सामयिक खबरें खेल क्रिकेट

आईसीसी के दशक के पुरस्कार


दिसंबर 2020 में दिग्गज महेंद्र सिंह धोनी को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) की दशक की एकदिवसीय और टी-20 अंतरराष्ट्रीय टीमों का कप्तान नामित किया गया, जबकि विराट कोहली को आईसीसी की दशक की टेस्ट टीम का कप्तान नामित किया गया है।

  • महिलाओं में, हरमनप्रीत कौर और पूनम यादव ने दशक की टी-20 टीम में जगह बनाई, जबकि मिताली राज और झूलन गोस्वामी को एकदिवसीय टीम के लिए चुना गया।
  • ऑस्ट्रेलियाई महिला क्रिकेट टीम की स्टार ऑलराउंडर एलिस पेरी ने ‘दशक की महिला क्रिकेटर’, ‘दशक की एकदिवसीय महिला क्रिकेटर’ और ‘दशक की टी-20 महिला क्रिकेटर’ तीनों पुरस्कार जीते।
  • भारत के पूर्व कप्तान एम. एस. धोनी को 2011 में नॉटिंघम टेस्ट में इंग्लैंड के बल्लेबाज इयान बेल को विचित्र तरीके से रन आउट होने के बाद वापस बुलाने के लिए प्रशंसकों द्वारा सर्वसम्मति से 'दशक के आईसीसी स्पिरिट ऑफ द क्रिकेट अवार्ड' के लिए चुना गया।

दशक की पुरुष टीम और पुरस्कार

  • टी-20 टीम: एम. एस. धोनी (कप्तान), रोहित शर्मा, क्रिस गेल, एरोन फिंच, विराट कोहली, ए.बी. डिविलियर्स, ग्लेन मैक्सवेल, किरोन पोलार्ड, राशिद खान, जसप्रीत बुमराह और लसिथ मलिंगा।
  • एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय टीम: एम. एस. धोनी (कप्तान), रोहित शर्मा, डेविड वार्नर, विराट कोहली, ए.बी. डिविलियर्स, शाकिब अल हसन, बेन स्टोक्स, मिशेल स्टार्क, ट्रेंट बोल्ट, इमरान ताहिर और लसिथ मलिंगा।
  • टेस्ट टीम: विराट कोहली (कप्तान), एलेस्टेयर कुक, डेविड वार्नर, केन विलियमसन, स्टीव स्मिथ, कुमार संगकारा, बेन स्टोक्स, आर. अश्विन, डेल स्टेन, स्टुअर्ट ब्रॉड और जेम्स एंडरसन।
  • दशक का क्रिकेटर: विराट कोहली
  • दशक का टेस्ट क्रिकेटर: स्टीव स्मिथ
  • दशक का एकदिवसीय क्रिकेटर: विराट कोहली
  • दशक का टी-20 क्रिकेटर: राशिद खान (अफगानिस्तान)

दशक की महिला टीम

  • टी-20 टीम: मेग लैनिंग (कप्तान), एलिसा हीली, सोफी डिवाइन, सूजी बेट्स, हरमनप्रीत कौर, स्टैफनी टेलर, डिआंड्रा डोटिन, एलिस पेरी, आन्या श्रबसोल, मेगन शट्ट और पूनम यादव।
  • एकदिवसीय टीम: मेग लैनिंग (कप्तान), एलिसा हीली, सूजी बेट्स, मिताली राज, स्टैफनी टेलर, सारा टेलर, एलिस पेरी, डेन वान नीकरक, मारिजाने कप, झूलन गोस्वामी, और अनीशा मोहम्मद।

अन्य पुरस्कार

  • दशक का आईसीसी पुरुष एसोसिएट प्लेयर- काइल कोएट्जर (स्कॉटलैंड)
  • दशक की आईसीसी महिला एसोसिएट प्लेयर- कैथरीन ब्रायस (स्कॉटलैंड)

पीआईबी न्यूज विज्ञान और तकनीक

सतह से हवा में मार करने वाली मध्यम रेंज मिसाइल


रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) ने 23 दिसंबर, 2020 ओडिशा तट के चांदीपुर एकीकृत परीक्षण रेंज से ‘सतह से हवा में मार करने वाली मध्यम रेंज मिसाइल’ (Medium Range Surface to Air Missile- MRSAM) के सेना संस्करण का पहला सफल परीक्षण किया।

  • मिसाइल ने एक उच्च गति वाले मानव रहित हवाई लक्ष्य को पूरी तरह से नष्ट कर दिया था।
  • MRSAM का सेना संस्करण भारत के डीआरडीओ और इजराइल के आईएआई द्वारा भारतीय सेना के उपयोग के लिए संयुक्त रूप से विकसित सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल है।
  • MRSAM सेना हथियार प्रणाली में कमांड पोस्ट, मल्टी-फंक्शन रडार और मोबाइल लॉन्चर प्रणाली शामिल हैं।

सामयिक खबरें आर्थिकी

प्रधानमंत्री द्वारा ‘पूर्वी समर्पित माल ढुलाई गलियारे’ के न्‍यू भाउपुर-न्यू खुर्जा खंड का उदघाटन


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 29 दिसंबर, 2020 को वर्चुअल माध्यम से ‘पूर्वी समर्पित माल ढुलाई गलियारे’ (Eastern Dedicated Freight Corridor- EDFC) के न्यू भाउपुर-न्यू खुर्जा खंड का उदघाटन किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: उत्तर प्रदेश में स्थित 351 किलोमीटर लंबे इस खंड के निर्माण पर 5, 750 करोड़ रुपये की लागत आई है।

  • लगभग 1,800 किलोमीटर की पूर्वी समर्पित माल ढुलाई गलियारा परियोजना उत्तर भारत को देश के पूर्वी हिस्से से एक समर्पित माल ढुलाई रेल पटरियों (freight railway tracks) के माध्यम से जोड़ेगी।
  • इस माल ढुलाई गलियारे के खुलने से मौजूदा कानपुर-दिल्ली लाइन पर भीड़-भाड़ कम होगी और रेलवे ज्यादा तेजी से रेलगाडियां चला सकेगा।
  • पूर्वी समर्पित माल ढुलाई गलियारे से उत्तर प्रदेश के कृषि उत्पाद अब देश के अन्य भागों तक ज्यादा तेज गति से पहुंचेंगे और इससे राज्य की निर्यात क्षमता बढ़ेगी।
  • प्रधानमंत्री ने पूर्वी समर्पित माल ढुलाई गलियारे के प्रयागराज स्थित अत्याधुनिक स्वदेशी सुविधाओं से सुसज्जित संचालन नियंत्रण केन्द्र (Operation Control Centre) का भी उदघाटन किया। यह इस माल ढुलाई गलियारे का नियंत्रण केन्द्र (command centre) होगा।
  • पूर्वी समर्पित माल ढुलाई गलियारा पंजाब के लुधियाना के पास साहनेवाल से शुरू होगा और पश्चिम बंगाल के दनकुनी में समाप्त होगा। लगभग 1,800 किलोमीटर के क्षेत्र में से, लगभग 1,000 किलोमीटर उत्तर प्रदेश से होकर गुजरेगा।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

वैश्विक ज्ञान सूचकांक 2020


संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (UNDP) और मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम नॉलेज फाउंडेशन ने संयुक्त रूप से 10 दिसंबर, 2020 को दुबई में एक सम्मेलन में वैश्विक ज्ञान सूचकांक 2020' (Global Knowledge Index 2020) जारी किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: स्विट्जरलैंड 73.6 के स्कोर के साथ शीर्ष पर रहा। यह लगातार चौथी बार है जब देश ने शीर्ष स्थान पर कब्जा जमाया है।

  • संयुक्त राज्य अमेरिका 71.1 के स्कोर के साथ दूसरे और फिनलैंड 70.8 के स्कोर के साथ तीसरे स्थान पर है।
  • 44.4 के स्कोर के साथ, भारत विश्व में 75वें स्थान पर है और अन्य दक्षिण एशियाई देशों से आगे रहा।
  • वैश्विक ज्ञान सूचकांक 2020 में बांग्लादेश 138 देशों में से 112 वें स्थान पर है। इसने 35.9 अंक हासिल किए हैं, जो दक्षिण एशियाई देशों में सबसे कम है।
  • श्रीलंका विश्व में 87वें स्थान पर और दक्षिण एशिया में 42.1 के स्कोर के साथ दूसरे स्थान पर है। अन्य दक्षिण एशियाई देशों में, भूटान ने 94वां, नेपाल ने 110वां और पाकिस्तान ने 111वां स्थान हासिल किया।
  • यह सूचकांक वर्ष 2017 से वार्षिक रूप से जारी किया जाता है।

सूचकांक का आधार: सूचकांक सात क्षेत्रों के तहत 133 परिवर्ती कारकों (variables) पर आधारित है। ये हैं: पूर्व-विश्वविद्यालय शिक्षा; तकनीकी और व्यावसायिक शिक्षा और प्रशिक्षण; उच्च शिक्षा और अनुसंधान; विकास और नवाचार; सूचना और संचार प्रौद्योगिकी; अर्थशास्त्र, और सामान्य सहायक वातावरण।

सामयिक खबरें विज्ञान-पर्यावरण

जापान का हायाबुसा-2 अंतरिक्ष यान


जापान का हायाबुसा-2 अंतरिक्ष यान 6 दिसंबर, 2020 को दक्षिणी आस्ट्रेलिया में दुर्लभ नमूनों व डेटा से भरे कैप्सूल के साथ वापस लौटा।

महत्वपूर्ण तथ्य: हायाबुसा-2 अंतरिक्ष यान ने क्षुद्रग्रह रायुगु (Ryugu) के मृदा-नमूनों और डेटा को एकत्रित किया है। हायाबुसा-2 अंतरिक्ष यान ने क्षुद्रग्रह रायुगु से एक साल पूर्व उड़ान भरी थी।

  • क्षुद्रग्रह के मृदा-नमूने और डेटा से सौर मंडल और जल की उत्पत्ति के बारे में जानकारी प्राप्त हो सकती है।

हायाबुसा-2: यह क्षुद्रग्रह से पृथ्वी पर नमूने लेकर वापस आने का मिशन है, जिसे जापानी अंतरिक्ष एजेंसी (Japanese Aerospace Exploration Agency- JAXA) द्वारा संचालित किया गया है।

  • हायाबुसा-2 अन्तरिक्ष यान को दिसंबर 2014 में प्रक्षेपित किया गया था और यह 27 जून, 2018 को क्षुद्रग्रह रायुगु (asteroid Ryugu) की सतह पर उतरा।
  • इस मिशन पर, रिमोट सेंसिंग, नमूना-संग्रहण के लिए कई विज्ञान अंतरिक्ष उपकरण, और चार छोटे आकार के रोवर्स भेजे गए थे।
  • रोवर्स का काम, नमूनों के पर्यावरणीय और भूवैज्ञानिक संदर्भ के बारे में जानकारी देने हेतु क्षुद्रग्रह की सतह का परीक्षण करना था।

अन्य तथ्य: रायुगु को संभावित खतरनाक क्षुद्रग्रहों (PHAs) के रूप में भी वर्गीकृत किया गया है। इसे 1999 में खोजा गया था और 2015 में माइनर प्लैनेट सेंटर द्वारा इसे नाम दिया गया था। यह पृथ्वी से 300 मिलियन किलोमीटर की दूरी पर है।

सामयिक खबरें खेल चर्चित खेल व्यक्तित्व

इटली के दिग्गज फुटबॉल खिलाड़ी पाउलो रोसी का निधन


  • फीफा विश्व कप 1982 में विश्व चैंपियन इटली के लिए सबसे ज्यादा गोल करने वाले फुटबॉल खिलाड़ी पाउलो रोसी का 9 दिसंबर, 2020 को निधन हो गया। वे 64 वर्ष के थे।
  • रोसी को सर्वकालिक महान फॉरवर्ड खिलाड़ियों में गिना जाता है। स्पेन में 1982 में खेले गए फीफा विश्व कप में उन्होंन पूरे टूर्नामेंट में छ; गोल किए थे और ‘गोल्डन बूट’ और ‘गोल्डन बॉल’ का अवार्ड जीता था।
  • रोसी फीफा विश्व कप के एक ही संस्करण में गोल्डन बूट और गोल्डन बॉल जीतने वाले तीन खिलाड़ियों में से एक हैं हैं। 1982 में रोसी को ‘बेलन डी ऑर’ पुरस्कार से भी नवाजा गया था।
  • उन्होंने अर्जेंटीना में 1978 विश्व कप में तीन गोल किए थे। रोबेर्टो बागियो, क्रिस्टियन वेइरी के अलावा वह विश्व कप में इटली के लिए सबसे ज्यादा नौ गोल करने वाले खिलाड़ी थे।

सामयिक खबरें खेल चर्चित खेल व्यक्तित्व

इंग्लैंड के दिग्गज बल्लेबाज जॉन एड्रिच का निधन


अपने समय के महानतम बल्लेबाजों में से एक इंग्लैंड के दिग्गज खिलाड़ी जॉन एड्रिच का 25 दिसंबर, 2020 को 83 वर्ष की आयु में निधन हो गया है।

  • एड्रिच ने 1963 और 1976 के बीच 77 टेस्ट और 7 एकदिवसीय मैचों में इंग्लैंड का प्रतिनिधित्व किया। उन्होंने टेस्ट मैचों में 43.54 की औसत से 5138 रन बनाए और एकदिवसीय मैचों में 223 रन बनाए।

सामयिक खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

'कराड जनता सहकारी बैंक' का लाइसेंस रद्द


भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने महाराष्ट्र में कराड स्थित 'कराड जनता सहकारी बैंक' (Karad Janata Sahakari Bank) का लाइसेंस रद्द कर दिया है। यह 7 दिसंबर से प्रभावी हो गया।

  • बैंक के पास पर्याप्त पूंजी और आमदनी की संभावना न होने के कारण इसका लाइसेंस रद्द कर दिया गया है।
  • करीब 99 फीसदी जमकर्ताओं को डिपोजिट इंश्योरेंस एंड क्रेडिट गारंटी कॉरपोरेशन (DICGC) की ओर से पूरी जमा राशि वापस मिलेगी।
  • परिसमापन (liquidation) पर, प्रत्येक जमाकर्ता को सामान्य बीमा नियमों और शर्तों के अनुसार डिपॉजिट इंश्योरेंस एंड क्रेडिट गारंटी कॉरपोरेशन (DICGC) से, 5 लाख रुपए की मौद्रिक सीमा तक उसकी जमा राशि के पुनर्भुगतान का अधिकार है।

सामयिक खबरें इन्हें भी जानें

ऑक्सीडेटिव क्षमता


जर्नल नेचर में हाल ही में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, वायुमंडलीय पर्टिकुलेट मैटर (atmospheric particulate matter) की हानिकारक प्रकृति इसकी ऑक्सीडेटिव क्षमता के कारण संभावित है।

  • आमतौर पर 10 माइक्रोमीटर से नीचे के व्यास के सूक्ष्म पर्टिकुलेट मैटर सबसे ज्यादा स्वास्थ्य जोखिम पैदा करते हैं। ऐसा इसलिए, क्योंकि वे फेफड़ों में और यहां तक कि रक्तप्रवाह में भी प्रवेश कर सकते हैं।
  • अत्यधिक प्रतिक्रियाशील रासायनिक अणुओं को बनाने के लिए ऑक्सीजन के साथ प्रतिक्रिया करने के लिए इन सूक्ष्म पार्टिकुलेट मैटर की क्षमता को प्रतिक्रियाशील ऑक्सीजन प्रजाति (Reactive Oxygen Species- ROS) या 'ऑक्सीडेटिव क्षमता' के रूप में जाना जाता है।
  • कोशिकाओं में निर्मित एक प्रतिक्रियाशील ऑक्सीजन प्रजाति डीएनए, आरएनए, प्रोटीन को नुकसान पहुंचा सकती है और कोशिका मृत्यु का कारण बन सकती है।

सामयिक खबरें संस्थान-संगठन

इंस्टीट्यूट ऑफ मिनरल्स एंड मैटेरियल्स टेक्नोलॉजी


सीएसआईआर-आईएमएमटी ने 6 दिसंबर, 2020 को भारत अंतरराष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव के लिए आभासी माध्यम में कर्टेन रेजर इवेंट का आयोजन किया।

  • सीएसआईआर-आईएमएमटी (इंस्टीट्यूट ऑफ मिनरल्स एंड मैटेरियल्स टेक्नोलॉजी), भुवनेश्वर वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर), नई दिल्ली की एक प्रमुख राष्ट्रीय प्रयोगशाला है।
  • यह भारत की खनिजों, पदार्थों और अन्य प्राकृतिक संसाधनों की क्षमता के दोहन के लिए समर्पित संस्थान है। इसे वर्ष 1964 में एक क्षेत्रीय अनुसंधान प्रयोगशाला (आरआरएल), भुवनेश्वर के रूप में स्थापित किया गया था।
  • लेकिन 13 अप्रैल, 2007 को नई जिम्मेदारियों, दृष्टिकोण और केंद्र बिंदु तय किए जाने के साथ इसका नाम बदलकर इंस्टीट्यूट ऑफ मिनरल्स एंड मैटेरियल्स टेक्नोलॉजी (आईएमएमटी) कर दिया गया।
  • संस्थान के पास खनन, खनिज और धातु उद्योगों की अनुसंधान और विकास समस्याओं का समाधान करने और उनके सतत विकास को सुनिश्चित करने के लिए कई प्रकार के विषयों में बुनियादी अनुसंधान और प्रौद्योगिकी उन्मुख कार्यक्रम संचालित करने में विशेषज्ञता है।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

संयुक्त राष्ट्र द्वारा भांग को सबसे हानिकारक ड्रग्स सूची से हटाया गया


संयुक्त राष्ट्र मादक औषध आयोग (United Nations Commission on Narcotic Drugs–CND) ने 2 दिसंबर, 2020 को भांग को सबसे हानिकारक ड्रग्स की सूची से हटा दिया।

महत्वपूर्ण तथ्य: ‘मादक औषध एकल अभिसमय1961’ (1961 Single Convention on Narcotic Drugs) की अनुसूची- IV से भांग (Cannabis) और भांग की राल (Cannabis Resin) को हटाए जाने हेतु मतदान कराया गया।

  • CND ने विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा वर्ष 2019 में की गयी सिफारिश का अनुमोदन किया है, जिसमें ‘भांग’ को ‘सबसे हानिकारक ड्रग्स’ की सूची से हटाने के लिए कहा गया था। इससे चिकित्सा उद्देश्यों के लिए इसके उपयोग को प्रोत्साहित करना संभव हो पाएगा।
  • कुल 53 देशों में भारत सहित 27 देशों ने निर्णय के पक्ष में, जबकि 25 देशों ने निर्णय के विपक्ष में मतदान किया। यूक्रेन ने मतदान में भाग नहीं लिया।
  • विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, भांग एक जेनेरिक शब्द है, जिसका इस्तेमाल कैनाबिस सैटिवा (Cannabis sativa) पादप से निर्मित मस्तिष्क को प्रभावित करने वाली साइकोएक्टिव (Psychoactive) औषधि मिश्रण के लिये किया जाता है।
  • कई देशों में भांग की पत्तियों या अन्य कच्चे पौधों की सामग्री के संदर्भ में मैक्सिकन शब्द 'मारिजुआना' का इस्तेमाल अक्सर किया जाता है।
  • 1946 में गठित, वियना स्थित ‘संयुक्त राष्ट्र मादक औषध आयोग’ (Commission on Narcotic Drugs- CND) वैश्विक स्तर पर मादक औषधियों से संबंधित अभिसमयों में हानिकारक ड्रग्स को सूचीबद्ध करती है।

सामयिक खबरें विज्ञान-पर्यावरण

क्वांटम कुंजी वितरण प्रौद्योगिकी


रक्षा अनुसंधान और विकास प्रयोगशाला’ (DRDO) द्वारा क्वांटम कुंजी वितरण (Quantum Key Distribution– QKD) प्रौद्योगिकी का प्रयोग करते हुए अपनी दो प्रयोगशालाओं के बीच ‘संचार’ का सफलतापूर्वक प्रदर्शन किया गया।

महत्वपूर्ण तथ्य: इस प्रदर्शन में भाग लेने वाली प्रयोगशालाएं, डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट लेबोरेटरी (DRDL) और रिसर्च सेंटर इमारत (RCI) थी।

क्या है प्रौद्योगिकी? QKD मुख्य रूप से सुरक्षित संचार के लिए एक तंत्र है, जो क्वांटम यांत्रिकी के विभिन्न घटकों से युक्त एक कूटलेखन प्रोटोकॉल (cryptographic protocol) का उपयोग करता है।

  • प्रौद्योगिकी दो संचार पक्षों के द्वारा साझा की गई यादृच्छिक गुप्त कुंजी के साथ संचार को सक्षम करती है।
  • क्वांटम कुंजी वितरण (QKD) प्रौद्योगिकी में डेटा स्थानांतरित करने के लिए फोटॉन– प्रकाश उत्सर्जन करने वाले कण- का उपयोग किया जाता है।
  • यह कुंजी किसी संदेश को कूटलेखन (encrypt) करने और विगूढ़न (decrypt) करने के लिए सुरक्षित साबित हुई है, तथा इस प्रकार के संदेश को सुरक्षित रूप से किसी भी मानक संचार चैनल पर भेजा जा सकता है।
  • यह प्रौद्योगिकी दो डीआरडीओ सुविधाओं, सेंटर फॉर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एंड रोबोटिक्स (CAIR), बेंगलुरु और डीआरडीओ यंग साइंटिस्ट्स लेबोरेटरी - क्वांटम टेक्नोलॉजी (DYSL-QT), मुंबई द्वारा विकसित की गई है।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप पुरस्कार/सम्मान

टाइम मैग्जीन पर्सन ऑफ द इयर 2020


टाइम मैग्जीन ने अमरीका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन और उपराष्ट्रपति कमला हैरिस को संयुक्त रूप से 2020 का पर्सन ऑफ द इयर मनोनीत किया है। मैग्जीन ने 10 दिसंबर, 2020 को ऑनलाइन प्रकाशित एक लेख में इसकी जानकारी दी है।

  • आमतौर पर पर्सन ऑफ द इयर किसी एक व्यक्ति को नामित करने की परंपरा रही है। लेकिन अतीत में एक से अधिक लोगों को भी इसके लिए मनोनीत किया गया है। टाइम मैग्जीन ने पर्सन ऑफ द एयर घोषित करने की शुरुआत 1927 से की।
  • 2019 में जलवायु संबंधी मुद्दों को लेकर आंदोलन करने वाली स्वीडन की किशोरी ग्रेटा थनबर्ग को मैग्जीन ने पर्सन ऑफ द एयर घोषित किया था, जो यह सम्मान पाने वाली सबसे कम उम्र की विजेता बनी थी।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप विविध

अनुसूचित जातियों के लिए मैट्रिकोत्तर छात्रवृत्ति


आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडल समिति ने 23 दिसंबर, 2020 को 'अनुसूचित जातियों के लिए मैट्रिकोत्तर छात्रवृत्ति' (Post Matric Scholarship to students belonging to Scheduled Castes- PMS-SC) में रूपांतरात्मक परिवर्तनों को अनुमोदित किया।

  • अनुसूचित जाति के छात्रों के लिए पांच वर्षों के लिए मैट्रिकोत्तर छात्रवृत्ति योजना के अंतर्गत 59,048 करोड़ रुपये की स्वीकृति दी है।
  • केन्द्र सरकार इस मद में 35, 534 करोड़ रुपये (60%) खर्च करेगी। शेष 40% हिस्सा राज्य सरकारों द्वारा वहन किया जाएगा।
  • अनुमानित 1.36 करोड़ ऐसे सबसे गरीब छात्र, जो वर्तमान में 10वीं कक्षा के बाद अपनी शिक्षा को जारी नहीं रख सकते हैं, उन्हें अगले पांच वर्षों में उच्चतर शिक्षा प्रणाली के अंतर्गत लाया जाएगा।


सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

महामारी की तैयारी का अंतरराष्ट्रीय दिवस


27 दिसंबर

महत्वपूर्ण तथ्य: 27 दिसंबर, 2020 को पहला महामारी की तैयारी का अंतरराष्ट्रीय दिवस, संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा महामारी की रोकथाम, महामारी के खिलाफ तैयारियों और साझेदारी के महत्व की वकालत हेतु मनाया गया।

सामयिक खबरें राज्य ओडिशा

ऑपरेशन ऑलिव


भारतीय तटरक्षक बल (Indian Coast Guard- ICG) ने ओडिशा में ‘ऑलिव रिडले कछुओं’ (Olive Ridley turtles) की सुरक्षा के लिए ‘ऑपरेशन ऑलिव’ शुरू किया है।

  • इसके तहत दो जहाजों को रशिकुल्या समुद्र तट और देवी नदी के मुहाने के गहिरमाथा समुद्री अभयारण्य में तैनात किया गया है। ये जहाज कछुओं के प्रमुख घोंसले वाले स्थानों (nesting sites) की देखभाल करेंगे।
  • तट रक्षक बल मछली पकड़ने वाले जहाजों को निषिद्ध क्षेत्र में प्रवेश करने से रोकेंगे। इन जहाजों के अलावा एक विमान भी इस ऑपरेशन का हिस्सा होगा।
  • ऑपरेशन ऑलिव को वर्ष 1999 में केंद्र सरकार द्वारा समुद्री प्रजातियों की सुरक्षा के लिए लॉन्च किया गया था।
  • पारादीप स्थित भारतीय तटरक्षक बल का मुख्यालय हर साल ओडिशा तट से इस अभियान की शुरुआत करता है। देश के तटीय क्षेत्रों में पर्यावरण की सुरक्षा के लिए भारतीय तटरक्षक बल नोडल एजेंसी है।
  • ऑलिव रिडले कछुए का वैज्ञानिक नाम 'लेपिडोचिल्स ऑलिवैसिया' (Lepidochelys olivacea) है, इसे दुनिया का सबसे बहुल समुद्री कछुआ माना जाता है।
  • यह आमतौर पर प्रशांत महासागर, हिन्द महासागरों और अटलांटिक महासागर के क्षेत्रों में पाया जाता है। IUCN द्वारा इसे ‘अतिसंवेदंशील प्रजाति’ (Vulnerable Species) के रूप में सूचीबद्ध किया गया है।

सामयिक खबरें खेल चर्चित खेल व्यक्तित्व

जेहान दारूवाला फार्मूला टू रेस जीतने वाले पहले भारतीय


भारतीय चालक जेहान दारूवाला ने 6 दिसंबर, 2020 को साखिर ग्रां प्री (Sakhir Grand Prix) के दौरान इतिहास रच दिया। वह फार्मूला टू रेस जीतने वाले पहले भारतीय बन गये।

  • फॉर्मूला टू चैम्पियन मिक शूमाकर और डेनियल टिकटुम के खिलाफ रोमांचक मुकाबले में 22 वर्षीय भारतीय चालक सत्र की अंतिम फॉर्मूला वन ग्रां प्री की सपोर्ट रेस में शीर्ष पर रहे। दारुवाला, रेयो रेसिंग के लिए ड्राइविंग कर रहे थे।

सामयिक खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

एसबीआई जनरल इंश्योरेंस और महिंद्रा इंश्योरेंस ब्रोकर्स लिमिटेड साझेदारी


दिसंबर 2020 में एसबीआई जनरल इंश्योरेंस ने ग्रामीण क्षेत्रों में बीमा सेवा बढ़ाने के लिए महिंद्रा इंश्योरेंस ब्रोकर्स लिमिटेड के साथ साझेदारी की है।

  • यह साझेदारी कंपनी को टियर 2 और 3 बाजारों में महत्वपूर्ण लोगों को स्वास्थ्य बीमा कवर प्रदान करने और रोजगार सृजन में सक्षम करेगी।
  • एसबीआई जनरल इंश्योरेंस नई कारों, वाणिज्यिक वाहनों, ट्रैक्टर और प्रयुक्त कारों के लिए भी महिंद्रा इंश्योरेंस ब्रोकर्स लिमिटेड (MIBL) के साथ जुड़ा हुआ है।
  • दोनों ने किफायती बीमा समाधान के लिए 'पेबीमा' (PAYBIMA) के साथ डिजिटल स्पेस में भागीदारी की है।
  • एसबीआई जनरल इंश्योरेंस प्रबंध निदेशक और सीईओ पी सी कांडपाल हैं।

सामयिक खबरें बिजनेस और सार्वजनिक उपक्रम

आईबीएम 'पी-टेक प्लेटफॉर्म'


प्रौद्योगिकी और परामर्श फर्म आईबीएम अपने ओपन 'पी-टेक प्लेटफॉर्म' (P-Tech platform) के माध्यम से तेलंगाना में 30,000 से अधिक छात्रों को प्रशिक्षित करेगी।

  • पी-टेक प्लेटफॉर्म उभरती प्रौद्योगिकियों पर केंद्रित एक मुफ्त डिजिटल शिक्षा मंच है।
  • फर्म ने इस संबंध में राज्य सरकार द्वारा प्रवर्तित कौशल विकास संस्थान 'तेलंगाना अकादमी ऑफ स्किल एंड नॉलेज' (TASK) के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं।

सामयिक खबरें इन्हें भी जानें

म्युकोरमाइकोसिस


  • हाल में दिल्ली के गंगाराम अस्पताल ने कोविड -19 रोगियों में दुर्लभ कवक संक्रमण के मामले दर्ज किए।
  • इस गंभीर लेकिन दुर्लभ कवक संक्रमण को म्युकोरमाइकोसिस (Mucormycosis) अथवा ज्यगोमाइकोसिस (zygomycosis) भी कहा जाता है।
  • यह, वातावरण में मौजूद म्युकोरमाइकेट्स (mucormycetes) नामक फफूंद की वजह से होने वाले संक्रमण से होता है।
  • म्युकोरमाइकोसिस, मुख्यतः उन लोगों को प्रभावित करता है, जिन्हें स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां होती हैं या जो ऐसी दवाएं लेते हैं, जिनसे शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता कम होती है।
  • म्युकोरमाइकोसिस से पीड़ित होने पर चेहरा सुन्न हो जाता है। एक तरफ नाक बंद हो सकती है या आंखों में सूजन हो सकती है और दर्द भी होता है।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

न्यूमोसिल


केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने 28 दिसंबर, 2020 को भारत के पहले न्यूमोकोकल कंजुगेट वैक्सीन (पीसीवी) 'न्यूमोसिल' (Pneumosil) को पेश किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: इस 'न्यूमोसिल' टीके का विकास सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया प्राइवेट लिमिटेड (एसआईआईपीएल) ने बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन जैसे भागीदारों के सहयोग से किया है।

  • एसआईआईपीएल को कोविड-19 वैश्विक महामारी के दौरान भारत सरकार से पहली स्वदेशी न्यूमोकोकल कंजुगेट वैक्सीन (पीसीवी) विकसित करने के लिए लाइसेंस मिला था।
  • सीरम इंस्टीट्यूट का पहला स्वदेशी न्यूमोकोकल कंजुगेट टीका एकल खुराक (शीशी और सिरिंज) में और कई खुराक वाली शीशी में ‘न्यूमोसिल’ ब्रांड नाम के तहत बाजार में सस्ती कीमत के साथ उपलब्ध होगा।
  • न्यूमोसिल को निमोनिया रोग की रोकथाम के लिए सुरक्षित एवं प्रभावी पाया गया।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

संविधान की सातवीं अनुसूची पर पुनर्विचार की आवश्यकता


दिसंबर 2020 में पंद्रहवें वित्त आयोग के अध्यक्ष एन के सिंह ने संविधान की सातवीं अनुसूची पर पुनर्विचार किये जाने की आवश्यकता को रेखांकित किया और कहा कि योजना आयोग की समाप्ति द्वारा बनाए गए एक 'संस्थागत निर्वात' (institutional vacuum) को भरने की आवश्यकता है।

महत्वपूर्ण तथ्य: उन्होंने इस बात पर भी बल दिया कि वित्त आयोग और जीएसटी परिषद के बीच एक समन्वय तंत्र अब एक 'अनिवार्य आवश्यकता' बन गया है क्योंकि दोनों ही संवैधानिक निकाय राजस्व और अनिश्चितता से जूझ रहे हैं।

  • राज्य, नीति आयोग और राष्ट्रीय विकास परिषद से परे केंद्र के साथ एक अलग तरह के 'नीति-आधारित परामर्शदात्री मंच' के इच्छुक हैं।

सातवीं अनुसूची: सातवीं अनुसूची संविधान के अनुच्छेद 246 के तहत संघ और राज्यों के बीच शक्तियों के विभाजन से संबंधित है। इसमें तीन सूचियाँ सम्मिलित हैं- संघ सूची, राज्य सूची और समवर्ती सूची।

  • संघीय सूची के तहत शामिल विषयों पर केन्द्र सरकार को कानून बनाने का अधिकार है, तथा राज्य सरकारों को राज्य सूची में शामिल विषयों पर कानून बनाने के अधिकार दिये गये हैं।
  • समवर्ती सूची के तहत शामिल विषयों पर केन्द्र और राज्य दोनों को कानून बनाने के अधिकार दिये गये हैं, लेकिन किसी विवाद की स्थिति में केन्द्र के कानून ही मान्य होंगे।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

अमेरिकी द्वारा भारत 'मुद्रा हेरफेर' निगरानी सूची में शामिल


16 दिसंबर, 2020 को अमेरिकी राजकोष विभाग द्वारा भारत, ताइवान और थाईलैंड को डॉलर के मुकाबले अपनी मुद्राओं के अवमूल्यन हेतु उपाय करने के संदेह में ‘मुद्रा हेरफेर’ (Currency Manipulators) वाले देशों की निगरानी सूची में शामिल किया गया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: नवीनतम निगरानी सूची में अन्य देशों में चीन, जापान, कोरिया, जर्मनी, इटली, सिंगापुर, मलेशिया शामिल हैं।

  • अमेरिकी राजकोष विभाग (U.S. Treasury) द्वारा स्विट्जरलैंड और वियतनाम को मुद्रा के साथ छेड़छाड़ करने वाला देश के रूप में घोषित किया गया है।
  • हालांकि, किसी देश को ‘मुद्रा हेरफेर करने वालों’ के रूप में घोषित किये जाने पर कोई दंड या प्रतिबंध नहीं लगाए जाते हैं, किंतु इससे वैश्विक वित्तीय बाजारों में देश के प्रति विश्वास में कमी हो जाती है।
  • भारत को आखिरी बार अक्टूबर 2018 में मुद्रा हेरफेर वाले देशों की निगरानी सूची में शामिल किया गया था, लेकिन मई 2019 में सूची से हटा दिया गया था।

अमेरिकी राजकोष विभाग द्वारा मुद्रा हेरफेर करने वाला देश घोषित करने हेतु मानदंड: किसी देश का अमेरिका के साथ एक साल के दौरान न्यूनतम 20 बिलियन डॉलर का द्विपक्षीय व्यापार अधिशेष हो जाए; एक साल के दौरान उस देश के सकल घरेलू उत्पाद का 2% से अधिक विदेशी मुद्रा हस्तक्षेप रहा हो; एक साल के दौरान उस देश का वैश्विक चालू खाता अधिशेष जीडीपी के 2% से अधिक रहा हो।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप निधन

मशहूर नर्तक अस्ताद देबू का निधन


कथक और कथकली को मिलाकर एक अनूठी नृत्य शैली पेश करने के लिए मशहूर नर्तक अस्ताद देबू का 10 दिसंबर, 2020 को निधन हो गया। वे 73 वर्ष के थे।

  • उन्होंने परंपरागत एवं आधुनिक शैली को मिलाकर नृत्य की एक नई विधा तैयार की है।
  • उन्होंने मणिरत्नम, विशाल भारद्वाज जैसे फिल्मकारों की फिल्मों और प्रसिद्ध चित्रकार एम.एफ. हुसैन की फिल्म ‘मीनाक्षीः ए टेल ऑफ थ्री सिटीज’ के लिए कोरियाग्राफी भी की थी।
  • उन्हें केंद्र सरकार द्वारा वर्ष 2007 में पद्म श्री से सम्मानित किया गया था। नृत्य के क्षेत्र में योगदान के लिए उन्हें वर्ष 1995 में ‘संगीत नाटक अकादमी’ पुरस्कार दिया गया था।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप पुरस्कार/सम्मान

इन्फोसिस पुरस्कार 2020


दिसंबर 2020 में एमआईटी, हॉर्वड तथा स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालयों के वैज्ञानिकों समेत छ: प्रतिष्ठित वैज्ञानिकों को अनुसंधान और नवाचार में उनके योगदान के लिये इन्फोसिस पुरस्कार 2020 से सम्मानित किया गया है।

  • इन्फोसिस साइंस फाउंडेशन (आईएसएफ) के इस वार्षिक पुरस्कार में स्वर्ण पदक, प्रशस्ति पत्र तथा एक लाख डॉलर अथवा इतनी ही भारतीय मुद्रा का पुरस्कार दिया जाता है।
  • डिजिटल माध्यम से हुए पुरस्कार समारोह में छ: श्रेणियों में पुरस्कार दिये गए, जिनमें जीव विज्ञान, इंजीनियरिंग एवं कम्प्यूटर साइंस, मानविकी, , गणित विज्ञान, भौतिक विज्ञान तथा समाज विज्ञान शामिल हैं।
    • जीव विज्ञान: राजन शंकरनारायणन (कोशीय एवं आणविक जीव विज्ञान केंद्र हैदराबाद);
    • इंजीनियरिंग एवं कंप्यूटर साइंस: प्रोफेसर हरि बालाकृष्णन (मैसाच्यूसेट्स प्रौद्योगिकी संस्थान -एमआईटी);
    • मानविकी: प्राची देशपांडे (समाज विज्ञान अध्ययन केन्द्र कोलकाता);
    • गणित विज्ञान: प्रोफेसर सौरव चटर्जी (स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी अमेरिका);
    • भौतिक विज्ञान: प्रोफेसर अरिंदम घोष (भारतीय विज्ञान संस्थान, बेंगलुरु);
    • समाज विज्ञान: प्रोफेसर राज चेट्टी (हार्वर्ड विश्वविद्यालय अमेरिका)।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप वेब पोर्टल/ऐप

मोबाइल एप्लीकेशन 'स्वच्छता अभियान'


केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावर चंद गहलोत ने 24 दिसंबर, 2020 को एक मोबाइल एप्लीकेशन 'स्वच्छता अभियान' का शुभारंभ किया।

उद्देश्य: अस्वच्छ शौचालयों (insanitary latrines) के स्थान पर स्वच्छ शौचालय स्थापित करना और मैला ढोने वालों (manual scavenger) का पुनर्वास कर उन्हें सम्मानजनक जीवन प्रदान करना।

  • स्वच्छता अभियान मोबाइल एप्लीकेशन को अस्वच्छ शौचालय और मैला ढोने वालों की पहचान करने और उनकी जियो टैगिंग करने के लिए विकसित किया गया है।
  • ऐप की मदद से कहीं पर भी गंदे शौचालय या मैला ढोने की व्यवस्था देखे जाने पर उसका विवरण इस मोबाइल एप्लिकेशन पर अपलोड किया जा सकता है।
  • 2011 की जनगणना के अनुसार देश में 26 लाख से अधिक ऐसे शौचालय थे, जहां स्वच्छता नहीं थी। मानव द्वारा मैला ढोने की व्यवस्था का मुख्य कारण अस्वच्छ शौचालय हैं।
  • मैला ढोने वालों का काम खत्म करने और उनके पुनर्वास हेतु 2013 में लाए गए अधिनियम के चलते मैला ढोने वालों को काम पर रखना प्रतिबंधित हो गया था, जिससे यह आवश्यक हो जाता है कि अस्वच्छ शौचालयों का सर्वेक्षण किया जाए और उन्हें गिराकर उनके स्थान पर स्वच्छ शौचालयों का निर्माण कराया जाए।

सामयिक खबरें खेल विविध

ब्रेक डांस 2024 पेरिस ओलंपिक में शामिल


ब्रेक डांस को 2024 पेरिस ओलंपिक में शामिल किया गया है।

  • पेरिस 2024 ओलंपिक आयोजन समिति ने पिछले साल आईओसी से चार नये खेलों को ओलंपिक में शामिल करने का प्रस्ताव रखा था। जिसे आईओसी के कार्यकारी बोर्ड ने हरी झंडी दे दी।
  • टोक्यों ओलंपिक में सर्फिंग (surfing), स्केटबोर्ड (skateboard), और स्पोर्ट्स क्लाइंबिग (sports climbing) को पहले ही शामिल किया है।
  • ब्रेक डांस का विश्व के कुछ देशों में काफी क्रेज है। 2018 यूथ ओलिंपिक में इसे बतौर खेल शामिल किया गया था।

सामयिक खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

यस बैंक की विशेष सेवा 'एसएमएस पे'


निजी क्षेत्र के ऋणदाता यस बैंक ने एक विशेष सेवा 'एसएमएस पे' (SMS Pay) शुरू की है, जो व्यापारियों को अपने ग्राहकों से संपर्क रहित और दूरस्थ भुगतान स्वीकार करने में सक्षम बनाएगी।

  • 'वर्ल्डलाइन' (Worldline) के साथ साझेदारी में यह 'प्वाइंट ऑफ सेल' (PoS) टर्मिनलों पर, दुकानदारों और व्यापारियों के लिए उपलब्ध होगी, जिनमें स्थानीय किराना स्टोर और डिपार्टमेंटल स्टोर शामिल हैं, जो उन्हें केवल PoS मशीनों में राशि और ग्राहक संपर्क विवरण दर्ज करके भुगतान का अनुरोध करने में सक्षम करती है। इसके बाद भुगतान लिंक के साथ ग्राहक के मोबाइल नंबर पर एक एसएमएस भेजा जाएगा।

सामयिक खबरें बिजनेस और सार्वजनिक उपक्रम

ऑयल इंडिया लिमिटेड और एएचईसीएल के बीच समझौता


22 दिसंबर, 2020 को भारत की दूसरी सबसे बड़ी राष्ट्रीय अन्वेषण और उत्पादन कंपनी ऑयल इंडिया लिमिटेड (OIL) ने असम हाइड्रोकार्बन एंड एनर्जी कंपनी लिमिटेड (एएचईसीएल) के साथ एक समझौता ज्ञापन (MoU) पर हस्ताक्षर किए हैं।

  • समझौते के तहत पारस्परिक लाभ के लिए असम में हाइड्रोकार्बन की खोज और प्राकृतिक गैस के विकास और विपणन में द्विपक्षीय सहयोग की सुविधा के लिए एक संयुक्त संस्थागत ढांचे की स्थापना करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

सामयिक खबरें राज्य तेलंगाना

तेलंगाना फाइबर ग्रिड परियोजना


तेलंगाना सरकार ने 15 दिसंबर, 2020 को राज्य में ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क स्थापित करने वाली तेलंगाना फाइबर ग्रिड परियोजना (टी-फाइबर) को स्वीकृति दे दी है।

उद्देश्य: राज्य के प्रत्येक घर में उच्च गति की ब्रॉडबैंड सेवा प्रदान करना।

  • 'टी-फाइबर'' परियोजना को 'महत्वपूर्ण सार्वजनिक उद्देश्य की परियोजना’ घोषित किया गया है, जिससे इस महत्वाकांक्षी ऑप्टिकल फाइबर परियोजना को बिछाने के लिए राज्य सरकार के संबंधित अधिकारियों से अनुमति लेने की आवश्यकता नहीं होगी।
  • परियोजना का लक्ष्य 33 जिलों, 589 मण्डल, 12751-ग्राम पंचायत, 10128 गांवों तथा 83.5 लाख परिवारों को डिजिटल सेवा प्रदान करना है।
  • परियोजना मिशन भागीरथ (जो हर घर को पानी उपलब्ध कराती है) के लिए खोदी गई 18,000 किमी. लंबी खाइयों का उपयोग करेगी। इसके अलावा, यह 20,000 किमी. की लंबाई की नई खाइयों को बिछाएगा। नेटवर्क की कुल लंबाई 38,000 किमी. होगी।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

डीटीएच सेवाएं प्रदान करने संबंधी दिशा-निर्देश में संशोधन


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने 23 दिसंबर, 2020 को भारत में डायरेक्ट टू होम (डीटीएच) सेवाएं प्रदान करने के लिए लाइसेंस प्राप्त करने हेतु दिशा-निर्देश में संशोधन के प्रस्ताव को स्वीकृति प्रदान की।

मुख्य विशेषताएं: डीटीएच के लिए लाइसेंस वर्तमान 10 वर्ष की अपेक्षा अब 20 वर्ष की अवधि के लिए जारी किया जाएगा।

  • लाइसेंस शुल्क को सकल राजस्व के 10% से समायोजित सकल राजस्व के 8% तक संशोधित किया गया है। सकल राजस्व से जीएसटी को घटाकर समायोजित सकल राजस्व की गणना की जाएगी।
  • डीटीएच के लिए 100% प्रत्यक्ष विदेशी निवेश की अनुमति।
  • लाइसेंस शुल्क वर्तमान में वार्षिक आधार के स्थान पर अब त्रिमासिक आधार पर संग्रहीत किया जाएगा।

डीटीएच संचालकों को उनके द्वारा दिखाए जाने वाले कुल अनुमति प्राप्त प्लेटफॉर्म चैनलों की क्षमता से अधिकतम 5% के संचालन को अनुमति दी जाएगी। एक डीटीएच संचालक से प्रति पीएस चैनल के लिए 10,000 रुपये का नॉन-रिफंडेबल पंजीकरण शुल्क लिया जाएगा।

सामयिक खबरें आर्थिकी

एनबीएफसी द्वारा लाभांश की घोषणा पर मसौदा परिपत्र


भारतीय रिजर्व बैंक ने मौद्रिक नीति में की गई घोषणा के अनुपालन में 9 दिसंबर, 2020 को गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों एनबीएफसीएस द्वारा लाभांश की घोषणा पर मसौदा परिपत्र जारी किया है।

उद्देश्य: गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों के बढ़ते महत्व और वित्तीय प्रणाली में विभिन्न क्षेत्रों के साथ उनके परस्पर जुड़ाव को देखते हुये इन कंपनियों को मजबूत किया करना।

महत्वपूर्ण तथ्य: जमा प्राप्त करने वाली गैर बैकिंग वित्तीय कंपनियां और व्यवस्थित रूप से जमा न प्राप्त करने वाली कंपनियों के पास अपनी शुद्ध गैर-निष्पादित परिसंपत्तियां 6% से कम होनी चाहिए।

  • लाभांश के लिए लेखांकन वर्ष सहित पिछले तीन वर्षों में लिए कम से कम 15% पूंजी का पर्याप्त अनुपात (capital adequacy ratio) होना चाहिए।
  • गैर-व्यवस्थित रूप से जमा प्राप्त नहीं करने वाली गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों में कम से कम 7% का लाभ होना चाहिए जबकि कोर इन्वेस्टमेंट कंपनी-सीआईसी के पास अपनी कुल जोखिम संपत्तियों के कम से कम 30% की कुल समायोजित संपत्ति होनी चाहिए।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप निधन

हिंदी कवि और साहित्यिक पत्रकार मंगलेश डबराल का निधन


समकालीन हिंदी कवि और साहित्यिक पत्रकार मंगलेश डबराल का 9 दिसंबर, 2020 को दिल्ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान में निधन हो गया। वे 72 वर्ष के थे।

  • पांच कविता संग्रह - 'पहाड़ पार लालटेन', 'घर का रास्ता', 'हम जो देखते हैं', 'आवाज भी एक जगह है' और 'नये युग में शत्रु' के अलावा डबराल के गद्य के दो संग्रह 'लेखक की रोटी' और ‘कवि का अकेलापन' और एक यात्रावृत्त 'एक बार आयोवा' भी प्रकाशित हो चुके हैं।
  • उत्तराखंड के टिहरी गढ़वाल के काफलपानी गाँव में जन्मे डबराल 1960 के दशक के उत्तरार्ध में दिल्ली चले गए और हिंदी पैट्रियट, प्रतिपक्ष और आसपास जैसे समाचार पत्रों के लिए काम किया।
  • उन्हें 'हम जो देखते हैं' के लिए 2000 में साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।


सामयिक खबरें सार-संक्षेप पुरस्कार/सम्मान

'हेल्पएज इंडिया' को संयुक्त राष्ट्र जनसंख्या पुरस्कार 2020


दिसंबर 2020 में 'हेल्पएज इंडिया' को 'संस्थागत श्रेणी' के लिए संयुक्त राष्ट्र जनसंख्या पुरस्कार 2020 प्रदान किया गया है।

  • संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा 1981 में स्थापित, संयुक्त राष्ट्र जनसंख्या पुरस्कार 'जनसंख्या' और 'प्रजनन स्वास्थ्य' के क्षेत्र में योगदान को मान्यता देता है।
  • संयुक्त राष्ट्र जनसंख्या पुरस्कार के इतिहास में पहली बार, किसी भारतीय संस्था को यह सम्मान प्रदान किया गया है।
  • 1978 में स्थापित हेल्पएज इंडिया, चार दशकों से 'वंचित वर्ग के वृद्धों की देखभाल और कल्याण द्वारा उनके जीवन की गुणवत्ता में सुधार करने के लिए' काम कर रहा है, यह पुरस्कार पाने वाली पहली भारतीय संस्था है।
  • पिछली बार एक भारतीय को 28 साल पहले वर्ष 1992 में यह पुरस्कार मिला था, जब जे.आर.डी टाटा को व्यक्तिगत तौर पर सम्मानित किया गया था।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप युद्धाभ्यास/सैन्य अभियान

भारत-इंडोनेशिया समन्वित गश्त का 35वां संस्करण


  • 17- 18 दिसंबर, 2020 को भारत-इंडोनेशिया समन्वित गश्त (IND-INDO CORPAT) के 35वें संस्करण का आयोजन किया गया।
  • IND-INDO CORPAT का आयोजन प्रतिवर्ष भारत और इंडोनेशिया की नौसेनाओं के बीच किया जाता है। इसका उद्देश्य क्षेत्र में शिपिंग और अंतरराष्ट्रीय व्यापार की सुरक्षा सुनिश्चित करना है।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप कला/संस्कृति

सिंधु घाटी के बर्तनों में गाय तथा भैंस के मांस के अवशेष


  • दिसंबर 2020 में एक नए अध्ययन में, वर्तमान में हरियाणा और उत्तर प्रदेश में स्थित, सिंधु घाटी सभ्यता के सात स्थलों पर लगभग 4,600 साल पुराने चीनी मिट्टी के बर्तन में गाय और भैंस के मांस सहित अन्य पशु उत्पादों की मौजूदगी पाई गई है।
  • सिंधु घाटी स्थलों पर पाई गयी पालतू पशुओं की हड्डियों में से लगभग 50-60% हड्डियां गाय/ भैंसों की है।
  • गाय/ भैंसों की हड्डियों का बड़े अनुपात में पाया जाना सिंधु सभ्यता के दौरान खाद्य पदार्थो में, गोमांस को वरीयता दिए जाने, भेड़ तथा बकरी के मांस को पूरक आहार के रूप में शामिल किए जाने का संकेत करता है।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

अंतरराष्ट्रीय मानव एकजुटता दिवस


20 दिसंबर

महत्वपूर्ण तथ्य: यह दिवस हमारी विविधता में एकता का जश्न मनाने; सरकारों को अंतरराष्ट्रीय समझौतों के लिए उनकी प्रतिबद्धताओं का सम्मान करने के लिए स्मरण; तथा एकजुटता के महत्व के बारे में सार्वजनिक जागरूकता बढ़ाने का अवसर प्रदान करता है।

सामयिक खबरें राज्य महाराष्ट्र

महाराष्ट्र पुलिस को मिला ‘क्रॉलर’ नामक सॉफ्टवेयर


दिसंबर 2020 में महाराष्ट्र पुलिस की साइबर विंग ने ‘इंटरपोल’ (Interpol) से ‘क्रॉलर’ (Crawler) नामक एक सॉफ्टवेयर प्राप्त किया है, जो चाइल्ड पोर्नोग्राफी का पता लगाने में मदद करेगा।

  • सॉफ्टवेयर से जुड़े एक मिशन को क्रियान्वित करने के लिए महाराष्ट्र के 12 साइबर अधिकारियों की एक ‘ट्रेस’ (Tactical Response Against Cyber Child Exploitation- TRACE) नामक कोर यूनिट बनाई गई है। ये बारह अधिकारी इंटरपोल के दक्षिण एशियाई विंग से प्रशिक्षण प्राप्त करेंगे।
  • 2019 के बाद से देश भर में बाल यौन उत्पीड़न सामग्री (CSAM) के खिलाफ एक बड़े अभियान के एक भाग के रूप में TRACE यूनिट की स्थापना की गई थी।

क्रॉलर सॉफ्टवेयर: यह सॉफ्टवेयर विभिन्न मैकेनिज्म का उपयोग करता है जैसे कि चित्रों में नग्नता का पता लगाना और उनके चेहरे की संरचनाओं के माध्यम से व्यक्ति की उम्र का पता लगाना इत्यादि।

ऑपरेशन ब्लैकफेस (Operation Blackface) : ऑपरेशन ब्लैकफेस 'देश भर में बाल यौन उत्पीड़न सामग्री के खिलाफ की गई बड़ी कार्रवाई का हिस्सा है।

सामयिक खबरें खेल विविध

कोलोन मुक्केबाजी विश्व कप 2020


जर्मनी के कोलोन में मुक्केबाजी विश्व कप 2020 में भारत तीन स्वर्ण, दो रजत और चार कांस्य पदक जीतकर संपूर्ण पदक तालिका में दूसरे स्थान पर रहा।

  • भारतीय महिला मुक्केबाज सिमरनजीत कौर (60 किग्रा) और मनीषा (57 किग्रा) ने जर्मनी में कोलोन मुक्केबाजी विश्व कप में स्वर्ण पदक जीते। मनीषा ने हमवतन साक्षी को 3-2 से हराया जबकि सिमरनजीत ने जर्मनी की माया किलिहान्स को 4-1 से पराजित करके खिताब जीता।
  • पुरुष वर्ग में अमित पंघाल (52 किग्रा) ने स्वर्ण पदक जीता था। उन्हें फाइनल में वाकओवर मिला था।
  • यूरोपीय बॉक्सिंग संघ की मेजबानी में 16 से 20 दिसंबर, 2020 को आयोजित इस प्रतियोगिता में मेजबान जर्मनी और भारत के अलावा बेल्जियम, क्रोएशिया, डेनमार्क, फ्रांस, मोलदोवा, नीदरलैंड, पोलैंड और यूक्रेन के मुक्केबाजों ने भी हिस्सा लिया था।

सामयिक खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

आरबीएल बैंक और आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल बैंक-बीमा साझेदारी


दिसंबर 2020 में आरबीएल बैंक और आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल लाइफ इंश्योरेंस ने एक बैंक-बीमा साझेदारी (bancassurance partnership) की है।

  • यह साझेदारी आरबीएल बैंक के 87 लाख से अधिक ग्राहकों को कंपनी के ग्राहक-केंद्रित सुरक्षा और दीर्घकालिक बचत उत्पादों तक निर्बाध रूप से पहुंच और खरीद करने में सक्षम करेगा और उन्हें व उनके परिवार को वित्तीय सुरक्षा प्रदान करेगा।
  • आरबीएल बैंक अपने इंटरनेट और मोबाइल बैंकिंग टच-पॉइंट्स के अलावा, 28 राज्यों में 398 शाखाओं के नेटवर्क के माध्यम से आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल लाइफ के उत्पादों का वितरण करेगा।
  • बैंक-बीमा का अर्थ है बैंकों के माध्यम से बीमा उत्पाद बेचना। आरबीएल बैंक, जिसे पहले रत्नाकर बैंक के नाम से जाना जाता था, एक भारतीय निजी क्षेत्र का बैंक है जिसका मुख्यालय मुंबई में है और इसकी स्थापना 1943 में हुई थी। विश्ववीर आहूजा आरबीएल बैंक के एमडी और सीईओ हैं।

सामयिक खबरें बिजनेस और सार्वजनिक उपक्रम

15वां सीआईआई-आईटीसी सस्टेनेबिलिटी पुरस्कार 2020


देश की सबसे बड़ी विद्युत उत्पादक कंपनी एनटीपीसी लिमिटेड को 23 दिसंबर, 2020 को कॉरपोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व (सीएसआर) के क्षेत्र में प्रतिष्ठित ‘15वां सीआईआई-आईटीसी सस्टेनेबिलिटी पुरस्कार 2020’ दिया गया।

  • एनटीपीसी को ‘कॉरपोरेट उत्कृष्टता’ श्रेणी में उल्लेखनीय उपलब्धि के लिए सम्मानित किया गया है। एनटीपीसी एकमात्र सार्वजनिक क्षेत्र का उपक्रम (पीएसयू) है, जिसने कॉरपोरेट उत्कृष्टता श्रेणी में इस पुरस्कार को प्राप्त किया है।
  • एनटीपीसी ने यह प्रतिष्ठित पुरस्कार लगातार दूसरी बार प्राप्त किया है। इससे पहले वर्ष 2019 में भी एनटीपीसी लिमिटेड को इस पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।
  • यह पुरस्कार कॉरपोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व के क्षेत्र में सीआईआई-आईटीसी द्वारा दिया जाने वाला सर्वोच्च पुरस्कार है।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

आंध्र प्रदेश और मध्य प्रदेश स्थानीय निकायों में सुधार के मामले में सबसे आगे


वित्त मंत्रालय के व्यय विभाग के अनुरूप आंध्र प्रदेश और मध्य प्रदेश ने अपने स्थानीय निकायों के कामकाज में काफी सुधार किया है। इस दिशा में इन राज्यों को और प्रोत्साहित करने के लिए वित्त मंत्रालय ने इन्हें खुले बाजार से 4,898 करेाड़ रुपए की अतिरिक्त पूंजी जुटाने की अनुमति दी है।

महत्वपूर्ण तथ्य: आंध्र प्रदेश को 2,525 करोड़ रुपए और मध्य प्रदेश को 2,373 रुपए की अतिरिक्त पूंजी जुटाने की अनुमति दी गई है।

  • आंध्र प्रदेश और मध्य प्रदेश द्वारा किए गए सुधारों के अलावा, 10 राज्यों ने वन नेशन, वन राशन कार्ड प्रणाली को लागू किया है और 6 राज्यों ने अब तक कारोबार को सुगम बनाने के लिए सुधार किए हैं।
  • कोविड महामारी के कारण उत्पन्न चुनौतियों से निपटने के लिए भारत सरकार ने इन राज्यों के लिए बाजार से पूंजी जुटाने की सीमा उनकी जीडीपी के 2% तक करने की अनुमति देने का फैसला 17 मई, 2020 को लिया था। इस पूंजी में से आधी राशि नागरिक सुविधाओं पर खर्च की जाएगी
  • इनमें एक राष्ट्र, एक राशन कार्ड की व्यवस्था लागू करना, करोबारी सुगमता से जुडे़ सुधार, शहरी / स्थानीय निकायों से जुड़े सुधार और बिजली क्षेत्र से जुड़े सुधार शामिल हैं।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

पानी की गुणवत्ता परीक्षण नवाचार चैलेंज


राष्ट्रीय जल जीवन मिशन ने 25 दिसंबर, 2020 को पीने के पानी की गुणवत्ता की जांच करने के पोर्टेबल उपकरणों के विकास के लिए 'पानी की गुणवत्ता परीक्षण नवाचार चैलेंज' (Water Quality Testing Innovation Challenge) की शुरूआत की।

महत्वपूर्ण तथ्य: जल गुणवत्ता परीक्षण केंद्र सरकार के प्रमुख कार्यक्रम जल जीवन मिशन के तहत प्राथमिकता वाले क्षेत्रों में से एक है।

  • इस नवाचार चैलेंज का उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि विभिन्न स्थानों पर और विभिन्न स्तरों पर जल स्रोतों का परीक्षण किया जाए; इसके अलावा दूषित जल के मुद्दों का स्थाई समाधान प्रदान करने वाले कार्यक्रमों की रूपरेखा तय करने के लिए नीति निर्धारणकर्ताओं की मदद करना भी इसमें शामिल है।
  • जल जीवन मिशन वर्ष 2024 तक हर ग्रामीण घर को नल द्वारा जल कनेक्शन प्राप्त करने में सक्षम बनाने के लिए राज्यों की साझेदारी के साथ काम कर रहा है।
  • सार्वभौमिक पेयजल गुणवत्ता प्रोटोकॉल, 2019 ने BIS IS 10500: 2012 और उसके बाद के संशोधनों के अनुसार पीने के पानी की पोर्टेबिलिटी को सुनिश्चित करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण मापदंडों को निर्दिष्ट किया है।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

भारत में व्यापक स्वास्थ्य कवरेज रुपरेखा हेतु ‘लांसेट नागरिक आयोग’


11 दिसंबर, 2020 को ‘भारत में व्यापक स्वास्थ्य कवरेज रुपरेखा हेतु- लांसेट नागरिक आयोग’ (Lancet Citizens’ Commission on Reimagining India’s Health System) लॉन्च किया गया।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह भारत में दस वर्षों की अवधि के भीतर सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज (universal health coverage– UHC) को प्राप्त करने के लिए नागरिकों के रोडमैप को विकसित करने के लिए सभी क्षेत्रों में लागू की जाने वाली एक पहल है।

  • यह विश्व की प्रमुख स्वास्थ्य शोध पत्रिका ‘द लांसेट’ और लक्ष्मी मित्तल एंड फैमिली साउथ एशिया इंस्टीट्यूट और हार्वर्ड यूनिवर्सिटी की भागीदारी वाली देशव्यापी पहल है।
  • आयोग का मिशन आगामी दशक में सभी हितधारकों के साथ काम करते हुए भारत में UHC को प्राप्त करने का मार्ग प्रशस्त करना है।
  • कोविड-19 महामारी से बहुत पहले भारत में स्वास्थ्य देखभाल में सुधार की सख्त आवश्यकता थी। मातृ और शिशु मृत्यु दर जैसे स्वास्थ्य संकेतकों में काफी प्रगति के बावजूद, भारत में बीमारियों का बहुत अधिक बोझ है।
  • आयोग चार सिद्धांतों के तहत कार्य करेगा; पहला, सभी स्वास्थ्य संबंधित चिंताओं को UHC के अंतर्गत लाना; दूसरा, रोकथाम और दीर्घकालिक देखभाल; तीसरा, स्वास्थ्य संबंधी सभी व्यय को वित्तीय सुरक्षा प्रदान करना; और अंतिम, सभी को समान गुणवत्ता वाली चिकित्सा सेवाएं उपलब्ध कराने वाली स्वास्थ्य प्रणाली का निर्माण।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

इलेक्ट्रॉनिक-मानव संसाधन प्रबंधन प्रणाली प्रगति रिपोर्ट


केंद्रीय गृह सचिव और कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग में सचिव ए. के. भल्ला ने 25 दिसंबर, 2020 को सुशासन दिवस पर ‘इलेक्ट्रॉनिक- मानव संसाधन प्रबंधन प्रणाली- ई-एचआरएमएस’ (Electronic- Human Resource Management System- e-HRMS) की प्रगति रिपोर्ट जारी की।

महत्वपूर्ण तथ्य: केंद्रीय कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन राज्य मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह द्वारा 25 दिसंबर, 2017 को लॉन्च की गई इस प्रणाली में 5 मॉड्यूल के 25 एप्लिकेशन थे।

  • ई-एचआरएमएस को 'मानव संपदा' के रूप में भी जाना जाता है (किसी भी सरकार, संगठन या कंपनी की सफलता के लिए सबसे महत्वपूर्ण कारक मानव पूंजी का उचित नाम है)।
  • यह सरकारी क्षेत्र के लिए एक मानक सूचना एवं संचार प्रौद्योगिकी समाधान है, जो कर्मियों के प्रबंधन से संबंधित राज्य सरकारों की अधिकतम आवश्यकताओं का समाधान करता है।
  • इस प्रणाली के विभिन्न लाभ हैं, जैसे कि कर्मचारी और प्रबंधन के लिए डैश बोर्ड प्रदान करना, अद्यतित सेवा रिकॉर्ड, कार्यालय प्रक्रियाओं में ई-गवर्नेंस, फाइलों की कम आवाजाही, त्वरित सेवा प्रदायगी, निर्णय लेने में सहायता, कर्मचारियों के समान दस्तावेज भंडार आदि।

सामयिक खबरें विज्ञान-पर्यावरण

'हिमालयन ट्रिलियम' आईसीयूएन द्वारा ‘संकटग्रस्त’ घोषित


दिसंबर 2020 में हिमालय में पाई जाने वाली एक आम जड़ी बूटी, 'हिमालयन ट्रिलियम' (Himalayan trillium) को आईसीयूएन (IUCN) द्वारा ‘संकटग्रस्त’ (endangered) घोषित किया गया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: इसका वैज्ञानिक नाम 'ट्रिलियम गोवैनियनम' (Trillium govanianum) है। उच्च औषधीय गुणवत्ता के कारण, हाल के वर्षों में इसका हिमालय क्षेत्र से सबसे अधिक वाणिज्यिक रूप से दोहन हुआ है।

  • इसे पेचिश, घाव, त्वचा के फोड़े, सूजन, सेप्सिस, साथ ही साथ मासिक धर्म और यौन विकारों जैसे रोगों को ठीक करने के लिए पारंपरिक चिकित्सा में उपयोग किया जाता है।
  • यह 2400 मीटर से 4000 मीटर की ऊँचाई पर हिमालय के समशीतोष्ण और उप-अल्पाइन क्षेत्र में उगती है।
  • यह जड़ी-बूटी भारत, अफगानिस्तान, पाकिस्तान, चीन, नेपाल, भूटान में पाई जाती है।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप वेब पोर्टल/ऐप

वेब पोर्टल और मोबाइल ऐप 'ई-सम्‍पदा'


नागरिकों के जीवन की सुगमता सुनिश्चित करते हुए पारदर्शिता और जवाबदेही को बढ़ावा देने के उद्देश्य के अनुरूप सम्पदा निदेशालय, आवास एवं शहरी कार्य मंत्रालय ने 25 दिसंबर, 2020 को एक नया वेब पोर्टल और मोबाइल ऐप 'ई-सम्पदा' (e-Sampada) राष्ट्र को समर्पित किया।

  • यह नया एप्लीकेशन एक लाख से ज्यादा सरकारी रिहायशी आवासों के आवंटन, सरकारी संगठनों के लिए कार्यालय के स्थान का आवंटन, 1,176 हॉलीडे होम रूम्स तथा सामाजिक समारोहों के लिए 5 अशोक रोड जैसे स्थलों की बुकिंग आदि जैसी सभी सेवाओं के लिए सिंगल विंडो उपलब्ध कराता है।
  • ‘एक देश, एक प्रणाली’ उपलब्ध कराने के प्रयास के तहत सम्पदा निदेशालय की पहले की चार वेबसाइट्स (gpra.nic.in, eawas.nic.in, estates.gov.in, holidayhomes.nic.in) और दो मोबाइल एप्स (m-Awasऔर m-Ashoka5) को एक में एकीकृत कर दिया गया है।

सामयिक खबरें राज्य कर्नाटक

कर्नाटक भूमि सुधार (संशोधन) विधेयक, 2020


कर्नाटक सरकार ने भूमि सुधार अधिनियम 1961 में संशोधन किए है। संशोधन संबंधित ‘कर्नाटक भूमि सुधार (संशोधन) विधेयक, 2020’ राज्य विधान सभा द्वारा 8 दिसंबर, 2020 को पारित किया गया।

  • संशोधन से गैर-कृषक राज्य में कृषि भूमि खरीद सकते हैं, जिससे इसका विरोध हो रहा है।
  • कर्नाटक भूमि सुधार (संशोधन) विधेयक, 2020 ने कर्नाटक भूमि सुधार अधिनियम 1961 के तीन प्रमुख खंडों को निरस्त कर दिया है, जिसमें कृषि भूमि के स्वामित्व पर कुछ प्रतिबंध लगाए गए थे।
  • संशोधनों ने अधिनियम की ‘धारा 79 ए’ के उन प्रावधानों को हटा दिया है, जो कृषि भूमि खरीदने के लिए केवल प्रतिवर्ष 25 लाख रुपये से कम आय वालों को अनुमति देता है।
  • ‘धारा 79 बी’ के प्रावधानों को हटा दिया गया है। ‘धारा 79 बी’ के अनुसार केवल कृषि के माध्यम से जीविकोपार्जन करने वाले लोग कृषि भूमि खरीद सकते हैं।
  • संशोधन ने अधिनियम की ‘धारा 79 सी’ को भी हटा दिया है, जिसके तहत राजस्व विभागों को भूमि खरीद के लिए ‘धारा 79 ए’ और ‘धारा 79 बी’ के कथित उल्लंघन की जांच करने की अनुमति थी।

सामयिक खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

आरबीआई द्वारा तीन मुख्य महाप्रबंधक पदोन्नत


  • भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने 11 दिसंबर, 2020 को तीन मुख्य महाप्रबंधकों (CGM) आर. सुब्रमण्यन, रोहित जैन और आर.एस. राठो को कार्यकारी निदेशक (ED) के रूप में पदोन्नत किया है।
  • ED के रूप में, सुब्रमण्यन विदेशी मुद्रा विभाग, वित्तीय बाजार विनियमन विभाग, आंतरिक ऋण प्रबंधन और अंतरराष्ट्रीय विभाग की जिम्मेदारी संभालेंगे।
  • जैन पर्यवेक्षण विभाग (जोखिम, विश्लेषिकी) तथा राठो वित्तीय बाजार परिचालन विभाग, बाहरी निवेश विभाग और संचालन विभाग, कानूनी विभाग और सचिव विभाग की जिम्मेदारी संभालेंगे।

सामयिक खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

बीएफएसआई मूवर्स एंड शेकर्स-2020 रिपोर्ट


दिसंबर 2020 में ‘विजिकी’ (Wizikey) द्वारा जारी ‘बैंकिंग, वित्तीय सेवाएं और बीमा (बीएफएसआई) मूवर्स एंड शेकर्स-2020 रिपोर्ट’ के अनुसार ‘एचडीएफसी’, ‘आईसीआईसीआई’ और ‘भारतीय स्टेट बैंक’ 2020 के शीर्ष तीन बैंक थे।

  • रिपोर्ट में भारत के शीर्ष 100 बैंकों तथा उभरते बीएफएसआई मॉडलों जैसे वॉलेट और यूपीआई, नियोबैंक, गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (एनबीएफसी), लघु वित्त बैंकों और भुगतान बैंकों को शामिल किया गया है।
  • वहीं ग्राहकों के बीच ‘गूगल पे’ और ‘फोनपे’ अग्रणी वॉलेट रहे हैं।
  • अन्य श्रेणी नियो बैंक (Neo Banks) में ‘योनो’ (YONO) पहले स्थान पर रहा, उसके बाद ‘नियो’ (Niyo) और ‘कोटक 811’ क्रमश: दूसरे और तीसरे स्थान पर रहे।
  • नियो बैंक एक प्रकार का प्रत्यक्ष बैंक है, जो पारंपरिक शाखा नेटवर्क के बिना विशेष रूप से ऑनलाइन संचालित होता है।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

हरित राष्ट्रीय राजमार्ग गलियारा


राजस्थान, हिमाचल प्रदेश, उत्तर प्रदेश और आंध्र प्रदेश में सुरक्षित और ‘हरित राष्ट्रीय राजमार्ग गलियारों’ के निर्माण के लिए भारत सरकार और विश्व बैंक ने 22 दिसंबर, 2020 को 500 मिलियन डॉलर की एक परियोजना पर हस्ताक्षर किए।

महत्वपूर्ण तथ्य: हरित राष्ट्रीय राजमार्ग गलियारा परियोजना सुरक्षित और हरित प्रौद्योगिकी डिजाइनों जैसे स्थानीय और उप-मानक सामग्री, औद्योगिक उपोत्पाद (बाइप्रोडक्ट) और अन्य बायोइंजीनियरिंग सॉल्यूशंस के जरिए विभिन्न भौगोलिक क्षेत्रों में 783 किमी. राजमार्ग का निर्माण करने में सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय का सहयोग करेगी।

  • यह परियोजना राजमार्गों के निर्माण और रखरखाव में ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन को कम करने में मदद करेगी।
  • इस परियोजना से हरित और सुरक्षित प्रौद्योगिकियों के क्षेत्र में सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय (एमओआरटीएच) की क्षमता का भी विस्तार होगा।
  • अंतरराष्ट्रीय पुनर्निर्माण और विकास बैंक (आईबीआरडी) से 500 मिलियन डॉलर के ऋण की परिपक्वता अवधि पांच वर्ष की रियायत के साथ 18.5 वर्ष है।
  • भारत के राष्ट्रीय राजमार्ग से लगभग 40 फीसदी सड़क यातायात होता है। परियोजना के तहत राष्ट्रीय राजमार्ग नेटवर्क के लगभग 5,000 किमी. के आपदा जोखिम का मूल्यांकन किया जाएगा, साथ ही प्रोजेक्ट डिजाइन और कार्यान्वयन में जलवायु के लचीलेपन के पहलुओं को शामिल करने में मंत्रालय का सहयोग होगा।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

नए प्रकार का सार्स-कोव-2 वायरस


केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने 23 दिसंबर, 2020 को नए प्रकार के सार्स- सीओवी-2 वायरस के संदर्भ में महामारी विज्ञान संबंधी निगरानी और प्रत्युत्तर को लेकर मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) जारी की है।

महत्वपूर्ण तथ्य: यूनाइटेड किंगडम ने विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) को एक नए प्रकार के ‘सार्स-सीओवी-2 वायरस [परीक्षण के अधीन प्रकार (वीयूआई)-202012/01]’ [SARS-CoV2- Variant Under Investigation (VUI)- year 2020, month 12, variant 01)] के बारे में सूचित किया है।

  • ‘यूरोपियन सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल’ के अनुमान के अनुसार वायरस के इस प्रकार से संक्रमण अधिक तेजी से फैलता है और युवा जनसंख्या को प्रभावित करता है।
  • इस प्रकार को बदलावों अथवा परिवर्तनों के एक 17 सेट द्वारा परिभाषित किया गया है।
  • स्पाइक प्रोटीन में N501Y परिवर्तन (mutation) सबसे महत्वपूर्ण घटक है, जो वायरस द्वारा मानव ACE2 रिसेप्टर को बांधने के लिए उपयोग में लाया जाता है।
  • स्पाइक प्रोटीन के इस हिस्से में परिवर्तन से वायरस अधिक संक्रामक हो सकता है और अधिक आसानी से लोगों के बीच फैल सकता है।

N501Y: सरल शब्दों में, अमीनो एसिड को 'N' अक्षर से दर्शाया जाता है, और यह कोरोना वायरस आनुवंशिक संरचना में 501वें स्थान पर मौजूद है, उस स्थान पर एक अन्य अमीनो एसिड के साथ प्रतिस्थापित किया गया है, जो 'Y' द्वारा दर्शाया गया है।

सामयिक खबरें विज्ञान-पर्यावरण

फायरफ्लाई पक्षी डायवर्टर


वाइल्डलाइफ कंजर्वेशन सोसायटी, इंडिया के साथ एक अनूठी पहल में केंद्रीय पर्यावरण मंत्रालय ‘ग्रेट इंडियन बस्टर्ड’ (जीआईबी) की आबादी वाले क्षेत्रों में ओवरहेड बिजली लाइनों के लिए एक 'फायरफ्लाई पक्षी डायवर्टर' (firefly bird diverter) लेकर आया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: जीआईबी पक्षी भारत में सबसे गंभीर रूप से खतरे वाली प्रजातियों में से एक है, इसकी 150 से कम संख्या रह गई है। इसे IUCN रेड लिस्ट में 'गंभीर रूप से संकटग्रस्त' (Critically Endangered) के रूप में सूचीबद्ध किया गया है।

  • मंत्रालय की 2019 की रिपोर्ट के अनुसार थार क्षेत्र में ग्रेट इंडियन बस्टर्ड के लिए बिजली लाइनें, विशेष रूप से उच्च-वोल्टेज वाली लाइनें, कई ओवरहेड तारों के साथ सबसे महत्वपूर्ण वर्तमान खतरा हैं, और लगभग 15% आबादी में उच्च मृत्यु दर का कारण बन रही है।
  • 'फायरफ्लाई पक्षी डायवर्टर’ विद्युत लाइनों पर स्थापित लटकती फ्लैप (flaps) हैं। डायवर्टर को 'फायरफ्लाइज' या जुगनू कहा जाता है, क्योंकि वे रात में दूर से बिजली लाइनों पर चमकते हुए जुगनू की तरह दिखते हैं।
  • वे जीआईबी जैसी पक्षी प्रजातियों के लिए परावर्तक (reflectors) के रूप में काम करते हैं। पक्षी उन्हें लगभग 50 मीटर की दूरी से देख सकते हैं और बिजली लाइनों से टकराव से बचने के लिए अपनी उड़ान का मार्ग बदल सकते हैं।
  • राजस्थान के पोखरण तहसील में ‘चाचा से धोलिया गाँवों’ (Chacha to Dholiya villages) के बीच चुने गए लगभग 6.5 किमी के दो हिस्सों में डायवर्टर लगाए गए हैं।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप निधन

प्रख्यात मलयालम कवयित्री सुगाथाकुमारी का निधन


प्रख्यात मलयालम कवयित्री, संरक्षणवादी और महिला अधिकारों की कार्यकर्ता, सुगाथाकुमारी का 23 दिसंबर, 2020 को निधन हो गया। वे 86 वर्ष की थी।

  • उन्होंने अपने साहित्यिक जीवन की शुरुआत 1957 में कलम नाम (pen name) 'श्रीकुमार' के तहत साप्ताहिक लेखन से की।
  • उनका पहला कविता संग्रह, 'मुथुचीपी' 1961 में प्रकाशित हुआ था, जो मलयालम साहित्यिक जगत में उनकी शुरुआत थी।
  • 1970 के दशक के उत्तरार्ध में, उन्होंने केरल की साइलेंट वैली में देश के सबसे पुराने प्राकृतिक जंगलों को बचाने के लिए 'सेव साइलेंट वैली' नामक एक सफल राष्ट्रव्यापी आंदोलन का नेतृत्व किया था।
  • 1980 में, उन्होंने वंचित महिलाओं के लिए 'अभय' नामक संगठन शुरू किया, जिसमें आर्थिक रूप से गरीब, बलात्कार पीड़ित, घरेलू हिंसा पीड़ित और मादक पदार्थों के आदी शामिल थे।
  • सुगाथाकुमारी केरल राज्य महिला आयोग की पहली अध्यक्ष भी थीं। उनके कार्यकाल में ‘कुदुम्बश्री’ मिशन का शुभारंभ किया गया था
  • 2006 में, उन्हें पद्म श्री से सम्मानित किया गया था। 2013 में, उन्हें उनके कविता संग्रह 'मनालेझुथु' (द राइटिंग ऑन द सैंड) के लिए सरस्वती सम्मान से सम्मानित किया गया था।
  • उन्हें राज्य के लगभग सभी प्रतिष्ठित साहित्यिक पुरस्कारों से सम्मानित किया गया, जिनमें केरल साहित्य अकादमी पुरस्कार, एजुथचन पुरस्कारम और वायलार पुरस्कार और ओडक्कुजल पुरस्कार शामिल हैं।

सामयिक खबरें राज्य उत्तर प्रदेश

थारू जनजाति की अनूठी संस्कृति के लिए योजना


उत्तर प्रदेश सरकार ने दिसंबर 2020 में ‘थारू जनजाति’ की अनूठी संस्कृति के लिए एक योजना शुरू की है।

उद्देश्य: थारू जनजातीय गांवों को पर्यटन मानचित्र पर लाना, रोजगार सृजन करना और क्षेत्र में जनजातीय आबादी को आर्थिक स्वतंत्रता प्रदान करना।

  • उत्तर प्रदेश सरकार नेपाल की अंतरराष्ट्रीय सीमा वाले जिलों बलरामपुर, बहराइच, लखीमपुर और पीलीभीत में स्थित थारू जनजातीय लोगों के गाँवों को उत्तर प्रदेश वन विभाग की ‘होमस्टे योजना’ से जोड़ने की योजना बना रही है।
  • इसके तहत पर्यटकों को थारू जनजातीय लोगों के प्राकृतिक आवास (पारंपरिक झोपड़ियों) में रहने का अनुभव प्रदान किया जाएगा। ये झोपड़ियाँ जंगल से एकत्रित घास से बनाई जाती हैं।
  • थारू जनजातीय लोग पर्यटकों को घर के भोजन और आवास के लिए उनसे शुल्क प्राप्त करेंगे। इस योजना के तहत घरेलू और अंतरराष्ट्रीय पर्यटकों की भागीदारी अपेक्षित है।

थारू जनजाति: यह जनजाति शिवालिक या निचले हिमालय में स्थित तराई क्षेत्रों से संबंधित हैं। इनमें से ज्यादातर वनवासी हैं, और कुछ कृषि कार्य करते हैं। हैं। थारू शब्द का अर्थ है ‘थेरवाद बौद्ध धर्म के अनुयायी’।

  • थारू जनजातीय लोग नेपाल और भारत दोनों देशों में निवास करते हैं। भारत में थारू जनजाति के लोग बिहार, उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश में रहते हैं। ये थारू भाषा बोलते हैं, जो इंडो-आर्यन उपसमूह और उर्दू, हिंदी और अवधी से ही संबंधित हैं।

सामयिक खबरें राज्य उत्तराखंड

नौवां ‘सतत पर्वत विकास शिखर सम्मलेन'


'सतत पर्वत विकास शिखर सम्मलेन' (Sustainable Mountain Development Summit- SMDS) का नौवां संस्करण 11 से 14 दिसंबर, 2020 तक देहरादून, उत्तराखंड में आयोजित किया गया। इस सम्मेलन की मेजबानी सतत विकास मंच उत्तरांचल (SDFU), देहरादून द्वारा की गई।

सम्मलेन का विषय (Theme): Emerging Pathways for Building a Resilient Post COVID-19 Mountain Economy, Adaptation, Innovation and Acceleration.

  • शिखर सम्मेलन में कोविड-19 के बाद के परिदृश्य और जलवायु परिवर्तन के संदर्भ में एक लचीले और सतत पर्वत अर्थव्यवस्था (sustainable mountain economy) के पथ पर अग्रसर होने के समग्र उद्देश्य पर ध्यान केंद्रित किया गया।
  • सम्मलेन में उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और मेघालय के मुख्यमंत्री कॉनराड के. संगमा ने हिस्सा लिया।
  • ‘सतत पर्वत विकास शिखर सम्मलेन’ नागरिक समाज के नेतृत्व वाले नेटवर्क प्लेटफॉर्म 'इंटीग्रेटेड माउंटेन इनिशिएटिव' (IMI) का एक प्रमुख वार्षिक कार्यक्रम है, जिसमें देश के विकास के प्रवचन में भारतीय हिमालयी क्षेत्र की प्राथमिकताओं को उजागर करने के निरंतर प्रयास के तहत क्षेत्रीय और राष्ट्रीय स्तर पर पर्वतीय क्षेत्रों के मुद्दों को सामने लाया जाता है।

सामयिक खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

केनरा बैंक का तकनीकी उत्पाद ‘FX4U'


सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक, केनरा बैंक ने एक नए तकनीकी उत्पाद 'FX4U' के माध्यम से इंटरनेट बैंकिंग के माध्यम से विदेशी मुद्रा प्रेषण (forex remittance) शुरू करने की घोषणा की है।

  • इस सुविधा की शुरुआत के साथ, सभी पात्र व्यक्तिगत ग्राहक FEMA नियमों के अनुसार प्रेषण सुविधा ले सकते हैं।
  • केनरा बैंक का मुख्यालय बेंगलुरु में है। इसकी स्थापना 1906 में अम्मेम्बल सुब्बा राव पाई ने मैंगलोर में की थी और बाद में सरकार ने 1969 में बैंक का राष्ट्रीयकरण कर दिया था।
  • बैंक के एमडी और सीईओ लिंगम वेंकट प्रभाकर हैं।

सामयिक खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

बड़ौदा मिलिट्री सैलरी पैकेज


भारतीय सेना ने नये ‘बड़ौदा मिलिट्री सैलरी पैकेज’ के लिए 22 दिसंबर, 2020 को बैंक ऑफ बड़ौदा के साथ समझौते पर हस्ताक्षर किए।

  • बैंक ऑफ बड़ौदा की 8,200 से अधिक घरेलू शाखाओं तथा लगभग 20,000 बिजनेस कॉरेस्पोंडेंट टचप्वाइंटों के नेटवर्क के माध्यम से भारतीय सेना के सेवारत तथा सेवानिवृत्त कार्मिकों के लिए ‘बड़ौदा मिलिट्री सैलरी पैकेज’ के तहत सेवाएं प्रदान की जाएंगी।
  • इस पैकेज में नि:शुल्क व्यक्तिगत दुर्घटना बीमा सुरक्षा, स्थायी दिव्यांगता सुरक्षा, आंशिक दिव्यांगता सुरक्षा एवं पर्याप्त धनराशि वाली विमान दुर्घटना बीमा सुरक्षा के साथ-साथ सेवारत कार्मिकों की मृत्यु की स्थिति में उच्चतर शिक्षा सुरक्षा तथा बालिका विवाह सुरक्षा सहित अत्यधिक आकर्षक लाभ प्रदान किए जाते हैं।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

पांच फिल्म मीडिया इकाइयों के विलय को मंजूरी


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने 23 दिसंबर, 2020 को अपनी चार मीडिया इकाइयों- फिल्म प्रभाग, फिल्म समारोह निदेशालय, भारतीय राष्ट्रीय फिल्म अभिलेखागार, और भारतीय बाल फिल्म सोसायटी के ‘एनएफडीसी’ में विलय को मंजूरी प्रदान की।

महत्वपूर्ण तथ्य: इनके द्वारा किए जा रहे सभी कार्यों को ‘मेमोरेंडम ऑफ आर्टिकल्स ऑफ एसोसिएशन ऑफ एनएफडीसी’(Memorandum of Articles of Association of NFDC) द्वारा किया जाएगा।

  • परिसम्पत्तियों और कर्मचारियों के स्थानांतरण और विलय की प्रक्रिया के पहलुओं को देखने के लिए एक ‘लेन-देन सलाहकार’ और ‘कानूनी सलाहकार’ की नियुक्ति की भी मंजूरी दी गई है।
  • एक वर्ष में 3,000 से अधिक फिल्में बनाने के साथ भारत दुनिया का सबसे बड़ा फिल्म निर्माता है, जहां उद्योग का नेतृत्व निजी क्षेत्र करता है।

फिल्म प्रभाग: सूचना और प्रसारण मंत्रालय के अधीनस्थ कार्यालय, फिल्म प्रभाग की स्थापना 1948 में मुख्य रूप से सरकारी कार्यक्रमों और भारतीय इतिहास के चलचित्र संबंधी रिकॉर्ड के प्रचार के लिए वृत्तचित्र और न्यूज मैगजीन बनाने के लिए की गई थी।

भारतीय बाल फिल्म सोसायटी: एक स्वायत्तशासी संगठन, भारतीय बाल फिल्म सोसायटी की स्थापना सोसायटी कानून के अंतर्गत 1955 में फिल्मों के माध्यम से बच्चों और युवाओं को मूल्य आधारित मनोरंजन प्रदान करने के उद्देश्य से की गई थी।

भारतीय राष्ट्रीय फिल्म अभिलेखागार: सूचना और प्रसारण मंत्रालय के अधीनस्थ इस कार्यालय की स्थापना 1964 में मीडिया इकाई के रूप में की गई थी, जिसका मुख्य उद्देश्य भारतीय सिनेमा से जुड़ी धरोहर को अधिग्रहण और संरक्षित करना है।

फिल्म समारोह निदेशालय: सूचना और प्रसारण मंत्रालय के संबद्ध इस कार्यालय की स्थापना भारतीय फिल्मों और सांस्कृतिक आदान-प्रदान को बढ़ावा देने के लिए 1973 में की गई थी।

एनएफडीसी: एनएफडीसी एक केन्द्रीय सार्वजनिक क्षेत्र का उपक्रम है। इसे मुख्य रूप से भारतीय फिल्म उद्योग के संगठित, कुशल और समन्वित विकास की योजना बनाने और उसे बढ़ावा देने के लिए 1975 में निगमित किया गया था।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

पीएम-स्वदनिधि के लाभार्थियों की सामाजिक-आर्थिक रूपरेखा


11 दिसंबर, 2020 को आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय द्वारा पीएम-स्वनिधि योजना के अतिरिक्त घटक के रूप में पीएम-स्वनिधि के लाभार्थियों और उनके परिवारों की सामाजिक-आर्थिक रूपरेखा (Socio-Economic Profiling) बनाने के कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया।

महत्वपूर्ण तथ्य: इस कार्यक्रम के तहत प्रत्येक पीएम-स्वनिधि लाभार्थी और उसके परिवार के सदस्यों की पूरी रूपरेखा (Profile) तैयार की जाएगी।

  • यह रूपरेखा केंद्र सरकार की योजनाओं के चयन और उससे जुड़ी सुविधाओं के लिए लाभार्थियों और उनके परिवारों की संभावित योग्यता की पहचान करने में मदद करेगी।
  • क्वालिटी काउंसिल ऑफ इंडिया (क्यूसीआई) इस कार्यक्रम के कार्यान्वयन भागीदार के रूप में है।
  • पहले चरण में इस कार्यक्रम के लिए 125 शहरों का चयन किया गया है। योजना को पूरी तरह शुरू करने से पूर्व छ: शहरों- गया, इंदौर, ककचिंग, निजामाबाद, राजकोट और वाराणसी में एक पायलट कार्यक्रम चलाया जाएगा।
  • आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय ने रेहड़ी- पटरी वालों (स्ट्रीट वेंडरों) को 10,000 रुपये तक की कार्यशील पूंजीगत ऋण उपलब्ध कराने के उद्देश्य से 1 जून, 2020 से प्रधानमंत्री स्ट्रीट वेंडर्स आत्मनिर्भर निधि (पीएम-स्वनिधि) योजना लागू की है, ताकि वे कोविड-19 महामारी के कारण बुरी तरह से प्रभावित अपनी आजीविका को फिर से शुरू कर सकें।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

एफ/ए -18 सुपर हॉर्नेट लड़ाकू जेट


बोइंग द्वारा दिसंबर 2020 में नौसेना के लड़ाकू खरीद पहल के हिस्से के रूप में भारतीय नौसेना के विमान वाहक के साथ अपने 'एफ/ए -18 सुपर हॉर्नेट लड़ाकू जेट' (F/A-18 Super Hornet fighter jets) की अनुकूलता के सफल प्रदर्शन की घोषणा की गई।

महत्वपूर्ण तथ्य: प्रदर्शनों को अमेरिकी नौसेना के साथ समन्वय में पटौसेंट नदी के तट पर स्थितसुविधा 'नेवल एयर स्टेशन पटौसेंट रिवर' मैरीलैंड, अमेरिका में आयोजित किया गया।

  • प्रदर्शनों से पता चलता है कि 'एफ/ए -18 सुपर हॉर्नेट भारतीय नौसेना के 'शॉर्ट टेक-ऑफ बट अरेस्टेड रिकवरी' (Short Take-off but Arrested Recovery- STOBAR) प्रणाली के साथ सही समन्वय करेगा।
  • बोइंग के प्रस्तावित 'बाय इंडिया, फॉर इंडिया' (By India, for India) के निरंतरता कार्यक्रम के एक भाग के रूप में, ब्लॉक III सुपर हॉर्नेट्स को भारतीय नौसेना के साथ-साथ विमान के जीवन चक्र के दौरान भारत और अमेरिका स्थित साझेदारी में सेवा में रखा जा सकता है।
  • एफ/ए-18 ब्लॉक III सुपर हॉर्नेट न केवल भारतीय नौसेना को बेहतर युद्धक क्षमता प्रदान करेगा, बल्कि अमेरिका और भारत के बीच नौसैनिक विमानन में सहयोग के अवसर भी पैदा करेगा।
  • एफ/ए-18 नौसेना के 'P-8I' विमान के साथ 'फोर्स मल्टीप्लायर’ (Force Multiplier) के रूप में और प्रेरण के तहत अन्य प्लेटफार्मों के साथ भी समन्वय कर सकता है।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप निधन

मानवाधिकार कार्यकर्ता करीमा बलूच का निधन


पाकिस्तानी सेना और बलूचिस्तान में सरकारी अत्याचारों के बारे में मुखर रहने वाली मानवाधिकार कार्यकर्ता (Human rights activist) करीमा बलूच 20 दिसंबर, 2020 को कनाडा के टोरंटो में मृत पाई गई। वे 37 वर्ष की थी।

  • पाकिस्तान में ‘एक्टिविज्म’ (Activism) के लिए निशाना बनाये जाने के बाद बलूच कनाडा में शरणार्थी के तौर पर रह रही थी।
  • उन्होंने स्विट्जरलैंड में संयुक्त राष्ट्र के सत्र में बलूचिस्तान का मुद्दा भी उठाया था। उन्हें 2016 में बीबीसी द्वारा दुनिया की 100 'सबसे प्रेरणादायक और प्रभावशाली' महिलाओं में से एक के रूप में नामित किया गया था।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप विविध

पीएसएलवी- सी51


भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) अगले अभियान में ‘पीएसएलवी- सी51’ (PSLV- C51) की सहायता से निजी उपग्रहों को लॉन्च करेगा।

  • इस मिशन में ‘पिक्सेल इंडिया’ नामक स्टार्ट-अप द्वारा निर्मित उपग्रह ‘आनंद’ (ANAND) लॉन्च किया जायेगा।
  • इस मिशन में स्पेस किड्स इंडिया द्वारा निर्मित ‘सतीश सैट‘ (SATISH SAT) और विश्वविद्यालयों के संघ द्वारा निर्मित ‘यूनिट सैट’ (UNIT-SAT) भी लांच किया जायेगा।

सामयिक खबरें राज्य उत्तर प्रदेश

‘वरासत’ अभियान


उत्तर प्रदेश सरकार ने 15 दिसंबर, 2020 को ग्रामीण क्षेत्रों में संपत्ति और जमीन से जुड़े विवादों पर काबू पाने के लिए एक विशेष अभियान ‘वरासत’ शुरू किया है।

उद्देश्य: जमीन और संपत्ति की ‘वरासत’ के नाम पर ग्रामीण लोगों के शोषण को रोकना।

  • प्रदेश में निर्विवाद उत्तराधिकार को खतौनियों में दर्ज कराने के लिए प्रदेश के समस्त ग्रामों में यह अभियान शुरू किया गया है।
  • ग्रामीण क्षेत्रों में जमीन से जुड़े मुद्दों का समाधान करने के लिए यह अपनी तरह का पहला अभियान है।
  • व्यवस्था के तहत लोगों को 'वरासत' के पंजीकरण के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों सुविधाएं मिलेंगी।
  • यह विशेष अभियान 15 फरवरी, 2021 तक संचालित किया जाएगा ।

सामयिक खबरें राज्य उत्तर प्रदेश

लखनऊ नगर निगम का नगरपालिका बॉन्ड्स


लखनऊ नगर निगम की ओर से जारी किये गए 200 करोड़ रुपये मूल्य वाले नगरपालिका बॉन्ड्स को 2 दिसंबर, 2020 को बीएसई में सूचीबद्ध किया गया।

  • इसके साथ ही लखनऊ देश में नगरपालिका बॉन्ड्स जारी करने वाला 9वां शहर बन गया है।
  • इसे भारत सरकार के आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय ने अमृत मिशन (अटल नवीकरण और शहरी परिवर्तन मिशन) के तहत प्रोत्साहन दिया है।
  • इन बॉन्ड के जारी होने से लखनऊ नगर निगम को अपने ब्याज भार में सब्सिडी देने के लिए 26 करोड़ रुपये की राशि प्राप्त होगी। यह अग्रिम प्रोत्साहन राशि नगर निगम पर ब्याज के बोझ को 2% तक कम करने के समान है।
  • लखनऊ नगर निगम ने 13 नवम्बर, 2020 को अपना पहला नगरपालिका बॉन्ड सफलतापूर्वक जारी किया था।

सामयिक खबरें खेल फुटबॉल

बेस्ट फीफा फुटबॉल अवार्ड्स 2020


17 दिसंबर, 2020 को फीफा के मुख्यालय ज्यूरिख में ‘बेस्ट फीफा फुटबॉल अवार्ड्स 2020’ (Best FIFA Football Awards 2020) की वर्चुअल माध्यम में घोषणा की गई।

विभिन्न श्रेणियों में विजेता-

पुरुष खिलाड़ी: रॉबर्ट लेवांडोव्स्की (पोलैंड / बेयर्न म्यूनिख)

महिला खिलाड़ी: लूसी ब्रॉन्ज(इंग्लैंड / लियोन)

पुरुष कोच: जुर्गन क्लॉप (लिवरपूल)

महिला कोच: सरीना वेगमैन (नीदरलैंड)

पुरुष गोलकीपर: मैनुअल नेउर (जर्मनी / बेयर्न म्यूनिख)

महिला गोलकीपर: सारा बौहाद्दी (फ्रांस / लियोन)

फीफा पुस्कस पुरस्कार: सोन हेंग-मिन (टोटेनहम बनाम बर्नले)

फीफा फेयर प्ले अवार्ड: मटिया एग्नेस (इटली )

सामयिक खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

उदय कोटक ‘कोटक महिंद्रा बैंक’ के प्रबंध निदेशक फिर से नियुक्त


भारतीय रिजर्व बैंक ने उदय कोटक को तीन साल की अवधि के लिए कोटक महिंद्रा बैंक के प्रबंध निदेशक और सीईओ के रूप में फिर से नियुक्त करने की मंजूरी दे दी है।

  • आरबीआई ने कोटक महिंद्रा बैंक के अंशकालिक अध्यक्ष के रूप में प्रकाश आप्टे की और संयुक्त प्रबंध निदेशक के रूप में दीपक गुप्ता की फिर से नियुक्ति को भी मंजूरी दे दी है।
  • इनकी पुनर्नियुक्ति 1 जनवरी, 2021 से प्रभावी होगी।
  • कोटक महिंद्रा बैंक लिमिटेड एक भारतीय निजी क्षेत्र का बैंक है, जिसका मुख्यालय मुंबई में है। इसकी शुरुआत कोटक महिंद्रा फाइनेंस लिमिटेड के रूप में 1985 में हुई थी, जिसे 2003 में कोटक महिंद्रा बैंक में परिवर्तित कर दिया गया था।

सामयिक खबरें राज्य कर्नाटक

कर्नाटक सरकार और ब्रिटिश काउंसिल के बीच समझौता


कर्नाटक सरकार और ब्रिटिश काउंसिल ने 17 दिसंबर, 2020 को उच्च शिक्षा में द्विपक्षीय सहयोग को आगे बढ़ाने के लिए बेंगलुरु में एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए।

  • तीन साल का एमओयू कर्नाटक और यूनाइटेड किंगडम में शिक्षण संकायों के बीच नेतृत्व विकास को सशक्त बनाने की सुविधा प्रदान करेगा।
  • दोनों निकाय विचारों के आदान-प्रदान की सुविधा प्रदान करेंगे और शैक्षिक कार्यक्रमों की योजना के लिए एक रोडमैप सुझाएंगे।

सामयिक खबरें खेल विविध

फिक्की ‘इंडिया स्पोर्ट्स अवार्ड 2020'


टोक्यो ओलंपिक का कोटा हासिल कर चुके पहलवान बजरंग पूनिया और युवा महिला निशानेबाज एलावेनिल वलारिवन को भारतीय वाणिज्य एवं उद्योग महासंघ (फिक्की) ‘इंडिया स्पोर्ट्स अवार्ड 2020' में इस वर्ष का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी घोषित किया गया।

  • भारत के पूर्व क्रिकेट कप्तान और कोच, अनिल कुंबले के एंटरप्राइस 'टेनविक स्पोर्ट्स' को 'खेल को बढ़ावा देने वाली सर्वश्रेष्ठ कंपनी' का पुरस्कार दिया गया।

अन्य विजेता-

वर्ष में शानदार उपलब्धि हासिल करने वाली खिलाड़ी: अन्नू रानी

लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार: मंजुशा कंवर

वर्ष के सर्वश्रेष्ठ पैरा-एथलीट खिलाड़ी: सुंदर सिंह गुर्जर, सिमरन शर्मा

सर्वश्रेष्ठ कोच: राधाकृष्णन नायर

खेल पत्रकार: मोना पार्थसारथी

खेलों को बढ़ावा देने वाले राज्य: मध्य प्रदेश और असम।

सीएसआर के माध्यम से खेलों को बढ़ावा देने वाला संगठन: टाटा स्टील।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती


21 दिसंबर, 2020 को सरकार ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती के स्मरणोत्सव के लिए एक उच्च स्तरीय समिति का गठन करने का निर्णय लिया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह उच्च स्तरीय समिति 23 जनवरी, 2021 से शुरू होने वाले एक साल के स्मरणोत्सव श्रद्धांजलि वर्ष के लिए गतिविधियों की देखरेख करेगी।

  • उच्च स्तरीय समिति की अध्यक्षता केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह करेंगे। समिति के सदस्यों में विशेषज्ञ, इतिहासकार, लेखक, नेताजी सुभाष चंद्र बोस के परिवार के सदस्य और साथ ही आजाद हिंद फौज / इंडियन नेशनल आर्मी (आईएनए) से जुड़े प्रतिष्ठित व्यक्ति शामिल होंगे।

सुभाष चंद्र बोस की अनमोल विरासत: हाल के दिनों में, भारत सरकार ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस की अनमोल विरासत को संरक्षित करने की दिशा में कई कदम उठाए हैं।

  • लाल किला, नई दिल्ली में नेताजी पर एक संग्रहालय स्थापित किया गया है, जिसका उद्घाटन 23 जनवरी, 2019 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किया गया था।
  • 2015 में, भारत सरकार ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस से संबंधित गोपनीय फाइलों को सार्वजनिक करने और उन्हें जनता के लिए सुलभ बनाने का निर्णय लिया था।
  • 2018 में प्रधानमंत्री ने अंडमान और निकोबार में 3 द्वीपों का नाम बदला। जिसमें ‘रॉस द्वीप’ का नाम बदलकर ‘नेताजी सुभास चंद्र बोस द्वीप’, ‘नील द्वीप’ का नाम बदलकर ‘शहीद द्वीप’ और हैवलॉक द्वीप का नाम बदलकर ‘स्वराज द्वीप’ रखा गया।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

रो-रो, रो-पैक्स तथा नौका सेवाओं हेतु नए मार्ग


दिसंबर 2020 में बंदरगाह, जहाजरानी और जलमार्ग मंत्रालय ने रो-रो (RO-RO), रो-पैक्स (RO-PAX) तथा नौका सेवाओं के लिए नए मार्गों को चिन्हित किया है।

उद्देश्य: पर्यटकों की आवाजाही और कार्गो परिवहन में लाभकारी पूरक परिवहन प्रणाली बनाना; पर्यटन उद्योग को गति प्रदान करना; तटीय क्षेत्रों में रोजगार के अवसरों का सृजन करना; लागत और समय में बचत तथा सड़क और रेल नेटवर्क की भीड़ में कमी।

महत्वपूर्ण तथ्य: मंत्रालय ‘सागरमाला कार्यक्रम’ के अंतर्गत भारत के लगभग 7,500 किमी. लंबे तटों और जहाज संचालन योग्य जलमार्गों का दोहन कर बंदरगाह से जुड़े विकास को प्रोत्साहित कर रहा है।

  • मंत्रालय ने हजीरा, ओखा, सोमनाथ मंदिर, दीव, पीपावाव, दाहेज, मुंबई/जेएनपीटी, जामनगर, कोच्चि, घोघा, गोवा, मुंद्रा तथा मांडवी की पहचान घरेलू स्थानों के रूप में की है।
  • छातोग्राम (बांग्लादेश), सेशेल्स (पूर्व अफ्रीका) मेडागास्कर (पूर्व अफ्रीका) और जाफना (श्रीलंका) को जोड़ने वाले चार अंतरराष्ट्रीय स्थानों की पहचान की हैं, ताकि अंतर्देशीय जलमार्गों के जरिए नौका सेवाओं की शुरुआत की जा सके।
  • मंत्रालय सागरमाला डेवलपमेंट कंपनी लिमिटेड (एसडीसीएल) के माध्यम से देश में विभिन्न मार्गों पर रो-रो, रो-पैक्स तथा नौका सेवाओं के संचालन में कंपनियों को सहायता देगा।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

हाई-रेजोल्यूशन जलभृत मानचित्रण और प्रबंधन


उत्तर-पश्चिम भारत के शुष्क इलाकों में ‘हाई-रेजोल्यूशन जलभृत मानचित्रण और प्रबंधन’ (High-Resolution Aquifer Mapping & Management) करने के लिए केंद्रीय भूजल बोर्ड, जल शक्ति मंत्रालय और सीएसआईआर-राष्ट्रीय भू-भौतिकीय अनुसंधान संस्थान, हैदराबाद के बीच 21 दिसंबर, 2020 को समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए।

महत्वपूर्ण तथ्य: मानचित्रण कार्यक्रम के अंतर्गत राजस्थान, गुजरात और हरियाणा राज्यों के कुछ इलाकों में उन्नत हेलीबॉर्न (हवाई आधारित) भू-भौतिकीय सर्वेक्षण और अन्य वैज्ञानिक अध्ययनों का उपयोग किया जाएगा।

  • परियोजना के पहले चरण में, 54 करोड़ की अनुमानित लागत से लगभग 1 लाख वर्ग किमी. का क्षेत्र कवर किया जाएगा, जिसमें पश्चिमी शुष्क राजस्थान का लगभग 65,500 वर्ग किमी., शुष्क गुजरात का 32,000 वर्ग किमी. और हरियाणा का लगभग 2500 वर्ग किमी. (कुरुक्षेत्र और यमुना नगर जिले) को कवर किया जाएगा।

अध्ययन के प्रमुख लक्ष्य: हाई-रेजोल्यूशन जलभृत मानचित्रण; कृत्रिम पुनर्भरण (artificial recharge) के लिए साइट्स की पहचान; 3डी भू-भौतिकीय मॉडल, क्षैतिज और ऊर्ध्वाधर मैदानों पर भू-भौतिकीय विषयक मानचित्रण;

  • असंतृप्त और संतृप्त जलभृतों के सीमांकन के साथ प्रमुख जलभृतों की जलभृत ज्यामिति; अपेक्षाकृत ताजा और खारे क्षेत्रों के साथ जलभृत प्रणाली; पुराने जल-प्रवाह नेटवर्क का स्थानिक और गहन वितरण; कृत्रिम या प्रबंधित जलभृत पुनर्भरण के माध्यम से भूजल निकासी और जल संरक्षण के लिए उपयुक्त स्थलों का चयन।

महत्व: अध्ययन से प्राप्त निष्कर्षों के द्वारा जल की कमी से प्रभावित इलाकों में भूजल स्तर में सुधार लाने हेतु कार्यस्थल विशिष्ट योजनाओं का निर्माण करने और भूजल संसाधनों के सतत प्रबंधन में मदद मिलेगी।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

शिगेला संक्रमण


दिसंबर 2020 में केरल के कोझीकोड जिले में 'शिगेला संक्रमण' (shigella infection) के मामलों का पता चला है।

महत्वपूर्ण तथ्य: शिगेलोसिस (Shigellosis), या शिगेला संक्रमण, एक संक्रामक आंतों का संक्रमण है, जो शिगेला नामक बैक्टीरिया के एक वंश के कारण होता है।

  • बैक्टीरिया उन प्रमुख रोगजनकों में से एक है, जो अतिसार (diarrhoea) के लिए जिम्मेदार है। इसमें मध्यम और गंभीर लक्षण दिखाई देते हैं, विशेष रूप से अफ्रीकी और दक्षिण एशियाई क्षेत्रों के बच्चों में।
  • बैक्टीरिया, अंतर्ग्रहण (ingestion) के माध्यम से शरीर में प्रवेश करने के बाद, बृहदान्त्र के उपकला अस्तर (epithelial lining) पर हमला करता है, जिसके परिणामस्वरूप कोशिकाओं की सूजन और बाद में गंभीर मामलों में कोशिका नष्ट हो जातीहै।
  • सामान्य लक्षण दस्त (अक्सर खूनी और दर्दनाक), पेट दर्द, बुखार, मतली और उल्टी हैं।
  • यह संक्रमण व्यक्ति-से-व्यक्ति में फैल जाता है। दुनिया भर में दूषित भोजन और पानी के माध्यम से प्रसार का सबसे आम रूप है।
  • रोकथाम के लिए विशेष रूप से भोजन तैयार करने / खाने से पहले साबुन से हाथ धोना महत्वपूर्ण है।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

एसडीजी पर चौथा दक्षिण एशिया फोरम


यूनेस्कैप (United Nations Economic and Social Commission for Asia and the Pacific- UNESCAP) और मालदीव सरकार द्वारा संयुक्त रूप से 2-3 दिसंबर, 2020 को 'सतत विकास लक्ष्य-एसडीजी पर चौथा दक्षिण एशिया फोरम' आयोजित किया गया।

विषय: 'दक्षिण एशिया में कोविड-19 से सतत और तन्यक रिकवरी को बढ़ावा देना' (Fostering Sustainable and Resilient Recovery from COVID-19 in South Asia)

मुख्य उद्देश्य: आपदा और सार्वजनिक स्वास्थ्य जोखिम प्रबंधन के लिए प्रणालीगत दृष्टिकोण को लागू करने में आने वाली चुनौतियों को दूर करने के लिए अवसरों और अनिवार्यताओं की पहचान करना।

  • भविष्य की बढ़ती आपदाओं के लिए बहु-क्षेत्रीय तैयारी प्रणालियों को तैयार करने के लिए मौजूदा क्षेत्रीय और उप-क्षेत्रीय सहयोग तंत्र का लाभ उठाने के लिए रणनीति तैयार करना।

महत्वपूर्ण तथ्य: गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय ने फोरम को संबोधित किया।

  • बाढ़, चक्रवात, हीटवेव, शीत लहरें, भूस्खलन और सूखे के साथ-साथ कोविड-19 महामारी जैसी चरम मौसमी घटनाओं के साथ ही सार्वजनिक स्वास्थ्य संबंधी मुद्दे दक्षिण एशिया के सभी देशों के लिए एक अतिरिक्त चुनौती पेश कर रहे हैं।
  • इसी को ध्यान में रखते हुए भारत ने 23 सितंबर, 2019 को न्यूयॉर्क शहर में आयोजित संयुक्त राष्ट्र जलवायु कार्रवाई शिखर सम्मेलन 2019 में ‘आपदा रोधी अवसंरचना के लिए वैश्विक गठबंधन’ (सीडीआरआई) की घोषणा की।
  • भारत ‘सार्क आपदा प्रबंधन केंद्र’ की मेजबानी भी कर रहा है और यह सार्क तथा बिम्सटेक देशों के विश्वविद्यालयों के साथ भी मिलकर काम करता है।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप अभियान/सम्मेलन/आयोजन

जल शक्ति अभियान II: कैच द रेन' जागरूकता अभियान


राष्ट्रीय जल मिशन (एनडब्ल्यूएम), जल शक्ति मंत्रालय ने नेहरू युवा केंद्र संगठन (एनवाईकेएस), युवा कार्यक्रम और खेल मंत्रालय के सहयोग से 21 दिसंबर, 2020 को 'जल शक्ति अभियान II: कैच द रेन' जागरूकता अभियान की शुरुआत की।

  • नेहरू युवा केंद्र संगठन देश के 623 जिलों में दिसंबर 2020 से मार्च 2021 के मध्य तक 'कैच द रेन' जागरूकता अभियान के इस चरण को चलाएगा।
  • राष्ट्रीय जल मिशन ने एक अभियान ‘कैच द रेन’ शुरू किया है, जिसकी टैग लाइन है- ‘बारिश के पानी का संरक्षण, जहां भी संभव हो, जैसे भी संभव हो’ (catch the rain, where it falls, when it falls)।
  • इसका उद्देश्य सभी स्थितियों के आधार पर जलवायु परिस्थितियों के अनुकूल और मानसून के चार/ पांच महीनों में होने वाली वर्षा के रूप में बारिश के पानी को संग्रहित करने के लिए वर्षा जल संचयन संरचना का निर्माण करना है।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप कला/संस्कृति

51वां भारतीय अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव 2020


सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने 19 दिसंबर, 2020 को भारत के 51वें अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव 2020 के लिए 23 फीचर फिल्मों और 20 गैर-फीचर फिल्मों के चयन की घोषणा की।

  • चयनित फिल्मों को गोवा में 16 से 24 जनवरी, 2021 तक आयोजित वाले फिल्म महोत्सव के दौरान प्रदर्शित किया जाएगा।
  • फीचर फिल्म श्रेणी: भारतीय पैनोरमा 2020 की ओपनिंग फीचर फिल्म के लिए जूरी की पसंद ‘तुषार हीरानंदानी’ द्वारा निर्देशित हिंदी फिल्म ‘सांड की आँख’ है।
  • इस श्रेणी में कृपाल कलिता द्वारा निर्देशित असमिया फिल्म ‘ब्रिज’, हिंदी फिल्म ‘छिछोरे’, गोविंद निहलानी निर्देशित अंग्रेजी फिल्म ‘अप अप एंड अप’, नील माधब पांडा निर्देशित उड़िया फिल्म ‘कालिरा अतीत’, मराठी फिल्म ‘प्रवास’ तथा विजेश मणि निर्देशित संस्कृत फिल्म ‘नमो’ भी शामिल है।
  • गैर-फीचर फिल्म श्रेणी: भारतीय पैनोरमा 2020 की ओपनिंग गैर-फीचर फिल्म के लिए जूरी की पसंद ‘अंकित कोठारी’ द्वारा निर्देशित गुजराती फिल्म ‘पांचिका’ है।
  • इस श्रेणी में बिमल पोद्दार निर्देशित बांग्ला फिल्म ‘राधा’, रमेश शर्मा निर्देशित अंग्रेजी फिल्म 'अहिंसा-गांधी द पावर ऑफ पावरलेस’ और माईबैम अमरजीत सिंह निर्देशित मणिपुरी फिल्म ‘हाईवेज ऑफ लाइफ’ भी शामिल हैं।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप विविध

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय शताब्दी समारोह


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से 22 दिसंबर, 2020 को अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के शताब्दी समारोह को संबोधित किया। उन्होंने एक डाक टिकट भी जारी किया।

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय: अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय 1920 में भारतीय विधान परिषद के एक अधिनियम के माध्यम से एक विश्वविद्यालय बना। अधिनियम के तहत मोहम्मडन एंग्लो ओरिएंटल (एमएओ) कॉलेज को केंद्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा देकर एक विश्वविद्यालय बनायागया।

  • एमएओ कॉलेज की स्थापना 1877 में सर सैयद अहमद खान ने की थी।
  • इस विश्वविद्यालय का परिसर उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ शहर में स्थित है। इसके तीन अन्य परिसर केन्द्र मलप्पुरम (केरल), मुर्शिदाबाद-जंगीपुर (पश्चिम बंगाल) और किशनगंज (बिहार) में स्थित हैं।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

भारत का आठवां उत्पादन बेसिन-बंगाल बेसिन


आत्मनिर्भर भारत के लिए ऊर्जा आवश्यकताओं की पूर्ति के क्रम में जारी प्रयासों के अंतर्गत पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने 20 दिसंबर, 2020 को ‘भारत के आठवें उत्पादन बेसिन-बंगाल बेसिन’ को राष्ट्र को समर्पित किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: बंगाल बेसिन में 24 परगना जिले के अशोकनगर-1 कुएं से तेल उत्पादन शुरू करने के साथ ओएनजीसी ने एक बड़ा कदम आगे बढ़ाया है।

  • अशोकनगर-1 परियोजना भारत सरकार द्वारा जारी किए गए ‘अग्रिम मुद्रीकरण योजना’ (Early-Monetization Plan) के अंतर्गत एक तेल उत्पादक के रूप में पूर्ण हुई थी।
  • भारत के निर्धारित 8 उत्पादन बेसिन में से ओएनजीसी की अब 7 में खोज पूरी हो चुकी है और उत्पादन शुरू कर दिया गया है, जो भारत के स्थापित तेल एवं गैस रिजर्व का 83% है।
  • ओएनजीसी भारत की सबसे बड़ी तेल एवं गैस उत्पादन कंपनी है, जो देश के कुल हाइड्रोकार्बन उत्पादन का 72% उत्पादन करती है।
  • अशोकनगर-1 क्षेत्र से ओएनजीसी द्वारा उत्पादित पहले हाइड्रोकार्बन खेप (hydrocarbon consignment) को 5 नवंबर, 2020 को आईओसीएल के हल्दिया तेल शोधन कारखाने में परीक्षण किया गया था।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

खेलो इंडिया यूथ गेम्स- 2021 में चार स्वदेशी खेलों को मंजूरी


20 दिसंबर, 2020 को खेल मंत्रालय ने हरियाणा में आयोजित होने वाले खेलो इंडिया यूथ गेम्स- 2021 में चार स्वदेशी खेलों को शामिल करने को मंजूरी दी। इन खेलों में कलारीपयट्टू, मलखम्ब, गतका और थांग-ता हैं।


कलारीपयट्टू: इसकी उत्पत्ति केरल में हुई है और इसे खेलने वाले पूरे विश्व में हैं। बॉलीवुड अभिनेता विद्युत जामवाल इनमें से एक हैं।
मलखम्ब: इसे मध्य प्रदेश सहित पूरे देश में अच्छी तरह से जाना जाता है। महाराष्ट्र इस खेल का मुख्य केंद्र है।
गतका: इस खेल का संबंध पंजाब से है और यह निहंग सिख योद्धाओं की पारंपरिक लड़ाई शैली है। वे इसका उपयोग आत्म-रक्षा के साथ-साथ खेल के रूप में भी करते हैं।
थांग- ता: यह मणिपुर की एक मार्शल आर्ट है, जो पिछले कुछ दशकों के दौरान लुप्त होती जा रही है, लेकिन खेलो इंडिया यूथ गेम्स- 2021 की मदद से इसे एक बार फिर राष्ट्रीय पहचान मिलेगी।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

हाइपरसोनिक विंड टनल


19 दिसंबर, 2020 को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने उन्नत हाइपरसोनिक विंड टनल (Hypersonic Wind Tunnel - HWT) परीक्षण सुविधा का उद्घाटन किया।

  • यह प्रैशर वैक्यूम संचालित एक अत्याधुनिक HWT परीक्षण सुविधा है, जिसमें 1 मीटर का नोजल एग्जिट व्यास है।
  • अमेरिका और रूस के बाद, भारत तीसरा देश है जहां आकार और परिचालन क्षमता के मामले में इतनी बड़ी सुविधा है।
  • इस सुविधा में व्यापक स्पेक्ट्रम पर हाइपरसोनिक प्रवाह को अनुकरण करने की क्षमता है और यह अत्यधिक जटिल भविष्य की एयरोस्पेस और रक्षा प्रणालियों के कार्यान्वैयन में प्रमुख भूमिका निभाएगा।

सामयिक खबरें आर्थिकी

मानव विकास रिपोर्ट 2020


15 दिसंबर, 2020 को संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (UNDP) द्वारा ‘मानव विकास रिपोर्ट 2020’ जारी की गई।

महत्वपूर्ण तथ्य: रिपोर्ट में 189 देशों को उनके मानव विकास सूचकांक मूल्य 2019 के आधार पर रैंकिंग प्रदान की गई।

  • सूचकांक मानव विकास के तीन बुनियादी पहलुओं पर औसत उपलब्धि को मापता है- जीवन प्रत्याशा, शिक्षा और प्रति व्यक्ति आय।
  • पहली बार, संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम ने प्रत्येक देश के प्रति व्यक्ति कार्बन उत्सर्जन और उसके वस्तुगत पदचिह्न (material footprint) के कारण होने वाले प्रभाव को दर्शाने के लिए मापन की शुरुआत की, जो वस्तुओं और सेवाओं के उपभोग लिए उपयोग किए जाने वाले जीवाश्म ईंधन, धातुओं और अन्य संसाधनों की मात्रा को मापता है।
  • सूचकांक में नॉर्वे प्रथम स्थान पर है। आयरलैंड तथा स्विट्जरलैंड संयुक्त रूप से दूसरे, हांगकांग SAR तथा आइसलैंड संयुक्त रूप से चौथे स्थान पर रहे।
  • जर्मनी छठे, स्वीडन सातवें, ऑस्ट्रेलिया और नीदरलैंड संयुक्त रूप से आठवेंतथा डेनमार्क दसवें स्थान पर रहा।
  • सूचकांक में सबसे निचले स्थान (189वें) पर नाइजर है। सेंट्रल अफ्रीकन रिपब्लिक 188वें, चाड 187वें, दक्षिण सूडान तथा बुरूंडी संयुक्त रूप से 185वें स्थान पर रहे।

भारत की स्थिति: भारत 0.645 HDI मूल्य के साथ सूचकांक में 131वें स्थान पर है। इस सूचकांक में भारत को ‘मध्यम मानव विकास’ वाले देशों की श्रेणी में शामिल किया गया है। पिछले वर्ष की रिपोर्ट में भारत 129वें स्थान पर था।

  • भारत के पड़ोसी देशों में श्रीलंका 72वें, चीन 85वें, भूटान 129वें, बांग्लादेश 133वें, नेपाल 142वें तथा पाकिस्तान 154वें स्थान पर रहा।
  • क्रय शक्ति समता (पीपीपी) के आधार पर भारत की प्रति व्यक्ति सकल राष्ट्रीय आय में 2018 में 6,829 डॉलर से 2019 में 6,681 डॉलर तक गिरावट दर्ज की गई।

सामयिक खबरें विज्ञान-पर्यावरण

बंदरों के लिए बचाव और पुनर्वास केंद्र


20 दिसंबर, 2020 को तेलंगाना में निर्मल जिले के चिंचोली गांव के पास गांधी रमन्ना हरितावनम में 'बंदरों के लिए बचाव और पुनर्वास केंद्र' का उद्घाटन किया गया। यह राज्य का पहला ऐसा केंद्र है।

महत्वपूर्ण तथ्य: मानव बस्तियों में प्रवेश करने वाले बंदरों को चरणबद्ध तरीके से पकड़ा जाएगा और पुनर्वसन केंद्र में लाया जाएगा।

  • पुनर्वसन केंद्र में उनका गर्भ-निरोधी ऑपरेशन किया जाएगा और पुनर्वसन अवधि के बाद जंगलों में छोड़ दिया जाएगा।
  • पुनर्वसन केंद्र को प्राइमेट्स के लिए एक स्थायी निवास स्थान बनाने के लिए, कई फल और फूलों की विविधता वाले पौधों एवं पेडों की किस्में उगायी जाएंगी।
  • बंदरों के लिए यह पुनर्वसन केंद्र दक्षिण भारत की भी पहली ऐसी सुविधा है।
  • यह देश में प्राइमेट के लिए दूसरी ऐसी सुविधा है। देश में इस तरह की दूसरी सुविधा हिमाचल प्रदेश में थी।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित व्यक्ति

खुदीराम बोस


केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने 19 दिसंबर, 2020 को पश्चिम बंगाल के मिदनापुर में बंगाली क्रांतिकारी खुदीराम बोस के पैतृक गांव का दौरा किया।

  • बोस का जन्म 1889 में मिदनापुर जिले के एक छोटे से गाँव में हुआ था। स्वतंत्रता आंदोलन के सबसे युवा नेताओं में से एक, बोस को बंगाल में अपनी निडरता की भावना के लिए जाना जाता है।
  • 1905 में, बंगाल विभाजन के समय, उन्होंने सक्रिय रूप से अंग्रेजों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन में भाग लिया। 15 वर्ष की आयु में, बोस 20वीं शताब्दी की आरंभिक संस्था 'अनुशीलन समिति' में शामिल हो गए, जिसने बंगाल में क्रांतिकारी गतिविधियों को बढ़ावा दिया।
  • उन्हें मुजफ्फरपुर के डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट डगलस किंग्सफोर्ड की हत्या के प्रयास के लिए 18 साल की कम उम्र में मौत की सजा दी गई थी।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित स्थल

गुरुद्वारा रकाबगंज साहिब


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 20 दिसंबर, 2020 को नई दिल्ली में गुरुद्वारा रकाबगंज साहिब का दौरा किया और गुरु तेग बहादुर को उनके सर्वोच्च बलिदान के लिए श्रद्धासुमन अर्पित किए।

  • गुरुद्वारा रकाब गंज साहिब नई दिल्ली में संसद भवन के पास एक ऐतिहासिक गुरुद्वारा है।
  • रकाब गंज साहिब ठीक उसी स्थान पर स्थित है, जहां गुरु तेग बहादुर के बिना सिर वाले शरीर का अंतिम संस्कार किया गया था। यह भाई लखी शाह बंजारा का घर था।
  • गुरुद्वारे के वर्तमान भवन का निर्माण 1783 में शाह आलम द्वितीय के शासनकाल के दौरान ‘सरदार बघेल सिंह’ द्वारा किया गया था।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप विविध

राष्ट्रीय दिव्यांग सशक्तीकरण केंद्र


केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने 10 दिसंबर, 2020 को हैदराबाद के पास हकीमपेट में CRPF ग्रुप सेंटर में 'राष्ट्रीय दिव्यांग सशक्तीकरण केंद्र' का उद्घाटन किया।

  • राष्ट्रीय दिव्यांग सशक्तीकरण केंद्र 'केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों' (CAPF) के उन दिव्यांग योद्धाओं को फिर से कौशल और पुनर्वास के लिए अपनी तरह का पहला प्रतिष्ठान है, जिन्हें ड्यूटी के दौरान जीवन भर के लिए दिव्यांग बना देने वाली चोटों का सामना करना पड़ा।
  • कंप्यूटर कौशल और विभिन्न खेल कौशल जैसे कई बाजार संचालित विशेषज्ञता का दिव्यांग योद्धाओं को प्रशिक्षण दिया जाएगा ताकि उन्हें सशक्त बनाया जा सके और देश की सेवा करने में सक्षम बनाया जा सके।

सामयिक खबरें राज्य कर्नाटक

बेंगलुरु मिशन 2022


कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी. एस. येदियुरप्पा ने 17 दिसंबर, 2020 को ‘बेंगलुरु मिशन 2022’ लॉन्च किया।

उद्देश्य: बेंगलुरु के लोगों को आवश्यक बुनियादी ढाँचा और बुनियादी सुविधाएँ उपलब्ध कराना।

  • इसके तहत देश की आजादी के 75वें वर्ष के अवसर पर बेंगलुरु को दुनिया के सर्वश्रेष्ठ शहरों में से एक बनाने के लिए कार्य करना है।

मिशन के मुख्य बिंदु: बेंगलुरु के लिए बुनियादी ढांचे के नवीनीकरण में चुनौती के चार प्रमुख क्षेत्रों पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा - तेजी से आवागमन को सक्षम करना, एक स्वच्छ और हरियाली वाला शहर, विभिन्न सेवाओं तक पहुंच प्रदान करके नागरिकों को शहर से जोड़ना तथा संस्कृति और विरासत का अनुभव कराना।

  • मिशन के तहत सार्वजनिक परिवहन उपयोग, उप-नगरीय रेलवे परियोजना को प्रोत्साहन और ‘नम्मा मेट्रो’ को भी गति प्रदान करने का प्रावधान।
  • कर्नाटक सड़क विकास निगम द्वारा 190 किलोमीटर के 12 उच्च घनत्व वाले गलियारों के विकास का प्रावधान; सिंक्रोनस सिग्नल लाइट्स’ (synchronous signal lights) की स्थापना का प्रावधान।
  • साझा इलेक्ट्रिक वाहन आवागमन को बढ़ावा; मेट्रो परियोजनाओं को तेजी से पूरा करने की योजना।
  • हरियाली सुनिश्चित करने के लिए स्वच्छ झीलों और जलमार्ग बनाने तथा 400 एकड़ के दो ‘विशाल वृक्ष पार्क’ (large tree parks) विकसित करने का प्रावधान।
  • कर्नाटक सरकार द्वारा ‘नन्ना कसा नन्ना जवाबदारी’ (मेरा कचरा मेरी जिम्मेदारी) थीम के तहत शहर के लिए कचरा प्रबंधन प्रणाली को संस्थागत करने का प्रावधान।
  • शहर की विरासत और संस्कृति का 360 डिग्री में अनुभव करने के लिए, NGEF बेंगलुरु में एक संग्रहालय स्थापित किया जाएगा।

सामयिक खबरें खेल चर्चित खेल व्यक्तित्व

ग्रेग बार्कले आईसीसी के नए स्वतंत्र चेयरमैन


नवंबर 2020 में ग्रेग बार्कले को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) के नए स्वतंत्र चेयरमैन के रूप में चुना गया है।

  • उन्होंने शशांक मनोहर का स्थान लिया है, जिन्होंने इस साल की शुरुआत में पद छोड़ दिया था।
  • ऑकलैंड के व्यावसायिक अधिवक्ता बार्कले, 2012 से न्यूजीलैंड क्रिकेट (NZC) के निदेशक रहे हैं और वर्तमान में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद के बोर्ड में न्यूजीलैंड क्रिकेट के प्रतिनिधि हैं।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

तटीय रडार श्रृंखला नेटवर्क


खुले समुद्री (high seas) खतरों के लिए रियलटाइम निगरानी को सक्षम करने के 'तटीय रडार श्रृंखला नेटवर्क' के विस्तार के लिए भारत के प्रयासों के हिस्से के रूप में हिंद महासागर के तटीय देशों मालदीव, म्यांमार और बांग्लादेश में तटीय रडार स्टेशन स्थापित करने के प्रयास उन्नत चरणों में हैं।

महत्वपूर्ण तथ्य: मॉरीशस, सेशेल्स और श्रीलंका को पहले ही देश के तटीय रडार श्रृंखला नेटवर्क में एकीकृत किया जा चुका है। इसी तरह की योजनाएं मालदीव और म्यांमार के साथ पाइपलाइन में हैं और बांग्लादेश और थाईलैंड के साथ इस पर चर्चा चल रही है।

  • तटीय राडार श्रृंखला नेटवर्क के चरण- I के तहत, देश के समुद्र तट पर 46 तटीय रडार स्टेशन स्थापित किए गए हैं।
  • वर्तमान में चल रहे परियोजना के दूसरे चरण में तटरक्षक बल द्वारा 38 स्थैतिक रडार स्टेशन (static radar stations) और चार मोबाइल रडार स्टेशन स्थापित किए जा रहे हैं, और ये पूरा होने के चरण में हैं।

अन्य तथ्य: गुरुग्राम स्थित 'भारतीय नौसेना सूचना प्रबंधन और विश्लेषण केंद्र (IMAC), जिसे 26/11 के मुंबई आतंकवादी हमलों के बाद स्थापित किया गया था, समुद्री डेटा संलयन के लिए नोडल एजेंसी है।

  • खुले समुद्रों पर यातायात के संबंध में सूचना के आदान-प्रदान के हिस्से के रूप में, नौसेना को 36 देशों और तीन बहुपक्षीय निर्माणों के साथ व्हाइट शिपिंग समझौतों (white shipping agreements) को अंतिम रूप देने के लिए सरकार द्वारा अधिकृत किया गया है। अब तक 22 देशों और एक बहुपक्षीय निर्माण के साथ समझौते संपन्न हुए हैं।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

भारत-वियतनाम के नेताओं का वर्चुअल शिखर सम्मेलन


21 दिसंबर, 2020 को आयोजित ‘भारत-वियतनाम के नेताओं के वर्चुअल शिखर सम्मेलन’ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वियतनाम के प्रधानमंत्री गुयेन जुआन फुक के साथ बैठक की।

महत्वपूर्ण तथ्य: शिखर सम्मेलन के दौरान 'शांति, समृद्धि और लोगों के लिए एक संयुक्त दृष्टिकोण' दस्तावेज को अपनाया गया।

  • संयुक्त दृष्टिकोण को लागू करने के लिए वर्ष 2021-2023 अवधि की कार्ययोजना पर हस्ताक्षर किए गए।
  • शिखर सम्मेलन में विभिन्न क्षेत्रों जैसे रक्षा, आईटी, शांति मिशन, परमाणु सुरक्षा, सौर ऊर्जा और कैंसर अनुसंधान संबंधित नौ समझौते किए गए।

सम्मेलन में की गई घोषणाएँ: वियतनाम को भारत सरकार द्वारा दी गई 100 मिलियन डॉलर की रक्षा क्रेडिट लाइन के तहत वियतनाम बॉर्डर गार्ड कमांड के लिए 'हाई स्पीड गार्ड नौका (High Speed Guard Boat-HSGB) विनिर्माण परियोजना के कार्यान्वयन की घोषणा।

  • वियतनाम में विरासत संरक्षण की 3 नई विकास भागीदारी परियोजनाएं - टेंपल एट माय सन का एफ-ब्लॉक (F-block of Temple at My Son); ‘क्वांट नाम’ प्रांत में डोंग डुओंग बौद्ध मठ और ‘फु येन’ प्रांत में नन चाम टॉवर (Nhan Cham Tower)।
  • वियतनाम के ‘निन्ह थुआन’ प्रांत में स्थानीय समुदाय के लाभ के लिए 1.5 मिलियन डॉलर की भारतीय अनुदान सहायता के साथ सात विकास परियोजनाओं को पूरा करना और सौंपना।
  • वित्त वर्ष 2021-2022 तक वार्षिक त्वरित प्रभाव परियोजनाओं (क्यूआईपी) की संख्या वर्तमान में पाँच से दस बढ़ाना।
  • 'भारत - वियतनाम सभ्यता और सांस्कृतिक संबंध' पर एक विश्वकोश (Encyclopedia) तैयार करने के लिए द्विपक्षीय परियोजना के शुभारंभ।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय पर्यावरण

भारत में तेंदुओं की स्थिति पर रिपोर्ट


केन्द्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने 21 दिसंबर, 2020 को नई दिल्ली में ‘भारत में तेंदुओं की स्थिति पर रिपोर्ट’ जारी की।

महत्वपूर्ण तथ्य: रिपोर्ट के अनुसार भारत में तेंदुओं की संख्या 12,852 तक पहुंच गई है। जबकि इससे पहले 2014 में हुई गणना के अनुसार देश में 7,910 तेंदुए थे। इस अवधि में तेंदुओं की संख्या में 60 फीसदी बढ़ोतरी हुई है।

  • कैमरा ट्रैपिंग विधि का उपयोग करके तेंदुए की आबादी का अनुमान लगाया गया है।
  • गणना के अनुसार सबसे ज्यादा मध्य प्रदेश में 3,421 तेंदुए, कर्नाटक में 1,783 तेंदुए और महाराष्ट्र में 1,690 तेंदुए पाए गए हैं।
  • भारत में, तेंदुओं ने पिछले 120-200 वर्षों में संभवतः ‘मानव-जनित 75-90% आबादी गिरावट’ का अनुभव किया है।
  • भारतीय उपमहाद्वीप में अवैध शिकार, पर्यावास नुकसान, प्राकृतिक शिकार में कमी और संघर्ष तेंदुए की आबादी के लिए बड़े खतरे हैं।
  • इन सभी के कारण अंतरराष्ट्रीय प्रकृति संरक्षण संघ (IUCN) द्वारा प्रजाति की स्थिति को 'संकटासन्न' (Near Threatened) से 'अतिसंवेदंशील' (Vulnerable) कर दिया गया ।

क्षेत्रवार वितरण: मध्य भारत और पूर्वी घाटों में तेंदुओं की संख्या सबसे ज्यादा 8,071 है। पश्चिमी घाट क्षेत्र में 3,387 तेंदुए, जबकि शिवालिक और गंगा के मैदानों में 1,253 तथा पूर्वोत्तर पहाड़ियों में 141 तेंदुए पाए गए।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप निधन

वयोवृद्ध कांग्रेस नेता मोतीलाल वोरा का निधन


वयोवृद्ध कांग्रेस नेता मोतीलाल वोरा का 21 दिसंबर, 2020 को निधन हो गया। वे 93 वर्ष के थे।

  • वोरा दो बार (1985-88 और 1989) मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री पद पर रहे। वे राजीव गांधी की कैबिनेट में स्वास्थ्य मंत्री तथा 1993-96 तक उत्तर प्रदेश के राज्यपाल भी रहे।
  • वोरा ने 16 वर्षों तक कांग्रेस पार्टी के कोषाध्यक्ष के रूप में कार्य किया। उन्होंने अप्रैल 2020 तक, चार बार छत्तीसगढ़ का राज्यसभा में प्रतिनिधित्व भी किया।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप पुरस्कार/सम्मान

प्रधानमंत्री नरेन्द्रय मोदी को ‘लीजन ऑफ मैरिट’ पुरस्कायर


अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प ने 21 दिसंबर, 2020 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को भारत और अमेरिका के बीच रणनीतिक साझेदारी आगे ले जाने और भारत को वैश्विक शक्ति बनाने में सक्षम नेतृत्व के लिए प्रतिष्ठित ‘लीजन ऑफ मैरिट’ (Legion of Merit) पुरस्कार प्रदान किया।

  • मोदी को उच्चतम स्तर के मुख्य कमांडर के तौर पर ‘लीजन ऑफ मैरिट’ पुरस्कार दिया गया, जो किसी राष्ट्राध्यक्ष या शासनाध्यक्ष को ही दिया जाता है।
  • अमेरिका में भारत के राजदूत तरनजीत सिंह संधू ने अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार राबर्ट ओ ब्रायन से व्हाइट हाउस में प्रधानमंत्री की ओर से यह पुरस्कार ग्रहण किया।
अमेरिकी राष्ट्रपति ने ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन और जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे को भी लीजन ऑफ मैरिट पुरस्कार प्रदान किए।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

अंतरराष्ट्रीय प्रवासी दिवस


18 दिसंबर

2020 का विषय: 'रीमेजिनिंग ह्यूमन मोबिलिटी' (Reimagining Human Mobility)

महत्वपूर्ण तथ्य: 18 दिसंबर 1990 को, संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) ने सभी प्रवासी कामगारों के अधिकारों और उनके परिवारों के सदस्यों के संरक्षण पर अंतरराष्ट्रीय अभिसमय को अपनाया था। 4 दिसंबर 2000 को, UNGA ने दुनिया में प्रवासियों की बढ़ती संख्या को मान्यता देते हुये 18 दिसंबर को इस दिवस को मनाने की घोषणा की थी।

सामयिक खबरें राज्य मध्य प्रदेश

हस्तशिल्प ब्रांड 'राग-भोपाली'


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 'वोकल फॉर लोकल' के मंत्र के अनुरूप, मध्य प्रदेश सरकार ने भोपाल के हस्तशिल्प को एक नई अंतरराष्ट्रीय पहचान देने के लिए 'राग-भोपाली' नामक एक नया ब्रांड पेश करने का निर्णय लिया है।

  • भोपाल अपनी जरी (zari), जरदोजी (zardozi) और जूट के काम के लिए लोकप्रिय है।
  • केंद्रीय कपड़ा मंत्रालय ने पहले ही भोपाल को जरी और जरदोजी का क्लस्टर बनाने का निर्णय लिया है।
  • भोपाल के गौहर महल में 26 से 30 दिसंबर, 2020 तक 'राग-भोपाली' नामक हस्तशिल्प प्रदर्शनी का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें जरी, जरदोजी और जूट के सामान दिल्ली और मुंबई सहित विभिन्न शहरों के निर्यातकों की उपस्थिति में प्रदर्शित किए जाएंगे।

सामयिक खबरें राज्य महाराष्ट्र

डिजिटल प्लेटफॉर्म 'महाशरद'


12 दिसंबर, 2020 को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के प्रमुख शरद पवार के 80वें जन्मदिन के उपलक्ष्य में महराष्ट्र सरकार के सामाजिक न्याय विभाग ने एक डिजिटल प्लेटफॉर्म 'महाशरद' का शुभारंभ किया, जो दिव्यांगजनों को मुफ्त में आवश्यक उपकरण प्रदान करेगा।

  • 'महाशरद' (Maharashtra System for Health and Rehabilitation Assistance of Divyang- MahaSharad) का अर्थ है 'महाराष्ट्र दिव्यांग स्वास्थ्य और पुनर्वास सहायता प्रणाली'।
  • पोर्टल अभियान से राज्य में दिव्यांगजन सीधे सरकारी मंच के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं।
  • दिव्यांग व्यक्ति, जिन्हें विशेष रूप से दिव्यांग व्यक्तियों के अधिकार अधिनियम में उल्लिखित किया गया है, वे सरकारी फोरम पर विस्तार से पंजीकरण करके सहायता प्राप्त कर सकते हैं।

सामयिक खबरें खेल चर्चित खेल व्यक्तित्व

पार्थिव पटेल का क्रिकेट के सभी प्रारुपों से संन्यास


9 दिसंबर, 2020 को भारत के विकेटकीपर बल्लेबाज पार्थिव पटेल ने क्रिकेट के सभी प्रारुपों से संन्यास की घोषणा की।

  • पार्थिव पटेल ने अगस्त 2002 में सौरव गांगुली की कप्तानी में मात्र 17 वर्ष की उम्र में इंग्लैंड के विरुद्ध टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया था।
  • पटेल ने अपने अंतरराष्ट्रीय करियर में 25 टेस्ट, 38 एकदिवसीय और 2 टी-20 मैचों में भारत का प्रतिनिधित्व किया, जबकि 194 प्रथम श्रेणी मैचों में गुजरात का प्रतिनिधित्व किया।
  • पार्थिव की कप्तानी में वर्ष 2016-17 में गुजरात की टीम ने पहली बार रणजी ट्रॉफी टूर्नामेंट जीता था।
  • वह आईपीएल में मुंबई इंडियंस, चेन्नई सुपर किंग्स और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलौर, और सनराइजर हैदराबाद की तरफ से भी खेले।
  • वह सचिन तेंदुलकर, पीयूष चावला और एल शिवरामकृष्णन के बाद टेस्ट मैचों में पदार्पण करने वालेचौथे सबसे युवा भारतीय खिलाड़ी हैं।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

ई20 ईंधन


सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने 11 दिसंबर, 2020 को मसौदा अधिसूचना प्रकाशित कर ‘ई20 ईंधन’ (E20 fuel) और इस ईंधन के लिए बड़े पैमाने पर उत्सर्जन मानकों को अपनाए जाने पर जन प्रतिक्रिया आमंत्रित की है।

महत्वपूर्ण तथ्य: ‘ई20 ईंधन’ के अंतर्गत गैसोलीन में 20% एथेनॉल को मिलाकर आटोमोटिव ईंधन के तौर पर इस्तेमाल किया जाएगा। यह अधिसूचना ई20 के अनुरूप वाहन विकसित किए जाने की प्रक्रिया को सुगम बनाएगी।

  • यह कार्बन डाइऑक्साइड और हाइड्रोकार्बन इत्यादि के उत्सर्जन में भी कमी करने में सहायक होगा साथ ही साथ इससे खनिज तेलों के आयात में कमी होगी जिससे विदेशी मुद्रा भंडार की बचत होगी और ऊर्जा संरक्षण को बढ़ावा मिलेगा।
  • एथेनॉल मिश्रित गैसोलीन उपयोग योग्य वाहनों में गैसोलीन में एथेनॉल के प्रतिशत संबंधी विवरण वाहन निर्माता द्वारा दिया जाएगा और इस संबंध में वाहन पर एक स्पष्ट दिखाई देने वाला स्टीकर प्रदर्शित किया जाएगा।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

डीआरडीओ की तीन प्रणालियां


रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 18 दिसंबर, 2020 को थल सेना, नौसेना और वायु सेना को स्वदेशी रूप से विकसित डीआरडीओ की तीन प्रणालियां सौंपी।

महत्वपूर्ण तथ्य: थल सेना अध्यक्ष जनरल एम एम नरवाने को ‘सीमा निगरानी प्रणाली’ (Border Surveillance System- BOSS), नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह को ‘भारतीय समुद्री परिस्थिति संबंधी जागरूकता प्रणाली’ (Indian Maritime Situational Awareness System- IMSAS) और एयर चीफ मार्शल राकेश कुमार सिंह भदौरिया को ‘अस्त्र एमके-I मिसाइल’ (ASTRA Mk-I Missile) सौंपी।

सीमा निगरानी प्रणाली: यह सभी मौसमों में काम करने वाली एक इलेक्ट्रॉनिक निगरानी प्रणाली है, जिसे उपकरण अनुसंधान और विकास प्रतिष्ठान (आईआरडीई), देहरादून द्वारा सफलतापूर्वक डिजाइन और विकसित किया गया है।

  • यह प्रणाली सुदूर संचालन क्षंमता के साथ कठोर एवं अधिक ऊंचाई वाले और उप-शून्य तापमान वाले क्षेत्रों में घुसपैठ का स्वत: पता लगाकर जांच और निगरानी की सुविधा देती है।

भारतीय समुद्री परिस्थिति संबंधी जागरूकता प्रणाली: यह एक अत्याधुनिक, पूरी तरह से स्वदेशी, उच्च प्रदर्शन वाली इंटेलिजन्ट सॉफ्टवेयर प्रणाली है, जो भारतीय नौसेना को वैश्विक समुद्री परिस्थिति चित्रण (Global Maritime Situational Picture), समुद्री नियोजन उपकरण और विश्लेषणात्मक क्षमता प्रदान करती है।

  • सेंटर फॉर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एंड रोबोटिक्स (सीएआईआर), बेंगलुरू और भारतीय नौसेना ने संयुक्त रूप से इस उत्पाद को विकसित किया है तथा बीईएल, बेंगलुरू ने इसे लागू किया।

अस्त्र एमके-I मिसाइल: यह स्वदेशी रूप से विकसित पहली ‘दृश्य सीमा से परे’ (Beyond Visual Range-BVR) मिसाइल है, जिसे सुखोई-30, हल्के लड़ाकू विमान (एलसीए), मिग-29 और मिग-29K से प्रक्षेपित किया जा सकता है।

  • इसे रक्षा अनुसंधान एवं विकास प्रयोगशाला (डीआरडीएल), हैदराबाद द्वारा सफलतापूर्वक विकसित किया गया है।

सामयिक खबरें आर्थिकी

राष्ट्रीय रेल योजना प्रारूप


देश की कुल माल भाड़े की आर्थिक व्यवस्था में क्षमता की कमी को दूर करने और इसके महत्वपूर्ण हिस्से को सुधारने के प्रयास में भारतीय रेल ने 18 दिसंबर, 2020 को एक ‘राष्ट्रीय रेल योजना प्रारूप’ प्रस्तुत किया है। रेलवे का लक्ष्य इस योजना को जनवरी 2021 तक अंतिम अंतिम रूप देना है।

योजना के उद्देश्य: 2050 तक मांग में वृद्धि को पूरा करने हेतु वर्ष 2030 तक भविष्य की मांग के अनुरूप क्षमता निर्माण करना।

  • कार्बन उत्सर्जन को कम करने और 2030 तक शुद्ध शून्य कार्बन उत्सर्जन की राष्ट्रीय प्रतिबद्धता के तहत 2030 तक माल ढुलाई में रेलवे का मॉडल हिस्सा वर्तमान में 27% से बढ़ाकर 45% करना।
  • वर्तमान में माल गाड़ियों की औसत गति को 22 किमी./घंटे से 50 किमी./घंटे तक बढ़ाकर माल ढुलाई के समय को कम करना।
  • दिसंबर 2023 तक 100% विद्युतीकरण (हरित ऊर्जा) तथा 2030 तक और उसके बाद 2050 तक बढ़ते हुए यातायात के दोहरे उद्देश्यों को पूरा करने के लिए लोकोमोटिव आवश्यकता का आकलन करना।
  • इसके तहत तीन समर्पित माल ढुलाई गलियारे अर्थात् पूर्वी तट, पूर्व-पश्चिम और उत्तर-दक्षिण की पहचान समय सीमा के साथ की गई है।

विजन 2024: 2024 तक राष्ट्रीय रेल योजना के हिस्से के रूप में कुछ महत्वपूर्ण परियोजनाओं, जैसे कि 100% विद्युतीकरण, भीड़भाड़ वाले मार्गों की मल्टीट्रैकिंग और दिल्ली-हावड़ा और दिल्ली-मुंबई मार्गों पर 160 किमी./घंटे की गति के उन्नयन तथा स्वर्णिम चतुर्भुज और स्वर्णिम कोणीय (Golden Quadrilateral-Golden Diagonal) मार्ग पर 130 किमी./घंटे की गति के उन्नयन की योजना हेतु त्वरित कार्यान्वयन के लिए ‘विजन 2024’ शुरू किया गया है।

सामयिक खबरें विज्ञान-पर्यावरण

भारत का संचार उपग्रह CMS-01


17 दिसंबर, 2020 को भारत के संचार उपग्रह CMS-01 को 'पीएसएलवी- सी50' (PSLV-C50) द्वारा सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र (SDSC) शार, श्रीहरिकोटा से सफलतापूर्वक लॉन्च किया गया।

महत्वपूर्ण तथ्य: CMS-01 से फ्रीक्वेंसी स्पेक्ट्रम के विस्तारित-सी बैंड (extended-C Band) में सेवाएं प्रदान की जाएगी, जो भारतीय मुख्य भूमि, अंडमान और निकोबार और लक्षद्वीप द्वीप समूह को कवर करेगा।

  • यह बैंड ज्यादातर उपग्रह संचार और पूर्णकालिक उपग्रह टीवी नेटवर्क के लिए उपयोग किया जाता है, और इसका उपयोग मौसम रडार, वाई-फाई उपकरणों और रेडियो लैन के लिए भी किया जाता है।
  • यह भारत का 42वां संचार उपग्रह है, इस मिशन का जीवन काल सात वर्षों से अधिक का है।
  • उपग्रह को भू-तुल्यकालिक अंतरण कक्षा में निर्दिष्ट स्लॉट में स्थापित किया गया। यह 2011 में लॉन्च किए गए 'जीसैट 12' (GSAT 12) का स्थान लेगा।
  • 'पीएसएलवी- सी50' पीएसएलवी की 52वीं उड़ान थी और 'XL' विन्यास (6 स्ट्रैप-ऑन मोटर्स के साथ) में पीएसएलवी की 22वीं उड़ान थी। यह एसडीएससी शार, श्रीहरिकोटा से 77वां प्रमोचन मिशन था।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप विविध

विद्युत क्षेत्र में कौशल विकास हेतु प्रथम उत्‍कृष्‍टता का केंद्र


  • 18 दिसंबर, 2020 को कौशल विकास एवं उद्यमिता मंत्रालय, राष्ट्रीय शिक्षा एवं युवा मंत्रालय (फ्रांस) तथा शनाइडर इलेक्ट्रिक ने देश भर में प्रमाणित प्रशिक्षकों और आकलनकर्ताओं का सुदृढ़ कैडर तैयार करने के लिए ग्वाल पहाड़ी (गुरुग्राम) स्थित राष्ट्रीय सौर ऊर्जा संस्थान (एनआईएसई) के परिसर में ‘विद्युत क्षेत्र के कौशल विकास हेतु प्रथम उत्कृष्टता के केंद्र’ (First Centre of Excellence for Skill Development in Power Sector) के शुभारंभ की घोषणा की।
  • उत्कृष्टता का केंद्र विद्युत, स्वचालन (Automation) और सौर ऊर्जा के क्षेत्रों में उम्मीदवारों की रोजगारपरकता में वृद्धि करने के लिए विस्तृत प्रशिक्षण देने हेतु उच्च दक्षता प्राप्त प्रशिक्षकों और आकलनकर्ताओं का समूह तैयार करने पर ध्यान केंद्रित करेगा।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

राष्ट्रीय ऊर्जा संरक्षण दिवस


14 दिसंबर

महत्वपूर्ण तथ्य: ऊर्जा दक्षता एवं संरक्षण के महत्व के बारे में आम जनता के बीच जागरूकता बढ़ाने के लिए विद्युत मंत्रालय के अधीनस्थ ऊर्जा दक्षता ब्यूरो (बीईई) द्वारा हर साल 14 दिसंबर को इस दिवस का आयोजन किया जाता है।

  • भारत में वर्ष 2001 में ऊर्जा दक्षता ब्यूरो द्वारा ऊर्जा संरक्षण अधिनियम लागू किया गया था। ऊर्जा दक्षता ब्यूरो एक संवैधानिक निकाय है, जो ऊर्जा के उपयोग को कम करने के लिए नीतियों और रणनीतियों के विकास में मदद करता है।

सामयिक खबरें खेल क्रिकेट

भारत - ऑस्ट्रेलिया टी-20 सीरीज 2020-21


4 से 8 दिसंबर, 2020 के बीच भारत और ऑस्ट्रेलिया के मध्य टी-20 सीरीज खेली गई। यह सीरीज भारत ने 2-1 से अपने नाम की।

  • कैनबरा में मनुका ओवल मैदान पर खेले गए पहले मैच को भारत ने 11 रनों से जीता। इस मैच में चोटिल रवीन्द्र जडेजा की जगह बतौर ‘कन्कशन सबस्टीट्यूट’ (concussion substitute) मैदान में उतरे स्पिन गेंदबाज युजवेंद्र चहल ने 3 विकेट हासिल किए और ‘मैन ऑफ द मैच’ रहे।
  • युजवेंद्र चहल अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में ‘मैन ऑफ द मैच’ चुने जाने वाले पहले कन्कशन सबस्टीट्यूट बन गए।
  • सिडनी में खेला गया दूसरा मैच भारत ने 6 विकेट से जीता, जबकि सिडनी में ही खेले गए तीसरे मैच में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 12 रनों से हराया।
  • भारतीय आलराउंडर हार्दिक पांडया को ‘मैन ऑफ द सीरीज’ चुना गया।
  • इससे पहले खेली गई तीन एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों की सीरीज ऑस्ट्रेलिया ने 2-1 से अपने नाम की।

सामयिक खबरें खेल चर्चित खेल व्यक्तित्व

डिएगो माराडोना का निधन


अर्जेंटीना के विश्व-प्रसिद्ध फुटबॉल खिलाड़ी डिएगो माराडोना का 25 नवंबर, 2020 को निधन हो गया। वे 60 वर्ष के थे।

  • उन्होंने अर्जेंटीना को 1986 फुटबॉल वर्ल्ड कप जिताने में अहम भूमिका निभाई थी। वे इस विश्व कप में टीम के कप्तान भी थे। उन्हें 1986 विश्व कप में सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी का गोल्डन बॉल पुरस्कार दिया गया था।
  • वे आक्रामक मिडफील्डर/ स्ट्राइकर की भूमिका में खेलते थे। माराडोना बोका जूनियर्स, नेपोली और बार्सेलोना के अलावा अन्य क्लब के लिए भी खेले।
  • अर्जेंटीना में, उनकी लंबे समय से 'एल डिओस' (El Dios) - द गॉड के रूप में पूजा की जाती है।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

जीपीएस आधारित टोल संग्रहण व्यवस्था


  • दिसंबर 2020 में केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालयने देश भर में वाहनों की निर्बाध आवाजाही सुनिश्चित करने के लिए 'जीपीएस-आधारित (ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम) टोल संग्रहण व्यवस्था' को अंतिम रूप देदिया है। इससे भारत अगले दो वर्षों में 'टोल बूथ मुक्त' हो जाएगा।
  • वाहनों की आवाजाही के आधार पर टोल राशि सीधे बैंक खाते से काट ली जाएगी। अब जबकि सभी वाणिज्यिक वाहनों में पहले से ही वाहन ट्रैकिंग प्रणाली लग कर आ रही है, पुराने वाहनों में जीपीएस तकनीक स्थापित करने के लिए सरकार जल्द ही कोई योजना लेकर आएगी।
  • मार्च 2021 तक टोल संग्रह 34,000 करोड़ रुपये तक पहुँच सकता है। टोल संग्रहण के लिए जीपीएस तकनीक के इस्तेमाल से, अगले पांच वर्षों में टोल आय 1,34,000 करोड़ रुपये तक पहुँच सकती है।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

योगासन को प्रतिस्पर्धी खेल के रूप में मान्यता


  • आयुष मंत्रालय और युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय ने 17 दिसंबर, 2020 को एक संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस में योगासन को एक प्रतिस्पर्धी खेल के रूप में औपचारिक मान्यता देने की घोषणा की।
  • योगासन योग का एक अभिन्न और महत्वपूर्ण अंग है, जो सामाजिक मनोविज्ञान की प्रकृति है और फिटेनस व सामान्य स्वास्थ्य में अपनी प्रभावकारिता के लिए दुनिया भर में लोकप्रिय है।
  • योगासन के खेल की प्रतियोगिताओं के लिए 4 स्पर्धाओं और 7 श्रेणियों में 51 पदक प्रस्तावित किये जा सकते हैं।
  • पुरुषों और महिलाओं दोनों के लिए प्रस्तावित कार्यक्रमों में पारंपरिक योगासन, कलात्मक योगासन (एकल), कलात्मक योगासन (युगल), लयबद्ध योगासन (युगल), मुक्त प्रवाह/समूह योगासन, व्यक्तिगत ऑल राउंड- चैम्पियनशिप और टीम चैम्पियनशिप शामिल हैं।

पीआईबी न्यूज अंतरराष्ट्रीय

हल्दीबाड़ी - चिल्हाटी रेल लिंक


  • प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने 17 दिसंबर, 2020 को आभासी द्विपक्षीय शिखर सम्मेलन के दौरान भारत के हल्दीबाड़ी और बांग्लादेश के चिल्हाटी के बीच एक रेलवे लिंक का संयुक्त रूप से उद्घाटन किया।
  • महत्वपूर्ण तथ्य: वर्ष 1947 में विभाजन के बाद भारत और तत्कालीन पूर्वी पाकिस्तान (1965 तक) जो अब बांग्लादेश बन चुका है, के बीच 7 रेल संपर्क लाइनें मौजूद थीं।
    • इस समय भारत और बांग्लादेश के बीच 4 परिचालन रेल संपर्क लाइने हैं, जिनमें पेट्रापोल (भारत) - बेनापोल (बांग्लादेश), गेदे (भारत) - दर्शन (बांग्लादेश), सिंघाबाद (भारत) - रोहनापुर (बांग्लादेश), राधिकापुर (भारत) - बिरोल (बांग्लादेश) है।
    • हल्दीबाड़ी - चिल्हाटी रेल लिंक दोनों देशों के बीच पांचवी रेल संपर्क सेवा बन गई है। हल्दीबाड़ी - चिल्हाटी रेल संपर्क सेवा 1965 तक चालू थी, यह विभाजन के दौरान कोलकाता से सिलीगुड़ी तक ब्रॉड गेज मुख्य मार्ग का हिस्सा थी।
    • मई 2015 में रेलवे बोर्ड ने इस पूर्ववर्ती रेल लिंक को फिर से खोलने के लिए 2016-17 में हल्दीबाड़ी स्टेशन से चिल्हाटी बांग्लादेश तक 82.72 करोड़ रूपए की लागत से एक नई ब्राड गेज लाइन (3.5 किमी लंबाई) के निर्माण की मंजूरी दी थी।

पीआईबी न्यूज विज्ञान और तकनीक

धातु- कार्बन डाइऑक्साइड बैटरी


भारत सरकार के विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) द्वारा स्थापित स्वर्णजयंती फैलोशिप के इस वर्ष के प्राप्तकर्ता प्रोफेसर चंद्र शेखर शर्मा ने हाल में पहली बार कृत्रिम मंगल ग्रह के वातावरण में लिथियम-कार्बन डाइऑक्साइड बैटरी की तकनीकी व्यवहार्यता का प्रदर्शन किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: इसके तहत उनका लक्ष्य धातु - CO2 बैटरी तकनीक का एक कार्यशील प्रोटोटाइप विकसित करना और मंगल मिशन में इस तकनीक की व्यवहार्यता का पता लगाना है।

  • इसके अंतर्गत विशेष तौर पर सतह के लैंडर और रोवर्स के लिए कार्बन डाइऑक्साइड गैस का उपयोग किया जायेगा, जो वातावरण में प्रचुर मात्रा में उपलब्ध है।
  • धातु - CO2 बैटरी का विकास द्रव्यमान और मात्रा में कमी लाने के साथ ही अत्यधिक विशिष्ट ऊर्जा घनत्व प्रदान करेगा, जो पेलोड के भार में कमी लाएगा और ग्रहों के मिशन की लॉन्च लागत को कम करेगा।
  • धातु - CO2 बैटरियों में वर्तमान में उपयोग की जाने वाली लीथियम-आयन बैटरियों की तुलना में काफी अधिक ऊर्जा घनत्व प्रदान करने और CO2 उत्सर्जन को संतुलित करने के लिए एक उपयोगी समाधान प्रदान करने की एक बड़ी क्षमता है।
  • मंगल मिशन जैसे भारत के अंतरिक्ष मिशन जल्द ही पेलोड के भार को कम करने और ऊर्जा वाहक के रूप में कार्बन डाइऑक्साइड के साथ स्वदेशी रूप से विकसित धातु- कार्बन डाईऑक्साइड बैटरी की मदद से लॉन्च करने में सक्षम हो सकते हैं।
  • यह अध्ययन ‘एल्सेवियर मटेरियल्स लेटर्स’ पत्रिका में प्रकाशित हुआ था और इसके लिए एक भारतीय पेटेंट दायर किया गया है।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

भारत-बांग्लादेश आभासी शिखर सम्मेलन


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने 17 दिसंबर, 2020 को आयोजित ‘भारत-बांग्लादेश आभासी शिखर सम्मेलन’ में वर्चुअल माध्यम से वार्ता की।

महत्वपूर्ण तथ्य: दोनों पक्षों ने ‘संयुक्त सीमा सम्मेलन’ की बैठक जल्द बुलाने पर सहमति जतायी ताकि इच्छामती, कालंदी, रमंगोल और हरियाभंगा नदियों से भूखंड के नक्शे तैयार किए जा सके।

  • कुशियारा नदी के साथ अंतरराष्ट्रीय सीमा को 'निश्चित सीमा' (fixed border) में बदलने के लिए आवश्यक कार्य शुरू किये जाने की घोषणा की गई ।
  • दोनों प्रधानमंत्रियों ने संयुक्त रूप से बंगबंधु शेख मुजीबुर रहमान के जन्म शताब्दी के अवसर पर भारत सरकार द्वारा जारी एक स्मारक डाक टिकट का अनावरण किया। बंगबंधु पर एक बायोपिक का फिल्मांकन जनवरी 2021 में श्याम बेनेगल के निर्देशन में शुरू होगा।

समझौते: हाइड्रोकार्बन क्षेत्र में सहयोग, उच्च प्रभाव वाली सामुदायिक विकास परियोजनाओं के कार्यान्वयन के लिए भारतीय अनुदान सहायता संबंधित समझौता, सीमा–पार हाथी के संरक्षण संबंधी प्रोटोकॉल, कचरे/ठोस अपशिष्ट निपटान सुधार के लिए समझौता।

  • कृषि क्षेत्र में सहयोग, राष्ट्रपिता बंगबंधु शेख मुजीबुर रहमान स्मारक संग्रहालय, ढाका और राष्ट्रीय संग्रहालय, नई दिल्ली के बीच समझौता तथा भारत-बांग्लादेश सीईओ फोरम संबंधित समझौता।

अन्य तथ्य: भारत-बांग्लादेश मैत्री पाइपलाइन वर्तमान में भारत में सिलीगुड़ी से बांग्लादेश में पारबतीपुर तक हाई-स्पीड डीजल आपूर्ति के लिए बनाई जा रही है।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

मानव स्वतंत्रता सूचकांक 2020


17 दिसंबर, 2020 को संयुक्त राज्य अमेरिका के कैटो इंस्टीट्यूट और कनाडा के फ्रेजर इंस्टीट्यूट द्वारा व्यक्तिगत, नागरिक और आर्थिक स्वतंत्रता से संबंधित ‘मानव स्वतंत्रता सूचकांक 2020’ जारी किया गया।

महत्वपूर्ण तथ्य: इस सूचकांक में वर्ष 2008 से 2018 तक के डेटा का उपयोग किया गया। सूचकांक ने 162 देशों में व्यक्तिगत, नागरिक और आर्थिक स्वतंत्रता के 76 संकेतकों को कवर किया है।

  • सूचकांक में वैश्विक स्तर पर वर्ष 2008 से व्यक्तिगत स्वतंत्रता में गिरावट देखी गई है।
  • सूचकांक में न्यूजीलैंड शीर्ष स्थान पर है, उसके बाद स्विट्जरलैंड दूसरे, हांगकांग तीसरे, डेनमार्क चौथे तथा ऑस्ट्रेलिया पांचवें स्थान पर रहा।
  • सूचकांक में सबसे निचले स्थान पर सीरिया (162वें), सूडान (161वें) और वेनेजुएला (160वें) हैं।
  • 2019 और 2020 में हांगकांग में चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के अभूतपूर्व हस्तक्षेप को देखते हुए, सूचकांक के भविष्य के संस्करणों में क्षेत्र की स्वतंत्रता स्कोर में उल्लेखनीय गिरावट कीसंभावना है।

भारत की स्थिति: भारत सूचकांक में 111वें स्थान पर है। भारत का 10 में से 6.43 का समग्र स्कोर था।

  • व्यक्तिगत स्वतंत्रता के मामले में भारत 110 वें स्थान पर और आर्थिक स्तंत्रता में 105वें स्थान पर है।
  • सूचकांक में भारत के पड़ोसी देशों में चीन को 129वें, बांग्लादेश को 139वें और पाकिस्तान को 140वें स्थान पर रखा गया है।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित स्थल

एस्वातिनी के प्रधानमंत्री का निधन


13 दिसंबर, 2020 को अफ्रीकी देश एस्वातिनी के प्रधानमंत्री एम्ब्रोस मांडवुलो डलामिनी का 52 वर्ष की उम्र में निधन हो गया है।

  • एस्वातिनी अफ्रीका महादीप में एक भू-आबद्ध देश (Land- locked country) है। यह उत्तर-पूर्व में मोजाम्बिक द्वारा उत्तर, पश्चिम और दक्षिण में दक्षिण अफ्रीका से घिरा हुआ है।
  • आधिकारिक तौर पर 2018 में अफ्रीका के दक्षिणी भाग में स्थित इस देश का नाम बदलकर एस्वातिनी रखा गया, जो भारत में अपने पूर्व नाम ‘स्वाजीलैंड’ के नाम से अधिक जाना जाता है।
  • 2017 में विश्व बैंक के आंकड़ों के अनुसार लगभग 1.2 मिलियन की आबादी वाले इस देश के लगभग 40% लोग गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करते हैं।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप निधन

संगीत के उस्ताद इकबाल अहमद खान का निधन


‘दिल्ली घराने के खलीफा’ संगीत के उस्ताद इकबाल अहमद खान का 17 दिसंबर, 2020 को निधन हो गया। वे 66 वर्ष के थे।

  • 1954 में जन्मे इकबाल अहमद खान संगीत के ‘दिल्ली घराने’ से ताल्लुक रखते थे। उन्होंने अपने शिक्षक उस्ताद चंद खान के मार्गदर्शन में अपना स्टेज करियर शुरू किया।
  • पारिवारिक परंपराओं को ध्यान में रखते हुए, खान ने अमीर खुसरो के संगीत कार्यों को सक्रिय रूप से बढ़ावा दिया था।
  • उन्होंने भारतीय शास्त्रीय संगीत के पुनर्जागरण के उद्देश्य से 'दिल्ली दरबार' की स्थापना की, जिसने 2019 में अपना पहला शास्त्रीय आयोजन किया।
  • उन्हें 1993 में संगीता सेवालय बोधगया (बिहार) द्वारा 'ज्ञान आचार्य', सुर संगीत समिति, नरेला, दिल्ली द्वारा 'संगीत रतन', और 1998 में संगीतायन, दिल्ली द्वारा 'संगीत सौरभ' की उपाधि दी गई थी।
  • उन्हें हिंदुस्तानी संगीत के लिए 2014 में संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार से भी नवाजा गया था।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप पुरस्कार/सम्मान

सोशल एंटरप्रेन्योर ऑफ द इयर पुरस्कार 2020


महिला और बाल विकास मंत्री स्मृति जुबिन ईरानी द्वारा अशरफ पटेल को 'श्वाब फाउंडेशन' और 'जुबिलेंट भरतिया फाउंडेशन' द्वारा स्थापित 'सोशल एंटरप्रेन्योर ऑफ द इयर पुरस्कार 2020' प्रदान किया गया।

  • 'यूनिसेफ दक्षिण एशिया क्षेत्रीय कार्यालय' के साथ साझेदारी में, उन्होंने 8 दक्षिण एशियाई देशों में किशोरों के जीवन पर कोविड- 19 के प्रभाव का आकलन करने के लिए एक जांच उपकरण विकसित किया है।
  • अशरफ पटेल, 'प्रवाह' (Pravah) और 'कॉम्यूटिनी यूथ कलेक्टिव' (ComMutiny Youth Collective) की सह-संस्थापक हैं।
  • 1993 में स्थापित, प्रवाह मनो-सामाजिक हस्तक्षेपों के माध्यम से भारत में सहानुभूतिपूर्ण, संवेदनशील युवा परिवर्तन-कर्ताओं (Young changemaker) की एक पीढ़ी के विकास की सुविधा प्रदान कर रहा है। 'कॉम्यूटिनी यूथ कलेक्टिव' को 2008 में स्थापित किया गया था।
  • यह पुरस्कार पहली बार 2010 में दिया गया था।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

विश्व अल्पसंख्यक अधिकार दिवस


18 दिसंबर

महत्वपूर्ण तथ्य: 18 दिसंबर, 1992 को संयुक्त राष्ट्र ने धार्मिक या भाषाई ‘राष्ट्रीय या जातीय अल्पसंख्यकों’ से संबंधित व्यक्ति के अधिकारों पर वक्तव्य को अपनाया और प्रसारित किया था।

  • भारत में यह दिवस राष्ट्रीय अल्पसंख्यक आयोग द्वारा मनाया जाता है, जो धार्मिक सद्भाव, सम्मान और सभी अल्पसंख्यक समुदायों की बेहतर समझ पर केंद्रित है।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

उत्तर-पूर्वी क्षेत्रीय विद्युत व्‍यवस्‍था सुधार परियोजना


16 दिसंबर, 2020 को आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने छ: राज्यों में बिजली के अंतरराज्यीय पारेषण एवं वितरण व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने हेतु ‘उत्तर-पूर्वी क्षेत्रीय विद्युत व्यवस्था सुधार परियोजना’ की लागत के संशोधित अनुमान को मंजूरी प्रदान की।

उद्देश्य: उत्तर-पूर्वी क्षेत्र के समूचे आर्थिक विकास और इस क्षेत्र में अंतरराज्यीय पारेषण एवं वितरण संरचना को मजबूत बनाने की सरकार की प्रतिबद्धता को पूरा करना।

महत्वपूर्ण तथ्य: 6,700 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत की इस परियोजना को दिसम्बर 2021 में शुरू किए जाने का लक्ष्य निर्धारित हुआ है।

  • यह योजना विद्युत मंत्रालय के तहत आने वाले सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम (पीएसयू) ‘पावर ग्रिड’ के जरिए पूर्वोत्तर के छ: लाभार्थी राज्यों – असम, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड और त्रिपुरा के सहयोग से लागू की जाएगी।
  • योजना के लागू होने से एक भरोसेमंद ‘पावर ग्रिड’ बनया जा सकेगा और पूर्वोत्तर राज्यों की भावी विद्युत भार केन्द्रों (लोड सेंटरों) तक संपर्क और पहुंच में सुधार होगा।
  • इस योजना से इन राज्यों में प्रति व्यक्ति बिजली उपभोग में वृद्धि की जा सकेगी।
  • यह परियोजना विद्युत मंत्रालय की केन्द्रीय क्षेत्र योजना के तहत दिसम्बर 2014 में पहली बार मंजूर की गई थी और इसके लिए विश्व बैंक से सहायता प्राप्त हुई है।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

राष्ट्रीय जल विज्ञान परियोजना


16 दिसंबर, 2020 को जल शक्ति मंत्रालय द्वारा विश्व बैंक समर्थित पहल 'राष्ट्रीय जल विज्ञान परियोजना' (National Hydrology Project- NHP) की मध्यावधि समीक्षा की गई।

उद्देश्य: जल संसाधन सूचना के विस्तार, विश्वसनीयता और पहुंच में सुधार करना और भारत में लक्षित जल संसाधन प्रबंधन संस्थानों की क्षमता को मजबूत करना।

परियोजना की प्रगति: परियोजना के तहत, 'जल संसाधन डेटा का एक राष्ट्रव्यापी भंडार' स्थापित किया गया है।

  • NHP की शुरुआत के बाद से, वर्ष 2016 में मात्र 878 की तुलना में जल संसाधन सूचना प्रणाली में 12,273 सतही जल स्टेशनों की मैपिंग की जा चुकी है।
  • इसके अलावा, 4 साल के भीतर 70,525 भूजल स्टेशनों ने भी डेटा साझा करना शुरू कर दिया है।

अन्य तथ्य: राष्ट्रीय जल विज्ञान परियोजना (NHP) की शुरुआत वर्ष 2016 में केंद्रीय क्षेत्र योजना के रूप में की गई थी, जिसमें समस्त भारत की कार्यान्वयन एजेंसियों को 100% अनुदान के साथ 8 वर्ष की अवधि में 3680 करोड़ रुपये के बजट परिव्यय का प्रावधान किया गया है।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

प्रधानमंत्री विशेष छात्रवृत्ति योजना


जम्मू एवं कश्मीर और लद्दाख के छात्रों को सहायता देने के उद्देश्य से अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (एआईसीटीई) ने ‘प्रधानमंत्री विशेष छात्रवृत्ति योजना’ के तहत निर्वाह भत्ते के रूप में 20,000 रुपये की किस्त जारी करने का निर्णय लिया है।

उद्देश्य: जम्मू एवं कश्मीर और लद्दाख के युवाओं के लिए रोजगार के अवसर बढ़ाना और सार्वजनिक एवं निजी क्षेत्रों में नौकरी के अवसर सृजित करना।

  • इस योजना के तहत, जम्मू एवं कश्मीर और लद्दाख के युवाओं को दो भागों वाली छात्रवृत्ति- ‘शैक्षणिक शुल्क’ और ‘निर्वाह भत्ता’ के जरिए सहायता प्रदान की जाती है। एआईसीटीई ने सभी संस्थानों को वर्ष 2020-21 के लिए संपूर्ण शैक्षणिक शुल्क पहले ही जारी कर दिया है।
  • प्रधानमंत्री द्वारा एक विशेषज्ञ समूह के गठन के बाद एआईसीटीई, नई दिल्ली द्वारा यह योजना लागू की जा रही है।

पीआईबी न्यूज अंतरराष्ट्रीय

विद्युत क्षेत्र में भारत - संयुक्‍त राज्‍य अमेरिका समझौता


16 दिसंबर, 2020 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने विद्युत क्षेत्र में आपसी हितों के क्षेत्रों में सूचना के आदान-प्रदान हेतु भारत और संयुक्त राज्य अमेरिका के बीच समझौता ज्ञापन को मंजूरी प्रदान की।

उद्देश्य: कुशल, थोक विद्युत बाजार विकसित करने और ग्रिड विश्वसनीयता बढ़ाने के लिए नियामक और नीतिगत ढांचे को बेहतर बनाने में मदद करना।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह समझौता केन्द्रीय विद्युत नियामक आयोग (सीईआरसी), भारत और संघीय ऊर्जा नियामक आयोग, संयुक्त राज्य अमेरिका के बीच किया गया है।

समझौता ज्ञापन के तहत की जाने वाली गतिविधियां: ऊर्जा से संबंधित मुद्दों की पहचान करना और आपसी हितों के क्षेत्रों में सूचना और नियामक प्रक्रियाओं के आदान-प्रदान के लिए विषयों और संभावित एजेंडों को विकसित करना;

  • एक-दूसरे की सुविधा केन्द्रों में आयोजित गतिविधियों में भागीदारी के लिए आयुक्तों और/या कर्मचारियों के दौरे आयोजित करना;
  • आपसी हितों के कार्यक्रम विकसित करना और भागीदारी बढ़ाने के लिए कार्यक्रमों को स्थानीय रूप से आयोजित करना;
  • व्यावहारिक और आपसी हित के लिए ऊर्जा के मुद्दों पर वक्ताओं और अन्य कर्मियों (प्रबंधन या तकनीकी) को उपलब्ध कराना।

सामयिक खबरें आर्थिकी

‘भारत का कोविड-19 सामाजिक सुरक्षा प्रतिक्रिया कार्यक्रम’ परियोजना


भारत सरकार और विश्व बैंक ने 16 दिसंबर, 2020 को 400 मिलियन डॉलर की ‘भारत के कोविड-19 सामाजिक सुरक्षा प्रतिक्रिया कार्यक्रम’ परियोजना (Accelerating India's COVID-19 Social Protection Response Program) पर हस्ताक्षर किए।

उद्देश्य: कोविड-19 महामारी से बुरी तरह से प्रभावित गरीबों और कमजोर परिवारों को सामाजिक सहायता प्रदान करने के भारत के प्रयासों में मदद करना।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह दो कार्यक्रमों की श्रृंखला का दूसरा हिस्सा है। 750 मिलियन डॉलर के पहले हिस्से को मई 2020 में मंजूरी दी गई थी।

  • यह कार्यक्रम कोविड-19 महामारी से पैदा हुए संकट से जूझ रहे गरीबों और कमजोरों को समन्वित और पर्याप्त सामाजिक सुरक्षा प्रदान कर भारत में राज्य और राष्ट्रीय सरकारों की क्षमता को मजबूत करेगा।
  • यह कार्यक्रम देशभर के शहरों और उसके आसपास के क्षेत्रों में रहने वाले इन कमजोर समूहों की मदद कर भारत की सामाजिक सुरक्षा प्रणालियों के कवरेज के विस्तार और उसे गहरा बनाने में मदद करेगा।
  • 400 मिलियन डॉलर का क्रेडिट विश्व बैंक की रियायती ऋण शाखा अंतरराष्ट्रीय विकास संघ (आईडीए) से दिया गया है।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप पुरस्कार/सम्मान

गोल्डन पीकॉक पर्यावरण प्रबंधन पुरस्कार 2020


भारतीय इस्पात प्राधिकरण लिमिटेड (सेल) को इंस्टीट्यूट ऑफ डायरेक्टर्स द्वारा इस्पात के क्षेत्र में वर्ष 2020 के प्रतिष्ठित ‘गोल्डन पीकॉक पर्यावरण प्रबंधन पुरस्कार’ से सम्मानित किया गया।

  • भारतीय इस्पात प्राधिकरण लिमिटेड, पर्यावरण संरक्षण की अपनी कॉरपोरेट जिम्मेदारी के प्रति सजग रहते हुए लगातार पर्यावरण के अनुकूल विभिन्न उपायों को अपनाने पर ध्यान केंद्रित करता है।
  • यह पुरस्कार उद्योग जगत को अपने पर्यावरण संबंधी प्रदर्शन को बेहतर करने और एक मानक स्थापित करने के लिए अपने साथी उद्यमों के साथ प्रतिस्पर्धा करने के लिए प्रोत्साहित करता है।
  • सेल लगातार दो वर्षों से इस पुरस्कार का विजेता रहा है। इस पुरस्कार की स्थापना इंस्टीट्यूट ऑफ डायरेक्टर्स, भारत द्वारा 1991 में की गई थी।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप अभियान/सम्मेलन/आयोजन

5वां भारत जल प्रभाव शिखर सम्मेलन


राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन (एनएमसीजी) और ‘गंगा नदी बेसिन प्रबंधन तथा अध्ययन केंद्र- सी-गंगा’ (Centre for Ganga River Basin Management and Studies -cGanga) द्वारा ‘5वां भारत जल प्रभाव शिखर सम्मेलन’ 10 से 15 दिसंबर, 2020 तक आयोजित किया गया।

  • इसमें ‘अर्थ गंगा- नदी जल संरक्षण समन्वित विकास’ के तहत स्थानीय नदियों और जल निकायों के व्यापक विश्लेषण तथा समग्र प्रबंधन पर ध्यान केंद्रित किया गया।
  • नॉर्वे के जैव-अर्थव्यवस्था शोध संस्थान ने सी-गंगा (एनएमसीजी के थिंक टैंक) के साथ भारत में कीचड़ प्रबंधन (sludge management) हेतु एमओयू पर हस्ताक्षर किए।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप समझौते/संधि

भारत सरकार और न्यू डेवलपमेंट बैंक


भारतीय अर्थव्यवस्था को कोविड-19 से तेजी से उबरने में मदद करने हेतु भारत सरकार और न्यू डेवलपमेंट बैंक (एनडीबी) के बीच 16 दिसंबर, 2020 को 100 करोड़ डॉलर ऋण के समझौते पर हस्ताक्षर किए गए।

  • इस राशि का इस्तेमाल ‘प्राकृतिक संसाधन प्रबंधन (एनआरएम) से संबंधित ग्रामीण आधारभूत संरचनाओं में निवेश और ग्रामीण क्षेत्र में रोजगार सृजन हेतु ‘महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना’ के लिए किया जाएगा।
  • 100 करोड़ डॉलर का ऋण 30 वर्ष के लिए है, जिसमें 5 वर्ष की छूट अवधि भी शामिल है।
  • एनडीबी का गठन15 जुलाई, 2014 को ब्रिक्स देशों की सरकारों के मध्य हुए समझौते के तहत किया गया है। इस बैंक के गठन का उद्देश्य ब्रिक्स और अन्य उभरती बाजार अर्थव्यवस्थाओं और विकासशील देशों में बुनियादी ढांचे और सतत विकास परियोजनाओं के लिए संसाधन जुटाना है।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप विविध

स्‍पेक्‍ट्रम नीलामी


16 दिसंबर, 2020 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने दूरसंचार विभाग के स्पेक्ट्रम नीलामी के प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान की।

  • यह नीलामी 700 मेगाहर्ट्ज, 800 मेगाहर्ट्ज, 900 मेगाहर्ट्ज, 1800 मेगाहर्ट्ज, 2100 मेगाहर्ट्ज, 2300 मेगाहर्ट्ज और 2500 मेगाहर्ट्ज फ्रीक्वेंसी बैंड्स के स्पेक्ट्रम के लिए होगी।
  • यह स्पेक्ट्रम 20 वर्ष की वैधता अवधि के लिए सौंपा जाएगा। कुल 3,92,332.70 करोड़ रुपये (आरक्षित मूल्य पर) के मूल्य निर्धारण के साथ कुल 2251.25 मेगाहर्ट्ज का प्रस्ताव किया जा रहा है।
  • ‘स्पेक्ट्रम नीलामी’ सफल बोलीदाताओं को स्पेक्ट्रम प्रदान करने की एक पारदर्शी प्रक्रिया है। स्पेक्ट्रम की पर्याप्त उपलब्धता उपभोक्ताओं के लिए दूरसंचार सेवाओं की गुणवत्ता बढ़ाती है।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

विजय दिवस


16 दिसंबर

महत्वपूर्ण तथ्य: 1971 के युद्ध में पाकिस्तान पर भारत की जीत का जश्न मनाने के लिए 16 दिसंबर को हर साल विजय दिवस के रूप में मनाया जाता है। इसके परिणामस्वरूप बांग्लादेश के अलग राष्ट्र के रूप में नींव पड़ी थी।

सामयिक खबरें संस्थान-संगठन

एशिया प्रशांत प्रसारण संघ


दिसंबर 2020 में प्रसार भारती के सीईओ, शशि शेखर वेम्पति को दुनिया के सबसे बड़े प्रसारण संगठनों में से एक 'एशिया प्रशांत प्रसारण संघ' (Asia Pacific Broadcasting Union- ABU) के उपाध्यक्ष के रूप में चुना गया है।

  • 'एशिया प्रशांत प्रसारण संघ' का गठन 1964 में 57 देशों और क्षेत्रों में 286 से अधिक सदस्यों के साथ प्रसारण संगठनों के एक पेशेवर संघ के रूप में किया गया था। इसका मुख्यालय कुआलालम्पुर में है।
  • ABU 'विश्व प्रसारण संघ' का सदस्य है और ब्रॉडकास्टरों के लिए फ्रीक्वेंसी बढ़ाने, संचालन और तकनीकी प्रसारण मानकों और प्रणालियों के सामंजस्य और प्रसारण समझौतों को अंतिम रूप देने जैसे मामलों पर अन्य क्षेत्रीय प्रसारण संघों के साथ मिलकर काम करता है।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

हाइजीन रेटिंग ऑडिट एजेंसियों के अनुमोदन की योजना


दिसंबर 2020 में भारतीय गुणवत्ता परिषद (क्यूसीआई) ने एफएसएसएआई की ओर से देश में मान्यता प्राप्त हाइजीन (स्वच्छता) रेटिंग ऑडिट एजेंसियों की संख्या में वृद्धि करने हेतु ‘हाइजीन रेटिंग ऑडिट एजेंसियों के अनुमोदन की योजना’(Scheme for approval of Hygiene Rating Audit Agencies) लॉन्च की है।

उद्देश्य: स्वच्छता और सुरक्षा मानकों में सुधार लाने के लिए खाने-पीने के व्यवसायों को प्रोत्साहित करके उपभोक्ताओं को खाद्य पदार्थों से संबंधित सूचित विकल्प / निर्णय लेने की अनुमति प्रदान करना।

महत्वपूर्ण तथ्य: एफएसएसएआई की ‘खाद्य स्वच्छता रेटिंग योजना’ (Food Hygiene Rating Scheme) पहल अपने परिसर या उससे बाहर उपभोक्ताओं को सीधे खाद्य पदार्थों की आपूर्ति के व्यापार के लिए प्रमाणन प्रणाली की योजना है।

  • खाद्य प्रतिष्ठानों के ऑडिट के समय खाने की स्वच्छता और सुरक्षा की स्थितियों के आधार पर मूल्यांकन किया जाता है।
  • स्वच्छता रेटिंग स्माइली (1 से 5 तक) के रूप में होगी और इसे उपभोक्ता को दिखाई देने वाले स्थान में प्रमुखता से प्रदर्शित करना होगा।
  • ‘मान्यता प्राप्त हाइजीन रेटिंग ऑडिट एजेंसियां’ एफएसएसएआई द्वारा निर्धारित खाद्य स्वच्छता और सुरक्षा प्रक्रियाओं के अनुपालन की पुष्टि करने के लिए जिम्मेदार होंगी।
  • वर्तमान में यह योजना खाद्य सेवा प्रतिष्ठानों जैसे होटल, रेस्टोरेंट, कैफेटेरिया और ढाबों, मिठाई की दुकानों, बेकरी और मांस की खुदरा दुकानों के लिए लागू है।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

भारतीय रेलवे की अस्पताल प्रबंधन सूचना प्रणाली


भारतीय रेलवे ने 11 दिसंबर, 2020 को ‘अस्पताल प्रबंधन सूचना प्रणाली’ (Hospital Management Information System- HMIS) परीक्षण परियोजना शुरू की। यह परियोजना दक्षिण मध्य रेलवे में शुरू की गई है।

उद्देश्य: अस्पताल प्रशासन गतिविधियों के लिए एकल खिड़की सुविधा प्रदान करना, जैसे कि नैदानिक, निदान, फार्मेसी, परीक्षा, औद्योगिक स्वास्थ्य आदि।

महत्वपूर्ण तथ्य: HMIS को भारतीय रेलवे ने ‘रेलटेल कॉरपोरेशन लिमिटेड’ के साथ समन्वय में विकसित किया है।

परिकल्पित समाधान के प्राथमिक उद्देश्य: प्रभावी रूप से सभी स्वास्थ्य सुविधाओं और उसके संसाधनों का प्रबंधन करना;

  • प्रशासनिक चैनल में अस्पतालों के प्रदर्शन पर नजर रखना;
  • अपने लाभार्थियों को गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य देखभाल सेवाएं मुहैया कराना;
  • मरीज के प्रतीक्षा समय में सुधार करना तथा सभी रोगियों का ईएमआर (इलेक्ट्रॉनिक मेडिकल रिकॉर्ड) तैयार करना और उसे सुरक्षित रखना।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

कामधेनु पीठ


15 दिसंबर, 2020 को देश भर के दस विश्वविद्यालयों ने अपने उच्च शिक्षा संस्थानों में कामधेनु पीठ (Kamdhenu Chairs) स्थापित करने की घोषणा की।

उद्देश्य: स्वदेशी गायों और भारतीय शिक्षा प्रणाली से संबंधित विज्ञान को सामने लाने के लिए मंच उपलब्ध कराए जाने के साथ-साथ आधुनिक वैज्ञानिक एवं प्रक्रिया जन्य दृष्टिकोण के साथ अनुसंधान को बढ़ावा देना।

महत्वपूर्ण तथ्य: राष्ट्रीय कामधेनु आयोग ने विश्वविद्यालय अनुदान आयोग और एआईसीटीई के सहयोग से विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में ‘कामधेनु पीठ’ स्थापित करने के विषय पर एक राष्ट्रीय वेबिनार आयोजित किया।

  • देशी गायों के कृषि, स्वास्थ्य, सामाजिक और पर्यावरणीय महत्व के बारे में युवाओं को शिक्षित करने की जरूरत को देखते हुए सरकार ने अब गायों और पंचगव्य की क्षमता का पता लगाने की शुरुआत की है।
  • इसके अलावा राष्ट्रीय कामधेनु आयोग ने गाय आधारित उद्यमशीलता पर प्रमाण पत्र और डिप्लोमा पाठ्यक्रम शुरु करने का भी प्रस्ताव दिया है।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

‘डाकपे’ ऐप


डाक विभाग और इंडिया पोस्ट पेमेन्ट्स बैंक (आईपीपीबी) ने 15 दिसंबर, 2020 को ‘डाकपे’ नामक एक नया डिजिटल भुगतान ऐप लॉन्च किया।

उद्देश्य: समाज के विभिन्न वर्गों की वित्तीय जरूरतों (Pay) को पूरा करना।

  • ‘डाकपे’ केवल एक डिजिटल पेमेन्ट ऐप नहीं है, बल्कि देशभर में फैले डाक विभाग के व्यापक नेटवर्क के माध्यम से भारतीय डाक और आईपीपीबी द्वारा प्रदान की जाने वाली डिजिटल वित्तीय और सहायक बैंकिंग सेवाओं का एक समूह है।
  • अपने प्रियजनों को पैसा भेजना (डोमेस्टिक मनी ट्रांसफर-डीएमटी), क्यूआरकोड को स्कैन कर विभिन्न सेवाओं के लिए दुकानदार को भुगतान करना (यूपीआई सुविधा और वर्चुअल डेबिट कार्ड), बायोमेट्रिक के माध्यम से नकदरहित व्यवस्था को सक्षम बनाना, किसी भी बैंक के ग्राहकों को अंतर-बैंकिंग सेवाएं प्रदान करना तथा जरूरी सेवाओं के बिलों का भुगतान जैसी तमाम सेवाओं का लाभ इस ऐप के माध्यम से लिया जा सकता है।
  • भारत के आम नागरिकों तक सुगम, सस्ती और विश्वसनीय बैंकिंग सेवाएं उपबल्ध कराने के उद्देश्य से इंडिया पोस्ट पेमेन्ट्स बैंक को संचार मंत्रालय के डाक विभाग के तहत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 1 सितंबर, 2018 को लॉन्च किया था।

सामयिक खबरें आर्थिकी

भारतीय पत्तन विधेयक, 2020 का मसौदा


पत्तन, पोत परिवहन एवं जलमार्ग मंत्रालय ने 11 दिसंबर, 2020 को भारतीय पत्तन विधेयक, 2020 का मसौदा जनता के परामर्श के लिए जारी किया। यह विधेयक भारतीय पत्तन कानून, 1908 को निरस्त कर उसका स्थान लेगा।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह विधेयक निम्न तरीकों से भारत में पत्तन क्षेत्र की प्रगति और सतत् विकास के लिए एक सक्षम वातावरण बनाने की कोशिश करता है।

  • समुद्री पत्तन नियामक प्राधिकरण का गठन।
  • तटीय राज्यों की सरकारों, राज्यों के समुद्री बोर्डों और अन्य हितधारकों के परामर्श से राष्ट्रीय पत्तन नीति और राष्ट्रीय पत्तन योजना तैयार करना।
  • पत्तन क्षेत्र में किसी भी गैर-प्रतिस्पर्धी कार्रवाई पर अंकुश लगाने और एक त्वरित और वहन योग्य शिकायत निवारण तंत्र के रूप में कार्य करने के लिए विशेष समुद्री न्यायाधिकरणों जैसे - समुद्री पत्तन न्यायाधिकरण और समुद्री पत्तन अपीलीय न्यायाधिकरण का गठन करना।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

एस-400 वायु रक्षा प्रणालियों के अधिग्रहण पर तुर्की पर प्रतिबंध


संयुक्त राज्य अमेरिका ने 14 दिसंबर, 2020 को रूसी एस-400 वायु रक्षा प्रणालियों के अधिग्रहण पर तुर्की पर प्रतिबंध लगा दिया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: 'एस -400 ट्रायम्फ' (S-400 Triumf) रूस द्वारा डिजाइन की गई एक मोबाइल, सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल प्रणाली (SAM) है। इसे NATO द्वारा ‘SA-21 Growler’ भी कहा जाता है।

  • यह दुनिया में सबसे खतरनाक परिचालन वाली आधुनिक लंबी दूरी की सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल प्रणाली है, जिसे अमेरिका द्वारा विकसित 'टर्मिनल हाई एल्टीट्यूड एरिया डिफेंस सिस्टम' (THAAD) से अग्रणी माना जाता है।
  • यह मिसाइल प्रणाली विमान, मानव रहित हवाई वाहनों (यूएवी) और बैलिस्टिक और क्रूज मिसाइलों सहित सभी प्रकार के हवाई लक्ष्यों को 400 किमी. की सीमा के भीतर 30 किमी. तक की ऊंचाई पर भेद सकती है।
  • यह मिसाइल प्रणाली 100 हवाई लक्ष्यों को ट्रैक कर सकती है और उनमें से छ: को एक साथ निशाना बना सकती है।
  • 'एस-400 ट्रायम्फ’ वायु रक्षा प्रणाली एक बहुआयामी राडार, स्वायत्त पहचान और लक्ष्यीकरण प्रणाली, विमान भेदी मिसाइल प्रणाली, लांचर और कमान और नियंत्रण केंद्र को एकीकृत करती है।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप पुरस्कार/सम्मान

युवा गणितज्ञों का रामानुजन पुरस्कार 2020


9 दिसंबर, 2020 को एक वर्चुअल समारोह में ब्राजील के रियो डी जनेरियो स्थित 'इंस्टीट्यूट फॉर प्योर एंड एप्लाइड मैथेमेटिक्स (IMPA) की गणितज्ञ डॉ. कैरोलिना अरुजो को 'युवा गणितज्ञों के रामानुजन पुरस्कार 2020’ से सम्मानित किया गया।

  • उन्हें यह पुरस्कार बीजगणितीय ज्यामिति (algebraic geometry) में उत्कृष्ट कार्य के लिए दिया गया। उनका शोध कार्य 'बाइरेशनल ज्यामिति' (birational geometry) पर केंद्रित है, जिसका उद्देश्य बीजगणित के विभिन्न प्रकारों की संरचना को वर्गीकृत करना और उनका वर्णन करना है।
  • भारत सरकार के विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा वित्त पोषित यह पुरस्कार एक विकासशील देश के एक शोधार्थी को प्रतिवर्ष 'इंटरनेशनल सेंटर फॉर थियोरेटिकल फिजिक्स (ICTP) और अंतरराष्ट्रीय गणितीय संघ के सहयोग से दिया जाता है।
  • डॉ. अरुजो, जो अंतरराष्ट्रीय गणितीय संघ में ‘गणित में महिलाओं के लिए समिति’ की उपाध्यक्ष हैं, इस पुरस्कार को प्राप्त करने वाले पहली गैर-भारतीय हैं।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप विविध

स्वदेश निर्मित इंटरसेप्टर नौका


सूरत जिले के हजीरा में 15 दिसंबर, 2020 को आयोजित एक कार्यक्रम में स्वदेश निर्मित इंटरसेप्टर (शत्रु को पकड़ने वाली) नौका को भारतीय तटरक्षक बल के बेड़े में शामिल किया गया।

  • ‘सी-454’ नामक इस नौका को ‘लार्सन एंड टूब्रो’ ने अपने हजीरा संयंत्र में तैयार किया है।
  • यह इंटरसेप्टर नौका कमांडर तटरक्षक क्षेत्र (उत्तर-पश्चिम) के प्रशासनिक और परिचालन नियंत्रण के तहत गुजरात से संचालित होगी।
  • उथले पानी में 45 नॉट की गति क्षमता वाली यह नौका गश्ती बढ़ाने के साथ ही घुसपैठ, तस्करी एवं अंतरराष्ट्रीय समुद्री सीमा पर अवैध मत्स्यिकी जैसी गतिविधियों को रोकने में भी समर्थ होगी।

सामयिक खबरें राज्य गुजरात

प्रधानमंत्री द्वारा गुजरात में विकास परियोजनाओं का शिलान्यास


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 15 दिसंबर, 2020 को गुजरात के कच्छ में राज्य की कई विकास परियोजनाओं का शिलान्यास किया। इन परियोजनाओं में एक विलवणीकरण संयंत्र, एक हाइब्रिड नवीकरणीय ऊर्जा पार्क और एक पूर्ण रूप से स्वचालित दूध प्रसंस्करण और पैकिंग संयंत्र शामिल हैं।

विलवणीकरण संयंत्र: कच्छ के मांडवी में प्रस्तावित विलवणीकरण संयंत्र से समुद्री जल को पीने के पानी में बदला जाएगा।

  • यह संयत्र 10 करोड़ लीटर प्रति दिन की क्षमता (100 एमएलडी) के साथ नर्मदा ग्रिड, सौनी नेटवर्क और अपशिष्ट जल शोधन बुनियादी ढांचे के पूरक के रूप में गुजरात में जल सुरक्षा की स्थिति को मजबूत बनाएगा।

हाइब्रिड अक्षय ऊर्जा पार्क: गुजरात के कच्छ जिले के विगहाकोट गांव के पास हाइब्रिड अक्षय ऊर्जा पार्क देश का सबसे बड़ा नवीकरणीय ऊर्जा उत्पादन पार्क होगा। यहां 30 गीगावॉट तक नवीकरणीय ऊर्जा का उत्पादन होगा।

  • 72,600 हेक्टेयर से भी ज्यादा विशाल क्षेत्र में फैले इस पार्क में पवन और सौर ऊर्जा संचय के लिए एक समर्पित हाइब्रिड पार्क क्षेत्र होगा।

पूर्ण रूप से स्वचालित एक दूध प्रसंस्करण संयंत्र: कच्छ के अंजार में सरहद डेयरी के पूर्ण रूप से स्वचालित एक दूध प्रसंस्करण और पैकिंग संयंत्र का शिलान्यास भी किया।

  • 121 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत के इस संयंत्र की प्रति दिन 2 लाख लीटर दूध को संसाधित करने की क्षमता होगी।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

भारत में चिकित्सा पर्यटन


केंद्रीय संस्कृति और पर्यटन राज्य मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल ने 14 दिसंबर, 2020 को राष्ट्रीय चिकित्सा और निरोगता पर्यटन संवर्धन बोर्ड (National Medical and Wellness Tourism Promotion Board) की 5वीं बैठक में हिस्सा लिया।

महत्वपूर्ण तथ्य: इस बोर्ड का गठन चिकित्सा पर्यटन के विकास में आने वाली बाधाओं को दूर करने और चिकित्सा पर्यटन, निरोगता पर्यटन, योग, आयुर्वेद पर्यटन और भारतीय प्रणाली के किसी भी अन्य प्रारूप आयुर्वेद, योग, यूनानी, सिद्ध और होम्योपैथी (आयुष) को बढ़ावा देने के उद्देश्य से एक समर्पित संस्थागत ढांचा प्रदान करने के लिए किया गया था।

  • वैश्विक चिकित्सा पर्यटन बाजार 2016 में 19.7 बिलियन डॉलर का था और जिसके 2021 तक 46.6 बिलियन डॉलर तक पहुंचने का अनुमान है। एशिया-प्रशांत क्षेत्र की वैश्विक बाजार में लगभग 40% की सबसे बड़ी हिस्सेदारी है।
  • भारत में सिर्फ तीन वर्षों में आवक चिकित्सा पर्यटकों की कुल संख्या दोगुनी हो गई है। भारतीय पर्यटन सांख्यिकी, 2018 की रिपोर्ट के अनुसार 2017 में पश्चिम एशिया से लगभग 22% आगमन चिकित्सा उद्देश्यों के लिए था, इसके बाद सर्वाधिक आगमन अफ्रीका से 15.7% था।
  • लोकप्रिय चिकित्सा पर्यटन स्थलों में भारत, ब्रुनेई, क्यूबा, कोलंबिया, हांगकांग, हंगरी, जॉर्डन, मलेशिया, सिंगापुर, दक्षिण अफ्रीका, थाईलैंड और संयुक्त राज्य अमेरिका आदि शामिल हैं। यह यात्रा और पर्यटन के साथ मुख्य रूप से जैव-चिकित्सा प्रक्रियाओं को शामिल करता है।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

विजन 2035 : भारत में जन स्‍वास्‍थ्‍य निगरानी


नीति आयोग ने 14 दिसंबर, 2020 को ‘विजन 2035 : भारत में जन स्वास्थ्य निगरानी’ नाम से एक श्वेत पत्र जारी किया।

विजन: भारत की जन स्वास्थ्य निगरानी प्रणाली को अधिक प्रतिक्रियाशील और भविष्योन्मुखी बनाकर हर स्तर पर कार्रवाई करने की तैयारी को बढ़ाना।

  • नागरिकों के अनुकूल जन स्वास्थ्य निगरानी प्रणाली ग्राहक फीडबैक तंत्र तैयार कर व्यक्ति की निजता और गोपनीयता को सुनिश्चित करेगी।
  • केन्द्र और राज्यों के बीच बीमारी की पहचान, बचाव और नियंत्रण को बेहतर बनाने के लिए एक संशोधित डेटा साझाकरण तंत्र तैयार करना।
  • अंतरराष्ट्रीय स्तर पर चिंता पैदा करने वाली जन स्वास्थ्य आपदा के प्रबंधन के लिए भारत द्वारा क्षेत्रीय और वैश्विक नेतृत्व प्रदान करने का लक्ष्य।

अन्य तथ्य: यह श्वेत पत्र त्रिस्तरीय जन स्वास्थ्य व्यवस्था को आयुष्मान भारत की परिकल्पना में शामिल करते हुए जन स्वास्थ्य निगरानी के लिए भारत के विजन 2035 को पेश करता है।

  • इस परिकल्पना का मुख्य अंग केंद्र और राज्यों के बीच प्रशासन की परस्पर निर्भर संघीय व्यवस्था है, जिसके तहत नए विश्लेषण, स्वास्थ्य संबंधी जानकारी और आंकड़ा विज्ञान का इस्तेमाल करके नया डेटा साझाकरण तंत्र तैयार करना है, जिसमें कार्रवाई के लिए 'सूचना का प्रसार करने के नये तरीके' शामिल हों।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

जहाज हिमगिरि


14 दिसंबर, 2020 को गार्डन रीच शिपबिल्डर्स एंड इंजीनियर्स लिमिटेड (जीआरएसई), कोलकाता में निर्मित ‘प्रोजेक्ट 17ए’ के तीन जहाजों में से एक ‘हिमगिरि’ को लॉन्च किया गया।

महत्वपूर्ण तथ्य: इस जहाज का नाम और चिह्न लियेंडर श्रेणी के पोत (Leander Class of ship) से लिया गया है, जो 50 वर्ष पहले 1970 में लॉन्च किया गया था।

  • प्रोजेक्ट 17 ए के अंतर्गत सात जहाज निर्मित किये जा रहे हैं। चार जहाज मजगांव डॉक शिपबिल्डर्स लिमिटेड (एमडीएल) तथा तीन जहाज गार्डन रीच शिपबिल्डर्स एंड इंजीनियर्स लिमिटेड में निर्मित किये जा रहे हैं।
  • इन जहाजों में रडार से बच निकलने की तरकीब, अग्रणी स्वदेशी हथियार और अन्य सुधारों के साथ-साथ सेंसर फिट किया गया है।
  • पी17ए जहाज जीआरएसई में निर्मित पहला गैस टरबाइन प्रणोदन और अब तक का सबसे बड़ा लड़ाकू प्लेटफार्म है।
  • P17ए जहाजों को स्वदेशी रूप से नौसेना डिजाइन निदेशालय (सरफेस शिप डिजाइन ग्रुप) द्वारा डिजाइन किया गया है, और इन्हें स्वदेशी यार्डों जैसे मजगांव डॉक शिपबिल्डर्स लिमिटेड और ‘गार्डन रीच शिपबिल्डर्स एंड इंजीनियर्स लिमिटेड में निर्मित किया जा रहा है।

सामयिक खबरें विज्ञान-पर्यावरण

हिमालयन सीरो


दिसंबर 2020 में हिमालय के शीत मरुस्थल क्षेत्र में पहली बार 'हिमालयन सीरो' (Himalayan serow) को देखा गया। इसे हिमाचल प्रदेश के स्पीति में हर्लिंग गांव के पास देखा गया।

महत्वपूर्ण तथ्य: हिमालयन सीरो या ‘केप्रिकार्निस सुमाट्रेन्सिस थार’ (Capricornis sumatraensis thar) मुख्य भूमि सीरो (केप्रिकार्निस सुमाट्रेन्सिस) की एक उप-प्रजाति है।

  • 'हिमालयन सीरो' एक बकरी, एक गधा, एक गाय और एक सुअर का संकर (Cross) प्रतीत होता है। यह एक बड़े सिर, मोटी गर्दन, छोटे अंग, लंबे, खच्चर जैसे कान, और काले बालों के आवरण के साथ एक मध्यम आकार का स्तनपायी है।
  • हिमालयन सीरो शाकाहारी हैं, और आमतौर पर 2,000 मीटर से 4,000 मीटर तक की ऊंचाई पर पाए जाते हैं। ये पूर्वी, मध्य और पश्चिमी हिमालय में पाए जाते हैं, लेकिन ट्रांस हिमालयन क्षेत्र में नहीं पाये जाते।
  • स्पीति घाटी की समुद्र तल से औसत ऊंचाई 4,270 मीटर है। इस ऊंचाई पर आमतौर पर सीरो नहीं पाए जाते हैं, और इससे पहले कभी भी हिमालय के शीत मरुस्थल में किसी सीरो को नहीं देखा गया था।
  • हिमालयी सीरो का पहले 'संकटासन्न’ (Near threatened) के रूप में मूल्यांकन किया गया था, लेकिन अब इसे IUCN रेड लिस्ट में 'अतिसंवेदनशील’ (vulnerable) के रूप में वर्गीकृत किया गया है।
  • यह वन्यजीव संरक्षण अधिनियम, 1972 की अनुसूची I के तहत सूचीबद्ध है, जो इसे पूर्ण सुरक्षा प्रदान करता है।

सामयिक खबरें विज्ञान-पर्यावरण

मायरिस्टिका स्वाम्प ट्रीफ्रॉग


दिसंबर 2020 में पश्चिमी घाट में पेड़ों पर पाये जानी वाली दुर्लभ प्रजाति 'मायरिस्टिका स्वाम्प ट्रीफ्रॉग' (Myristica swamp Treefrog) को केरल के त्रिशूर जिले में वाजचल रिजर्व फॉरेस्ट में पहली बार दर्ज किया गया।

महत्वपूर्ण तथ्य: इसका वैज्ञानिक नाम 'मरक्यूराना मायरिस्टिकापेल्युस्ट्रिस' (Mercurana myristicapalustris) है।

  • मेंढक को पहली बार 2013 में कोल्लम जिले के अगस्त्यमलाई के पश्चिमी तलहटी में कुलथुपुझा रिजर्व फॉरेस्ट के पास अरिप्पा के मायरिस्टिका दलदल (Myristica swamps) में देखा गया था।
  • अगस्त्यमलाई की तलहटी में पाए जाने वाले मायरिस्टिका स्वाम्प ट्रीफ्रॉग के विपरीत, ये मेंढक जून और जुलाई की शुरुआत में सक्रिय पाए गए थे।
  • ये मेंढक दुर्लभ और मायावी हैं क्योंकि ये प्रजनन के मौसम में केवल कुछ हफ्तों के लिए पेड़ों पर दिखाई देते हैं और सक्रिय होते हैं।
  • ये अद्वितीय प्रजनन व्यवहार का प्रदर्शन करते हैं। अन्य मेंढकों के विपरीत इनका प्रजननकाल, मानसून (मई) में शुरू होता है और जून में मानसून पूरी तरह से सक्रिय होने से पहले समाप्त होता है।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप निधन

प्रख्यात एयरोस्पेस वैज्ञानिक प्रो. रोड्डम नरसिम्हा का निधन


प्रख्यात एयरोस्पेस वैज्ञानिक प्रो. रोड्डम नरसिम्हा का 14 दिसंबर, 2020 को बेंगलुरु में निधन हो गया। वे 87 वर्ष के थे।

  • प्रो. नरसिम्हा ने राष्ट्रीय एयरोस्पेस प्रयोगशालाओं के निदेशक और बेंगलुरु में जवाहरलाल नेहरू सेंटर फॉर एडवांस्ड साइंटिफिक रिसर्च की इंजीनियरिंग यांत्रिकी इकाई के अध्यक्ष के रूप में काम किया था।
  • उन्होंने अंतरिक्ष आयोग, प्रधानमंत्री विज्ञान सलाहकार परिषद और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार बोर्ड सहित केंद्र सरकार के कई नीति निर्धारण निकायों में भी काम किया था।
  • उन्हें हल्के लड़ाकू विमानों (Light Combat Aircraft- LCA) जैसे देश के एयरोस्पेस कार्यक्रमों में योगदान के लिए 2013 में पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया था।
  • प्रो. नरसिम्हा ने पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम के साथ मिलकर एक पुस्तक 'डेवलपमेंट्स इन फ्लूइड मैकेनिक्स एंड स्पेस टेक्नोलॉजी' (Developments In Fluid Mechanics and Space Technology) का लेखन भी किया था।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप पुरस्कार/सम्मान

बंगबंधु के नाम पर ’रचनात्मक अर्थव्यवस्था’ के क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार


यूनेस्को ने दिसंबर 2020 में बंगबंधु शेख मुजीबुर रहमान के नाम पर ‘रचनात्मक अर्थव्यवस्था’ के क्षेत्र में एक अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार शुरू करने का निर्णय लिया है।

  • नवंबर 2021 से, युवाओं की वैश्विक आर्थिक पहल के लिए दो साल में एक बार 50 हजार डॉलर का पुरस्कार दिया जाएगा।
  • यह पुरस्कार रचनात्मक अर्थव्यवस्था के विकास में सांस्कृतिक कार्यकर्ताओं और संगठनों द्वारा की गई असाधारण पहल को मान्यता देगा।
  • वर्तमान में, अंतरराष्ट्रीय हस्तियों और संगठनों के नाम पर 23 यूनेस्को अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार हैं
  • यूनेस्को ने 2021 को 'सतत विकास के लिए रचनात्मक अर्थव्यवस्था का अंतरराष्ट्रीय वर्ष' घोषित किया है।
  • मुजीबुर रहमान बांग्लादेश के राजनेता थे और उन्हें बांग्लादेश में 'राष्ट्रपिता' भी कहा जाता है। वे बांग्लादेश के पहले राष्ट्रपति थे और बाद में वे देश के प्रधानमंत्री के पद पर भी रहे।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

अंतरराष्ट्रीय तटस्थता दिवस


12 दिसंबर

महत्वपूर्ण तथ्य: अंतरराष्ट्रीय संबंधों में तटस्थता के महत्व के बारे में सार्वजनिक जागरूकता बढ़ाने और निवारक कूटनीति के उपयोग को बढ़ावा देने के उद्देश्य से यह दिवस मनाया जाता है। इसकी आधिकारिक घोषणा फरवरी 2017 में संयुक्त राष्ट्र महासभा के प्रस्ताव द्वारा की गई थी

सामयिक खबरें राज्य मध्य प्रदेश

ग्वालियर और ओरछा यूनेस्को विश्व विरासत शहर सूची में


दिसंबर 2020 में मध्य प्रदेश के ग्वालियर और ओरछा को यूनेस्को द्वारा विश्व विरासत शहर की सूची में शामिल किया गया है।

  • इस सूची में शामिल होने के बाद, यूनेस्को राज्य के पर्यटन विभाग के साथ मिलकर ग्वालियर और ओरछा के पुरातात्विक और ऐतिहासिक स्मारकों को संरक्षित और परिष्कृत करने का काम करेगा।

ग्वालियर: 9वीं शताब्दी में स्थापित ग्वालियर गुर्जर प्रतिहार राजवंश, तोमर, बघेल कच्छवाहो और सिंधिया द्वारा शासित रहा। उनके द्वारा बनाए गए स्मारक, किले और महल यहाँ बहुतायत में पाए जाते हैं।

  • ग्वालियर अपने महलों और मंदिरों के लिए जाना जाता है, जिसमें जटिल नक्काशीदार 'सास बहू का मंदिर' भी शामिल है।

ओरछा: मध्य प्रदेश के बुंदेलखंड क्षेत्र में स्थित ओरछा अपने मंदिरों और महलों के लिए दुनिया भर में प्रसिद्ध है। ओरछा पूर्ववर्ती बुंदेल राजवंश की 16वीं शताब्दी की राजधानी थी।

  • कई मंदिर और महल यहां स्थित हैं। जैसे ओरछा राज महल, जहाँगीर महल, रामराजा मंदिर, राय प्रवीण महल आदि।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

पूंजीगत व्यय के लिए राज्यों को विशेष सहायता योजना


तमिलनाडु के अतिरिक्त सभी राज्यों ने वित्त मंत्रालय द्वारा 12 अक्टूबर, 2020 को आत्म निर्भर भारत पैकेज के एक हिस्से के रूप में घोषित ‘पूंजीगत व्यय के लिए राज्यों को विशेष सहायता’ योजना का लाभ उठाया है।

उद्देश्य: उन राज्य सरकारों के पूंजीगत व्यय को बढ़ावा देना, जो कोविड-19 महामारी की वजह से कर राजस्व में हुई कमी के कारण इस वर्ष कठिन वित्तीय परिस्थितियों का सामना कर रहे हैं।

महत्वपूर्ण तथ्य: पूंजीगत व्यय का उच्चतर गुणक प्रभाव (higher multiplier effect) होता है, जो अर्थव्यवस्था की भविष्य की उत्पादक क्षमता को बढ़ाता है और परिणामस्वरूप अर्थव्यवस्था वृद्धि की उच्चतर दर प्राप्त होती है

  • वित्त मंत्रालय द्वारा अभी तक 27 राज्यों के 9,879.61 करोड़ रुपये के पूंजीगत व्यय प्रस्तावों को अनुमोदित कर दिया गया है।
  • पूंजीगत व्यय परियोजनाओं को स्वास्थ्य, ग्रामीण विकास, जलापूर्ति, सिंचाई, बिजली, परिवहन, शिक्षा, शहरी विकास जैसे अर्थव्यवस्था के विविध क्षेत्रों में अनुमोदित किया गया है।

योजना: इस योजना के तीन हिस्से हैं। योजना के भाग-1 में पूर्वोत्तर के सात राज्यों (अरूणाचल प्रदेश, मेघालय, मणिपुर, मिजोरम, नागालैंड, सिक्किम और त्रिपुरा) को 200 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं। असम को इस योजना के तहत 450 करोड़ रुपये आवंटित किए गए।

  • योजना के भाग-2 में अन्य सभी राज्यों के लिए 7500 करोड़ रुपये की राशि निर्धारित की गई है।
  • योजना के भाग-3 में राज्यों में विभिन्न लोक केन्द्रित सुधारों को बढ़ावा देने हेतु 2000 करोड़ रुपये की राशि निर्धारित की गई है।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

अंतरराष्ट्रीय वित्तीय सेवा केन्द्र प्राधिकरण (बुलियन एक्सचेंज) विनियम, 2020


अंतरराष्ट्रीय वित्तीय सेवा केन्द्र प्राधिकरण (आईएफएससीए) ने 11 दिसंबर, 2020 को अंतरराष्ट्रीय वित्तीय सेवा केन्द्र प्राधिकरण (बुलियन एक्सचेंज) विनियम, 2020 को अधिसूचित किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: आईएफएससीए को इस एक्सचेंज के परिचालन का दायित्व सौंपा गया है। प्राधिकरण ने 27 अक्टूबर, 2020 को हुई बैठक में अंतरराष्ट्रीय वित्तीय सेवा केन्द्र प्राधिकरण (बुलियन एक्सचेंज) को स्वीकृति दी थी।

  • इन विनियमों के दायरे में बुलियन कारोबार, क्लीयरिंग कॉर्पोरेशन (Clearing Corporation), डिपॉजिटरी (Depository) और वॉल्ट्स (Vaults) आते हैं। विनियमों को 16 अध्यायों में विभाजित किया गया है।
  • केंद्रीय बजट 2020 में, वित्त और कॉर्पोरेट कार्य मंत्री निर्मला सीतारमण ने गिफ्ट सिटी, गांधीनगर (गुजरात) में अंतरराष्ट्रीय वित्तीय सेवा केन्द्र (आईएफएससी) में एक अंतरराष्ट्रीय बुलियन एक्सचेंज की स्थापना की घोषणा की थी।
  • इसके बाद, भारत सरकार ने बुलियन स्पॉट डिलीवरी अनुबंध और बुलियन डिपॉजिटरी रिसिप्ट (मूल रूप से बुलियन) को अंतरराष्ट्रीय वित्तीय सेवा केन्द्र प्राधिकरण अधिनियम, 2019 के अंतर्गत वित्तीय सेवाओं से संबंधित वित्तीय उत्पादों और संबंधित सेवाओं के रूप में अधिसूचित किया था।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

हस्तशिल्प एवं जीआई खिलौनों को गुणवत्ता नियंत्रण आदेश से छूट


दिसंबर 2020 में केंद्र सरकार द्वारा हस्तशिल्प एवं जीआई खिलौनों को गुणवत्ता नियंत्रण आदेश से छूट प्रदान की गई है।

उद्देश्य: भारत को खिलौनों की बिक्री एवं निर्यात के लिए एक वैश्विक विनिर्माण हब बनाने के प्रधानमंत्री के विजन की दिशा में आगे बढ़ना।

  • वाणिज्य मंत्रालय के उद्योग एवं आंतरिक व्यापार संवर्धन विभाग (डीपीआईआईटी) ने देश भर में स्वदेशी खिलौनों का उत्पादन एवं बिक्री बढ़ाने की दिशा में उठाए जा रहे कदमों के साथ एक व्यापक कार्ययोजना तैयार की है।
  • विभाग द्वारा खिलौनों के मानकीकरण एवं गुणवत्ता अनुपालन के लिए गुणवत्ता नियंत्रण आदेश जारी किया गया है, जो 1 जनवरी, 2021 से प्रभावी होगा।
  • देश में मध्यम, लघु तथा सूक्ष्म खिलौना उत्पादन इकाईयों को प्रोत्साहन उपलब्ध कराने के लिए डीपीआईआईटी ने खिलौना (गुणवत्ता नियंत्रण) द्वितीय संशोधन आदेश, 2020 जारी किया है।
  • यह विकास आयुक्त (हस्तशिल्प) के साथ पंजीकृत कारीगरों द्वारा उत्पादित एवं बिक्री की जाने वाली वस्तुओं को भारतीय मानक ब्यूरो से लाइसेंस के तहत मानक चिन्ह के उपयोग से छूट प्रदान करता है।
  • संशोधन आदेश, 2020 ‘भौगोलिक संकेतकों’ के रूप में पंजीकृत उत्पादों को भी भारतीय खिलौना मानकों का अनुपालन करने तथा ब्यूरो से मानक चिन्ह लाइसेंस के अनिवार्य उपयोग से छूट प्रदान करता है।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

एसडीजी डैशबोर्ड और एनसीडी मेडिकल ऑफिसर ऐप


स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा 12 दिसंबर, 2020 को ‘अंतरराष्ट्रीय सार्वभौमिक स्वास्थ्य सेवा कवरेज दिवस’ के अवसर पर विभिन्न स्वास्थ्य कार्यक्रमों को लागू करने और उन पर निगरानी रखने के लिए कुछ संसाधनपूर्ण एप्लिकेशन और दिशा-निर्देश लॉन्च किए गए।

  • ‘एसडीजी-3 हेल्थ डैशबोर्ड’ नीति निर्माताओं और कार्यक्रम कार्यान्वयनकर्ताओं को, 2030 तक सतत विकास लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए महत्वपूर्ण प्राथमिकताओं वाले क्षेत्रों की पहचान करने और कार्रवाई की आवश्यकता वाले भावी कार्य योजना की पहचान करने में सक्षम करेगा।
  • कान-नाक-गला (ईएनटी), नेत्र, मानसिक तंत्रिका संबंधी विकार के साथ-साथ जन आरोग्य समिति (जेएएस) दिशा-निर्देशों के लिए व्यापक प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल सेवाओं के लिए दिशा-निर्देशों का एक विस्तृत सेट तैयार किया गया है।
  • ‘एनसीडी मेडिकल ऑफिसर ऐप’ यह सुनिश्चित करेगा कि गैर-संचारी रोगों से पीड़ित रोगियों की निगरानी अधिक प्रभावी तरीके से की जा सके।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

पांचवां राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण


केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने 12 दिसंबर, 2020 को पांचवां राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण (एनएफएचएस) जारी किया, जिसमें भारत और इसके राज्यों व केंद्र-शासित प्रदेशों के लिए जनसंख्या, स्वास्थ्य और पोषण के बारे में विस्तृत जानकारी शामिल है।

महत्वपूर्ण तथ्य: महाराष्ट्र, तेलंगाना, पश्चिम बंगाल और गुजरात सहित 17 राज्यों और 5 केंद्र-शासित प्रदेशों के परिणाम को चरण- I के रूप में जारी किया गया है।

  • शेष 12 राज्यों और 2 केंद्र-शासित प्रदेशों को कवर करने के लिए चरण II को कोविड-19 के कारण निलंबित कर दिया गया था, जिसे नवंबर में फिर से शुरू किया गया है और मई, 2021 तक पूरा होने की संभावना है।
  • एनएफएचएस-4 (2015-16) में दर्ज किए गए मातृ और बाल स्वास्थ्य संकेतकों में पर्याप्त सुधार वर्तमान सर्वेक्षण में दर्ज किया गया था।
  • प्रजनन दर में और गिरावट आई है, गर्भनिरोधक उपयोग में वृद्धि हुई है।
  • सभी राज्यों/ केंद्र-शासित प्रदेशों में 12-23 महीने की उम्र के बच्चों के टीकाकरण कवरेज में काफी सुधार पाया गया। महिला सशक्तिकरण संकेतक (बैंक खाते वाली महिलाएं) भी काफी प्रगति दर्शाते हैं।

कुपोषण: 18 में से 11 राज्यों में आयु के अनुपात में कम लंबाई (Child Stunting) वाले बच्चों का अनुपात बढ़ रहा है।

  • 14 राज्यों में लंबाई के अनुपात में कम वजन (Child Wasting) वाले बच्चों की संख्या बढ़ रही है और 17 राज्यों में एनीमिया से पीड़ित पाये गए।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप निधन

संस्कृत के विद्वान विद्यावाचस्पति गोविंदाचार्य का निधन


संस्कृत और कन्नड़ विद्वान विद्यावाचस्पति बन्नंजय गोविंदाचार्य का 13 दिसंबर, 2020 को अंबालपैडी, उडुपी में निधन हो गया। वे 84 वर्ष के थे।

  • उन्होंने संस्कृत विषय पर 100 से अधिक पुस्तकों और 4,000 पृष्ठों के लेखन के अलावा, 'माधव दर्शन' पर व्यापक शोध किया था। उन्होंने वेद, उपनिषद, महाभारत, रामायण, भागवत और पुराणों पर टीकाएँ लिखी थीं।
  • उन्हें 2009 में पद्म श्री से सम्मानित किया गया था।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप पुरस्कार/सम्मान

डॉ. समीर दामारे को वरिष्ठ वैज्ञानिक पुरस्कार


सीएसआईआर- राष्ट्रीय समुद्र विज्ञान संस्थान, गोवा में प्रमुख वैज्ञानिक और प्रमुख विश्लेषणात्मक सेवा प्रभाग के प्रमुख डॉ. समीर दामारे को माइक्रोबायोलॉजिस्ट सोसायटी, इंडिया द्वारा वर्ष 2020 के लिए वरिष्ठ वैज्ञानिक पुरस्कार के लिए चुना गया है।

  • यह पुरस्कार विभिन्न क्षेत्रों में काम कर रहे माइक्रोबायोलॉजिस्ट को प्रतिवर्ष प्रदान किया जाता है।
  • डॉ. दामारे को यह पुरस्कार माइक्रोबायोलॉजी, एक्सट्रीमोफाइल्स (Extremophiles), जैव-प्रौद्योगिकी और आणविक जीवविज्ञान के क्षेत्र में उनके शोध के लिए दिया गया है।
  • माइक्रोबायोलॉजिस्ट सोसाइटी, इंडिया की स्थापना मार्च 1996 में हुई थी। इसकी भारत भर में 30 उप-इकाइयाँ और भारत के बाहर 6 इकाइयाँ हैं, और पूरे भारत के विभिन्न कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में 70 से अधिक छात्र इकाइयाँ हैं। सोसायटी में 528 से अधिक आजीवन सदस्य हैं।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप अभियान/सम्मेलन/आयोजन

जलवायु परिवर्तन महत्वाकांक्षी शिखर सम्मेलन 2020


पेरिस में हुये जलवायु समझौते की पांचवीं वर्षगांठ पर संयुक्त राष्ट्र, यूनाइटेड किंगडम और फ्रांस ने 12 दिसंबर, 2020 को वर्चुअली आयोजित ‘जलवायु परिवर्तन महत्वाकांक्षी शिखर सम्मेलन 2020’ की सह-मेजबानी की।

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सम्मेलन को संबोधित करते हुआ कहा कि भारत ने 2005 के स्तर पर अपनी उत्सर्जन तीव्रता को 21% तक कम कर दिया है।
  • भारत की सौर क्षमता 2014 में 2.63 गीगावाट से बढ़कर 2020 में 36 गीगावाट हो गई है। भारत दुनिया में चौथी सबसे बड़ी नवीकरणीय ऊर्जा क्षमता वाला देश है।
  • वैश्विक मंच पर भारत दो प्रमुख पहलों अंतरराष्ट्रीय सौर गठबंधन और आपदा प्रतिरोधी अवसंरचना गठबंधन में अग्रणी रहा है।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप आपदा/दुर्घटनाएं

चक्रवाती तूफान ‘बुरेवी’


भारतीय मौसम विभाग ने 30 नवंबर से 5 दिसम्बर, 2020 के दौरान बंगाल की खाड़ी के ऊपर बने चक्रवाती तूफान ‘बुरेवी’ पर रिपोर्ट जारी की।

  • चक्रवाती तूफान 'बुरेवी' की शुरुआत दक्षिण अंडमान सागर, बंगाल की दक्षिण-पूर्वी खाड़ी के निकटवर्ती क्षेत्रों और हिंद महासागर के भूमध्यवर्ती क्षेत्रों में 28 नवंबर को कम दबाव के क्षेत्र के रूप में हुई।
  • इसके कारण तमिलनाडु के कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा (20 सेमी) जबकि अलग-थलग स्थानों पर भारी वर्षा दर्ज की गई। इसके अलावा इसने केरल और श्रीलंका को भी प्रभावित किया।
  • इसे 'बुरेवी' नाम मालदीव द्वारा दिया गया है, जिसका अर्थ है काले मैंग्रोव।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

अंतरराष्ट्रीय सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज दिवस


12 दिसंबर

2020 का विषय: 'सबके लिए स्वास्थ्य: सभी की सुरक्षा' (Health for All: Protect Everyone)।

महत्वपूर्ण तथ्य: 12 दिसंबर 2012 को, संयुक्त राष्ट्र महासभा ने देशों को सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज की दिशा में प्रगति में तेजी लाने के आग्रह संबंधी प्रस्ताव का समर्थन किया।

  • 12 दिसंबर 2017 को, संयुक्त राष्ट्र ने 12 दिसंबर को अंतरराष्ट्रीय सार्वभौमिक स्वास्थ्य कवरेज दिवस के रूप में घोषित किया।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

एबीटीओ अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन


केंद्रीय पर्यटन एवं संस्कृति राज्यमंत्री प्रहलाद सिंह पटेल ने 10 दिसंबर, 2020 को नई दिल्ली में वर्चुअल माध्यम से ‘एबीटीओ (एसोसिएशन ऑफ बुद्धिस्ट टूर ऑपरेटर्स) अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन’ का उद्घाटन किया।

  • बिहार के बोधगया में 10 से 12 दिसंबर, 2020 तक तीन दिवसीय एबीटीओ सम्मेलन का आयोजन पर्यटन मंत्रालय की साझेदारी में किया जा रहा है।
  • बौद्ध स्थलों के विकास के लिए मंत्रालय ने ‘स्वदेश दर्शन योजना’ के तहत 350 करोड़ रुपये और ‘प्रसाद योजना’ के तहत 900 करोड़ रुपये से ज्यादा की राशि मंजूरी की है।
  • किसी एक देश से आने वाले पर्यटकों की संख्या एक लाख से ज्यादा होने पर उनकी सुविधा और सहूलियत के लिए उनकी भाषा में इन स्थलों पर संकेतक लगाए जाएंगे।
  • मध्य प्रदेश के सांची स्मारक में सिंहली भाषा में और श्रावस्ती व सारनाथ में चीनी भाषा में संकेतकों को लगाया गया है।
  • पर्यटन मंत्रालय देश में ठहरने की जगहों को मंत्रालय के पोर्टल ‘नेशनल इंटीग्रेटेड डेटाबेस ऑफ हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री (National Integrated Database of Hospitality Industry- NIDHI) में पंजीकृत करने का प्रयास कर रहा है।

पीआईबी न्यूज विज्ञान और तकनीक

फाइटोरिड तकनीकी वाहित मल उपचार संयंत्र


केन्द्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने 2 दिसंबर, 2020 को पुणे के ‘सीएसआईआर- नेशनल केमिकल लेबोरेटरी (एनसीएल) में स्थित पर्यावरण अनुकूल एवं कुशल ‘फाइटोरिड तकनीकी वाहित मल उपचार संयंत्र’ (Phytorid Technology Sewage Treatment Plant) का उद्घाटन किया

महत्वपूर्ण तथ्य: इस संयंत्र को सीएसआईआर- राष्ट्रीय पर्यावरण इंजीनियरिंग अनुसंधान संस्थान (NEERI), नागपुर और सीएसआईआर-एनसीएल द्वारा विकसित किया गया है।

  • फाइटोरिड एक ‘उपसतह मिश्रित प्रवाह निर्मित आर्द्रभूमि प्रणाली’ (subsurface mixed flow constructed wetland system) है, जिसे सीएसआईआर-एनईईआरआई, नागपुर द्वारा विकसित और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पेटेंट कराया गया है।
  • फाइटोरिड अपशिष्ट जल उपचार के लिए एक भरोसेमंद तकनीक है, जो ‘प्राकृतिक आर्द्रभूमि के सिद्धांत’ (principle of natural wetland) पर काम करती है।
  • यह तकनीक कुछ विशिष्ट पौधों का उपयोग करती है, जो पोषक तत्वों को सीधे अपशिष्ट जल से अवशोषित कर सकते हैं, लेकिन जिन्हें मिट्टी की आवश्यकता नहीं होती है।
  • वाहित मल के उपचार के लिए फाइटोरिड तकनीक के उपयोग से बागवानी प्रयोजनों के लिए परिष्कृत किए गए जल को फिर से प्राप्त करना और उसका दोबारा उपयोग करना संभव है।

पीआईबी न्यूज विज्ञान और तकनीक

सैटेलाइट आधारित नैरोबैंड-आईओटी


10 दिसंबर, 2020 को बीएसएनएल ने स्काइलोटेक इंडिया के साथ साझेदारी में भारत में दुनिया का पहला ‘सैटेलाइट आधारित नैरोबैंड-आईओटी’ [Satellite-based Narrow Band- IoT (Internet of Things)] नेटवर्क लॉन्च करने की घोषणा की।

महत्वपूर्ण तथ्य: इस ‘मेड इन इंडिया’ सॉल्यूशन को भारत में ही स्काइलो द्वारा विकसित किया गया है, जोकि बीएसएनएल के सैटेलाइट, जमीन पर मौजूद इंफ्रास्ट्रक्चर (टॉवर आदि) के जरिए लोगों को कनेक्ट करेगा।

  • पूरे भारत के साथ-साथ यह सुविधा भारतीय समुद्री क्षेत्र में भी उपलब्ध होगी ।
  • यह नई तकनीक भारत के प्रमुख क्षेत्रों में स्वदेशी आईओटी कनेक्टिविटी करने के दूरसंचार विभाग और नीति आयोग की योजना का सहयोग करती है।
  • इस तकनीक का पहले से ही सफलतापूर्वक परीक्षण किया गया है। भारतीय रेलवे, मछली पकड़ने वाले जहाज और दूसरे जरूरी वाहनो में इसका इस्तेमाल परीक्षण के दौरान किया गया है।
  • इस तकनीकी के तहत एक छोटा सा स्मार्ट बॉक्स है, जिसमें स्काइलो का यूजर टर्मिनल (Skylo User Terminal) है, जिसमें सेंसर लगा हुआ है, जो स्काईलो नेटवर्क और लोगों तक डेटा पहुंचायेगा।

पीआईबी न्यूज विज्ञान और तकनीक

संयुक्त उद्यम सुरक्षात्‍मक कार्बाइन


रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) द्वारा डिजाइन की गई 5.56x30 मिलीमीटर ‘संयुक्त उद्यम सुरक्षात्मक कार्बाइन’ (Joint Venture Protective Carbine -JVPC) का 7 दिसम्बर, 2020 को उपयोगकर्ता परीक्षणों के अंतिम चरण से गुजरते हुए सफल परीक्षण किया गया। इससे सेवाओं में इसे शामिल करने का मार्ग प्रशस्त हुआ है।

  • JVPC एक गैस चालित हथियार है, जो एक मिनट में 700 चक्र गोलियों से भी अधिक दर से फायर कर सकता है।
  • इस कार्बाइन की प्रभावी रेंज 100 मीटर से भी अधिक है। इसका वजन लगभग 3 किग्रा. है और इसमें उच्च विश्वसनीयता, कम प्रतिक्षेप (low recoil), खींचने योग्य बट (retractable Butt), सिंगल हैंड फायरिंग क्षमता जैसी प्रमुख विशेषताएं मौजूद है।
  • ये विशेषताएं इसे बहुत शक्तिशाली हथियार बनाती हैं, जो इसे सुरक्षा एजेंसियों द्वारा उग्रवाद/आतंकवाद के नियंत्रण संबंधी परिचालनों के लिए उपयुक्त बनाता है।
  • इस कार्बाइन को आर्मामेंट रिसर्च एंड डेवलपमेंट एस्टेब्लिशमेंट पुणे आधारित डीआरडीओ की प्रयोगशाला द्वारा डिजाइन किया गया है।
  • यह हथियार स्माल आर्म्स फैक्ट्री, कानपुर में विनिर्मित है और इसके गोला बारूद का निर्माण किर्की पुणे में किया जाता है।

सामयिक खबरें विज्ञान-पर्यावरण

इस्किमम जनार्थनामी


दिसंबर 2020 में भारत के चार वैश्विक जैव विविधता हॉटस्पॉट में से एक गोवा में पश्चिमी घाट पर वैज्ञानिकों ने ‘भारतीय मुरैनग्रास’ (Indian Muraingrass) की एक नई प्रजाति की पहचान की है।

महत्वपूर्ण तथ्य: ‘भारतीय मुरैनग्रास’ (वंश- इस्किमम) पारिस्थितिक और आर्थिक रूप से महत्वपूर्ण मानी जाती है। जैसे चारा आदि में।

  • विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग के एक स्वायत्त संस्थान, पुणे स्थित अगरकर अनुसंधान संस्थान (एआरआई) के वैज्ञानिकों ने गोवा के पश्चिमी घाट के पठारों में इस प्रजाति की पहचान की है।
  • गोवा विश्वविद्यालय के प्रोफेसर प्रो. एम. के. जनार्थनम के सम्मान में नई प्रजाति का नाम ‘इस्किमम जनार्थनामी’ (Ischaemumjanarthanamii) रखा गया है, जिन्हें भारतीय घास वर्गीकरण में उनके योगदान के लिए जाना जाता है।
  • इस्किमम जनार्थनामी गोवा के ‘भगवान महावीर नेशनल पार्क’ के बाहरी इलाके में कम ऊंचाई वाले पठारों पर उगती है। वनस्पति ने चरम जलवायु परिस्थितियों में खुद को बचाए रखने और हर मानसून में खिलने के लिए अनुकूलित कर लिया है।
  • वैश्विक स्तर पर 85 प्रजातियां इस्किमम (Ischaemum) से जानी जाती हैं, जिनमें से 61 प्रजातियां विशेष रूप से भारत में पाई जाती हैं। पश्चिमी घाट में इस वंश की उच्चतम सांद्रता वाली 40 प्रजातियां हैं।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप अभियान/सम्मेलन/आयोजन

'फिटनेस का डोज आधा घंटा रोज' अभियान


10 दिसंबर, 2020 को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने 'फिटनेस का डोज आधा घंटा रोज' (Fitness Ka Dose Aadha Ghanta Roz) अभियान के लिए भारत की सराहना की है।

  • यह अभियान केंद्रीय युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्री किरेन रिजिजू द्वारा 1 दिसंबर को राष्ट्रव्यापी फिट इंडिया मूवमेंट के एक भाग के रूप में शुरू किया गया है।
  • अभियान को विभिन्न क्षेत्रों की प्रमुख हस्तियों का समर्थन मिला है तथा बॉलीवुड कलाकारों, खिलाड़ियों, लेखकों, डॉक्टरों तथा फिटनेस जगत की हस्तियों ने उत्साहपूर्वक भारतीयों से हर दिन 30 मिनट के फिटनेस के मूल मंत्र का पालन करने का आग्रह किया है।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप अभियान/सम्मेलन/आयोजन

26वां प्रौद्योगिकी शिखर सम्मेलन 2020


भारत और पुर्तगाल के बीच 7 से 9 दिसंबर 2020 तक ‘26वां प्रौद्योगिकी शिखर सम्मेलन 2020’ डिजिटल प्लेटफॉर्म पर आयोजित किया गया।

  • इस वर्ष शिखर सम्मेलन में मुख्य तौर पर वाटरटेक, एग्रीटेक, हेल्थटेक, ऊर्जा, जलवायु परिवर्तन, क्लीनटेक, आईटी, आईसीटी औरउन्नत प्रौद्योगिकी जैसे क्षेत्रों पर ध्यान केंद्रित किया गया।
  • इस वर्ष सम्मेलन में भागीदार देश के रूप में पुर्तगाल था।
  • विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) पिछले 26 वर्षों से सीआईआई की भागीदारी में इस प्रौद्योगिकी शिखर सम्मेलन का सह-आयोजन करता रहा है।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

अंतरराष्ट्रीय पर्वत दिवस


11 दिसंबर

2020 का विषय: 'पर्वत जैव विविधता' (Mountain biodiversity)

महत्वपूर्ण तथ्य: दुनिया में पर्वतों का बहुत महत्व है। इसलिए पर्वतीय क्षेत्रों का ध्यान में रखते हुए संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 2002 को ‘संयुक्त राष्ट्र अंतरराष्ट्रीय पर्वत वर्ष’ घोषित किया था और 2003 में पहली बार अंतरराष्ट्रीय पर्वत दिवस मनाया था।

  • पर्वत मानव जाति के आधे हिस्से को रोजमर्रा की जिंदगी के लिए ताजा जल प्रदान करते हैं। इनका संरक्षण सतत विकास के लिए महत्वपूर्ण है और 'एसडीजी के लक्ष्य-15' का हिस्सा है।

सामयिक खबरें राज्य महाराष्ट्र

महाराष्ट्र में 10 नए 'संरक्षण आरक्षिति'


4 दिसंबर, 2020 को महाराष्ट्र राज्य वन्यजीव बोर्ड ने राज्य के पश्चिमी भाग में आठ और विदर्भ में दो क्षेत्रों को 'संरक्षण आरक्षिति' (conservation reserves) और चंद्रपुर जिले में कन्हारगाँव को अभयारण्य (राज्य का 50वां वन्यजीव अभयारण्य) घोषित करने के प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया।

  • नए संरक्षण आरक्षिति अंबोली - डोडामार्ग, चंदगढ़, आजरा- भूदरगढ़, गगनबावड़ा, पन्हालगढ़, विशालगढ़, जोर जाम्भली, मैनी पश्चिमी महाराष्ट्र में और महेन्द्री और मुनिया विदर्भ में हैं।
  • स्थानीय आबादी से बात करने के बाद संरक्षण आरक्षिति को अभयारण्यों में अपग्रेड करने के लिए एक उप-समूह की स्थापना की जाएगी।

सामयिक खबरें बिजनेस और सार्वजनिक उपक्रम

क्रायोजेनिक प्रणोदक टैंक 'सी 32 एलएच 2'


सार्वजनिक क्षेत्र की एयरोस्पेस निर्माण कंपनी, हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) ने 30 नवंबर, 2020 को बेंगलुरु में भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन के लिए सबसे बड़ा क्रायोजेनिक प्रणोदक टैंक 'सी 32 एलएच 2' (cryogenic propellant tank C 32 LH 2) सौंप दिया।

  • एल्यूमीनियम मिश्र धातु का सबसे बड़ा क्रायोजेनिक प्रणोदक टैंक इसरो के GSLV MK-III भारी लिफ्ट उपग्रह प्रक्षेपण यान की पेलोड क्षमता में सुधार के लिए बनाया गया है।
  • एचएएल द्वारा डिजाइन किया गया टैंक 89 घन मीटर आयतन में 5755 किग्रा. प्रणोदक ईंधन लोड कर सकता है।
  • HAL मानव अंतरिक्ष मिशन 'गगनयान' के लिए 'क्रू वायुमंडलीय पुन: प्रवेश प्रयोग (Crew atmospheric re-entry experiment) तथा ‘क्रू एस्केप मॉड्यूल’ (crew escape module) का भी विकास कर रहा है।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

एम्स में 'समेकित चिकित्सा विभाग'


9 दिसंबर, 2020 को आयुष मंत्रालय और एम्स ने एम्स में 'समेकित चिकित्सा विभाग' (Department of Integrative Medicine) की स्थापना के लिए मिलकर काम करने का फैसला किया है।

  • यह निर्णय आयुष सचिव वैद्य राजेश कोटेचा तथा एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया द्वारा सेंटर फॉर इन्टेग्रेटिव मेडिसिन एंड रिसर्च (सीआईएमआर) के संयुक्त दौरा और समीक्षा बैठक में लिया गया।
  • सीआईएमआर आयुष मंत्रालय की ‘उत्कृष्टता केन्द्र योजना’ (Centre of Excellence Scheme) से समर्थन प्राप्त करता है।
  • एम्स स्थित सीआईएमआर में रोगियों की बढ़ती दिलचस्पी तथा केन्द्र के शोध कार्य को देखते हुए अल्प अवधि में इसे ‘स्टैंडअलोन समेकित चिकित्सा विभाग’ (standalone Department for Integrative Medicine) के रूप में विकसित करने का निर्णय लिया गया।
  • इसे एम्स में एक स्थायी विभाग बनाने के लिए समर्पित संकाय और कर्मचारियों के साथ विकसित किया जा सकता है।

पीआईबी न्यूज विज्ञान और तकनीक

केएलआई परियोजना


9 दिसंबर, 2020 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने ‘मुख्य भू-भाग (कोच्चि) और लक्षद्वीप द्वीपों- केएलआई परियोजना’ (Mainland Kochi and Lakshadweep Islands- KLI Project) के बीच ‘सबमरीन ऑप्टिकल फाइबर केबल कनेक्टिविटी योजना’ को मंजूरी दी।

महत्वपूर्ण तथ्य: परियोजना में एक समर्पित सबमरीन ऑप्टिकल फाइबर केबल के माध्यम से कोच्चि और लक्षद्वीप के 11 द्वीपों – कवरत्ती, कलपेनी, अगति, अमिनी, एंड्रोथ, मिनीकॉय, बंगाराम, बित्रा, चेटलाट, किल्तान और कदमत के बीच एक सीधा दूरसंचार लिंक उपलब्ध कराने की परिकल्पना की गई है।

  • परियोजना के क्रियान्वयन की अनुमानित लागत 1072 करोड़ रुपये है, जिसमें 5 वर्षों के लिए संचालन व्यय भी शामिल है।
  • परियोजना को ‘सार्वभौमिक सेवा बाध्यता कोष’ से वित्त पोषित किया जाएगा तथा इसे मई 2023 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है।
  • अरब सागर में स्थित केन्द्र-शासित प्रदेश लक्षद्वीप में अनेक द्वीप शामिल हैं, जो भारत के लिए सामरिक दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण है।
  • लक्षद्वीप में इस समय दूरसंचार कनेक्टिविटी उपग्रहों के जरिए प्रदान की जा रही है, लेकिन यहां उपलब्ध बैंडविड्थ की क्षमता मात्र 1 जीबीपीएस है।

पीआईबी न्यूज विज्ञान और तकनीक

पूर्वोत्तर राज्‍यों की ‘समग्र दूरसंचार विकास संबंधी योजना’


9 दिसंबर, 2020 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने पूर्वोत्तर राज्यों की ‘समग्र दूरसंचार विकास संबंधी योजना’ (Comprehensive Telecom Development Plan- CTDP) के तहत अरुणाचल प्रदेश और असम के दो जिलों कार्बी आंगलोंग और दीमा हासाओ में मोबाइल कवरेज उपलब्ध कराने के लिए ‘सार्वभौमिक सेवा बाध्यता कोष योजना’ को मंजूरी दी।

महत्वपूर्ण तथ्य: इस परियोजना में 2374 बिना कवरेज वाले गांवों (अरुणाचल प्रदेश में 1683 और असम के दो जिलों के 691 ग्राम) को मोबाइल कवरेज प्रदान करने की परिकल्पना की गई है।

  • परियोजना के क्रियान्वयन की अनुमानित लागत 2,029 करोड़ रुपये है, जिसमें 5 वर्षों के लिए संचालन व्यय भी शामिल है।
  • इस परियोजना को ‘सार्वभौमिक सेवा बाध्यता कोष’ से वित्त पोषित किया जाएगा और इसे दिसम्बर 2022 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है।
  • मोबाइल सुविधा के दायरे में नहीं आने वाले चिन्हित ग्रामों में 4जी मोबाइल सेवाएं प्रदान करने संबंधी कार्य वर्तमान ‘सार्वभौमिक सेवा बाध्यता कोष’ प्रक्रिया के तहत खुली प्रतिस्पर्धी निविदा के जरिए दिया जाएगा।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

स्कूल बैग नीति 2020


दिसंबर 2020 में शिक्षा मंत्रालय द्वारा जारी नई स्कूल बैग नीति 2020 के तहत कई उपायों की घोषणा की गई है।

महत्वपूर्ण तथ्य: नई नीति में कक्षा 1 से 10वीं तक के छात्रों के स्कूल बैग का भार उनके शरीर के वजन के 10% से अधिक नहीं होना चाहिए। नियमित आधार पर स्कूल के बैग के वजन की निगरानी करनी होगी।

  • दूसरी कक्षा तक के विद्यार्थियों को होमवर्क नहीं दिया जाएगा। कक्षा 3 से 6 के लिए साप्ताहिक 2 घंटे तक का होमवर्क, कक्षा 6 से 8 तक के लिए प्रतिदिन 1 घंटे का होमवर्क और कक्षा 9 से 12 के लिए अधिकतम 2 घंटे का होमवर्क सीमित होना चाहिए।
  • बैग हल्के वजन के होने चाहिए जोकि दोनों कंधों पर आसानी से फिट हो सकते हों और किसी भी पहिये वाले बैग (Trolley-Bags) की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए, क्योंकि सीढ़ियां चढ़ते वक्त यह बच्चे को चोटिल कर सकते हैं।
  • प्री-प्राइमरी में कोई बैग नहीं होना चाहिए। कक्षा 1 और 2 के लिए बैग का वजन 1.6 से 2.2 किग्रा. के बीच; कक्षा 3 से 5 के लिए 1.7 से 2.5 किग्रा.; कक्षा 6 और 7 के लिए 2 से 3 किग्रा.; कक्षा 8 के लिए 2.5 से 4 किग्रा.; कक्षा 9 और 10 के लिए 2.5 से 4.5 किग्रा. तथा 11वीं और 12वीं कक्षा के लिए 3.5 से 5 किग्रा. तक होना चाहिए।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

माउंट एवरेस्ट की उंचाई में तीन फीट की वृद्धि


8 दिसंबर, 2020 को नेपाल और चीन के विदेश मंत्रियों द्वारा संयुक्त रूप से माउंट एवरेस्ट की ऊंचाई को समुद्र तल से 8,848.86 मीटर प्रमाणित किया, जोकि 1954 में मापी गई ऊंचाई की तुलना में 86 सेमी. अधिक है।

महत्वपूर्ण तथ्य: माउंट एवरेस्ट नेपाल और चीन की सीमा पर अवस्थित है। माउंट एवरेस्ट को नेपाल में ‘सागरमाथा’ और चीन में ‘माउंट कोमोलंगमा’ (Qomolangma) के नाम से भी जाना जाता है।

  • साझा घोषणा ने दोनों देशों द्वारा माउंट एवरेस्ट की ऊंचाई के बारे में लंबे समय से चले आ रहे मतभेद को समाप्त कर दिया है। चीन द्वारा इसकी ऊंचाई 29,017 फीट (8,844 मीटर) और नेपाल द्वारा 29,028 फीट (8,848 मीटर) होने का दावा किया गया था।
  • अब नई ऊंचाई नेपाल के पिछले दावे की तुलना में लगभग 3 फीट अधिक 29,031 फीट (8,848.86 मीटर) है।
  • वर्षों से, मांउट एवरेस्ट की उंचाई को लेकर यह बहस जारी है, कि इसकी उंचाई की गणना, चट्टानों की ऊंचाई तक की जानी चाहिए अथवा इसमें चट्टानों के ऊपर जमे ‘हिम’ की ऊंचाई भी शामिल की जानी चाहिए।

पूर्व में किए गए मापन: इससे पहले, सर्वे ऑफ इण्डिया द्वारा वर्ष 1954 में माउंट एवरेस्ट की ऊंचाई को मापा गया था, जिसमें इसकी ऊंचाई 8,848 मीटर निर्धारित की गई थी, जिसे वैश्विक रूप से, चीन के अलावा, सभी संदर्भो में स्वीकार किया गया।

  • वर्ष 1999 में, एक अमेरिकी टीम ने माउंट एवरेस्ट की ऊंचाई 29,035 फीट (लगभग 8,850 मीटर) निर्धारित की थी।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप अभियान/सम्मेलन/आयोजन

14वीं 'एडीएमएम-प्लस’


  • रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ‘एडीएमएम-प्लस’ (ASEAN Defence Ministers’ Meeting Plus- ADMM-Plus) की 10वीं वर्षगांठ पर 10 दिसम्बर, 2020 को वियतनाम के हनोई में ऑनलाइन आयोजित 14वीं 'एडीएमएमप्लस’ में हिस्सा लिया।
  • ‘एडीएमएम-प्लस’ एशिया-प्रशांत क्षेत्र में रक्षा मंत्री की बैठकों का एकमात्र आधिकारिक मंच है। यह आसियान और उसके आठ संवाद साझेदारों के लिए एक मंच है, जो क्षेत्र में शांति, स्थिरता और विकास के लिए सुरक्षा और रक्षा सहयोग को मजबूत करता है।
  • एडीएमएम-प्लस में दस आसियान देशों के साथ-साथ ऑस्ट्रेलिया, चीन, जापान, भारत, कोरिया गणराज्य, न्यूजीलैंड, रूस और संयुक्त राज्य अमेरिका शामिल हैं।
  • एडीएमएम-प्लस की शुरुआत 12 अक्टूबर, 2010 को हनोई, वियतनाम में हुई थी।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप अभियान/सम्मेलन/आयोजन

इंडिया मोबाइल कांग्रेस 2020


  • प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 8 दिसंबर, 2020 वर्चुअल इंडिया मोबाइल कांग्रेस (आईएमसी) 2020 को संबोधित किया। यह कांग्रेस 8 से 10 दिसंबर, 2020 तक आयोजित की गई।
  • विषय: ‘समावेशी नवाचार - स्मार्ट, सुरक्षित, स्थायी’ (Inclusive Innovation - Smart, Secure, Sustainable)।
    • आईएमसी 2020 का आयोजन दूरसंचार विभाग, भारत सरकार और सेलुलर ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (सीओएआई) द्वारा किया गया।
  • मुख्य उद्देश्य: प्रधानमंत्री के 'आत्मनिर्भर भारत', 'डिजिटल समावेशिता' एवं 'सतत विकास, उद्यमिता और नवाचार' के विजन को बढ़ावा देने में मदद करना।
    • विदेशी और स्थानीय निवेश संचालित करना, दूरसंचार और उभरते हुए प्रौद्योगिकी क्षेत्रों में अनुसंधान तथा विकास को प्रोत्साहित करना।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

मानवाधिकार दिवस


10 दिसंबर

2020 का विषय: ‘मानवाधिकारों को सुनिश्चित कर कोविड-19 संक्रमण से बेहतर तरीके से उबरना’ (Recover Better - Stand Up for Human Rights)

महत्वपूर्ण तथ्य: यह दिवस मानवाधिकारों की सार्वभौमिक घोषणा के उपलक्ष्य में हर वर्ष 10 दिसंबर को मनाया जाता है।

  • संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 1948 में इस घोषणा को विश्व में मानवाधिकारों की रक्षा के लिए मानक उपाय के रूप में स्वीकार किया था। इसके तहत मानव गरिमा, समानता तथा अपरिहार्य अधिकारों को, विश्व में न्याय, स्वतंत्रता और शांति की बुनियाद के रूप में स्वीकार किया गया है।
  • भारत के राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने 12 अक्टूबर, 1993 में अपनी स्थापना के बाद 6 दिसंबर, 2020 तक मानवाधिकार उल्लंघन के 19 लाख 50 हजार मामले दर्ज किए हैं और 19 लाख 32 हजार मामले निपटाए हैं।

सामयिक खबरें संस्थान-संगठन

बेटर देन कैश एलायंस


भारत और संयुक्त राष्ट्र स्थित ‘बेटर देन कैश एलायंस’ (Better Than Cash Alliance) ने 9 दिसंबर, 2020 को जिम्मेदार डिजिटल भुगतान के लिए फिनटेक समाधानों पर सहकर्मी साझा-शिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया।

  • 'बेटर देन कैश एलायंस' सरकारों, कंपनियों और अंतरराष्ट्रीय संगठनों की साझेदारी है, जो सतत विकास लक्ष्यों को आगे बढ़ाने के लिए नकदी की जगह जिम्मेदार डिजिटल भुगतानों को तेजी से बढ़ावा देता है।
  • इसे यूनाइटेड नेशंस कैपिटल डेवलपमेंट फंड, यूनाइटेड स्टेट्स एजेंसी फॉर इंटरनेशनल डेवलपमेंट, बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन, सिटीग्रुप, फोर्ड फाउंडेशन, ओमिडयार नेटवर्क और वीजा इंक द्वारा 2012 में लॉन्च किया गया था।
  • एलायंस में 75 सदस्य हैं, जो भुगतान को डिजिटल बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। इसका मुख्यालय न्यूयॉर्क स्थित है।
  • 'एलायंस सचिवालय' सदस्यों को उनकी प्राथमिकताओं के आधार पर परामर्श सेवाएं प्रदान करके; कार्रवाई-उन्मुख अनुसंधान को साझा करने और जिम्मेदार प्रथाओं पर सहकर्मी शिक्षण कार्यक्रम को बढ़ावा देकर; तथा राष्ट्रीय, क्षेत्रीय और वैश्विक स्तर पर पक्ष- समर्थन (advocacy) करके उनके भुगतान को डिजिटल बनाने में मदद करता है।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

तैरती हुई अवसंरचनाओं हेतु तकनीकी विनिर्देश


7 दिसंबर, 2020 को पत्तन, पोत परिवहन और जलमार्ग मंत्रालय ने तैरती हुई अवसंरचनाओं (floating structures) हेतु तकनीकी विनिर्देशों के लिए मसौदा दिशा-निर्देश सार्वजनिक परामर्श के लिए जारी किए।

उद्देश्य: भारतीय तटरेखा पर विश्व स्तर की तैरती हुई अवसंरचनाओं को स्थापित करना।

फ्लोटिंग जेटी (floating jetties) के लाभ: यह कम लागत वाला समाधान है और पारंपरिक संरचनाओं की कीमत से काफी सस्ता है।

  • पारंपरिक जेटी की तुलना में तैरती हुई अवसंरचनाओं को काफी तेजी से स्थापित किया जा सकता है। आमतौर पर, पारंपरिक संरचनाओं की स्थापना में 24 महीने का समय लगता है, इसकी तुलना में तैरती हुई अवसंरचनाओं को 6-8 महीनों में तैयार किया जा सकता है।
  • पर्यावरण पर इसका न्यूनतम प्रभाव पड़ता है। ‘मॉड्यूलर निर्माण तकनीकों’ के कारण इसका विस्तार करना आसानी से संभव है।
  • बंदरगाह के नवीनीकरण की स्थिति में इसे आसानी से दूसरी जगहों पर ले जाया जा सकता है।
  • यह जेटी और नौकाओं के बीच निरंतर मुक्त उतार- चढ़ाव (Freeboard) प्रदान करता है।
  • फ्लोटिंग जेटी विशेष रूप से उन जगहों पर लगाना काफी आसान है, जहां ज्वारीय सीमा ज्यादा है, जहां निचली ज्वारीय अवधि में पारंपरिक जहाजी घाट (quay) से समस्याएं आती हैं।

अन्य तथ्य: पत्तन, पोत परिवहन और जलमार्ग मंत्रालय ने हाल ही में कुछ पायलट परियोजनाओं को सफलतापूर्वक लागू किया है।

  • इनमें गोवा में यात्री फ्लोटिंग जेटी, साबरमती नदी और सरदार सरोवर बांध (सीप्लेन सेवाओं के लिए) पर वाटर-एयरोड्रोम की स्थापना शामिल हैं।

पीआईबी न्यूज विज्ञान और तकनीक

पीएम-वाणी


केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने 9 दिसंबर, 2020 को दूरसंचार विभाग को देशभर में सार्वजनिक डेटा कार्यालयों (पीडीओ) के माध्यम से बिना लाइसेंस शुल्क के सार्वजनिक रूप से वाई-फाई सेवा प्रदान करने का नेटवर्क तैयार करने के प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान की। सार्वजनिक वाई-फाई एक्सेस नेटवर्क इंटरफेस को ‘पीएम-वाणी’ (PM-WANI) के रूप में जाना जाएगा।

  • विशेषताएं: ‘पीएम-वाणी’ को निम्न सार्वजनिक दूरसंचार सेवा प्रदाताओं के माध्यम से संचालित किया जाएगा।
  • सार्वजनिक डेटा कार्यालय: यह केवल पीएम वाणी के तहत आने वाले वाई-फाई सेवा स्थलों को स्थापित करने, रखरखाव करने और संचालित करने का काम करेंगे और उपभोक्ताओं को ब्रॉडबैंड सेवा प्रदान करेंगे।
  • सार्वजनिक डेटा कार्यालय समूहक (पीडीओए): यह पंजीकृत उपयोगकर्ताओं के प्रमाणीकरण और लेखा खातों का रखरखाव करेंगे ।
  • ऐप प्रदाता: यह पंजीकृत ग्राहकों के लिए मोबाइल ऐप विकसित करेंगे और वाई-फाई वाले हॉट स्पाट इलाकों में ‘पीएम वाणी’ सेवा की उपलब्धता का पता लगाकर इंटरनेट सेवा के उपयोग हेतु ऐप में इसकी जानकारी देंगे।
  • केंद्रीय रजिस्ट्री: यह ऐप सेवा प्रदाता, पीडीओ और पीडीओए की जानकारी रखेगा। केंद्रीय रजिस्ट्री का रखरखाव शुरुआती स्तर पर दूरसंचार विभाग (C-DoT) द्वारा किया किया जाएगा।
  • अन्य तथ्य: पीडीओ, पीडीओए और ऐप प्रदाताओं को इसके लिए अपना कोई पंजीकरण नहीं कराना होगा। ये सरल संचार (https://saralsanchar.gov.in) वेबसाइट पर नि: शुल्क दूरसंचार विभाग में ऑनलाइन पंजीकरण करा सकेंगे।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

हवाना सिंड्रोम


दिसंबर 2020 में ‘नेशनल एकेडमी ऑफ साइंसेज’ की एक नई रिपोर्ट के अनुसार, 2016 में क्यूबा में अमेरिकी राजनयिकों द्वारा अनुभव की गई ‘हवाना सिंड्रोम’ (Havana syndrome) नामक एक रहस्यमय न्यूरोलॉजिकल बीमारी का संभावित कारण निर्देशित माइक्रोवेव विकिरण (directed microwave radiation) है।

महत्वपूर्ण तथ्य: 2016 के अंत में, हवाना में तैनात अमेरिकी राजनयिक और अन्य कर्मचारी अपने होटल के कमरे या घरों में अजीब आवाज सुनने और अजीब शारीरिक सनसनी का अनुभव करने के बाद बीमार हो गए थे।

  • इसके लक्षणों में मतली, गंभीर सिरदर्द, थकान, चक्कर आना, नींद की समस्याएं और श्रवण-ह्रास शामिल हैं। तब से इस बीमारी को 'हवाना सिंड्रोम' के रूप में जाना जाता है।
  • 19 विशेषज्ञों की समिति द्वारा जांच किए गए मामलों की व्याख्या करने पर, ‘निर्देशित’ स्पंदित रेडियो आवृत्ति ऊर्जा (Directed pulsed Radio Frequency energy) को ‘हवाना सिंड्रोम’ का सर्वाधिक संभावित कारण माना गया है।

माइक्रोवेव हथियार (microwave weapons): यह एक प्रकार का प्रत्यक्ष ऊर्जा हथियार (direct energy weapons) माना जाता है, जो लक्ष्य को ध्वनि, लेजर या माइक्रोवेव के रूप में अत्यधिक केंद्रित ऊर्जा के साथ लक्षित करते हैं।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

विश्व में हथियारों के बाजार पर सिपरी रिपोर्ट


7 दिसंबर, 2020 को स्टॉकहोम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट-सिपरी (Stockholm International Peace Research Institute– SIPRI) द्वारा विश्व में हथियारों के बाजार पर एक रिपोर्ट जारी की गई।

महत्वपूर्ण तथ्य: वर्ष 2019 में विश्व के ‘शीर्ष 25’ निर्माताओं द्वारा की गयी कुल बिक्री में अमेरिकी हथियार उद्योग का 61% हिस्सा और चीनी हथियार उद्योग का 15.7% हिस्सा था।

  • ‘शीर्ष 25’ निर्माताओं की कुल बिक्री में 2018 के मुकाबले 8.5% की वृद्धि हुई और यह 2019 में 361 बिलियन डॉलर तक पहुँच गई, जो कि संयुक्त राष्ट्र के शांति अभियानों के वार्षिक बजट का 50 गुना अधिक है।
  • वैश्विक हथियारों पर व्यय के मामले में चीन और संयुक्त राज्य अमेरिका दो सबसे बड़े देश हैं। छ: अमेरिकी कंपनियां और तीन चीनी कंपनियां ‘शीर्ष 10’ में थीं।
  • 2019 में शीर्ष पांच हथियार कंपनियां संयुक्त राज्य अमेरिका से थीं- लॉकहीड मार्टिन, बोइंग, नॉर्थ्रॉप ग्रुमैन, रेथियॉन और जनरल डायनेमिक्स।
  • पहली बार पश्चिम एशिया की एक हथियार कंपनी भी ‘शीर्ष 25’ कंपनियों में जगह बनाने में कामयाब रही। संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) की कंपनी ‘EDGE’ सूची में 22वें स्थान पर है।
  • स्टॉकहोम इंटरनेशनल पीस रिसर्च इंस्टीट्यूट (SIPRI) 1966 में स्थापित एक स्वतंत्र अंतर्राष्ट्रीय संस्थान है, जो युद्ध तथा संघर्ष, युद्धक सामग्रियों, हथियार नियंत्रण तथा निरस्त्रीकरण के क्षेत्र में अनुसंधान-कार्यों के लिए समर्पित है।

सामयिक खबरें विज्ञान-पर्यावरण

दूसरा कैंसर जीनोम एटलस 2020 सम्मेलन


केंद्रीय विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री और वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) के उपाध्यक्ष डॉ. हर्ष वर्धन ने नई दिल्ली में दूसरे कैंसर जीनोम एटलस (The Cancer Genome Atlas- TCGA) 2020 सम्मेलन का वर्चुअली उद्घाटन किया। यह सम्मेलन 3 से 5 दिसंबर, 2020 तक आयोजित किया गया।

2020 सम्मेलन का विषय: Towards Team Science for Multi-omics Cancer Research in South Asia.

महत्वपूर्ण तथ्य: TCGA एक लैंडमार्क 'कैंसर जीनोमिक्स प्रोग्राम' (cancer genomics program) है, जो आणविक रूप से 20,000 से अधिक प्राथमिक कैंसर का वर्णन करता है और 33 कैंसर प्रकारों के साथ सामान्य नमूनों से मेल खाता है।

  • यूएस-नेशनल कैंसर इंस्टीट्यूट और नेशनल ह्यूमन जीनोम रिसर्च इंस्टीट्यूट के बीच यह संयुक्त प्रयास 2006 में शुरू हुआ था।
  • इन वर्षों के दौरान TCGA ने जीनोमिक, एपिजीनोमिक, ट्रांसस्क्रिप्टोमिक और प्रोटिओमिक (epigenomic, transcriptomic, and proteomic) डेटा के 2.5 से अधिक पेटाबाइट्स एकत्र किए हैं।
  • पहले से ही कैंसर के निदान, उपचार और रोकथाम की क्षमता में सुधार करने वाला डेटा अनुसंधानकर्ताओं के उपयोग के लिए सार्वजनिक रूप से उपलब्ध रहेगा।
  • इसी के अनुरूप सीएसआईआर, भारत सरकार के प्रमुख हितधारकों, जिसमें कई सरकारी एजेंसियां, कैंसर अस्पताल, शैक्षणिक संस्थान और निजी क्षेत्र के साझेदार शामिल हैं, द्वारा ‘भारतीय कैंसर जीनोमिक्स एटलस 2020’ की स्थापना की गई है।

सामयिक खबरें विज्ञान-पर्यावरण

इको-ब्रिज


नवंबर 2020 में उत्तराखंड के नैनीताल जिले में रामनगर वन प्रभाग ने सरीसृप और छोटे स्तनधारियों के लिए अपने पहले 'इको-ब्रिज' (eco-bridge) का निर्माण किया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: 90 फीट लंबा और 5 फीट चौड़ा 'इको-ब्रिज' रामनगर वन प्रभाग में कालाढूंगी- नैनीताल राजमार्ग पर है, जिसे बांस, रस्सी और घास से तैयार किया गया है।

इको-ब्रिज क्या हैं? राजमार्गों या लकड़ी की कटाई होने के कारण वन्यजीवों का आवागमन बाधित होता है। इसलिए इको-ब्रिज का निर्माण कर वन्यजीवों के मध्य परस्पर कनेक्टिविटी को बढ़ावा दिया जाता है।

  • इनमें कैनोपी ब्रिज (आमतौर पर बंदरों, गिलहरियों और अन्य जंगली प्रजातियों के लिए); कंक्रीट अंडरपास या ऊपरी सुरंग मार्ग या मार्ग सेतु (आमतौर पर बड़े जानवरों के लिए); और उभयचर सुरंग या पुलिया शामिल हैं।
  • आमतौर पर इन पुलों को क्षेत्रीय बेलों और लताओं से तैयार किया जाता है, ताकि यह प्राकृतिक परिदृश्य के साथ एक सन्निहित रूप दे सके।

महत्व: कई सड़क परियोजनाएं वन्यजीव गलियारों से होकर गुजरती हैं। जैसे- असम में काजीरंगा-कार्बी आंगलोंग अभ्यारण्य से होकर गुजरने वाला राष्ट्रीय राजमार्ग 37 तथा कर्नाटक में नागरहोल टाइगर रिजर्व से होकर गुजरने वाला राज्य राजमार्ग 33 है।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप अभियान/सम्मेलन/आयोजन

फिट इंडिया साइक्लोथॉन


केंद्रीय खेल मंत्री किरेन रिजिजू ने सोशल मीडिया के माध्यम से ‘फिट इंडिया साइक्लोथॉन’ का दूसरा संस्करण लॉन्च किया।

उद्देश्य: आउटडोर गतिविधियों में लोगों को शामिल करना और देश भर में साइकिल चलाने की संस्कृति शुरू करना।

  • मेगा साइकिलिंग प्रतियोगिता 7 से 31 दिसंबर, 2020 तक देश भर में प्रत्येक जिले में आयोजित की जाएगी।
  • फिट इंडिया साइक्लोथॉन के आरम्भिक संस्करण को खेल मंत्री ने गोवा के पणजी में जनवरी 2020 में शुरू किया था।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

पनडुब्बी दिवस


8 दिसंबर

महत्वपूर्ण तथ्य: भारतीय नौसेना द्वारा 8 दिसंबर को पनडुब्बी दिवस मनाया गया। 8 दिसंबर, 1967 को लातविया के रीगा में भारतीय नौसेना का ध्वज आईएनएस कलवरी पर फहराया गया था, जो भारतीय नौसेना में शामिल होने वाली पहली पनडुब्बी थी।

  • हिंद महासागर में पायी जाने वाली टाइगर शार्क (Tiger Shark) का मलयालम में नाम 'कलवरी' है। इस पहली पनडुब्बी को 1996 में सेवा मुक्त (decommissioned) किया गया था।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

अंतरराष्‍ट्रीय भ्रष्‍टाचार रोधी दिवस


9 दिसंबर

2020 का विषय: ‘रिकवरी विद इंटिग्रिटी’ (Recover with Integrity)।

महत्वपूर्ण तथ्य: संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 31 अक्टूबर, 2003 को ‘भ्रष्टाचार के खिलाफ संयुक्त राष्ट्र अभिसमय’ (United Nations Convention against Corruption) स्वीकार की थी।

  • भ्रष्टाचार के बारे में जागरूकता बढ़ाने और इसकी रोकथाम में अभिसमय की भूमिका के लिए 9 दिसंबर को अंतरराष्ट्रीय भ्रष्टाचार विरोधी दिवस के रूप में नामित किया गया। अभिसमय दिसंबर 2005 में लागू हुई।

पीआईबी न्यूज

वंचित इकाई समूह और वर्गों की आर्थिक सहायता योजना


वंचित इकाई समूह और वर्गों की आर्थिक सहायता (वीआईएसवीएएस) योजना के कार्यान्वयन को बढ़ावा देने हेतु राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग वित्त और विकास निगम (एनबीसीएफडीसी) और राष्ट्रीय अनुसूचित जाति वित्त और विकास निगम (एनएसएफडीसी) ने दिसंबर 2020 में सार्वजनिक क्षेत्र के शीर्ष बैंक ‘सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया’ और ‘पंजाब नेशनल बैंक’ के साथ सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किए।

  • यह सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय, भारत सरकार की आर्थिक रूप से वंचित ओबीसी/अनुसूचित जाति स्वयं सहायता समूहों और व्यक्तियों के वित्तीय सशक्तिकरण की ब्याज अनुदान योजना है।
  • इस योजना से 4 लाख रुपये तक के ऋण/उधार वाले ओबीसी/अनुसूचित जाति ‘स्वयं सहायता समूहों’ और 2 लाख तक के ऋण/उधार वाले ओबीसी/अनुसूचित जाति के ‘व्यक्तियों’ को 5% तक त्वरित ब्याज अनुदान लाभ मिलेगा।

पीआईबी न्यूज अंतरराष्ट्रीय

आईआईटी-2020 वैश्विक शिखर सम्मेलन


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 4 दिसंबर 2020 को ‘पैन आईआईटीयूएसए’ (PanIIT USA) द्वारा आयोजित ‘आईआईटी-2020 वैश्विक शिखर सम्मेलन’ (IIT-2020 Global Summit) को संबोधित किया।

शिखर सम्मेलन का विषय: 'फ्यूचर इज नाउ' (Future is now) ।

  • शिखर सम्मेलन वैश्विक अर्थव्यवस्था, प्रौद्योगिकी, नवाचार, स्वास्थ्य, आवास संरक्षण और सार्वभौमिक शिक्षा जैसे मुद्दों पर केंद्रित था।
  • पैन आईआईटी, यूएसए 20 वर्ष से अधिक पुराना एक संगठन है और इसे अमेरिका के पूर्व छात्रों की एक स्वयंसेवी टीम द्वारा संचालित किया जाता है।
  • पैन आईआईटी, यूएसए 2003 से इस सम्मेलन का आयोजन करता आ रहा है।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

बांग्लादेश ने किया पहला तरजीही व्‍यापार समझौता


6 दिसंबर, 2020 को बांग्लादेश ने अपने पहले ‘तरजीही व्यापार समझौते’ (Preferential Trade Agreement- PTA) पर भूटान के साथ हस्ताक्षर किए। बांग्लादेश का दुनिया के किसी भी देश के साथ यह पहला PTA है।

महत्वपूर्ण तथ्य: ढाका में दोनों देशों के बीच राजनयिक संबंध कायम होने के 50 वर्ष पूरे होने के अवसर पर समझौते पर हस्ताक्षर किये गए। इससे दोनों देश एक दूसरे के साथ अनेक वस्तुओं का शुल्क- मुक्त आयात कर सकेंगे।

  • 1971 में बांग्लादेश के गठन के बाद उसे सबसे पहले मान्यता देने वाला देश भूटान ही था। उसके बाद भारत ने बांग्लादेश को स्वतंत्र देश के रूप में मान्यता प्रदान की थी।
  • तरजीही व्यापार समझौते के अनुसार भूटान बांग्लादेश की 100 वस्तुओं, जिनमें जूट और जूट उत्पाद, शिशुओं के कपड़े और सामान, पुरुषों की पतलून, जैकेट और ब्लेजर शामिल हैं, का बिना सीमा-शुल्क के आयात कर सकेगा।
  • वहीं, बांग्लादेश भूटान की 34 वस्तुओं, जिनमें फलों के रस, प्राकृतिक शहद, जेली, चूना पत्थर और क्वार्टजाइट शामिल हैं, का सीमा-शुल्क मुक्त आयात कर सकेगा।
  • 2018-19 में बांग्लादेश में 7.56 मिलियन डॉलर के निर्यात और 42.09 मिलियन डॉलर के आयात के साथ दोनों देशों के बीच लगभग 50 मिलियन डॉलर का व्यापार रहा।

सामयिक खबरें विज्ञान-पर्यावरण

नर्मदा प्राकृतिक सौंदर्य पुनर्स्थापना परियोजना


भारत की सबसे बड़ी एकीकृत ऊर्जा कंपनी और विद्युत मंत्रालय के तहत सार्वजनिक उपक्रम, एनटीपीसी लिमिटेड ने 4 दिसंबर, 2020 को ‘नर्मदा प्राकृतिक सौंदर्य पुनर्स्थापना परियोजना’ (Narmada Landscape Restoration Project) को लागू करने के लिए भारतीय वन प्रबंधन संस्थान भोपाल के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए।

उद्देश्य: नर्मदा नदी घाटी के सहायक वन और कृषि समुदायों के स्थायी परिदृश्यों को बनाए रखने में सहायक एक प्रोत्साहन प्रणाली स्थापित करना।

महत्वपूर्ण तथ्य: इस कार्यक्रम के तहत समान अनुपात में एनटीपीसी लिमिटेड और यूएसएआईडी (United States Agency for International Development - USAID) से अनुदान सहायता के लिए साझेदारी है।

  • 4 साल की यह परियोजना मध्य प्रदेश के खरगोन जिले में ओंकारेश्वर और महेश्वर बांधों के बीच नर्मदा नदी की चयनित सहायक नदियों के जलग्रहण क्षेत्र में लागू की जाएगी।
  • इस परियोजना को पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय के तहत एक स्वायत्त संस्थान भारतीय वन प्रबंधन संस्थान, भोपाल तथा ग्लोबल ग्रीन ग्रोथ इंस्टीट्यूट (Global Green Growth Institute- GGGI) संयुक्त रूप से लागू करेंगे।
  • GGGI एक अंतर-सरकारी संगठन है, जो उभरती अर्थव्यवस्थाओं में टिकाऊ और समावेशी आर्थिक विकास को बढ़ावा देता है।
  • GGGI यूएसएआईडी की सहायता से इस परियोजना में हिस्सा लेगा, जो अमेरिकी सरकार की अंतरराष्ट्रीय विकास शाखा का एक हिस्सा है

सामयिक खबरें विज्ञान-पर्यावरण

जलवायु परिवर्तन प्रदर्शन सूचकांक 2021


7 दिसंबर, 2020 को जर्मनी में जारी वैश्विक जलवायु परिवर्तन प्रदर्शन सूचकांक 2021 (Climate Change Performance Index-CCPI) में भारत लगातार दूसरे वर्ष शीर्ष 10 में बना हुआ है।

महत्वपूर्ण तथ्य: ग्रीनहाउस गैसों (GHG) का सबसे बड़ा वर्तमान उत्सर्जक चीन 33वें स्थान पर है, जबकि ऐतिहासिक रूप से सबसे बड़ा प्रदूषक, संयुक्त राज्य अमेरिका सूची में सबसे नीचे 61वें स्थान पर है।

  • हालांकि भारत पिछले साल नौवें स्थान से एक स्थान नीचे खिसक गया है, लेकिन जलवायु संरक्षण की दिशा में लगातार प्रयास से वर्ष 2014 में 31वीं रैंकिंग से वर्तमान में सुधार हुआ है।
  • वैश्विक रूप से CCPI की वार्षिक रिपोर्ट के लिए मूल्यांकन किए गए देशों में से कोई भी देश पेरिस समझौते के लक्ष्यों की दिशा में अग्रसर नहीं है।
  • CCPI 2021, जो वर्ष 2020 को कवर करता है, के अनुसार केवल दो जी20 देश - यूनाइटेड किंगडम (5वें) और भारत (10वें) उच्च रैंक वाले देश हैं, जबकि छ: अन्य- संयुक्त राज्य अमेरिका (61वें), सऊदी अरब (60वें), कनाडा (58वें), ऑस्ट्रेलिया (54वें), दक्षिण कोरिया (53वें) और रूस (52वें) निचले स्थान पर हैं।
  • सूचकांक 57 देशों और यूरोपीय संघ (एक पूरे के रूप में) को चार श्रेणियों - जीएचजी उत्सर्जन (40%), नवीकरणीय ऊर्जा (20%), ऊर्जा उपयोग (20%) और जलवायु नीति (20%) के प्रदर्शन के आधार पर तैयार किया गया है।
  • CCPI को क्लाइमेट एक्शन नेटवर्क (CAN International) के साथ गैर-लाभकारी संगठन 'जर्मनवॉच' और न्यूक्लाइमेट इंस्टिट्यूट (जर्मनी) द्वारा विकसित किया गया है तथा इसे वर्ष 2005 से प्रतिवर्ष प्रकाशित किया जाता है।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप नियुक्ति

अनिल सोनी WHO फाउंडेशन के सीईओ नियुक्त


WHO फाउंडेशन ने भारतीय मूल के वैश्विक स्वास्थ्य विशेषज्ञ अनिल सोनी को अपना पहला मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) नियुक्त किया है। वे 1 जनवरी, 2021 से कार्यभार संभालेंगे।

  • अनिल ग्लोबल हेल्थकेयर कंपनी ‘वियाट्रिस’ से फाउंडेशन में शामिल हुए, जहाँ उन्होंने 'वैश्विक संक्रामक रोगों के प्रमुख' के रूप में काम किया है।
  • WHO फाउंडेशन का मुख्यालय जिनेवा में स्थित है और यह एक स्वतंत्र अनुदान प्रदान करने वाली एजेंसी है। इसे तत्काल वैश्विक स्वास्थ्य चुनौतियों से निपटने के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रयासों को पूरक बनाने के लिए मई 2020 में लॉन्च किया गया था।
  • WHO फाउंडेशन ने वैश्विक फंड जुटाने के अभियान की शुरुआत की घोषणा की है, जिसके तहत 2023 तक वैश्विक स्वास्थ्य के लिए 1 बिलियन डॉलर का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

नरसंहार के शिकार और इसके पीड़ितों की गरिमा और इस अपराध की रोकथाम का अंतरराष्ट्रीय दिवस


9 दिसंबर

महत्वपूर्ण तथ्य: वर्ष 1948 में 'नरसंहार के अपराध की रोकथाम और सजा पर अभिसमय' (नरसंहार अभिसमय) संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा अपनाई गई पहली मानवाधिकार संधि है।

  • इस दिवस को मनाने का उद्देश्य नरसंहार अभिसमय के बारे में जागरूकता बढ़ाना और नरसंहार अपराध से निपटने और रोकने में इसकी भूमिका को चिन्हित करना और इसके पीड़ितों को याद करना है।

सामयिक खबरें खेल चर्चित खेल व्यक्तित्व

नंगगोम बाला देवी


नंगगोम बाला देवी पेशेवर यूरोपीय फुटबॉल लीग में स्कोर करने वाली पहली भारतीय महिला बन गईं। उन्होंने 6 दिसंबर, 2020 को ‘रेंजर्स फुटबॉल क्लब’ के लिए मदरवेल फुटबॉल क्लब के खिलाफ गोल किया।

  • बाला देवी एक भारतीय महिला फुटबॉलर हैं, जो स्कॉटिश महिला प्रीमियर लीग में क्लब रेंजर्स और भारत की राष्ट्रीय महिला फुटबॉल टीम के लिए फॉरवर्ड के रूप में खेलती हैं। उनका जन्म मणिपुर में 1990 में हुआ था।
  • बाला देवी जनवरी 2020 में स्कॉटिश क्लब में शामिल हुई, और यूरोप में एक पेशेवर फुटबॉल अनुबंध करने वाली पहली भारतीय महिला हैं।

सामयिक खबरें संस्थान-संगठन

बीमा पर्यवेक्षकों के अंतरराष्ट्रीय संघ


दिसंबर 2020 में अंतरराष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र प्राधिकरण (आईएफएससीए) को ‘बीमा पर्यवेक्षकों के अंतरराष्ट्रीय संघ’ (International Association of Insurance Supervisors- IAIS) की सदस्यता मिल गई है।

  • IAIS का गठन वर्ष 1994 में हुआ, जिसका मुख्यालय स्विट्जरलैंड में स्थित है। यह एक स्वैच्छिक सदस्यता वाला संगठन है, जिसमें 200 से ज्यादा न्यायाधिकरण (अधिकार क्षेत्र) के दायरे में आने वाले बीमा पर्यवेक्षक और नियामक जुड़े हुए हैं, जो कि दुनिया के 97% बीमा प्रीमियम में हिस्स्दारी रखते हैं।
  • बीमा क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय स्तर के मानक बनाने, नियमों को तय करने और उसके लिए जरूरी सहयोग देने में इस संगठन की अहम भूमिका रहती है।
  • IAIS इसके अलावा अपने सदस्यों को एक प्लेटफॉर्म भी मुहैया कराता है, जहाँ पर वह अपने, बीमा पर्यवेक्षण और बीमा बाजार के अनुभवों को साझा करते हैं।
  • IAIS के अग्रणी सदस्यों में यूनाइटेड किंगडम- वित्तीय आचरण प्राधिकरण (FCA), यूएसए- नेशनल एसोसिएशन ऑफ इंश्योरेंस कमिश्नर्स (NIAC) तथा भारत- बीमा नियामक और विकास प्राधिकरण (IRDAI) शामिल हैं।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

संयुक्त राष्ट्र निवेश प्रोत्साहन पुरस्कार 2020


  • संयुक्त राष्ट्र- यूएनसीटीएडी (UNCTAD) ने भारत की राष्ट्रीय निवेश संवर्धन एजेंसी ‘इन्वेस्ट इंडिया’ को संयुक्त राष्ट्र निवेश प्रोत्साहन पुरस्कार 2020 का विजेता घोषित किया है। पुरस्कार समारोह 7 दिसंबर, 2020 को जिनेवा में यूएनसीटीएडी मुख्यालय में सम्पन्न हुआ।
  • यह पुरस्कार दुनिया भर में निवेश संवर्धन एजेंसियों (आईपीए) की उत्कृष्ट उपलब्धियों और बेहतरीन कार्य- प्रणालियों को प्रतिबिंबित करता है।
  • संयुक्त राष्ट्र निवेश प्रोत्साहन पुरस्कार, निवेश प्रोत्साहन एजेंसियों के लिए सबसे प्रतिष्ठित पुरस्कार है।
  • यूएनसीटीएडी एक केंद्रीय एजेंसी है, जो निवेश संवर्धन एजेंसियों के प्रदर्शन की निगरानी करती है और वैश्विक सर्वोत्तम कार्य-प्रणालियों की पहचान करती है।
  • जर्मनी, दक्षिण कोरिया और सिंगापुर पूर्व में यह पुरस्कार जीत चुके हैं।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

ऑनलाइन गेमिंग, फैंटेसी स्पोर्ट्स संबंधित विज्ञापनों हेतु एडवाइजरी


5 दिसंबर, 2020 को सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने सभी निजी टेलीविजन प्रसारकों को ऑनलाइन गेमिंग, फैंटेसी स्पोर्ट्स आदि से संबंधित विज्ञापनों के लिए भारतीय विज्ञापन मानक परिषद (एएससीआई) द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का पालन करने हेतु एडवाइजरी जारी की।

महत्वपूर्ण तथ्य: प्रत्येक गेमिंग विज्ञापन के साथ ये चेतावनी दी जानी चाहिए कि इस गेम में वित्तीय जोखिम का एक तत्व शामिल है और इसकी लत लग सकती है। इस तरह के डिस्क्लेमर (disclaimer) को विज्ञापन में कम से कम 20% जगह दी जानी चाहिए।

  • गेमिंग विज्ञापन 18 वर्ष से कम उम्र के यूजर्स को ‘पैसा जीतने के लिए ऑनलाइन गेमिंग’ का खेल खेलते हुए नहीं दर्शा सकते, या न ही ऐसा सुझाव दे सकते हैं कि ऐसे यूजर्स इन गेम्स को खेल सकते हैं।
  • इन विज्ञापनों को न तो ये सुझाव देना चाहिए कि ऑनलाइन गेमिंग रोजगार के विकल्प के रूप में आय सृजन का अवसर प्रदान करती है और न ही ऐसे खेल खेलने वाले व्यक्ति को दूसरों की तुलना में अधिक सफल के रूप में चित्रित करना चाहिए।

अन्य तथ्य: 1985 में स्थापित ‘भारतीय विज्ञापन मानक परिषद (एएससीआई)’ भारत में विज्ञापन इंडस्ट्री का एक मुंबई स्थित स्व-नियामक स्वैच्छिक संगठन है।

  • केबल टेलीविजन नेटवर्क (विनियमन) अधिनियम, 1995 के तहत टेलीविजन नेटवर्क्स के लिए एएससीआई द्वारा निर्धारित विज्ञापन संहिता का पालन करना अनिवार्य है।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

मातृभाषा में तकनीकी शिक्षा हेतु कार्यबल का गठन


  • केन्द्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ने मातृभाषा में तकनीकी शिक्षा प्रदान करने के लिए रोडमैप तैयार करने के उद्देश्य से 2 दिसंबर, 2020 को एक कार्यबल का गठन किया।
  • सचिव, उच्च शिक्षा की अध्यक्षता में गठित यह कार्यबल विभिन्न हितधारकों द्वारा दिए गए सुझावों पर विचार कर एक महीने में रिपोर्ट प्रस्तुत करेगा।
  • किसी भी विद्यार्थी पर कोई भाषा थोपे जाए बिना सक्षम बनाने के प्रावधान किए जाएंगे, जिससे कोई भी होनहार विद्यार्थी अंग्रेजी भाषा की जानकारी न होने के कारण तकनीकी शिक्षा से वंचित न रह जाए।
  • यह कदम प्रधानमंत्री की उस दृष्टि के अनुरूप है, जिसमें विद्यार्थी अपनी मातृभाषा में मेडिकल, इंजीनियरिंग और कानून आदि व्यावसायिक पाठ्यक्रम की पढ़ाई कर सकें।

पीआईबी न्यूज अंतरराष्ट्रीय

अमेरिका- भारत मादक पदार्थ विरोधी कार्य समूह


24 नवंबर, 2020 को अमेरिका और भारत सरकार के अधिकारियों की ‘अमेरिका-भारत मादक पदार्थ विरोधी कार्य समूह’ (Counternarcotics Working Group- CNWG) की वर्चुअल आरंभिक बैठक हुई।

  • दोनों पक्षों ने नशीली दवाओं एवं मादक पदार्थों और साथ ही उनमें इस्तेमाल किए जाने वाले रसायनों के अवैध उत्पादन, निर्माण, तस्करी और वितरण को रोकने की दिशा में सहयोग बढ़ाने की प्रतिबद्धता व्यक्त की।
  • दोनों पक्षों ने दक्षिण एशिया में मादक पदार्थ विरोधी क्षमता के विकास हेतु भारत की क्षेत्रीय नेतृत्वकारी क्षमता को मजबूत करने; व्यवहार्य खुफिया सूचनाओं की साझेदारी बढ़ाकर क्षेत्र में सीमापार ड्रग्स तस्करी और अपराधों का मुकाबला करने; और मादक पदार्थों के खिलाफ कानून प्रवर्तन संबंधी सहयोग का विस्तार करने के लिए विभिन्न पहलों पर भी चर्चा की।
  • दोनों देश नशीली दवाओं और उनमें इस्तेमाल रसायनों के उत्पादन, वितरण, परिवर्तन और निर्यात/आयात का मुकाबला करने के लिए ‘डेटा साझाकरण’ गतिविधियों को बढ़ाने पर भी सहमत हुए।

पीआईबी न्यूज पर्यावरण

दो नए चिड़ियाघरों को केंद्र सरकार द्वारा मान्यता


केंद्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री प्रकाश जावडेकर की अध्यक्षता में 7 दिसंबर, 2020 को केंद्रीय चिड़ियाघर प्राधिकरण की 37वीं आम सभा की बैठक में दो नए चिड़ियाघरों बिहार के नालंदा में ‘राजगीर चिड़ियाघर सफारी’ और उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में ‘शहीद अशफाक उल्लाह खान उद्यान’ को मान्यता प्रदान की गई।

राजगीर चिड़ियाघर सफारी: इस चिड़ियाघर में विशेष रूप से केवल सफारी बाड़े हैं, जो पारंपरिक बाड़ों के विपरीत बंदी जानवरों के लिए बड़ा स्थान उपलब्ध कराता है।

  • चिड़ियाघर ऐतिहासिक रूप से महत्वपूर्ण नालंदा के करीब स्थित है।

शहीद अशफाक उल्लाह खान प्राणी उद्यान: इस चिड़ियाघर की स्थापना के साथ ही उत्तर प्रदेश राज्य में कुल 9 चिड़ियाघर हो गए हैं।

  • चिड़ियाघर गोरखपुर की आध्यात्मिक भूमि में स्थित है। चिड़ियाघर का उद्देश्य प्राकृतिक दिखने वाले बाड़ों के माध्यम से लोगों में जानवरों के प्रति जागरूकता पैदा करना है।

पीआईबी न्यूज पर्यावरण

ग्रीन चारकोल हैकाथॉन


केंद्रीय विद्युत और नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा राज्य मंत्री आर. के. सिंह ने 1 दिसंबर, 2020 को एनटीपीसी लिमिटेड की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी ‘एनटीपीसी विद्युत व्यापार निगम- एनवीवीएन’ के ‘ग्रीन चारकोल हैकाथॉन’ (Green Charcoal Hackathon) का शुभारंभ किया।

  • त्वरित प्रौद्योगिकी विकास के लिए, एनवीवीएन ने एनर्जी एफिशिएंसी सर्विसेज लिमिटेड- ईईएसएल के साथ साझेदारी में उपयुक्त प्रौद्योगिकी चुनौती ‘ग्रीन चारकोल हैकाथॉन’ का आयोजन किया।

आयोजन का मुख्य उद्देश्य: कृषि भूमि पर जलाई जाने वाली अग्नि को कम करना, कृषि अवशेषों से अक्षय ऊर्जा का उत्पादन करना, स्थानीय उद्यमिता को बढ़ावा देना और किसानों की आय में वृद्धि करते हुए वायु को स्वच्छ करने के प्रमुख उद्देश्य के साथ तकनीकी अंतर को दूर करना।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित व्यक्ति

गीतांजलि राव टाइम मैगजीन 'किड ऑफ द इयर’


दिसंबर 2020 में भारतीय मूल की 15 वर्षीय अमेरिकी किशोरी गीतांजलि राव को उनके कार्यों के लिए 'टाइम मैगजीन' (TIME magazine) की पहली 'किड ऑफ द इयर' के रूप में नामित किया गया है।

  • गीतांजलि ने प्रौद्योगिकी का उपयोग कर दूषित पेयजल से लेकर अफीम की लत और साइबरबुलिंग (cyberbullying) जैसे मुद्दों से निपटने के मामले में शानदार कार्य किया है।
  • कोलोरैडो निवासी गीतांजलि एक प्रतिभाशाली युवा वैज्ञानिक और आविष्कारक हैं।
  • उन्हें 5,000 उम्मीदवारों में से चुना गया और अकादमी पुरस्कार विजेता हॉलीवुड अभिनेत्री एंजेलिना जोली द्वारा TIME के लिए उनका साक्षात्कार लिया गया।
  • 11 साल की उम्र में, राव ने 'डिस्कवरी एजुकेशन 3M साइंटिस्ट चैलेंज' (Discovery Education 3M Scientist Challenge) जीता था और उनके नवाचारों के लिए फोर्ब्स ने उन्हें '30 अंडर 30' सूची में शामिल किया था।
  • उनकी नवीनतम खोज कृत्रिम बुद्धिमत्ता प्रौद्योगिकी पर आधारित 'काइंडली' (Kindly) नामक एक ऐप है, जिससे शुरुआती अवस्था में ही साइबरबुलिंग का पता लगाया जा सकता है।
  • गीतांजलि ने 'टेथिस' (Tethys) नामक एक एप्लिकेशन विकसित किया है, जो कार्बन नैनोट्यूब की सहायता से पानी में सीसा संदूषण (lead contamination) की जांच कर सकता है।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप पुरस्कार/सम्मान

महाराष्ट्र के रंजीत सिंह दिसाले को ग्लोबल टीचर पुरस्कार 2020


3 दिसंबर, 2020 को महाराष्ट्र के सोलापुर जिले के एक प्राथमिक स्कूल के शिक्षक रंजीत सिंह दिसाले ने एक मिलियन डॉलर राशि का ‘ग्लोबल टीचर पुरस्कार 2020’ (Global Teacher Prize 2020) जीता।

  • उन्हें लड़कियों की शिक्षा को बढ़ावा देने और भारत में एक त्वरित प्रतिक्रिया (क्यूआर) कोडित पाठ्यपुस्तक क्रांति शुरू करने के उनके प्रयासों के लिए सम्मानित किया गया।
  • यह पुरस्कार लंदन स्थित वर्की फाउंडेशन द्वारा स्थापित किया गया था और यूनेस्को के साथ साझेदारी में दिया गया है।
  • सोलापुर जिले के पारितेवाडी के जिला परिषद स्कूल के 32 वर्षीय शिक्षक रंजीत सिंह दिसाले ने पुरस्कार राशि का आधा हिस्सा प्रतियोगिता में हिस्सा लेने वाले अन्य नौ शिक्षकों को देने की घोषणा की है, जिससे वे अपने बेहतर काम को जारी रख सकें।
  • दिसाले को 'वर्ष 2016 के अभिनव शोधकर्ता' (Innovative Researcher of the Year 2016) के रूप में नामित किया गया था।
  • माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्य नडेला ने अपनी पुस्तक 'हिट रिफ्रेश' में रंजीत सिंह के काम को भारत की तीन कहानियों में से एक के रुप में चुना है।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन दिवस


7 दिसंबर

2020 का विषय: 'वैश्विक विमानन विकास के लिए नवाचार को आगे बढ़ाना' (Advancing Innovation for Global Aviation Development)

महत्वपूर्ण तथ्य: इस दिवस का उद्देश्य सामाजिक और आर्थिक विकास के लिए अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन के महत्व के बारे में दुनिया भर में जागरूकता पैदा करना है।

  • 1944 में, शिकागो में 54 देशों के प्रतिनिधियों ने ‘अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संबंधित अभिसमय’ पर हस्ताक्षर किए, जिसे 'शिकागो कन्वेंशन' के रूप में भी जाना जाता है।
  • इस दिवस की स्थापना 1994 में अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन की 50वीं वर्षगांठ गतिविधियों के हिस्से के रूप में की गई थी।

सामयिक खबरें बिजनेस और सार्वजनिक उपक्रम

एसजेवीएन और इरेडा में समझौता


विद्युत मंत्रालय के तहत आने वाले सार्वजनिक उपक्रम एसजेवीएन ने 7 दिसंबर, 2020 को भारतीय अक्षय ऊर्जा विकास संस्था लिमिटेड (इरेडा) के साथ एक सहमति ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं।

  • नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय के तहत आने वाला सार्वजनिक उपक्रम इरेडा अगले पांच वर्षों के लिए हरित ऊर्जा परियोजनाओं के लिए एसजेवीएन को अपनी सेवाएं प्रदान करेगा।
  • वर्तमान में एसजेवीएन, गुजरात में 100 मेगावाट की धोलेरा सौर ऊर्जा परियोजना और 100 मेगावाट की राघनेस्दा सौर ऊर्जा परियोजना विकसित कर रहा है।
  • एसजेवीएन के सीएमडी (प्रमुख एवं प्रबंध निदेशक) नंदलाल शर्मा और इरेडा के सीएमडी प्रदीप कुमार दास हैं। इरेडा की स्थापना 11 मार्च, 1987 को हुई थी।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

आयुष निर्यात संवर्धन परिषद


वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय और आयुष मंत्रालय ने 4 दिसंबर, 2020 को ‘आयुष निर्यात संवर्धन परिषद’ की स्थापना का निर्णय लिया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह निर्णय ‘आयुष व्यापार और उद्योग’ की संयुक्त समीक्षा में वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल तथा आयुष मंत्री श्रीपद नाइक द्वारा लिया गया।

  • आयुष मंत्रालय और वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय मिलकर एक ‘आयुष निर्यात संवर्धन परिषद’ (AYUSH Export Promotion Council-AEPC) की स्थापना के लिए काम करेंगे। प्रस्तावित AEPC को आयुष मंत्रालय के तहत रखा जा सकता है।
  • आयुष के लिए एचएस कोड (Harmonized System code) का मानकीकरण शीघ्र किया जाएगा।
  • आयुष मंत्रालय, भारतीय मानक ब्यूरो (BIS) के साथ मिलकर आयुष उत्पादों के साथ-साथ विभिन्न सेवाओं के लिए अंतरराष्ट्रीय मानकों को विकसित करने के लिए काम करेगा।
  • आयुष उद्योग, आयुष उत्पादों की गुणवत्ता और मानकों को सुनिश्चित करने के साथ-साथ इन्हें मूल्य-प्रतिस्पर्धी बनाने पर भी काम करेगा। आयुष ‘ब्रांड इंडिया गतिविधियों’ (Brand India activities) में शामिल होगा।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

तकनीकी वस्त्र हेतु एक समर्पित निर्यात संवर्धन परिषद


दिसंबर 2020 में वस्त्र मंत्रालय ने तकनीकी वस्त्र के लिए एक समर्पित निर्यात संवर्धन परिषद के गठन हेतु प्रस्ताव आमंत्रित किए हैं।

महत्वपूर्ण तथ्य: तकनीकी वस्त्र के लिए निर्यात संवर्धन परिषद का गठन, ‘राष्ट्रीय तकनीकी वस्त्र मिशन’ का हिस्सा है।

  • फरवरी 2020 में तकनीकी वस्त्र क्षेत्र में भारत को वैश्विक रूप से अग्रणी स्थान दिलाने के लक्ष्य के साथ 1,480 करोड़ रुपए के कुल परिव्यय के साथ एक राष्ट्रीय तकनीकी वस्त्र मिशन स्थापित करने की मंजूरी दी गई थी।
  • मिशन की वित्तीय वर्ष 2020-21 से 2023-24 तक चार वर्ष की कार्यान्वयन अवधि होगी।

तकनीकी वस्त्र: तकनीकी वस्त्र वे वस्त्र सामग्री और उत्पाद हैं, जो खूबसूरती संबंधी विशेषताओं के बजाए मुख्य रूप से तकनीकी प्रदर्शन और कार्यात्मक गुणों के लिए बनाए जाते हैं।

  • तकनीकी वस्त्र उत्पादों को उनके इस्तेमाल के क्षेत्रों के आधार पर 12 व्यापक श्रेणियों एग्रोटेक, बिल्डटेक, क्लोथटेक, जियोटेक, होमटेक, इंडटेक, मोबिलटेक, मेडटेक, प्रोटेक, स्पोर्ट्सटेक, ओईटेक (पर्यावरण संरक्षण अनुप्रयोगों के लिए उत्पादित वस्त्र उत्पाद), पैकटेक में बांटा गया है।
  • तकनीकी वस्त्र, कृषि, सड़क, रेल पटरियों, स्पोर्ट्सवियर, स्वास्थ्य से लेकर बुलेट प्रूफ जैकेट, फायर प्रूफ जैकेट और स्पेस एप्लिकेशन जैसी कई चीजों के लिए इस्तेमाल किए जाते हैं।
  • भारत की 250 बिलियन डॉलर के विश्व बाजार में लगभग 6% हिस्सेदारी है। उन्नत देशों में 30-70% के मुकाबले भारत में तकनीकी वस्त्रों का प्रवेश स्तर 5-10% है जो कम है।

पीआईबी न्यूज विज्ञान और तकनीक

मिशन कोविड सुरक्षा


भारत सरकार ने 29 नवंबर, 2020 को ‘मिशन कोविड सुरक्षा - भारतीय कोविड-19 वैक्सीन विकास मिशन’ के लिए 900 करोड़ रुपये के तीसरे प्रोत्साहन पैकेज की घोषणा की।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह अनुदान, भारतीय कोविड -19 वैक्सीन के अनुसंधान और विकास के लिए जैव प्रौद्योगिकी विभाग (डीबीटी) को प्रदान किया जाएगा।

  • कोविड-19 वैक्सीन विकास मिशन पूर्व-नैदानिक विकास से नैदानिक विकास तक, विनिर्माण और विनियामक सुविधा के साथ तैनाती पर ध्यान केंद्रित करने के साथ, त्वरित उत्पाद विकास के लिए सभी उपलब्ध और वित्त पोषित संसाधनों को समेकित करेगा।
  • जैव प्रौद्योगिकी विभाग के नेतृत्व में और जैव प्रौद्योगिकी उद्योग अनुसंधान सहायता परिषद (बीआईआरएसी) की ‘समर्पित मिशन कार्यान्वयन इकाई’ द्वारा लागू इस मिशन को राष्ट्रीय जैव फार्मा मिशन (एनबीएम) और ‘इंड-सीईपीआई’ (India Centric Epidemic Preparedness- Ind-CEPI) मिशन की मौजूदा गतिविधियाँ पूरक मजबूती प्रदान करेंगी।

पीआईबी न्यूज पर्यावरण

पेरिस समझौते के कार्यान्वयन हेतु एक उच्च-स्तरीय समिति


दिसंबर 2020 में जलवायु परिवर्तन पर भारत की गंभीरता की पुष्टि करने वाले एक अन्य कदम में, पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय के सचिव की अध्यक्षता में पेरिस समझौते के कार्यान्वयन के लिए एक उच्च-स्तरीय (Apex Committee for Implementation of Paris Agreement- AIPA) अंतर-मंत्रालयी समिति का गठन किया गया है।

उद्देश्य: जलवायु परिवर्तन के मामलों पर एक समन्वित प्रतिक्रिया पैदा करना, जो यह सुनिश्चित करता हो, कि भारत राष्ट्रीय निर्धारित योगदान (एनडीसी) सहित पेरिस समझौते के तहत अपने दायित्वों को पूरा करने की दिशा में अग्रसर है।

महत्वपूर्ण तथ्य: चौदह मंत्रालयों के वरिष्ठ अधिकारी, AIPA के सदस्य के रूप में काम करेंगे, जो भारत के एनडीसी के कार्यान्वयन में प्रगति की निगरानी करेंगे।

AIPA के अन्य महत्वपूर्ण कार्य: पेरिस समझौते के अनुच्छेद 6 के तहत भारत में कार्बन बाजारों को विनियमित करने के लिए एक राष्ट्रीय प्राधिकरण के रूप में काम करना;

  • पेरिस समझौते के अनुच्छेद 6 के तहत परियोजनाओं या गतिविधियों पर विचार करने के लिए दिशा-निर्देश तैयार करना;
  • जलवायु परिवर्तन और एनडीसी पर असर डालने वाले कार्बन मूल्य निर्धारण, बाजार तंत्र और अन्य साधनों पर दिशा-निर्देश जारी करना।

सामयिक खबरें आर्थिकी

भारत में तस्करी रिपोर्ट 2019-20


केंद्रीय वित्त और कॉर्पोरेट मामलों की मंत्री निर्मला सीतारमण ने 4 दिसंबर, 2020 को राजस्व खुफिया निदेशालय (डीआरआई) के 63वें स्थापना दिवस के अवसर पर 'भारत में तस्करी रिपोर्ट 2019-20' जारी की।

महत्वपूर्ण तथ्य: इस रिपोर्ट में सोना, विदेशी मुद्रा, मादक पदार्थों, सुरक्षा, पर्यावरण और वाणिज्यिक धोखाधड़ी पर संगठित तस्करी का विश्लेषण किया गया है।

  • 2019-20 में, डीआरआई ने 837 आर्थिक अपराधियों को गिरफ्तार किया और 2,183 करोड़ रुपए की सीमा शुल्क चोरी के 761 जटिल मामलों का खुलासा किया।
  • इसने तस्करी के 412 मामलों का भी पता लगाया, जिसके कारण 1,949 करोड़ रुपए की निषिद्ध संपत्ति जब्त हुई।
  • उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र, तेलंगाना और तमिलनाडु में 2019-20 के दौरान सबसे ज्यादा मादक पदार्थों की बरामदगी हुई है।
  • डीआरआई ने पिछले महीने तीन दिन चले 'ऑपरेशन कैलीप्सो' (operation Calypso) के तहत अंतरराष्ट्रीय मादक पदार्थ तस्करी के रैकेट का भंडाफोड़ किया, जिसमें 3.3 किग्रा. कोकीन जब्त की गई थी।

अन्य तथ्य: डीआरआई कोचीन जोनल यूनिट के 'नजीमुद्दीन टी एस' और डीआरआई जयपुर द्वारा दर्ज एक मामले में स्वतंत्र गवाह 'सुमेर सेन' को बहादुरी पुरस्कार दिया गया।

  • भारतीय राजस्व सेवा (सीमा शुल्क और केंद्रीय उत्पाद शुल्क) के 1961 बैच के अधिकारी ‘बी. शंकरन’ को विशिष्ट और प्रतिबद्ध सेवा के लिए ‘डीआरआई उत्कृष्ट सेवा सम्मान 2020’ से सम्मानित किया गया।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप निधन

लक्षद्वीप के प्रशासक दिनेश्वर शर्मा का निधन


लक्षद्वीप के प्रशासक और पूर्व आसूचना ब्यूरो (Intelligence Bureau-IB) प्रमुख दिनेश्वर शर्मा का 4 दिसंबर, 2020 को चेन्नई में निधन हो गया। वे 66 वर्ष के थे।

  • बिहार से ताल्लुक रखने वाले शर्मा 1979 बैच के भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारी थे। वे 2014 से 2016 तक आईबी निदेशक रहे।
  • 2016 में उनकी सेवानिवृत्ति के बाद, सरकार ने उन्हें अक्टूबर 2017 में जम्मू और कश्मीर के लिए केंद्र के वार्ताकार के रूप में नियुक्त किया था।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप अभियान/सम्मेलन/आयोजन

भारतीय नौसेना और रूसी नौसेना का ‘पासेज अभ्यास’


4 से 5 दिसंबर, 2020 के बीच भारतीय नौसेना ने रूसी फेडरेशन नेवी के साथ पूर्वी हिंद महासागर क्षेत्र) में ‘पासेज अभ्यास- पासेक्स’ (PASSEX) में हिस्सा लिया।

उद्देश्य: दोनों मित्र देशों की नौसेनाओं के बीच पारस्परिकता बढ़ाना, तालमेल को बेहतर करना और बेहतरीन कार्य-प्रणाली को अपनाना।

  • इस अभ्यास में पनडुब्बी-रोधी और सतह के उन्नत युद्ध अभ्यास, हथियारों से फायरिंग, नाविक कला का अभ्यास और हेलिकॉप्टर संचालन शामिल था।
  • पासेक्स का आयोजन नियमित रूप से भारतीय नौसेना द्वारा अपने मित्र देशों की नौसेनाओं के साथ किया जाता है, जिसमें वह एक-दूसरे के बंदरगाहों पर जाते हैं या समुद्र में किसी निश्चित स्थान पर मिलते हैं।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

आर्थिक और सामाजिक विकास के लिए अंतरराष्ट्रीय स्वयंसेवक दिवस


5 दिसंबर

2020 का विषय: 'टुगैदर वी कैन थ्रू वालंटियरिंग' (Together We Can Through Volunteering)।

महत्वपूर्ण तथ्य: इसे प्रायः अंतरराष्ट्रीय स्वयंसेवक दिवस के रूप में भी जाना जाता है।

  • यह दिवस स्वेच्छाचारिता (volunteerism) को बढ़ावा देने, सरकारों को स्वयंसेवी प्रयासों का समर्थन करने और स्थानीय, राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सतत विकास लक्ष्यों (एसडीजी) की उपलब्धि में स्वयंसेवी योगदान को मान्यता देने का अवसर प्रदान करता है।
  • संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा 17 अगस्त, 1985 को एक संकल्प के माध्यम से आर्थिक और सामाजिक विकास के लिए अंतरराष्ट्रीय स्वयंसेवक दिवस को अपनाया गया था।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

विश्व मृदा दिवस


5 दिसंबर

2020 का अभियान: 'मृदा को जीवित रखें, मृदा जैव विविधता की रक्षा करें' (Keep soil alive, protect soil biodiversity)

महत्वपूर्ण तथ्य: यह दिवस स्वस्थ मृदा के महत्व पर ध्यान केंद्रित करने और मृदा संसाधनों के सतत प्रबंधन की वकालत करने हेतु आयोजित किया जाता है।

  • 2002 में अंतरराष्ट्रीय मृदा विज्ञान संघ (IUSS) द्वारा मृदा के लिए एक अंतरराष्ट्रीय दिवस की सिफारिश की गई थी।
  • दिसंबर 2013 में, संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 5 दिसंबर, 2014 को पहले आधिकारिक विश्व मृदा दिवस के रूप में नामित किया था।

सामयिक खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

एम वी अय्यर गेल के व्यवसाय विकास निदेशक


25 नवंबर, 2020 को एम वी अय्यर गेल (इंडिया) लिमिटेड के व्यवसाय विकास निदेशक के रूप में शामिल हुए हैं। इससे पहले, वह कंपनी के साथ कार्यकारी निदेशक (परियोजना) के रूप में काम कर रहे थे।

  • अय्यर का गेल में 40,000 करोड़ लागत की परियोजनाओं के निष्पादन का 33 साल का अनुभव है। इनमें 16 राज्यों में 25,000 करोड़ रुपये की मौजूदा परियोजनाएं और छ: शहरों में सिटी गैस डिस्ट्रीब्यूशन (सीजीडी) परियोजनाएं भी शामिल हैं।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

निसर्ग ग्राम


आयुष मंत्रालय ने पुणे में 'निसर्ग ग्राम' परिसर को प्राकृतिक चिकित्सा (नेचुरोपैथी) के 21वीं शताब्दी के आवास के रूप में विकसित करने की घोषणा की है।

महत्वपूर्ण तथ्य: पुणे के पास उरुली कंचन गांव में ‘निसर्ग उपचार’ आश्रम में महात्मा गाँधी के 1946 के प्रसिद्ध प्राकृतिक उपचार अभियान की याद दिलाते हुए, राष्ट्रीय प्राकृतिक चिकित्सा संस्थान (एनआईएन), पुणे के आगामी नए परिसर को ‘निसर्ग ग्राम’ कहा जाएगा।

  • बापू भवन में स्थित एनआईएन के वर्तमान परिसर से 15 किमी. की दूरी पर स्थित नया संस्थान भविष्य के लिए तैयार होगा, जिसमें परियोजना में और प्राकृतिक उपचार पाठ्यक्रमों के करिक्युलम में में कई नयी चीजें और नवोन्मेष शामिल होंगे।

राष्ट्रीय प्राकृतिक चिकित्सा संस्थान: एनआईएन, पुणे, आयुष मंत्रालय के अधीन एक स्वायत्त निकाय है।

  • संस्थान को ‘ऑल इंडिया नेचर क्योर फाउंडेशन’ कहा जाता था और 1945 में महात्मा गांधी के नेतृत्व में उसी परिसर में स्थापित किया गया था, जहां इस समय एनआईएन काम करता है।
  • बाद में इसे केंद्र सरकार ने अपने अधीन ले लिया और इसे वर्तमान राष्ट्रीय प्राकृतिक चिकित्सा संस्थान का रूप दिया गया।

पीआईबी न्यूज पर्यावरण

इंडस्ट्रीज ट्रां​जिशन लीडरशिप शिखर सम्मेलन


लीडरशिप ग्रुप फॉर इंडस्ट्री ट्रांजिशन- लीडआईटी (Leadership Group for Industry Transition-LeadIT) द्वारा 1 दिसंबर, 2020 को ‘इंडस्ट्रीज ट्रांजिशन लीडरशिप शिखर सम्मेलन’ (Industry transition leadership summit) का आयोजन किया गया।

उद्देश्य: पेरिस समझौते के पांच साल पूरे होने के उपलक्ष्य में उद्योगों को कम कार्बन उत्सर्जन वाले उपक्रमों में बदलने की प्रक्रिया में तेजी लाना।

  • वर्चुअल माध्यम से आयोजित इस शिखर सम्मेलन के दौरान उद्योगों को ज्यादा से ज्यादा पर्यावरण अनुकूल बनाने के लिए बाकायदा इसे एक व्यावसायिक रूप देने के लिए आवश्यक प्रौद्योगिकी अपनाए जाने के मुद्दों पर प्रकाश डाला गया।
  • ‘लीडआईटी’ का शुभारंभ भारत और स्वीडन द्वारा विश्व आर्थिक मंच के साथ 2019 में ‘संयुक्त राष्ट्र महासचिव जलवायु परिवर्तन शिखर सम्मेलन’ के मौके पर स्टॉकहोम पर्यावरण संस्थान के समर्थन से किया गया था।
  • वर्तमान में 13 देश और भारत की डालमिया सीमेंट, महिंद्रा समूह और स्पाइसजेट सहित 15 कंपनियां इसके सदस्य हैं, जो कम कार्बन उत्सर्जन के प्रति प्रतिबद्ध हैं।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

विश्‍व मलेरिया रिपोर्ट 2020


30 नवंबर, 2020 को विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा जारी विश्व मलेरिया रिपोर्ट 2020 के अनुसार भारत ने मलेरिया के मामलों में कमी लाने के काम में प्रभावी प्रगति की है।

महत्वपूर्ण तथ्य: भारत इस बीमारी से प्रभावित वह अकेला देश है, जहां 2018 के मुकाबले 2019 में इस बीमारी के मामलों में 17.6% की कमी दर्ज की गई।

एनुअल पैरासिटिक इंसीडेंस (Annual Parasitic Incidence- API): भारत का API 2017 के मुकाबले 2018 में 27.6% तथा 2018 के मुकाबले 2019 में 18.4%; भारत द्वारा वर्ष 2012 से एपीआई को 1 से भी कम पर बरकरार।

मलेरिया के मामले: भारत ने मलेरिया के क्षेत्रवार मामले में सबसे बड़ी गिरावट दर्ज की, जो 20 मिलियन से घटकर करीब 6 मिलियन हो गई। वर्ष 2000 से 2019 के बीच मलेरिया के मामलों में 71.8% और मौत के मामलों में 73.9% की गिरावट।

  • भारत द्वारा वर्ष 2000 और 2019 के बीच मलेरिया के रोगियों की संख्या (malaria morbidity) में 83.34% की कमी और मलेरिया से होने वाली मौतों के मामलों (malaria mortality) में 92% की कमी दर्ज की गई, जिससे सहस्राब्दि विकास लक्ष्यों में से ‘छठे लक्ष्य’ (वर्ष 2000- 2019 के बीच मलेरिया के मामलों में 50-75% की गिरावट लाना) को हासिल कर लिया है।
  • वर्ष 2019 में ओडिशा, छत्तीसगढ़, झारखंड, मेघालय और मध्य प्रदेश राज्यों में मलेरिया के कुल मामलों के करीब 45.47% मामले दर्ज हुए। इन्हीं राज्यों से 63.64% मौतें भी दर्ज हुईं।

अन्य तथ्य: मलेरिया के अधिक जोखिम वाले 11 देशों में शुरू विश्व स्वास्थ्य संगठन की ‘उच्च जोखिम और उच्च प्रभाव’ पहल को भारत के चार राज्यों पश्चिम बंगाल, झारखंड, छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश में शुरू किया गया है।

  • 2016 में स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने ‘नेशनल फ्रेमवर्क फॉर मलेरिया एलिमिनेशन’(एनएफएमई) की शुरुआत की तथा जुलाई 2017 में मलेरिया उन्मूलन के लिए एक राष्ट्रीय रणनीतिक योजना 2017- 2022 की शुरुआत की गई।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

भारत के शीर्ष दस पुलिस थाने


3 दिसंबर को केंद्रीय गृह मंत्रालय द्वारा वर्ष 2020 के लिए भारत के शीर्ष 10 पुलिस थानों की घोषणा की गई।

महत्वपूर्ण तथ्य: भारत सरकार हर वर्ष देश भर में सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाले पुलिस थानों का चयन करती है, ताकि उनके काम-काज को प्रभावी बनाने की दिशा में प्रोत्साहित कर उनके बीच स्वस्थ प्रतिस्पर्धा विकसित की जा सके।

  • यह सूची कच्छ, गुजरात में 2015 के पुलिस महानिदेशक (DGP) सम्मेलन को संबोधित करते हुए प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देशों के अनुरूप थी।
  • वर्ष 2020 के लिए भारत के शीर्ष 10 पुलिस थाने हैं:
रैंक थाना जिला राज्य
1 नोंगपोसेक्मी थौबल मणिपुर
2 एडब्ल्यूपीएस-सुरामंगलम सलेम तमिलनाडु
3 खारसांग चांगलांग अरुणाचल प्रदेश
4 झिलमिल सूरजपुर छत्तीसगढ़
5 संगुइम दक्षिण गोवा गोवा
6 कालीघाट उत्तर और मध्य अंडमान अंडमान और निकोबार द्वीप समूह
7 पाक्योंग पूर्वी जिला सिक्किम
8 कंठ मुरादाबाद उत्तर प्रदेश
9 खानवेल दादरा और नगर हवेली दादरा और नगर हवेली
10 जम्मीकुंटा टाउन करीमनगर तेलंगाना

सामयिक खबरें सार-संक्षेप निधन

महाशय धर्मपाल गुलाटी का निधन


देश की दिग्गज मसाला कंपनी महाशियां दी हट्टी (MDH) के मालिक और 'ग्रैंड ओल्ड मैन ऑफ स्पाइसेज' महाशय धर्मपाल गुलाटी का 3 दिसंबर, 2020 को दिल्ली के एक अस्पताल में निधन हो गया। वे 97 वर्ष के थे।

  • गुलाटी का जन्म 27 मार्च, 1923 को सियालकोट (पाकिस्तान) में हुआ था। उन्हें 'मसालों के बादशाह' (King of Spices) के नाम से भी जाना जाता है।
  • MDH की स्थापना उनके दिवंगत पिता महाशय चुन्नी लाल गुलाटी ने की थी।
  • कक्षा पांचवीं तक पढ़े गुलाटी को दुनिया का सबसे उम्रदराज ऐड स्टार माना जाता था। वे FMCG सेक्टर में सबसे अधिक कमाई करने वाले सीईओ थे, वे 2018 में 25 करोड़ रुपये से ऊपर का वेतन ले रहे थे।
  • गुलाटी को 2019 में देश के तीसरे सबसे बड़े नागरिक पुरस्कार, पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

नौसेना दिवस


4 दिसंबर

महत्वपूर्ण तथ्य: इसी दिन, भारत को 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध के दौरान निर्णायक जीत हासिल हुई थी, जब भारतीय नौसेना की मिसाइल बोट्स ने ‘ऑपरेशन ट्राइडेंट’ के तहत कराची में पाकिस्तान के जलपोतों, तेल भंडारों तथा समुद्री रक्षा ठिकानों पर सफलतापूर्वक अपनी मिसाइलें दागी थीं। 1971 की लड़ाई में भारतीय नौसेना ने युद्ध सामग्री और अन्य संबंधित सामान ले जा रहे कई पाकिस्तानी जलपोतों को डुबा दिया था।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

अंतरराष्ट्रीय बैंक दिवस


4 दिसंबर

महत्वपूर्ण तथ्य: संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा 19 दिसंबर, 2019 को अपनाए गए प्रस्ताव के जरिए 4 दिसंबर को अंतरराष्ट्रीय बैंक दिवस के रूप में घोषित किया गया था। सतत विकास के वित्तपोषण में बहुपक्षीय विकास बैंकों और अन्य अंतरराष्ट्रीय विकास बैंकों की महत्वपूर्ण क्षमता और सदस्य देशों में जीवन स्तर सुधार में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाली बैंकिंग प्रणालियों को मान्यता देने के लिए यह दिवस मनाया जाता है।

सामयिक खबरें बिजनेस और सार्वजनिक उपक्रम

आईसीआईसीआई लोम्बार्ड द्वारा भारती एक्सा अधिग्रहण को मंजूरी


भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई) ने प्रतिस्पर्धा अधिनियम, 2002 की धारा 31 (1) के तहत आईसीआईसीआई लोम्बार्ड जनरल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड (आईसीआईसीआई लोम्बार्ड) द्वारा भारती एक्सा जनरल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड (भारती एक्सा) के सामान्य बीमा व्यवसाय के अधिग्रहण को 2 नवंबर, 2020 को मंजूरी दी।

  • आईसीआईसीआई लोम्बार्ड एक सामान्य बीमा कंपनी है, जो कई वितरण चैनलों के माध्यम से वाहन, स्वास्थ्य, और देयता बीमा सहित सामान्य बीमा उत्पादों की एक व्यापक और विविधतापूर्ण श्रंखला प्रदान करता है।
  • भारती एक्सा एक सामान्य बीमा कंपनी है और यह भारती जनरल वेंचर्स प्राइवेट लिमिटेड (51%) और सोसाइटी ब्यूजन (49%) का संयुक्त उद्यम है।

सामयिक खबरें संस्थान-संगठन

एशिया-प्रशांत आर्थिक सहयोग


20 नवंबर, 2020 को एशिया-प्रशांत आर्थिक सहयोग (Asia-Pacific Economic Cooperation– APEC) फोरम की बैठक का आयोजन मलेशिया की मेजबानी में ऑनलाइन किया गया।

2020 फोरम का विषय: Optimising Human Potential Towards a Resilient Future of Shared Prosperity: Pivot. Prioritise. Progress.

  • एशिया-प्रशांत आर्थिक सहयोग (APEC), वर्ष 1989 में स्थापित एशिया-प्रशांत क्षेत्र में देशों के मध्य बढ़ती हुई परस्पर निर्भरता का लाभ उठाने के लिए एक क्षेत्रीय आर्थिक मंच है।
  • इसका उद्देश्य संतुलित, समावेशी, सतत, अभिनव और सुरक्षित विकास को बढ़ावा देकर और क्षेत्रीय आर्थिक एकीकरण में तीव्रता लाकर क्षेत्र के लोगों को समृद्ध करना है।
  • APEC एशिया-प्रशांत के सभी निवासियों के लिए वृद्धिशील अर्थव्यवस्था में भागेदारी हेतु सहायता प्रदान करने का कार्य करता है तथा यह सुनिश्चित करता है कि सामान, सेवाएँ, निवेश और लोगों के लिए सीमा-पारगमन में आसानी हो।
  • APEC में 21 राष्ट्र ऑस्ट्रेलिया, ब्रुनेई दारुस्सलाम, कनाडा, चिली, पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना, हांगकांग- चीन, इंडोनेशिया, जापान, कोरिया गणराज्य, मलेशिया, मेक्सिको, न्यूजीलैंड, पापुआ न्यू गिनी, पेरू, फिलीपींस, रूसी संघ, सिंगापुर, चीनी-ताइपेई, थाईलैंड, संयुक्त राज्य अमेरिका, वियतनाम शामिल हैं। एपेक का मुख्यालय सिंगापुर में स्थित है।

सामयिक खबरें इन्हें भी जानें

'नेगेटिव यील्ड बॉण्ड' (Negative-yield Bonds)


  • 'नेगेटिव यील्ड बॉण्ड' एक ऐसे ऋण साधन हैं, जो निवेशक को बॉण्ड की खरीद मूल्य से कम परिपक्वता राशि का भुगतान करने की पेशकश करते हैं।
  • ये आम तौर पर केंद्रीय बैंकों या सरकारों द्वारा जारी किए जाते हैं, और निवेशक अपने पैसे को उधारकर्ता के पास रखने के लिए उधारकर्ता को ब्याज देते हैं।
  • 'नेगेटिव यील्ड बॉण्ड’ तनाव और अनिश्चितता के समय निवेश को आकर्षित करते हैं क्योंकि निवेशक अपनी पूंजी को महत्वपूर्ण क्षरण से बचाने का प्रयास करते हैं।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

विश्व स्तरीय प्रीमियम-ग्रेड पेट्रोल ‘ऑक्टेन 100’


इंडियन ऑयल ने 1 दिसंबर, 2020 को देश में विश्व स्तरीय प्रीमियम-ग्रेड पेट्रोल ‘ऑक्टेन 100’ के उपयोग का शुभारंभ किया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: केन्द्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस और इस्पात मंत्री धर्मेंद्र प्रधान द्वारा ‘एक्सपी 100’ (XP100) के रूप में ब्रांडेड इस प्रीमियम ग्रेड पेट्रोल का दस शहरों में उपयोग के लिए शुभारंभ किया गया।

  • भारत के पहले ऑक्टेन-100 पेट्रोल के लिए प्रौद्योगिकी को इंडियन ऑयल शोध एवं विकास टीम द्वारा विकसित किया गया है।
  • इंडियन ऑयल ने दो चरणों में देश के 15 शहरों में एक्सपी-100 प्रीमियम ग्रेड पेट्रोल की सुविधा प्रदान करने की योजना बनाई है।
  • प्रथम चरण में यह दिल्ली, गुड़गांव, नोएडा, आगरा, जयपुर, चंडीगढ़, लुधियाना, मुंबई, पुणे और अहमदाबाद में चुनिंदा स्थानों पर 1 दिसंबर, 2020 से उपलब्ध कराया गया है।
  • दूसरे चरण में इसकी उपलब्धता चेन्नई, बेंगलुरु, हैदराबाद, कोच्चि और कोलकाता शहरों तक बढ़ाई जाएगी।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

रामायण क्रूज टूर


केन्द्रीय पत्तन, पोत परिवहन एवं जलमार्ग मंत्री मनसुख मांडविया ने 1 दिसंबर, 2020 को अयोध्या में सरयू नदी पर 'रामायण क्रूज टूर' (Ramayan Cruise Tour) शुरू करने की घोषणा की।

उद्देश्य: पवित्र सरयू नदी के प्रसिद्ध घाटों की यात्रा करते हुए श्रद्धालुओं को एक तरह की आध्यात्मिक यात्रा का अनुभव प्रदान करना।

  • यह उत्तर प्रदेश के अयोध्या में सरयू नदी (घाघरा / राष्ट्रीय जलमार्ग- 40) पर पहली लक्जरी क्रूज सेवा होगी।
  • पर्यटकों को 1-1.5 घंटे की अवधि के 'रामचरितमानस टूर' पर ले जाया जाएगा। यात्रा के दौरान गोस्वामी तुलसीदास के रामचरितमानस पर आधारित विशेष रूप से बनाई गई वीडियो फिल्म दिखाई जायेगी, जिसमें भगवान राम के जन्म से लेकर उनके राज्याभिषेक तक की कथा होगी।
  • अयोध्या भगवान राम की जन्मभूमि है, जैसा महान भारतीय महाकाव्य रामायण में वर्णित है। यह हिंदुओं के लिए सात सबसे महत्वपूर्ण तीर्थस्थलों (मोक्षदायिनी सप्त पुरियों) में से पहला है।

सामयिक खबरें विज्ञान-पर्यावरण

वैश्विक नवाचार और प्रौद्योगिकी गठबंधन


26 नवंबर 2020 को 'वैश्विक नवाचार और प्रौद्योगिकी गठबंधन' (Global Innovation & Technology Alliance- GITA) का 9वां स्थापना दिवस 'आत्मनिर्भर भारत' विषय के साथ मनाया गया।

महत्वपूर्ण तथ्य: 'वैश्विक नवाचार और प्रौद्योगिकी गठबंधन एक 'नॉट-फॉर-प्रॉफिट' (not–for–profit) सेक्शन- 8 सार्वजनिक-निजी भागीदारी (PPP) कंपनी है।

  • इसे विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) के तहत प्रौद्योगिकी विकास बोर्ड और भारतीय उद्योग परिसंघ (CII) द्वारा संयुक्त रूप से प्रवर्तित (promoted) किया गया है।
  • व्यापार और उद्योग पर प्रधानमंत्री परिषद ने 2010 में, वैश्विक साझेदारों के साथ अनुसंधान और विकास के लिए उद्योग को लचीलापन प्रदान करने के लिए सरकारी निधियों को पेशेवर रूप से प्रबंधित करने के लिए पीपीपी मोड के तहत सरकार की इस इकाई की सिफारिश की थी।
  • GITA मंच नवीन प्रौद्योगिकी समाधानों में निम्न के द्वारा औद्योगिक निवेश को प्रोत्साहित करता है-
  1. प्रौद्योगिकी अंतराल का मानचित्रण;
  2. दुनिया भर में उपलब्ध तकनीकों का विशेषज्ञ द्वारा मूल्यांकन;
  3. भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए उपयुक्त तकनीकी-रणनीतिक सहयोगी भागीदारी (techno–strategic collaborative partnerships) की सुविधा;
  4. सहक्रियात्मक संबंधों के लिए औद्योगिक और संस्थागत भागीदारों को जोड़ना।
  • GITA के माध्यम से डीएसटी दुनिया के कुछ सबसे विकसित राष्ट्रों जैसे इजरायल, कोरिया, कनाडा, फिनलैंड, इटली, स्पेन और यूके के साथ द्विपक्षीय औद्योगिक अनुसंधान एवं विकास परियोजनाओं के कार्यान्वयन में शामिल रहा है।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित स्थल

प्यूर्टो रिको


दस वर्षों में तीसरी बार, संयुक्त राज्य अमेरिका के प्यूर्टो रिको क्षेत्र ने राज्य का दर्जा दिए जाने के पक्ष में मतदान किया गया है।

  • प्यूर्टो रिको स्पेनिश भाषी द्वीप है, जो अमेरिका के फ्लोरिडा राज्य से लगभग 1,600 किमी. दक्षिण-पूर्व में कैरिबियन सागर में स्थित है।
  • 1493 में क्रिस्टोफर कोलंबस द्वारा खोज किये जाने के बाद से, प्यूर्टो रिको 4 शताब्दियों तक स्पेनिश साम्राज्य का एक हिस्सा था, वर्ष 1898 में संयुक्त राज्य द्वारा इसका आधिपत्य कर लिया गया था।
  • वर्ष 1917 में, प्यूर्टो रिको के निवासियों को अमेरिकी नागरिकता प्रदान की गई थी, लेकिन इस द्वीप को कभी भी पूर्ण राज्य नहीं बनाया गया था, और गुआम, उत्तरी मैरियाना द्वीप समूह, अमेरिकी समोआ और यूएस वर्जिन द्वीप समूह सहित एक ‘अमेरिकी क्षेत्र’ (US territory) बना हुआ है।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप पुरस्कार/सम्मान

राष्ट्रीय जल पुरस्कार 2019


  • जल शक्ति मंत्रालय द्वारा नवंबर 2020 में दूसरे राष्ट्रीय जल पुरस्कार 2019 प्रदान किए गए।
  • प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान के लिए ‘सर्वश्रेष्ठ राज्य पुरस्कार’ क्रमश: तमिलनाडु, महाराष्ट्र और राजस्थान को दिए गए।
  • मिजोरम ने ‘विशेष श्रेणी’ के राज्यों में पहला पुरस्कार जीता।
  • सर्वश्रेष्ठ जिला पुरस्कार को छ: क्षेत्रों, उत्तर, दक्षिण, पश्चिम, पूर्व, पूर्वोत्तर और आकांक्षी और दो उप- श्रेणियों ‘नदियों का पुनरुद्धार’ और ‘जल संरक्षण’ में विभाजित किया गया था।
  • उत्तर में, नदियों और जल संरक्षण के पुनरुद्धार में सर्वश्रेष्ठ जिले का पुरस्कार अयोध्या और अल्मोड़ा को; दक्षिण में, वेल्लोर और वाईएसआर कडप्पा को; पश्चिम में, सांगली और कच्छ को; पूर्व में बिलासपुर और सूरजपुर को; पूर्वोत्तर में पश्चिम त्रिपुरा (डब्ल्यूसी) को और आकांक्षी जिले की श्रेणी में क्रमशः खंदाना और विजयनगरम को दिए गये।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप युद्धाभ्यास/सैन्य अभियान

27वां भारत-सिंगापुर द्विपक्षीय समुद्री अभ्यास सिम्बेक्स-20


भारतीय नौसेना ने अंडमान सागर में 23 से 25 नवंबर, 2020 तक 27वें भारत-सिंगापुर द्विपक्षीय समुद्री अभ्यास ‘सिम्बेक्स-20’ (SIMBEX-20) की मेजबानी की।

उद्देश्य: आपसी अंतर-संचालन को बढ़ाना और एक-दूसरे की सर्वोत्तम प्रथाओं को सीखना।

  • यह अभ्यास भारतीय नौसेना और रिपब्लिक ऑफ सिंगापुर नेवी (आरएसएन) के बीच 1994 से प्रतिवर्ष आयोजित किया जाता है।
  • सिम्बेक्स-2020 में ‘चेतक’ हेलीकॉप्टर के साथ विध्वंसक ‘राणा’ और स्वदेश निर्मित लड़ाकू जलपोत कामोर्टा (Kamorta) व करमुक (Karmuk) समेत भारतीय नौसेना के जहाज शामिल हुए। इसके अलावा, भारतीय नौसेना की पनडुब्बी ‘सिंधुराज’ और ‘समुद्री टोही विमान पी8आई’ ने भी इस अभ्यास में हिस्सा लिया।
  • ‘फॉर्मीडेबल’ (Formidable) श्रेणी के युद्ध-पोत ‘इंट्रेपीड’ (Intrepid) व ‘स्टेडफास्ट’ (Steadfast), एस70बी हेलीकॉप्टर तथा ‘एंड्योरेंस’ (Endurance) श्रेणी के लैंडिंग शिप टैंक ‘इनडेवीऑर’ (Endeavour) ने अभ्यास में आरएसएन का प्रतिनिधित्व किया।
  • सिम्बेक्स-20 में दो मित्र नौसेनाओं ने समुद्र में तीन दिनों के गहन संयुक्त अभियान में वेपन फायरिंग सहित उन्नत एंटी-एयर युद्धाभ्यास और एंटी-सबमरीन युद्धाभ्यास में भाग लिया।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप समझौते/संधि

भारतीय विज्ञान संस्‍थान और भारतीय तेल निगम


ईंधन सेल (Fuel cell) श्रेणी के सस्ते हाइड्रोजन के उत्पादन के लिए बेंगलुरु स्थित भारतीय विज्ञान संस्थान और भारतीय तेल निगम ने एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए हैं।

  • दोनों संस्थान बायोमास गैस आधारित हाइड्रोजन उत्पादन तकनीक का फरीदाबाद स्थित इंडियन ऑयल के अनुसंधान और विकास केन्द्र में प्रदर्शन करेंगे।
  • यह तकनीक इंडियन ऑयल द्वारा प्रस्तावित ईंधन सेल चालित बसों के लिए बेहद महत्वपूर्ण है क्योंकि इससे हाइड्रोजन के उपयोग को बढ़ावा मिलेगा।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

अंतरराष्ट्रीय दिव्यांग दिवस


3 दिसंबर

2020 का विषय: 'कोरोना महामारी के पश्चात विश्व को एक बार फिर बेहतर: दिव्यांग समावेशी, सुलभ बनाना' (Building Back Better: toward a disability-inclusive, accessible and sustainable post COVID-19 World)

महत्वपूर्ण तथ्य: इस दिवस का उद्देश्य समाज के सभी क्षेत्रों और विकास में दिव्यांगजनों के अधिकारों और सेहत को बढ़ावा देना और जागरूकता बढ़ाना है।

सामयिक खबरें राज्य असम

TX2 संरक्षण उत्कृष्टता पुरस्कार 2020


लगभग1,500 वर्ग किमी. में फैले भारत-भूटान सीमा के संरक्षण वाले क्षेत्र को 'TX2 संरक्षण उत्कृष्टता पुरस्कार 2020’ से सम्मानित किया गया है।

  • 'TX2' का अर्थ है 'टाइगर्स टाइम्स टू' जिसके तहत 2022 तक जंगली बाघों की आबादी को दोगुना करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।
  • यह सम्मान 'सीमापार मानस संरक्षण क्षेत्र' के लिए है, जिसमें असम में 500 वर्ग किमी. का मानस राष्ट्रीय उद्यान और 1,057 वर्ग किमी. भूटान का 'रॉयल मानस नेशनल पार्क' शामिल है।
  • भारत और भूटान 'TX2' की दिशा में प्रयास करने वाले 13 देशों में शामिल हैं, जिसे विश्व वन्यजीव कोष (डब्ल्यूडब्ल्यूएफ) ने 'ग्लोबल टाइगर इनिशिएटिव', 'ग्लोबल टाइगर फोरम' और अन्य महत्वपूर्ण प्लेटफार्मों के माध्यम से निर्धारित किया था।
  • भारतीय मानस उद्यान में बाघों की संख्या 2010 में 9 से बढ़कर 2018 में 25 हो गई, जबकि भूटान के मानस उद्यान में 2008 में 12 से बढ़कर 2018 में 26 हो गई।

सामयिक खबरें संस्थान-संगठन

अंतर संसदीय संघ


नवंबर 2020 में भारत के नियंत्रक और महालेखा परीक्षक, गिरीश चंद्र मुर्मू को तीन साल के कार्यकाल के लिए अंतर संसदीय संघ (IPU) का बाहरी लेखा परीक्षक चुना गया है।

  • अंतर संसदीय संघ (IPU) राष्ट्रीय संसदों का वैश्विक संगठन है। वर्ष 1889 में सांसदों के एक छोटे समूह द्वारा संसदीय कूटनीति और बातचीत के माध्यम से शांति को बढ़ावा देने के उद्देश्य से इसकी स्थापना की गयी थी।
  • इसमें विश्व के विभिन्न देशों की 179 संसदें, 13 सहयोगी सदस्य हैं। IPU का नारा है: ‘लोकतंत्र के लिए, सभी के लिए’ (For democracy. For everyone)।
  • इसका मुख्यालय जिनेवा, स्विट्जरलैंड में हैं।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

आयुष डे केयर थेरेपी केंद्र


2 दिसंबर, 2020 को स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा केंद्र सरकार के कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के लिए आयुर्वेद, योग और प्राकृतिक चिकित्सा प्रणालियों के तहत ‘डे केयर थेरेपी केन्द्र’ (Day Care Therapy Center) सुविधा के एक प्रस्ताव को मंजूरी दी गई।

उद्देश्य: स्वास्थ्य और सेहत में सुधार करना, स्वास्थ्य देखभाल व्यय को कम करना और रोगियों को सेवा वितरण, दक्षता और आराम प्रदान करना।

महत्वपूर्ण तथ्य: आयुर्वेद, योग और प्राकृतिक चिकित्सा के निजी डे केयर थेरेपी केंद्रों को जल्द ही केंद्र सरकार स्वास्थ्य योजना (सीजीएचएस) द्वारा प्रदान की जाने वाली ‘पारंपरिक (एलोपैथी) चिकित्सा के डे केयर थेरेपी केंद्र’ के समान सीजीएचएस के तहत सूचीबद्ध किया जाएगा।

  • सीजीएचएस के सभी लाभार्थी, साथ ही पेंशनभोगी इन केंद्रों का लाभ उठा सकेंगे।
  • डे केयर थेरेपी केंद्रों की प्रारंभिक सूची को एक साल के लिए दिल्ली और एनसीआर में प्रायोगिक आधार पर शुरू किया जाएगा और बाद में अन्य स्थानों के लिए भी विचार किया जाएगा।
  • आयुष डे केयर सेंटर में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी), प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (पीएचसी), औषधालय, क्लीनिक, पॉलीक्लिनिक या ऐसा कोई केंद्र जो स्थानीय प्राधिकरण और लागू होने वाली संस्थाओं से पंजीकृत हों, शामिल हैं।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

सशस्त्र बल ध्वज दिवस कोष


रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 2 दिसंबर, 2020 को जनता से 'सशस्त्र बल ध्वज दिवस कोष' (Armed forces Flag Day Fund- AFFDF) में सहयोग देने की अपील की।

  • भूतपूर्व सैनिकों के समुदाय (Ex-Servicemen Community) के कल्याण और पुनर्वास के लिए भारत सरकार द्वारा ‘सशस्त्र बल ध्वज दिवस कोष’ का गठन किया गया है। 32 लाख से अधिक भूतपूर्व सैनिक हैं और हर साल 60,000 सैनिक सेवानिवृत होने के चलते इसमें जुड़ जाते हैं।
  • इस वर्ष दिसंबर माह को सशस्त्र बलों और इसके वरिष्ठ सैनिकों के योगदान को सम्मानित करने के लिए ‘गौरव माह’ के रूप में मनाया जाएगा।
  • ‘सशस्त्र बल ध्वज दिवस कोष’ को केंद्रीय सैनिक बोर्ड द्वारा प्रशासनिक रूप से नियंत्रित किया जाता है। यह बोर्ड भारत सरकार की सर्वोच्च संस्था है, जो पूर्व सैनिकों और उनके आश्रितों के पुनर्वास और कल्याण के लिए नीतियां बनाती है।
  • सशस्त्र बल ध्वज दिवस देश भर में हर साल 7 दिसंबर को मनाया जाता है। 1949 के बाद से, यह दिवस देश के सम्मान की रक्षा के लिए शहीदों के साथ-साथ वर्दी में सेवा देने वाले पुरुषों और महिलाओं को समान रूप से सम्मानित करने के लिए मनाया जाता है।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

लोक विरासत


फिल्म प्रभाग (FD) द्वारा 27 से 29 नवंबर, 2020 तक लोक कला और चित्रकला पर फिल्मोत्सव 'लोक विरासत' का आयोजन किया गया।

प्रदर्शित की गई फिल्में: विभिन्न लोक कला परंपराओं पर ध्यान देने के साथ कला और संस्कृति की महान भारतीय विरासत पर 'किंगडम ऑफ गॉड';

  • गुजरात की एक लोक कला भवई पर एक फिल्म 'भवई- फेडिंग मेमोरीज' (Bhavai - Fading Memories);
  • महाराष्ट्र के रत्नागिरि में प्रदर्शित प्राचीन लोक कला पर एक फिल्म 'नमन - खेले';
  • तथा पुरानी तमिल लोक कला को दर्शाती एक फिल्म 'थेरुकुथु: डांसिंग फॉर लाइफ' (Therukoothu : Dancing For Life)

सामयिक खबरें सार-संक्षेप अभियान/सम्मेलन/आयोजन

80वां अखिल भारतीय पीठासीन अधिकारी सम्मेलन


गुजरात के केवड़िया में 25-26 नवंबर, 2020 को 80वें अखिल भारतीय पीठासीन अधिकारी सम्मेलन का आयोजन किया गया।

सम्मेलन का विषय: विधायिका, कार्यपालिका और न्यायपालिका का सद्भावपूर्ण समन्वय- एक जीवंत लोकतंत्र की कुंजी।

  • 25 नवंबर को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सम्मेलन का उदघाटन किया।
  • अखिल भारतीय पीठासीन अधिकारी सम्मेलन की परम्परा वर्ष 1921 में प्रारंभ की गई थी।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

राष्ट्रीय प्रदूषण नियंत्रण दिवस


2 दिसंबर

2020 का विषय: प्रदूषण नियंत्रण उपायों के महत्व के बारे में जागरूकता बढ़ाना और प्रदूषण को रोकने के लिए लोगों को शिक्षित करना।

महत्वपूर्ण तथ्य: पर्यावरण प्रदूषण और इसके विनाशकारी प्रभावों के बारे में लोगों में जागरूकता लाने के लिए यह दिवस मनाया जाता है। यह दिवस भोपाल गैस त्रासदी में जान गंवाने वालों की याद में हर साल मनाया जाता है। 1984 में 2-3 दिसंबर की रात को यूनियन कार्बाइड संयंत्र से घातक गैस मिथाइल आइसोसाइनेट का रिसाव हो गया था।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

अंतरराष्ट्रीय दासता उन्मूलन दिवस


2 दिसंबर

महत्वपूर्ण तथ्य: 2 दिसंबर, 1949 को ‘संयुक्त राष्ट्र महासभा’ ने व्यक्तियों की तस्करी और वेश्यावृत्ति के शोषण को समाप्त करने के लिए संयुक्त राष्ट्र अभिसमय को स्वीकार किया था। अंतरराष्ट्रीय श्रम संगठन (ILO) के अनुसार दुनिया भर में 40 मिलियन से अधिक लोग आधुनिक दासता के शिकार हैं।

सामयिक खबरें खेल विविध

लुईस हैमिल्टन ने जीती सातवीं बार फॉर्मूला वन विश्व चैंपियनशिप


ब्रिटेन के मर्सिडीज चालक लुईस हैमिल्टन ने 15 नवंबर, 2020 को इस्तांबुल पार्क सर्किट रेसट्रैक में फॉर्मूला वन टर्किश ग्रैंड प्रिक्स 2020 जीत के साथ रिकॉर्ड सातवीं फॉर्मूला वन विश्व चैंपियनशिप जीती। यह उनके करियर की 94वीं जीत है।

  • उन्होंने फेरारी के महान चालक माइकल शूमाकर के सात बार विश्व चैंपियनशिप जीतने के रिकॉर्ड की बराबरी की है। 2017, 2018 और 2019 में भी हेमिल्टन विश्व चैंपियनशिप विजेता रहे।

सामयिक खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक और पीएनबी मेटलाइफ इंडिया इंश्योरेंस


नवंबर 2020 में प्रधान मंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना (PMJJBY) का लाभ उठाने वाले अपने ग्राहकों के लिए, इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (IPPB) ने पीएनबी मेटलाइफ इंडिया इंश्योरेंस (PNB MetLife India Insurance) के साथ समझौता किया है।

  • सरकार ने 2015 से उपलब्ध कम लागत वाली जीवन बीमा योजना को शुरू किया है, जो गरीबों और वंचितों को सुरक्षा और वित्तीय सुरक्षा प्रदान करती है।

सामयिक खबरें इन्हें भी जानें

ब्रेन फिंगरप्रिंटिंग


‘ब्रेन इलेक्ट्रिकल ऑसिलेशन सिग्नेचर प्रोफाइलिंग’ (Brain Electrical Oscillation Signature Profiling- BEOSP) को ‘ब्रेन फिंगरप्रिंटिंग’ के रूप में भी जाना जाता है।

  • यह पूछताछ का एक न्यूरो मनोवैज्ञानिक तरीका है, जिसमें मस्तिष्क की प्रतिक्रिया का अध्ययन करके आरोपी की अपराध में भागीदारी की जांच की जाती है। BEOSP परीक्षण ‘इलेक्ट्रोएन्सेफलोग्राम' (electroencephalogram) प्रक्रिया के माध्यम से किया जाता है, जिसमें मानव मस्तिष्क के विद्युत व्यवहार (electrical behaviour) का अध्ययन किया जाता है।
  • इस परीक्षण के तहत, अभियुक्तों की सहमति से उन्हें दर्जनों इलेक्ट्रोड के साथ टोपी पहनने के लिए कहा जाता है। इसके बाद आरोपियों को अपराध से संबंधित दृश्य दिखाया जाता है या ऑडियो क्लिप चलाई जाती है, ताकि यह पता लगाया जा सके कि उनके दिमाग में न्यूरॉन्स की कोई ट्रिगरिंग (triggering) तो नहीं है, जो फिर 'ब्रेनवेव्स' (brainwaves) उत्पन्न करते हैं।
  • अपराध में अभियुक्त की भागीदारी का निर्धारण करने के लिए परीक्षण परिणामों का अध्ययन किया जाता है।

सामयिक खबरें राज्य असम

मत्स्य पालन के क्षेत्र में असम को चार पुरस्कार


  • राष्ट्रीय मत्स्य विकास बोर्ड ने मत्स्य पालन के क्षेत्र में सफलता के लिए असम को चार पुरस्कार प्रदान किए हैं। पुरस्कार 21 नवंबर, 2020 को नई दिल्ली में दिए गए।
  • असम को ‘सर्वश्रेष्ठ पहाड़ी और पूर्वोत्तर राज्य’ की श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ राज्य का पुरस्कार मिला है।
  • ‘असम एपेक्स कोऑपरेटिव फिश मार्केटिंग एंड प्रोसेसिंग फेडरेशन लिमिटेड’ [Assam Apex Cooperative Fish Marketing and Processing Federation Limited - FISHFED)] को ‘सर्वश्रेष्ठ पहाड़ी और पूर्वोत्तर सरकारी संगठन’ की श्रेणी के तहत चुना गया है।
  • नगांव जिले का ‘सर्वश्रेष्ठ पहाड़ी और पूर्वोत्तर जिला’ श्रेणी के अंतर्गत चयन किया गया है।
  • नलबाड़ी के किसान ‘अमल मेधी’ को ‘पहाड़ी और पूर्वोत्तर मछली-किसान श्रेणी’ के तहत चुना गया है।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप आपदा/दुर्घटनाएं

अत्यधिक गंभीर चक्रवाती तूफान ‘निवार’


25-26 नवंबर, 2020 को दक्षिण-पश्चिम बंगाल की खाड़ी के ऊपर बने एक बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान ‘निवार’ ने तटीय राज्यों तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और पुडुचेरी को प्रभावित किया।

  • चक्रवात 'निवार' इस वर्ष उत्तर हिंद महासागर क्षेत्र में आकार लेने वाला चौथा चक्रवात था। पहले तीन चक्रवात थे चक्रवात 'गति' (22 नवंबर को सोमालिया में), चक्रवात 'अम्फान' (मई में पूर्वी भारत में) और चक्रवात 'निसर्ग' (महाराष्ट्र में)।
  • 2018 में चक्रवात गाजा के बाद दो साल में तमिलनाडु को प्रभावित करने वाला 'निवार' दूसरा चक्रवात था।

नामकरण: विश्व मौसम विज्ञान संगठन (डब्लूएमओ) के दिशा-निर्देशों के आधार पर चक्रवात को 'निवार' नाम दिया गया है।

  • उत्तर हिंद महासागर क्षेत्र बंगाल की खाड़ी और अरब सागर के ऊपर बने उष्णकटिबंधीय चक्रवातों को कवर करता है। इस क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले 13 देश बांग्लादेश, भारत, मालदीव, म्यांमार, ओमान, पाकिस्तान, श्रीलंका, थाईलैंड ईरान, कतर, सऊदी अरब, यूएई और यमन चक्रवातों के नाम सुझाते हैं। प्रत्येक देश चक्रवातों के लिए सूची में 13 नाम प्रदान करता है।
  • चक्रवात 'निवार' को ईरान द्वारा दिए गए नामों की सूची में से चुना गया है। ‘निसर्ग’ का नामकरण बांग्लादेश द्वारा किया गया, जबकि चक्रवात ‘गति' (Gati) नाम भारत ने दिया था।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

गरिमा गृह


केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत ने गुजरात के वडोदरा में 25 नवंबर, 2020 को ट्रांसजेंडर व्यक्तियों के लिए आश्रय गृह 'गरिमा गृह’ का उद्घाटन किया।

उद्देश्य: ट्रांसजेंडर व्यक्तियों को आश्रय प्रदान करना, जिसमें आश्रय, भोजन, चिकित्सा देखभाल और मनोरंजन जैसी बुनियादी सुविधाएं हैं।

महत्वपूर्ण तथ्य: ‘गरिमा गृह’ ट्रांसजेंडरों द्वारा संचालित एक समुदाय आधारित संगठन लक्ष्मण ट्रस्ट के सहयोग से चलाया जाएगा।

  • ‘ट्रांसजेंडर व्यक्तियों के लिए आश्रय गृह' की योजना में ट्रांसजेंडर व्यक्तियों की स्थितियों में सुधार करने हेतु प्रायोगिक आधार पर देश में चयनित 13 आश्रय गृह स्थापित करने के लिए 10 शहरों की पहचान की गई है।
  • शहरों में वडोदरा, नई दिल्ली, पटना, भुवनेश्वर, जयपुर, कोलकाता, मणिपुर, चेन्नई, रायपुर, मुंबई आदि शामिल हैं।
  • यह योजना मंत्रालय द्वारा चिन्हित प्रत्येक घरों में न्यूनतम 25 ट्रांसजेंडर व्यक्तियों का पुनर्वास करेगी।
  • यह एक प्रायोगिक परियोजना है और इसके सफल होने पर देश के अन्य हिस्सों में इसी तरह की योजनाओं को विस्तार दिया जाएगा।

राष्ट्रीय पोर्टल: 'ट्रांसजेंडर व्यक्तियों के लिए राष्ट्रीय पोर्टल' भी लॉन्च किया गया। पोर्टल देश में कहीं से भी एक ट्रांसजेंडर व्यक्ति को प्रमाण पत्र और पहचान पत्र के लिए डिजिटल रूप से आवेदन करने में मदद करेगा।

अन्य तथ्य: ट्रांसजेंडर व्यक्तियों (अधिकारों का संरक्षण) अधिनियम, 2019 10 जनवरी, 2020 को प्रभावी हुआ है। अधिनियम के प्रावधानों को लागू करने के लिए ट्रांसजेंडर व्यक्तियों (अधिकारों का संरक्षण) नियम, 2020 जारी किए गए हैं।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

विश्व एड्स दिवस


1 दिसंबर

2020 का विषय: 'वैश्विक एकजुटता, साझा जिम्मेदारी' (Global solidarity, shared responsibility) (स्रोत- संयुक्त राष्ट्र)

'वैश्विक एकजुटता, लचीली एचआईवी सेवाएं' (Global solidarity, resilient HIV services) (स्रोत- विश्व स्वास्थ्य संगठन)

महत्वपूर्ण तथ्य: विश्व एड्स दिवस दुनिया भर के एचआईवी से प्रभावित लोगों के लिए समर्थन जताने और एड्स से अपनी जान गंवा देने वाले लोगों को याद करने के लिए मनाया जाता है। डब्ल्यूएचओ के अनुसार 2019 में, 38 मिलियन लोग एचआईवी से संक्रमित थे तथा 6,90 000 लोगों की एचआईवी से संबंधित कारणों से मृत्यु हुई।

सामयिक खबरें राज्य मणिपुर

अमूर फाल्कन की सुरक्षा हेतु जागरूकता अभियान


नवंबर 2020 में मणिपुर सरकार ने दो महीने तक मणिपुर के पहाड़ी जिलों में प्रवास करने वाले पक्षियों, अमूर फाल्कन की सुरक्षा के लिए जागरूकता अभियान शुरू किया है।

  • सेनापति और चुराचंदपुर जिलों के जिला मजिस्ट्रेट ने इस संबंध में आधिकारिक आदेश जारी किए। अमूर फाल्कन के शिकार, इन्हें पालने और बिक्री पर प्रतिबंध लगाया गया है।
  • निर्देशों का उल्लंघन करने वालों को मणिपुर वन्यजीव (संरक्षण) अधिनियम, 1972 की धारा 50/51 के तहत दंडित किया जा सकता है।
  • सर्दियों की शुरुआत के साथ, प्रवासी पक्षी विशेष रूप से अमूर फाल्कन पूर्वोत्तर भारत में बड़ी संख्या में झीलों और जल निकायों में प्रवास के लिए आते हैं। अमूर फाल्कन मुख्य रूप से दक्षिण-पूर्वी साइबेरिया में प्रजनन करता है।
  • IUCN द्वारा अमूर फाल्कन को 'संकटमुक्त' (Least Concern) श्रेणी में रखा गया है। यह 'वन्य प्राणियों के प्रवासी प्रजाति के संरक्षण पर अभिसमय' (CMS) के परिशिष्ट II में सूचीबद्ध है।

सामयिक खबरें खेल चर्चित खेल व्यक्तित्व

मार्लोन सैमुअल्स का क्रिकेट से संन्यास


  • वेस्टइंडीज के बल्लेबाज मार्लोन सैमुअल्स ने नवंबर 2020 में क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास ले लिया है।
  • उन्होंने वेस्टइंडीज के लिए 71 टेस्ट, 207 एकदिवसीय और 67 टी-20 मैच खेले। उन्होंने 11,000 से अधिक अंतरराष्ट्रीय रन बनाए और 150 से अधिक विकेट भी लिए।
  • उन्होंने अपनी शानदार शानदार बल्लेबाजी से 2012 और 2016 में टीम को टी-20 विश्व कप खिताब जिताने में अहम भूमिका निभाई थी।

सामयिक खबरें खेल चर्चित खेल व्यक्तित्व

सी के भास्करन नायर का निधन


  • पूर्व प्रथम श्रेणी क्रिकेटर सी के भास्करन नायर का 23 नवंबर, 2020 को निधन हो गया है। वे 79 वर्ष के थे।
  • पूर्व रणजी ट्रॉफी क्रिकेटर नायर का जन्म केरल के थलासेरी में 1941 में हुआ था। उन्होंने 1957 से 1969 तक 12 साल लंबे अपने करियर के दौरान 42 प्रथम श्रेणी मैचों में 106 विकेट लिए थे।

सामयिक खबरें खेल चर्चित खेल व्यक्तित्व

टारगेट ओलंपिक पोडियम स्कीम


मिशन ओलम्पिक प्रकोष्ठ की 26 नवंबर, 2020 को आयोजित 50वीं बैठक में टारगेट ओलंपिक पोडियम स्कीम (Target Olympic Podium Scheme- TOPS) के ‘प्रमुख समूह’ में 8 ट्रैक एंड फील्ड एथलीटों तथा ‘विकासात्मक समूह’ में 7 ट्रैक एंड फील्ड एथलीटों को शामिल किया गया।

प्रमुख समूह (core group) : शिवपाल सिंह (पुरुष जेवलिन थ्रो और ओलंपिक के लिए योग्य), अन्नू रानी (महिला जेवलिन थ्रो), के टी इरफान (पुरुषों की 20 किमी. पैदल चाल और ओलंपिक के लिए योग्य), अरोकिया राजीव (पुरुष 400 मीटर और 4x400 मीटर रिले), नोआ निर्मल टॉम (पुरुषों की 400 मीटर और 4x400 मीटर रिले), एलेक्स एंथोनी (पुरुषों की 400 मीटर और 4x400 मीटर रिले), एमआर पूवम्मा (महिला 400 मीटर और 4x400 मीटर रिले) और दुती चंद (महिला 100 मीटर और 200 मीटर दौड़)।

TOPS: युवा मामले और खेल मंत्रालय का एक प्रमुख कार्यक्रम TOPS भारत के शीर्ष एथलीटों को सहायता प्रदान करने का एक प्रयास है, ताकि वे 2020 ओलंपिक (जो अब अगस्त 2021 में निर्धारित हैं) तथा 2024 ओलंपिक में पदक जीत सकें।

  • योजना के तहत, खेल विभाग उन एथलीटों की पहचान करेगा, जो 2020/2024 के ओलंपिक में संभावित पदक विजेता हैं।
  • ‘मिशन ओलंपिक प्रकोष्ठ’ एक समर्पित संस्था है, जो उन एथलीटों की सहायता के लिए बनाई गई है, जिन्हें TOPS के तहत चुना गया है।

सामयिक खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

'वीजा इन ए बॉक्स' कार्यक्रम


  • डिजिटल भुगतान प्रदाता वीजा ने 23 नवंबर, 2020 को फिनटेक को बढ़ावा देने के लिए अपने 'वीजा इन ए बॉक्स' (Visa in a Box) कार्यक्रम के तहत आईसीआईसीआई बैंक के साथ सहयोग की घोषणा की।
  • इस सहयोग के माध्यम से फिनटेक, वीजा और आईसीआईसीआई बैंक के एपीआई और डेवलपर सैंडबॉक्स तक पहुँच द्वारा उपभोक्ता भुगतान एप्लिकेशन का तेजी से निर्माण, परीक्षण और तैनाती कर सकते हैं।
  • आईसीआईसीआई बैंक भारत में 'वीजा इन ए बॉक्स' कार्यक्रम के लिए वीजा के साथ साझेदारी करने वाला पहला बैंक है।


सामयिक खबरें इन्हें भी जानें

चापरे वायरस


  • अमेरिका के ‘सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन’ (सीडीसी) के शोधकर्ताओं द्वारा बोलीविया में एक घातक वायरस की खोज की गयी है, जिसे ‘चापरे वायरस’ (Chapre Virus) के नाम से जाना जाता है।
  • यह इबोला वायरस रोग के लिए जिम्मेदार एरेनावायरस (Arenavirus) परिवार का वायरस है, जिसके कारण चापरे रक्तस्रावी बुखार (Chapare hemorrhagic fever– CHHF) फैलता है।
  • इस वायरस को सबसे पहले बोलीविया के ‘चापरे’ (Chapare) प्रांत में देखा गया था, इसीलिए इसे ‘चापरे वायरस’ नाम दिया गया है।
  • चापरे वायरस जैसे एरेनावायरस, आमतौर पर चूहों द्वारा फैलते हैं। यह वायरस, संक्रमित कृंतक के सीधे संपर्क, इनके मल या मूत्र के संपर्क में आने से या संक्रमित व्यक्ति के संपर्क से प्रसारित होता है।
  • इसका संक्रमण होने पर पेट दर्द, उल्टी, मसूड़ों से खून निकलने, त्वचा पर चकत्ते और आंखों के अंदर दर्द, आदि लक्षण दिखाई देते हैं। वायरल रक्तस्रावी बुखार एक गंभीर और जानलेवा बीमारी है जो कई अंगों को प्रभावित कर सकती है और रक्त वाहिकाओं की दीवारों को नुकसान पहुंचा सकती है।

सामयिक खबरें संस्थान-संगठन

भारतीय उन्नत अध्ययन संस्थान


  • शिमला स्थित भारतीय उन्नत अध्ययन संस्थान (Indian Institute of Advanced Study-IIAS) ने 21 नवंबर, 2020 को अपना 55वां स्थापना दिवस मनाया।
  • पूर्व राष्ट्रपति एस. राधाकृष्णन और पूर्व प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू के साझा दृष्टिकोण के कारण, भारतीय उन्नत अध्ययन संस्थान को 6 अक्टूबर, 1964 को सोसाइटी पंजीकरण अधिनियम 1860 के तहत पंजीकृत किया गया था।
  • संस्थान का औपचारिक उद्घाटन राष्ट्रपति राधाकृष्णन द्वारा 1965 में किया गया था।
  • संस्थान का प्राथमिक उद्देश्य मानविकी, सामाजिक विज्ञान तथा प्राकृतिक विज्ञान में शैक्षिक अनुसंधान के लिए उपयुक्त वातावरण प्रदान करना है।
  • संस्थान 3 प्रकार की फेलोशिप- राष्ट्रीय फेलोशिप, टैगोर फेलोशिप और नियमित फेलोशिप प्रदान करता है। किसी भी फेलोशिप की अधिकतम अवधि 2 वर्ष है।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

शहद किसान उत्पादक संगठन कार्यक्रम


केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने 26 नवंबर 2020 को नेशनल एग्रीकल्चरल कोऑपरेटिव मार्केटिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (नाफेड) के ‘शहद किसान उत्पादक संगठन (एफपीओ) कार्यक्रम’ का उद्घाटन किया।

  • 10 हजार एफपीओ बनाने की केंद्र सरकार की योजना के अंतर्गत 5 राज्यों में मधुमक्खी पालकों/शहद संग्राहकों के 5 एफपीओ का शुभारंभ किया गया है।
  • ये एफपीओ मध्य प्रदेश में मुरैना, पश्चिम बंगाल में सुंदरबन, बिहार में पूर्वी चंपारण, राजस्थान में भरतपुर और उत्तर प्रदेश में मथुरा जिले में नाफेड के सहयोग से तैयार किए गए हैं।
  • इन पांचों नए एफपीओ से जुड़े लगभग 500 गांवों के 4 से 5 हजार शहद उत्पादकों को इस परियोजना से सीधा लाभ पहुंचेगा।

सामयिक खबरें विज्ञान-पर्यावरण

चीन का रोबोटिक अंतरिक्ष यान ‘चांग ई-5’


24 नवंबर, 2020 को चीन ने चंद्रमा की सतह से चट्टानों और मलबों के नमूने लाने के लिये रोबोटिक अंतरिक्ष यान ‘चांग ई-5’(Chang'e-5) लॉन्च किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: इसे चीन के दक्षिणी हैनान प्रांत स्थित वेनचांग अंतरिक्ष यान प्रक्षेपण स्थल (Wenchang Space Launch Center) से ‘लांग मार्च-5 रॉकेट’ (Long March- 5 rocket) की सहायता से सफलतापूर्वक प्रक्षेपित किया गया।

  • ‘चांग ई-5’ मिशन सफल होने पर चीन चंद्रमा से नमूने लाने वाला अमेरिका और सोवियत संघ के बाद दुनिया का तीसरा देश बन जाएगा।
  • ऐसा आखिरी मिशन वर्ष 1976 में सोवियत संघ का लूना-24 था।
  • चांग ई-5 मिशन का नाम चंद्रमा की प्राचीन चीनी देवी के नाम पर रखा गया है। इस मिशन के माध्यम से चंद्रमा की उत्पत्ति एवं निर्माण के बारे में समझने में और अधिक मदद मिलेगी।
  • जनवरी 2019 में, ‘चांग ई-4’ मिशन चंद्रमा की दूसरी ओर की सतह (डार्क साइड) पर लैंड कराने के लिये भेजा गया था। चंद्रमा के इस हिस्से में उतरने वाला यह पहला प्रोब (probe) था।

सामयिक खबरें विज्ञान-पर्यावरण

‘वाइन स्नेक’ की नई प्रजातियों की खोज


नवंबर 2020 में सेंटर फॉर इकोलॉजिकल साइंसेज (सीईएस), भारतीय विज्ञान संस्थान (आईआईएससी) के शोधकर्ताओं की एक टीम ने प्रायद्वीपीय भारत में वाइन स्नेक (vine snakes) की नई प्रजातियों की खोज की है।

महत्वपूर्ण तथ्य: वाइन स्नेक प्रायद्वीपीय भारत में सबसे आम सांपों में से एक के रूप में जाना जाता है, यहां तक कि यह कई शहरी क्षेत्रों के आस-पास भी पाया जाता है जहां कुछ हरियाली हो, और पश्चिमी घाट में।

  • पूरे महाद्वीप में वितरित एशियाई वाइन स्नेक, 'अहैतुल्ला' (Ahaetulla) वंश और हाल ही में वर्णित 'प्राहेतुल्ला' (Proahaetulla) वंश से संबंधित हैं।
  • टीम को पश्चिमी घाटों के वर्षावनों में ही चार अलग-अलग छोटे शरीर वाली और छोटी नाक वाली प्रजातियाँ मिलीं: ‘उत्तरी पश्चिमी घाट वाइन स्नेक’ (Ahaetulla borealis); ‘फर्नस्वर्थ वाइन स्नेक’ (Ahaetulla farnsworthi); ‘मालाबार वाइन स्नेक’ (Ahaetulla malabarica); और ‘वॉल्स वाइन स्नेक’ (Ahaetulla isabellina)।
  • टीम ने त्रावणकोर वेल स्नेक (Ahaetulla travancorica) को भी वर्णित किया, जिसे आकृति विज्ञान और भौगोलिक अवरोध द्वारा ‘गनथर वाइन स्नेक’ (Ahaetulla dispar) से अलग किया गया।
  • अंत में, उन्होंने पश्चिमी घाट और श्रीलंका में पाए जाने वाले भूरे वाइन स्नेक (brown vine snake) के बीच रूपात्मक भेद को मान्यता दी और पश्चिमी घाट की प्रजाति को एक नया नाम 'अहैतुल्ला सह्याद्रेंसिस' (Ahaetulla sahyadrensis) दिया।
  • पश्चिमी घाट में अब ‘वाइन स्नेक’ की छ: प्रजातियां स्थानिक हैं।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित व्यक्ति

जॉनस मसेटी


29 नवंबर, 2020 को 'मन की बात 2.0' की 18वीं कड़ी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ब्राजील के ‘जॉनस मसेटी’ (Jonas Masetti) का जिक्र किया।

  • जॉनस को ‘विश्वनाथ’ के नाम से भी जाना जाता है। वे ब्राजील में लोगों को वेदांत और गीता सिखाते हैं।
  • वे ‘विश्वविद्या’ नाम की एक संस्था चलाते हैं, जो रियो डि जेनेरो (Rio de Janeiro) से घंटें भर की दूरी पर ‘पेट्रोपोलिस’ (Petrópolis) के पहाड़ों में स्थित है।
  • जॉनस ने मैकेनिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने के बाद, स्टॉक मार्केट कंपनी में काम किया, बाद में, उनका रुझान भारतीय संस्कृति और खासकर ‘वेदान्त’ की तरफ हो गया।
  • जॉनस ने भारत में वेदांत दर्शन का अध्ययन किया और 4 साल तक वे कोयंबटूर के ‘अर्श विद्या गुरूकुलम’ में रहे हैं।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

विश्व रोगाणुरोधी जागरूकता सप्ताह


18 नवम्बर से 24 नवम्बर

2020 का विषय: 'एंटी माइक्रोबियल को संरक्षित करने के लिए संगठित' (United to preserve anti-microbial)

महत्वपूर्ण तथ्य: इसका उद्देश्य वैश्विक रोगाणुरोधी प्रतिरोध (Anti-Microbial Resistance- AMR) के बारे में जागरूकता बढ़ाना और दवा-प्रतिरोधी संक्रमणों के आगे के उद्भव और प्रसार से बचने के लिए आम जनता, स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं और नीति निर्माताओं के बीच सर्वोत्तम प्रथाओं को प्रोत्साहित करना है। 2020 का नारा 'रोगाणुरोधी: देखभाल के साथ संभाल' (Antimicrobials: handle with care) था।

सामयिक खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

रासायनिक युद्ध के सभी पीड़ितों के लिए स्मरण दिवस


30 नवंबर

महत्वपूर्ण तथ्य: यह स्मरण दिवस रासायनिक युद्ध के पीड़ितों को श्रद्धांजलि देने का अवसर प्रदान करता है, साथ ही रासायनिक हथियारों के खतरे के उन्मूलन के लिए 'रासायनिक हथियारों के निषेध संगठन' (ओपीसीडब्ल्यू) के लिए प्रतिबद्धता की पुष्टि करता है।

सामयिक खबरें खेल चर्चित खेल व्यक्तित्व

जिम्बाब्वे क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान एल्टन चिगुम्बुरा का संन्यास


जिम्बाब्वे क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान एल्टन चिगुम्बुरा ने पाकिस्तान के खिलाफ नवंबर 2020 में खेली गई टी-20 अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला के समापन के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया।

  • जिम्बाब्वे के इस दिग्गज हरफनमौला खिलाड़ी ने 2004 में अंतरराष्ट्रीय करियर की शुरुआत की थी। उन्होंने 14 टेस्ट, 213 एकदिवसीय और 57 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले। उन्होंने 62 एकदिवसीय और 18 टी-20 मैचों में जिम्बाब्वे की कप्तानी की।

सामयिक खबरें खेल चर्चित खेल व्यक्तित्व

वोल्कर हेरमैन का इस्तीफा


नवंबर में भारतीय एथलेटिक्स महासंघ के हाई परफॉर्मेंस डायरेक्टर वोल्कर हेरमैनजिनका अनुबंध खेल मंत्रालय ने ओलंपिक के अंत तक बढ़ा दिया थाने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है।

सामयिक खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

लक्ष्मी विलास बैंक संकट


प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने 25 नवंबर, 2020 को घाटे में चल रहे लक्ष्मी विलास बैंक लिमिटेड (एलवीबी) के डीबीएस बैंक इंडिया लिमिटेड (डीबीआईएल) में विलय की योजना को मंजूरी दे दी।

  • जमाकर्ताओं के हित की रक्षा और वित्तीय एवं बैंकिंग स्थिरता के हित में, बैंकिंग विनियमन कानून, 1949 की धारा 45 के तहत आरबीआई के आवेदन पर विलय की यह योजना बनाई गई है।
  • नवंबर 2020 में भारतीय रिजर्व बैंक ने तमिलनाडु के निजी क्षेत्र के लक्ष्मी विलास बैंक (Lakshmi Vilas Bank) पर एक महीने के लिए कई तरह की पाबंदियां लगा दी तथा बोर्ड को हटा दिया तथा बैंक को स्थगन के तहत रखा है।
  • ग्राहक अब 16 दिसंबर तक बैंक से अधिकतम 25 हजार रुपये की ही निकासी कर सकेंगे।
  • लक्ष्मी विलास बैंक की स्थापना 1926 में करूर में सात व्यापारियों के एक समूह ने वी.एस.एन. रामलिंग चेट्टियार के नेतृत्व में की थी।

सामयिक खबरें बिजनेस और सार्वजनिक उपक्रम

इंडियन ऑयल द्वारा 'शून्य-उत्सर्जन विद्युत गतिशीलता’ का सफल परीक्षण


नवंबर 2020 में ‘इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन लिमिटेड’ ने बेंगलुरु में अपने एक ईंधन स्टेशन पर 'शून्य-उत्सर्जन विद्युत गतिशीलता' (zero-emission electric mobility) पर संकल्पना व्यवहार्यता अध्ययन का सफलतापूर्वक परीक्षण किया है।

  • 'शून्य-उत्सर्जन विद्युत गतिशीलता' एक अवधारणा है, जो इलेक्ट्रिक वाहन (ईवी) को सौर ऊर्जा का उपयोग करने और शून्य उत्सर्जन सुनिश्चित करने की अनुमति देता है।
  • इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग सिस्टम को टेक महिंद्रा द्वारा शुरू किए गये एक स्टार्टअप Hygge Energy द्वारा डिजाइन किया गया है और इसमें तीन मुख्य विशेषताएं हैं - सौर ऊर्जा द्वारा इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग, ग्रिड इन्फ्रास्ट्रक्चर में किसी भी अपग्रेड की आवश्यकता नहीं, और सिस्टम आर्किटेक्चर द्वारा ग्रिड तन्यकता (grid resilience) में सुधार।

सामयिक खबरें इन्हें भी जानें

स्टारलिंक मिशन


अक्टूबर 2020 में एलन मस्क द्वारा स्थापित एयरोस्पेस कंपनी, स्पेसएक्स ने सफलतापूर्वक अपना 13वां 'स्टारलिंक मिशन' लॉन्च किया।

  • स्टारलिंक इंटरनेट प्रदान करने वाले उपग्रहों का एक नेटवर्क है। प्रत्येक उपग्रह को बारीकी से डिजाइन किया गया है, इसका वजन लगभग 260 किलोग्राम है, और यह चार-चरण सरणी (array) एंटेना, एकल सौर सरणी, आयन प्रणोदन प्रणाली, नेविगेशन सेंसर और मलबा ट्रैकिंग प्रणाली से सुसज्जित है।
  • मिशन के तहत बड़ी संख्या में छोटे उपग्रहों को निम्न पृथ्वी कक्षा (Low Earth Orbit-LEO) में स्थापित किया गया है।
  • स्पेसएक्स का पहला स्टारलिंक मिशन 24 मई, 2019 को लॉन्च किया गया था, जिसमें 60 उपग्रह थे।

सामयिक खबरें संस्थान-संगठन

भूमि युद्ध अध्ययन केंद्र


भूमि युद्ध अध्ययन केंद्र (Centre for Land Warfare Studies- CLAWS) ने 18 नवंबर, 2020 को अपनी स्थापना के उत्कृष्ट 15 वर्ष पूरे कर लिए हैं।

  • नई दिल्ली स्थित भारतीय सेना से जुड़े इस थिंक टैंक CLAWS की शुरुआत वर्ष 2005 में हुई थी। CLAWS सोसायटी पंजीकरण अधिनियम, 1860 के तहत पंजीकृत है और एक सदस्यता-आधारित संगठन है। यह एक बोर्ड ऑफ गवर्नर्स और एक कार्यकारी परिषद द्वारा शासित है।
  • CLAWS के अधिदेश (mandate) में राष्ट्रीय सुरक्षा मुद्दे, पारंपरिक सैन्य अभियान और उप-पारंपरिक युद्ध शामिल हैं। केंद्र भारत के रणनीतिक सीमाओं के भीतर क्षेत्र में संघर्षों और सैन्य विकास पर भी ध्यान केंद्रित करता है, विशेष रूप से दक्षिणी एशियाई क्षेत्र में।
  • CLAWS को अमेरिका के पेंसिल्वेनिया विश्वविद्यालय द्वारा प्रकाशित 'ग्लोबल गो टू थिंक टैंक रिपोर्ट 2013' के अनुसार विश्व के शीर्ष रक्षा और राष्ट्रीय सामरिक थिंक टैंक में 48वें स्थान पर रखा गया है।