एनएसएस) के 77वें दौर के हिस्से के रूप में अखिल भारतीय ऋण और निवेश सर्वेक्षण पर नवीनतम सर्वेक्षण किया है।

  • ग्रामीण भारत में कर्जदार परिवारों की संख्या तेजी से बढ़ी है, 2012 और 2018 के बीच औसत कर्ज में 84% की बढ़ोतरी हुई है और कोविड-19 ने 2021 तक सभी घरों के कर्ज को दोगुना कर दिया है।
  • ग्रामीण परिवारों का औसत कर्ज 2012 में 32,522 रुपये से बढ़कर जून 2018 तक 59,748 रुपये हो गया, जबकि शहरी परिवारों का औसत कर्ज इसी अवधि में 42% बढ़कर 1,20,336 रुपये हो गया।
  • सर्वेक्षण किए गए परिवारों के बीच 'ऋणग्रस्तता की घटनाओं' (30 जून, 2018 की स्थिति के अनुसार ऋणी परिवारों का प्रतिशत) से मापी गई ऋणग्रस्त परिवारों की संख्या ग्रामीण भारत में पिछले सर्वेक्षण में 31.4% से बढ़कर 35% हो गई, जबकि शहरी परिवारों के लिए यह 22.4% पर स्थिर रही।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

सरकारी सहायता प्राप्त करने का अधिकार मौलिक अधिकार नहीं


सुप्रीम कोर्ट ने 27 सितंबर, 2021 को एक फैसले में कहा कि किसी संस्थान का, चाहे वह बहुसंख्यक या अल्पसंख्यक समुदाय द्वारा संचालित हो, सरकारी सहायता प्राप्त करने का अधिकार मौलिक अधिकार नहीं है तथा दोनों को समान रूप से सहायता के नियमों और शर्तों का पालन करना होगा।

महत्वपूर्ण तथ्य: जब अनुदान प्राप्त संस्थाओं का मामला हो तो उसमें अल्पसंख्यक या गैर अल्पसंख्यक संस्थान का भेद नहीं किया जा सकता।

  • पीठ ने स्पष्ट किया कि यदि सरकार ने सहायता वापस लेने के लिए कोई नीतिगत फैसला किया है, तो कोई संस्थान इस निर्णय पर "अधिकार के मामले" के रूप में सवाल नहीं खड़ा कर सकता।
  • यदि कोई संस्थान सरकारी अनुदान नहीं लेना चाहता और इसके लिए जरूरी शर्तों का पालन नहीं करना चाहता है तो यह उस पर निर्भर करता है और वह अपने स्तर पर काम कर सकता है।
  • इलाहाबाद उच्च न्यायालय के एक फैसले के खिलाफ उत्तर प्रदेश द्वारा दायर एक अपील में निर्णय आया, जिसमें इंटरमीडिएट शिक्षा अधिनियम 1921 के एक प्रावधान को असंवैधानिक घोषित किया गया था।
  • अनुच्छेद 30(2) के अनुसार शिक्षा संस्थाओं को सहायता देने में राज्य किसी शिक्षा संस्था के विरुद्ध इस आधार पर विभेद नहीं करेगा कि वह धर्म या भाषा पर आधारित किसी अल्पसंख्यक-वर्ग के प्रबंधन में है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप निधन

महिला अधिकार कार्यकर्ता कमला भसीन का निधन


प्रख्यात महिला अधिकार कार्यकर्ता, कवयित्री और लेखिका कमला भसीन का 25 सितंबर, 2021 को दिल्ली में निधन हो गया। वे 75 वर्ष की थी।

(Source: Navbharat Times)

  • चार साल तक उदयपुर स्थित 'सेवा मंदिर' नामक एक ग्रामीण गैर-सरकारी संगठन के साथ काम करने के बाद, भसीन ने वर्ष 1976 - 2002 तक संयुक्त राष्ट्र के खाद्य और कृषि संगठन (FAO) के साथ काम किया।
  • भसीन दक्षिण एशियाई नारीवादी नेटवर्क 'संगत' की संस्थापक और महिला संसाधन केंद्र 'जागोरी' की सह-संस्थापक थीं। वह कई अन्य संगठनों से जुड़ी रहने के अलावा, 'वन बिलियन राइजिंग' अभियान(One Billion Rising campaign) की दक्षिण एशियाई समन्वयक भी थी।
  • वह अपनी कविता 'क्योंकि मैं एक लड़की हूं, मुझे पढ़ना है' के लिए जानी जाती हैं।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप नियुक्ति

लेफ्टिनेंट जनरल गुरबीरपाल सिंह ने संभाला एनसीसी के महानिदेशक का पदभार


लेफ्टिनेंट जनरल गुरबीरपाल सिंह ने 27 सितंबर, 2021 को राष्ट्रीय कैडेट कोर (एनसीसी) के 34वें महानिदेशक के रूप में पदभार ग्रहण किया। लेफ्टिनेंट जनरल सिंह को 1987 में पैराशूट रेजिमेंट में कमीशन प्रदान किया गया था।

(Source: PIB)

  • भारत में राष्ट्रीय कैडेट कोर (एनसीसी) का गठन 1948 में राष्ट्रीय कैडेट कोर अधिनियम, 1948 के माध्यम से किया गया था।
  • राष्ट्रीय कैडेट कोर एक त्रि-सेवा संगठन है, जिसमें सेना, नौसेना और वायु सेना के स्कंध (Wing) शामिल हैं, जो युवाओं को अनुशासित और देशभक्त नागरिक के रूप में संवारने में लगे हुए हैं।
  • राष्ट्रीय कैडेट कोर एक स्वैच्छिक संगठन है, जो पूरे भारत में हाई स्कूल, उच्च माध्यमिक, कॉलेजों और विश्वविद्यालयों से कैडेटों की भर्ती करता है।
  • सशस्त्र बलों के सेवा अधिकारियों द्वारा एनसीसी कैडेटों को बुनियादी सैन्य और हथियार प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

परमाणु हथियारों के सम्पूर्ण उन्मूलन का अंतरराष्ट्रीय दिवस (26 सितंबर) [


महत्वपूर्ण तथ्य: इस दिवस का उद्देश्य परमाणु हथियारों से मानवता के लिए उत्पन्न खतरे और उनके सम्पूर्ण उन्मूलन के लिए लोगों की जागरूकता और शिक्षा को बढ़ाना है।

  • संयुक्त राष्ट्र महासभा ने दिसंबर 2013 में इस दिवस की घोषणा की थी। यह दिवस 2014 से प्रतिवर्ष मनाया जाता है।

संक्षिप्त खबरें इन्हें भी जानें

सीरोटाइप 2 डेंगू


सितंबर 2021 में स्वास्थ्य मंत्रालय ने भारत के 11 राज्यों में 'सीरोटाइप 2 डेंगू' (Serotype 2 dengue) की उभरती चुनौती को लेकर चतावनी जारी की।

  • सीरोटाइप - II डेंगू के मामलों की रिपोर्ट करने वाले राज्य आंध्र प्रदेश, गुजरात, कर्नाटक, केरल, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, ओडिशा, राजस्थान, तमिलनाडु और तेलंगाना हैं।
  • विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के आंकड़ों के अनुसार, डेंगू के चार प्रकार हैं - सीरोटाइप 1 से लेकर 4 तक।
  • पूरी दुनिया में हर साल करीब 4 करोड़ लोग डेंगू से संक्रमित हो जाते हैं। सीरोटाइप -2 के वर्तमान में 35% मामले हैं।
  • यह डेंगू बुखार के अन्य प्रकारों तुलना में अधिक गंभीर है। सीरोटाइप-2 डेंगू संक्रमण में, प्लेटलेट्स तेजी से गिरते हैं और शरीर की प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया अति सक्रिय होती है, जिसके परिणामस्वरूप साइटोकाइन स्टॉर्म (cytokine storm) होता है, जो अंगों को नुकसान पहुंचा सकता है। डेंगू का यह रूप किडनी को भी प्रभावित करता है।
  • अन्य प्रकारों की तुलना में सीरोटाइप-2 डेंगू मामलों में मृत्यु की संभावना अधिक हो सकती है, हालांकि डेंगू में कुल मृत्यु दर 1% से कम है।
  • डेंगू के प्रकार, रोग पैदा करने वाले वायरस द्वारा वितरित प्रोटीन की विविधता से पहचाने जाते हैं।

संक्षिप्त खबरें संस्थान-संगठन

राष्ट्रीय औद्योगिक इंजीनियरिंग संस्थान


केंद्रीय वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय द्वारा 23 सितंबर, 2021 को राष्ट्रीय औद्योगिक इंजीनियरिंग संस्थान, मुंबई में 'लॉजिस्टिक्स और आपूर्ति शृंखला प्रबंधन में उत्कृष्टता केंद्र’ (Centre of Excellence in Logistics and Supply Chain Management) का उद्घाटन किया गया।

  • राष्ट्रीय औद्योगिक इंजीनियरिंग संस्थान (पूर्व में राष्ट्रीय औद्योगिक इंजीनियरिंग प्रशिक्षण संस्थान) भारत सरकार के शिक्षा मंत्रालय के तहत एक स्वायत्त संस्थान है, जो मुंबई में स्थित है।
  • राष्ट्रीय औद्योगिक इंजीनियरिंग संस्थान (NITIE) की स्थापना 1963 में भारत सरकार द्वारा संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (UNDP) की सहायता से अंतरराष्ट्रीय श्रम संगठन (ILO) के माध्यम से कुशल पेशेवर तैयार करने के लिए की गई थी।
  • यह स्नातकोत्तर और डॉक्टरेट स्तर पर औद्योगिक इंजीनियरिंग, प्रबंधन, सूचना प्रौद्योगिकी प्रबंधन और औद्योगिक सुरक्षा और पर्यावरण प्रबंधन से संबंधित क्षेत्रों में उत्कृष्ट शिक्षा प्रदान करने वाला एक शीर्ष संस्थान है।

सामयिक खबरें पर्यावरण

समुद्री खीरा


19 सितंबर, 2021 को तमिलनाडु के मंडपम में भारतीय तटरक्षक बल (आईसीजी) की टीम ने तेजी से संचालित किए गए एक अभियान में दो टन समुद्री खीरा (Sea cucumber) जब्त किया, जो एक प्रतिबंधित समुद्री प्रजाति है।

(Source: Live Science)

महत्वपूर्ण तथ्य: समुद्री खीरे समुद्री अकशेरूकीय (marine invertebrates) हैं, जो समुद्र तल पर रहते हैं। उनका नाम उनके असामान्य आयताकार आकार के आधार पर रखा गया है, जो एक मोटे खीरे जैसा दिखता है।

  • समुद्री खीरे की लगभग 1,250 प्रजातियाँ हैं, जिनमें से सभी टैक्सोनोमिक क्लास (taxonomic class) होलोथुरोइडिया (Holothuroidea) से संबंधित हैं। यह वर्ग इकाइनोडर्मेटा संघ (Echinodermata phylum) के अंतर्गत आता है, जिसमें कई अन्य प्रसिद्ध समुद्री अकशेरूकीय भी शामिल हैं, जैसे कि समुद्री तारे, समुद्री अर्चिन (sea urchins) और सैंड डॉलर (sand dollars)।
  • समुद्री खीरे का आकार लगभग 1.9 सेंटीमीटर से लेकर 1.8 मीटर से अधिक तक होता है।
  • वे प्रवाल पारिस्थितिकी तंत्र का एक अभिन्न अंग हैं क्योंकि समुद्री खीरे के मुख्य उप-उत्पादों में से एककैल्शियम कार्बोनेट है, जो कि प्रवाल भित्तियों के अस्तित्व के लिए आवश्यक है।
  • समुद्री खीरा वाहित मल (sewage) का अंतर्ग्रहण करके समुद्री जल की पारदर्शिता बनाए रखता है। यह समुद्र को अम्लीकरण से भी बचाता है।
  • चीन और दक्षिण पूर्व एशिया में समुद्री खीरे की अत्यधिक मांग है। मुख्य रूप से इसकी तस्करी रामनाथपुरम और तूतीकोरिन जिलों से मछली पकड़ने के जहाजों में तमिलनाडु से श्रीलंका तक की जाती है।
  • भारत में समुद्री खीरे को वन्यजीव संरक्षण अधिनियम 1972 की अनुसूची-I के तहत सूचीबद्ध एक संकटग्रस्त (Endangered) प्रजाति के रूप में माना जाता है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप पुरस्कार/सम्मान

हुनरबाज पुरस्कार


25 सितंबर, 2021 को पंडित दीन दयाल उपाध्याय की जयंती पर अंत्योदय दिवस के अवसर पर ग्रामीण विकास मंत्रालय के तत्वावधान में राष्ट्रीय ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज संस्थान, हैदराबाद ने 15 राज्यों के 75 दिव्यांगजनों को हुनरबाज पुरस्कार (Hunarbaaz Awards) प्रदान किए।

  • पुरस्कार समारोह का आयोजन राष्ट्रीय ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज संस्थान द्वारा ग्रामीण विकास मंत्रालय के साथ मिलकर राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन और ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थानों के सहयोग से किया गया था।
  • पुरस्कार उन उम्मीदवारों को दिया गया, जिन्हें दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्या योजना (DDU-GKY) और मंत्रालय की ग्रामीण स्व-रोजगार प्रशिक्षण संस्थान योजनाओं के माध्यम से विभिन्न ट्रेडों में प्रशिक्षित किया गया था, बाद में उन्हें एक वर्ष से अधिक समय तक संगठनों में कार्य पर रखा गया या फिर वह स्वरोजगार के रूप में अपनी पसंद के व्यापार में सफलतापूर्वक जुटे थे।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

विश्व फार्मासिस्ट दिवस 2021 (25 सितंबर)


2021 का विषय: 'फार्मेसी: ऑलवेज ट्रस्टेड फॉर योर हेल्थ' (Pharmacy: Always Trusted For Your Health)

महत्वपूर्ण तथ्य: स्वास्थ्य क्षेत्र के क्षेत्र में फार्मासिस्टों की भूमिका को मान्यता देने के लिए इस दिवस को मनाया जाता है।

  • 2009 में, तुर्की के इस्तांबुल शहर में अंतरराष्ट्रीय फार्मास्युटिकल फेडरेशन (FIP) परिषद द्वारा विश्व फार्मासिस्ट दिवस की शुरुआत की गई थी।
  • ज्ञात हो कि वर्ष 1912 में, इसी दिन (25 सितंबर) अंतरराष्ट्रीय फार्मास्युटिकल फेडरेशन की स्थापना की गई थी। यह एक गैर-सरकारी संगठन है, जिसका प्रधान कार्यालय नीदरलैंड में स्थित है।

संक्षिप्त खबरें इन्हें भी जानें

पारदर्शी सिरेमिक्स


विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग, भारत सरकार के एक स्वायत्त अनुसंधान एवं विकास केंद्र ‘पाउडर धातुकर्म और नई सामग्री के लिए अंतरराष्ट्रीय उन्नत अनुसंधान केंद्र’ (International Advanced Research Centre for Powder Metallurgy and New Materials: ARCI) के शोधकर्ताओं ने भारत में पहली बार एक पारदर्शी सिरेमिक्स विकसित किया है, जो कोलॉइडल प्रोसेसिंग (colloidal processing) नाम की तकनीक के बाद तापमान और दबाव के एक ही समय में इस्तेमाल से सैद्धांतिक पारदर्शिता तक पहुंचता है।

  • यह पदार्थ थर्मल इमेजिंग अनुप्रयोगों में खासतौर पर कार्य के लिये कड़ी परिस्थितियों में और व्यक्तिगत सुरक्षा उपायों जैसे हेलमेट, फेस शील्ड और चश्में आदि में इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • पारदर्शी सिरेमिक उन्नत पदार्थों का एक नया वर्ग है, जिसमें अद्वितीय पारदर्शिता और उत्कृष्ट यांत्रिक गुण हैं।
  • इन पदार्थों को न केवल प्रकाश के लिये बल्कि पराबैंगनी (यूवी), इन्फ्रारेड (आईआर), और रेडियोफ्रीक्वेंसी (आरएफ) की पारदर्शिता के लिये भी डिजाइन किया जा सकता है, जिससे इसके इस्तेमाल के अनेक अवसर मिलते हैं।
  • ये पदार्थ हालांकि कई देशों में तैयार किये जाते हैं, इनकी आपूर्ति पर प्रतिबंध है क्योंकि इनका इस्तेमाल सामरिक अनुप्रयोगों में किया जा सकता है।

संक्षिप्त खबरें इन्हें भी जानें

टारबॉल्स


सितंबर 2021 में, महाराष्ट्र में जुहू और वर्सोवा समुद्र तटों पर टारबॉल्स (Tarballs) देखे गए।

  • टारबॉल गहरे रंग के तेल की चिपचिपी गेंदें (balls) होती हैं, जो तब बनती हैं, जब कच्चा तेल समुद्र की सतह पर तैरता है। समुद्री वातावरण में कच्चे तेल के अपक्षय (weathering) से टारबॉल्स बनते हैं।
  • इन्हें समुद्री धाराओं और लहरों द्वारा खुले समुद्र से तटों तक पहुँचाया जाता है। कुछ गेंदें बास्केटबॉल जितनी बड़ी होती हैं, जबकि अन्य छोटी गोलाकार होती हैं।
  • टारबॉल सफाई मशीनरी से चिपक जाते हैं और उन्हें हटाना तथा साफ करना बहुत मुश्किल होता है।
  • हवा और लहरें तेल को छोटे-छोटे टुकड़ों में बाँट देती हैं, जो बहुत व्यापक क्षेत्र में बिखरे होते हैं। विभिन्न भौतिक, रासायनिक और जैविक प्रक्रियाएं (अपक्षय) तेल की बनावट को बदल देती हैं, जिससे टारबॉल्स निर्मित होते हैं।
  • इस बात का संदेह है कि तेल गहरे समुद्र में बड़े मालवाहक जहाजों से आता है और हवा की गति और दिशा के कारण मानसून के दौरान तारकोल के रूप में किनारे पर धकेल दिया जाता है।

राज्य समाचार नागालैंड

नागालैंड के 'नागा खीरे' को मिला जीआई टैग


सितंबर 2021 में नागालैंड के 'नागा खीरे' (Naga Cucumber) ने जीआई टैग हासिल किया है।

(Source: Twitter)

  • नागा खीरे रसदार, मुलायम और मीठे होते हैं और पूरी तरह से जैविक रूप से उगाए जाते हैं।
  • ये कम कैलोरी वाले लेकिन पोटेशियम से समृद्ध होते हैं तथा इसमें काफी मात्रा में पानी होता है और ये स्पोर्ट्स ड्रिंक के विकल्प के रूप में काम कर सकते हैं।
  • नागा खीरे आमतौर पर 15 से 20 सेमी लंबाई और 14-16 सेमी व्यास के होते हैं। औसतन 5-8 खीरे का वजन एक किग्रा. होता है।
  • मुख्य रूप से खरीफ सीजन के दौरान खीरा की खेती पारंपरिक रूप से नागा किसानों द्वारा अपने झूम खेतों में मिश्रित फसल के रूप में की जाती रही है। यह 'झूम खेती' में महत्वपूर्ण घटक फसलों में से एक है।
  • यह मुख्य रूप से धान के साथ नकदी फसल के रूप में उगाया जाता है।

पीआईबी न्यूज पर्यावरण

दो और भारतीय समुद्र तटों को मिला प्रतिष्ठित अंतरराष्ट्रीय ब्लू फ्लैग प्रमाणन


सितंबर 2021 में दो नए भारतीय समुद्र तटों- तमिलनाडु में कोवलम (Kovalam) और पुडुचेरी में इडेन (Eden) को वैश्विक स्तर पर मान्यता प्राप्त और प्रतिष्ठित अंतरराष्ट्रीय इको-लेबल 'ब्लू फ्लैग' प्रमाणन प्रदान किया गया है। भारत में अब ब्लू फ्लैग वाले 10 समुद्र तट मौजूद हैं।

(Image Source: FEE)

महत्वपूर्ण तथ्य: फाउंडेशन फॉर एनवायर्नमेंट एजुकेशन इन डेनमार्क (FEE), जो वैश्विक स्तर पर मान्यता प्राप्त इको-लेबल- ब्लू फ्लैग प्रमाणन प्रदान करता है, ने 8 नामांकित समुद्र तटों शिवराजपुर (गुजरात), घोघला (दीव), कासरकोड एवं पदुबिद्री (कर्नाटक), कप्पड (केरल), रुशिकोंडा (आंध्र प्रदेश), गोल्डन (ओडिशा) और राधानगर (अंडमान एवं निकोबार) के लिए दोबारा प्रमाणन भी दिया है। इन समुद्र तटों को पिछले साल ब्लू फ्लैग प्रमाण पत्र दिया गया था।

  • FEE डेनमार्क हर समय 33 सख्त अनुपालन मानदंडों की नियमित निगरानी एवं निरीक्षण करता है। लहराता हुआ 'ब्लू फ्लैग' इन 33 सख्त मानदंडों और समुद्र तट के अच्छे स्वास्थ्य के लिए 100 प्रतिशत अनुपालन का संकेतक है।

बीच एनवायर्नमेंट एंड एस्थेटिक्स मैनेजमेंट सर्विसेज (BEAMS): यह भारत के तटीय क्षेत्रों के सतत विकास के लिए पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय द्वारा ‘एकीकृत तटीय क्षेत्र प्रबंधन’ दृष्टिकोण के तहत शुरू की गई एक पहल है।

  • इस कार्यक्रम का उद्देश्य तटीय समुद्र में प्रदूषण को कम करना, समुद्र तटीय वस्तुओं के सतत विकास को बढ़ावा देना, तटीय पारिस्थितिक तंत्र एवं प्राकृतिक संसाधनों की रक्षा करना है।

सामयिक खबरें आर्थिकी

स्थानीय मूल्य संवर्धन, विनिर्माण और निर्यात के लिए संचालन समिति


वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय ने डॉ. पवन गोयनका की अध्यक्षता में विनिर्माण को पुनर्जीवित करने के लिए 'स्थानीय मूल्य संवर्धन, विनिर्माण और निर्यात के लिए संचालन समिति' (Steering Committee for Local Value Addition, Manufacturing and Exports: SCALE) का गठन किया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: समूह अब 17 क्षेत्रों के लिए ऐसे विचारों पर काम कर रहा है, जिनमें खिलौने, वस्त्र, फर्नीचर और ई-साइकिल से लेकर ड्रोन और यहां तक कि मत्स्य पालन तक शामिल हैं।

  • SCALE में उद्योग और आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग (DPIIT) के सदस्य सचिव मनमीत कौर नंदा के साथ तीन उद्योग निकायों- सीआईआई, फिक्की और एसोचैम तथा सरकार के तीन प्रतिनिधि शामिल हैं।
  • इस समिति की कोई समय सीमा नहीं है और यह कई स्तरों पर अलग-अलग एजेंडा के साथ उद्योग के विभिन्न दलों के साथ परामर्श की एक कठोर प्रक्रिया का पालन करेगा।

सामयिक खबरें पर्यावरण

हम्बोल्ट पेंगुइन


सितंबर 2021 में मुंबई के भायखला चिड़ियाघर (Byculla Zoo) ने इस साल दो नए नन्हें हम्बोल्ट पेंगुइन (Humboldt penguin) को शामिल करने की घोषणा की।

(Image Source: Penguin World)

महत्वपूर्ण तथ्य:हम्बोल्ट पेंगुइन कम से कम 17 पेंगुइन प्रजातियों में से एक मध्यम आकार की प्रजाति है।

  • सबसे बड़ा, एम्परर पेंगुइन (Emperor penguin), 4 फीट से अधिक लंबा होता है, जबकि लिटिल पेंगुइन (Little penguin) की अधिकतम लंबाई 1 फीट होती है। हम्बोल्ट पेंगुइन की औसत लंबाइ सिर्फ 2 फीट तक है।
  • पेंगुइन छ: प्रजातियों में विभाजित हैं। हम्बोल्ट पेंगुइन (स्फेनिस्कस हम्बोल्टी) (Spheniscus humboldti) एक जीनस से संबंधित है, जिसे आमतौर पर 'बैंडेड' समूह (‘banded’ group) के रूप में जाना जाता है।
  • हम्बोल्ट पेंगुइन चिली और पेरू के प्रशांत तटों के लिए स्थानिक हैं।
  • इनका नाम हम्बोल्ट पेंगुइन इसलिए रखा गया है क्योंकि इनका आवास हम्बोल्ट धारा के पास स्थित है, जो ठंडे जल की विशेषता वाली एक महासागरीय जल धारा है।
  • हम्बोल्ट पेंगुइन की आंखों के चारों ओर बड़े पैच होते हैं, जो उन्हें ठंडा रखने में मदद करते हैं। गर्म जलवायु का सामना करने की क्षमता के कारण हम्बोल्ट सबसे लोकप्रिय चिड़ियाघर पेंगुइन में से एक है।

पीआईबी न्यूज विज्ञान-प्रौद्योगिकी

प्लैनेटेरियम इनोवेशन चैलेंज


माईगव इंडिया (MyGov India) ने 11 सितंबर को भारतीय स्टार्ट-अप और तकनीकी उद्यमियों के लिए प्लैनेटेरियम इनोवेशन चैलेंज (Planetarium Innovation Challenge) शुरू किया।

(Image Source: https://innovate.mygov.in/)

उद्देश्य: ऑगमेंटेड रियलिटी (AR), वर्चुअल रियलिटी (VR) और मर्ज्ड रियलिटी (MR) सहित नवीनतम तकनीकों का उपयोग करके एक स्वदेशी प्लैनेटेरियम (तारामंडल) प्रणाली सॉफ्टवेयर बनाने की क्षमता के साथ भारत से बाहर की टेक फर्मों और स्टार्ट-अप्स को एक साथ लाना।

महत्वपूर्ण तथ्य: प्रतियोगिता के तहत हमारे प्लैनेटेरियम (तारामंडलों) के लिए अत्याधुनिक तकनीक विकसित करने के लिए स्टार्ट-अप और तकनीकी उद्यमियों से आवेदन आमंत्रित किए गए हैं।

  • इनोवेशन चैलेंज तारामंडल प्रौद्योगिकी के सभी क्षेत्रों के विशेषज्ञों के लिए खुला है। आवेदकों में स्टार्ट-अप, भारतीय कानूनी इकाइयां शामिल हो सकती हैं; यहां तक कि व्यक्ति (या टीमें) भी विचार प्रस्तुत कर सकते हैं।
  • प्रतियोगिता के तहत प्रथम विजेता, द्वितीय विजेता और तीसरे विजेता को क्रमश: पांच लाख, तीन लाख और दो लाख रुपये का नकद पुरस्कार दिया जाएगा।
  • चंद्रयान लॉन्च से प्रेरित होकर, भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ने माईगव इंडिया के सहयोग से इसरो प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता-2019 का आयोजन किया था।

सामयिक खबरें आर्थिकी

आईआरसीटीसी लग्जरी क्रूज सेवा


रेल मंत्रालय के तहत सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यम इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन लिमिटेड (आईआरसीटीसी) ने 18 सितंबर, 2021 को एक निजी कंपनी के साथ साझेदारी में भारत में लग्जरी क्रूज सेवा शुरू की है।

(Image Source: IRCTC)

महत्वपूर्ण तथ्य: आईआरसीटीसी ने भारत में पहले स्वदेशी लक्जरी क्रूज के प्रचार और विपणन के लिए 'वाटरवेज लीजर टूरिज्म प्राइवेट लिमिटेड' (Waterways Leisure Tourism Pvt Ltd) द्वारा संचालित कॉर्डेलिया क्रूज के साथ समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं।

  • पहले चरण में क्रूज मुंबई से रवाना होगा और पर्यटकों को गोवा, दीव, कोच्चि, लक्षद्वीप द्वीप समूह की सैर कराएगा।
  • दूसरे चरण में, मई 2022 से शुरू होकर, क्रूज को चेन्नई में स्थानांतरित कर दिया जाएगा, जो वहां से कोलंबो, गाले, त्रिंकोमाली और जाफना जैसे श्रीलंकाई गंतव्यों के लिए रवाना होगा।
  • कॉर्डेलिया क्रूज पर यात्रा करते समय, रेस्तरां, स्विमिंग पूल, बार, ओपन सिनेमा, थिएटर जैसी मनोरंजक गतिविधियों का आनंद लिया जा सकता है।

सामयिक खबरें आर्थिकी

भारत में कर्ज में डूबे कृषक परिवार


10 सितंबर, 2021 को जारी किये गए राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (एनएसओ) के 77वें दौर के सर्वेक्षण के अनुसार 2019 में देश में कृषि कार्य में संलग्न 50.2% परिवार कर्ज में थे और प्रत्येक कृषक परिवार पर बकाया ऋण की औसत राशि 74,121 रुपये थी।

महत्वपूर्ण तथ्य: बकाया ऋणों में से केवल 69.6% बैंकों, सहकारी समितियों और सरकारी एजेंसियों जैसे संस्थागत स्रोतों से लिए गए थे, जबकि 20.5% ऋण पेशेवर साहूकारों से थे।

  • कुल ऋण में से केवल 57.5% कृषि उद्देश्यों के लिए लिया गया था।
  • एनएसओ ने जनवरी-दिसंबर 2019 के दौरान देश के ग्रामीण क्षेत्रों में 'परिवारों की भू-जोत और पशुधन जोत और कृषि परिवारों की स्थिति का आकलन' पर सर्वेक्षण किया था।
  • 2019 में किसानों की आय में 59 की वृद्धि देखी गई है। रिपोर्ट के अनुसार कृषि परिवारों की औसत आय 2013 में 6,426 रुपये से बढ़कर 2019 में 10,218 रुपये हो गई।
  • 10,218 रुपये औसत आय में से मजदूरी से 4,063 रुपये, फसल उत्पादन से 3,798 रुपये, पशुपालन से 1,582 रुपये, गैर-कृषि व्यवसाय से 641 रुपये और भूमि पट्टे से 134 रुपये की आय थी।
  • इससे पहले एनएसएस (National sample Survey: NSS) के 26वें दौर (1971-72), 37वें दौर (1981-82), 48वें दौर (1992), 59वें दौर (2003) और 70वें दौर (2013) में सर्वेक्षण किया गया था।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

हवा से कार्बन डाइऑक्साइड सोखने वाला दुनिया का सबसे बड़ा संयंत्र: ओर्का


आइसलैंड में दुनिया का सबसे बड़ा संयंत्र ओर्का (Orca), जो सीधे हवा से कार्बन डाइऑक्साइड सोखता है और उसे भूमिगत करता है, 8 सितंबर, 2021 को शुरू हो गया है।

(Image Source: Climeworks)

महत्वपूर्ण तथ्य: आइसलैंडिक शब्द "ओर्का" के नाम पर इस संयंत्र का नाम ओर्का रखा गया है, जिसका अर्थ है 'ऊर्जा'।

  • इस संयंत्र का निर्माण स्विट्जरलैंड के 'क्लाइमवर्क्स' (Climeworks) और आइसलैंड के 'कार्बफिक्स' (Carbfix) द्वारा किया गया है।
  • अपनी पूर्ण क्षमता के दौरान संयंत्र हर साल 4,000 टन कार्बन डाइऑक्साइड (CO2) हवा से सोखेगा, जो लगभग 870 कारों से उत्सर्जन के बराबर होगा।

कार्य- प्रणाली: कार्बन डाइ-ऑक्साइड एकत्र करने के लिए, संयंत्र एक संग्राहक में हवा खींचने के लिए पंखे का उपयोग करता है, जिसके अंदर एक फिल्टर सामग्री होती है।

  • एक बार जब फिल्टर सामग्री CO2 से भर जाती है, तो संग्राहक बंद हो जाता है और फिल्टर सामग्री से CO2 को छोड़ने (release) के लिए तापमान बढ़ा दिया जाता है जिसके बाद अत्यधिक केंद्रित गैस एकत्र की जा सकती है।
  • इसके बाद एकत्रित CO2को पानी के साथ मिलाया जाता है और 1,000 मीटर की गहराई पर पास की बेसाल्ट चट्टान में छोड़ दिया जायेगा, जहां यह ढ़ी-धीरे चट्टान में बदल जायेगा।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

उच्च रक्तचाप के औषधीय उपचार हेतु डब्ल्यूएचओ दिशा-निर्देश


विश्व स्वास्थ्य संगठन ने 25 अगस्त, 2021 उच्च रक्तचाप (हाइपरटेंशन) के औषधीय उपचार के लिए दिशा-निर्देश जारी किए हैं।

अनुशंसित लक्ष्य: सभी वयस्कों में रक्तचाप को 140/90 मिमी (mm Hg) से कम करना।

  • ज्ञात हृदय रोग वाले व्यक्तियों में, सिस्टोलिक मान (उच्चतम-रीडिंग) (systolic value) 130 मिमी (mm Hg) से कम रखने का लक्ष्य।
  • नर्स और फार्मासिस्ट जैसे गैर-चिकित्सक, जो उचित प्रशिक्षण प्राप्त करते हैं, निर्धारित प्राधिकार रखते हैं, विशिष्ट प्रबंधन प्रोटोकॉल का पालन करते हैं, चिकित्सक की निगरानी में उच्च रक्तचाप के लिए औषधीय उपचार प्रदान कर सकते हैं।
  • सामुदायिक स्वास्थ्य कार्यकर्ता स्वास्थ्य टीम के हिस्से के रूप में रोगी शिक्षा, रक्तचाप माप और दवाओं के वितरण में सहायता कर सकते हैं।
  • एक एकीकृत प्रबंधन प्रणाली के हिस्से के रूप में, रक्तचाप नियंत्रण में सुधार के लिए टेलीमॉनिटरिंग और घर या समुदाय-आधारित स्व-देखभाल को प्रोत्साहित किया जाता है।

अन्य तथ्य: उच्च रक्तचाप दुनिया के सभी क्षेत्रों में बीमारी, विकलांगता और मृत्यु का एक प्रमुख कारण है, जो दुनिया भर में अनुमानित 1.4 बिलियन लोगों को प्रभावित करता है, केवल 14% ही इसे नियंत्रण में रख पाते हैं।

सामयिक खबरें पर्यावरण

गिद्ध संरक्षण


भारत में पहली बार ‘जटायु संरक्षण और प्रजनन केंद्र’ (JCBC) से जंगल में छोड़े गए 'गंभीर रूप से संकटग्रस्त' ओरिएंटल सफेद पीठ वाले आठ गिद्ध लगभग एक साल बाद सितंबर 2021 में पक्षीशाला के बाहर आवास में अच्छी तरह से घुल-मिल गए हैं।

महत्वपूर्ण तथ्य: ओरिएंटल सफेद पीठ वाले गिद्ध, जो अक्टूबर 2020 में, जंगल में छोड़े गए थे, प्रवासी पक्षी नहीं हैं, इसलिए वे बड़े पैमाने पर प्रजनन केंद्र के 50-100 किमी. के दायरे में रहते हैं।

  • इसके अलावा, वे हिमालयी ग्रिफॉन (Himalayan griffon) जैसे अन्य गिद्धों के साथ जंगली झुंड में शामिल होने में कामयाब रहे हैं, जो निश्चित रूप से उत्साहजनक है।
  • 1990 के दशक से गिद्धों की तीन प्रजातियों - ओरिएंटल सफेद पीठ वाले गिद्ध (white-backed vultures), लम्बी-चोंच वाले गिद्ध (Long-billed vultures) और पतली-चोंच वाले गिद्ध (Slender-billed vultures) की आबादी में 97% से अधिक की भारी गिरावट आई है।
  • 'जटायु संरक्षण और प्रजनन केंद्र' हरियाणा के पिंजौर में हिमालय की तलहटी की शिवालिक पर्वतमाला में बीर शिकारगाह वन्यजीव अभयारण्य में स्थित है। इसकी स्थापना 2001 में भारत की गिद्धों की 3 ‘गंभीर रूप से संकटग्रस्त’ जिप्स प्रजातियों (Gyps species of vultures) में तेजी से गिरावट की जांच के लिए की गई थी।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप पुरस्कार/सम्मान

ब्रिगेडियर सरस्वती को राष्ट्रीय फ्लोरेंस नाइटिंगेल पुरस्कार 2020


15 सितंबर, 2021 को एक आभासी समारोह में, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सैन्य नर्सिंग सेवा (MNS) की उप महानिदेशक ब्रिगेडियर एस.वी. सरस्वती को राष्ट्रीय फ्लोरेंस नाइटिंगेल अवार्ड 2020 से सम्मानित किया।

(Image Source: PIB)

  • उन्हें सैन्य नर्सिंग सेवा में नर्स प्रशासक के रूप में उनके अपार योगदान के लिए सम्मानित किया गया।
  • एक प्रसिद्ध ऑपरेशन थिएटर नर्स के रूप में, ब्रिगेडियर सरस्वती ने 3,000 से अधिक जीवन रक्षक और आपातकालीन सर्जरी में सहायता की है।
  • ब्रिगेडियर सरस्वती आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले के रहने वाली हैं और उन्होंने 28 दिसंबर, 1983 को सैन्य नर्सिंग सेवा में कार्य करना शुरू किया था।
  • उनकी सराहनीय और विशिष्ट सेवा के सम्मान में, उन्हें जनरल ऑफिसर कमांडिंग-इन-चीफ कमेंडेशन (2005), संयुक्त राष्ट्र मेडल (MONOC) (2007) और चीफ ऑफ आर्मी स्टाफ कमेंडेशन (2015) से भी सम्मानित किया गया है।
  • ब्रिगेडियर सरस्वती के आलावा 50 अन्य नर्सों को भी राष्ट्रीय फ्लोरेंस नाइटिंगेल पुरस्कार 2020 प्रदान किया गया।

राष्ट्रीय फ्लोरेंस नाइटिंगेल पुरस्कार: यह एक ऐसा सर्वोच्च राष्ट्रीय सम्मान है, जिसे किसी नर्स को उनकी निःस्वार्थ सेवा और असाधारण कार्यकुशलता के लिए प्रदान किया जाता है।

  • वार्षिक पुरस्कार की स्थापना 1973 में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा की गई थी।
  • विजेताओं को 50,000 रुपये का नकद पुरस्कार, एक प्रमाण पत्र, एक प्रशस्ति पत्र और एक पदक से सम्मानित किया जाता है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

अंतरराष्ट्रीय शांति दिवस (21 सितंबर)


2021 का विषय: 'एक समान और टिकाऊ दुनिया के लिए बेहतर रिकवरी' ( Recovering better for an equitable and sustainable world)

महत्वपूर्ण तथ्य: संयुक्त राष्ट्र महासभा ने इसे 24 घंटे के अहिंसा और संघर्ष विराम के माध्यम से शांति के आदर्शों को मजबूत करने के लिए समर्पित दिवस के रूप में घोषित किया है।

  • अंतरराष्ट्रीय शांति दिवस की स्थापना 1981 में संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा की गई थी। दो दशक बाद, 2001 में, महासभा ने सर्वसम्मति से इस दिन को अहिंसा और संघर्ष विराम की अवधि के रूप में नामित किया था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप बिजनेस और सार्वजनिक उपक्रम

फेसबुक इंडिया ने पूर्व आईएएस अधिकारी राजीव अग्रवाल को पब्लिक पॉलिसी डायरेक्टर नियुक्त किया


  • फेसबुक इंडिया ने 20 सितंबर, 2021 को पूर्व आईएएस अधिकारी और ऑनलाइन टैक्सी सेवा प्रदाता उबर (Uber) के पूर्व कार्यकारी राजीव अग्रवाल को 'पब्लिक पॉलिसी डायरेक्टर' (Director of Public Policy) नियुक्त किया है।
  • वे अंखी दास की जगह लेंगे, जिन्होंने अक्टूबर 2020 में पद छोड़ दिया था।
  • इस भूमिका में, राजीव अग्रवाल भारत में फेसबुक के लिए महत्वपूर्ण नीति विकास पहलों को परिभाषित करेंगे और उनका नेतृत्व करेंगे। इन पहलों में उपयोगकर्ता सुरक्षा, डेटा संरक्षण एवं गोपनीयता, समावेश और इंटरनेट शासन शामिल हैं।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

रेल कौशल विकास योजना


रेलवे ने 17 सितंबर, 2021 को प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के तहत 'रेल कौशल विकास योजना' शुरू की है।

(Image Source: Ministry of Railways)

महत्वपूर्ण तथ्य: यह स्वतंत्रता के 75 वर्षों के 'आजादी का अमृत महोत्सव' के हिस्से के रूप में रेलवे प्रशिक्षण संस्थानों के माध्यम से इंडस्ट्री से संबंधित कौशल में प्रवेश स्तर का प्रशिक्षण प्रदान करके युवाओं को सशक्त बनाता है।

  • रेल कौशल विकास योजना के तहत दूरस्थ क्षेत्रों में प्रशिक्षण दिया जाएगा।
  • 3 साल की अवधि में 50 हजार उम्मीदवारों को प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। प्रारंभ में, 1,000 उम्मीदवारों को प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा।
  • चार ट्रेडों - इलेक्ट्रीशियन, वेल्डर, मशीनिस्ट और फिटर में उम्मीदवारों को प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा तथा इसमें 100 घंटे का प्रारंभिक बुनियादी प्रशिक्षण शामिल होगा।
  • 10वीं पास और 18 से 35 वर्ष के बीच के उम्मीदवार आवेदन करने के पात्र होंगे। प्रतिभागियों का चयन मैट्रिक में अंकों के आधार पर होगा।
  • हालांकि, इस प्रशिक्षण के आधार पर योजना में भाग लेने वालें रोजगार पाने का कोई दावा नहीं कर पाएंगे।
उपरोक्त ट्रेडों में प्रशिक्षण प्रदान करने के उद्देश्य से देश भर में फैले 75 रेलवे प्रशिक्षण संस्थानों को चिन्हित किया गया है।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

छात्राओं के लिए देशव्यापी क्षमता निर्माण और व्यक्तित्व विकास कार्यक्रम


राष्ट्रीय महिला आयोग ने 20 सितंबर, 2021 को स्नातक और स्नातकोत्तर छात्राओं के लिए एक देशव्यापी क्षमता निर्माण और व्यक्तित्व विकास कार्यक्रम शुरू किया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: आयोग केंद्रीय और राज्य विश्वविद्यालयों के साथ व्यक्तिगत क्षमता निर्माण, व्यावसायिक कैरियर कौशल और डिजिटल साक्षरता और सोशल मीडिया के प्रभावी उपयोग पर सत्र आयोजित करने के लिए सहयोग कर रहा है ताकि छात्राओं को नौकरी में प्रवेश करने के लिए तैयार किया जा सके।

  • राष्ट्रीय महिला आयोग ने हरियाणा केंद्रीय विश्वविद्यालय के सहयोग से अपना पहला कार्यक्रम शुरू किया है।
  • यह पाठ्यक्रम रोजगार क्षमता बढ़ाने के लिए सहज, तार्किक और गहन सोच, संचार और पारस्परिक कौशल के उपयोग को सीखने और लागू करने पर केंद्रित होगा।
  • व्यक्तिगत क्षमता निर्माण सत्र छात्रों को समय प्रबंधन, तनाव प्रबंधन और संचार जैसे कौशल विकसित करने में मदद करेगा।

सामयिक खबरें आर्थिकी

स्पिन योजना


खादी और ग्रामोद्योग आयोग (KVIC) ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्मदिन, 'सेवा दिवस' के मौके पर 17 सितंबर, 2021 को स्पिन (स्ट्रेंथनिंग द पोटेंशियल ऑफ इंडिया) (Strengthening the Potential of India: SPIN) नामक एक विशिष्ट योजना शुरू की।

प्रमुख उद्देश्य: "हर हाथ में काम" की प्रधानमंत्री की प्रतिबद्धता के अनुरूप स्थानीय स्वरोजगार के सृजन के जरिए सतत विकास करना।

महत्वपूर्ण तथ्य: केंद्रीय सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम राज्य मंत्री भानु प्रताप सिंह वर्मा ने वाराणसी में स्पिन योजना का शुभारंभ किया।

  • यह एक बिना सब्सिडी वाला कार्यक्रम है, जो पंजीकृत कुम्हारों को प्रधानमंत्री शिशु मुद्रा योजना के तहत बैंकों से सीधे ऋण प्राप्त करने में सक्षम बनाता है।
  • स्पिन योजना के तहत, KVIC आरबीएल बैंक के माध्यम से कुम्हारों को वित्तीय सहायता के लिए एक सुविधादाता के रूप में कार्य कर रहा है और इस योजना को चुनने वाले कारीगरों को प्रशिक्षण भी प्रदान कर रहा है।
  • योजना के तहत उत्तर प्रदेश, बिहार, राजस्थान और झारखंड के 780 कुम्हारों ने अपना व्यवसाय शुरू करने के लिए बैंक से वित्तीय सहायता के लिए पंजीकरण कराया है। योजना के प्रतिभागियों के लिए 780 इलेक्ट्रिक पॉटर व्हील (बिजली से चलने वाले चाक) भी मंजूर किए गए हैं।
  • वाराणसी के भट्टी गांव में "काशी पॉटरी क्लस्टर" का भी उद्घाटन किया गया। स्फूर्ति योजना के तहत KVIC द्वारा स्थापित वाराणसी जिले में यह पहला पॉटरी कलस्टर है।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

पहली भारत-ऑस्ट्रेलिया 2+2 मंत्रिस्तरीय वार्ता


भारत ने 11 सितंबर 2021 को नई दिल्ली में प्रथम भारत-ऑस्ट्रेलिया 2+2 मंत्रिस्तरीय वार्ता की मेजबानी की।

(Image Source: The Diplomat)

महत्वपूर्ण तथ्य: ऑस्ट्रेलिया की विदेश मंत्री मैरीसे पायने एवं रक्षा मंत्री पीटर ड्यूटन ने वार्ता में भाग लिया। भारत की ओर से रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और विदेश मंत्री डॉ एस जयशंकर ने प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व किया।

  • ऑस्ट्रेलिया ने भारत की हिंद-प्रशांत महासागर पहल (Indo-Pacific Oceans’ Initiative) के लिए समर्थन व्यक्त किया, जो इस क्षेत्र में सभी के लिए सुरक्षा और विकास सुनिश्चित करने के लिए बेहतर समन्वय और सहयोग को बढ़ावा देगा।
  • द्विपक्षीय रक्षा सहयोग पर दोनों पक्षों ने सभी सेवाओं में सैन्य जुड़ावों का विस्तार करने, अधिक रक्षा सूचना साझा करने की सुविधा प्रदान करने और आपसी लॉजिस्टिक सहयोग के लिए मिलकर काम करने का निर्णय लिया।
  • व्यापार के मुक्त प्रवाह, अंतरराष्ट्रीय नियमों का पालन और पूरे क्षेत्र में सतत आर्थिक विकास सुनिश्चित करने पर जोर दिया गया।
  • ऑस्ट्रेलिया के रक्षा मंत्री पीटर ड्यूटन ने भारत को 2023 में 'टैलिसमैन सेबर' अभ्यास के लिए आमंत्रित किये जाने की औपचारिक रूप से घोषणा की।
  • ज्ञात हो कि जून 2020 में, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन के बीच एक ऑनलाइन शिखर सम्मेलन के दौरान भारत और ऑस्ट्रेलिया ने अपने संबंधों को एक व्यापक रणनीतिक साझेदारी तक बढ़ाया और लॉजिस्टिक सहयोग के लिए सैन्य ठिकानों तक पारस्परिक पहुंच के लिए एक ऐतिहासिक समझौते पर हस्ताक्षर किए थे।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

यूनाइटेड किंगडम की बाल संहिता


सितंबर 2021 में यूनाइटेड किंगडम सरकार ने डेटा प्रोटेक्शन एक्ट, 2018 में संशोधन के रूप में 'एज एप्रोप्रिएट डिजाइन कोड' (Age Appropriate Design Code) या 'बाल संहिता' (Children’s Code) को लागू किया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: बाल संहिता नियमों के एक समूह को संचालित करता है, जो बच्चों के लिए डिजिटल प्लेटफॉर्म के उपयोग को सुरक्षित बनाता है।

  • हालाँकि बाल संहिता आधिकारिक तौर पर केवल यूनाइटेड किंगडम में लागू है, टिकटॉक, इंस्टाग्राम और यूट्यूब जैसी टेक कंपनियों ने बच्चों के लिए सुरक्षा नियमों को कड़ा कर दिया है।
  • यह संहिता ऑनलाइन सेवाओं के लिए एक डेटा सुरक्षा संहिता है, जो बच्चों द्वारा उपयोग किया जायेगा।
  • यह ऑनलाइन सेवाओं के लिए 15 मानक निर्धारित करता है, जिसमें ऐप्स, गेम, खिलौने, डिवाइस और यहां तक कि समाचार सेवाएं भी शामिल हैं।
  • यह संहिता यूनाइटेड किंगडम आधारित कंपनियों और उन गैर-यूनाइटेड किंगडम आधारित कंपनियों पर लागू होती है, जो देश में बच्चों के डेटा का इस्तेमाल करती हैं।
  • ज्ञात हो कि फेसबुक, इंस्टाग्राम और टिकटॉक जैसी सेवाएं 13 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को, अकाउंट बनाने के 24 घंटों के भीतर हानिकारक सामग्री के साथ सीधे लक्षित करने की अनुमति दे रही हैं।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित व्यक्ति

बीआरओ ने पहली बार महिला सैन्य अधिकारी मेजर आइना राणा को नियुक्त किया


सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) ने 30 अगस्त, 2021 को फिर से इतिहास रच दिया, जब प्रोजेक्ट शिवालिक की मेजर आइना राणा ने उत्तराखंड में चमोली जिले के पीपलकोटी में ‘75 रोड कंस्ट्रक्शन कंपनी’ (75 RCC) के ऑफिसर कमांडिंग (Officer Commanding) के रूप में कार्यभार संभाला।

(Image Source: BRO)

  • पठानकोट, पंजाब की रहने वाली मेजर आइना, सड़क निर्माण कंपनी की कमान संभालने वाली पहली भारतीय सेना इंजीनियर अधिकारी हैं।
  • सीमा सड़क संगठन की ऐसे सभी महिलाओं के नेतृत्व वाले चार RCC बनाने की योजना है, दो पूर्वोत्तर क्षेत्र में और दो पश्चिमी क्षेत्र में।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप पुरस्कार/सम्मान

बैंगलोर की आध्या अरविंद शंकर को वर्ष 2021 का चिल्ड्रन पीस इमेज ऑफ द ईयर पुरस्कार


21 सितंबर, 2021 को वियना में ऑस्ट्रियाई संसद में आयोजित एक समारोह में, बैंगलोर की रहने वाली सात वर्षीय लड़की आध्या अरविंद शंकर को प्रतिष्ठित 'ग्लोबल पीस फोटो अवॉर्ड 2021' (Global Peace Photo Award 2021) में 'चिल्ड्रन पीस इमेज ऑफ द ईयर' (Children’s Peace Image of the Year) श्रेणी में सम्मानित किया गया।

(Image Source: UNESCO)

  • आध्या को 'द लैप ऑफ पीस' (The Lap of Peace) नामक एक तस्वीर के लिए पुरस्कृत किया गया, जिसमें उनकी मां को उनकी नानी की गोद में दिखाया गया है।
  • वह वयस्क या बच्चों की श्रेणी में पुरस्कार पाने वाली पहली भारतीय हैं। उन्हें एक डिप्लोमा, एक पदक और 1,000 यूरो का चेक प्रदान किया गया।

ग्लोबल पीस फोटो अवॉर्ड: यह पुरस्कार दुनिया भर के उन फोटोग्राफरों को मान्यता देता है और बढ़ावा देता है, जिनकी तस्वीरें शांतिपूर्ण दुनिया के लिए मानवीय प्रयासों को दर्शाती हैं।

  • यह पुरस्कार लैमरहुबेर एडिशंस (Lammerhuber Editions) द्वारा यूनेस्को और ऑस्ट्रियाई संसद के साथ साझेदारी में प्रतिवर्ष प्रदान किया जाता है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप युद्धाभ्यास/सैन्य अभियान

अभ्यास पीसफुल मिशन 2021


सेना और वायु सेना के 200 कर्मियों के एक संयुक्त बल ने रूस में अभ्यास 'पीसफुल मिशन 2021' (Exercise Peaceful Mission 2021) में हिस्सा लिया।

अभ्यास का उद्देश्य: शंघाई सहयोग संगठन सदस्य-देशों के बीच घनिष्ठ संबंधों को बढ़ावा देना और और बहुराष्ट्रीय सैन्य टुकड़ियों की कमान संभालने के लिए सैन्य कर्मियों की क्षमताओं को बढ़ाना।

  • यह अभ्यास शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के सदस्य देशों के बीच 13 से 25 सितंबर, 2021 तक दक्षिण पश्चिम रूस के ऑरेनबर्ग क्षेत्र में आयोजित किया गया, जिसमें पाकिस्तान और चीन भी शामिल थे।
  • अभ्यास पीसफुल मिशन के छठे संस्करण की मेजबानी रूस द्वारा की गई।
  • अभ्यास ने एससीओ देशों के सशस्त्र बलों को बहुराष्ट्रीय और संयुक्त वातावरण में शहरी परिदृश्य में आतंकवाद विरोधी अभियानों में प्रशिक्षित करने का अवसर भी प्रदान किया।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप बिजनेस और सार्वजनिक उपक्रम

देवव्रत मुखर्जी ऑडिट ब्यूरो ऑफ सर्कुलेशन के प्रमुख चुने गए (


सितंबर 2021में यूनाइटेड ब्रेवरीज के मुख्य विपणन अधिकारी देवव्रत मुखर्जी को सर्वसम्मति से 2021-2022 के लिए ऑडिट ब्यूरो ऑफ सर्कुलेशन (Audit Bureau of Circulations: ABC) का अध्यक्ष चुना गया है।

  • 1948 में स्थापित ABC एक गैर-लाभकारी, स्वैच्छिक संगठन है, जिसमें प्रकाशक, विज्ञापनदाता और विज्ञापन एजेंसियां सदस्य के रूप में शामिल हैं। इसका मुख्यालय मुंबई में स्थित है।
  • यह ABC के सदस्य प्रकाशनों के प्रसार (Circulations) के आंकड़ों को प्रमाणित करने के लिए लेखा परीक्षा प्रक्रियाओं को विकसित करने में अग्रणी कार्य करता है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

विश्व गैंडा दिवस (22 सितंबर)


2021 का विषय: 'कीप द फाइव अलाइव' (Keep the five Alive)

महत्वपूर्ण तथ्य: हर साल 22 सितंबर को विभिन्न प्रकार के गैंडे की प्रजातियों के साथ-साथ उनके सामने आने वाले खतरों के बारे में जागरूकता पैदा करने के लिए यह दिवस मनाया जाता है।

  • गैंडे की पांच प्रजातियों में, एक-सींग वाले गैंडे, सुमात्रन गैंडे, जावा गैंडे एशिया में तथा काले गैंडे और सफेद गैंडे अफ्रीका में पाए जाते हैं।
  • इस दिवस की घोषणा पहली बार विश्व वन्यजीव कोष (WWF) - दक्षिण अफ्रीका द्वारा वर्ष 2010 में की गई थी। इसे दो समर्पित महिलाओं रिशजा कोटा और लिसा जेन कैंपबेल द्वारा लोकप्रिय बनाया गया था।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

ड्रोन उद्योग के लिए ‘उत्पादन-संबद्ध प्रोत्साहन’ योजना


केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 15 सितंबर, 2021 को ड्रोन उद्योग के लिए ‘उत्पादन-संबद्ध प्रोत्साहन’ या पीएलआई (PLI) योजना को मंजूरी दे दी है।

(Source: New Indian Express)

महत्वपूर्ण तथ्य: ड्रोन और ड्रोन घटकों के लिए पीएलआई योजना के लिए आवंटित कुल राशि 120 करोड़ रुपये है, जो अगले तीन वित्तीय वर्षों के लिए घोषित हुई है।

  • ड्रोन और ड्रोन घटकों के निर्माता के लिए प्रोत्साहन उसके द्वारा किए गए मूल्यवर्धन के 20% अधिक होगा।
  • सरकार, सभी तीन वर्षों के लिए पीएलआई दर को 20% पर स्थिर रखने के लिए सहमत हो गई है, केवल ड्रोन उद्योग के लिए एक असाधारण सुविधा दी गई है। अन्य क्षेत्रों के लिए पीएलआई योजनाओं में, पीएलआई दर हर साल कम हो जाती है।
  • सरकार ने ड्रोन से संबंधित आईटी उत्पादों के डेवलपर्स को भी शामिल करने के लिए प्रोत्साहन योजना के कवरेज को व्यापक बनाने पर सहमति व्यक्त की है।
  • ड्रोन और ड्रोन घटकों के निर्माण उद्योग में अगले तीन वर्षों में 5,000 करोड़ रुपये से अधिक का निवेश हो सकता है।
  • ड्रोन निर्माण उद्योग से अगले तीन वर्षों में 10,000 से अधिक प्रत्यक्ष रोजगार सृजित होने की उम्मीद है।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

ऑटो उद्योग के लिए उत्पादन-संबद्ध प्रोत्साहन योजना


केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 15 सितंबर, 2021 को 25,938 करोड़ रुपये के बजटीय परिव्यय के साथ ऑटो उद्योग के लिए उत्पादन-संबद्ध प्रोत्साहन या पीएलआई (PLI) योजना को मंजूरी दे दी है।

महत्वपूर्ण तथ्य: ऑटो सेक्टर के लिए पीएलआई योजना उच्च मूल्य के उन्नत ऑटोमोटिव प्रौद्योगिकी वाहनों और उत्पादों को प्रोत्साहित करेगी।

  • पांच वर्षों की अवधि में, ऑटोमोबाइल और ऑटो घटक उद्योग के लिए पीएलआई योजना से 42,500 करोड़ रुपये से अधिक के नए निवेश, 2.3 लाख करोड़ रुपये से अधिक के वृद्धिशील उत्पादन और 7.5 लाख से अधिक नौकरियों के अतिरिक्त अवसर पैदा होने का अनुमान है।
  • ऑटो सेक्टर के लिए पीएलआई योजना मौजूदा ऑटोमोटिव कंपनियों के साथ-साथ नए निवेशकों के लिए खुली है, जो वर्तमान में ऑटोमोबाइल या ऑटो घटक निर्माण व्यवसाय में नहीं हैं।
  • इस योजना के दो घटक हैं अर्थात 'चैंपियन ओईएम प्रोत्साहन योजना' (Champion OEM Incentive Scheme) और 'घटक चैंपियन प्रोत्साहन योजना' (Component Champion Incentive Scheme)।
  • चैंपियन ओईएम प्रोत्साहन योजना एक 'बिक्री मूल्य संबंद्ध' (sales value linked) योजना है, जो सभी सेगमेंट के बैटरी इलेक्ट्रिक वाहनों और हाइड्रोजन फ्यूल सेल वाहनों पर लागू होती है।
  • 'घटक चैंपियन प्रोत्साहन योजना' एक 'बिक्री मूल्य संबंद्ध' योजना है, जो वाहनों के उन्नत ऑटोमोटिव प्रौद्योगिकी घटकों, कंप्लीटली नॉक्ड डाउन (CKD)/ सेमी नॉक्ड डाउन (SKD) किट, दुपहिया, तिपहिया, यात्री वाहनों के एग्रीगेट्स, वाणिज्यिक वाहन और ट्रैक्टर आदि पर लागू होती है।

सामयिक खबरें आर्थिकी

बनास डेयरी की वाराणसी में नए संयंत्र की योजना


चार दशक पहले "ऑपरेशन फ्लड" के तहत स्थापित डेयरियों में से एक बनास डेयरी ने सितंबर 2021 में उत्तर प्रदेश में वाराणसी में तीसरी इकाई स्थापित करने की घोषणा की है।

महत्वपूर्ण तथ्य: इस योजना में एक दूध प्रसंस्करण संयंत्र की स्थापना शामिल है, जो शुरू में प्रति दिन पांच लाख लीटर दूध संसाधित कर सकता है।

  • उत्तर प्रदेश में बनास डेयरी की अन्य दो इकाइयां कानपुर और लखनऊ में है।
  • गुजरात के मुख्य रूप से ग्रामीण जिलों में से एक बनासकांठा जिले के नाम पर इसका नाम 'बनास' डेयरी रखा गया है।
  • बनास डेयरी को 'बनासकांठा जिला सहकारी दुग्ध संघ' के नाम से भी जाना जाता है। यह पालनपुर में स्थित है।
  • इसकी स्थापना 1969 में ऑपरेशन फ्लड के तहत राष्ट्रीय डेयरी विकास बोर्ड के 1961 के नियम के अनुसार की गई थी।
  • बनास डेयरी प्रतिदिन औसतन लगभग 50 लाख लीटर दूध संग्रह करती है। सर्दियों में दूध संग्रह में प्रतिदिन 65 लाख लीटर तक की वृद्धि होती है, जो एशिया में सबसे अधिक संग्रह के रूप में दर्ज है।
  • कंपनी के उत्पादों का विपणन गुजरात सहकारी दुग्ध विपणन संघ, आनंद द्वारा किया जाता है।

सामयिक खबरें आर्थिकी

कुशीनगर हवाई अड्डा सीमा शुल्क अधिसूचित हवाई अड्डा घोषित


केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर और सीमा शुल्क बोर्ड (CBIC) ने 13 सितंबर, 2021 को उत्तर प्रदेश में स्थित कुशीनगर हवाई अड्डे को सीमा शुल्क अधिसूचित हवाई अड्डा घोषित किया है। इससे बौद्ध तीर्थयात्रियों सहित अंतरराष्ट्रीय यात्रिओं को आवाजाही की सुविधा होगी।

महत्वपूर्ण तथ्य: बौद्ध सर्किट के केंद्र में होने के कारण, कुशीनगर हवाई अड्डे को बौद्ध सर्किट से कनेक्टिविटी को आसान बनाने के लिए विकसित किया गया है।

  • 600 एकड़ भूमि में फैले कुशीनगर हवाई अड्डे को, हवाई अड्डा प्राधिकरण द्वारा 2020 में अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का दर्जा दिया गया था।
  • कुशीनगर भगवान बुद्ध के चार पवित्र स्थानों में से एक है। बुद्ध ने यहाँ 483 ईसा पूर्व में महापरिनिर्वाण (मोक्ष) प्राप्त किया था।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

आर्कटिक पर्माफ्रॉस्ट पर ग्लोबल वार्मिंग का प्रभाव


अगस्त 2021 में आईपीसीसी की नवीनतम आकलन रिपोर्ट में चेतावनी दी गई है कि ग्लोबल वार्मिंग बढ़ने से आर्कटिक पर्माफ्रॉस्ट (Arctic permafrost) में कमी आएगी और जमीन के विगलन (thawing) से मीथेन और कार्बन डाइ-ऑक्साइड जैसी ग्रीनहाउस गैसों के उत्सर्जन की सम्भावना है।

महत्वपूर्ण तथ्य: पर्माफ्रॉस्ट को ऐसी भूमि (मिट्टी, चट्टान और किसी भी शामिल बर्फ या कार्बनिक पदार्थ) के रूप में परिभाषित किया गया है, जो लगातार कम से कम दो वर्षों तक शून्य डिग्री सेल्सियस पर या उससे नीचे रहता है।

  • पर्माफ्रॉस्ट 23 मिलियन वर्ग किलोमीटर से अधिक के क्षेत्र में फैला हुआ है, जो दुनिया के लगभग 15% भूमि क्षेत्र को कवर करता है।

पर्माफ्रॉस्ट के पिघलने का प्रभाव: पहला प्रभाव बहुत तेजी से, उन देशों को प्रभावित करेगा जहां सड़कों या इमारतों का निर्माण पर्माफ्रॉस्ट पर किया गया है। रूसी रेलवे एक उदाहरण है।

  • कार्बनिक पदार्थ, जो अब जमीन में समा गए हैं और जम गए है। यदि पर्माफ्रॉस्ट पिघलना शुरू हो जायेंगे, तो कार्बनिक पदार्थ अपघटित होकर सूक्ष्म जीवों के लिए उपलब्ध हो जायेंगे।
  • कुछ वातावरणों में, सूक्ष्म जीव कार्बन डाइ-ऑक्साइड उत्सर्जित करते हैं और अन्य में मीथेन उत्सर्जित करते हैं, जो कार्बन डाइ-ऑक्साइड की तुलना में ग्रीनहाउस गैस के रूप में लगभग 25 से 30 गुना अधिक शक्तिशाली है।
  • कार्बन की कुल मात्रा जो अब पर्माफ्रॉस्ट में दबी हुई है, अनुमानित रूप से लगभग 1500 बिलियन टन है और पर्माफ्रॉस्ट के उपरी तीन मीटर में लगभग 1000 बिलियन टन है।

सामयिक खबरें विज्ञान-प्रौद्योगिकी

प्रिसिजन गाइडेड स्टराइल इन्सेक्ट टेक्निक


CRISPR-आधारित जेनेटिक इंजीनियरिंग में प्रगति का लाभ उठाते हुए, शोधकर्ताओं ने एक ऐसी प्रणाली विकसित की है, जो मच्छरों की आबादी को रोकती है।

महत्वपूर्ण तथ्य: नर मच्छर बीमारियों को प्रसारित नहीं करते हैं, इसलिए ‘प्रिसिजन गाइडेड स्टराइल इन्सेक्ट टेक्निक’ (precision-guided sterile insect technique: pgSIT) तकनीक CRISPR का उपयोग करके अधिक- से-अधिक नर मच्छरों को बाँझ बनाने पर आधारित है तथा और मादा मच्छरों (जो बीमारी फैलाती है) को उड़ने से रोकती है।

  • pgSIT, पुरुष प्रजनन क्षमता से जुड़े जीन और मादा एडीज एजिप्टी में उड़ने (flight) से संबंधित जीन को परिवर्तित कर देती है।
  • मादा एडीज एजिप्टी डेंगू बुखार, चिकनगुनिया और जीका सहित बीमारियों को फैलाने के लिए जिम्मेदार मच्छर प्रजाति है।
  • दो सुरक्षा विशेषताएं जो इस तकनीक के लिए स्वीकृति को सक्षम करती हैं- यह प्रणाली स्वयं-सीमित (self-limiting) है और इसकी पर्यावरण में बने रहने या फैलने की सम्भावना नहीं है।
  • वैज्ञानिकों का कहना है कि pgSIT वाले अंडों को मच्छर जनित बीमारी के खतरे वाले स्थान पर छोड़ा जा सकता है या एक ऐसी साइट पर विकसित किया जा सकता है, जो आस-पास की तैनाती के लिए अंडे का उत्पादन कर सकें।
  • एक बार जब pgSIT अंडे जंगल में छोड़ दिए जाते हैं, तो ये बाँझ pgSIT नर मच्छर पैदा करेंगे, जो मादाओं के साथ संभोग करेंगे, जिससे जंगली आबादी को आवश्यकतानुसार कम किया जा सकेगा।

सामयिक खबरें पर्यावरण

खुली हवा में विकसित भारत की सबसे बड़ी फर्न वाटिका


उत्तराखंड के अल्मोड़ा जिले के रानीखेत में 12 सितंबर, 2021 को खुली हवा में विकसित देश की सबसे बड़ी फर्न वाटिका या फर्नरी (fernery) का उद्घाटन फर्न के जाने-माने विशेषज्ञ नीलांबर कुनेथा ने किया।

(Image Source: New Indian Express)

महत्वपूर्ण तथ्य: केंद्र की प्रतिपूरक वनीकरण योजना (CAMPA) के तहत उत्तराखंड वन विभाग की अनुसंधान शाखा द्वारा तीन साल की अवधि में फर्न वाटिका को विकसित किया गया है।

  • इसमें 120 विभिन्न प्रकार की फर्न प्रजातियों का संग्रह है और इससे ज्यादा फर्नों की प्रजातियां केवल तिरुवनंतपुरम स्थित जवाहर लाल नेहरू ट्रॉपिकल बॉटनिकल गार्डन एंड रिसर्च इंस्टिटयूट (TBGRI) में ही हैं।
  • हालांकि, यह पूरी तरह से प्राकृतिक परिवेश के साथ खुली हवा में विकसित देश की सबसे बड़ी फर्न वाटिका है। इसे 1,800 मीटर की ऊंचाई पर चार एकड़ में विकसित किया गया है।
  • पर्यावरण और वन मंत्रालय द्वारा ‘प्रतिपूरक वनीकरण प्रबंधन कोष प्रबंधन और योजना प्राधिकरण’ (CAMPA) को 2004 में पेश किया गया था।

फर्न क्या हैं? फर्न (पर्णांग) एक बिना पुष्प वाला पौधा है। इसको जड़, तना, पत्ती तीन-भागों में बाँटा जा सकता है।

  • यह बीजाणुधानियों से बीजाणु उत्पन्न करता है। इसी से नये पौधों की उत्पत्ति होती है। फर्न एक पूर्ण विकसित संवहनी प्रणाली वाला पहला पौधा है।
  • यह टेरिडोफाइटा (Pteridophyta) वर्ग के पौधे होते हैं। फर्न अपने सजावटी और औषधीय उपयोग के के लिए महत्वपूर्ण हैं।

सामयिक खबरें पर्यावरण

पादप प्रजातियों की खोज 2020


भारतीय वनस्पति सर्वेक्षण ने अपने नए प्रकाशन 'पादप प्रजातियों की खोज 2020' (Plant Discoveries 2020) में देश की वनस्पतियों में 267 नई प्रजातियां शामिल की हैं।

महत्वपूर्ण तथ्य: 267 नई खोजों में 119 आवृतबीजी (angiosperms); 3 टेरिडोफाइट्स, (pteridophytes), 5 ब्रायोफाइट्स (bryophytes), 44 लाइकेन, 57 कवक, 21 शैवाल और 18 रोगाणु शामिल हैं।

  • 2020 में, देश भर में 202 नई पौधों की प्रजातियों की खोज की गई और 65 नए रिकॉर्ड जोड़े गए।
  • इन नई खोजों के साथ भारत में पौधों की विविधता का नवीनतम अनुमान 54,733 प्रजातियां है, जिसमें 21,849 आवृतबीजी, 82 अनावृतबीजी (gymnosperms), 1,310 टेरिडोफाइट्स, 2,791 ब्रायोफाइट्स, 2,961 लाइकेन, 15,504 कवक, 8,979 शैवाल और 1,257 रोगाणु शामिल हैं।
  • भारत के विभिन्न हिस्सों से 14 नई वृहत् (macro) और 31 नई सूक्ष्म कवक प्रजातियां दर्ज की गई हैं।
  • इन नए खोजों में से 22% खोजें पश्चिमी घाटों से की गईं, इसके बाद पश्चिमी हिमालय (15%), पूर्वी हिमालय (14%) और पूर्वोत्तर पर्वतमाला (12%) का स्थान है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

अंतरराष्ट्रीय सांकेतिक भाषा दिवस (23 सितंबर)


2021 का विषय: 'वी साइन फॉर ह्यूमन राइट्स' (We Sign for Human Rights)

महत्वपूर्ण तथ्य: बधिरता से पीड़ित लोगों के मानवाधिकारों को सुनिश्चित करने में सांकेतिक भाषा के महत्व के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए यह दिवस मनाया जाता है।

  • ‘वर्ल्ड फेडरेशन ऑफ डीफ’ (World Federation of the Deaf: WFD) द्वारा प्रस्तावित अंतरराष्ट्रीय सांकेतिक भाषा दिवस को 2017 में सर्वसम्मति से अपनाया गया था। वर्ष 2018 में, पहली बार यह दिवस मनाया गया।
  • WFD की स्थापना 23 सितंबर, 1951 को हुई थी, WFD बधिर लोगों के 135 राष्ट्रीय संघों का एक महासंघ है।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

संशोधित निर्दिष्ट कृषि उत्पादों के लिए ‘परिवहन एवं विपणन सहायता‘ योजना


केंद्र सरकार ने 10 सितंबर, 2021 को निर्दिष्ट कृषि उत्पादों के लिए ‘परिवहन एवं विपणन सहायता‘ योजना (Transport and Marketing Assistance: TMA scheme) में संशोधन किया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: वाणिज्य विभाग ने फरवरी 2019 में माल भाड़े के अंतरराष्ट्रीय घटक के लिए सहायता उपलब्ध कराने के लिए, कृषि उत्पादों के भारतीय निर्यातकों के सामने आने वाली उच्चतर मालभाड़ा लागत के नुकसानों को कम करने के लिए ‘परिवहन एवं विपणन सहायता योजना’ लागू की थी।

  • आरंभ में यह योजना 1 मार्च, 2019 से 31 मार्च, 2020 की अवधि के लिए लागू थी, जिसे बाद में विस्तारित कर 31 मार्च, 2021 तक के लिए प्रभावी कर दिया गया था।
  • अब विभाग ने 1 अप्रैल, 2021 को या उसके बाद 31 मार्च, 2022 तक प्रभावी निर्यात के लिए 'निर्दिष्ट कृषि उत्पाद के लिए संशोधित परिवहन और विपणन सहायता योजना' अधिसूचित की है।

संशोधित योजना में प्रमुख बदलाव: डेयरी उत्पाद, जो पूर्व योजना के तहत शामिल नहीं थे, संशोधित योजना के तहत अब सहायता के पात्र होंगे।

  • सहायता की दरें बढ़ा दी गई हैं, समुद्र द्वारा निर्यात किए जाने पर 50% तथा हवाई जहाज द्वारा निर्यात किए जाने पर 100% सहायता की बढ़ोतरी की गई है।

सामयिक खबरें आर्थिकी

अंकटाड व्यापार और विकास रिपोर्ट 2021


15 सितंबर, 2021 को संयुक्त राष्ट्र के व्यापार और विकास सम्मेलन (UNCTAD) द्वारा जारी 'अंकटाड व्यापार और विकास रिपोर्ट 2021' के अनुसार, 2021 में भारत की आर्थिक वृद्धि दर 7.2% रहने का अनुमान है।

(Source: UNCTAD)

महत्वपूर्ण तथ्य: रिपोर्ट के अनुसार भारत 2022 में 6.7% की आर्थिक वृद्धि दर्ज करेगा। हालांकि, 6.7% की धीमी विकास दर के बावजूद, भारत अगले साल दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ने वाली प्रमुख अर्थव्यवस्था बना रहेगा।

  • भारत, जिसने 2020 में 7.0% के संकुचन का अनुभव किया, ने 2021 की पहली तिमाही में 1.9% की मजबूत तिमाही वृद्धि दर्ज की है।
  • इस बीच, टीकाकरण में बाधाओं से जटिल महामारी की एक गंभीर और व्यापक रूप से अप्रत्याशित दूसरी लहर ने दूसरी तिमाही में देश को प्रभावित किया।
  • अंकटाड के अनुसार इस साल वैश्विक विकास दर 5.3% रहने का अनुमान है।
  • 2021 में अमेरिका की वृद्धि दर 5.7% होने का अनुमान है और उसके बाद अगले साल जीडीपी में 3.0% की वृद्धि होने का अनुमान है।
  • 2021 में चीन की वृद्धि दर 8.3% होने का अनुमान है और 2022 में इसकी वृद्धि धीमी होकर 5.7% रहने का अनुमान है।

सामयिक खबरें आर्थिकी

अकाउंट एग्रीगेटर नेटवर्क


2 सितंबर, 2021 को भारतीय स्टेट बैंक सहित भारत के आठ प्रमुख बैंक अकाउंट एग्रीगेटर (Account Aggregator) नेटवर्क में शामिल हो गए, जिससे ग्राहक आसानी से अपने वित्तीय डेटा को एक्सेस करने और साझा करने में सक्षम हो सकेंगे।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह फ्रेमवर्क 2016 से चर्चा में है और कुछ समय से परीक्षण के चरण में है। यह अब सभी ग्राहकों के लिए खुला रहेगा।

(Source: PIB)

  • भारतीय रिजर्व बैंक के अनुसार, एक अकाउंट एग्रीगेटर एक गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनी है, जो एक अनुबंध के तहत, अपने ग्राहक से संबंधित वित्तीय जानकारी को सुरक्षित और डिजिटल रूप में अकाउंट एग्रीगेटर में शामिल किसी अन्य विनियमित वित्तीय संस्थान के साथ साझा करने में मदद करती है।
  • ग्राहक की सहमति के बिना डेटा को साझा नहीं किया जा सकता है। डेटा साझा करने के लिए सहमति के समय प्राप्तकर्ता संस्थान द्वारा उपयोग की समयावधि उपभोक्ता को बतायी जाएगी।
  • अकाउंट एग्रीगेटर डेटा देख नहीं सकते हैं; अकाउंट एग्रीगेटर डेटा को कूटभाषा (Encryption) द्वारा साझा करता है और केवल प्राप्तकर्ता द्वारा इसे समझा (Decrypt) जा सकता है।
  • अकाउंट एग्रीगेटर के लिए लाइसेंस आरबीआई द्वारा जारी किया जाता है, और वित्तीय क्षेत्र में कई अकाउंट एग्रीगेटर होंगे।
  • यह व्यक्तियों को लंबी बैंक कतारों में प्रतीक्षा करने, इंटरनेट बैंकिंग पोर्टल का उपयोग करने, पासवर्ड साझा करने या वित्तीय दस्तावेजों तक पहुंच हासिल करने और इन्हें साझा करने के लिए नोटरी से हस्ताक्षर करवाने या मुहर लगाने की आवश्यकता को कम करता है।

सामयिक खबरें पर्यावरण

दीपोर बील वन्यजीव अभयारण्य का पारिस्थितिक संवेदनशील क्षेत्र


25 अगस्त, 2021 को, पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ने गुवाहाटी के दक्षिण-पश्चिमी किनारे पर दीपोर बील वन्यजीव अभयारण्य को पर्यावरण-संवेदनशील क्षेत्र के रूप में अधिसूचित किया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: अधिसूचना ने एक क्षेत्र "जिसकी सीमा 294 मीटर से 16.32 किमी तक हो सकती है" को पर्यावरण के प्रति संवेदनशील क्षेत्र के रूप में निर्दिष्ट किया है, जिसका कुल क्षेत्रफल 148.9767 वर्ग किमी. है।

  • दीपोर बील आर्द्रभूमि को दशकों से, इसके दक्षिणी भाग से गुजरने वाले 'रेलवे ट्रैक' (जिसका दोहरीकरण और विद्युतीकृत किया जाना है), कचरा फेंके जाने और मानव निवास और वाणिज्यिक इकाइयों से अतिक्रमण का खतरा है।

दीपोर बील: यह असम की सबसे बड़ी मीठे पानी की झीलों में से एक है।

  • यह एक महत्वपूर्ण पक्षी क्षेत्र होने के अलावा राज्य का एकमात्र रामसर स्थल है। दीपोर बील को 2002 में रामसर स्थल नामित किया गया था।
  • आर्द्रभूमि का गर्मियों में 30 वर्ग किमी. तक विस्तार होता है और सर्दियों में लगभग 10 वर्ग किमी. तक कम हो जाती है।
  • इस आर्द्रभूमि के भीतर 4.1 वर्ग किमी. का वन्यजीव अभयारण्य है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

पीएफसी ने जारी किया भारत का पहला यूरो-मूल्यवर्ग वाला ग्रीन बॉन्ड


विद्युत क्षेत्र में अग्रणी गैर-बैंकिंग वित्त कम्पनी (एनबीएफसी) पावर फाइनेंस कॉरपोरेशन लिमिटेड (PFC) ने 13 सितंबर, 2021 को अपना पहला 300 मिलियन यूरो का 7 वर्षीय यूरो बॉन्ड जारी किया है।

  • यह भारत की ओर से जारी होने वाला अब तक का पहला यूरो मूल्यवर्ग का ग्रीन बॉन्ड (Euro-denominated Green bond) है।
  • इसके अलावा, यह किसी भारतीय एनबीएफसी द्वारा पहली बार जारी किया गया यूरो है और 2017 के बाद भारत से पहला यूरो बॉन्ड जारी किया गया है।
  • 1986 में स्थापित पावर फाइनेंस कॉर्पोरेशन लिमिटेड एक अनुसूची-ए नवरत्न सीपीएसई है, और एक प्रमुख गैर-बैंकिंग वित्तीय कम्पनी है। यह विद्युत मंत्रालय के प्रशासनिक नियंत्रण के अधीन है। इसका मुख्यालय नई दिल्ली में स्थित है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

अंतरराष्ट्रीय समान वेतन दिवस (18 सितंबर)


2021 का विषय: 'समान मूल्य के कार्य के लिए समान वेतन' (Equal pay for work of equal value)

महत्वपूर्ण तथ्य: पहली बार यह दिवस 2020 में मनाया गया था, जो समान मूल्य के काम के लिए समान वेतन की उपलब्धि की दिशा में लंबे समय के प्रयासों का प्रतिनिधित्व करता है।

  • यह मानवाधिकारों के प्रति तथा महिलाओं और लड़कियों के खिलाफ भेदभाव सहित सभी प्रकार के भेदभाव के खिलाफ संयुक्त राष्ट्र की प्रतिबद्धता को दोहराता है।
  • सभी क्षेत्रों में, महिलाओं को पुरुषों की तुलना में कम भुगतान किया जाता है, वैश्विक स्तर पर लैंगिक वेतन अंतराल 23% अनुमानित है।

राज्य समाचार जम्मू-कश्मीर

जम्मू-कश्मीर लागू करेगा वन अधिकार अधिनियम 2006


जम्मू-कश्मीर सरकार ने वन अधिकार अधिनियम, 2006 को लागू करने का निर्णय लिया है।

  • जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने 13 सितंबर, 2021 को गुर्जर-बकरवाल और गद्दी-सिप्पी समुदायों के लाभार्थियों को व्यक्तिगत और सामुदायिक अधिकार प्रमाण पत्र सौंपे।
  • यह केंद्र-शासित प्रदेश में गुर्जर-बकरवाल और गद्दी-सिप्पी सहित आदिवासियों और घुमंतू समुदायों की 14 लाख आबादी के एक बड़े हिस्से की सामाजिक-आर्थिक स्थिति को मजबूत करेगा।
  • अनुसूचित जनजाति और अन्य पारंपरिक वनवासी (वन अधिकारों की मान्यता) अधिनियम, 2006, हाशिए पर पड़े सामाजिक-आर्थिक वर्ग के नागरिकों की रक्षा करने और उनके जीवन और आजीविका के अधिकार के साथ पर्यावरण के अधिकार को संतुलित करने के लिए अधिनियमित किया गया था।

राज्य समाचार पंजाब

चरणजीत सिंह चन्नी ने ली पंजाब के 16वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ


कांग्रेस नेता और विधायक चरणजीत सिंह चन्नी ने 20 सितंबर, 2021 को पंजाब के 16वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली।

(Source: https://punjab.gov.in/)

  • इससे पहले कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने 18 सितंबर को अपना इस्तीफा सौंप दिया था।
  • रूपनगर के चमकौर साहिब से तीन बार विधायक रहे चन्नी पंजाब के पहले दलित मुख्यमंत्री हैं।
  • वे 2007 में पहली बार चमकौर साहिब सीट से पंजाब विधान सभा के लिए चुने गए थे।
  • 2015 में, चन्नी को 14वीं पंजाब विधान सभा में विपक्ष के नेता के रूप में चुना गया था।
  • 2017 में, वे अमरिंदर सिंह सरकार में तकनीकी शिक्षा और औद्योगिक प्रशिक्षण, रोजगार सृजन मंत्री के रूप में शामिल हुए थे।

राज्य समाचार झारखंड

निजी क्षेत्र की नौकरियों में स्थानीय लोगों के लिए 75% कोटा विधेयक को झारखंड द्वारा मंजूरी


झारखंड विधान सभा ने 8 सितंबर, 2021 को 'झारखंड राज्य का निजी क्षेत्र में स्थानीय उम्मीदवार नियोजन विधेयक, 2021' पारित किया, जो निजी क्षेत्र में स्थानीय लोगों के लिए प्रति माह 40,000 वेतन के साथ 75% आरक्षण प्रदान करता है।

  • एक बार अधिसूचित होने के बाद, आंध्र प्रदेश और हरियाणा के बाद ऐसा कानून पारित करने वाला झारखंड देश का तीसरा राज्य बन जाएगा।
  • राजद विधायक और श्रम मंत्री सत्यानंद भोक्ता की अध्यक्षता वाली समिति ने कुछ बदलावों के साथ विधेयक में संशोधन किया था।
  • संशोधन में वेतन सीमा को 30,000 रुपये प्रति माह से बढ़ाकर 40,000 रुपये प्रति माह किया गया है।

खेल समाचार चर्चित खेल व्यक्तित्व

लसिथ मलिंगा ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से की संन्यास की घोषणा


श्रीलंका के 38 वर्षीय तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा ने 14 सितंबर, 2021 को क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास की घोषणा की। वे 2011 में टेस्ट क्रिकेट से और 2019 में एकदिवसीय क्रिकेट से पहले ही संन्यास ले चुके थे।

(Source: ESPNcricinfo)

  • वे श्रीलंका की 2014 टी-20 विश्व कप विजेता टीम के कप्तान थे। उन्होंने 84 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में 107 विकेट, 226 एकदिवसीय में 338 विकेट और 30 टेस्ट में 101 विकेट लिए हैं।
  • अपनी खतरनाक यॉर्कर के लिए प्रसिद्ध, मलिंगा टी-20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 107 विकेट के साथ सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं।
  • मलिंगा के नाम अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 5 हैट्रिक है, जिनमें दो हैट्रिक टी-20 और तीन हैट्रिक एकदिवसीय क्रिकेट में है।
  • मलिंगा ने आईपीएल में मुंबई इंडियंस का प्रतिनिधित्व किया है, जिसमें 122 आईपीएल मैचों में उनके नाम 170 विकेट हैं।
  • मलिंगा अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में दो बार लगातार चार गेंदों में चार विकेट लेने वाले एकमात्र गेंदबाज हैं। यह कारनामा उन्होंने पहली बार विश्व कप 2007 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ एकदिवसीय मैच में और बाद में 2019 में न्यूजीलैंड के खिलाफ टी-20 मैच में किया था।

पीआईबी न्यूज विज्ञान-प्रौद्योगिकी

एटीएल स्पेस चैलेंज 2021


अटल इनोवेशन मिशन (एआईएम), नीति आयोग ने 6 सितंबर, 2021 को भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) और केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के साथ मिलकर देश के सभी स्कूलों के छात्रों के लिए ‘एटीएल स्पेस चैलेंज 2021’ (ATL Space Challenge 2021) लॉन्च किया।

(Source: ISRO Twitter)

महत्वपूर्ण तथ्य: इस चैलेंज को देश के सभी स्कूलों के छात्रों, मेंटर और शिक्षकों के लिए तैयार किया गया है, जो न सिर्फ ‘एटीएल लैब’ (Atal Tinkering Laboratories: ATL) वाले स्कूलों के साथ, बल्कि गैर- एटीएल स्कूलों से जुड़े हैं।

  • इसके तहत कक्षा 6 से 12 के छात्रों को एक खुला मंच उपलब्ध कराया जायेगा, जहां वे नवाचार कर सकेंगे और डिजिटल युग की अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी समस्याओं को हल करने के लिए खुद को सक्षम कर सकेंगे।
  • एटीएल स्पेस चैलेंज 2021 को विश्व अंतरिक्ष सप्ताह 2021 के साथ श्रेणीबद्ध किया गया है, जिसे अंतरिक्ष विज्ञान और प्रौद्योगिकी के योगदान के उपलक्ष्य में वैश्विक स्तर पर हर साल 4 से 10 अक्टूबर तक मनाया जाता है।
  • छात्र एक समाधान तैयार कर सकते हैं, जिसे कार्यान्वित किया जा सकता है और जिसे तकनीकों का लाभ लेने के लिए अपनाया जा सकता है- जैसे- अंतरिक्ष का अन्वेषण (Explore Space), अंतरिक्ष तक पहुंच (Reach Space), अंतरिक्ष में निवास (Inhabit Space) तथा अंतरिक्ष से लाभ प्राप्ति (Leverage Space)।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

एनसीआरबी : भारत में अपराध रिपोर्ट 2020


सितंबर 2021 में राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) द्वारा प्रकाशित 'भारत में अपराध रिपोर्ट 2020' के अनुसार देश में 2019 की तुलना में 2020 में मुख्य रूप से कोविड-19 मानदंडों के उल्लंघन के कारण मामलों के पंजीकरण में 28% की वृद्धि हुई है।

महत्वपूर्ण तथ्य: लोक सेवक द्वारा विधिवत रूप से घोषित आदेश की अवज्ञा के मामलों में और अन्य राज्य स्थानीय कानूनों के उल्लंघन से जुड़े मामलों में लगभग 21 गुना उछाल दर्ज किया गया।

  • कुल 50,291 मामलों के साथ अनुसूचित जाति के खिलाफ अपराध में 9.4% की वृद्धि देखी गई।
  • महिलाओं के खिलाफ अपराध के मामलों में 8.30% की गिरावट आई है तथा इनमें पति या उसके रिश्तेदारों द्वारा क्रूरता के सबसे अधिक (30.0%) मामले रहे।
  • प्रति लाख महिला आबादी पर दर्ज अपराध दर 2019 में 62.3 की तुलना में 2020 में56.5 है।
  • कुल 66,01,285 संज्ञेय अपराध, जिनमें 42.54 लाख से अधिक भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) अपराध और 23.46 लाख से अधिक विशेष और स्थानीय कानून अपराध शामिल हैं, 2020 में दर्ज किए गए।
  • प्रति लाख जनसंख्या पर दर्ज अपराध दर 2019 में 385.5 से बढ़कर 2020 में 487.8 हो गई है।
  • हत्या के मामलों में 1% की मामूली वृद्धि हुई है। जबकि मानव तस्करी के मामले 2,208 से घटकर 1,714 हो गए।
  • 25 मार्च से 31 मई, 2020 तक कोविड-19 की पहली लहर के दौरान पूर्ण तालाबंदी के कारण महिलाओं, बच्चों और वरिष्ठ नागरिकों के खिलाफ अपराध, चोरी, सेंधमारी, लूटपाट और डकैती के मामलों में गिरावट दर्ज की गई।
  • पिछले साल 59,262 बच्चों के लापता होने की सूचना मिली थी, जो 2019 की तुलना में 19.80% कम है।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

संसद टीवी


भारत के उपराष्ट्रपति एवं राज्यसभा के सभापति एम. वेंकैया नायडू, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने संयुक्त रूप से 15 सितंबर, 2021 को संसद भवन एनेक्स (Parliament House Annexe) के मुख्य समिति कक्ष में ‘संसद टीवी’ का शुभारंभ किया।

(Source: SANSAD TV Twitter)

संसद टीवी के बारे में: फरवरी 2021 में लोक सभा टीवी एवं राज्य सभा टीवी के विलय का निर्णय लिया गया और मार्च 2021 में रवि कपूर को संसद टीवी का मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) नियुक्त किया गया।

  • संसद टीवी के कार्यक्रम मुख्य रूप से इन 4 श्रेणियों में होंगे - संसद एवं लोकतांत्रिक संस्थाओं में कामकाज, गवर्नेंस एवं योजनाओं/नीतियों का कार्यान्वयन, भारत का इतिहास एवं संस्कृति, और समसामयिक मुद्दे/हित/चिंताएं।
  • हालांकि चैनलों को एकल इकाई में एकीकृत किया जा रहा है, यह संसद सत्र के दौरान दो प्लेटफार्मों पर काम करेगा - एक लोक सभा की कार्यवाही का सीधा प्रसारण करने के लिए और दूसरा राज्य सभा के लिए।
  • नवंबर 2019 में, प्रसार भारती के पूर्व अध्यक्ष ए सूर्य प्रकाश की अध्यक्षता में एक समिति का गठन किया गया था, जिसने संसद के लिए एक एकीकृत चैनल की सिफारिश की थी।

लोक सभा टीवी और राज्य सभा टीवी की शुरुआत: लोक सभा टीवी की शुरुआत जुलाई 2006 में हुई थी। यह पूर्व लोक सभा अध्यक्ष सोमनाथ चटर्जी के दिमाग की उपज थी। राज्य सभा टीवी को 2011 में लॉन्च किया गया था।

सामयिक खबरें विज्ञान-प्रौद्योगिकी

सेलाइन गार्गल आरटी-पीसीआर तकनीक


नागपुर स्थित राष्ट्रीय पर्यावरण अभियांत्रिकी अनुसंधान संस्थान (NEERI) ने स्वदेशी रूप से विकसित ‘सेलाइन गार्गल (नमक घोल के गरारे) आरटी-पीसीआर तकनीक’ (The Saline Gargle RT-PCR technology) की जानकारी 11 सितंबर, 2021 को सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय (एमएसएमई) को हस्तांतरित की।

महत्वपूर्ण तथ्य: इस तकनीक का उपयोग कोविड-19 नमूनों के परीक्षण के लिए उपयोग किया जाता है।

  • सेलाइन गार्गल आरटी-पीसीआर तकनीक सरल, त्वरित, सस्ती, रोगी के अनुकूल और आरामदायक है।
  • यह त्वरित जांच परिणाम भी उपलब्ध कराती है और न्यूनतम बुनियादी ढांचा आवश्यकताओं को देखते हुए ग्रामीण और जनजातीय क्षेत्रों के लिए सर्वथा उपयुक्त है।
  • कोविड-19 की संभावित तीसरी लहर को देखते हुए NEERI ने देश भर में इसके व्यापक प्रसार के लिए संभावित लाइसेंसधारियों को जानकारी हस्तांतरण करने की प्रक्रिया तेज कर दी है।

NEERI: 1958 में स्थापित NEERI केंद्र सरकार के विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय (भारत) के अंतर्गत आता है।

  • NEERI पर्यावरण विज्ञान और इंजीनियरिंग के क्षेत्र में अग्रणी प्रयोगशाला है और वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) की घटक प्रयोगशाला है।
  • NEERI की चेन्नई, दिल्ली, हैदराबाद, कोलकाता और मुंबई में पांच क्षेत्रीय प्रयोगशालाएं हैं।

सामयिक खबरें विज्ञान-प्रौद्योगिकी

शंक्वाकार आकार के पटाखे (अनार) के उत्पादन के लिए स्वचालित मशीन


हैदराबाद के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम टूल रूम ‘सेंट्रल इंस्टीट्यूट ऑफ टूल डिजाइन’ (Central Institute of Tool Design: CITD) ने ‘शंक्वाकार आकार के पटाखे (अनार) के उत्पादन के लिए स्वचालित मशीन’ नामक आविष्कार का एक पेटेंट प्राप्त किया है। यह पेटेंट 10 नवंबर, 2015 से 20 वर्षों के लिए है।

महत्वपूर्ण तथ्य: इस परियोजना का उद्देश्य मानवीय थकान को दूर करने और खतरनाक वातावरण से लोगों को बचाने के लिए पूरी प्रक्रिया को स्वचालित करना है।

  • इस पूरी प्रक्रिया में न्यूनतम मानवीय हस्तक्षेप है। इसलिए, पटाखा उद्योग में मशीन का इस्तेमाल करना लोगों के लिए पूर्णतया सुरक्षित है।
  • CITD और स्टैंडर्ड फायरवर्क्स प्राइवेट लिमिटेड (SFPL) ने मिलकर इस नवाचार के लिए एक संयुक्त पेटेंट आवेदन दायर किया था।
  • इस मशीन की विशिष्टता है कि निर्माण की पूरी प्रक्रिया के दौरान यह पूरी तरह से ‘वायुचालित प्रणाली’ पर काम करती है।
  • इस प्रक्रिया में कोई भी प्रणाली विद्युत या इलेक्ट्रॉनिक्स नहीं है। इसलिए, इस प्रणाली से आतिशबाजी उद्योगों के क्षेत्र में अक्सर होने वाली आग की दुर्घटनाओं से बचा जा सकता है।

सेंट्रल इंस्टीट्यूट ऑफ टूल डिजाइन: यह भारत सरकार का एक संगठन है, जो सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्रालय के प्रशासनिक नियंत्रण में काम करता है। वर्ष 1968 में स्थापित यह संगठन उपकरण डिजाइन, CAD/CAM (Computer-Aided Design And Computer-Aided Manufacturing), कम लागत स्वचालन आदि के क्षेत्र में तकनीकी कर्मियों को प्रशिक्षित करने का एक अग्रणी संस्थान है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित व्यक्ति

शिवानी मीणा ओपन कास्ट खदान में काम करने वाली पहली उत्खनन इंजीनियर बनीं


सितंबर 2021 में राजस्थान की शिवानी मीणा कोल इंडिया में एक ओपन कास्ट खदान (Open Cast Mine) में उत्खनन इंजीनियर के रूप में नियुक्त होने वाली पहली महिला बन गई हैं।

(Source: PIB)

  • शिवानी मीणा कोल इंडिया की शाखा सेंट्रल कोलफील्ड्स लिमिटेड के रजरप्पा क्षेत्र में एक मशीनीकृत ओपन कास्ट खदान रजरप्पा परियोजना में एक उत्खनन इंजीनियर के रूप में शामिल हुई हैं। उन्हें हेवी अर्थ मूविंग मशीनरी (Heavy Earth Moving Machinery) के रखरखाव और मरम्मत की जिम्मेदारी दी गई है।
  • भरतपुर, राजस्थान की मूल निवासी, शिवानी ने आईआईटी जोधपुर से इंजीनियरिंग की है।
  • रजरप्पा क्षेत्र को हाल ही में कोयला मंत्रालय द्वारा ‘स्वच्छता मिशन’ के तहत उत्कृष्ट कार्य के लिए सम्मानित किया गया था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप अभियान/सम्मेलन/आयोजन

'सही पोषण-देश रोशन' अभियान


जनजातीय कार्य मंत्रालय द्वारा पोषण माह गतिविधियों के हिस्से के रूप में 9 सितंबर, 2021 को पोषण और स्वास्थ्य पर गैर-सरकारी संगठनों के लिए एक कार्यशाला का आयोजन किया गया।

  • कार्यशाला का उद्देश्य: जनजातीय कार्य मंत्रालय के साथ काम करने वाले गैर- सरकारी संगठनों को 'सही पोषण-देश रोशन' अभियान में शामिल करना।
  • कार्यशाला के दौरान गर्भावस्था, स्तनपान कराने वाली माताओं और उसके बाद के दौरान उचित पोषण की आवश्यकता पर प्रकाश डाला गया।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

विश्व बांस दिवस (18 सितंबर)


2021 का विषय: 'बांस लगाओ: बांस लगाने का समय आ गया है' (#Plant Bamboo: It's Time to Plant Bamboo)

महत्वपूर्ण तथ्य: यह दिवस वर्ष 2009 से दुनिया भर में बांस उद्योग के संरक्षण और संवर्धन के साथ-साथ बांस वृक्षारोपण हेतु जागरूकता बढ़ाने के लिए मनाया जाता है।

  • विश्व बांस दिवस की स्थापना कामेश सलाम ने वर्ष 2009 में बैंकॉक में आयोजित 8वीं विश्व बांस कांग्रेस में की थी। वे विश्व बांस संगठन के पूर्व अध्यक्ष थे।
  • बांस के कई उपयोग हैं- जैसे भोजन, जैव ईंधन, फर्नीचर आदि।

राज्य समाचार दिल्ली

दिल्ली सरकार ने लॉन्च किया मोबाइल संगीत कक्षा और रिकॉर्डिंग स्टूडियो


दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने 18 सितंबर, 2021 को एक 'मोबाइल संगीत कक्षा और रिकॉर्डिंग स्टूडियो' (Mobile music classroom and recording studio) का शुभारंभ किया।

(Source: Livemint)

उद्देश्य: दिल्ली के सरकारी स्कूलों के बच्चों को संगीत में उनके जुनून को आगे बढ़ाने में सहायता करना।

  • यह दिल्ली सरकार द्वारा 'निष्पादन और दृश्य कला' (performing and visual arts) में संचालित विशिष्ट उत्कृष्टता के स्कूलों (School of Specialized Excellence: SoSE) में भारत की पहली 'मोबाइल म्यूजिक बस' (Mobile Music Bus) है।
  • निष्पादन और दृश्य कला में विशिष्ट उत्कृष्टता के स्कूलों में विभिन्न दृश्य कला रूपों में रुचि रखने वाले छात्रों को शामिल किया जाएगा। यह स्कूल ग्यारहवीं-बारहवीं कक्षा के लिए होगा।
  • इस परियोजना के तहत, एक बस को एक चलती-फिरती संगीत कक्षा, एक उच्च गुणवत्ता वाले संगीत रिकॉर्डिंग स्टूडियो और एक प्रदर्शन मंच (performing stage) में परिवर्तित किया गया है।
  • इन क्षेत्रों में स्थायी करियर बनाने में मदद करने के लिए छात्रों को ऑडियो प्रोडक्शन और फिल्म निर्माण सहित मीडिया-आधारित पाठ्यक्रम के माध्यम से प्रशिक्षित किया जाएगा।

खेल समाचार चर्चित खेल व्यक्तित्व

दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज डेल स्टेन की क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा


दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज डेल स्टेन ने 31 अगस्त‚ 2021 को क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास लेने की घोषणा की।

(Source: ESPNcricinfo)

  • 'स्टेन गन' के नाम से प्रसिद्ध डेल स्टेन ने फरवरी 2019 में ही टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले लिया था।
  • उन्होंने 93 टेस्ट मैचों में 22.95 की शानदार औसत से 439 विकेट लिए। वे टेस्ट मैचों में विकेट लेने वालों की सर्वकालिक सूची में आठवें स्थान पर हैं।
  • उन्होंने 125 एकदिवसीय मैचों में 196 विकेट और 47 अंतरराष्ट्रीय टी-20 मैचों में 64 विकेट लिए।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

आईएनएस हंस हीरक जयंती


भारतीय नौसेना के प्रमुख वायु स्टेशन आईएनएस हंस (INS Hansa) द्वारा 5 सितंबर, 2021 को अपनी हीरक जयंती (diamond jubilee) मनाई गई।

महत्वपूर्ण तथ्य: 1958 में ‘सी हॉक’ (Sea Hawk), ‘एलिज’ (Alize) और ‘वैम्पायर’ (Vampire)विमान के साथ कोयंबटूर में स्थापित नेवल जेट फ्लाइट को 5 सितंबर, 1961 को आईएनएस हंस के रूप में कमीशन किया गया था।

  • गोवा की मुक्ति के बाद, अप्रैल 1962 में डाबोलिम हवाई क्षेत्र को नौसेना ने अपने कब्जे में ले लिया और आईएनएस हंस को जून 1964 में डाबोलिम में स्थानांतरित कर दिया गया।
  • आईएनएस हंस वर्तमान में 40 से अधिक सैन्य विमानों का संचालन कर रहा है।
  • आईएनएस हंस भारतीय नौसेना के फ्रंटलाइन एयर स्क्वाड्रन का निवास स्थान है - डोर्नियर-228 विमान के साथ आईएनएएस 310 'कोबरा', लंबी दूरी के समुद्री गश्ती विमान आईएल-38एसडी के साथ आईएनएएस 315 'विंग्ड स्टैलियन', एयरबोर्न अर्ली वार्निंग कामोव -31 हेलीकॉप्टर के साथ आईएनएएस 339 'फाल्कन्स' आदि।
  • आईएनएस हंस ने नागरिक प्रधिकरणों को खोजबीन एवं बचाव, मानवीय सहायता और आपदा राहत, बाढ़ राहत, सामुदायिक गतिविधियों और कई वंदे भारत उड़ानों के रूप में पर्याप्त सहायता प्रदान की है।
  • एयर स्टेशन जल्द ही 'आईएनएएस 316' के कमीशन होने के साथ 'बोइंग पी8आई' लंबी दूरी के 'समुद्री टोही विमान'(maritime reconnaissance aircraft) का संचालन करेगा।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

ब्राह्मणी नदी बेसिन से ताजे पानी का पथांतरण


सितंबर 2021 में पर्यावरणविदों ने ब्राह्मणी नदी बेसिन से ताजे पानी के बड़े पैमाने पर पथांतरण (diversion) पर चिंता व्यक्त की है, जो ओडिशा में प्रसिद्ध मैंग्रोव वनस्पति के लिए गंभीर खतरा पैदा कर सकता है।

महत्वपूर्ण तथ्य: तालचर-अंगुल कोयला खदानों, इस्पात और बिजली संयंत्र के साथ-साथ कलिंगनगर स्टील और पावर हब द्वारा ब्राह्मणी नदी से भारी मात्रा में इस ताजे पानी का प्रयोग किया जा रहा है।

  • 195 वर्ग किमी. में फैली भितरकनिका रामसर आर्द्रभूमि 62 मैंग्रोव प्रजातियों का घर है। इसके अलावा, भितरकणिका मैंग्रोव वन के दलदल में 1600 खारे पानी के मगरमच्छ पाए जाते हैं।
  • ब्राह्मणी और खारसरोटा नदियों के निचले किनारों के पास समुद्री जल के साथ मीठे पानी के मिश्रण से मैंग्रोव के लिए आदर्श 'खारे पानी' का उत्पादन होता है।

ब्राह्मणी नदी: ब्राह्मणी भारत में प्रमुख अंतरराज्यीय पूर्व की ओर प्रवाहित वाली नदियों में से एक है।

  • ब्राह्मणी नदी बेसिन झारखंड, छत्तीसगढ़ और ओडिशा राज्यों को कवर करती है और इसका कुल जलग्रहण क्षेत्र 39,033 वर्ग किमी. है।
  • यह छोटानागपुर पठार से दो प्रमुख नदियों शंख (Sankh) और दक्षिण कोयल (South Koel) के रूप में निकलती है, जो ओडिशा के सुंदरगढ़ जिले में राउरकेला के पास वेदव्यास में आपस में मिलकर प्रमुख नदी ब्राह्मणी के रूप में आगे बढती हैं।
  • इसकी कुल लंबाई लगभग 799 किलोमीटर है। इस नदी की प्रमुख सहायक नदियाँ शंख, टिकरा और कारो हैं।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप निधन

पूर्व केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव केशव देसिराजू का निधन


पूर्व केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव केशव देसिराजू का 5 सितंबर, 2021 को चेन्नई में ‘एक्यूट कोरोनरी सिंड्रोम' (acute coronary syndrome) के कारण निधन हो गया। वे 66 वर्ष के थे।

(Source: Twitter profile)

  • उत्तराखंड कैडर के 1978 बैच के आईएएस अधिकारी रहे देसिराजू ने उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश सरकार तथा भारत सरकार के साथ कई पदों पर कार्य किया और उपभोक्ता मामलों के विभाग में केंद्रीय सचिव के रूप में सेवानिवृत्त हुए थे।
  • उन्होंने देश में मानसिक स्वास्थ्य सुरक्षा का दायरा बढ़ाने तथा सामुदायिक स्वास्थ्यके क्षेत्र में सराहनीय काम किया। उन्होंने 'मानसिक स्वास्थ्य देखभाल अधिनियम, 2017' का मसौदा तैयार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।
  • उन्होंने समीरन नंदी और संजय नागराल के साथ 'हीलर ऑर प्रीडेटर्स? हेल्थकेयर करप्शन इन इंडिया' (Healers or Predators? Healthcare Corruption in India) नामक पुस्तक का सह-संपादन किया था।
  • हाल ही में उन्होंने एम.एस. सुब्बुलक्ष्मी पर 'गिफ्टेड वॉयस: द लाइफ एंड आर्ट ऑफ एम.एस. सुब्बुलक्ष्मी' (Gifted Voice: The Life and Art of M.S. Subbulakshmi) नामक पुस्तक का लेखन भी किया था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप निधन

अभ्यास जपड़ - 2021


अभ्यास जपड़ - 2021 (Exercise ZAPAD 2021)

200 भारतीय सेना कर्मियों की एक टुकड़ी ने 3 से 16 सितंबर, 2021 तक रूस के नोवगोग्राड क्षेत्र में निजनी के पास मुलिनो ट्रेनिंग ग्राउंड में आयोजित बहुराष्ट्रीय अभ्यास ‘जपड़ – 2021’ (Exercise ZAPAD 2021) में हिस्सा लिया।

उद्देश्य: भाग लेने वाले देशों के बीच सैन्य और रणनीतिक संबंधों को बढ़ाना।

  • अभ्यास के लिए आमंत्रित किए गए 17 देशों में से नौ भाग लेने वाले देश और चीन तथा पाकिस्तान सहित आठ पर्यवेक्षक देश थे।
  • नौ भाग लेने वाले देशों में मंगोलिया, आर्मेनिया, कजाकिस्तान, ताजिकिस्तान, किर्गिस्तान, सर्बिया, रूस, भारत और बेलारूस शामिल थे।
  • जपड़ - 2021 रूसी सशस्त्र बलों के थिएटर स्तर के अभ्यासों में से एक है और यह मुख्य रूप से आतंकवाद विरोधी संचालन पर केंद्रित था।
  • अभ्यास में भाग लेने वाले 'नागा' बटालियन समूह में एक ‘सभी शस्त्रों का संयुक्त कार्यबल’ (all arms combined task force) था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

अंतरराष्ट्रीय ओजोन परत संरक्षण दिवस (16 सितंबर)


2021 का विषय: 'मॉन्ट्रियल प्रोटोकॉल - हमें, हमारे भोजन और टीकों को ठंडा रखना' (Montreal Protocol – keeping us, our food and vaccines cool)

महत्वपूर्ण तथ्य: 1994 में, संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 16 सितंबर को अंतरराष्ट्रीय ओजोन परत संरक्षणदिवस घोषित किया। इसी दिन 1987 में, ओजोन परत को नुकसान पहुँचाने वाले पदार्थों पर मॉन्ट्रियल प्रोटोकॉल पर हस्ताक्षर किये गए थे।

  • इसका उद्देश्य ओजोन परत के संरक्षण के बारे में जागरूकता फैलाना तथा इसके संरक्षण के लिए समाधान खोजना है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

विश्व रोगी सुरक्षा दिवस (17 सितंबर)


2021 का विषय: 'सुरक्षित मातृ एवं नवजात शिशु देखभाल' (Safe maternal and newborn care)

2021 का नारा (slogan): 'सुरक्षित और सम्मानजनक प्रसव के लिए अभी कार्रवाई करें!' (Act now for safe and respectful childbirth!)

महत्वपूर्ण तथ्य: इस दिवस को मनाने का उद्देश्य रोगी सुरक्षा की वैश्विक समझ को बढ़ाना और रोगी की सुरक्षा बढ़ाने और रोगी की परेशानी को कम करने के लिए वैश्विक कार्रवाई को बढ़ावा देना है।

संक्षिप्त खबरें संस्थान-संगठन

सरदार इकबाल सिंह लालपुरा राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष


पूर्व आईपीएस अधिकारी सरदार इकबाल सिंह लालपुरा ने 10 सितंबर, 2021 को नई दिल्ली में राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष के रूप में कार्यभार संभाल लिया है।

(Source: National Commission for Minorities)

  • गृह मंत्रालय के वर्ष 1978 के संकल्प द्वारा 'अल्पसंख्यक आयोग' की स्थापना की परिकल्पना की गई थी।
  • राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग अधिनियम, 1992 के अधिनियमन के साथ, अल्पसंख्यक आयोग एक वैधानिक निकाय बन गया और 1993 में इसका नाम बदलकर राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग कर दिया गया।
  • प्रारंभ में पांच धार्मिक समुदायों, अर्थात मुस्लिम, ईसाई, सिख, बौद्ध और पारसी को केंद्र सरकार द्वारा अल्पसंख्यक समुदायों के रूप में अधिसूचित किया गया था। 2014 में, जैन को भी एक अन्य अल्पसंख्यक समुदाय के रूप में अधिसूचित किया गया था।
  • आयोग में अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और केंद्र सरकार द्वारा नामित पांच सदस्य होते हैं।
  • आयोग का मुख्य कार्य अल्पसंख्यकों के विकास की प्रगति का मूल्यांकन करना, संविधान और अधिनियमित कानूनों में प्रदान किए गए सुरक्षा उपायों के कामकाज की निगरानी करना, अल्पसंख्यकों के अधिकारों से वंचित करने के संबंध में विशिष्ट शिकायतों की जांच करना तथा अल्पसंख्यकों के सामाजिक-आर्थिक और शैक्षिक विकास से संबंधित मुद्दों पर अध्ययन, अनुसंधान और विश्लेषण की व्यवस्था करना है।

राज्य समाचार असम

असम ने ओरंग राष्ट्रीय उद्यान के नाम से 'राजीव गांधी' का नाम हटाया


असम कैबिनेट ने 1 सितंबर, 2021 को ओरंग राष्ट्रीय उद्यान से पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी का नाम हटाने का फैसला किया है।

  • गुवाहाटी से लगभग 120 किमी. उत्तर-पूर्व में स्थित, ओरंग राष्ट्रीय उद्यान असम के सात राष्ट्रीय उद्यानों में से एक है और शीर्ष तीन गैंडा आवासों में से एक है।
  • 1985 में ओरंग को वन्यजीव अभयारण्य घोषित किया गया था तथा 1999 में एक राष्ट्रीय उद्यान में अपग्रेड किया गया था। अगस्त 2005 में तरुण गोगोई के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार के दौरान इसका नाम ‘राजीव गांधी ओरंग राष्ट्रीय उद्यान’ किया गया था।
  • मार्च 2016 में ‘राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण’ द्वारा राष्ट्रीय उद्यान को टाइगर रिजर्व घोषित किया गया था। टाइगर रिजर्व के तहत 492.46 वर्ग किमी. क्षेत्र है।

खेल समाचार चर्चित खेल व्यक्तित्व

आर राजा रित्विक बने भारत के 70वें ग्रैंडमास्टर


आर राजा रित्विक भारत के 70वें शतरंज ग्रैंडमास्टर बन गए हैं, उन्होंने 17 सितंबर, 2021 को बुडापेस्ट, हंगरी में आयोजित ‘वेजरकेप्जो ग्रैंडमास्टर शतरंज टूर्नामेंट’ में अपना तीसरा और अंतिम मानदंड हासिल किया।

(Source: The Hindu)

  • 17 वर्षीय वारंगल निवासी राजा रित्विक ईएलओ (ELO) 2,500 का आंकड़ा पार करने के बाद ग्रैंडमास्टर बने।
  • उन्होंने टूर्नामेंट में चौथे दौर के बाद चेकोस्लोवाकिया के फिडे मास्टर 'फिनेक वाक्लाव' (Finek Vaclav) को हराकर चार रेटिंग अंक हासिल किए थे।
  • पुणे के हर्षित राजा अगस्त 2021 में भारत के 69वें ग्रैंडमास्टर बने थे।

खेल समाचार चर्चित खेल व्यक्तित्व

हरमिलन कौर बैंस ने बनाया 1500 मीटर का नया राष्ट्रीय रिकॉर्ड


पंजाब की 23 वर्षीय हरमिलन कौर बैंस ने 16 सितंबर, 2021 को वारंगल में 60वीं राष्ट्रीय ओपन एथलेटिक्स चैंपियनशिप में 1500 मीटर में दो दशक पुराना राष्ट्रीय रिकॉर्ड तोड़कर स्वर्ण पदक अपने नाम किया।

(Source: Athletics Federation of India)

  • हरमिलन ने 4: 05.39 (4 मिनट 05.39 सेकेंड) का समय लेकर सुनीता रानी द्वारा 2002 के बुसान एशियाई खेलों में 4: 06.03 के समय का और ओपी जैशा के दिल्ली 2006 मीट (4: 11.83 समय) का रिकॉर्ड भी तोड़ा।
  • हरमिलन कौर बैंस ने 800 मीटर में राष्ट्रीय ओपन एथलेटिक्स चैंपियनशिप का दूसरा स्वर्ण पदक भी जीता।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

आईसीएमआर और आईआईटी मुंबई को ड्रोन उपयोग की अनुमति


नागरिक उड्डयन मंत्रालय और नागर विमानन महानिदेशालय ने 13 सितंबर, 2021 को भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) और आईआईटी मुंबई को ड्रोन नियम, 2021 से सशर्त छूट दी है।

महत्वपूर्ण तथ्य: आईसीएमआर को अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, मणिपुर और नागालैंड में ‘वैक्सीन के वितरण के लिये’ सामान्य दृष्टि सीमा से परे (Beyond Visual Line of Sight) 3000 मीटर की ऊंचाई तक प्रायोगिक तौर पर ड्रोन का उपयोग करने की अनुमति दी गयी है।

  • आईआईटी मुंबई को अपने परिसर में ‘ड्रोन के अनुसंधान, विकास और परीक्षण के लिए’ ड्रोन उपयोग की अनुमति दी गई है।
  • यह छूट इस्तेमाल किये जाने वाले वायुक्षेत्र में अनुमति से जुड़े नियमों और शर्तों के अधीन होगी और उस वायुक्षेत्र के लिये मिली अनुमति की तारीख से ‘एक वर्ष की अवधि’ तक वैध होगी।
  • नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने 25 अगस्त, 2021 को सावधानियों और सुरक्षा चिंताओं पर संतुलन बनाते हुए ड्रोन संचालन को तेज विकास के युग में ले जाने के लिए ‘उदार ड्रोन नियम, 2021’ को अधिसूचित किया है।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

कार्बी आंगलोंग समझौता


कार्बी आंगलोंग क्षेत्र में वर्षों से चल रही हिंसा को समाप्त करने के लिए 4 सितंबर, 2021 को केंद्र, असम सरकार और असम के पांच विद्रोही समूहों के बीच एक त्रिपक्षीय समझौते पर हस्ताक्षर किए गए।

महत्वपूर्ण तथ्य: शांति समझौते पर हस्ताक्षर करने वाले विद्रोही समूहों में ‘कार्बी लोंगरी नॉर्थ कछार हिल्स लिबरेशन फ्रंट’, ‘पीपुल्स डेमोक्रेटिक काउंसिल ऑफ कार्बी लोंगरी’, ‘यूनाइटेड पीपुल्स लिबरेशन आर्मी’ और ‘कार्बी पीपुल्स लिबरेशन टाइगर्स’ शामिल हैं।

समझौते की मुख्य विशेषताएं: शांति समझौते के तहत, 1,000 से अधिक सशस्त्र कैडर हिंसा छोड़कर मुख्यधारा में शामिल हो गए। उनके पुनर्वास का भी प्रावधान किया गया है।

  • कार्बी क्षेत्रों में ‘विशेष विकास परियोजनाओं’ को शुरू करने के लिए केंद्र सरकार और असम सरकार द्वारा पांच वर्षों में 1,000 करोड़ रुपये का एक ‘विशेष विकास पैकेज’ दिया जाएगा।
  • असम सरकार 'कार्बी आंगलोंग स्वायत्त परिषद' (KAAC) क्षेत्र से बाहर रहने वाले कार्बी लोगों के विकास पर ध्यान केंद्रित करने के लिए एक 'कार्बी कल्याण परिषद' की स्थापना करेगी।
  • 'कार्बी आंगलोंग स्वायत्त परिषद' के संसाधनों की पूर्ति के लिए ‘राज्य की संचित निधि’ को बढ़ाया जाएगा।
  • समग्र रूप से, वर्तमान समझौते में 'कार्बी आंगलोंग स्वायत्त परिषद' को अधिक विधायी, कार्यकारी, प्रशासनिक और वित्तीय शक्तियां देने का प्रस्ताव है।

कार्बी आंगलोंग: मध्य असम में स्थित, कार्बी आंगलोंग राज्य का सबसे बड़ा जिला है, यहाँ कार्बी, दिमासा, बोडो, कुकी, हमार, तिवा, गारो, रेंगमा नागा आदि जातीय और आदिवासी समूह हैं। कार्बी संगठनों की मुख्य मांग, एक पृथक राज्य के गठन किए जाने की थी।

  • ‘कार्बी आंगलोंग स्वायत्त परिषद’ का गठन भारतीय संविधान की छठी अनुसूची के तहत किया गया है।

सामयिक खबरें विज्ञान-प्रौद्योगिकी

थार मरुस्थल में मिले डायनासोर की तीन प्रजातियों के पदचिह्न


सितंबर 2021 में जीवाश्म विज्ञानियों के एक दल ने राजस्थान के जैसलमेर जिले के थार मरुस्थल में डायनासोर की तीन प्रजातियों के पैरों के निशान (पदचिह्न) खोजे हैं।

महत्वपूर्ण तथ्य: वे डायनासोर की तीन प्रजातियों से संबंधित हैं- 'यूब्रोंट्स सीएफ गिगेंटस' (Eubrontes cf. Giganteus), 'यूब्रोंट्स ग्लेनरोसेंसिस' (Eubrontes glenrosensis) और 'ग्रेलेटर टेनुइस' (Grallator tenuis)।

  • गिगेंटस और ग्लेनरोसेंसिस प्रजातियों के 35 सेमी के पदचिह्न हैं, जबकि तीसरी प्रजाति के पदचिह्न 5.5 सेमी पाए गए।
  • ये पदचिह्न 200 मिलियन वर्ष पुराने थे। वे जैसलमेर के थायट (Thaiat) गांव के पास पाए गए।
  • इन डायनासोर की प्रजाति को 'थेरोपोड' (theropod) प्रकार का माना जाता है, जिनमें खोखली हड्डियों और तीन पैर वाले अंग (अँगुलियों) की विशिष्ट विशेषताएं हैं। प्रारंभिक जुरासिक काल से संबंधित ये सभी तीन प्रजातियां मांसाहारी थीं।

थार मरुस्थल: यह पूर्व में अरावली पर्वत शृंखलाओं और पश्चिम में सिंधु नदी के बीच फैला हुआ है। भारत के भीतर इसका अधिकतम क्षेत्र (85%) है और पाकिस्तान के सिंध प्रांत में एक छोटा क्षेत्र (15%) है।

  • भारत में, मरुस्थल ज्यादातर राजस्थान राज्य में फैला हुआ है और भारत के गर्म शुष्क क्षेत्रों का एक हिस्सा है। इस क्षेत्र में प्रति वर्ष 150 मिमी से भी कम वर्षा होती है। ‘लूनी’ इस क्षेत्र की एकमात्र बड़ी नदी है।

सामयिक खबरें पर्यावरण

28% प्रजातियां विलुप्त होने के कगार पर


सितंबर 2021 में इंटरनेशनल यूनियन फॉर द कंजर्वेशन ऑफ नेचर (आईयूसीएन) द्वारा अपनी उत्तरजीविता निगरानी (survival watchlist) सूची जारी की गई।

महत्वपूर्ण तथ्य: उत्तरजीविता निगरानी सूची के लिए मूल्यांकन की गई 1,38,374 प्रजातियों में सेलगभग 28% अब हमेशा के लिए विलुप्त होने के कगार पर है।

  • पर्यावास नुकसान, अत्यधिक शिकार, अवैध व्यापार ने दशकों से वैश्विक वन्यजीव आबादी को प्रभावित किया है और अब एक प्रत्यक्ष खतरे के रूप में जलवायु परिवर्तन भी सामने आ रहा है।
  • इंडोनेशिया के 'कोमोडो ड्रेगन' (Komodo dragons) को "संकटग्रस्त" के रूप में सूचीबद्ध किया गया है। यह प्रजाति 'जलवायु परिवर्तन' के प्रभावों से खतरे में है। अगले 45 वर्षों में समुद्र के बढ़ते स्तर से इसके छोटे प्रयावास में 30% कमी की संभावना है।
  • दुनिया की सबसे बड़ी जीवित छिपकलियां में से एक 'कोमोडो ड्रेगन' केवल विश्व विरासत स्थल 'कोमोडो नेशनल पार्क' और उसके आसपास पाई जाती हैं।
  • विशेषज्ञों द्वारा मूल्यांकन किए गए 1,200 ‘शार्क और रे प्रजातियों’ (shark and ray species) में से लगभग 37% को विलुप्त होने का खतरा है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप निधन

प्रसिद्ध खगोल भौतिक वैज्ञानिक तनु पद्मनाभन का निधन


प्रख्यात खगोल भौतिक विज्ञानी और ब्रह्मांड विज्ञानी तनु पद्मनाभन का 17 सितंबर, 2021 को पुणे में निधन हो गया। वे 64 वर्ष के थे।

  • उन्होंने स्नातक (बीएससी) की पढ़ाई के दौरान मात्र 20 साल की उम्र में अपना पहला शोध पत्र ‘सामान्य सापेक्षता’ (General Relativity) में प्रकाशित किया।
  • पुणे स्थित खगोलशास्त्र एवं खगोलभौतिकी अन्तरविश्वविद्यालय केन्द्र (IUCAA) में प्रोफेसर रहे पद्मनाभन ने गुरुत्वाकर्षण और ब्रह्मांड में संरचना निर्माण पर शोध किया था।
  • उन्हें 2009 में इंफोसिस साइंस फाउंडेशन द्वारा भौतिक विज्ञान में 'इंफोसिस साइंस पुरस्कार' दिया गया था। प्रोफेसर पद्मनाभन ने 2008 में ग्रेविटी रिसर्च फाउंडेशन, यूएसए द्वारा प्रतिष्ठित ‘ग्रेविटी निबंध प्रतियोगिता’ में प्रथम पुरस्कार भी जीता था।
  • वर्ष 2007 में उन्हें ‘पद्म श्री’ से सम्मानित किया गया था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

दक्षिण-दक्षिण सहयोग के लिए अंतरराष्ट्रीय दिवस (12 सितंबर)


महत्वपूर्ण तथ्य: दक्षिण-दक्षिण सहयोग के लिए संयुक्त राष्ट्र दिवस हाल के वर्षों में दक्षिण क्षेत्रों में स्थित देशों द्वारा किए गए आर्थिक, सामाजिक और राजनीतिक विकास के बारे में जागरूकता फैलाने के उद्देश्य से मनाया जाता है।

  • 1978 में 'विकासशील देशों के बीच तकनीकी सहयोग' (TCDC) पर ग्लोबल साउथ (Global South) का सम्मेलन ब्यूनस आयर्स में आयोजित किया गया था, जिसके परिणामस्वरूप विकासशील देशों के बीच तकनीकी सहयोग को बढ़ावा देने और कार्यान्वित करने के लिए दक्षिण-दक्षिण सहयोग के मुख्य स्तंभों में से एक 'ब्यूनस आयर्स कार्य योजना' (BAPA) को अपनाया गया था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

हिंदी दिवस (14 सितंबर)


महत्वपूर्ण तथ्य: 14 सितंबर, 1949 को संविधान सभा ने देवनागरी में लिखी गई हिंदी को देश की आधिकारिक भाषा के रूप में अपनाया था। इसका उद्देश्य हिंदी भाषा को बढ़ावा देना है और हिंदी को मातृ भाषा के रूप में प्रसारित करना है।

  • हिंदी दुनिया में व्यापक रूप से बोली जाने वाली भाषाओं में से एक है और 520 मिलियन से अधिक लोगों की पहली भाषा है।

राज्य समाचार गुजरात

भूपेंद्र पटेल ने ली गुजरात के नए मुख्यमंत्री के रूप में शपथ


भारतीय जनता पार्टी के नेता और घाटलोदिया से विधायक भूपेंद्र पटेल ने 13 सितंबर, 2021 को गुजरात के 17वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली।

  • वे पहली बार 2017 में विधायक बने, उन्होंने 2017 के विधानसभा चुनावों में कांग्रेस उम्मीदवार शशिकांत पटेल को 117,000 वोटों से हराकर घाटलोडिया सीट जीती थी।
  • पटेल इससे पहले कभी मंत्रालय में शामिल नहीं रहे, वे 2015 और 2017 के बीच अहमदाबाद शहरी विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष रहे।
  • सिविल इंजीनियरिंग में डिप्लोमाधारी भूपेंद्र पटेल पेशे से एक भवन निर्माता (builder) हैं।
  • इससे पहले विजय रूपाणी ने 11 सितंबर को मुख्यमंत्री पद से अपना इस्तीफा दे दिया था।

राज्य समाचार उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना


सहभागी ग्रामीण अर्थव्यवस्था (participatory rural economy) और बुनियादी ढांचे को मजबूत करने के उद्देश्य से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 15 सितंबर, 2021 को 'उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना' शुरू करने की घोषणा की।

  • इसके तहत प्रत्येक व्यक्ति को गांवों में बुनियादी ढांचे के विकास के विभिन्न कार्यों में सीधे भाग लेने का मौका मिलेगा।
  • परियोजना की कुल लागत का 50 प्रतिशत सरकार वहन करेगी, जबकि शेष 50 प्रतिशत का योगदान इच्छुक लोगों द्वारा किया जाएगा।
  • बदले में परियोजना का नामकरण व्यक्तियों की इच्छा के अनुसार किया सकता है।
  • मुख्यमंत्री ने ग्रामीण विकास और पंचायती राज विभागों को नई योजना के औपचारिक शुभारंभ के लिए एक कार्य योजना प्रस्तुत करने को भी कहा है।

राज्य समाचार लद्दाख

लद्दाख ने घोषित किए राजकीय पशु और राजकीय पक्षी


केंद्र-शासित प्रदेश लद्दाख प्रशासन ने 1 सितंबर, 2021 को ‘हिम तेंदुआ’ (Snow leopard) को राज्य पशु (State animal) और ‘काली गर्दन वाले सारस’ (black-necked crane) को राज्य पक्षी (State bird) घोषित किया है।

  • हिम तेंदुआ (वैज्ञानिक नाम- पैंथर यूनिका), जिनकी संख्या पूरे विश्व में घट रही है, को इंटरनेशनल यूनियन फॉर कंजर्वेशन ऑफ नेचर रेड लिस्ट में 'अतिसंवेदनशील' (vulnerable) के रूप में वर्गीकृत किया गया है।
  • वफादार जोड़े माने जाने वाले काले गर्दन वाले सारस भारत में केवल लद्दाख के चांगथांग क्षेत्र में पाए जाते हैं। इसका वैज्ञानिक नाम 'ग्रस निग्रीकोलिस' (Grus nigricollis) है।
  • इसे इंटरनेशनल यूनियन फॉर कंजर्वेशन ऑफ नेचर (IUCN) की रेड लिस्ट में 'संकटासन्न' (Near Threatened) के रूप में सूचीबद्ध किया गया है।

पीआईबी न्यूज अंतरराष्ट्रीय

जलवायु कार्यवाही एवं वित्तीय संग्रहण संवाद


भारत और संयुक्त राज्य अमेरिका ने 13 सितंबर, 2021 को 'जलवायु कार्यवाही एवं वित्तीय संग्रहण संवाद' (Climate Action and Finance Mobilization Dialogue: CAFMD) का शुभारम्भ किया।

(Source: PIB)

महत्वपूर्ण तथ्य: CAFMD अप्रैल 2021 में 'जलवायु पर लीडर्स समिट' में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन द्वारा लॉन्च भारत-अमेरिका जलवायु और स्वच्छ ऊर्जा एजेंडा 2030 भागीदारी के दो ट्रैक में से एक है।

  • नई दिल्ली में आयोजित एक कार्यक्रम में केंद्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु मंत्री भूपेंद्र यादव और अमेरिकी राष्ट्रपति के जलवायु पर विशेष दूत जॉन केरी द्वारा औपचारिक रूप से संवाद शुरू किया गया।
  • CAFMD यह प्रदर्शित करने में मदद करेगा कि कैसे दुनिया राष्ट्रीय परिस्थितियों और सतत विकास प्राथमिकताओं को ध्यान में रखते हुए ‘समावेशी’ और ‘लचीले’ आर्थिक विकास के साथ जलवायु पर तत्परता से एकजुट हो सकती है।

सामयिक खबरें आर्थिकी

पारादीप पोर्ट: मोबाइल एक्स-रे कंटेनर स्कैनिंग सिस्टम


13 सितंबर, 2021 को पारादीप पोर्ट द्वारा व्यापार सुगमता पहल के तहत पारादीप इंटरनेशनल कार्गो टर्मिनल (PICT) के पास एक 'मोबाइल एक्स-रे कंटेनर स्कैनिंग सिस्टम' (MXCS) स्थापित किया गया है।

(Source: @MIB_India Twitter)

महत्वपूर्ण तथ्य: इसे बंदरगाह पर कंटेनरों के भौतिक परीक्षण और उनके वहां रहने की अवधि को कम करने के उद्देश्य से स्थापित किया गया है।

  • MXCS के सफल परीक्षण के बाद, परमाणु ऊर्जा नियामक बोर्ड (AERB) ने पारादीप कस्टम्स को इसके नियमित संचालन के लिए लाइसेंस जारी कर दिया है।
  • स्कैनर द्वारा एक घंटे में 25 कंटेनरों की जांच की जा सकती है।
  • इससे बंदरगाह के माध्यम से कंटेनरों में बिना कटे हुए धातु स्क्रैप सामग्री (metallic scrap materials) की आवाजाही की सुविधा होगी।

पारादीप बंदरगाह: यह भारत के पूर्वी तट पर एक प्राकृतिक, गहरे पानी का बंदरगाह है।

  • बंदरगाह का संचालन पारादीप पोर्ट ट्रस्ट द्वारा किया जाताहै। यह महानदी नदी और बंगाल की खाड़ी के संगम पर स्थित है।
  • यह कोलकाता से 210 समुद्री मील दक्षिण में और विशाखापत्तनम से 260 समुद्री मील उत्तर में स्थित है।

सामयिक खबरें आर्थिकी

सहारा फ्रोजन फूड्स खाद्य प्रसंस्करण यूनिट


केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग राज्य मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल ने केंद्रीय क्षेत्र की योजना-प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना की ‘कोल्ड चेन योजना’ के तहत 12 सितंबर, 2021 मुरैना, मध्य प्रदेश में स्थापित सहारा फ्रोजन फूड्स (Sahara Frozen Foods) की खाद्य प्रसंस्करण यूनिट का उद्घाटन किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: इस परियोजना की कुल लागत 21.09 करोड़ रुपये है और मंत्रालय द्वारा 10.00 करोड़ रुपये अनुदान स्वरूप दिये गये।

  • इस परियोजना की सुविधाओं में फलों व सब्जियों के लिए आईक्यूएफ प्री-प्रोसेसिंग लाइन - 4 मीट्रिक टन/ घंटा, डीप फ्रीजर / फ्रोजन स्टोर- 4000 मीट्रिक टन, मॉडर्न रैकिंग सिस्टम (स्टैकिंग) - 4000 मीट्रिक टन और हाई रीच मैटेरियल हैंडलिंग- 2 यूनिट शामिल हैं।
  • यह पैकिंग मशीन, जल उपचार संयंत्र, जल भंडारण टैंक आदि जैसी उत्कृष्ट अत्याधुनिक सुविधाएं प्रदान करती है।
  • इस प्रसंस्करण इकाई द्वारा फ्रोजन (frozen) सब्जियों जैसे- मटर, गोभी आदि को मुख्य रूप से तैयार किया जाता है।

कोल्ड चेन योजना: कोल्ड चेन, मूल्य संवर्धन और परिरक्षण बुनियादी ढांचे (Preservation Infrastructure) की योजना का उद्देश्य खेत से लेकर उपभोक्ता तक बिना किसी बाधा के एकीकृत कोल्ड चेन और संरक्षण बुनियादी ढांचा सुविधाएं प्रदान करना है। यह योजना वर्ष 2008 से क्रियान्वित की जा रही है।

सामयिक खबरें पर्यावरण

हिमालयी क्षेत्र में जल विद्युत परियोजनाएं


पर्यावरण मंत्रालय ने अगस्त 2021 में सुप्रीम कोर्ट में दिए एक शपथ-पत्र में स्पष्ट किया है कि उसने सात पनबिजली परियोजनाओं को मंजूरी प्रदान की है, जो निर्माण के 'उन्नत चरणों' में हैं।

महत्वपूर्ण तथ्य: सात परियोजनाएं टिहरी चरण 2 (1000 मेगावाट), तपोवन विष्णुगाड (जो फरवरी 2021 की बाढ़ से प्रभावित हुई थी) (520 मेगावाट), विष्णुगाड पीपलकोटी (444 मेगावाट), सिंगोली भटवारी (99 मेगावाट), फाटा भुयांग (76 मेगावाट), मधमहेश्वर (15 मेगावाट), और कालीगंगा II ( 4.5 मेगावाट) हैं।

  • 2013 की केदारनाथ बाढ़ के बाद, सुप्रीम कोर्ट ने उत्तराखंड में जलविद्युत परियोजनाओं के विकास पर रोक लगा दी थी।
  • अलकनंदा और भागीरथी बेसिन में 24 ऐसी प्रस्तावित जलविद्युत परियोजनाओं की भूमिका की जांच के लिए पर्यावरणविद् रवि चोपड़ा के नेतृत्व में गठित 17 सदस्यीय विशेषज्ञ समिति ने 23 परियोजनाओं के क्षेत्र की पारिस्थितिकी पर "अपरिवर्तनीय प्रभाव" की बात कही थी।
  • इसके बाद, 6 निजी परियोजना डेवलपर्स ने उनकी परियोजनाओं को जारी रखने की अनुमति मांगी थी।
  • भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, कानपुर के विनोद तारे के नेतृत्व में एक अन्य समिति ने यह निष्कर्ष दिया था कि इन परियोजनाओं के “महत्वपूर्ण पर्यावरणीय प्रभाव” हो सकते हैं।
  • 2015 में पर्यावरण मंत्रालय ने बी.पी. दास (जो मूल समिति का हिस्सा थे) के नेतृत्व में एक और समिति का गठन किया था। दास समिति ने कुछ के लिए डिजाइन संशोधनों के साथ सभी छ: परियोजनाओं को जारी रखने की सिफारिश की थी।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

अभियंता दिवस (15 सितंबर)


महत्वपूर्ण तथ्य: प्रसिद्ध भारतीय इंजीनियर मोक्षगुंडम विश्वेश्वरैया की जयंती के उपलक्ष्य में भारत में अभियंता (इंजीनियर) दिवस मनाया जाता है। भारत के अलावा श्रीलंका और तंजानिया में भी यह दिवस मनाया जाता है।

  • ‘सर एम.वी.’ के नाम से विख्यात सिविल इंजीनियर, विश्वेश्वरैया मैसूर शहर के उत्तर पश्चिम उपनगर में कृष्णा राज सागर बांध के मुख्य अभियंता थे।
  • सिंचाई तकनीकों और बाढ़ आपदा प्रबंधन के विशेषज्ञ, सर एमवी 1912 से 1919 तक मैसूर के 19वें दीवान भी रहे। मैसूर के दीवान के रूप में सेवा करते हुए, 1915 में उन्हें किंग जॉर्ज पंचम द्वारा ब्रिटिश भारतीय साम्राज्य के कमांडर के रूप में 'नाइट' (Knight) से सम्मानित किया गया था।
  • उन्हें 1955 में भारत के सर्वोच्च सम्मान 'भारत रत्न' से सम्मानित किया गया था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

अंतरराष्ट्रीय लोकतंत्र दिवस (15 सितंबर)


2021 का विषय: 'भविष्य के संकटों की स्थिति में लोकतांत्रिक लचीलेपन को मजबूत करना' (Strengthening democratic resilience in the face of future crises)

महत्वपूर्ण तथ्य: यह दिवस दुनिया में लोकतंत्र की स्थिति की समीक्षा करने का अवसर प्रदान करता है। इसे 2007 में संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा स्थापित किया गया था।

राज्य समाचार मणिपुर

मणिपुर की अनूठी हाथी मिर्च और तामेंगलोंग संतरे ने हासिल किया जीआई टैग


सितंबर 2021 में मणिपुर के उखरुल जिले में पाई जाने वाली तथा अपने अनोखे स्वाद के लिए प्रसिद्ध 'हाथी मिर्च' (Hathei chilli) और 'तामेंगलोंग संतरे' को भौगोलिक संकेतक (जीआई) प्रदान किया गया है।

(Source: Ministry of DoNER Twitter)

हाथी मिर्च: इसे आमतौर पर ‘सिराराखोंग मिर्च’ (Sirarakhong Chilli) के रूप में जाना जाता है, यह केवल सिराराखोंग गांव की जलवायु परिस्थिति में ही अच्छी तरह से उगाई जाती है, जो इंफाल से लगभग 66 किमी. दूर स्थित है।

  • उखरुल जिले के सिराराखोंग गांव के स्थानीय लोग इसे 'भगवान का उपहार' मानते हैं।
  • सिराराखोंग 'हाथी' मिर्च को बढ़ावा देने के लिए अगस्त में मणिपुर में एक वार्षिक उत्सव आयोजित किया जाता है।

तामेंगलोंग संतरा: यह आकार में बड़ा होता है, जिसका वजन औसतन 232.76 ग्राम होता है। यह एक मीठे और खट्टे स्वाद वाला अनोखा संतरा है। इसमें उच्च रस सामग्री (लगभग 45%) है और यह एस्कॉर्बिक एसिड से समृद्ध है।

  • यह ज्यादातर तामेंगलोंग जिले में पाया जाता है, जिसे 'मणिपुर के संतरे के कटोरे' (Manipur’s ‘orange bowl) के रूप में जाना जाता है।

अन्य तथ्य: मई 2020 में, अपनी विशेष सुगंध के लिए प्रसिद्ध ‘मणिपुर काले चावल’ ने जीआई टैग हासिल किया था। इससे पहले, उखरुल जिले के कछाई गांव में उगाए जाने वाले नींबू की एक अनूठी किस्म 'कछाई नींबू' को भी जीआई टैग प्रदान किया गया था।

राज्य समाचार अरुणाचल प्रदेश

अरुणाचल प्रदेश सरकार ने शुरू की कृषि और बागवानी के विकास के लिए दो योजनाएं


अरुणाचल प्रदेश सरकार ने 3 सितंबर, 2021 को कृषि क्षेत्र के लिए 'आत्मनिर्भर कृषि योजना' और बागवानी के लिए 'आत्मनिर्भर बगवानी योजना' शुरू की।

उद्देश्य: बैंकिंग क्षेत्र को जमीनी स्तर पर कृषि और बागवानी गतिविधियों का समर्थन करने के लिए प्रोत्साहित करना।

  • कृषि और बागवानी के दो संबंधित विभागों को कुल 120 करोड़ रुपये (प्रत्येक योजना के लिए 60 करोड़ रुपये) आवंटित किए गए हैं।
  • ये दोनों योजनाएं ‘फ्रंट-एंडेड सब्सिडी’ (front-ended subsidies) पर आधारित हैं। भारतीय स्टेट बैंक, अरुणाचल प्रदेश ग्रामीण बैंक और अरुणाचल प्रदेश सहकारी एपेक्स बैंक द्वारा लाभार्थियों को क्रेडिट लिंक प्रदान किया जाएगा
  • योजनाओं के घटक 45% सरकारी सब्सिडी, 45% बैंक ऋण होंगे और केवल 10% किसान को वहन करना होगा।

राज्य समाचार राजस्थान

राजस्थान ने अपनाया खेती सुगमता मॉडल


अगस्त 2021 में 'राज किसान साथी पोर्टल' (Raj Kisan Saathi portal) के शुभारंभ के साथ राजस्थान में एक अनूठा 'खेती सुगमता' मॉडल (ease of doing farming model) अपनाया गया है।

  • पोर्टल उन्नत कृषि और कृषि विपणन को बढ़ावा देने के लिए किसानों को डिजिटल तकनीक से जोड़ेगा।
  • एकल खिड़की समाधान के रूप में, पोर्टल विभिन्न लाइसेंस जारी करेगा और कृषि और बागवानी क्षेत्रों में योजनाओं के लिए आवेदन स्वीकार करेगा।
  • पोर्टल में कृषि और संबंधित विभागों पर कुल 144 मॉड्यूल होंगे, जो किसानों को तालाबों, पानी की टंकियों, सिंचाई पाइपलाइन, कृषि उपकरण, छिड़काव यंत्र और ग्रीनहाउस शेड पर योजनाओं के लिए आवेदन करने में सक्षम बनाएंगे।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

भारत का पहला स्वदेशी उच्च राख कोयला गैसीकरण आधारित मेथनॉल उत्पादन संयंत्र


9 सितंबर, 2021 को नीति आयोग के अनुसार हैदराबाद स्थित भारत हैवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड (बीएचईएल) के अनुसंधान और विकास केंद्र में भारत का पहला स्वदेशी ‘उच्च राख कोयला गैसीकरण आधारित मेथनॉल उत्पादन संयंत्र’ (High Ash Coal Gasification Based Methanol Production Plant) डिजाइन किया गया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: बीएचईएल अनुसंधान एवं विकास केंद्र ने 2016 में नीति आयोग की सहायता से मेथनॉल का उत्पादन करने के लिए भारतीय उच्च राख कोयला (जिस कोयले में राख की अधिक मात्रा होती है) गैसीकरण पर काम करना शुरू किया।

  • विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग ने 10 करोड़ रुपये के अनुदान के साथ इस परियोजना का समर्थन किया था।
  • बीएचईल ने ‘1.2 टन प्रति दिन फ्लूइडाइज्ड बेड गैसीफायर’ (1.2 TPD Fluidized bed gasifier) का उपयोग करके उच्च राख वाले भारतीय कोयले से 0.25 टन प्रति दिन मेथनॉल बनाने की सुविधा को सफलतापूर्वक डिजाइन किया।
  • इस उत्पादित कच्चे मेथनॉल की मेथनॉल शुद्धता 98 से 99.5 फीसदी के बीच है।

मेथनॉल: इसका उपयोग मोटर ईंधन के रूप में, जहाज के इंजनों को बिजली देने और पूरे विश्व में स्वच्छ ऊर्जा उत्पादन करने के लिए किया जाता है।

  • मेथनॉल का उपयोग ‘डाइ-मिथाइल ईथर’ (di-methyl ether: DME) के उत्पादन करने के लिए भी किया जाता है। यह एक तरल ईंधन है, जो डीजल की तरह होता है। मौजूदा डीजल इंजनों को डीजल की जगह DME का उपयोग करने के लिए मामूली रूप से बदलने की जरूरत होती है।

सामयिक खबरें आर्थिकी

डिजिटल कृषि


कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय ने 14 सितंबर, 2021 को डिजिटल कृषि को आगे बढ़ाने के लिए सिस्को, निन्जाकार्ट, जियो प्लेटफॉर्म्स लिमिटेड, आईटीसी लिमिटेड और NCDEX ई-मार्केट्स लिमिटेड के साथ पायलट परियोजनाओं के लिए 5 समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर किए।

उद्देश्य: किसानों की आय बढ़ाना और उनकी उपज की रक्षा करना।

महत्वपूर्ण तथ्य: इन पायलट परियोजनाओं के आधार पर नई तकनीकों को लागू करने से किसान इस बारे में सूचित निर्णय लेने में सक्षम होंगे कि किस फसल को उगाना है, किस किस्म के बीज का उपयोग करना है और उपज को अधिकतम करने के लिए कौन सी सर्वोत्तम प्रथाओं को अपनाना है।

  • ये पायलट परियोजनाएं 'डिजिटल कृषि मिशन' का हिस्सा हैं और राष्ट्रीय किसान डेटाबेस पर आधारित होंगी, जिसमें पहले से ही मौजूदा राष्ट्रीय योजनाओं का उपयोग करने वाले 5.5 करोड़ किसान शामिल हैं।
  • आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, ब्लॉक चेन, रिमोट सेंसिंग और जीआईएस तकनीक, ड्रोन और रोबोट के उपयोग जैसी नई तकनीकों पर आधारित परियोजनाओं के लिए सरकार द्वारा 2021-2025 के लिए एक 'डिजिटल कृषि मिशन' शुरू किया गया है।
  • केंद्र ने राज्यों से अपने भूमि रिकॉर्ड को डेटाबेस में संलग्न करने तथा इसे वर्ष के अंत तक 8 करोड़ किसानों तक बढ़ाने के लिए कहा है।

अन्य तथ्य: नेशनल कमोडिटी एंड डेरिवेटिव्स एक्सचेंज लिमिटेड (NCDEX) मुम्बई स्थित एक भारतीय ऑनलाइन कमोडिटी और डेरिवेटिव एक्सचेंज है।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

सारागढ़ी का युद्ध


12 सितंबर, 2021 को सारागढ़ी के युद्ध की 124वीं वर्षगांठ थी।

महत्वपूर्ण तथ्य: सारागढ़ी के युद्ध को दुनिया के सैन्य इतिहास के सबसे बेहतरीन अंतिम समय तक लड़े गए युद्धों में से एक माना जाता है।

  • सारागढ़ी का युद्ध 12 सितंबर, 1897 को ब्रिटिश इंडिया आर्मी के 21 सिख सैनिकों और लगभग 10,000 अफगानों के बीच लड़ा गया था।
  • 21 सिख सैनिकों ने अफगानी अफरीदी और ओरकजई आदिवासियों के खिलाफ मोर्चा संभाला था, लेकिन वे सात घंटे तक ही किले पर कब्जा करने में सफल रहे थे।
  • हवलदार ईशर सिंह के नेतृत्व में 36 सिख बटालियन (अब भारतीय सेना की चौथी बटालियन के रूप में जानी जाती है) के सैनिकों ने अपनी अंतिम सांस तक लड़ाई लड़ी, जिसमें 200 आदिवासियों की मौत हो गई और 600 घायल हो गए थे।
  • 'सारागढ़ी' लॉकहार्ट (Lockhart) किले और गुलिस्तान किले के बीच संचार टावर था।
  • पाकिस्तान में बीहड़ उत्तर पश्चिम सीमा प्रांत (NWFP) (अब पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा में है) में इन दो किलों का निर्माण महाराजा रणजीत सिंह द्वारा किया गया था, लेकिन अंग्रेजों ने इनका नाम बदल दिया था।

अन्य तथ्य: 2019 में रिलीज अनुराग सिंह द्वारा निर्देशित फिल्म 'केसरी' सारागढ़ी के युद्ध पर आधारित है। इस फिल्म में 'हवलदार ईशर सिंह' की भूमिका अभिनेता ‘अक्षय कुमार’ ने निभाई थी।

  • पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने 'सारागढ़ी एंड द डिफेंस ऑफ द सामना फोर्ट्स: द थर्टी सिक्स्थ सिख इन द तिराह कैम्पेन' नामक पुस्तक का लेखन किया है।

सामयिक खबरें पर्यावरण

शिकारी पक्षियों की प्रजातियों पर वैश्विक संकट


सितंबर 2021 में इंटरनेशनल यूनियन फॉर कंजर्वेशन ऑफ नेचर (IUCN) और बर्डलाइफ इंटरनेशनल के एक नए अध्ययन के अनुसार दुनिया भर में 557 शिकारी पक्षी (रैप्टर) प्रजातियों में से 30% खतरे, अतिसंवेदनशील या संकटग्रस्त या गंभीर रूप से संकटग्रस्त हैं।

महत्वपूर्ण तथ्य: शोधकर्ताओं ने पाया कि 18 प्रजातियां गंभीर रूप से संकटग्रस्त हैं, जिनमें फिलीपीन ईगल (Philippine eagle), हुडेड गिद्ध (hooded vulture) और एनोबोन स्कॉप्स उल्लू (Annobon scops owl) शामिल हैं।

  • अन्य प्रजातियों के भी विशेष इलाकों में स्थानीय रूप से विलुप्त होने का खतरा है। जिसका अर्थ है कि वे अब उन पारिस्थितिक तंत्रों में शीर्ष शिकारियों के रूप में महत्वपूर्ण भूमिका नहीं निभा सकते हैं।
  • 'गोल्डन ईगल' मेक्सिको का राष्ट्रीय पक्षी है, लेकिन फिर भी मेक्सिको में बहुत कम 'गोल्डन ईगल' बचे हैं। 2016 की गणना के अनुसार देश में केवल 100 जोड़े ही शेष हैं।
  • अध्ययन में पाया गया कि शिकार के खतरे वाले पक्षियों में से ज्यादातर दिन के दौरान सक्रिय होते हैं - जिनमें अधिकांश बाज, चील और गिद्ध शामिल हैं। इन सबकी आबादी में 54 फीसदी की कमी आई है।
  • विश्व स्तर पर, इन पक्षियों के लिए सबसे बड़ा खतरा निवास स्थान का नुकसान, जलवायु परिवर्तन और जहरीले पदार्थ हैं। पशुओं में सूजन और जलन रोधी दवा के व्यापक उपयोग के कारण दक्षिण एशिया में गिद्धों का तेजी से पतन हुआ।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित व्यक्ति

राजा महेंद्र प्रताप सिंह के नाम पर विश्वविद्यालय


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 14 सितंबर, 2021 को अलीगढ़ में 'राजा महेंद्र प्रताप सिंह राज्य विश्वविद्यालय' की आधारशिला रखी।

  • उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा राजा महेंद्र प्रताप सिंह की स्मृति और सम्मान में अलीगढ़ की कोल तहसील के ग्राम लोढ़ा और गांव मुसेपुर करीम जरौली में कुल 92 एकड़ से अधिक क्षेत्र में विश्वविद्यालय की स्थापना की जा रही है।
  • 1886 में उत्तर प्रदेश के हाथरस में शाही परिवार में जन्मे राजा महेंद्र प्रताप सिंह एक समाज सुधारक और स्वतंत्रता सेनानी और क्रांतिकारी थे।
  • 'मोहम्मडन एंग्लो-ओरिएंटल कॉलेज' (अब अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय) के पूर्व छात्र रहे सिंह ने कॉलेज के साथी छात्रों के साथ 1911 के 'बाल्कन युद्ध' में भी भाग लिया था।
  • ब्रिटिश अधिकारियों द्वारा वांछित होने के कारण वे 1914 में घर छोड़कर जर्मनी चले गए थे और लगभग 33 वर्षों तक निर्वासन में रहे।
  • वे 1915 में अफगानिस्तान में पहली अनंतिम निर्वासित भारत सरकार के गठन के लिए प्रसिद्ध थे। उन्हें 1932 में नोबल शांति पुरस्कार के लिए नामांकित किया गया था।
  • स्वतंत्रता के बाद, वे 1957 में मथुरा लोक सभा सीट से तत्कालीन जनसंघ (और बाद में भाजपा) के उम्मीदवार अटल बिहारी वाजपेयी को हराकर संसद के लिए चुने गए थे। 1979 में उनका निधन हो गया था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप निधन

प्रसिद्ध महिला अधिकार कार्यकर्ता सोनल शुक्ला का निधन


प्रसिद्ध महिला अधिकार कार्यकर्ता सोनल शुक्ला का 9सितंबर, 2021 को मुंबई में हृदयगति रुक जाने से निधन हो गया। वे 80 वर्ष की थी।


  • वे 'वाचा चैरिटेबल ट्रस्ट' की संस्थापक और प्रबंध न्यासी थीं और उन्होंने पिछले चार दशकों में किशोरियों और महिलाओं के साथ काम किया।
  • वे 'फोरम अगेंस्ट रेप' (Forum Against Rape) ग्रुप' की सह-संस्थापक थीं, जिसे अब 'फोरम अगेंस्ट ऑप्रेसन ऑफ वीमेन' (Forum Against Oppression of Women) के रूप में जाना जाता है।
  • वाचा की शुरुआत 1987 में एक पुस्तकालय और महिला संसाधन केंद्र के रूप में हुई थी।
  • भारत भर में हजारों किशोरियों और महिलाओं द्वारा प्यार से वे 'सोनलबेन' के रूप में जानी जाती हैं।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप पुरस्कार/सम्मान

ICRISAT ने जीता अफ्रीका खाद्य पुरस्कार 2021


8 सितंबर, 2021 को 'अंतरराष्ट्रीय अर्ध-शुष्क उष्णकटिबंधीय फसल अनुसंधान संस्थान' (ICRISAT) को उप-सहारा अफ्रीका में 13 देशों में ‘खाद्य सुरक्षा में सुधार करने वाले कार्य’ के लिए 'अफ्रीका खाद्य पुरस्कार 2021' से सम्मानित किया गया है।

  • 2007 और 2019 के बीच, ICRISAT ने 'ट्रॉपिकल लेग्यूम्स प्रोजेक्ट' (Tropical Legumes Project) का नेतृत्व किया।
  • इस परियोजना ने 266 उन्नत फलियां किस्म और लगभग आधा मिलियन टन बीज विकसित किए, जिसमें लोबिया, अरहर, चना, सेम, मूंगफली और सोयाबीन शामिल हैं।

ICRISAT: यह एक गैर-लाभकारी, गैर-राजनीतिक सार्वजनिक अंतरराष्ट्रीय अनुसंधान संगठन है, जो एशिया और उप-सहारा अफ्रीका में विकास के लिए दुनिया भर में भागीदारों की एक विस्तृत शृंखला के साथ कृषि अनुसंधान करता है। इसका वैश्विक मुख्यालय हैदराबाद के पास पाटनचेरु में स्थित है।

पुरस्कार के बारे में: अफ्रीका खाद्य पुरस्कार उत्कृष्ट अफ्रीकी व्यक्तियों और संस्थानों को निम्न क्षेत्रों में अग्रणी प्रयासों के लिए पुरस्कृत करता है-

  • अफ्रीका की खाद्य प्रणालियों का परिवर्तन; टिकाऊ कृषि पद्धतियों को बढ़ावा देना; आय बढ़ाने हेतु छोटे किसानों के लिए समर्थन; जलवायु परिवर्तन के प्रभावों के मद्देनजर लचीलापन; और उच्च गुणवत्ता वाले कृषि आदानों (inputs), ज्ञान और उपकरणों तक पहुंच।
  • अफ्रीका खाद्य पुरस्कार समिति द्वारा दिए जाने वाले इस पुरस्कार की राशि 100,000 डॉलर है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप वेब पोर्टल/ऐप

'वाई-ब्रेक' योग प्रोटोकॉल ऐप


आयुष मंत्रालय ने पेशेवरों के लिए 5 मिनट का योग प्रोटोकॉल तैयार किया है और 'वाई-ब्रेक' ऐप विकसित किया है। आयुष मंत्री सर्बानंद सोनोवाल द्वारा 1 सितंबर, 2021 को यह ऐप लॉन्च किया गया।

  • आसन, प्राणायाम और ध्यान सहित 5-मिनट का योग प्रोटोकॉल 'वाई-ब्रेक' ऐप के माध्यम से उपलब्ध होगा।
  • 5-मिनट का योग प्रोटोकॉल, विशेष रूप से काम करने वाले पेशेवरों को उनकी उत्पादकता बढ़ाने के लिए अपने कार्यस्थल पर ही तनाव घटाने, तरोताजा होने और फिर से काम पर ध्यान केंद्रित करने के लिए डिजाइन किया गया है।
  • आयुष मंत्रालय के तहत एक स्वायत्त निकाय ‘मोरारजी देसाई राष्ट्रीय योग संस्थान’ ने कई अन्य प्रतिष्ठित संस्थानों के साथ मिलकर इस ऐप को विकसित किया है।

राज्य समाचार उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश का पहला आयुष विश्वविद्यालय


राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने 28 अगस्त, 2021 को गोरखपुर में राज्य के पहले आयुष विश्वविद्यालय 'महायोगी गुरु गोरखनाथ आयुष विश्वविद्यालय' की आधारशिला रखी।

  • राज्य सरकार की आयुष विश्वविद्यालय के निर्माण पर 815 करोड़ रुपये खर्च करने की योजना है, इसके लिए पिपरी और तारकुली गांवों के पास विश्वविद्यालय के लिए 52 एकड़ जमीन का अधिग्रहण किया है।
  • आयुष विश्वविद्यालय में आयुर्वेद, यूनानी, होम्योपैथी, योग और प्राकृतिक चिकित्सा शिक्षण संस्थानों की स्थापना केंद्रीय भारतीय चिकित्सा परिषद के दिशा-निर्देशों के अनुसार की जाएगी।
  • इसके अलावा उन्होंने उत्तर प्रदेश में 'महायोगी गोरखनाथ विश्वविद्यालय' का उद्घाटन भी किया।
  • महायोगी गुरु गोरखनाथ विश्वविद्यालय, एक निजी संस्थान है, जिसे गोरखनाथ मंदिर ट्रस्ट द्वारा स्थापित किया गया है।
  • इनका नाम 'नाथ पंथ' के संस्थापक गुरु गोरखनाथ के नाम पर रखा गया है।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

वस्‍त्र उद्योग के लिए ‘उत्पादन-संबद्ध प्रोत्साहन’ योजना


केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा 8 सितंबर, 2021 को वस्त्र उद्योग के लिए 10,683 करोड़ रुपये के बजटीय परिव्यय के साथ ‘उत्पादन-संबद्ध प्रोत्साहन योजना (Production Linked Incentive Scheme – PLI Scheme) को मंजूरी दी गई है।

उद्देश्य: मानव-निर्मित रेशों (Man Made Fiber – MMFs) फैब्रिक्स एवं परिधान और तकनीकी वस्त्रों (Technical Textiles) की मूल्य शृंखला का विस्तार करना।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह PLI योजना केंद्रीय बजट 2021-22 में 13 क्षेत्रों के लिए पहले घोषित की गई 1.97 लाख करोड़ के कुल बजटीय परिव्यय वाली ‘पीएलआई योजनाओं’ का हिस्सा है।

पात्रता: कोई भी व्यक्ति (जिसमें फर्म/कंपनी शामिल है), जो निर्धारित खंडों (MMFs फैब्रिक्स एवं परिधान) के उत्पादों और तकनीकी वस्त्र उत्पादों के उत्पादन के लिए संयंत्र, मशीनरी, उपकरण और निर्माण कार्यों (भूमि और प्रशासनिक भवन की लागत को छोड़कर) में न्यूनतम 300 करोड़ रुपये निवेश करने को तैयार है, वह इस योजना के पहले भाग में भागीदारी हेतु पात्र होगा।

  • कोई भी व्यक्ति (जिसमें फर्म/कंपनी शामिल है), जो न्यूनतम 100 करोड़ रुपये निवेश करने का इच्छुक है, वह योजना के दूसरे भाग में भागीदारी हेतु पात्र होगा।

अन्य तथ्य: इसके अलावा आकांक्षी जिलों, टियर 3, टियर 4 शहरों या कस्बों और ग्रामीण क्षेत्रों में निवेश को प्राथमिकता दी जाएगी।

  • पांच वर्षों की अवधि में ‘वस्त्र उद्योग के लिए पीएलआई योजना’ से 19,000 करोड़ रुपये से भी अधिक के नए निवेश का अनुमान है।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

मजिस्ट्रेट को यूएपीए के तहत जांच अवधि बढ़ाने का अधिकार नहीं: सुप्रीम कोर्ट


11 सितंबर, 2021 को सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि मजिस्ट्रेट गैरकानूनी गतिविधि रोकथाम अधिनियम (यूएपीए) (Unlawful Activities Prevention Act: UAPA) मामलों में जांच की अवधि बढ़ाने के लिए अधिकृत नहीं हैं।

महत्वपूर्ण तथ्य: UAPA के तहत 90 दिनों के भीतर जांच पूरी करनी होती है। यदि नहीं हो, तो आरोपी डिफॉल्ट/ वैधानिक जमानत का हकदार है।

  • शीर्ष अदालत का कहना है कि इस तरह के अनुरोध पर विचार करने के लिए एकमात्र सक्षम प्राधिकारी UAPA की धारा 43-D(2) (b) में निर्दिष्ट प्रावधान के अनुसार 'स्पेशल कोर्ट' होगा।
  • UAPA के तहत सभी अपराध पर, चाहे राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (National Investigation Agency: NIA) द्वारा जांच की गई हो या राज्य सरकार की जांच एजेंसियों द्वारा, NIA अधिनियम के तहत स्थापित 'स्पेशल कोर्ट' द्वारा विचार किया जाएगा।
  • शीर्ष अदालत की यह टिप्पणी एक UAPA मामले से सम्बन्धित थी, जिसमें मध्य प्रदेश में भोपाल के मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट ने मार्च 2014 में जांच एजेंसी के अनुरोध पर जांच की अवधि बढ़ाने हेतु अनुमति दी थी।

गैरकानूनी गतिविधि रोकथाम अधिनियम: यह अधिनियममूल रूप से 1967 में अधिनियमित किया गया था, जो ऐसी गैरकानूनी गतिविधियों को रोकता है, जो देश की अखंडता और संप्रभुता को नुकसान पहुंचा सकती हैं।

  • 2004 में, संसद ने इस अधिनियम में आतंकवादी गतिविधियों को दंडित करने के लिए समर्पित एक अध्याय जोड़ा।
  • अब, UAPA के तहत आतंकवाद, आतंकवाद के वित्तपोषण के लिए मनी लॉन्ड्रिंग तथा समूहों/संगठनों के साथ-साथ व्यक्तियों को आतंकवादी के रूप में नामित करना शामिल है।

सामयिक खबरें विज्ञान-प्रौद्योगिकी

चंद्रयान -2 से प्राप्त जानकारी


भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने 6-7 सितंबर, 2021 को आयोजित 'चंद्र विज्ञान कार्यशाला 2021' के दौरान वैज्ञानिक समुदाय द्वारा उपयोग के लिए चंद्रयान -2 विज्ञान परिणामों और डेटा उत्पादों पर दस्तावेज जारी किए।

महत्वपूर्ण तथ्य: चंद्रयान-2 में लगे मास स्पेक्ट्रोमीटर 'चेस-2' (CHACE 2) ने पहली बार एक ध्रुवीय कक्षीय मंच से चंद्रमा के बाहरी वातावरण की आवेशहीन संरचना का अध्ययन किया है और चंद्रमा के मध्य और उच्च अक्षांशों पर ‘ऑर्गन-40’ की परिवर्तनशीलता का पता लगाया है।

  • 'चंद्रयान-2 लार्ज एरिया सॉफ्ट एक्स-रे स्पेक्ट्रोमीटर' (CLASS) उपकरण ने एक्स-रे स्पेक्ट्रम के जरिये चंद्रमा की सतह पर ‘क्रोमियम’ और ‘मैंगनीज’ जैसे खनिजों की मौजूदगी के संकेत दिए हैं।
  • सौर एक्स-रे मॉनिटर (XSM) उपकरण ने सौर-लपटों / सोलर फ्लेयर्स (Solar Flares) के बारे में जानकारी दी है, जो सौर- कोरोना के गर्म होने की समस्या (coronal heating problem of the Sun) को समझने में सहायक सिद्ध हो सकता है।
  • ‘इमेजिंग इंफ्रा-रेड स्पेक्ट्रोमीटर’ (IIRS) पेलोड ने चंद्र सतह पर हाइड्रॉक्सिल (Hydroxyl) और पानी-बर्फ (water-ice) के स्पष्ट संकेत दिए हैं।
  • DFSAR उपकरण ने उप-सतह पानी-बर्फ का पता लगाया और ध्रुवीय क्षेत्रों में चंद्रमा की आकृति संबंधी विशेषताओं का उच्च रिजॉल्यूशन मानचित्रण किया है।

चंद्रयान-2: ‘चंद्रयान-2’ (Chandrayaan-2), भारत का चंद्रमा पर भेजे गया दूसरा मिशन था, जोकि चंद्रमा की सतह पर ‘सॉफ्ट-लैंडिंग’ करने में विफल रहा।

  • इसे 22 जुलाई, 2019 को श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से GSLV Mk-III द्वारा लॉन्च किया गया था।

सामयिक खबरें विज्ञान-प्रौद्योगिकी

हाईबोडॉन्ट शार्क की नई विलुप्त प्रजाति


सितंबर 2021 में भारतीय भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण और भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, रुड़की के शोधकर्ताओं ने राजस्थान के जैसलमेर बेसिन से 'हाईबोडॉन्ट शार्क' (hybodont shark) की एक नई विलुप्त प्रजाति की खोज की है।

महत्वपूर्ण तथ्य: हाईबोडॉन्ट शार्क, मछलियों की एक विलुप्त प्रजाति है, जो ट्राइसिक और प्रारंभिक जुरासिक काल के दौरान समुद्र और नदी दोनों जगहों पर पाई जाती थी।

  • इसका नाम 'स्ट्रोफोडस जैसलमेरेंसिस' (Strophodus jaisalmerensis) रखा गया है, और यह खोज महत्वपूर्ण है क्योंकि भारतीय उपमहाद्वीप से पहली बार 'जीनस स्ट्रोफोडस' की पहचान की गई है।
  • यह अनुमान लगाया गया है कि हाईबोडॉन्ट शार्क लगभग 2-3 मीटर लंबी हो सकती हैं।
  • वे शायद शार्क सहित अन्य मछलियों से प्रतिस्पर्धा के कारण लगभग 65 मिलियन वर्ष पहले विलुप्त हो गए थे।
  • ज्ञात हो कि लगभग 65 मिलियन वर्ष पहले डायनासोर भी विलुप्त हो गए थे, यह स्पष्ट नहीं है कि ये दो विलुप्तियां एक दूसरे से जुडी हैं या नहीं।

सामयिक खबरें पर्यावरण

जीवाश्म ईंधन निष्कर्षण का ग्लोबल वार्मिंग पर प्रभाव


8 सितंबर, 2021 को ‘नेचर’ पत्रिका में प्रकाशित एक नए अध्ययन के अनुसार, ग्लोबल वार्मिंग को, वर्ष 2015 के पेरिस जलवायु समझौते में निर्धारित लक्ष्य अर्थात 1.5 डिग्री सेल्सियस से नीचे रखने के लिए वैश्विक ‘जीवाश्म ईंधन निष्कर्षण’ (fossil fuel extraction) को तेजी से कम किए जाने की जरूरत है।

महत्वपूर्ण तथ्य: ग्लोबल वार्मिंग को, 1.5 डिग्री सेल्सियस से नीचे रखने के लक्ष्य को हासिल करने हेतु वैश्विक तेल और गैस उत्पादन में वर्ष 2050 तक प्रति वर्ष 3% की गिरावट होनी चाहिए।

  • वर्तमान में, योजनाबद्ध और चालू, दोनों प्रकार की जीवाश्म ईंधन निष्कर्षण परियोजनाएं, निर्धारित लक्ष्यों को पूरा करने के लिए अनुकूल नहीं हैं।
  • वर्ष 2050 तक, 58% तेल, 59% जीवाश्म मीथेन गैस और 89% कोयले के भंडार गैर- निष्कर्षित (Unextracted) होने चाहिए।
  • 2020 की शुरुआत में प्रकाशित ग्रीनपीस की एक रिपोर्ट में अनुमान लगाया गया था कि जीवाश्म ईंधन से वायु प्रदूषण की वैश्विक लागत लगभग 2.9 ट्रिलियन डॉलर प्रति वर्ष या 8 बिलियन डॉलर प्रति दिन थी, जो उस समय दुनिया के सकल घरेलू उत्पाद का 3.3% था।
  • इस रिपोर्ट के अनुसार, भारत को जीवाश्म ईंधन के कारण होने वाले वायु प्रदूषण से 150 बिलियन डॉलर की लागत वहन करने का अनुमान है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित व्यक्ति

स्वतंत्रता सेनानी और कवि सुब्रमण्यम भारती की शताब्दी पुण्यतिथि


उपराष्ट्रपति ने 11 सितंबर, 2021 को तमिलनाडु के महान कवि, समाज सुधारक और स्वतंत्रता सेनानी सुब्रमण्यम भारती (भरथियार) की शताब्दी पुण्यतिथि के अवसर पर उन्हें श्रद्धांजलि दी।

  • सुब्रमण्य भारती का जन्म 11 दिसंबर, 1882 को तमिलनाडु में तिरुनेलवेली जिले के एट्टयपुरम् गाँव में हुआ था। इन्हें ‘महाकवि भरथियार’ के नाम से जाना जाता है।
  • भारती को बाल गंगाधर तिलक से प्रेरणा मिली। उन्होंने 8 साल की उम्र में कविताएं लिखना शुरू कर दिया था।
  • इनकी प्रमुख साहित्यिक कृतियाँ ‘कण्णन पट्टू’, ‘निलावुम वन्मिनुम कत्रुम, (Nilavum Vanminum Katrum) ‘पांचाली सपथम’ तथा ‘कुयिल पट्टू’ थी।
  • सुब्रमण्यम भारती ज्यादातर धर्मनिरपेक्ष, राजनीतिक और आध्यात्मिक लेखन में सक्रिय रहे। वे रूस की बोल्शेविक क्रांति की महिमा का गायन करने वाले पहले एशियाई कवि भी थे।
  • भारती ने एक युवा पत्रकार के रूप में और एक उप-संपादक के रूप में नवंबर 1904 में "स्वदेशमित्रन" से अपना करियर शुरू किया। उन्होंने 1908 में ‘सुदेश गीतंगल’ नामक क्रांतिकारी रचना का प्रकाशन किया।
  • 11 सितंबर, 1921 को भारती का देहावसान हो गया था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप पुरस्कार/सम्मान

बहलर कछुआ संरक्षण पुरस्कार 2021


सितंबर 2021 में भारतीय जीव-विज्ञानी शैलेंद्र सिंह को तीन 'गंभीर रूप से संकटग्रस्त' कछुआ प्रजातियों को विलुप्त होने से बचाने के लिए 'बहलर कछुआ संरक्षण पुरस्कार 2021' (Behler Turtle Conservation Award 2021) से सम्मानित किया गया है।

  • ये प्रजातियां रेड-क्राउंड रूफ्ड टर्टल (बटागुर कछुगा), नॉर्दर्न रिवर टेरापिन (बटागुर बस्का), और ब्लैक सॉफ्टशेल टर्टल (निल्सोनिया नाइग्रिकन्स) हैं।
  • रेड-क्राउंड रूफ्ड टर्टल को चम्बल में; नॉर्दर्न रिवर टेरापिन को सुंदरबन में; तथा ब्लैक सॉफ्टशेल टर्टल को असम के विभिन्न मंदिरों में संरक्षित किया जा रहा है।

पुरस्कार के बारे में: यह पुरस्कार टर्टल सर्वाइवल एलायंस (TSA), आईयूसीएन/स्पीशीज सर्वाइवल कमीशन कछुआ और मीठे पानी का कछुआ विशेषज्ञ समूह (TFTSG), टर्टल कंजर्वेंसी (TC) और कछुआ संरक्षण कोष (TCF) चार संगठनों द्वारा सह-प्रस्तुत किया गया है।

  • इस पुरस्कार को 2006 में एंडर्स रोडिन और रिक हडसन द्वारा स्थापित किया गया था। इसे व्यापक रूप से कछुआ संरक्षण और जीव विज्ञान का "नोबेल पुरस्कार" माना जाता है।
  • यह पुरस्कार ब्रोंक्स जू, वाइल्डलाइफ कंजर्वेशन सोसाइटी, न्यूयॉर्क में सरीसृप विज्ञान के पूर्व संग्रहाध्यक्ष जॉन बहलर की कछुआ संरक्षण विरासत से जुड़ा हुआ है।
  • पहली बार 2006 में अमेरिका के एडवर्ड ओ. मोल को यह पुरस्कार प्रदान किया गया था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

विश्व आत्महत्या रोकथाम दिवस (10 सितंबर)


2021 का विषय: 'कार्रवाई के माध्यम से आशा की किरण जगाना' (Creating Hope Through Action)

महत्वपूर्ण तथ्य: इसदिवस को मनाने का का लक्ष्य आत्महत्या की रोकथाम के लिए वैश्विक प्रतिबद्धता को बढ़ावा देना है।

  • इस दिवस को मनाने की शुरुआत वर्ष 2003 में ‘इंटरनेशनल एसोसिएशन फॉर सुसाइड प्रिवेंशन’ (IASP) और ‘विश्व स्वास्थ्य संगठन’ (WHO) ने मिलकर की थी।
  • विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के अनुसार, हर साल 700,000 से अधिक लोग आत्महत्या करते हैं। यह 15-19 साल के बच्चों में मौत का चौथा प्रमुख कारण है।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

नीति आयोग महिला उद्यमिता प्लेटफॉर्म


नीति आयोग ने अपनी साझा प्रतिबद्धता के आधार पर देशभर में महिला उद्यमियों को सशक्त बनाने के लिए प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में दुनिया भर में अग्रणी ‘सिस्को’ के साथ मिलकर 26 अगस्त, 2021 को ‘महिला उद्यमिता प्लेटफॉर्म’ (Women Entrepreneurship Platform: WEP) के अगले चरण का शुभारंभ किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: ‘डब्ल्यूईपी नेक्स्ट’ (WEP Nxt) शीर्षक से नीति आयोग के प्रमुख प्लेटफॉर्म का यह अगला चरण देश भर में अधिक महिला-स्वामित्व वाले व्यवसायों को सक्षम करने के लिए भारत के स्टार्टअप पारिस्थितिकी तंत्र के साथ काम करने के लिए सिस्को की तकनीक और अनुभव का लाभ उठाएगा।

  • ‘महिला उद्यमिता प्लेटफॉर्म’ महिला उद्यमियों के लिए अपनी तरह का एक एकीकृत सूचना पोर्टल है। नीति आयोग द्वारा इसे 2017 में शुरू किया गया था।
  • यह उद्योग संबंधों और मौजूदा कार्यक्रमों और सेवाओं के बारे में जागरूकता में सुधार करने का प्रयास करता है।
  • यह प्लेटफॉर्म वर्तमान में वित्त पोषण और वित्तीय प्रबंधन, ऊष्मायन संयोजनों (इन्क्यूबेशन कनेक्ट), कराधान और अनुपालन सहायता, उद्यमी कौशल और प्रशिक्षण, समुदाय और नेटवर्किंग और विपणन सहायता जैसे छ: प्रमुख क्षेत्रों पर ध्यान केंद्रित करता है।

पीआईबी न्यूज विज्ञान-प्रौद्योगिकी

टेरी एडवांस्ड ऑक्सीडेशन टेक्नोलॉजी


द एनर्जी एंड रिसोर्सेज इंस्टीट्यूट (टेरी), नई दिल्ली ने 'टेरी एडवांस्ड ऑक्सीडेशन टेक्नोलॉजी' (TERI Advanced Oxidation Technology: TADOX) नामक एक तकनीक विकसित की है, जो ‘जैविक और तृतीयक उपचार प्रणालियों’ पर निर्भरता और दबाव को कम कर सकती है और जीरो लिक्विड डिस्चार्ज (Zero Liquid Discharge) हासिल करने में मदद कर सकती है।

महत्वपूर्ण तथ्य: TADOX तकनीक को विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय, भारत सरकार के जल प्रौद्योगिकी पहल (WTI) के तहत विकसित किया गया है।

  • इस तकनीक में यूवी - प्रकाश उत्प्रेरण (UV-Photocatalysis) का समावेश है, जो कि उन्नत ऑक्सीकरण प्रक्रिया के रूप में शोधन के द्वितीयक चरण में लक्षित प्रदूषकों का ऑक्सीकरण के जरिए अपघटन करता है और उन्हें खनिज तत्वों से लैस करता है।
  • नई तकनीक जल्द ही किफायती और टिकाऊ तरीके से अपशिष्ट जल के दोबारा इस्तेमाल को बढ़ा सकती है।
  • यह तकनीक नगरपालिका के सीवेज और औद्योगिकी इकाइयों से निकलने वाले अत्यधिक प्रदूषित अपशिष्ट जल का शोधन कर सकती है।
  • भारत सरकार के जल शक्ति मंत्रालय ने 'नमामि गंगे' कार्यक्रम के तहत चिन्हित औद्योगिक क्षेत्रों के लिए प्रायोगिक परीक्षण और विस्तार योजना के लिए TADOX तकनीक को चुना है।

पीआईबी न्यूज विज्ञान-प्रौद्योगिकी

भारतीय तटरक्षक जहाज 'विग्रह'


रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 28 अगस्त, 2021 को भारतीय तटरक्षक के स्वदेश में निर्मित जहाज 'विग्रह' (Vigrah) को राष्ट्र को समर्पित किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: भारतीय तटरक्षक जहाज विग्रह अपतटीय गश्ती जहाजों की शृंखला में सातवाँ है।

  • यह जहाज तटरक्षक क्षेत्र (पूर्व) के कमांडर के संचालन और प्रशासनिक नियंत्रण के तहत विशाखापत्तनम, आंध्र प्रदेश में स्थित रह कर पूर्वी समुद्र तट पर संचालित होगा।
  • कुल 98 मीटर लंबा अपतटीय गश्ती जहाज लार्सन एंड टुब्रो शिप बिल्डिंग लिमिटेड द्वारा स्वदेशी रूप से डिजाइन और निर्मित किया गया है।
  • यह उन्नत प्रौद्योगिकी रडार, नेविगेशन एवं संचार उपकरण, सेंसर और मशीनरी से सुसज्जित है, जो उष्णकटिबंधीय समुद्री परिस्थितियों में काम करने में सक्षम है।
  • यह पोत 40/60 बोफोर्स तोप से लैस है तथा अग्नि नियंत्रण प्रणाली के साथ दो 12.7 मिमी स्टेबिलाइज्ड रिमोट कंट्रोल गन से सुसज्जित है।
  • जहाज को बोर्डिंग ऑपरेशन, खोज और बचाव, कानून प्रवर्तन और समुद्री गश्त के लिए एक दोहरे इंजन वाले हेलीकॉप्टर और चार हाई स्पीड नौकाओं को ले जाने के लिए भी डिजाइन किया गया है।

पीआईबी न्यूज पर्यावरण

अपतटीय पवन पर उत्कृष्टता केंद्र


केंद्रीय विद्युत और नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री आर. के. सिंह और डेनमार्क के जलवायु, ऊर्जा व उपयोगिता मंत्री डैन जर्गेन्सन ने 9 सितंबर, 2021 को हरित रणनीतिक साझेदारी के हिस्से के रूप में संयुक्त रूप से 'अपतटीय पवन पर उत्कृष्टता केंद्र’ (Centre of Excellence on Offshore Wind) लॉन्च किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह केंद्र शुरू में चार कार्य समूहों स्थानिक योजना (spatial planning), वित्तीय ढांचे की शर्तें, आपूर्ति शृंखला अवसंरचना, और मानक तथा परीक्षण के आसपास केंद्रित होगा।

  • प्रारंभिक चरणों में, उत्कृष्टता केंद्र अपतटीय पवन क्षेत्र पर ध्यान केंद्रित करेगा।
  • मध्यम से दीर्घ अवधि में, यह केंद्र, अंतरराष्ट्रीय सरकारों व कंपनियों के एक व्यापक समूहों को शामिल करने, अपतटीय पवन पर अनुभवों व सर्वोत्तम अभ्यासों को अपनाने और नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा के लिए व्यापक जुड़ावों के साथ तथा ‘अपतटीय पवन के लिए एक अंतरराष्ट्रीय केंद्र’ बनने के लिए विस्तार करेगा।
  • दोनों पक्ष अपतटीय पवन ऊर्जा पर ध्यान केंद्रित करते हुए नवीकरणीय ऊर्जा में अपने सहयोग को आगे बढ़ाने पर सहमत हुए हैं।
  • दोनों देशों के बीच ‘अपतटीय पवन ऊर्जा पर ध्यान देने के साथ नवीकरणीय ऊर्जा के क्षेत्र में रणनीतिक क्षेत्र सहयोग’ पर पहले से ही एक समझौता है।
  • भारत ‘लद्दाख’ और ‘अंडमान निकोबार’ व ‘लक्षद्वीप’ जैसे द्वीपसमूहों को परिवहन सहित ऊर्जा की दृष्टि से हरित बनाने पर विचार कर रहा है।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

जलियांवाला बाग स्मारक के पुनर्निर्मित परिसर


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 28 अगस्त, 2021 को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जलियांवाला बाग स्मारक के पुनर्निर्मित परिसर को राष्ट्र को समर्पित किया।

नवनिर्मित परिसर की विशेषताएं: 13 अप्रैल, 1919 को घटित विभिन्न घटनाओं को दर्शाने के लिए एक साउंड एंड लाइट शो की व्यवस्था की गई है।

  • इस परिसर में विकास से जुड़ी कई पहल की गई हैं। पंजाब की स्थानीय स्थापत्य शैली के अनुरूप धरोहर संबंधी विस्तृत पुनर्निर्माण कार्य किए गए हैं।
  • शहीदी कुएं की मरम्मत की गई है और नवविकसित उत्तम संरचना के साथ इसका पुनर्निर्माण किया गया है।
  • इस बाग का केंद्रीय स्थल माने जाने वाले ‘ज्वाला स्मारक’ की मरम्मत करने के साथ-साथ इसका पुनर्निर्माण किया गया है, यहां स्थित तालाब को एक ‘लिली तालाब’ के रूप में फिर से विकसित किया गया है।

जलियांवाला बाग स्मारक: 13 अप्रैल, 1919 के जलियांवाला बाग नरसंहार में सैकड़ों लोगों की जान चली गई थी।

  • मोतीलाल नेहरू ने नरसंहार के स्थान पर एक स्मारक बनाने के अभियान का नेतृत्व किया था।
  • कांग्रेस के नेतृत्व वाली भारत सरकार ने 1951 में जलियांवाला बाग स्मारक की स्थापना की, जिसे पहली बार तत्कालीन राष्ट्रपति डॉ. राजेंद्र प्रसाद ने 13 अप्रैल, 1961 को खोला था।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

स्वच्छ सर्वेक्षण ग्रामीण 2021


जल शक्ति राज्य मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल ने 9 सितंबर, 2021 को ‘पेयजल और स्वच्छता विभाग’ (DDWS) की ओर से आयोजित एक कार्यक्रम में स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) चरण-II के तहत ‘स्वच्छ सर्वेक्षण ग्रामीण 2021’ का शुभारंभ किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: पेयजल और स्वच्छता विभाग देश भर के गांवों में स्वच्छ सर्वेक्षण ग्रामीण (SSG) 2021 संचालित करेगा। इससे पहले पेयजल और स्वच्छता विभाग ने 2018 और 2019 में स्वच्छ सर्वेक्षण ग्रामीण संचालित किया था।

  • स्वच्छ सर्वेक्षण ग्रामीण के हिस्से के रूप में देशभर के 698 जिलों के 17,475 गांवों को कवर किया जाएगा।
  • स्वच्छ भारत मिशन चरण II कार्यक्रम के अनुरूप, स्वच्छ सर्वेक्षण ग्रामीण 2021 गांवों में ओडीएफ स्थिरता और ओडीएफ प्लस के कार्यान्वयन का आकलन करने पर ध्यान केंद्रित करेगा।
  • 2021 के सर्वेक्षण में कई नए तत्व शामिल हैं - ठोस, तरल, प्लास्टिक अपशिष्ट और मल कीचड़ प्रबंधन व्यवस्था का आकलन, मासिक धर्म स्वच्छता पर जागरूकता तथा मासिक धर्म अपशिष्ट प्रबंधन और निपटान व्यवस्था।
  • SSG 2021 के विभिन्न तत्वों का भारांक निम्न है-
  1. सार्वजनिक स्थानों सहित गांवों में स्वच्छता का प्रत्यक्ष निरीक्षण (30%);
  2. आम नागरिकों की प्रतिक्रिया सहित नागरिकों की प्रतिक्रिया (35%;
  3. स्वच्छता संबंधी मापदंडों पर सेवा स्तर की प्रगति (35%)

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप नियुक्ति

सुप्रीम कोर्ट के नौ नए न्यायाधीशों की नियुक्ति


सुप्रीम कोर्ट के इतिहास में पहली बार शीर्ष अदालत में नियुक्त तीन महिलाओं समेत नौ नए न्यायाधीशों ने 31 अगस्त, 2021 को पद की शपथ ली।

  • शपथ लेने वालों में कर्नाटक उच्च न्यायालय की पूर्व न्यायाधीश न्यायमूर्ति बी वी नागरत्ना भी थीं, जो 2027 में भारत की पहली महिला मुख्य न्यायाधीश बनने की कतार में हैं।
  • अन्य महिला न्यायाधीश जिन्हें शीर्ष अदालत में पदोन्नत किया गया है, वे हैं न्यायमूर्ति बेला एम त्रिवेदी और हिमा कोहली।
  • अन्य नियुक्तियों में न्यायमूर्ति सी.टी. रविकुमार, एम.एम. सुंदरेश, अभय श्रीनिवास ओका, विक्रम नाथ, जितेंद्र कुमार माहेश्वरी और पूर्व अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल पी.एस. नरसिम्हा।
  • नवीनतम नियुक्तियों के साथ, सुप्रीम कोर्ट में प्रधान न्यायाधीश सहित न्यायाधीशों की संख्या बढ़कर अब 33 हो गई है। उच्चतम न्यायालय में प्रधान न्यायाधीश सहित न्यायाधीशों के स्वीकृत पदों की संख्या 34 है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप पुरस्कार/सम्मान

7वें विजिटर पुरस्‍कार 2021


25 अगस्त, 2021 को राष्ट्रपति भवन ने केन्द्रीय विश्वविद्यालयों के संकाय सदस्यों और छात्रों से 7वें विजिटर पुरस्कार 2021 (7th Visitor's Awards 2021) के लिए विभिन्न श्रेणियों में आवेदन आमंत्रित किए।

  • इन श्रेणियों में 1. नवाचार के लिए विजिटर पुरस्कार, 2. (अ) मानविकी, कला और सामाजिक विज्ञान (ब) भौतिक विज्ञान और (स) जैविक विज्ञान में शोध के लिए विजिटर पुरस्कार तथा 3. प्रौद्योगिकी विकास के लिए विजिटर पुरस्कार शामिल हैं।
  • इन पुरस्कारों की स्थापना 2014 में केन्द्रीय विश्वविद्यालयों के बीच स्वस्थ प्रतिस्पर्धा को बढ़ावा देने और उत्कृष्टता हासिल करने की दिशा में विश्व भर की बेहतर पद्धतियों को अपनाने के लिए प्रेरित करने के उद्देश्य से की गई थी।
  • भारत के राष्ट्रपति केन्द्रीय विश्वविद्यालयों के विजिटर के रूप में इन पुरस्कारों को प्रदान करते हैं।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप वेब पोर्टल/ऐप

ई-श्रम पोर्टल


श्रम और रोजगार मंत्री भूपेंद्र यादव ने 26 अगस्त, 2021 को ई-श्रम पोर्टल लॉन्च किया और इसे देश भर में असंगठित श्रमिकों के पंजीकरण के लिए राज्यों / केंद्र-शासित प्रदेशों को सौंपा।

  • पोर्टल देश में ‘असंगठित कामगारों का एक व्यापक राष्ट्रीय डेटाबेस’ बनाने में मदद करेगा।
  • सरकार का लक्ष्य 38 करोड़ असंगठित कामगारों जैसे निर्माण मजदूरों, प्रवासी श्रमिकों, रेहड़ी-पटरी वालों और घरेलू कामगारों को पंजीकृत करना है।
  • श्रमिकों को 12 अंकों की विशिष्ट संख्या वाला ई-श्रम कार्ड जारी किया जाएगा, जो आगे चलकर इन श्रमिकों को सामाजिक सुरक्षा योजनाओं में शामिल करने में मदद करेगा।
  • ई-श्रम पोर्टल पर पंजीकरण पूरी तरह से नि:शुल्क है तथा कामगारों को कॉमन सर्विस सेंटर (सीएससी) या कहीं भी अपने पंजीकरण के लिए कोई भुगतान नहीं करना पड़ेगा।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

हिमालय दिवस (9 सितंबर)


2021 का विषय: 'हिमालय का योगदान और हमारी जिम्मेदारियां' (Contribution of Himalayas and Our Responsibilities)

महत्वपूर्ण तथ्य: राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन ने ‘नौला फाउंडेशन’ के साथ मिलकर हिमालय दिवस का आयोजन किया। हिमालय दिवस हर साल 9 सितंबर को उत्तराखंड राज्य में मनाया जाता है। हिमालयी पारिस्थितिकी तंत्र और क्षेत्र के संरक्षण के उद्देश्य से यह दिवस मनाया जाता है।

  • यह पहल 2010 में सुंदर लाल बहुगुणा, अनिल जोशी और राधा बहन सहित प्रसिद्ध पर्यावरणविदों और कार्यकर्ताओं के एक समूह द्वारा शुरू की गई थी। इसे 2015 से उत्तराखंड के तत्कालीन मुख्यमंत्री हरीश रावत ने आधिकारिक तौर पर हिमालय दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की थी।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

शिक्षा को हमले से बचाने के लिए अंतरराष्ट्रीय दिवस (9 सितंबर)


2021 का विषय: 'स्थायी शांति के लिए शिक्षा की रक्षा करें' (Protect education for sustainable peace)

महत्वपूर्ण तथ्य: 2020 में पहली बार मनाए गए इस दिवस का उद्देश्य 35 संकटग्रस्त देशों में रहने वाले 3 से 18 साल के 75 मिलियन बच्चों की दुर्दशा और उनकी शैक्षिक सहायता की तत्काल आवश्यकता पर ध्यान आकर्षित करना है।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

मैं भी डिजिटल 3.0


आवास और शहरी कार्य मंत्रालय ने इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के सहयोग से 9 सितंबर, 2021 को देशभर के 223 शहरों में ‘पीएम स्वनिधि योजना’ के तहत स्ट्रीट वेंडर्स के लिए डिजिटल ऑनबोर्डिंग और प्रशिक्षण के लिए एक विशेष अभियान 'मैं भी डिजिटल 3.0' (Main Bhi Digital 3.0) का शुभारंभ किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: यूपीआई आईडी, क्यूआर कोड जारी करने और डिजिटल प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए भारतपे, एमस्वाइप (Mswipe), फोनपे, पेटीएम, एसवेयर (Aceware) इस अभियान में भाग ले रहे हैं।

  • डिजिटल लेन-देन और व्यवहार में बदलाव को अपनाने के लिए डिजिटल भुगतान समूह स्ट्रीट वेंडर्स को प्रोत्साहन देने के साथ-साथ प्रशिक्षण भी देंगे।
  • पीएम स्ट्रीट वेंडर की आत्मनिर्भर निधि (पीएम स्वनिधि) योजना का शुभारंभ 1 जून, 2020 को एक केंद्रीय क्षेत्र की योजना के रूप में किया गया था।
  • यह योजना नियमित पुनर्भुगतान पर 7% की दर से ब्याज सब्सिडी के साथ 10,000 रूपए तक की किफायती कार्यशील पूंजी के ऋण की सुविधा भी प्रदान करती है। रेहड़ी-पटरी वालों को ऋण के लिए कोई अतिरिक्त भुगतान करने की आवश्यकता नहीं है।
  • इस योजना का लक्ष्य 50 लाख स्ट्रीट वेंडर्स को कवर करना है, जो 24 मार्च, 2020 या उससे पहले से रेहड़ी-पटरी के माध्यम से व्यवसाय कर रहे हैं।

पीआईबी न्यूज अंतरराष्ट्रीय

भारत और पुर्तगाल सम्बन्ध


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 8 सितंबर, 2021 को भारत और पुर्तगाल के बीच एक समझौते पर हस्ताक्षर करने को मंजूरी प्रदान की।

महत्वपूर्ण तथ्य: मौजूदा समझौते से भारत और पुर्तगाल के बीच साझेदारी और सहयोग की एक संस्थागत प्रणाली तैयार की जाएगी। इस समझौते के तहत भारत के नागरिकों को पुर्तगाल में काम करने के लिये नियुक्त किया जा सकेगा।

  • समझौते के तहत एक संयुक्त समिति का गठन किया जायेगा, जो इसके क्रियान्वयन की देख-रेख करेगी।
  • पुर्तगाल के साथ समझौते पर हस्ताक्षर हो जाने से यूरोपियन संघ के एक सदस्य देश में भारतीय प्रवासी कामगारों के लिए एक नया ठिकाना बन जायेगा।

पीआईबी न्यूज विज्ञान-प्रौद्योगिकी

मध्यम दूरी की सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल प्रणाली


9 सितंबर, 2021 को राजस्थान में जैसलमेर वायुसेना स्टेशन में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की उपस्थिति में भारतीय वायु सेना को मध्यम दूरी की सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल (MRSAM) प्रणाली की पहली सुपुर्दगी योग्य फायरिंग यूनिट सौंपी गई।

महत्वपूर्ण तथ्य: MRSAM भारतीय उद्योग के सहयोग से रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन और इजरायल एयरोस्पेस इंडस्ट्रीज द्वारा संयुक्त रूप से विकसित एक उन्नत नेटवर्क केंद्रित लड़ाकू वायु रक्षा प्रणाली है।

  • MRSAM प्रणाली लड़ाकू विमान, मानव रहित विमान, हेलीकॉप्टर, निर्देशित और बिना निर्देशित युद्ध सामग्री, सब-सोनिक और सुपरसोनिक क्रूज मिसाइलों आदि त खतरों के खिलाफ जमीनी परिसंपत्तियों को एक स्थान विशेष पर और क्षेत्र विशेष पर वायु रक्षा प्रदान करती है ।
  • यह गंभीर संतृप्ति परिदृश्यों (severe saturation scenarios) में 70 किलोमीटर की दूरी तक अनेक लक्ष्यों को भेदने में सक्षम है।
  • टर्मिनल चरण के दौरान उच्च गतिशीलता प्राप्त करने के लिए मिसाइल स्वदेशी रूप से विकसित रॉकेट मोटर और कंट्रोल प्रणाली द्वारा संचालित है।
  • फायरिंग यूनिट में मिसाइल, युद्धक प्रबंधन प्रणाली, मोबाइल लॉन्चर सिस्टम, उन्नत लंबी दूरी का रडार, मोबाइल पावर सिस्टम, रडार पावर सिस्टम आदि शामिल हैं।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

इंडिया रैंकिंग 2021


केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने 9 सितंबर, 2021 को नई दिल्ली में राष्ट्रीय संस्थागत रैंकिंग फ्रेमवर्क द्वारा तैयार की गई ‘इंडिया रैंकिंग 2021’ (India Rankings 2021) जारी की।

महत्वपूर्ण तथ्य: इंडिया रैंकिंग 2021 भारत में उच्च शिक्षण संस्थानों की इंडिया रैंकिंग का लगातार छठा संस्करण है। इस रैंकिंग की शुरुआत 2016 में हुई थी।

  • ‘आईआईटी मद्रास’ ने लगातार तीसरे वर्ष सभी श्रेणी के साथ-साथ इंजीनियरिंग में पहला स्थान बरकरार रखा है।
  • ‘भारतीय विज्ञान संस्थान, बेंगलुरू’ ने पहली बार इंडिया रैंकिंग 2021 में शुरू की गई विश्वविद्यालय के साथ-साथ अनुसंधान संस्थान श्रेणी में शीर्ष स्थान हासिल किया है।
  • प्रबंधन विषय में ‘भारतीय प्रबंधन संस्थान, अहमदाबाद’ शीर्ष पर है और ‘अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान, नई दिल्ली’ लगातार चौथे वर्ष चिकित्सा क्षेत्र में शीर्ष स्थान पर है।
  • ‘जामिया हमदर्द’ फार्मेसी विषय में लगातार तीसरे साल सूची में सबसे शीर्ष स्थान पर है।
  • ‘मिरांडा कॉलेज’ ने लगातार पांचवें साल कॉलेजों में पहला स्थान बरकरार रखा है।
  • वास्तुकला विषय में आईआईटी खड़गपुर को पीछे छोड़ते हुए ‘आईआईटी रुड़की’ पहली बार शीर्ष स्थान पर है।
  • ‘नेशनल लॉ स्कूल ऑफ इंडिया यूनिवर्सिटी, बैंगलोर’ ने लगातार चौथे वर्ष विधि (law) के लिए अपना पहला स्थान बरकरार रखा है।
  • कॉलेजों की रैंकिंग में पहले 10 कॉलेजों में दिल्ली के पांच कॉलेजों ने जगह बनाई है।
  • मणिपाल कॉलेज ऑफ डेंटल साइंसेज, मणिपाल ने ‘दंत चिकित्सा’ श्रेणी में पहला स्थान हासिल किया।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

राष्ट्रीय राजमार्ग पर भारत की पहली आपातकालीन लैंडिंग सुविधा


रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने संयुक्त रूप से 9 सितंबर, 2021 को राजस्थान के बाड़मेर के पास राष्ट्रीय राजमार्ग-925ए पर सट्टा-गंधव खंड पर भारतीय वायुसेना के लिए आपातकालीन लैंडिंग सुविधा (Emergency landing facility) का उद्घाटन किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: दोनों मंत्रियों ने इस सुविधा का उद्घाटन करने के लिए ‘सी-130जे विमान’ से बाड़मेर की यात्रा की।

  • यह पहली बार है जब भारतीय वायु सेना के विमानों की आपात लैंडिंग के लिए किसी राष्ट्रीय राजमार्ग का इस्तेमाल किया गया है।
  • यह लैंडिंग स्ट्रिप भारतीय वायुसेना के सभी प्रकार के विमानों की लैंडिंग की सुविधा प्रदान करने में सक्षम होगी।
  • भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने राष्ट्रीय राजमार्ग-925ए पर सट्टा-गंधव के 41/430 किमी. से 44/430 किमी. के तीन किलोमीटर लंबे हिस्से को भारतीय वायु सेना के लिये आपातकालीन लैंडिंग सुविधा के रूप में तैयार किया।
  • लैंडिंग सुविधा, दो लेन के गगरिया-भाखासर तथा सट्टा-गंधव सेक्शन का हिस्सा है, जिसकी भारतमाला परियोजना के तहत कुल लंबाई 196.97 किमी. है।
  • इस परियोजना से बाड़मेर और जालौर जिले के सीमावर्ती गांवों के बीच संपर्कता में सुधार होगा। यह हिस्सा पश्चिमी सीमावर्ती क्षेत्र में स्थित है और इससे भारतीय सेना की सतर्कता बढ़ेगी।
  • इस एमरजेंसी लैंडिंग सुविधा के अलावा वायुसेना/भारतीय सेना की जरूरतों को ध्यान में रखते हुये कुंदनपुरा, सिंघानिया और भाखासर गांवों में 100X30 मीटर आकार के तीन हेलीपैड भी बनाये गये हैं।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

दुनिया का सबसे उत्तरी द्वीप


अगस्त 2021 में डेनमार्क के आर्कटिक शोधकर्ताओं के एक दल का कहना है कि उन्होंने ग्रीनलैंड के तट पर स्थित दुनिया के सबसे उत्तरी द्वीप की खोज की है।

महत्वपूर्ण तथ्य: कोपेनहेगन विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों ने शुरू में सोचा था कि वे जुलाई में किए गए एक अभियान के दौरान नमूने एकत्र करने के लिए 1978 में डेनिश सर्वेक्षण टीम द्वारा खोजे गए द्वीप ओडाक पहुंचे थे।

  • वे इसके बजाय उत्तर में एक अनदेखे द्वीप पर पहुँच गए। ओडाक उत्तरी ध्रुव के लगभग 700 किलोमीटर (435 मील) दक्षिण में है, जबकि नया द्वीप ओडाक के 780 मीटर (2,560 फीट) उत्तर में है।
  • यह लगभग 30 x 60 मीटर आकर का है और समुद्र तल से लगभग तीन से चार मीटर ऊपर है।
  • यह द्वीप समुद्री सतह पर पाए जाने वाले कीचड़, मिट्टी और चट्टानों से बना है और यहाँ कोई वनस्पति नहीं है। यह एक द्वीप के मानदंडों को पूरा करता है।
  • शोध दल ने इस खोज को जलवायु परिवर्तन का परिणाम नहीं माना है और द्वीप का नाम 'क्यूकर्टाक अवन्नारलेक' (Qeqertaq Avannarleq) रखने का प्रस्ताव दिया है, जिसका अर्थ ग्रीनलैंडिक भाषा में "सबसे उत्तरी द्वीप" है।
  • ग्रीनलैंड एक विशाल स्वायत्त आर्कटिक क्षेत्र है, जो डेनमार्क के अंतर्गत आता है।

सामयिक खबरें विज्ञान-प्रौद्योगिकी

गूगल न्यूज इनिशिएटिव स्टार्टअप्स लैब इंडिया प्रोग्राम


गूगल ने 9 सितंबर, 2021 को देश में स्वतंत्र स्थानीय या एकल-विषय पत्रकारिता संगठनों के लिए एक प्रेरक कार्यक्रम (Accelerator Programme) 'गूगल न्यूज इनिशिएटिव स्टार्टअप्स लैब इंडिया प्रोग्राम' (Google News Initiative startups Lab India programme) की घोषणा की।

महत्वपूर्ण तथ्य: 'गूगल न्यूज इनिशिएटिव' के तहत, गूगल चार महीने के कार्यक्रम की पेशकश करेगा जो 'स्वतंत्र स्थानीय या एकल-विषय पत्रकारिता संगठनों को गहन कोचिंग, कौशल प्रशिक्षण और अन्य समर्थन के माध्यम से वित्तीय और परिचालन स्थिरता का मार्ग खोजने में मदद करेगा।

  • यह कार्यक्रम एक वैश्विक नवाचार प्रयोगशाला 'इकोस' (Echos) और डिजीपब न्यूज इंडिया फाउंडेशन के साथ साझेदारी में तैयार किया गया है।
  • भारत में पहले समूह में भाग लेने के लिए 10 स्वतंत्र डिजिटल समाचार प्रकाशकों का चयन किया जाएगा।
  • मई 2021 में, गूगल ने भारत में समाचार संगठनों और पाठकों का समर्थन करने के लिए 'गूगल न्यूज शोकेस' (Google News Showcase), इसके ऑनलाइन अनुभव और इसके लाइसेंसिंग कार्यक्रम के विस्तार की घोषणा की थी।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप पुरस्कार/सम्मान

एनआईओएस को यूनेस्को किंग सेजोंग साक्षरता पुरस्कार 2021


8 सितंबर, 2021 को राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान (एनआईओएस) को प्रतिष्ठित यूनेस्को किंग सेजोंग साक्षरता पुरस्कार 2021 के विजेताओं में से एक के रूप में चुना गया है।

  • एनआईओएस को 'भारतीय सांकेतिक भाषा (Indian Sign Language: ISL) आधारित सामग्री पर ध्यान देने के साथ, प्रौद्योगिकी-सक्षम समावेशी शिक्षण सामग्री के माध्यम से दिव्यांगजनों की शिक्षा को सक्षम करने' के लिए यह पुरस्कार दिया गया है।
  • यूनेस्को किंग सेजोंग साक्षरता पुरस्कार 2021 के अन्य विजेता दक्षिण अफ्रीका और ग्वाटेमाला हैं। जबकि आइवरी कोस्ट, मिस्र और मैक्सिको को 'साक्षरता के लिए यूनेस्को कन्फ्यूशियस पुरस्कार 2021' से सम्मानित किया गया।
  • इस वर्ष यूनेस्को अंतरराष्ट्रीय साक्षरता पुरस्कार का विषय 'समावेशी दूरस्थ और डिजिटल साक्षरता अधिगम' (inclusive distance and digital literacy learning) था।

यूनेस्को किंग सेजोंग साक्षरता पुरस्कार: इसकी स्थापना 1989 में कोरिया गणराज्य की सरकार के सहयोग से की गई थी।

  • यह पुरस्कार उन सरकारों या सरकारी एजेंसियों और गैर-सरकारी संगठनों (एनजीओ) की गतिविधियों को दिया जाता है, जो साक्षरता की लड़ाई में योगदान देने में विशेष रूप से प्रभावी परिणाम प्राप्त करते हैं।
  • यह विकासशील देशों में मातृभाषाओं के निर्माण, विकास और प्रसार पर विशेष ध्यान देता है।
  • पुरस्कार में 20,000 डॉलर की राशि, एक रजत पदक और एक डिप्लोमा शामिल है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप कला/संस्कृति

गांधी स्मृति और दर्शन समिति


भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री विजय गोयल को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 'गांधी स्मृति और दर्शन समिति' (Gandhi Smriti and Darshan Samiti) का उपाध्यक्ष नियुक्त किया है।

  • गांधी स्मृति एवं दर्शन समिति का गठन 1984 में राजघाट स्थित गांधी दर्शन एवं ‘5, तीस जनवरी मार्ग’ स्थित गांधी स्मृति के विलय द्वारा 1984 में एक स्वायत्त निकाय के रूप में किया गया था।
  • यह भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय के रचनात्मक सुझाव और वित्तीय सहायता के तहत कार्यशील है।
  • भारत के प्रधानमंत्री गांधी स्मृति एवं दर्शन समिति के अध्यक्ष हैं।
  • समिति का मूलभूत उद्देश्य और लक्ष्य विभिन्न सामाजिक-शैक्षणिक तथा सांस्कृतिक कार्यक्रमों के जरिये महात्मा गांधी के जीवन, मिशन एवं विचारों को प्रचारित करना है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

अंतरराष्ट्रीय साक्षरता दिवस (8 सितंबर)


अंतरराष्ट्रीय साक्षरता दिवस (8 सितंबर) [International Literacy Day (8 September)]

2021 का विषय: मानव-केंद्रित रिकवरी के लिए साक्षरता: डिजिटल विभाजन को कम करना (Literacy for a Human-centered Recovery: Narrowing the Digital Divide)

महत्वपूर्ण तथ्य: अंतरराष्ट्रीय साक्षरता दिवस का उद्देश्य व्यक्तियों, समुदायों और समाज के लिए साक्षरता के महत्व और अधिक साक्षर समाज के लिए गहन प्रयासों की आवश्यकता को उजागर करना है।

  • 1966 में संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन (यूनेस्को) द्वारा 8 सितंबर को अंतरराष्ट्रीय साक्षरता दिवस घोषित किया गया था। पहली बार यहदिवस 1967 में मनाया गया था।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

रक्षा सेवाओं हेतु वित्तीय शक्तियों का प्रत्यायोजन 2021


रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 7 सितंबर, 2021 को नई दिल्ली में रक्षा सेवाओं हेतु वित्तीय शक्तियों का प्रत्यायोजन 2021 (Delegation of Financial Powers to Defence Services: DFPDS 2021) आदेश जारी किया, जो सशस्त्र बलों को राजस्व अधिप्राप्ति शक्तियों (Revenue Procurement powers) के मामले में बढ़े हुए अधिकार प्रदान करता है।

उद्देश्य: क्षेत्रीय टुकड़ियों (field formations) को सशक्त बनाना; परिचालन तैयारियों पर विशेष ध्यान देना; व्यावसायिक गतिविधियों में सुगमता को बढ़ावा देना और सेवाओं के बीच संयुक्तता बढ़ाना।

महत्वपूर्ण तथ्य: सेवाओं के उप-प्रमुखों की प्रत्यायोजित वित्तीय शक्तियों में 10% की वृद्धि की गई है, जो कुल 500 करोड़ रुपये की सीमा के अधीन है।

  • सक्षम वित्तीय प्राधिकरणों के लिए दो गुना तक की सामान्य वृद्धि को मंजूरी दी गई है।
  • कुछ अनुसूचियों में, क्षेत्रीय टुकड़ियों में यह वृद्धि परिचालन आवश्यकताओं के कारण 5-10 गुना तक की सीमा में है।
  • 'आत्मनिर्भर भारत' के लक्ष्य को हासिल करने के लिए स्वदेशीकरण तथा अनुसंधान एवं विकास से संबंधित कार्यक्रमों में तीन गुना तक की वृद्धि की गई।
  • तत्काल सैन्य आवश्यकताओं के संचालन के लिए आपातकालीन शक्तियों की अनुसूची में शामिल रक्षा सेवाओं के लिए कमांड स्तर से नीचे क्षेत्रीय टुकड़ियों को आपातकालीन वित्तीय शक्तियों के प्रावधान के लिए सक्षम किया गया है।

सामयिक खबरें आर्थिकी

भारतीय रेलवे वैकल्पिक ईंधन संगठन


रेल मंत्रालय ने 7 सितंबर, 2021 से भारतीय रेलवे वैकल्पिक ईंधन संगठन (IROAF) को बंद करने की घोषणा की है।

महत्वपूर्ण तथ्य: इसका मुख्यालय नई दिल्ली में है, जिसका गठन विशेष रूप से रेलवे नेटवर्क में वैकल्पिक ऊर्जा, कुशल ईंधन और उत्सर्जन-नियंत्रण प्रौद्योगिकियों को पेश करके हरित ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिए किया गया था।

  • IROAF का काम उत्तर रेलवे और रेलवे बोर्ड को हस्तांतरित किया जाएगा।।
  • चार साल पहले, देश की पहली सौर ऊर्जा से चलने वाली ट्रेन शुरू की गई थी, जहां ट्रेन की पूरी बिजली की जरूरतें जैसे लाइट, पंखे और अन्य सिस्टम एक डेमू (Diesel Electric Multiple Unit- DEMU) कोच के ऊपर लगे सोलर पैनल द्वारा उत्पन्न बिजली से पूरी की जाती थीं। इसकी तकनीक IROAF द्वारा विकसित की गई थी।
  • IROAF हाई स्पीड डीजल के विकल्प के रूप में संपीडित प्राकृतिक गैस (CNG) के उपयोग से संबंधित परियोजनाओं के अनुसंधान और विकास पर भी काम कर रहा था।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

सी-295एमडब्ल्यू मीडियम ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट


कैबिनेट की सुरक्षा संबंधी समिति ने 8 सितंबर, 2021 को भारतीय वायु सेना के लिए पुराने एवरो विमानों की जगह 56 'सी-295एमडब्ल्यू मीडियम ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट' (C-295MW medium transport aircraft) की खरीद को मंजूरी दे दी।

महत्वपूर्ण तथ्य: इसे 'एयरबस डिफेंस एंड स्पेस एसए' (Airbus Defence and Space SA), स्पेन से खरीदा जाएगा।

  • 16 विमान अनुबंध पर हस्ताक्षर करने के 48 महीनों के भीतर स्पेन के एयरबस डिफेंस एंड स्पेस द्वारा उड़ान भरने की स्थिति में सौंपे जाएंगे, जबकि शेष 40 विमानों का निर्माण भारत में टाटा कंसोर्टियम द्वारा किया जाएगा।
  • खरीद की लागत 18,000 करोड़ रुपये से 20,000 करोड़ रुपये के बीच होने की उम्मीद है।
  • यह अपनी तरह की पहली परियोजना है, जिसमें एक निजी कंपनी द्वारा भारत में एक सैन्य विमान का निर्माण किया जाएगा।
  • सभी 56 विमानों को स्वदेशी ‘इलेक्ट्रॉनिक वारफेयर सूट’ (Electronic Warfare Suite) के साथ स्थापित किया जाएगा।
  • सी-295एमडब्ल्यू विमान 5-10 टन क्षमता का परिवहन विमान है। सी-295 में त्वरित लोडिंग और अनलोडिंग के लिए और सैनिकों और कार्गो के पैरा ड्रॉपिंग के लिए एक 'रियर रैंप दरवाजा' (rear ramp door) है।
  • सी-295एमडब्ल्यू विमान के लिए एक सर्विसिंग सुविधा भारत में स्थापित की जाएगी। यह सुविधा सी-295 विमान के विभिन्न प्रकारों के लिए एक क्षेत्रीय रखरखाव, मरम्मत और ओवरहाल (Maintenance, Repair, and Overhaul: MRO) केंद्र के रूप में कार्य करेगी।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

अमेरिका - भारत सामरिक स्वच्छ ऊर्जा साझेदारी का नया रूप


9 सितंबर, 2021 को केंद्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने अमेरिका के ऊर्जा मंत्री जेनिफर ग्रैनहोल्म के साथ अमेरिका - भारत सामरिक स्वच्छ ऊर्जा साझेदारी (SCEP) के नए रूप की वर्चुअल लॉन्च की सह-अध्यक्षता की।

महत्वपूर्ण तथ्य: SCEP को अमेरिकी-भारत जलवायु और स्वच्छ ऊर्जा एजेंडा 2030 साझेदारी के अनुसार लॉन्च किया गया है, जिसकी घोषणा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति जो बाइडेन ने अप्रैल 2021 में आयोजित 'लीडर्स समिट ऑन क्लाइमेट' के दौरान की थी।

  • SCEP के तहत, संयुक्त राज्य अमेरिका और भारत पांच स्तंभों में सहयोग करने के लिए सहमत हुए हैं- विद्युत् और ऊर्जा दक्षता; नवीकरणीय ऊर्जा; उत्तरदायी तेल और गैस; सतत वृद्धि; और उभरते ईंधन।
  • SCEP का नया रूप विस्तारित स्वच्छ ऊर्जा प्रौद्योगिकियों की तैनाती को बढ़ाने और तेज करने पर अधिक जोर देता है।
  • दोनों पक्ष उभरती हुई ऊर्जा प्रौद्योगिकियों पर अनुसंधान को प्राथमिकता देने के लिए उन्नत स्वच्छ ऊर्जा- अनुसंधान (PACE-R) पर अमेरिका- भारत साझेदारी के माध्यम से अनुसंधान और विकास को बढ़ाने के लिए सहमत हुए।
  • दोनों पक्ष स्मार्ट ग्रिड, ऊर्जा भंडारण, लचीले संसाधनों और वितरित ऊर्जा संसाधनों के माध्यम से नवीनीकरण ऊर्जा के बड़े पैमाने पर एकीकरण को समर्थन देने के लिए भारत में इलेक्ट्रिक ग्रिड को मजबूत बनाएंगे।
  • दोनों पक्षों ने ‘गैस टास्क फोर्स’ का नाम बदलकर ‘भारत-यूएस निम्न उत्सर्जन गैस टास्क फोर्स’ करने की भी घोषणा की।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

13वां ब्रिक्स शिखर सम्मेलन


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में 9 सितंबर, 2021 को ‘13वां ब्रिक्स शिखर सम्मेलन’ वर्चुअल माध्यम में आयोजित किया गया।

शिखर सम्मेलन का विषय: 'ब्रिक्स@15: निरंतरता, एकजुटता और आम सहमति के लिए अंतर-ब्रिक्स सहयोग'(BRICS@15: Intra-BRICS cooperation for continuity, consolidation and consensus)।

महत्वपूर्ण तथ्य: शिखर सम्मेलन ने अफगानिस्तान में स्थिरता, नागरिक शांति, कानून और व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए 'समावेशी अंतर-अफगान वार्ता' का आह्वान किया।

  • 'नई दिल्ली घोषणा' दस्तावेज जारी किया गया, जिसमें अफगानिस्तान में मानवीय संकट के समाधान और महिलाओं, बच्चों और अल्पसंख्यकों के अधिकारों को बनाए रखने की आवश्यकता का आग्रह किया।
  • 'ब्रिक्स आतंकवाद विरोधी कार्य योजना' को अपनाया गया तथा ब्रिक्स अंतरिक्ष एजेंसियों के बीच रिमोट सेंसिंग सैटेलाइट पर समझौता, एक 'आभासी ब्रिक्स वैक्सीन अनुसंधान एवं विकास केंद्र' तथा 'हरित पर्यटन पर ब्रिक्स गठबंधन' पर सहमति बनी।
  • भारत ने 2012 और 2016 के बाद ब्रिक्स शिखर सम्मेलन की तीसरी बार मेजबानी की।
  • ब्रिक (ब्राजील, रूस, भारत और चीन) समूह को 2006 में औपचारिक रूप दिया गया था। पहला ब्रिक शिखर सम्मेलन 2009 में रूस के येकातेरिनबर्ग में आयोजित किया गया था।
  • 2010 में दक्षिण अफ्रीका को पूर्ण सदस्यता के रूप में स्वीकार किए जाने के बाद समूह का नाम बदलकर ब्रिक्स (ब्राजील, रूस, भारत, चीन, दक्षिण अफ्रीका) कर दिया गया था।

सामयिक खबरें पर्यावरण

भारत का पहला डुगोंग संरक्षण रिजर्व


सितंबर 2021 में तमिलनाडु सरकार ने घोषणा की कि वह पाक खाड़ी में भारत का पहला डुगोंग संरक्षण रिजर्व स्थापित करने की योजना बना रही है। यह 500 वर्ग किमी. के क्षेत्र में होगा।

डुगोंग: डुगोंग (वैज्ञानिक नाम- डुगोंग डुगोन), जिसे समुद्री गाय भी कहा जाता है, एक शाकाहारी स्तनपायी है।

  • वे तीन मीटर तक लंबे हो सकते हैं, इनका वजन लगभग 300 किलोग्राम होता है और लगभग 65 से 70 साल तक जीवित रह सकते हैं।
  • वे समुद्री घास खाते हैं और सांस लेने के लिए सतह पर आते हैं।
  • वे 30 से अधिक देशों में पाए जाते हैं और भारत में मन्नार की खाड़ी, कच्छ की खाड़ी, पाक खाड़ी और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में पाए जाते हैं।

संरक्षण की स्थिति: डुगोंग को आईयूसीएन रेड लिस्ट में 'अतिसंवेदनशील' के रूप में सूचीबद्ध किया गया है।

  • अंतरराष्ट्रीय स्तर पर यह CITES के परिशिष्ट I में सूचीबद्ध है, जो प्रजातियों और उसके अंगों के व्यापार को प्रतिबंधित करता है।
  • डुगोंग भारत में भारतीय वन्यजीव अधिनियम 1972 की अनुसूची-1 के तहत संरक्षित हैं, जो डुगोंग के शिकार और मांस खरीद पर प्रतिबंध लगाता है।

खतरे: विकास गतिविधियों के कारण समुद्री घास पर्यावास नुकसान, जल प्रदूषण और तटीय पारिस्थितिकी तंत्र के क्षरण ने इन धीमी गति से चलने वाले जानवरों के लिए जीवन कठिन बना दिया है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप पुरस्कार/सम्मान

इंस्पायर - मानक पुरस्कार


केंद्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ. जितेंद्र सिंह ने 8 सितंबर, 2021 को एक आभासी समारोह के दौरान '8वें इंस्पायर - मानक पुरस्कार' (8th INSPIRE – MANAK Awards) प्रदान किये।

  • 'इंस्पायर' (Innovation in Science Pursuit for Inspired Research: INSPIRE) योजना विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी), भारत सरकार के प्रमुख कार्यक्रमों में से एक है।
  • इंस्पायर पुरस्कार - मानक (Million Minds Augmenting National Aspirations and Knowledge: MANAK) को विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा नेशनल इनोवेशन फाउंडेशन - इंडिया (NIF) के साथ संयुक्त रूप से कार्यान्वित किया जा रहा है।
  • वर्ष 2016 में, इंस्पायर योजना को नया रूप दिया गया और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू की गई 'स्टार्ट-अप इंडिया' पहल हेतु कार्य योजना के साथ जोड़ा गया।
  • ‘इंस्पायर पुरस्कार – मानक’ योजना का लक्ष्य कक्षा 6 से 10वीं के 10-15 वर्ष के आयु वर्ग के छात्रों को भविष्य के नवप्रवर्तक और महत्वपूर्ण विचारक बनने के लिए प्रेरित करना है।
  • योजना का उद्देश्य स्कूली बच्चों में रचनात्मकता और नवीन सोच की संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए विज्ञान और सामाजिक अनुप्रयोगों में निहित दस लाख मूल विचारों / नवाचारों को लक्षित करना है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप वेब पोर्टल/ऐप

नाल्को माइक्रो एंड स्मॉल एंटरप्राइज योगयोग एप्लीकेशन


  • अगस्त 2021 में केंद्र के स्वामित्व वाली नेशनल एल्युमिनियम कंपनी लिमिटेड (नाल्को), ने सूक्ष्म एवं लघु कारोबारियों के लाभ के लिए विशेष रूप से विकसित आधुनिक और नवोन्मेषी प्लेटफॉर्म 'नाल्को माइक्रो एंड स्मॉल एंटरप्राइज योगयोग एप्लीकेशन' (NALCO Micro And Small enterprise Yogayog Application: NAMASYA) प्रदान किया है।
  • यह द्विभाषी ऐप सूक्ष्म एवं लघु वेंडर पंजीकरण प्रक्रिया, उनके द्वारा आपूर्ति की जा सकने वाली वस्तुओं, तकनीकी विनिर्देश, वेंडर विकास और नाल्को के प्रशिक्षण कार्यक्रमों के बारे में जरूरी जानकारी देकर उन्हें सशक्त बनाता है।
  • खान मंत्रालय के तहत नाल्को एक नवरत्न सार्वजनिक क्षेत्र का उपक्रम है। इसकी स्थापना 1981 में हुई। इसका मुख्यालय भुवनेश्वर में है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

नीले आसमान के लिए अंतरराष्ट्रीय स्वच्छ वायु दिवस (7 सितंबर)


2021 का विषय: 'स्वस्थ वायु, स्वस्थ ग्रह' (Healthy Air, Healthy Planet)

महत्वपूर्ण तथ्य: स्वच्छ वायु में अंतरराष्ट्रीय समुदाय की बढ़ती दिलचस्पी के बाद और मानव स्वास्थ्य की रक्षा के लिए वायु गुणवत्ता में सुधार के लिए और प्रयास करने की आवश्यकता पर बल देते हुए, संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 7 सितंबर को नीले आसमान के लिए अंतरराष्ट्रीय स्वच्छ वायु दिवस के रूप में नामित किया है।

सामयिक खबरें आर्थिकी

राष्ट्रीय परीक्षण शाला


7 सितंबर, 2021 को उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्रालय के अनुसार गुणवत्ता परीक्षण के लिए राष्ट्रीय परीक्षण शाला (National Test House) को सालाना लगभग 25,000 नमूने प्राप्त होते हैं।

महत्वपूर्ण तथ्य: केंद्र सरकार खिलौनों, हेलमेट, एयर कंडीशनर और अन्य के गुणवत्ता आश्वासन के लिए व्यापक परीक्षण सुविधा शुरू करने की योजना बना रहा है।

  • राष्ट्रीय परीक्षण शाला का सौंदर्य प्रसाधन, इलेक्ट्रॉनिक उपभोक्ता वस्तुओं और घरों में उपयोग किए जाने वाले डिजिटल उपकरणों जैसे उत्पादों के माध्यम से नैनो-प्रौद्योगिकी में परिचालन शुरू करने का प्रस्ताव है।
  • राष्ट्रीय परीक्षण शाला, एक 109 वर्ष पुरानी गुणवत्ता आश्वासन देने वाली सरकारी प्रयोगशाला है, जो इंजीनियरिंग के सभी क्षेत्रों में उद्योग, उपभोक्ताओं और सरकारी एजेंसियों के लिए सामग्री परीक्षण सुविधाएं प्रदान करती है।
  • राष्ट्रीय परीक्षण शाला की 6 प्रयोगशालाएं हैं, जो औद्योगिक और आर्थिक विकास के लिए गुणवत्ता आश्वासन पर देश को सेवाएं दे रही हैं।
  • राष्ट्रीय परीक्षण शाला (पूर्व में सरकारी परीक्षण शाला के रूप में जाना जाता है) की स्थापना दक्षिण कलकत्ता के अलीपुर में वर्ष 1912 में हुई थी, और इसने वैज्ञानिक सिद्धांत, खोजों और व्यावहारिक उत्पाद विकास में काफी योगदान दिया है।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

स्कूली शिक्षा पर आपातकालीन रिपोर्ट


अगस्त 2021 में अर्थशास्त्री जीन द्रेज के नेतृत्व में एक टीम द्वारा 15 राज्यों में स्कूल बंद होने के प्रभाव पर 'स्कूल शिक्षा पर आपातकालीन रिपोर्ट' जारी की गई है।

महत्वपूर्ण तथ्य: महामारी के दौरान भारत के ग्रामीण इलाकों के 37 फीसदी छात्रों ने स्कूल छोड़ दिया है।

  • केवल 8% ग्रामीण छात्रों और 24% शहरी छात्रों की डिजिटल शिक्षा तक नियमित पहुँच थी।
  • यह रिपोर्ट असम, बिहार, चंडीगढ़, दिल्ली, गुजरात, हरियाणा, झारखंड, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, ओडिशा, पंजाब, उत्तर प्रदेश, तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल सहित 15 राज्यों में स्कूली बच्चों के ऑनलाइन और ऑफलाइन लर्निंग (School Children’s Online and Offline Learning: SCHOOL) सर्वेक्षण पर आधारित है।
  • सर्वेक्षण के अनुसार दलित और आदिवासी बच्चे अधिक नुकसान में रहे, इन समूहों के केवल 5% बच्चों की ऑनलाइन कक्षाओं तक पहुंच थी।
  • शहरी क्षेत्रों में 10% अभिभावकों को अपने बच्चों को स्कूल भेजने में कुछ हिचकिचाहट थी, लेकिन कुल मिलाकर 97% अभिभावकों ने स्कूलों को फिर से खोलने का समर्थन किया।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

ताइवान ने किया स्वदेशी निर्मित नौसैनिक युद्धपोत कमीशन


ताइवान की राष्ट्रपति त्साई इंग-वेन ने चीन के साथ बढ़ते तनाव के बीच स्वदेशी रक्षा क्षमता को बढ़ावा देने के लिए अपनी योजना के तहत 9 सितंबर, 2021 को स्वदेशी निर्मित नौसैनिक युद्धपोत को कमीशन किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: 'ता जियांग' (Ta Jiang) के नाम से जाना जाने वाला और "कैरियर किलर" के उपनाम से जाना जाने वाला यह पोत, ताइवान की कंपनी, 'लंग तेह शिपबिल्डिंग कंपनी' द्वारा निर्मित किया गया है।

  • युद्धपोत को वायु रक्षा क्षमताओं के लिए डिजाइन किया गया है और यह जहाज-रोधी मिसाइलों को ले जाने में सक्षम है।
  • इसके अलावा, ताइवान वर्तमान में चार साल के शोध और डिजाइन के बाद अपनी पनडुब्बी का निर्माण कर रहा है।
  • चीन ताइवान पर उसके राष्ट्रीय क्षेत्र का हिस्सा होने का दावा करता है, हालांकि 1949 में गृहयुद्ध के बाद से ताइवान चीन से अलग हो गया था।

सामयिक खबरें पर्यावरण

2020 में 104 शहरों में वायु गुणवत्ता सुधार


7 सितंबर, 2021 को 'नीले आसमान के लिए अंतरराष्ट्रीय स्वच्छ वायु दिवस' के अवसर पर पर्यावरण मंत्री भूपेन्द्र यादव ने कहा कि केंद्र सरकार की कई पहलों के कारण 2018 की तुलना में 2019 में 86 शहरों ने वायु गुणवत्ता में सुधार किया, जिनकी संख्या 2020 में बढ़कर 104 हो गई।

महत्वपूर्ण तथ्य: हालाँकि, पर्यावरण मंत्रालय ने लोक सभा में एक प्रश्न के जवाब में कहा था कि 2020 में वायु प्रदूषण में कमी मुख्य रूप से लॉकडाउन और क्षणिक के कारण हुई थी।

  • वित्तीय वर्ष 2019-20 और 2020-21 के दौरान 114 शहरों को ‘शहर कार्य योजना’ के अंतर्गत कार्रवाई शुरू करने के लिए अब तक 375.44 करोड़ रुपये जारी किए जा चुके हैं।
  • इसके अलावा, वित्त वर्ष 2020-21 के लिए 15वें वित्त आयोग की रिपोर्ट की सिफारिशों के अनुसार दस लाख से अधिक आबादी वाले 42 शहरों को 4400 करोड़ रुपये जारी किए गए हैं।
  • इस अवसर पर पर्यावरण मंत्री भूपेंद्र यादव ने नई दिल्ली में आनंद विहार में स्थित भारत के पहले क्रियाशील ‘स्मॉग टॉवर’ का भी लोकार्पण किया।
  • एक स्मॉग टॉवर को प्रदूषण को कम करने के लिए एक बड़े/मध्यम पैमाने के वायु शोधक के रूप में डिजाइन किया गया है, जो आमतौर पर फिल्टर के माध्यम से हवा को बाहर करता है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप नियुक्ति

नए राज्यपालों की नियुक्ति


राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 9 सितंबर, 2021 को तमिलनाडु, उत्तराखंड, पंजाब और नागालैंड में नए राज्यपालों की नियुक्ति की।

  • सेवानिवृत्त लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह को उत्तराखंड का राज्यपाल नियुक्त किया गया है। ज्ञात हो कि बेबी रानी मौर्य ने 8 सितंबर को उत्तराखंड के राज्यपाल पद से इस्तीफा दे दिया था।
  • नागालैंड के राज्यपाल आर.एन. रवि को तमिलनाडु के अगले राज्यपाल के रूप में स्थानांतरित किया गया है। रवि अगस्त 2014 से चल रही नगा शांति वार्ता में एक वार्ताकार रहे हैं। उन्हें जुलाई 2019 में नागालैंड का राज्यपाल नियुक्त किया गया था।
  • तमिलनाडु के राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित, जो पंजाब के राज्यपाल का अतिरिक्त प्रभार संभाल रहे थे, को पंजाब का नियमित राज्यपाल नियुक्त किया गया है।
  • असम के राज्यपाल प्रो. जगदीश मुखी को नियमित व्यवस्था होने तक अपने स्वयं के प्रभार के अलावा नागालैंड के राज्यपाल के कार्यों का निर्वहन करने के लिए नियुक्त किया गया है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप अभियान/सम्मेलन/आयोजन

बुजुर्गों की बात - देश के साथ


  • केंद्रीय संस्कृति मंत्री जी.के. रेड्डी ने 7 सितंबर, 2021 को नई दिल्ली स्थित इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केन्द्र में 'बुजुर्गों की बात - देश के साथ' कार्यक्रम का शुभारंभ किया।
  • 'बुजुर्गों की बात-देश के साथ' कार्यक्रम का उद्देश्य युवाओं और उन बुजुर्गों के बीच संवाद को बढ़ाना है, जो 95 वर्ष और उससे अधिक उम्र के हैं और आजादी से पहले भारत में लगभग 18 साल बिता चुके हैं।
  • आदर्श रूप में, बातचीत का वीडियो 60 सेकेंड से कम होना चाहिए और इसे www.rashtragaan.in पर अपलोड किया जा सकता है।
  • केंद्रीय संस्कृति मंत्री ने डॉ. उत्पल के. बनर्जी द्वारा लिखित पुस्तक 'गीत गोविंद: जयदेव डिवाइन ओडिसी' (Gita Govinda :Jaydeva’s Divine Odyssey) का भी विमोचन किया।
  • इसके अलावा ‘गीत गोविन्द' पर एक प्रदर्शनी का शुभारंभ किया गया।
  • गीत गोविन्द मूल रूप से 12वीं शताब्दी के कवि जयदेव की रचना है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

अंतरराष्ट्रीय परोपकार दिवस (5 सितंबर)


महत्वपूर्ण तथ्य: इस दिवस की स्थापना दुनिया भर के लोगों, गैर सरकारी संगठनों और हितधारकों को स्वयंसेवी और परोपकारी गतिविधियों के माध्यम से दूसरों की मदद करने के लिए संवेदनशील बनाने और एकजुट करने के उद्देश्य से की गई थी।

  • 1979 में नोबेल शांति पुरस्कार प्राप्त करने वाली मदर टेरेसा के निधन की वर्षगांठ मनाने के लिए 5 सितंबर की तारीख को चुना गया था।
  • प्रसिद्ध नन और मिशनरी और भारत रत्न से सम्मानित मदर टेरेसा (असली नाम- एग्नेस गोंक्सा बोजाक्सीहु) का जन्म 1910 में स्कॉप्जे (अब उत्तर मेसीडोनिया में) में हुआ था। 1928 में भारत आने के बाद, उन्होंने निराश्रितों की मदद करने के लिए खुद को समर्पित कर दिया था।
  • 1948 में वह एक भारतीय नागरिक बन गईं और 1950 में कोलकाता (कलकत्ता) में 'मिशनरीज ऑफ चैरिटी' की स्थापना की, जो उस शहर में गरीबों और असहाय के बीच अपने काम के लिए प्रसिद्ध हुई। 5 सितंबर, 1997 को उनका निधन हो गया था।

खेल समाचार चर्चित खेल व्यक्तित्व

प्रसिद्ध क्रिकेट कोच वासुदेव परांजपे का निधन


क्रिकेट के कई महान खिलाड़ियों का मार्गदर्शन करने वाले कोच एवं पूर्व प्रथम श्रेणी क्रिकेटर वासुदेव परांजपे का 30 अगस्त, 2021 को निधन हो गया। वे 82 वर्ष के थे।

  • वे ‘वासु’ के नाम से लोकप्रिय थे। एक क्रिकेटर के रूप में परांजपे ने 1956 से 1970 तक मुंबई के लिए 29 प्रथम श्रेणी मैच खेले।
  • वे सुनील गावस्कर से लेकर रोहित शर्मा जैसे कई क्रिकेटरों के कोच और मार्गदर्शक रहे। वे 1988 में भारतीय अंडर-19 किकेट टीम के कोच भी रहे।
  • वर्ष 2020 में उनके पुत्र और पूर्व भारतीय क्रिकेटर जतिन परांजपे ने आनंद वासु के साथ मिलकर 'द क्रिकेट द्रोण- फॉर द लव ऑफ वासु परांजपे' (Cricket Drona: For the Love of Vasoo Paranjape) नामक पुस्तक का सह-लेखन किया था।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

खाद्य प्रसंस्करण सप्ताह


आजादी के अमृत महोत्सव के एक भाग के रूप में, खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय 6 से 12 सितंबर, 2021 तक 'खाद्य प्रसंस्करण सप्ताह' मना रहा है।

महत्वपूर्ण तथ्य: केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री पशुपति कुमार पारस और खाद्य प्रसंस्करण उद्योग राज्य मंत्री प्रहलाद सिंह पटेल ने असम, गुजरात और कर्नाटक राज्यों में पांच खाद्य प्रसंस्करण परियोजनाओं का वर्चुअल माध्यम में उद्घाटन किया।

  • इन पांच परियोजनाओं की कुल लागत लगभग 124.44 करोड़ रुपये है और मंत्रालय ने इन परियोजनाओं के लिए 28.02 करोड़ रुपये का अनुदान दिया है।
  • इन परियोजनाओं से लगभग 820 लोगों को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिलेगा और जलग्रहण क्षेत्रों के लगभग 7700 किसानों को लाभ होगा।
  • केंद्रीय क्षेत्र की योजना 'प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना' 2016-17 में खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए शुरू की गई थी। इस योजना का प्राथमिक उद्देश्य खाद्य प्रसंस्करण गतिविधियों के क्लस्टर आधारित विकास को बढ़ावा देना है।

पीआईबी न्यूज विज्ञान-प्रौद्योगिकी

भूजल स्रोतों का मानचित्रण


30 अगस्त, 2021 को विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय के अनुसार वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान परिषद (CSIR) द्वारा भूजल स्रोतों का मानचित्रण भूजल का उपयोग पेयजल के रूप में करने में मदद करेगा और इससे प्रधानमंत्री के "हर घर नल से जल" मिशन को और मजबूती मिलेगी।

महत्वपूर्ण तथ्य: CSIR ने 'राष्ट्रीय भू-भौतिकीय अनुसंधान संस्थान' (National Geophysical Research Institute: NGRI) के साथ, भूजल संसाधनों को बढ़ाने के लिए उत्तर पश्चिमी भारत के शुष्क क्षेत्रों में 'उच्च रिजोल्यूशन जलभृत मानचित्रण' (High Resolution Aquifer Mapping) और प्रबंधन का कार्य किया है।

  • उत्तर पश्चिमी भारत में शुष्क क्षेत्र राजस्थान, गुजरात, हरियाणा और पंजाब राज्यों के कुछ हिस्सों में फैले हुए हैं, जो देश के कुल भौगोलिक क्षेत्र का लगभग 12% है।
  • NGRI की हेलिकॉप्टर आधारित भू-भौतिकीय मानचित्रण तकनीक जमीन के नीचे 500 मीटर की गहराई तक उप-सतह की एक उच्च रिजोल्यूशन 3D छवि प्रदान करती है।
  • यह तकनीक किफायती, सटीक है और कम समय में बड़े क्षेत्रों (जिलों/राज्यों) का मानचित्रण करने के लिए उपयोगी है।
  • इसके लिए 1.5 लाख वर्ग किलोमीटर से अधिक क्षेत्र में वर्ष 2025 तक समूचे कार्य को 141 करोड़ रूपये की अनुमानित लागत से साथ पूरा किया जाएगा।

सामयिक खबरें आर्थिकी

आत्मनिर्भर भारत कॉर्नर


ट्राइफेड (TRIFED) विदेश मंत्रालय के सहयोग से अगले 90 दिनों में दुनिया भर में स्थित 75 भारतीय मिशनों / दूतावासों में 'आत्मनिर्भर भारत कार्नर' (Atmanirbhar Bharat corner) स्थापित करेगा।

महत्वपूर्ण तथ्य: 75वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर बैंकॉक, थाईलैंड में भारतीय दूतावास में पहले आत्मनिर्भर भारत कार्नर का सफलतापूर्वक उद्घाटन किया गया।

  • यह कॉर्नर प्राकृतिक एवं जैविक उत्पादों के अलावा ‘जीआई टैग वाले आदिवासी कला और शिल्प उत्पादों’ को बढ़ावा देने के लिए एक विशेष स्थान होगा।
  • इन 75 देशों में जमैका, आयरलैंड, तुर्की, केन्या, मंगोलिया, इजराइल, फिनलैंड, फ्रांस, कनाडा, सिंगापुर, रूस, अमेरिका, इंडोनेशिया, ग्रीस और साइप्रस शामिल हैं।
  • इसके अतिरिक्त, ट्राइफेड भारत में स्थित 75 विदेशी दूतावासों में भी एक आत्मानिर्भर कॉर्नर स्थापित करेगा।
  • भारतीय जनजातीय सहकारी विपणन विकास महासंघ (ट्राईफेड) भारत सरकार के जनजातीय कार्य मंत्रालय के प्रशासनिक नियंत्रण के अधीन एक राष्ट्रीय स्तर का सहकारी निकाय है। इसे 1987 में स्थापित किया गया था। ट्राइफेड का उद्देश्य जनजातीय उत्पादों के विपणन विकास के माध्यम से देश में जनजातीय लोगों का सामाजिक-आर्थिक विकास करना है।

सामयिक खबरें विज्ञान-प्रौद्योगिकी

फुटपाथ इंजीनियरिंग प्रौद्योगिकी और आधुनिक परिवहन प्रणाली में सरकार की मदद करेगा आईआईटी मद्रास


अगस्त 2021 में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT), मद्रास ने फुटपाथ इंजीनियरिंग प्रौद्योगिकी और आधुनिक परिवहन प्रणालियों के क्षेत्रों में अनुसंधान के लिए सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय (MoRTH) के साथ करार किया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: करार के तहत नवीन फुटपाथ सामग्री और प्रौद्योगिकियों, हाइड्रोजन सेल परिवहन, स्वचालित वाहन वर्गीकरण, नयी टोल प्रणाली, घटना प्रबंधन प्रणाली (incident Management system), यात्री सूचना प्रणाली, फास्टटैग डेटा विश्लेषण और परिवहन सुरक्षा के अलावा यातायात सिमुलेशन (traffic simulations) पर अनुसंधान शामिल होगा।

  • अनुसंधान और विकास (R&D), यातायात और राजमार्ग इंजीनियरिंग में शिक्षण और प्रशिक्षण पर ध्यान केंद्रित करने के लिए आईआईटी मद्रास में ‘सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय की पीठ’ (chair) का गठन किया जा रहा है।
  • पीठ के प्रोफेसर मंत्रालय के रणनीतिक सलाहकार के रूप में काम करेंगे।
  • आईआईटी मद्रास संस्थान के मानदंडों के अनुसार आईआईटी मद्रास में पर्यवेक्षकों की सिफारिश पर सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय के अधिकारियों को योग्यतानुसार M.Tech./M.S और छात्रों के पीएच.डी. प्रोजेक्ट के लिए सह-पर्यवेक्षक के रूप में कार्य करने की अनुमति देगा।

सामयिक खबरें पर्यावरण

भारत में तीन नए हीटवेव हॉटस्पॉट


7 सितंबर, 2021 को विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय के अनुसार 'इंटरनेशनल जर्नल ऑफ क्लाइमेटोलॉजी' पत्रिका में प्रकाशित अध्ययन के अनुसार भारत में तीन नए हीटवेव (ग्रीष्म लहर) हॉटस्पॉट ने बड़ी आबादी को तत्काल स्वास्थ्य जोखिम में डाल दिया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: भारत के उत्तर-पश्चिमी, मध्य और उससे आगे दक्षिण-मध्य क्षेत्र पिछली आधी सदी में तीव्र हीटवेव घटनाओं के नए हॉटस्पॉट हैं।

  • हीट वेव असामान्य रूप से उच्च तापमान की अवधि है, जो सामान्य अधिकतम तापमान से अधिक है, जो भारत के उत्तर-पश्चिमी हिस्सों में गर्मी के मौसम के दौरान होती है।
  • शोधकर्ताओं की एक टीम ने पिछले सात दशकों में भारत के विभिन्न मौसम संबंधी उपखंडों में हीटवेव (HW) और गंभीर हीटवेव (SHW) में स्थानिक (spatial) और लौकिक (temporal) प्रवृत्तियों में परिवर्तन का अध्ययन किया।
  • अध्ययन ने पश्चिम बंगाल और बिहार के गंगा के पूर्वी क्षेत्र से उत्तर-पश्चिमी, मध्य और उससे आगे भारत के दक्षिण-मध्य क्षेत्र में हीटवेव घटनाओं के स्थानिक-लौकिक प्रवृत्ति में बदलाव दिखाया।
  • अध्ययन में निवासियों के लिए विभिन्न खतरों पर ध्यान देने के साथ तीन हीटवेव हॉटस्पॉट क्षेत्रों में प्रभावी 'ग्रीष्म कार्रवाई योजना' (heat action plans) विकसित करने की आवश्यकता पर भी प्रकाश डाला गया है।

सामयिक खबरें पर्यावरण

नदियों के अधिकार


फ्रांस के मार्सिले में 8 सितंबर, 2021 को इंटरनेशनल यूनियन फॉर कंजर्वेशन ऑफ नेचर (IUCN) ‘वर्ल्ड कंजर्वेशन कांग्रेस’ में एक्टिविस्ट ने नदियों के अधिकारों के लिए समर्थन किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: नदियों के अधिकारों की सार्वभौम घोषणा के औपचारिक शुभारंभ के लगभग एक वर्ष बाद संयुक्त राज्य अमेरिका में ‘बोल्डर क्रीक वाटरशेड’ (Boulder Creek watershed), कनाडा में ‘मैगपाई नदी’, अमेरिका में ऑरेंज काउंटी में जलमार्ग, इक्वाडोर में ‘अल्पायकु नदी’ और अर्जेंटीना मे ‘पराना नदी’ और इसके आर्द्रभूमि के अधिकारों को मान्यता दी गई है।

  • नदियों के अधिकारों की सार्वभौम घोषणा एक नागरिक समाज की पहल है, जो उन बुनियादी अधिकारों को परिभाषित करती है जिनके लिए सभी नदियां हकदार हैं। घोषणा के अनुसार (i) सभी नदियों को मौलिक अधिकार प्राप्त हो; (ii) सभी नदियाँ जीवित इकाई हों; (iii) सभी नदी कानूनी अभिभावकों की हकदार होंगी।
  • नदी को केवल मानव संपत्ति के बजाय जीवित इकाई के रूप में मान्यता देने का अधिकार 2008 में शुरू हुआ। उस वर्ष, इक्वाडोर संवैधानिक रूप से प्रकृति के अधिकारों को मान्यता देने वाला पहला देश बना।
  • 2017 में, व्हांगनुई इवी (एक माओरी जनजाति) और न्यूजीलैंड सरकार के बीच एक संधि समझौते ने ‘व्हांगनुई नदी’ (Whanganui river) को जीवित व्यक्ति के रूप में कानूनी अधिकार की मान्यता दी।
  • उत्तराखंड में हाई कोर्ट ने गंगा और यमुना नदियों को जीवित व्यक्ति के रूप में कानूनी अधिकार की मान्यता दी। बाद में इस पर रोक लगा दी गई।
  • बांधों के कारण 1,000 किमी से अधिक लंबी केवल 37% नदियाँ ही अभी विमुक्त होकर प्रवाहित होती हैं।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप समझौते/संधि

नीति आयोग और गुजरात विश्वविद्यालय के बीच आशय पत्र पर हस्ताक्षर


कृषि में सहयोग को बढ़ावा देने के लिए नीति आयोग और गुजरात विश्वविद्यालय के बीच 7 सितंबर, 2021 को एक आशय पत्र (Statement of Intent: SoI) पर हस्ताक्षर किए गए।

उद्देश्य: कृषि और संबद्ध क्षेत्रों में सहयोग को प्रोत्साहित करना और बढ़ावा देना।

  • आशय पत्र भारत में ‘ज्ञान-साझाकरण’ और ‘नीति विकास’ को मजबूत करने के लिए दो संस्थानों के बीच तकनीकी सहयोग पर केंद्रित है।
  • ‘कृषि उद्यमिता’ और ‘मूल्य शृंखला प्रबंधन’ में एक एमबीए कार्यक्रम भी शुरू किया गया है, जिसे गुजरात विश्वविद्यालय के ‘इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ सस्टेनेबिलिटी’ द्वारा पेश किया गया है।
  • विशिष्ट रूप से डिजाइन किया गया यह एमबीए कार्यक्रम, कृषि पारिस्थितिकी तंत्र को समझने में छात्रों को वैश्विक अनुभव प्रदान करेगा।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप वेब पोर्टल/ऐप

'प्राण' पोर्टल


केंद्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री, भूपेंद्र यादव ने राष्ट्रीय स्वच्छ वायु कार्यक्रम (NCAP) के तहत गैर-प्राप्ति शहरों में वायु प्रदूषण के नियमन के लिए 'प्राण' (Portal for Regulation of Air-pollution in Non-Attainment cities: PRANA) नामक एक पोर्टल का शुभारंभ किया।

  • गैर-प्राप्ति वाले शहर (Non-Attainment cities) वे शहर हैं, जो 5 साल की अवधि में राष्ट्रीय वायु गुणवत्ता मानकों को पूरा करने में विफल रहे।
  • पोर्टल (prana.cpcb.gov.in) शहर की वायु कार्य योजना के कार्यान्वयन की भौतिक और वित्तीय स्थिति पर नजर रखने और जनता को वायु गुणवत्ता पर सूचना प्रदान करने में सहायता करेगा।
  • पर्यावरण मंत्रालय और केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड वर्ष 2019 से देश में राष्ट्रीय स्वच्छ वायु कार्यक्रम (NCAP) को लागू कर रहे हैं, जिसमें 2024 तक देश भर में पार्टिकुलेट मैटर (पीएम 10 और पीएम 2.5) सांद्रता में 20 से 30 प्रतिशत की कमी हासिल करने का लक्ष्य है।
  • शहर के विशिष्ट वायु प्रदूषण स्रोतों को लक्षित करने वाले 132 गैर-प्राप्ति शहरों / दस लाख से अधिक की जनसंख्या वाले शहरों के लिए वायु गुणवत्ता में सुधार के लिए शहर-विशिष्ट कार्य योजनाएं तैयार की गई हैं, जो पहले से ही लागू की जा रही हैं।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

विश्व नारियल दिवस (2 सितंबर)


2021 का विषय: 'कोविड-19 महामारी के बीच और उसके उपरांत एक सुरक्षित, समावेशी, सुदृढ़ और स्थायी नारियल समुदाय का निर्माण' (Building a safe, inclusive resilient and sustainable coconut community amid COVID-19 pandemic and beyond)

महत्वपूर्ण तथ्य: इस दिवस को मनाने का उद्देश्य दुनिया भर में नारियल के स्वास्थ्य लाभ, इसके उपयोग और इसके बारे में जागरूकता पैदा करना।

  • ‘विश्व नारियल दिवस’ संयुक्त राष्ट्र आर्थिक और सामाजिक आयोग एशिया और प्रशांत (UN-ESCAP) के तत्वावधान में नारियल उत्पादक देशों के एक अंतर-सरकारी संगठन 'अंतरराष्ट्रीय नारियल समुदाय' के स्थापना दिवस के उपलक्ष्य में मनाया जाता है। 'अंतरराष्ट्रीय नारियल समुदाय' की स्थापना 1969 में की गई थी। इसका सचिवालय जकार्ता, इंडोनेशिया में है।
  • 2020-21 के दौरान भारत में नारियल का उत्पादन 21207 मिलियन नट्स रहा, जो वैश्विक उत्पादन का 34% है।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

पूर्वोत्तर क्षेत्र विद्युत प्रणाली सुधार परियोजना


केंद्रीय वित्त और कॉर्पोरेट मामलों की मंत्री निर्मला सीतारमण ने 27 अगस्त, 2021 को त्रिपुरा में नवनिर्मित 132/33/11 किलोवाट के मोहनपुर सब-स्टेशन का उद्घाटन किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: त्रिपुरा के लिए इस सब-स्टेशन का निर्माण पावर ग्रिड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (पावरग्रिड) द्वारा 'पूर्वोत्तर क्षेत्र विद्युत प्रणाली सुधार परियोजना' (North Eastern Region Power System Improvement Project: NERPSIP) के तहत किया गया है।

  • पावरग्रिड विद्युत मंत्रालय, भारत सरकार के तहत एक महारत्न केन्द्रीय सार्वजनिक उपक्रम (CPSU) है।
  • NERPSIP भारत सरकार के विद्युत मंत्रालय की एक केंद्रीय क्षेत्र की योजना योजना है, जिसकी परिकल्पना देश के पूर्वोत्तर के आर्थिक विकास को बढ़ावा देने के लिए की गई है।
  • NERPSIP छ: लाभार्थी पूर्वोत्तर राज्यों असम, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड और त्रिपुरा के लिए पावरग्रिड के माध्यम से कार्यान्वित की जा रही है।
  • परियोजना का मुख्य उद्देश्य पूर्वोत्तर क्षेत्र के समग्र आर्थिक विकास के लिए भारत सरकार की प्रतिबद्धता और पूर्वोत्तर क्षेत्र में अंतर-राज्यीय पारेषण (ट्रांसमिशन) और वितरण बुनियादी ढांचे को मजबूत करना है।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

पोषण वाटिका


आयुष मंत्रालय और महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने संयुक्त रूप से 7 सितंबर, 2021 को कुपोषण उन्मूलन के लिए 'पोषण वाटिका' के महत्व पर एक वेबिनार का आयोजन किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: पोषण अभियान का उद्देश्य कुपोषण की समस्या से निपटने के लिए विभिन्न मंत्रालयों के बीच अभिसरण (convergence) को प्रोत्साहित करना है।

  • पोषण वाटिका के तहत पौष्टिक और जड़ी-बूटियों के पौधारोपण से बाहरी निर्भरता कम होगी और समुदायों को उनकी पोषण सुरक्षा के लिए आत्मानिर्भर बनाया जाएगा।
  • आयुष मंत्रालय पोषण वाटिका की स्थापना के अभियान को आगे बढ़ाने के लिए 3,000 आंगनबाड़ियों के साथ सहयोग करेगा।
  • महिलाओं और बच्चों में कुपोषण की समस्याओं से निपटने के लिए सहजन (मोरिंगा), अमरूद, केला और तुलसी जैसे पौधे पोषण वाटिका में लगाए जायेंगे।
  • इससे गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं और बच्चों के लिए पौष्टिक भोजन और औषधीय पौधों की आसान उपलब्धता सुनिश्चित की जाएगी।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

सुगम्य शिक्षा के लिए नई पहल


7 सितंबर, 2021 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो-कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से 'शिक्षक पर्व' के उद्घाटन सम्मेलन के दौरान शिक्षकों और छात्रों को संबोधित किया और सुगम्य शिक्षा के लिए पांच नई पहल की शुरुआत की।

महत्वपूर्ण तथ्य: शिक्षा मंत्रालय शिक्षकों के बहुमूल्य योगदान को मान्यता देने और राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP) 2020 को एक कदम आगे ले जाने के लिए 5 से 17 सितंबर , 2021 तक शिक्षक पर्व मना रहा है।

  • प्रधानमंत्री ने इस अवसर पर पांच पहलों की शुरुआत की, जिनमें 10,000 शब्दों का ‘भारतीय सांकेतिक भाषा शब्दकोश’, बोलने वाली किताबें (दृष्टिहीनों के लिए ऑडियोबुक), सीबीएसई का ‘स्कूल गुणवत्ता मूल्यांकन और प्रत्यायन ढांचा’ (School Quality Assessment and Accreditation Framework: SQAAF), 'निपुण भारत' के लिए 'निष्ठा' शिक्षक प्रशिक्षण कार्यक्रम तथा स्कूल के विकास के लिए शिक्षा स्वयंसेवकों, दानदाताओं और सीएसआर योगदानकर्ताओं की सुविधा के लिए 'विद्यांजलि पोर्टल' शामिल हैं।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

चीन का नया ऑनलाइन निजता कानून


चीन ने 20 अगस्त, 2021 को व्यावसायिक कम्पनियों को संवेदनशील निजी डेटा एकत्र करने से रोकने के उद्देश्य से एक व्यापक निजता कानून पारित किया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: ज्ञात हो कि चीन इंटरनेट घोटालों, प्रकटीकरण (leaks) और कई प्रौद्योगिकी दिग्गज कम्पनियों द्वारा ग्राहकों की निजी जानकारी के दुरुपयोग की चिंताओं का सामना कर रहा है।

  • नए नियमों के तहत, निजी जानकारी का प्रबंधन करने वाली सरकारी और निजी कंपनियों को डेटा संग्रह को कम करने और उपयोगकर्ता की सहमति प्राप्त करने की आवश्यकता होगी।
  • यह कंपनियों को ग्राहकों के खरीदारी इतिहास के आधार पर एक ही सेवा के लिए अलग-अलग मूल्य निर्धारित करने से रोकेगा।
  • अनुपालन करने में विफल रहने वाली कंपनियों पर 50 मिलियन युआन ( लगभग 7.6 मिलियन डॉलर) या कंपनी के वार्षिक कारोबार का 5% तक का जुर्माना लग सकता है।
  • गंभीर उल्लंघनकर्ता का व्यवसाय लाइसेंस जब्त किया जा सकता या व्यवसाय बंद किया जा सकता है।
  • यह कानून दुनिया के सबसे सख्त ऑनलाइन निजता सुरक्षा कानूनों में से एक यूरोपीय संघ के 'सामान्य डेटा संरक्षण विनियमन' के आधार पर तैयार किया गया है।

सामयिक खबरें विज्ञान-प्रौद्योगिकी

बीसीजी वैक्सीन के 100 साल


मनुष्यों में तपेदिक (टीबी) के खिलाफ टीके बीसीजी यानी ‘बैसिलस कैलमेट-ग्यूरिन’ (Bacillus Calmette-Guerin) के पहली बार प्रयोग के सौ वर्ष पूरे हो गए हैं।

महत्वपूर्ण तथ्य: बीसीजी को दो फ्रांसीसी, अल्बर्ट कैलमेट (Albert Calmette) और केमिली ग्यूरिन (Camille Guerin) द्वारा विकसित किया गया था। मनुष्यों में इसका प्रयोग पहली बार 1921 में किया गया था।

  • वर्तमान में, बीसीजी टीबी की रोकथाम के लिए उपलब्ध एकमात्र लाइसेंस प्राप्त टीका है।
  • बीसीजी टीबी के गंभीर रूपों के खिलाफ मजबूत सुरक्षा प्रदान करता है। यह किशोरों और वयस्कों में 0-80% तक प्रभावी है।
  • बीसीजी नवजात शिशुओं के श्वसन और जीवाणु संक्रमण, कुष्ठ और बुरुली अल्सर (Buruli’s ulcer) जैसे अन्य माइकोबैक्टीरियल रोगों से भी बचाता है।
  • भारत में, बीसीजी को पहली बार 1948 में सीमित पैमाने पर पेश किया गया था और यह 1962 में 'राष्ट्रीय टीबी नियंत्रण कार्यक्रम' का एक हिस्सा बन गया। भारत ने 2025 तक एक सार्वजनिक स्वास्थ्य समस्या के रूप में टीबी को खत्म करने के लिए प्रतिबद्धता की है।
  • टीबी 'माइकोबैक्टीरियम ट्यूबरकुलोसिस' (Mycobacterium tuberculosis) नामक जीवाणु के कारण होता है, जो लगभग 200 सदस्यों वाले ‘माइकोबैक्टीरियासी’ (Mycobacteriaceae) परिवार से संबंधित है।
  • विश्व स्वास्थ्य संगठन की ‘वैश्विक तपेदिक (टीबी) रिपोर्ट के अनुसार, 2019 में 10 मिलियन लोग टीबी से ग्रसित थे, जिनमें 1.4 मिलियन लोगों की मौत हुई। भारत में इन मामलों की संख्या वैश्विक मामलों की 27% थी।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप अभियान/सम्मेलन/आयोजन

मंथन 2021


‘पुलिस अनुसंधान एवं विकास ब्यूरो’ और ‘अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद’ ने 26 अगस्त, 2021 को नेशनल मीडिया सेंटर में 'मंथन 2021' का शुभारम्भ किया।

  • 'मंथन 2021' हमारी खुफिया एजेंसियों के सामने 21वीं सदी की सुरक्षा चुनौतियों का समाधान करने के लिए नवीन अवधारणाओं और प्रौद्योगिकी समाधानों की खोज करने के लिए एक विशिष्ट राष्ट्रीय हैकथॉन पहल है।
  • 28 नवंबर से 1 दिसंबर, 2021 तक होने वाली 36 घंटों की इस ऑनलाइन हैकाथन में देश भर के शैक्षणिक संस्थानों से चुने गए युवा और पंजीकृत स्टार्टअप्स भाग लेंगे।
  • मंथन मूल रूप से 6 विषय वस्तुओं पर केंद्रित है- छवि और वीडियो विश्लेषिकी (Image and Video Analytics), भावनाओं का विश्लेषण (Sentiment Analysis), नेचुरल लैंग्वेज प्रोसेसिंग (Natural Lang. Processing), डेटा विश्लेषण (Data Analytics), फेक कंटेंट की पहचान (Fake Content Detection) और साइबर अपराध (Cybercrime)।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप अभियान/सम्मेलन/आयोजन

'आयुष आपके द्वार' अभियान


केंद्रीय मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने 3 सितंबर, 2021 को मुंबई से 'आयुष आपके द्वार' अभियान की शुरुआत की।

  • आयुष मंत्रालय ने देश भर में 45 से अधिक स्थानों से ‘आयुष आपके द्वार’ अभियान शुरू किया है।
  • अभियान का उद्देश्य एक वर्ष में 75 लाख घरों में पौधारोपण के लिए औषधीय पौधे वितरित करना है।
  • इन औषधीय पौधों में तेजपत्ता, स्टीविया (Stevia), अशोक, गिलोय, अश्वगंधा, लेमनग्रास, तुलसी, सर्पगंधा और आंवला शामिल हैं।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप समझौते/संधि

अखिल भारतीय आयुर्वेद संस्थान और वेस्टर्न सिडनी यूनिवर्सिटी के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर


आयुष मंत्रालय के तहत अखिल भारतीय आयुर्वेद संस्थान ने आयुर्वेद में एक अकादमिक पीठ (Academic Chair) की स्थापना के लिए 7 सितंबर, 2021 को वर्चुअल मोड में 'एनआईसीएम वेस्टर्न सिडनी यूनिवर्सिटी' (NICM Western Sydney University), ऑस्ट्रेलिया के साथ समन्वय में एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए।

  • नई अकादमिक पीठ ‘हर्बल औषधि’ तथा ‘योग’ सहित, आयुर्वेद के क्षेत्र में अकादमिक और संबद्ध अनुसंधान गतिविधियों को शुरू करने के साथ-साथ ‘शैक्षिक मानदंडों’ और अल्पकालिक/मध्यकालिक पाठ्यक्रमों तथा शैक्षिक मार्गनिर्देशों की रूपरेखा तैयार करेगा।
  • इस अकादमिक पीठ की स्थापना के लिए आयुष मंत्रालय और वेस्टर्न सिडनी यूनिवर्सिटी द्वारा संयुक्त रूप से वित्तपोषण किया जाएगा और 2022 के प्रारंभ में इसके शुरू होने का अनुमान है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

चौथा राष्ट्रीय पोषण माह (सितंबर)


2021 का विषय: महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने चार साप्ताहिक विषय के साथ पूरे महीने में गतिविधियों की एक शृंखला की योजना बनाई है।

  • वृक्षारोपण गतिविधि ‘पोषण वाटिका’ (1 से 7 सितंबर तक), पोषण के लिए योग और आयुष (8 से 15 सितंबर तक), अधिक बोझ वाले जिलों के आंगनवाड़ी लाभार्थियों को ‘क्षेत्रीय पोषण किट’ (16 से 23 सितंबर तक) तथा ‘गंभीर रूप से तीव्र कुपोषित बच्चों की पहचान और पौष्टिक भोजन का वितरण’ (24 से 30 सितंबर तक)।

महत्वपूर्ण तथ्य: हर साल सितंबर माह को ‘पोषण माह’ के रूप में मनाया जाता है। पोषण अभियान बच्चों, किशोरियों, गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं के लिए पोषण संबंधी परिणामों में सुधार के लिए भारत सरकार का प्रमुख कार्यक्रम है।

  • 8 मार्च, 2018 को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर राजस्थान के झुंझुनू से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा ‘पोषण’ (Prime Minister’s Overarching Scheme for Holistic Nutrition: POSHAN) अभियान शुरू किया गया था।
  • पोषण माह का उद्देश्य जन भागीदारी को प्रोत्साहित करना है, ताकि बच्चों, किशारियों और महिलाओं के बीच कुपोषण को दूर किया जा सके।

खेल समाचार चर्चित खेल व्यक्तित्व

स्टुअर्ट बिन्नी का क्रिकेट से संन्यास


भारत के हरफनमौला क्रिकेटर स्टुअर्ट बिन्नी ने 30 अगस्त, 2021 को खेल के सभी प्रारूपों से संन्यास की घोषणा की।

  • पूर्व भारतीय क्रिकेटर रोजर बिन्नी के पुत्र स्टुअर्ट बिन्नी ने भारत के लिए 6 टेस्ट, 14 एकदिवसीय और 3 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले।
  • बिन्नी ने 2014 में बांग्लादेश के खिलाफ दूसरे एकदिवसीय मैच में 4 रन देकर 6 विकेट लिए थे, जो एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में किसी भारतीय क्रिकेटर का सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी प्रदर्शन है।

संक्षिप्त खबरें इन्हें भी जानें

सुखेत मॉडल


29 अगस्त, 2021 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने "मन की बात" कार्यक्रम में मधुबनी जिले के 'सुखेत मॉडल' (Sukhet model) की प्रशंसा की।

  • सुखेत मॉडल का नाम बिहार के मधुबनी जिले के 'सुखेत गाँव' के नाम पर रखा गया है, जहाँ इसे डॉ. राजेंद्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय, पूसा (समस्तीपुर) के वैज्ञानिकों द्वारा लागू किया जा रहा है।
  • इस परियोजना के तहत, कचरा और गोबर को घर-घर जाकर एकत्र किया जाता है, और फिर इसे वर्मीकम्पोस्ट (जैविक खाद) में बदल दिया जाता है।
  • जैविक खाद की बिक्री से होने वाली आय से हर परिवार को हर दो महीने में कचरे और गाय के गोबर के बदले एलपीजी सिलेंडर उपलब्ध कराया जाता है।
  • सुखेत मॉडल न सिर्फ ‘स्वच्छता’ को बढ़ावा दे रहा है, बल्कि गांव में ‘प्रदूषण से मुक्ति’ दिलाने के साथ ही किसानों को ‘जैविक खाद’ भी उपलब्ध करा रहा है।
  • इस परियोजना से सुखेत गांव में 14 से 15 लोगों को रोजगार भी मिलता है।

संक्षिप्त खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

NABFID को वित्तीय सेवा विभाग के अधीन लाया गया


राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अगस्त 2021 में 'नेशनल बैंक फॉर फाइनेंसिंग इंफ्रास्ट्रक्चर एंड डेवलपमेंट' (National Bank for Financing Infrastructure and Development- NABFID) को प्रशासनिक उद्देश्यों के लिए वित्त मंत्रालय में वित्तीय सेवा विभाग के अधीन लाने को मंजूरी दी।

  • NABFID अधिनियम मार्च में संसद द्वारा अधिनियमित किया गया था।
  • इसके साथ ही एक नया विकास वित्तीय संस्थान अस्तित्व में आएगा। इसके विकासात्मक और वित्तीय दोनों उद्देश्य होंगे।
  • यह भारत में दीर्घअवधि के बुनियादी ढांचे के वित्तपोषण के लिए अंतरराष्ट्रीय मानकों का एक गहन और तरल बांड बाजार विकसित करेगा।

संक्षिप्त खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

कर्नाटक विकास ग्रामीण बैंक ने लॉन्च किया FRUITS पोर्टल


कर्नाटक सरकार के सहयोग से धारवाड़-मुख्यालय वाले कर्नाटक विकास ग्रामीण बैंक (KVGB) नेअगस्त 2021 में 'किसान पंजीकरण और एकीकृत लाभार्थी सूचना प्रणाली' (Farmer Registration and Unified Beneficiary Information System: FRUITS) पोर्टल लॉन्च किया है।

  • FRUITS पोर्टल देश में अपनी तरह का पहला पोर्टल है, जहां राज्य के सभी किसानों की भूमि और अन्य विवरणों को सहेजा जा रहा है।
  • कर्नाटक सरकार की इस नवीनतम पहल में, सभी किसानों को पंजीकृत किया जाएगा और उन्हें एक FRUITS ID नंबर दिया जाएगा।
  • इस नंबर का उपयोग करके, वित्तीय और ऋण प्रदाता संस्थाएं किसानों की भूमि के विवरण के साथ-साथ उनकी ऋण संबंधी जानकारी एक्सेस कर सकती हैं।
  • कर्नाटक विकास ग्रामीण बैंक के अध्यक्ष पी गोपी कृष्ण हैं।

संक्षिप्त खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

कोटक महिंद्रा बैंक ने लॉन्च किया 'डू-इट-योरसेल्फ रीपेमेंट प्लेटफॉर्म'


निजी क्षेत्र के ऋणदाता 'कोटक महिंद्रा बैंक' ने अगस्त 2021 में एक फिनटेक कंपनी 'क्रेडिटस सॉल्यूशंस' (Creditas Solutions) के साथ साझेदारी में छूटे हुए ऋण चुकौती के लिए एक 'डू-इट-योरसेल्फ रीपेमेंट प्लेटफॉर्म' (do-it-yourself repayment platform) लॉन्च किया है।

  • आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) और मशीन लर्निंग (एमएल) द्वारा संचालित, यह प्लेटफॉर्म एक व्यक्तिगत अनुभव प्रदान करेगा, जिससे ग्राहक सहज पुनर्भुगतान प्लेटफॉर्म के माध्यम से अपने बकाया का प्रबंधन अपने दम पर कर सकेंगे।

संक्षिप्त खबरें बिजनेस और सार्वजनिक उपक्रम

रिलायंस रिटेल कंज्यूमर ब्रांड्स ने लॉन्च किया 'प्यूरिक इंस्टासेफ'


रिलायंस रिटेल कंज्यूमर ब्रांड्स ने अगस्त 2021 में कोविड के बाद की दुनिया में उपभोक्ताओं के लिए सुरक्षा के समाधान हेतु डिजाइन किए गए व्यक्तिगत स्वच्छता और घरेलू कीटाणुशोधन उत्पादों का एक ब्रांड, 'प्यूरिक इंस्टासेफ' (Puric InstaSafe) लॉन्च किया है।

  • उत्पाद नीम, कपूर, हल्दी, और सक्रिय चूने जैसे प्राकृतिक अवयवों से समृद्ध है और वायरस और बैक्टीरिया पर हमला करने के लिए एक अद्वितीय 'इंस्टेंट एक्शन फॉर्मूला' (instant action formula) है।

संक्षिप्त खबरें इन्हें भी जानें

पंजशीर घाटी


तालिबान का पंजशीर को छोड़कर लगभग पूरे अफगानिस्तान पर नियंत्रण हो गया है। देश के उत्तर-पूर्व में स्थित प्रांत में, अहमद शाह मसूद ('पंजशीर का शेर' के नाम से प्रसिद्ध) का 32 वर्षीय बेटा अहमद मसूद तालिबान के खिलाफ नए प्रतिरोध का नेतृत्व कर रहा है।

  • काबुल से 150 किमी. उत्तर में स्थित, पंजशीर घाटी हिंदू कुश पर्वत शृंखला के पास है। इसे पंजशीर नदी विभाजित करती है और यह उत्तर में पंजशीर की पहाड़ियों और दक्षिण में कुहेस्तान की पहाड़ियों से घिरा है। पहाड़ की चोटियाँ साल भर बर्फ से ढकी रहती हैं।
  • इस घाटी का दुर्गम इलाका आक्रमणकारियों के लिए चुनौतीपूर्ण है।
  • पहले पंजशीर परवान प्रांत का हिस्सा था। 2004 में, घाटी और आसपास का क्षेत्र एक स्वतंत्र प्रांत बन गया।
  • पंजशीर में लगभग 1,50,000 लोग रह रहे हैं, जिनमें से अधिकांश ताजिक मूल के हैं।

संक्षिप्त खबरें इन्हें भी जानें

किलाऊआ ज्वालामुखी


हाल के दिनों में हवाई में किलाऊआ ज्वालामुखी (Kilauea volcano) के शिखर पर जमीन गड़गड़ाहट कर रही है, जिससे वैज्ञानिकों ने चेतावनी दी है कि ज्वालामुखी एक बार फिर लावा का उद्गार कर सकता है।

  • यह किलाउआ ज्वालामुखी, बड़े हवाई द्वीप पर 'हवाई ज्वालामुखी राष्ट्रीय उद्यान' (Hawaii Volcanoes National Park) के भीतर एक निर्जन क्षेत्र है।
  • यह होनोलूलू से लगभग 200 मील दक्षिण-पूर्व में है, जो 'ओहू' (Oahu) नामक एक अलग द्वीप पर है।
  • दुनिया के सबसे सक्रिय ज्वालामुखी में से एक किलऊआ, ने अतीत में बिना किसी मैग्मा के सतह को तोड़े बिना इसी तरह का व्यवहार किया है।
  • आखिरी बार किलाउआ के काल्डेरा या क्रेटर के दक्षिणी भाग में 1974 में विस्फोट हुआ था। 1952 से अब तक 34 बार किलाऊआ में विस्फोट हुआ है। 1983 से 2018 तक, यह लगभग लगातार विस्फोट करता रहा, कुछ मामलों में इससे खेतों और घरों को ढकने वाला लावा निकला।

सामयिक खबरें आर्थिकी

आरबीआई की 'प्रिज्म' स्थापना की योजना


अगस्त 2021 में आरबीआई ने 'प्रिज्म' (PRISM) की स्थापना की अपनी योजना के बारे में खुलासा किया।

  • महत्वपूर्ण तथ्य: प्रिज्म का अर्थ है 'एकीकृत पर्यवेक्षण और निगरानी के लिए विनियमित संस्थाओं के लिए प्लेटफॉर्म' (Platform for Regulated Entities for Integrated Supervision and Monitoring: PRISM)।
  • प्रिज्म का उद्देश्य पर्यवेक्षित संस्थाओं को उनकी आंतरिक सुरक्षा और लचीलापन को मजबूत करना और मूल कारण विश्लेषण (Root Cause Analysis- RCA) पर ध्यान केंद्रित करने में मदद करना है।
  • PRISM में टाइम ट्रैकिंग, नोटिफिकेशन, अलर्ट, प्रबंधन सूचना प्रणाली (MIS) रिपोर्ट और डैशबोर्ड के साथ विभिन्न सुविधाएँ (निरीक्षण; अनुपालन; साइबर सुरक्षा के लिए सुविधा और शिकायत आदि) होंगी।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप निधन

प्रख्यात बंगाली लेखक बुद्धदेव गुहा का निधन


  • प्रख्यात बंगाली लेखक बुद्धदेव गुहा का 28 अगस्त को निधन हो गया। वे 85 वर्ष के थे।
  • उनके उपन्यासों और लघु कथाओं को आलोचकों द्वारा अत्यधिक प्रशंसित किया गया है।
  • उन्हें 1976 में आनंद पुरस्कार, शिरोमन पुरस्कार और शरत पुरस्कार सहित कई
  • अन्य पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।
  • उनकी महत्वपूर्ण कृतियों में 'मधुकरी' (शहद इकट्ठा करने वाला) के अलावा 'कोलेर कच्छे' (कोयल पक्षी के पास) और 'सोबिनॉय निबेदोन ' (विनम्र भेंट) शामिल हैं।
  • एक पुरस्कार विजेता बंगाली फिल्म 'डिक्शनरी' उनकी दो रचनाओं 'बाबा होवा' (पिता होने के नाते) और 'स्वामी होवा' (पति होने के नाते) पर आधारित थी।

संक्षिप्त खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

पेटीएम और एचडीएफसी बैंक ने की रणनीतिक साझेदारी


देश के सबसे बड़े भुगतान प्लेटफॉर्म ‘पेटीएम' और निजी क्षेत्र के सबसे बड़े बैंक 'एचडीएफसी बैंक' ने रणनीतिक साझेदारी की है।

  • यह दोनों साझेदारी में बैंकिंग, ऋण और डिजिटल भुगतान क्षेत्र में अपनी क्षमता के संयोजन से देश में वित्तीय परिवर्तन के लिए अभिनव डिजिटल समाधान प्रस्तुत करेंगे।
  • एचडीएफसी बैंक के नेटवर्क, उत्पादों और क्रेडिट मूल्यांकन क्षमताओं और पेटीएम के तकनीकी प्लेटफॉर्म का संयोजन अर्द्ध-शहरी और ग्रामीण भारत में डिजिटल परिवर्तन को गति देगा और अधिक लोगों को औपचारिक बैंकिंग चैनल में शामिल करेगा।

संक्षिप्त खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

क्रेड ने लॉन्च किया 'क्रेड मिंट'


फिनटेक प्लेटफॉर्म क्रेड (CRED) ने 20 अगस्त, 2021 को 'क्रेड मिंट' (CRED Mint) नाम से एक नया 'पीयर-टू-पीयर लेंडिंग फीचर' (peer-to-peer lending feature) लॉन्च करने की घोषणा की।

  • 'क्रेड मिंट' क्रेड प्लेटफॉर्म का पहला समुदाय-संचालित उत्पाद है, जो सदस्यों को अन्य विश्वासपात्र सदस्यों को उधार देकर निष्क्रिय पड़े धन पर ब्याज अर्जित करने में सक्षम बनाता है।
  • उत्पाद को RBI द्वारा पंजीकृत पीयर-टू-पीयर NBFC, 'लिक्वीलोन्स' (Liquiloans) के साथ साझेदारी में लॉन्च किया जा रहा है।
  • 'क्रेड मिंट' में भाग लेने वाले सदस्य प्रति वर्ष 9% तक की ब्याज दरों को अर्जित कर सकते हैं।

संक्षिप्त खबरें बिजनेस और सार्वजनिक उपक्रम

अमेजन इंडिया ने शुरू किया कारीगर मेला


ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म अमेजन इंडिया ने 30 अगस्त, 2021 को ट्राइब्स इंडिया के साथ साझेदारी में कारीगर मेला शुरू करने की घोषणा की।

  • अमेजन इंडिया पारंपरिक आदिवासी और स्थानीय भारतीय हस्तशिल्प के लिए एक समर्पित स्टोरफ्रंट की सुविधा प्रदान करेगा।
  • इस पहल के हिस्से के रूप में, ग्राहक 1.2 लाख से अधिक अद्वितीय पारंपरिक आदिवासी और स्थानीय भारतीय हस्तशिल्प और हथकरघा उत्पादों तक पहुंच और खरीदारी करने में सक्षम होंगे।
  • कारीगर मेला पहल के हिस्से के रूप में, कारीगर विक्रेताओं को 30 अगस्त से 12 सितंबर तक दो सप्ताह के लिए अमेजन पर 100% बिक्री पर शुल्क छूट का भी लाभ मिलेगा।

संक्षिप्त खबरें इन्हें भी जानें

भारत में कैबिनेट मंत्री को गिरफ्तार करने की प्रक्रिया


यदि संसद का सत्र नहीं चल रहा है, तो एक कैबिनेट मंत्री को उसके खिलाफ दर्ज आपराधिक मामला होने पर कानून प्रवर्तन एजेंसी द्वारा गिरफ्तार किया जा सकता है।

  • राज्य सभा की प्रक्रिया और कार्य संचालन के नियमों की धारा 22 ए के अनुसार, पुलिस, न्यायाधीश या मजिस्ट्रेट को, राज्य सभा के सभापति को गिरफ्तारी के कारण, हिरासत के स्थान या उचित रूप में कारावास के बारे में सूचित करना होगा।
  • दीवानी प्रक्रिया संहिता की धारा 135 के अनुसार, संसद के मुख्य विशेषाधिकारों के अनुसार, दीवानी मामलों में, उन्हें सदन के जारी रहने के दौरान और इसके शुरू होने के 40 दिन पहले और इसके समापन के 40 दिन बाद गिरफ्तारी से छूट है।
  • गिरफ्तारी से छूट का विशेषाधिकार आपराधिक मामलों या निवारक नजरबंदी के तहत नजरबंदी के मामलों के लिए नहीं है।

संक्षिप्त खबरें इन्हें भी जानें

स्कूल बबल


कर्नाटक सरकार द्वारा गठित कोविड -19 तकनीकी सलाहकार समिति ने ऑफलाइन कक्षाओं में भाग लेने वाले बच्चों (18 वर्ष से कम आयु के) में बीमारी के प्रसार को कम करने के लिए 'स्कूल बबल' (school bubble) अवधारणा का प्रस्ताव दिया है।

  • स्कूल बबल छात्रों की एक छोटी संख्या वाले समूहों के बीच किया गया वर्गीकरण हैं।
  • अवधारणा के अनुसार, इस तरह के प्रत्येक बबल में वे छात्र शामिल होंगे, जो पूरे सत्र या एक शैक्षणिक वर्ष के दौरान स्कूल समय में एक समूह में साथ रहेंगे। यदि उनमें से एक संक्रमित हो जाता है, तो उस समूह के अन्य बच्चे आइसोलेट हो सकते हैं, लेकिन स्कूल को पूरी तरह से बंद करने की आवश्यकता नहीं है।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

राष्ट्रीय लघु उद्योग दिवस


भारत सरकार ने देश में छोटे व्यवसायों का समर्थन करने के लिए 30 अगस्त, 2000 को लघु उद्योग के लिए एक व्यापक नीति पैकेज पेश किया था। भारत के विकास में लघु उद्योग के योगदान के उपलक्ष्य में तब से हर साल 30 अगस्त को छोटे उद्यमों को समर्पित ‘राष्ट्रीय लघु उद्योग दिवस’ मनाया जाता है।

  • एमएसएमई मंत्रालय द्वारा शुरू किए गए कुछ प्रमुख सुधार इस प्रकार हैं-

एमएसएमई परिभाषा में संशोधन: देश में एमएसएमई को सक्रिय करने पर भारत सरकार की उच्च प्राथमिकता के अनुरूप, भारत सरकार ने 1 जून, 2020 को आत्मनिर्भर भारत पैकेज के तहत इसकी मजबूती को आगे बढ़ाने के लिए एमएसएमई परिभाषा में संशोधन की मंजूरी दी। सरकार ने निवेश और वार्षिक व्यापार, दोनों के संयुक्त मानदंड को सम्मिलित करके एमएसएमई वर्गीकरण को संशोधित किया।

उद्यम पंजीकरण: उद्यम पंजीकरण दाखिल करने की एक ऑनलाइन और सरलीकृत प्रक्रिया है, जो एमएसएमई को बिना किसी दस्तावेज व शुल्क के पंजीकरण प्राप्त करने में सक्षम बनाती है।

चैंपियन्स पोर्टल: यह एक सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी आधारित प्रौद्योगिकी प्रणाली है, जिसका उद्देश्य छोटी इकाइयों को उनकी शिकायतों का समाधान करके, प्रोत्साहित करके, समर्थन करके, सहायता करके और पूरे व्यावसायिक जीवनचक्र के दौरान संभालकर उन्हें बड़ी इकाई बनाना है। यह मंच एमएसएमई की सभी जरूरतों के लिए एकल खिड़की समाधान की सुविधा प्रदान करता है।

राष्ट्रीय एससी-एसटी केंद्र: एससी-एसटी समुदाय में उद्यमिता संस्कृति को बढ़ावा देने और सार्वजनिक खरीद नीति आदेश, 2018 में उल्लिखित 4 फीसदी खरीद लक्ष्य को पूरा करने के लिए राष्ट्रीय एससी-एसटी केंद्र शुरू किया गया है।

आत्मनिर्भर भारत निधि: इस योजना से एमएसएमई क्षेत्र को 50,000 करोड़ रुपये की इक्विटी वित्तीय सहायता मिलने की उम्मीद है। यह इक्विटी समावेशन एमएसएमई को स्टॉक एक्सचेंजों में सूचीबद्ध करने का अवसर प्रदान करेगा।

खरीद नीति: एमएसई को विपणन सहायता प्रदान करने के लिए, सभी केंद्रीय मंत्रालयों/सरकारी विभागों और सीपीएसई को सार्वजनिक खरीद नीति के तहत एमएसई से वस्तु और सेवाओं की अपनी वार्षिक आवश्यकताओं का 25 फीसदी खरीदना आवश्यक है, इसमें एससी/एसटी के स्वामित्व वाले एमएसई से 4 फीसदी और महिला उद्यमियों के स्वामित्व वाले एमएसई से 3 फीसदी खरीदारी शामिल हैं।

उद्यम विकास केंद्रों की स्थापना: एमएसएमई से संबंधित सूचना एक ही स्थान पर उपलब्ध कराने की एक सोच से उद्यम विकास केंद्रों (EDC) की परिकल्पना की गई है। अब तक एमएसएमई मंत्रालय ने पूरे भारत में 102 EDC स्थापित किए हैं। इन केंद्रों का उद्देश्य मौजूदा और साथ ही इच्छुक एमएसएमई को निरंतरता के आधार पर ग्रामीण उद्यमों पर विशेष ध्यान देने के साथ पेशेवर सलाह व सहायक सेवाएं प्रदान करके उद्यमी लीडर्स का एक नेटवर्क बनाना है।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

ग्रीनलैंड हिम चादर के सर्वोच्च शिखर पर पहली बार वर्षा


अगस्त 2021 में पहली बार ग्रीनलैंड हिम चादर के सर्वोच्च शिखर पर वर्षा हुई। वैज्ञानिकों के अनुसार पहले से ही तेजी से पिघल रहे इस हिम चादर के लिए यह चिंताजनक है।

महत्वपूर्ण तथ्य: 14 अगस्त को हिम चादर के 3,216 मीटर ऊंचे शिखर पर कई घंटों तक वर्षा हुई, जहां तापमान लगभग नौ घंटे तक हिमांक बिंदु से ऊपर दर्ज किया गया था।

  • 14 अगस्त से 16 अगस्त तक तीन दिनों में ग्रीनलैंड में कुल मिलाकर 7 बिलियन टन वर्षा हुई, जो 1950 में आंकड़े एकत्रित किये जाने के बाद से सबसे बड़ी मात्रा है।
  • अंटार्कटिका के बाद दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी हिम चादर ‘ग्रीनलैंड’ के पहले से ही पिघलने से पिछले कुछ दशकों में वैश्विक समुद्र स्तर में लगभग 25% वृद्धि देखी गई है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप युद्धाभ्यास/सैन्य अभियान

दक्षिण पूर्व एशिया सहयोग और प्रशिक्षण अभ्यास


  • अमेरिकी नौसेना के नेतृत्व में 10 अगस्त, 2021 को सिंगापुर में ‘दक्षिण पूर्व एशिया सहयोग और प्रशिक्षण’ (SEACAT) अभ्यास आयोजित किया गया।
  • 20 अन्य भागीदार देशों ऑस्ट्रेलिया, भारत, बांग्लादेश, ब्रुनेई, कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इंडोनेशिया, जापान, मलेशिया, मालदीव, न्यूजीलैंड, फिलीपींस, दक्षिण कोरिया, सिंगापुर, श्रीलंका, थाईलैंड, पूर्वी तिमोर, यूनाइटेड किंगडम और वियतनाम ने भी अभ्यास में हिस्सा लिया।
  • समुद्री अभ्यास का उद्देश्य समुद्री क्षेत्र में आकस्मिकताओं या अवैध गतिविधियों से निपटने के लिए रणनीति, मानकीकृत प्रशिक्षण और प्रक्रियाओं को शामिल करके दक्षिण पूर्व एशियाई देशों के बीच सहयोग को बढ़ावा देना है।
  • SEACAT वर्ष 2002 में 'आतंकवाद के खिलाफ दक्षिण पूर्व एशिया सहयोग' के रूप में शुरू हुआ था।

संक्षिप्त खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

एलआईसी ने लॉन्च किया 'आनंद' मोबाइल ऐप


  • भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) ने 25 अगस्त, 2021 को जीवन बीमा पॉलिसी करने के लिए एजेंटों या मध्यस्थों के लिए 'आनंद' (ANANDA: Atma Nirbhar Agents New Business Digital Application) मोबाइल ऐप लॉन्च किया है।
  • 'आधार' आधारित ई-प्रमाणीकरण का उपयोग करते हुए पेपरलेस केवाईसी प्रक्रिया पर निर्मित, डिजिटल एप्लिकेशन एजेंट या मध्यस्थ की मदद से पेपरलेस मॉड्यूल के माध्यम से जीवन बीमा पॉलिसी प्राप्त करने की प्रक्रिया का एक साधन है।

संक्षिप्त खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

कर्नाटक बैंक ने लॉन्च किया 'केबीएल फास्टैग'


  • कर्नाटक बैंक ने 25 अगस्त, 2021 को नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) और फास्टैग प्रोसेसर वर्ल्डलाइन (FASTag processor Worldline) के साथ मिलकर देश भर के टोल प्लाजा पर वाहनों की निर्बाध आवाजाही की सुविधा के लिए प्री-लोडेड भुगतान साधन 'केबीएल फास्टैग' (KBL FASTag) लॉन्च किया है।
  • फास्टैग उपयोगकर्ताओं को समय, ईंधन और धन की बचत करके टोल प्लाजा के माध्यम से पारगमन के दौरान आसानी और सुविधा प्रदान करता है।
  • कर्नाटक बैंक के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी महाबलेश्वर एमएस हैं।

संक्षिप्त खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

बार्कलेज ने की भारत के परिचालन में 3,000 करोड़ रुपये के निवेश की घोषणा


बार्कलेज बैंक पीएलसी इंडिया ने 26 अगस्त, 2021 घोषणा की कि उसके प्रधान कार्यालय ने भारत में अपनी प्रगति में तेजी लाने के लिए 3,000 करोड़ रुपये से अधिक का निवेश किया है।

  • इस निवेश के साथ, देश में ब्रिटिश बैंक की निवेशित पूंजी बढ़कर 8,300 करोड़ रुपये से अधिक हो जाएगी। यह भारत में उसके परिचालन में अब तक का सबसे बड़ा पूंजी निवेश है।
  • देश में अपने विस्तार के हिस्से के रूप में, बार्कलेज बैंक पीएलसी ने फरवरी 2021 में गुजरात के गिफ्ट सिटी में अपनी अंतरराष्ट्रीय बैंकिंग इकाई शाखा का उद्घाटन किया था।
  • बार्कलेज बैंक पीएलसी, की 1990 से भारत में शाखा मौजूद है। बार्कलेज पीएलसी एक ब्रिटिश बहुराष्ट्रीय सार्वभौमिक बैंक है, जिसका मुख्यालय लंदन में है।

संक्षिप्त खबरें बिजनेस और सार्वजनिक उपक्रम

प्रौद्योगिकी स्टार्ट-अप को समर्थन देने हेतु माइक्रोसॉफ्ट ने की इन्वेस्ट इंडिया के साथ साझेदारी


'माइक्रोसॉफ्ट इंडिया' (Microsoft India) ने 24 अगस्त, 2021 को देश में प्रौद्योगिकी स्टार्ट-अप को समर्थन देने के लिए 'इन्वेस्ट इंडिया' (Invest India) के साथ साझेदारी की है।

  • साझेदारी के हिस्से के रूप में, 'स्टार्ट-अप के लिए माइक्रोसॉफ्ट' कार्यक्रम भारत सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार के कार्यालय के एक कार्यक्रम 'नए भारत के नवाचारों के त्वरित विकास' (Accelerating Growth of New India’s Innovations: AGNIi) मिशन के साथ मिलकर काम करेगा।
  • AGNIi मिशन स्टार्ट-अप को उद्यम के लिए तैयार करने में मदद करता है। AGNIi मिशन के समर्थन से, माइक्रोसॉफ्ट ने 11 स्टार्ट-अप्स को 'स्टार्ट-अप के लिए माइक्रोसॉफ्ट' कार्यक्रम में शामिल किया है।

संक्षिप्त खबरें बिजनेस और सार्वजनिक उपक्रम

नूपुर चतुर्वेदी एनपीसीआई भारत बिलपे की सीईओ नियुक्त


भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (National Payments Corporation of India: NPCI) ने 12 अगस्त, 2021 को नूपुर चतुर्वेदी को 'एनपीसीआई भारत बिलपे' (NPCI Bharat BillPay) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी के रूप में नियुक्त करने की घोषणा की।

  • सीईओ के रूप में, चतुर्वेदी भारत बिल पे प्लेटफॉर्म को विस्तारित करने के लिए आरबीआई के विजन पर काम करेंगी।
  • 'एनपीसीआई भारत बिलपे', NPCI की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी है, जो 1 अप्रैल, 2021 से प्रभावी हुई।

संक्षिप्त खबरें संस्थान-संगठन

भारतीय भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण प्रशिक्षण संस्थान


भारतीय भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण प्रशिक्षण संस्थान (Geological Survey of India Training Institute- GSITI), हैदराबाद ने अगस्त 2021 में अपनी 24x7 वेबसाइट शुरू की है।

  • भारतीय भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण के नए पदाधिकारियों को इंडक्शन-लेवल ओरिएंटेशन प्रशिक्षण प्रदान करने के उद्देश्य से, प्रशिक्षण संस्थान की स्थापना 1976 में की गई थी।
  • पिछले 45 वर्षों में GSITI ने हैदराबाद, नागपुर, लखनऊ, कोलकाता, शिलांग, रायपुर, जवार (राजस्थान), चित्रदुर्ग (कर्नाटक) और कुजू (झारखंड) में स्थित 9 प्रशिक्षण स्थलों तक अपना विस्तार किया है।
  • हैदराबाद केंद्र का अपना एक पूर्ण परिसर है और इसको अन्य सभी आठ केंद्रों के मुख्यालय के रूप में नामित किया गया है।
  • GSITI न केवल भारतीय भूवैज्ञानिक सर्वेक्षण के भूवैज्ञानिकों को ही बल्कि राज्य भूविज्ञान और खान विभाग, केंद्रीय संगठनों, अनुसंधान संस्थानों, आईआईटी, एनआईटी जैसे संस्थानों के प्रतिभागियों को भी विभिन्न प्रकार के तकनीकी, प्रशासनिक एवं प्रबंधन प्रशिक्षण प्रदान करता है।

संक्षिप्त खबरें इन्हें भी जानें

दिमासा


खुफिया जानकारी के अनुसार अगस्त 2021 में असम के दीमा हसाओ पहाड़ी जिले में आतंकी हमले के पीछे ‘दिमासा नेशनल लिबरेशन आर्मी’ नामक संगठन का हाथ है।

  • दिमासा (या दिमासा-कचारी) असम के सबसे पहले ज्ञात शासक और निवासी हैं, और अब मध्य और दक्षिणी असम के दीमा हसाओ, कार्बी आंगलोंग, कचार, होजई और नागांव जिलों के साथ-साथ नागालैंड के कुछ हिस्सों में निवास करते हैं।
  • अहोम शासन से पहले, दिमासा राजाओं, जिन्हें प्राचीन कामरूप साम्राज्य के शासकों का वंशज माना जाता था, ने 13वीं और 16वीं शताब्दी के बीच ब्रह्मपुत्र के दक्षिणी किनारे पर असम के बड़े हिस्से पर शासन किया।
  • उनकी प्रारंभिक ऐतिहासिक रूप से ज्ञात राजधानी दीमापुर (अब नागालैंड में) थी, और बाद में उत्तरी कछार पहाड़ियों में माईबांग थी।
  • कार्बी और दिमासा समूहों द्वारा अलग राज्य की मुख्य मांग के कारण विद्रोह का एक लंबा इतिहास रहा है, जो 1990 के दशक के मध्य में चरम पर था।

संक्षिप्त खबरें बिजनेस और सार्वजनिक उपक्रम

प्राकृतिक गैस में हाइड्रोजन मिश्रण की प्रायोगिक परियोजना


अगस्त 2021 में विद्युत मंत्रालय के अधीन भारत की सबसे बड़ी एकीकृत बिजली कंपनी एनटीपीसी लिमिटेड ने भारत में शहरी गैस वितरण नेटवर्क के लिये प्राकृतिक गैस में हाइड्रोजन मिश्रण की प्रायोगिक परियोजना स्थापित करने के सम्बंध में वैश्विक प्रस्ताव-प्रपत्र (EoI) आमंत्रित किये हैं।

  • हाइड्रोजन को प्राकृतिक गैस में मिलाने वाली प्रायोगिक परियोजना भारत में अपने तरह की पहली परियोजना होगी।
  • इससे भारत की प्राकृतिक गैस ग्रिड को कार्बन से मुक्त करने की व्यवहार्यता का आकलन होगा।

संक्षिप्त खबरें बिजनेस और सार्वजनिक उपक्रम

वर्तिका शुक्ला बनीं इंजीनियर्स इंडिया लिमिटेड की पहली महिला सीएमडी


वर्तिका शुक्ला ने 1 सितंबर, 2021 को 'नवरत्न' सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यम ‘इंजीनियर्स इंडिया लिमिटेड’ की पहली महिला अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक (सीएमडी) के रूप में कार्यभार संभाल लिया है।

  • वर्तिका को रिफाइनिंग, गैस प्रसंस्करण, पेट्रोकेमिकल्स और उर्वरक क्षेत्र में 32 वर्षों से अधिक का व्यापक परामर्श अनुभव है।
  • इंजीनियर्स इंडिया एक शीर्ष वैश्विक इंजीनियरिंग परामर्श और इंजीनियरिंग, खरीद और निर्माण (EPC) कंपनी है, जो तेल, गैस और पेट्रोकेमिकल उद्योगों पर केंद्रित है। इसे 1965 में स्थापित किया गया था।

संक्षिप्त खबरें बिजनेस और सार्वजनिक उपक्रम

इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन ने लॉन्च किए उच्च ऑक्टेन रेटिंग वाले गैसोलीन ईंधन


इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (IOC) ने बेहतर माइलेज और इंजन की दक्षता बढ़ाने और अधिक पिकअप के उद्देश्य से उच्च ऑक्टेन रेटिंग वाले ब्रांडेड गैसोलीन ईंधन पेश किए हैं।

  • जनवरी 2021 में, इंडियन ऑयल ने अपने सुपर-प्रीमियम 'XP100' को 160 रुपये प्रति लीटर की कीमत पर हाई-परफॉर्मेंस वाली यात्री कारों और रेसिंग कार के लिए लॉन्च किया। दुनिया के केवल सात देश इस '100 ऑक्टेन' पेट्रोल का उत्पादन करते हैं।
  • IOC ने मई 2021 में '95 ऑक्टेन रेटिंग' ईंधन भी लॉन्च किया है।

संक्षिप्त खबरें संस्थान-संगठन

यूनिवर्सल पोस्टल यूनियन


26 अगस्त, 2021 को आबिदजान, आइवरी कोस्ट में 27वें यूनिवर्सल पोस्टल यूनियन (Universal Postal Union- UPU) कांग्रेस में भारत को प्रशासन परिषद (Council of Administration) के लिए चुना गया है।

  • यूनिवर्सल पोस्टल यूनियन (UPU) की स्थापना 1874 में हुई थी। यह दुनिया भर में दूसरा सबसे पुराना अंतरराष्ट्रीय संगठन है।
  • यह संयुक्त राष्ट्र की एक विशेष एजेंसी है, जो विश्वव्यापी डाक प्रणाली के अलावा सदस्य देशों के बीच डाक नीतियों का समन्वय करती है।
  • UPU में कांग्रेस, प्रशासन परिषद, डाक संचालन परिषद और अंतरराष्ट्रीय ब्यूरो चार निकाय शामिल हैं।
  • इसका मुख्यालय स्विट्जरलैंड की राजधानी बर्न में है तथा इसके 192 सदस्य देश हैं।
  • बिशर हुसैन UPU के वर्तमान महानिदेशक हैं। जनवरी 2022 में वे नवनिर्वाचित महानिदेशक मासाहिको मेटोकी (जापान) को कार्यभार सौंपेंगे।

सामयिक खबरें आर्थिकी

आईएमएफ ने भारत को आवंटित किए 12.57 बिलियन SDR


अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) ने 23 अगस्त, 2021 को भारत को 12.57 बिलियन (नवीनतम विनिमय दर पर लगभग 17.86 बिलियन डॉलर के बराबर) का विशेष आहरण अधिकार (SDR) आवंटन किया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: 23 अगस्त, 2021 को भारत की कुल SDR धारिता अब 13.66 बिलियन (नवीनतम विनिमय दर पर लगभग 19.41 बिलियन डॉलर के बराबर) हो गई है।

  • यह आवंटन आईएमएफ के सदस्य देशों को किए गए कुल 456.5 बिलियन SDR के सामान्य आवंटन का लगभग 2.75% है। आईएमएफ के पास 190 देशों की सदस्यता है।
  • SDR 1969 में आईएमएफ द्वारा सदस्य देशों की अन्य आरक्षित संपत्तियों के पूरक के लिए बनाई गई एक ब्याज- वाली अंतरराष्ट्रीय आरक्षित संपत्ति है।
  • एसडीआर होल्डिंग्स किसी देश के विदेशी मुद्रा भंडार के घटकों में से एक है।

सामयिक खबरें आर्थिकी

आरबीआई ने किया साउथ इंडियन बैंक को 'एजेंसी बैंक' के रूप में सूचीबद्ध


अगस्त 2021 में केरल स्थित निजी क्षेत्र के ऋणदाता ‘साउथ इंडियन बैंक’ को भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) द्वारा RBI की ओर से केंद्र और राज्य सरकार के सामान्य बैंकिंग व्यवसायके लिए एक 'एजेंसी बैंक' के रूप में सूचीबद्ध किया गया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: साउथ इंडियन बैंक अब आरबीआई द्वारा तैयार की गई सरकारी व्यवसायों से संबंधित लेन-देन करने के लिए अधिकृत है जैसे- कि केंद्र / राज्य सरकारों की ओर से राजस्व प्राप्तियां और भुगतान, केंद्र / राज्य सरकारों के संबंध में पेंशन भुगतान, लघु बचत योजनाओं से संबंधित कार्य, ऑनलाइन मोड या ऑफलाइन मोड के माध्यम से स्टांप ड्यूटी का संग्रह आदि।

  • आरबीआई ने इंडसइंड बैंक, डीसीबी बैंक, आरबीएल बैंक और कर्नाटक बैंक को भी 'एजेंसी बैंक' के रूप में सूचीबद्ध किया है।
  • 'साउथ इंडियन बैंक लिमिटेड' एक प्रमुख निजी क्षेत्र का बैंक है, जिसका मुख्यालय केरल के त्रिशूर में है। दक्षिण भारत के सबसे पुराने बैंकों में से एक साउथ इंडियन बैंक स्वदेशी आंदोलन के दौरान अस्तित्व में आया।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

यूएनएससी ने अफगानिस्तान पर अपनाया प्रस्ताव


संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) में भारत की अध्यक्षता के तहत 30 अगस्त, 2021 को अफगानिस्तान में स्थिति पर एक प्रस्ताव को अपनाया गया।

महत्वपूर्ण तथ्य: इस प्रस्ताव में मांग की गई है कि युद्धग्रस्त देश अफगानिस्तान का इस्तेमाल किसी देश को धमकाने या हमला करने या आतंकवादियों को पनाह देने के लिए नहीं किया जाना चाहिए।

  • ज्ञात हो कि 15 अगस्त, 2021 को, इस्लामिक चरमपंथी संगठन तालिबान ने अमेरिकी सैनिकों की वापसी के बाद अफगानिस्तान में सत्ता पर कब्जा कर लिया है।
  • राष्ट्रपति अशरफ गनी के देश छोड़ने के बाद 17 अगस्त को, अफगानिस्तान के उपराष्ट्रपति, अमरुल्ला सालेह ने खुद को अफगानिस्तान का कार्यवाहक राष्ट्रपति घोषित किया और पंजशीर घाटी में 6000 से अधिक के सैनिकों के साथ एक तालिबान विरोधी मोर्चे के गठन की घोषणा की।
  • अहमद मसूद तालिबान विरोधी मोर्चे का नेतृत्व कर रहे हैं। वे अहमद शाह मसूद के पुत्र हैं, जो 1980 के दशक में अफगानिस्तान के सोवियत विरोधी प्रतिरोध के मुख्य नेताओं में से एक थे; उनकी 9 सितंबर, 2001 को उनकी हत्या कर दी गई थी।

तालिबान: तालिबान का अर्थ पश्तो भाषा में "छात्र" है, जिसका 1994 में दक्षिणी अफगान शहर कंधार के आसपास उदय हुआ। तालिबान के संस्थापक और शुरुआती नेता मुल्ला मोहम्मद उमर थे।

  • तालिबान ने मूल रूप से तथाकथित 'मुजाहिदीन' लड़ाकों के सदस्यों को शामिल किया, जिन्होंने संयुक्त राज्य अमेरिका के समर्थन से, 1980 के दशक में सोवियत सेना को खदेड़ दिया था।
  • अफगानिस्तान पर 1996 से 2001 तक शासन करने वाले तालिबान को अमेरिका ने बाद में सत्ता से बाहर कर दिया था।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

बच्चों पर केंद्रित जलवायु जोखिम सूचकांक


अगस्त 2021 में यूनिसेफ द्वारा जारी 'जलवायु संकट एक बाल अधिकार संकट है' (The climate crisis is a child rights crisis) नामक रिपोर्ट में 'बच्चों पर केंद्रित जलवायु जोखिम सूचकांक' (Children’s Climate Risk Index- CCRI) प्रस्तुत किया गया।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह बच्चों के जलवायु और पर्यावरणीय खतरों जैसे- चक्रवात और ग्रीष्म लहरों के आधार पर देशों को रैंक करता है।

  • चार दक्षिण एशियाई देशों सहित 33 देशों में रहने वाले लगभग 1 बिलियन बच्चे जलवायु परिवर्तन के "अत्यधिक उच्च जोखिम" (extremely high-risk) में हैं।
  • सूचकांक में सेन्ट्रल अफ्रीकन रिपब्लिक पहले; चाड और नाइजीरिया दूसरे; गिनी, गिनीबिसाऊ और सोमालिया चौथे स्थान पर हैं अर्थात इन देशों के बच्चे अधिक जलवायु जोखिम में हैं।
  • आइसलैंड (163वें स्थान), लक्जमबर्ग (162वें स्थान), न्यूजीलैंड (161वें स्थान) तथा फिनलैंड और एस्टोनिया (159वें स्थान) ऐसे देश हैं, जहां बच्चों को सबसे कम खतरा है।

भारत की स्थिति: भारत उन चार दक्षिण एशियाई देशों में शामिल हैं, जहां बच्चों पर जलवायु संकट के प्रभाव का अत्यधिक जोखिम है।

  • भारत को सूचकांक में यमन और सिएरा लियोन के साथ 26वें स्थान पर रखा गया है। पाकिस्तान 14वें, तथा बांग्लादेश और अफगानिस्तान दोनों 15वें स्थान पर हैं।
  • भारत उन 33 अत्यंत उच्च जोखिम वाले देशों में से एक है जहां, बाढ़ और वायु प्रदूषण बार-बार होने वाले पर्यावरणीय खतरे हैं।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप युद्धाभ्यास/सैन्य अभियान

अल-मोहद अल-हिंदी 2021


  • अगस्त 2021 में भारत और सऊदी अरब के बीच पहला संयुक्त नौसैनिक अभ्यास ‘अल-मोहद अल-हिंदी 2021’ (AL- MOHED AL- HINDI 2021) आयोजित किया गया।
  • भारत के निर्देशित मिसाइल विध्वंसक आईएनएस कोच्चि ने सऊदी अरब के अल जुबैल बंदरगाह पर इस अभ्यास में हिस्सा लिया।
  • अल-मोहद अल-हिंदी 2021 अभ्यास का हार्बर चरण 9 अगस्त, 2021 को शुरू हुआ, जबकि 11 अगस्त से समुद्र आधारित अभ्यास शुरू हुआ।
  • अन्य अभ्यास: आईएनएस कोच्चि ने अगस्त 2021 में अबू धाबी के तट पर भारत - संयुक्त अरब अमीरात नौसेना, के एक संयुक्त नौसैनिक अभ्यास 'जायद तलवार' (Zayed Talwar) में भी हिस्सा लिया ।
  • आईएनएस कोच्चि (INS Kochi): यह कोलकाता-श्रेणी का दूसरा स्टेल्थ गाइडेड-मिसाइल डिस्ट्रॉयर (stealth guided-missile destroyers) है। इसे प्रोजेक्ट 15A कोड नाम के तहत भारतीय नौसेना के लिए बनाया गया था। इस जहाज का निर्माण मुंबई में मझगांव डॉक लिमिटेड (MDL) द्वारा किया गया था और सितंबर 2015 में भारतीय नौसेना सेवा के लिए कमीशन किया गया था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित पुस्तक

चर्चित पुस्तक


  • 'श्याम, अवर लिटिल कृष्णा' (Shyam, Our Little Krishna) -- देवदत्त पटनायक
  • ‘ए रूड लाइफ: द मेमॉयर’ (A Rude Life: The Memoir) -- वीर सांघवी
  • ‘इन प्लेन साइट’ (In Plain Sight) -- मोहम्मद थावर
  • ‘ब्लड फॉर ब्लड: फिफ्टी इयर्स ऑफ द ग्लोबल खालिस्तान प्रोजेक्ट’ (Blood for Blood: Fifty Years of the Global Khalistan Project) -- टेरी मिल्वस्की
  • ‘शी पर्सिस्टेड इन साइंस: ब्रिलियंट वूमेन हू मेड ए डिफरेंस’ (She Persisted in Science: Brilliant Women Who Made a Difference) -- चेल्सी क्लिंटन और एलेक्जेंड्रा बोइगर
  • ‘हाउ द अर्थ गॉट इट्स ब्यूटी’ (How the Earth Got Its Beauty) -- सुधा मूर्ति
  • ‘द अर्थस्पिनर’ (The Earthspinner)-- अनुराधा रॉय
  • 'ए डिफरेंट रूट टू सक्सेस: इट कुड बी योर्स' (A Different Route to Success: It Could Be Yours) -- रमेश नारायण

संक्षिप्त खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

अजय कुमार आरबीआई के नए कार्यपालक निदेशक के रूप में पदोन्नत


  • भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने 20 अगस्त, 2021 को अजय कुमार को नए कार्यपालक निदेशक (Executive Director- ED) के रूप में पदोन्नत किया है।
  • ED के रूप में पदोन्नति से पहले, अजय कुमार क्षेत्रीय निदेशक के रूप में बैंक के नई दिल्ली क्षेत्रीय कार्यालय के प्रमुख थे।
  • कुमार ने अपने तीन दशकों के कार्यकाल में रिजर्व बैंक के विदेशी मुद्रा, बैंकिंग पर्यवेक्षण, वित्तीय समावेशन, मुद्रा प्रबंधन और अन्य क्षेत्रों में कार्य किया है।
  • कार्यपालक निदेशक के रूप में कुमार मुद्रा प्रबंधन विभाग, विदेशी मुद्रा विभाग और परिसर विभाग का कार्यभार संभालेंगे।

संक्षिप्त खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

आरबीआई ने सिक्के वितरण को लेकर बढ़ायी बैंकों के लिये प्रोत्साहन राशि


  • भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने 1 सितंबर, 2021 को आम जनता को सिक्कों के वितरण के लिए बैंकों के लिए प्रोत्साहन राशि 25 रुपये प्रति बैग से बढ़ाकर 65 रुपये कर दी है।
  • बैंकों को ग्रामीण और अर्द्ध-शहरी क्षेत्रों में सिक्का वितरण के लिए प्रति बैग 10 रुपये का अतिरिक्त प्रोत्साहन भी प्रदान किया जाएगा।
  • यह स्वच्छ नोट नीति के समग्र उद्देश्यों को ध्यान में रखते हुए और यह सुनिश्चित करने के लिए किया गया है कि सभी बैंक शाखाएं नोटों के आदान-प्रदान और सिक्कों के वितरण के संबंध में लोगों को बेहतर ग्राहक सेवा प्रदान करें।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

सुरक्षित शहर सूचकांक 2021


इकोनॉमिस्ट इंटेलिजेंस यूनिट (EIU) द्वारा अगस्त 2021 में 'सुरक्षित शहर सूचकांक 2021' (Safe Cities Index 2021) का चौथा संस्करण जारी किया गया।

महत्वपूर्ण तथ्य: सूचकांक 60 शहरों को डिजिटल सुरक्षा, स्वास्थ्य सुरक्षा, बुनियादी ढांचे की सुरक्षा, व्यक्तिगत सुरक्षा और पर्यावरण सुरक्षा जैसे 5 क्षेत्रों को कवर करते हुए 76 संकेतकों में रैंक करता है।

  • डेनमार्क की राजधानी ‘कोपेनहेगन’ दुनिया का सबसे सुरक्षित शहर है। यंगून (म्यांमार) को अंतिम स्थान (60वें) पर रखा गया है।
  • सूचकांक में शीर्ष शहर हैं- 1- कोपेनहेगन, 2- टोरंटो, 3- सिंगापुर, 4- सिडनी, 5- टोक्यो, 6- एम्स्टर्डम, 7- वेलिंगटन, 8- हांगकांग, 9- मेलबर्न, 10- स्टॉकहोम।
  • इस सूचकांक में 60 शहरों में दो भारतीय शहर शामिल हैं। दिल्ली 48वें स्थान तथा मुंबई 50वें स्थान पर है।
  • इकोनॉमिस्ट इंटेलिजेंस यूनिट, इकोनॉमिस्ट ग्रुप का अनुसंधान और विश्लेषण प्रभाग है, जिसका मुख्यालय लंदन, यूनाइटेड किंगडम में है।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

ग्लोबल क्रिप्टो एडॉप्शन इंडेक्स 2021


क्रिप्टो विश्लेषण प्लेटफॉर्म ‘चैनालिसिस' (Chainalysis) द्वारा अगस्त 2021 में जारी 'ग्लोबल क्रिप्टो एडॉप्शन इंडेक्स 2021' (Global Crypto Adoption Index 2021) के अनुसार, भारत उच्चतम क्रिप्टोकरेंसी अपनाने की दर वाले 20 देशों की सूची में दूसरे स्थान पर है।

महत्वपूर्ण तथ्य: चैनालिसिस के इस सूचकांक ने जुलाई 2020 और जून 2021 के बीच व्यक्तियों द्वारा क्रिप्टोकरेंसी अपनाने और उपयोग के स्तर को मापने के लिए 20 देशों को स्थान दिया है।

  • सूचकांक में शीर्ष देश- 1- वियतनाम, 2- भारत, 3- पाकिस्तान, 4- यूक्रेन, 5- केन्या।
  • प्रति व्यक्ति क्रय शक्ति समानता और इंटरनेट का उपयोग करने वाली जनसंख्या के लिए समायोजित किए जाने पर पीयर-टू-पीयर प्लेटफॉर्म (P2P) पर भारी लेन-देन के कारण उभरती बाजार अर्थव्यवस्थाओं ने शीर्ष स्थान प्राप्त किया है।
  • सूचकांक 3 पैमानों के आधार पर देशों को रैंक करता है-प्रति व्यक्ति क्रय शक्ति समानता (PPP) द्वारा भारित ऑन-चेन क्रिप्टोकरेंसी (On-chain cryptocurrency) का प्राप्त मूल्य; प्रति व्यक्ति PPP द्वारा भारित ऑन-चेन खुदरा मूल्य अंतरित; तथा प्रति व्यक्ति PPP और इंटरनेट उपयोगकर्ताओं की संख्या द्वारा भारित पीयर-टू-पीयर (P2P) विनिमय व्यापार की मात्रा।
  • क्रिप्टोकरेंसी को अपनाने की वैश्विक दर में, खासकर उभरते बाजारों में, पिछले एक साल में 800% से अधिक की वृद्धि हुई है।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

हैती में विनाशकारी भूकंप


14 अगस्त, 2021 को कैरिबियाई देश हैती में आए विनाशकारी भूकंप में 2200 से अधिक लोगों की मौत हुई है, जबकि हजारों लोग घायल हो गए। रिक्टर स्केल पर इस भूकंप की तीव्रता 7.2 मापी गई है।

महत्वपूर्ण तथ्य: इस भूकंप का केंद्र राजधानी पोर्ट-ऑ-प्रिंस से लगभग 125 किमी. पश्चिम में 'पेटिट ट्रौ डी निप्प्स' (Petit-Trou-de-Nippes) शहर में था।

हैती में भूकंप का खतरा क्यों? भू-पर्पटी टेक्टोनिक प्लेटों से बनी है जो हिलती डुलती रहती हैं। हैती जहां है, वहां दो प्लेट एक-दूसरे से मिलती हैं- उत्तर अमेरिकी प्लेट और कैरेबियाई प्लेट।

  • भूकंप, टेक्टोनिक प्लेटों के धीरे-धीरे एक-दूसरे के खिलाफ गति करने और समय के साथ घर्षण पैदा करने का परिणाम है।
  • हैती और डॉमिनिकन रिपब्लिक के साझे द्वीप हिस्पैन्योला (Hispaniola) के ठीक नीचे कई दरारें हैं। हिस्पैन्योला के ठीक नीचे दो प्लेट एक दूसरे से टकराती हुई गुजरती हैं।

अन्य तथ्य: जनवरी 2010 में भी हैती में 7.0 तीव्रता का भूकंप आया था, जिसमें घनी आबादी वाले पोर्ट-औ-प्रिंस के करीब व्यापक विनाश हुआ था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप निधन

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह का निधन


वरिष्ठ भाजपा नेता एवं उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह का 21 अगस्त‚ 2021 को निधन हो गया। वे 89 वर्ष के थे।

  • उनका जन्म 5 जनवरी‚ 1932 को अलीगढ़ में अतरौली तहसील के तहत मधौली गाँव में हुआ था।
  • वे पहली बार 24 जून‚ 1991 से 6 दिसंबर‚ 1992 तक उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे। बाबरी मस्जिद विध्वंस के बाद उन्होंने इसकी नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए राज्य के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था।
  • दूसरी बार वे 21 दिसंबर‚ 1997 से 11 नवंबर‚ 1999 तक उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे।
  • वे 4 सितंबर, 2014 से 9 सितंबर, 2019 तक राजस्थान के राज्यपाल रहे। साथ ही वे जनवरी 2015 से अगस्त 2015 तक हिमाचल प्रदेश के कार्यवाहक (अतिरिक्त प्रभार) राज्यपाल भी रहे।
  • वे 2004 से 2009 तक भाजपा से बुलंदशहर संसदीय क्षेत्र और 2009 से 2014 तक बतौर स्वतंत्र उम्मीदवार एटा (उ.प्र.) संसदीय क्षेत्र से लोक सभा सदस्य रहे।
  • 2010 में, उन्होंने जन क्रांति पार्टी भी बनाई, बाद में 2013 में इसका भाजपा में विलय कर दिया गया था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप नियुक्ति

राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा 3 साल के कार्यकाल के लिए नामांकित


7 अगस्त‚ 2021 को केंद्र सरकार ने रेखा शर्मा को 3 वर्ष के कार्यकाल के लिए पुन: राष्ट्रीय महिला आयोग (NCW) का अध्यक्ष नियुक्त किया।

  • उनका दूसरा कार्यकाल 7 अगस्त‚ 2021 से प्रभावी हो गया। वे 65 वर्ष की आयु तक अथवा अगले आदेश तक‚ जो भी पहले हो‚ इस पद पर बनी रहेंगी।
  • वह वर्ष 2018 में पहले कार्यकाल हेतु इस पद पर नियुक्त हुई थी।
  • राष्ट्रीय महिला आयोग की स्थापना राष्ट्रीय महिला आयोग अधिनियम, 1990 के तहत जनवरी 1992 में सांविधिक निकाय के रूप में की गई थी।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप युद्धाभ्यास/सैन्य अभियान

अभ्यास ‘इंद्र-2021’


  • भारत और रूस के बीच 12वां संयुक्त सैन्य अभ्यास ‘इंद्र-2021’ (EXERCISE INDRA-21) 1 से 13 अगस्त‚ 2021 तक दक्षिणी रूस के वोल्गोग्राड क्षेत्र में आयोजित किया गया।
  • यह सैन्य अभ्यास दोनों देशों के सशस्त्र बलों के बीच सहयोग को और मजबूत करने के उद्देश्य से किया गया।
  • इस अभ्यास में दोनों देशों के लगभग 250 सैन्यकर्मी शामिल हुए।
  • दोनों देशों की सेनाओं ने अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी समूहों के खिलाफ संयुक्त कार्रवाई सम्बंधी संयुक्त राष्ट्र के फैसले के अनुपालन में आतंक विरोधी अभ्यास किया।
  • इस द्विपक्षीय एवं द्विवर्षीय अभ्यास की शुरुआत वर्ष 2003 में की गई थी, जिसे दोनों देशों के बीच बारी-बारी से द्विपक्षीय नौसैनिक अभ्यास के रूप में आयोजित किया गया था। हालाँकि पहला संयुक्त त्रि-सेवा अभ्यास (Tri-Services Exercise) वर्ष 2017 में आयोजित किया गया था।
  • दोनों देशों के बीच पिछला संयुक्त त्रि-सेवा (Tri-services) अभ्यास 10-19 दिसंबर‚ 2019 को
  • बबीना (झांसी के पास)‚ पुणे और गोवा में आयोजित किया गया था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

परमाणु परीक्षण के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय दिवस


29 अगस्त

  • महत्वपूर्ण तथ्य: इस दिवस को मनाने का उद्देश्य परमाणु हथियार, परीक्षण विस्फोटों प्रभावों के बारे में जागरूकता बढ़ाना और परमाणु-हथियार-मुक्त दुनिया के लक्ष्य को प्राप्त करने के साधनों के एक के रूप में उनकी समाप्ति की आवश्यकता के प्रति जागरूक करना है।

खेल समाचार चर्चित खेल व्यक्तित्व

भाविना पटेल ने जीता टोक्यो पैरालम्पिक में ऐतिहासिक रजत


भारतीय पैरा टेबल टेनिस खिलाड़ी भाविना पटेल ने 29 अगस्त, 2021 को महिला एकल क्लास-4 वर्ग के फाइनल में दुनिया की नंबर एक चीनी टेबल टेनिस खिलाड़ी यिंग झोउ से 0-3 से हारने के बाद अपने पहले पैरालम्पिक खेलों में ऐतिहासिक रजत पदक जीता।

  • पैरालम्पिक खेलों में 34 वर्षीय पटेल का प्रभावशाली प्रदर्शन झोउ से 7-11 5-11 6-11 से हारने के साथ समाप्त हुआ।
  • भाविना पटेल मेहसाणा के वाडनगर में सुंधिया की रहने वाली हैं।

खेल समाचार चर्चित खेल व्यक्तित्व

सिंहराज अदाना ने पैरालम्पिक पुरुषों की 10 मीटर एयर पिस्टल में जीता कांस्य पदक


भारतीय पैरा निशानेबाज सिंहराज अदाना ने 31अगस्त, 2021 को टोक्यो पैरालम्पिक के 'P1 पुरुष 10 मीटर एयर पिस्टल SH1 स्पर्धा' में कांस्य पदक जीता।

  • अदाना ने कुल 216.8 का स्कोर करके तीसरा स्थान हासिल किया।
  • SH1 श्रेणी के एथलीटों में एक हाथ और/या पैर को प्रभावित करने वाली क्षति होती है, उदाहरण के लिए अंगविच्छेदन या रीढ़ की हड्डी की चोटों के परिणामस्वरूप क्षति। P1 पुरुषों की 10 एयर पिस्टल प्रतियोगिता के लिए एक वर्गीकरण है।

खेल समाचार विविध

टोक्यो ओलम्पिक 2020


23 जुलाई से 8 अगस्त, 2021 तक ‘टोक्यो ओलम्पिक 2020’ जापान में आयोजित किये गए। यह ओलम्पिक खेलों का 32वां संस्करण था।

  • टोक्यो 2020 ओलम्पिक खेलों का शुभंकर 'मिराईटोवा' (MIRAITOWA) था। यह जापानी शब्द ‘मिराई’ पर आधारित है, जिसका अर्थ है "भविष्य", और ‘टोवा" का अर्थ है "शाश्वतता।
  • टोक्यो 1964 (ग्रीष्मकालीन), साप्पोरो 1972 (शीतकालीन) और नागानो 1998 (शीतकालीन) ओलम्पिक खेलों की मेजबानी करने के बाद, यह चौथी बार था जब जापान ने ओलम्पिक खेलों की मेजबानी की।
  • चार खेलों ने टोक्यो ओलम्पिक खेलों में पदार्पण किया- कराटे, स्केटबोर्डिंग, स्पोर्ट क्लाइम्बिंग और सर्फिंग। इसके अलावा बेसबॉल/ सॉफ्टबॉल की इस ओलम्पिक में वापसी हुई।

पदक तालिका: संयुक्त राज्य अमेरिका 113 पदक (39 स्वर्ण, 41 रजत और 33 कांस्य पदक) के साथ पदक तालिका में शीर्ष पर रहा।

  • चीन 88 (38 स्वर्ण, 32 रजत, 18 कांस्य) पदक के साथ दूसरे तथा जापान 58 (27 स्वर्ण, 14 रजत, 17 कांस्य) पदक के साथ तीसरे स्थान पर रहा।

भारत का प्रदर्शन: भारत ने टोक्यो ओलम्पिक 2020 में 7 पदकों के साथ ओलम्पिक में अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया। इससे पहले भारत का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 2012 के लंदन ओलम्पिक में था, जहां उसने 6 पदक हासिल किये थे।

  • 7 पदकों में 1 स्वर्ण, 2 रजत और 4 कांस्य पदक शामिल हैं। भारत 86 देशों में से पदक तालिका में 48वें स्थान पर रहा।

भारतीय पदक विजेताओं की सूची-

  • स्वर्ण - नीरज चोपड़ा (पुरुषों की भाला फेंक)।
  • रजत- मीराबाई चानू (महिलाओं की 49 किग्रा. भारोत्तोलन); तथा रवि दहिया (पुरुषों की फ्रीस्टाइल 57 किग्रा. कुश्ती)।
  • कांस्य- लवलीना बोरगोहेन (महिला वेल्टरवेट मुक्केबाजी); पी वी सिंधु (महिला एकल बैडमिंटन); बजरंग पुनिया (पुरुषों की 65 किग्रा. फ्रीस्टाइल कुश्ती); तथा भारत पुरुष हॉकी टीम (हॉकी)।

टोक्यो ओलम्पिक अन्य तथ्य-

  • सर्वाधिक पदक: ऑस्ट्रेलियाई महिला तैराक एम्मा मैककॉन (Emma McKeon) (कुल 7 पदक: 4 स्वर्ण तथा 3 कांस्य)।
  • सर्वाधिक स्वर्ण पदक: संयुक्त राज्य अमेरिका के पुरुष तैराक कैलेब ड्रेसेल (5 स्वर्ण पदक)।
  • टोक्यो में सबसे कम उम्र की ओलम्पिक स्वर्ण पदक विजेता: मोमीजी निशिया (13
  • वर्ष और 330 दिन) (जापान) (महिला स्ट्रीट स्केटबोर्डिंग चैम्पियन)।
  • टोक्यो में सबसे उम्रदराज ओलम्पिक स्वर्ण पदक विजेता: डोरोथी श्नाइडर (52 वर्ष) (जर्मनी) (घुड़सवारी- ड्रेसेज टीम)।
  • टोक्यो में सबसे कम उम्र की ओलम्पिक पदक विजेता: 12 वर्षीय जापानी स्केटर कोकोना हिराकी (रजत पदक)।
  • टोक्यो में सबसे उम्रदराज ओलम्पिक पदक विजेता: 62 वर्षीय ऑस्ट्रेलियाई घुड़सवार एंड्रयू होय (टीम स्पर्धा में रजत पदक तथा व्यक्तिगत स्पर्धा में कांस्य पदक)।
  • अन्य तथ्य: नोबेल शांति पुरस्कार से सम्मानित बांग्लादेश के मुहम्मद यूनुस ‘ओलम्पिक लॉरेल’ (Olympic Laurel) के दूसरे प्राप्तकर्ता बने। ओलम्पिक लॉरेल पांच साल पहले खेल के माध्यम से संस्कृति, शिक्षा, शांति और विकास में प्रयासों को मान्यता देने के लिए स्थापित किया गया था। ‘ओलम्पिक लॉरेल’ पहली बार 2016 के रियो ओलम्पिक खेलों में केन्या के पूर्व ओलम्पियन 'किप कीनो' (Kip Keino) को दिया गया था। 2024 ग्रीष्मकालीन ओलम्पिक खेलों की मेजबानी पेरिस करेगा।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

‘तपस’ पोर्टल


केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री, डॉ. वीरेंद्र कुमार ने 14 अगस्त, 2021 को सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय के अंतर्गत आने वाले राष्ट्रीय सामाजिक रक्षा संस्थान (NISD) द्वारा विकसित किए गए एक ऑनलाइन पोर्टल ‘तपस’ यानी उत्पादकता एवं सेवाओं को बढ़ावा देने वाला प्रशिक्षण (TAPAS:Training for Augmenting Productivity and Services) का शुभारंभ किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: तपस, विषय से संबंधित विशेषज्ञों, अध्ययन सामग्रियों और व्याख्यान तक लोगों को पहुंच प्रदान करता है।

  • यह एक ऑनलाइन पाठ्यक्रम है और कोई भी व्यक्ति अपनी पूरी क्षमता के साथ इस सुविधा का उपयोग कर सकता है।
  • पाठ्यक्रम मॉड्यूल की शुरुआत करने का मुख्य उद्देश्य प्रतिभागियों के बीच क्षमता निर्माण करने के लिए प्रशिक्षण प्रदान करना और ज्ञान एवं कौशल का विकास करना है।
  • इसमें नशीली दवाओं (पदार्थ) के दुर्व्यवहार की रोकथाम करने, जराचिकित्सा/बुजुर्ग लोगों की देखभाल(Geriatric/Elderly Care), जड़बुद्धिता (Dementia) वाले लोगों की देखभाल और प्रबंधन, ट्रांसजेंडर मुद्दों और सामाजिक रक्षा विषयों पर पांच पाठ्यक्रम उपलब्ध कराए जा रहे हैं।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

राष्ट्रीय युवा पुरस्कार 2017-18 और 2018-19


12 अगस्त‚ 2021 को ‘अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस’ के अवसर पर केंद्रीय युवा मामले और खेल मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने नई दिल्ली स्थित विज्ञान भवन में आयोजित एक समारोह में ‘राष्ट्रीय युवा पुरस्कार 2017-18 और 2018-19’ प्रदान किए।

महत्वपूर्ण तथ्य: राष्ट्रीय युवा पुरस्कार 2017-18 के लिए कुल 14 पुरस्कार दिए गए, जिनमें व्यक्तिगत श्रेणी में 10 पुरस्कार तथा संगठन श्रेणी में 4 पुरस्कार शामिल थे।

  • जबकि राष्ट्रीय युवा पुरस्कार 2018-19 के लिए कुल 8 पुरस्कार दिए गए, जिनमें व्यक्तिगत श्रेणी में 7 पुरस्कार और संगठन श्रेणी में 1 पुरस्कार शामिल थे।
  • इस पुरस्कार में व्यक्तिगत श्रेणी में एक पदक‚ एक प्रमाण-पत्र और 1 लाख रुपये नकद पुरस्कार तथा संगठन श्रेणी में 3 लाख रुपये का नकद पुरस्कार प्रदान किया जाता है।
  • युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय और युवा कार्यक्रम विभाग स्वास्थ्य, मानवाधिकारों के प्रचार, सक्रिय नागरिकता, सामुदायिक सेवा आदि जैसे विकास और सामाजिक सेवा के विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य एवं योगदान करने वाले व्यक्तियों (15-29 वर्ष के बीच की आयु) और संगठनों को ‘राष्ट्रीय युवा पुरस्कार’ प्रदान करता है।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

आइन दुबई: दुनिया का सबसे विशाल और सबसे ऊंचा ऑब्जर्वेशन व्हील


दुनिया का सबसे विशाल और सबसे ऊंचा ऑब्जर्वेशन व्हील 'आइन दुबई' (Ain Dubai) 21 अक्टूबर, 2021 को संयुक्त अरब अमीरात में खोला जाएगा।

  • 'लंदन आई' (London Eye) से लगभग दोगुनी ऊंचाई पर, आइन दुबई आगंतुकों को 250 मीटर की ऊंचाई तक ले जाएगा, जहां से वे दुबई के सुरम्य क्षितिज के सुन्दर दृश्य का आनंद ले सकते हैं।
  • 'ब्लूवाटर्स द्वीप' पर स्थित, यह ऑब्जर्वेशन व्हील लगभग 38 मिनट के एक रोटेशन और लगभग 76 मिनट के दो रोटेशन वाले अनुभवों की पेशकश करेगा।
  • आगंतुकों के पास अपने निजी केबिन तक भी पहुंच होगी।
  • यह जन्मदिन, सगाई, शादियों और व्यावसायिक कार्यों के लिए अद्वितीय उत्सव पैकेज भी प्रदान करेगा।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित व्यक्ति

सुभद्रा कुमारी चौहान को उनकी 117वीं जयंती


गूगल ने 16 अगस्त, 2021 को प्रसिद्ध कविता झांसी की रानी की रचयिता भारतीय कवयित्री सुभद्रा कुमारी चौहान को उनकी 117वीं जयंती पर डूडल बनाकर सम्मानित किया।

  • सुभद्रा कुमारी ने हिंदी कविता में कई रचनाएँ लिखीं, जिनमें झाँसी की रानी उनकी सबसे प्रसिद्ध रचना थी, जो रानी लक्ष्मीबाई के जीवन का वर्णन करने वाली कविता है।
  • सुभद्रा कुमारी का जन्म 16 अगस्त, 1904 को उत्तर प्रदेश के प्रयागराज के निहालपुर गाँव के एक राजपुर परिवार में हुआ था।
  • उनका विवाह 1919 में खंडवा के ठाकुर लक्ष्मण सिंह चौहान से हुआ था।
  • सुभद्रा और उनके पति 1921 में महात्मा गांधी के असहयोग आंदोलन में शामिल हुए थे। वे नागपुर में अदालत में गिरफ्तार होने वाली पहली महिला सत्याग्रही थीं और 1923 और 1942 में ब्रिटिश शासन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन में शामिल होने के कारण दो बार जेल गईं।
  • 1948 में मध्य प्रदेश के सिवनी में एक कार दुर्घटना में उनकी मृत्यु हो गई थी।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

राष्ट्रीय खेल दिवस


29 अगस्त

  • महत्वपूर्ण तथ्य: हॉकी के जादूगर कहे जाने वाले मेजर ध्यानचंद का का जन्म दिवस भारत में राष्ट्रीय खेल दिवस के रूप में मनाया जाता है। उन्हें ‘हॉकी विजार्ड’ के नाम से भी जाना जाता है।
  • अगस्त 2021 में केंद्र सरकार ने मेजर ध्यान चंद के सम्मान में ‘राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार’ का नाम परिवर्तित कर ‘मेजर ध्यान चंद खेल रत्न पुरस्कार’ करने की घोषणा की।

खेल समाचार चर्चित खेल व्यक्तित्व

टोक्यो पैरालम्पिक: सुमित अंतिल ने पुरुषों की भाला फेंक F64 स्पर्धा में जीता स्वर्ण


टोक्यो पैरालिंपिक में 30 अगस्त, 2021 को भारत के सुमित अंतिल ने पुरुषों की भाला फेंक (F64) स्पर्धा में 68.55 मीटर के सर्वश्रेष्ठ थ्रो के साथ स्वर्ण पदक जीतने के साथ नया विश्व रिकॉर्ड बनाया।

  • उन्होंने अपने पांच प्रयास में तीन बार खुद के ही विश्व रिकॉर्ड को ध्वस्त किया और अंत में स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया।
  • हरियाणा के सोनीपत के रहने वाले सुमित ने पहले प्रयास में 66.95 मीटर तक भाला फेंका और अपना 2019 में दुबई में बनाया गया 62.88 मीटर का विश्व रिकॉर्ड रिकॉर्ड तोड़ा। इसके बाद सुमित ने दूसरे प्रयास में 68.08 मीटर तक भाला फेंककर एक और नया विश्व रिकॉर्ड बनाया।
  • पांचवें प्रयास में सुमित ने एक और नया विश्व रिकॉर्ड बनाते हुए 68.55 मीटर दूर तक भाले को फेंका और स्वर्ण जीता।
  • F64 वर्ग एक पैर के अंगविच्छेदन (leg amputation) वाले एथलीटों के लिए है, जो खड़े होने की स्थिति में प्रोस्थेटिक्स (prosthetics) के साथ प्रतिस्पर्धा करते हैं।

खेल समाचार चर्चित खेल व्यक्तित्व

टोक्यो पैरालम्पिक में योगेश कथुनिया ने पुरुषों की डिस्कस थ्रो (चक्का फेंक) F56 स्पर्धा में जीता रजत


डिस्कस थ्रोअर (Discus thrower) योगेश कथुनिया ने 30 अगस्त, 2021 को पुरुषों की चक्का फेंक स्पर्धा के F56 वर्ग में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए रजत पदक जीता।

  • नई दिल्ली के 24 वर्षीय योगेश ने अपने छठे और अंतिम प्रयास में 44.38 मीटर चक्का फेंककर दूसरा स्थान हासिल किया।
  • वहीं, इस स्पर्धा में ब्राजील के बतिस्ता डोस सांतोस ने 45.59 मीटर के साथ स्वर्ण, जबकि क्यूबा के लियानार्डो डियाज अलडाना (43.36 मीटर) ने कांस्य पदक जीता।
  • F56 वर्ग में, एथलीटों के पास पूरी बांह और धड़ की मांसपेशियों की शक्ति होती है। कुछ लोगों द्वारा घुटनों को एक साथ दबाने की पूरी क्षमता के लिए पेल्विक स्थिरता (Pelvic stability) प्रदान की जाती है।

खेल समाचार चर्चित खेल व्यक्तित्व

टोक्यो पैरालम्पिक में देवेंद्र झाझरिया और सुंदर सिंह गुर्जर ने भाला फेंक F46 वर्ग में जीता पदक


अनुभवी भारतीय भाला फेंक खिलाड़ी देवेंद्र झाझरिया और सुंदर सिंह गुर्जर ने 30 अगस्त, 2021 को टोक्यो पैरालम्पिक में पुरुषों की स्टैंडिंग जेवलिन थ्रो (भाला फेंक) F46 वर्ग में क्रमश: रजत और कांस्य पदक जीता।

  • श्रीलंका के दिनेश प्रियन हेराथ मुदियांसेलेज ने 67.79 मीटर के अपने विश्व रिकॉर्ड थ्रो के साथ स्वर्ण पदक जीता।
  • 2004 और 2016 के खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाले भारत के सबसे महान पैरालम्पियन 40 वर्षीय झाझरिया ने 64.35 मीटर के व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ थ्रो के साथ रजत पदक जीता।
  • 25 वर्षीय गुर्जर 64.01 मीटर के सर्वश्रेष्ठ प्रयास के साथ तीसरे स्थान पर रहे।
  • जयपुर के रहने वाले गुर्जर ने 2017 और 2019 विश्व पैरा एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक तथा 2018 जकार्ता पैरा एशियाई खेलों में रजत पदक जीता था।
  • F46 वर्ग उन एथलीटों के लिए होता है, जो बाँह की कमी, खराब मांसपेशी शक्ति तथा बाँह की निष्क्रिय गतिविधि के साथ खड़े होने की स्थिति में प्रतिस्पर्धा करते हैं।

खेल समाचार चर्चित खेल व्यक्तित्व

निषाद कुमार ने टोक्यो पैरालम्पिक 2020 में पुरुषों की ऊंची कूद में जीता रजत पदक


भारत के निषाद कुमार ने 29 अगस्त, 2021 को टोक्यो पैरालम्पिक में पुरुषों की ऊंची कूद T47 स्पर्धा में रजत पदक जीता।

  • हिमाचल प्रदेश के ऊना के रहने वाले 21 वर्षीय कुमार ने 2.06 मीटर की की छलांग लगाकर कर रजत पदक जीता और एशियाई रिकॉर्ड बनाया।
  • 2.06 मीटर की ही छलांग लगाने वाले अमेरिका के डलास वाइज ने भी रजत पदक हासिल किया।
  • एक अन्य अमेरिकी, रोडरिक टाउनसेंड ने 2.15 मीटर की विश्व रिकॉर्ड छलांग के साथ स्वर्ण पदक जीता।
  • एक अन्य भारतीय राम पाल 1.94 मीटर की सर्वश्रेष्ठ छलांग के साथ पांचवें स्थान पर रहे।
  • T47 वर्ग एकतरफा ऊपरी अंग की क्षति वाले एथलीटों के लिए है, जिसके परिणामस्वरूप कंधे, कोहनी और कलाई पर कुछ अक्षमता हो जाती है।

खेल समाचार क्रिकेट

जुलाई 2021 के आईसीसी प्लेयर ऑफ द मंथ


अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) ने 11 अगस्त, 2021 को 'जुलाई 2021 के आईसीसी प्लेयर ऑफ द मंथ' (ICC Player of the Month for July 2021) पुरस्कार विजेताओं की घोषणा की।

  • पुरुषों में बांग्लादेश के हरफनमौला खिलाडी शाकिब अल हसन ने बेहतरीन प्रदर्शन के लिए ‘जुलाई 2021 के लिए आईसीसी मेंस प्लेयर ऑफ द मंथ’ (ICC Men’s Player of the Month for July 2021) पुरस्कार जीता।
  • शाकिब ने जिम्बाब्वे के खिलाफ टीम की सीरीज जीत में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। उन्होंने एकदिवसीय मैचों में 145 रन बनाए और 8 विकेट लिए और उसके बाद टी -20 मैचों में 7 की इकॉनमी से तीन विकेट लिए। उन्होंने एक टेस्ट में भी पांच विकेट भी लिए, जिसमें पहली पारी में 4 विकेट शामिल थे, इस टेस्ट में बांग्लादेश ने 220 रन से जीत दर्ज की।
  • महिलाओं में वेस्टइंडीज की स्टेफनी टेलर ‘जुलाई 2021 के लिए आईसीसी वूमेंस प्लेयर ऑफ मंथ’ (ICC Women’s Player of the Month for July 2021) पुरस्कार के लिए चुनी गई।
  • पाकिस्तान के खिलाफ चार एकदिवसीय मैचों में टेलर ने 79.18 के स्ट्राइक रेट से 175 रन बनाए और 3.72 की इकॉनमी से तीन विकेट भी लिए। उन्होंने टी- 20 मैचों में चार विकेट हासिल किये।