पीआईबी न्यूज अंतरराष्ट्रीय

समुद्री अभ्यास 'इंद्र नेवी'


  • भारतीय नौसेना और रूसी नौसेना के बीच एक द्विवार्षिक द्विपक्षीय समुद्री अभ्यास 'इंद्र नेवी’ (INDRA NAVY) का 12वां संस्करण' 28 से 29 जुलाई, 2021 तक बाल्टिक सागर में आयोजित किया गया।
  • उद्देश्य: दोनों नौसेनाओं के बीच अंतर-संचालन को और मजबूत करना और बहुआयामी समुद्री संचालन के लिए समझ और प्रक्रियाओं को बढ़ाना।
  • इस समुद्री अभ्यास की शुरुआत 2003 में की गई थी।
  • यह अभ्यास रूसी नौसेना के 325वें नौसेना दिवस समारोह में भाग लेने के लिए आईएनएस तबर की सेंट पीटर्सबर्ग, रूस की यात्रा के हिस्से के रूप में किया गया था।
  • भारतीय नौसेना का प्रतिनिधित्व आईएनएस तबर, जबकि रूसी संघ की नौसेना का प्रतिनिधित्व 'आरएफएस जेलियोनी डोल' (RFS Zelyony Dol) और आरएफएस ओडिंटसोवो (RFS Odintsovo) द्वारा किया गया।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

क्यूएस बेस्ट स्टूडेंट सिटीज रैंकिंग 2022


लंदन स्थित वैश्विक उच्च शिक्षा विश्लेषक 'क्वाक्वेरेली साइमंड्स (QS) द्वारा 28 जुलाई, 2021 को 'क्यूएस बेस्ट स्टूडेंट सिटीज रैंकिंग 2022' (QS Best Student Cities Ranking 2022) जारी की गई। यह रैंकिंग का नौवां संस्करण था।

रैंकिंग में शामिल होने वाले शहरों के लिए पैमाना: कम से कम 250,000 की आबादी और कम से कम दो विश्वविद्यालय सबसे हालिया क्यूएस वर्ल्ड यूनिवर्सिटी रैंकिंग में शामिल होने चाहिए।

  • रैंकिंग का निर्धारण विश्वविद्यालय रैंकिंग, छात्र मिश्रण (student mix), वांछनीयता (desirability), नियोक्ता गतिविधि (employer activity), वहनीयता और छात्रों की प्रतिक्रिया (Student view) जैसे संकेतकों के आधार पर किया जाता है।

छात्रों के लिए दुनिया के सर्वश्रेष्ठ शहर: 1. लंदन, 2. म्यूनिख, 3. सियोल और टोक्यो, 5. बर्लिन।

भारत की रैंकिंग: मुंबई और बेंगलुरू वैश्विक शीर्ष-100 शहरों की सूची से बाहर हो गए हैं और वर्तमान में नवीनतम संस्करण में क्रमशः 106वें और 110 वें स्थान पर हैं।

  • मुंबई 'वहनीयता' संकेतक में वैश्विक स्तर पर 21वें स्थान पर है। दूसरी ओर बेंगलुरू को वैश्विक स्तर पर वहनीयता संकेतक में 7वें स्थान पर रखा गया है। 'नियोक्ता गतिविधि' संकेतक में मुंबई वैश्विक स्तर पर 52वें स्थान पर है।
  • रैंकिंग के नौवें संस्करण में मुंबई को जहां 29 स्थान का नुकसान हुआ, वहीं बेंगलुरू की रैंकिंग में 21 स्थान की गिरावट आई है।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

फिट फॉर 55 पैकेज


यूरोपीय आयोग ने 14 जुलाई, 2021 को जलवायु और ऊर्जा प्रस्तावों का 'फिट फॉर 55 पैकेज' (Fit for 55 package) जारी किया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: 'फिट फॉर 55 पैकेज' के तहत यूरोपीय संघ की कार्यकारी शाखा ने अपने 27 सदस्य देशों को 1990 के स्तर की तुलना में 2030 तक ग्रीनहाउस गैसों के उत्सर्जन में 55% की कटौती करने का आह्वान किया है।

  • कारों के लिए सख्त उत्सर्जन सीमा, जिससे 2035 तक नए पेट्रोल और डीजल कारों की बिक्री को प्रभावी ढंग से समाप्त करने का प्रावधान है। नतीजतन, 2035 तक पंजीकृत सभी नई कारें शून्य-उत्सर्जन वाली होंगी।
  • कार्यक्रम के हिस्से के रूप में कार्बन-गहन स्टील, एल्यूमीनियम, सीमेंट, उर्वरक और बिजली के आयात पर 'दुनिया के पहले कार्बन सीमा कर' (world’s first carbon border tax) की योजना लेकर आई है।
  • 2030 तक नवीकरणीय स्रोतों से ऊर्जा का 40% उत्पादन करने का लक्ष्य बढ़ाने का प्रावधान है।
  • 'भूमि उपयोग, वानिकी और कृषि पर विनियमन' प्राकृतिक सिंक (पेड़ों) द्वारा 2030 तक 310 मिलियन टन कार्बन डाइ-ऑक्साइड उत्सर्जन के बराबर कार्बन हटाने का लक्ष्य निर्धारित करता है।
  • नागरिकों को ऊर्जा दक्षता, नई हीटिंग और कूलिंग सिस्टम, और स्वच्छपरिवहन में वित्त निवेश में मदद करने हेतु सदस्य देशो को समर्पित वित्त पोषण प्रदान करने के लिए एक नया 'सामाजिक जलवायु कोष' (Social Climate Fund) का प्रस्ताव किया गया है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप निधन

भारतीय फोटो पत्रकार दानिश सिद्दीकी का निधन


16 जुलाई‚ 2021 को भारतीय फोटो पत्रकार दानिश सिद्दीकी का निधन हो गया। वे 38 वर्ष के थे।

  • वे पाकिस्तान के साथ अफगानिस्तान की सीमा के पास कंधार प्रांत के स्पिन बोल्डक जिले में अफगान सुरक्षा बलों और तालिबान के बीच संघर्ष को कवर करते हुए मारे गए।
  • वे भारत में रॉयटर्स (Reuters) समाचार एजेंसी के मुख्य फोटोग्राफर थे।
  • दिल्ली में जामिया मिलिया इस्लामिया के पूर्व छात्र, सिद्दीकी 2010 से रॉयटर्स के साथ काम कर रहे थे।
  • वे रॉयटर्स फोटोग्राफी की उस टीम का हिस्सा थे, जिसने रोहिंग्या शरणार्थी संकट पर रिपोर्टिंग हेतु 'फीचर फोटोग्राफी के लिए 2018 का पुलित्जर पुरस्कार' जीता था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप पुरस्कार/सम्मान

74वें कान फिल्म महोत्सव पुरस्कार


17 जुलाई, 2021 को ग्रैंड थिएटर लुमियर, फ्रांस में समापन समारोह में ‘74वें कान फिल्म महोत्सव पुरस्कार’ प्रदान किए गए।

  • ‘टाइटन’ (Titane) फिल्म की फ्रांसीसी निर्देशक जूलिया डुकोर्नौ (Julia Ducournau) पिछले 28 वर्षों में कान्स फिल्म फेस्टिवल में ‘पाल्मे डी’ओर’ (Palme d’or) जीतने वाली पहली महिला निर्देशक बनीं।
  • न्यूजीलैंड की जेन कैंपियन वर्ष 1993 में ‘द पियानो’ के लिए पाल्मे डी’ओर जीतने वाली पहली महिला थीं।
  • 'ग्रांड प्रिक्स' (Grand Prix) जिसे उत्सव का उपविजेता पुरस्कार माना जाता है, को दो फिल्मों- ईरान के असगर फरहादी की ‘ए हीरो’ और फिनलैंड के निर्देशक जुहो कुओसमैनन की ‘कम्पार्टमेंट नंबर 6’ द्वारा साझा किया गया था।
  • पॉप-ओपेरा म्यूजिकल ‘एनेट’ (Annette) के लिए लेओस कैरैक्स (Leos Carax) ने सर्वश्रेष्ठ निर्देशक का पुरस्कार जीता।
  • कालेब लैंड्री जोन्स ने ‘निट्राम’ में अपने मुख्य प्रदर्शन के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार जीता।
  • नॉर्वे की रेनेट रीन्सवे (Renate Reinsve) ने ‘द वर्स्ट पर्सन इन द वर्ल्ड’ में अपने प्रदर्शन के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार जीता।

कान्स फिल्म समारोह: यह एक वार्षिक फिल्म समारोह है जो कान्स, फ्रांस में आयोजित किया जाता है। इस उत्सव में दुनिया भर से डाक्यूमेंट्री सहित सभी शैलियों की नई फिल्मों की झलकियां (previews) प्रस्तुत की जाती है। इस उत्सव की स्थापना वर्ष 1946 में हुई थी।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप विविध

बाघों के बेहतर संरक्षण के लिए वैश्विक CA | TS मान्यता


भारत के 14 बाघ अभयारण्यों (tiger reserve) को बाघों के बेहतर संरक्षण के लिए वैश्विक 'कंजर्वेशन एश्योर्ड | टाइगर स्टैंडर्ड्स' (Conservation Assured | Tiger Standards (CA | TS) की मान्यता मिली है।

  • जिन 14 बाघ अभयारण्यों को मान्यता दी गई है, उनमें असम के मानस, काजीरंगा और ओरंग; मध्य प्रदेश के सतपुड़ा, कान्हा और पन्ना; महाराष्ट्र के पेंच; बिहार का वाल्मीकि टाइगर रिजर्व; उत्तर प्रदेश का दुधवा; पश्चिम बंगाल का सुंदरबन; केरल का परम्बिकुलम; कर्नाटक का बांदीपुर टाइगर रिजर्व और तमिलनाडु के मुदुमलाई और अनामलाई टाइगर रिजर्व शामिल हैं।

CA | TS: इसे टाइगर रेंज देशों (TRCs) के वैश्विक गठबंधन द्वारा मान्यता संबंधी उपकरण के रूप में स्वीकार किया गया है और इसे बाघ और संरक्षित क्षेत्र के विशेषज्ञों द्वारा विकसित किया गया है।

  • आधिकारिक तौर पर 2013 में लॉन्च किया गया CA | TS लक्षित प्रजातियों के प्रभावी प्रबंधन के लिए न्यूनतम मानक निर्धारित करता है और प्रासंगिक संरक्षण क्षेत्रों में इन मानकों के मूल्यांकन को प्रोत्साहित करता है।
  • CA | TS मानदंड का एक सेट है, जो बाघ से जुड़े स्थलों को यह जांचने का अवसर देता है कि क्या उनके प्रबंधन से बाघों का सफल संरक्षण संभव होगा।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित पुस्तक

चर्चित पुस्तक


  • ‘सप्रू हाउस: ए स्टोरी ऑफ इंस्टीट्यूशन बिल्डिंग इन वर्ल्ड अफेयर्स’ (SAPRU HOUSE: A Story of Institution-Building in World Affairs) -- टी. सी. ए. राघवन और विवेक मिश्रा
  • 'उत्तम कुमार: ए लाइफ इन सिनेमा' (Uttam Kumar: A Life in Cinema) -- सयनदेब चौधरी
  • 'बाय माय ओन रूल्स: माय स्टोरी इन माय ओन वर्ड्स' (By My Own Rules: My Story in My Own Words) -- आनंद शीला
  • 'रेनेगेड्स: बॉर्न इन यूएसए' (Renegades: Born in the USA) -- बराक ओबामा और ब्रूस स्प्रिंगस्टीन
  • 'ओवर इट: हाउ टू फेस लाइफ्स हर्डल विद ग्रिट, हसल एंड ग्रेस' (Over It: How to Face Life’s Hurdles with Grit, Hustle, and Grace) -- लोलो जोन्स
  • 'द स्ट्रेंजर इन द मिरर' (THE STRANGER IN THE MIRROR) -- राकेश ओमप्रकाश मेहरा और रीता राममूर्ति गुप्ता
  • 'मैपिंग लव' (Mapping Love) -- अश्विनी अय्यर तिवारी
  • द नेशंस होम्योपैथ: हाउ डॉ बत्राज बीकेम द वर्ल्ड्स लार्जेस्ट चेन ऑफ होम्योपैथी क्लीनिक्स' (The Nation's Homeopath: How Dr Batra's Became the World's Largest Chain of Homeopathy Clinics)-- मुकेश बत्रा

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

अंतरराष्ट्रीय बाघ दिवस


29 जुलाई

2021 का विषय/अभियान: 'उनका अस्तित्व हमारे हाथ में है' (Their Survival is in our hands)।

महत्वपूर्ण तथ्य: इस दिवस को 2010 में रूस के सेंट पीटर्सबर्ग बाघ शिखर सम्मेलन में लॉन्च किया गया था। यह दिवस जंगली बाघों के संरक्षण के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए आयोजित किया जाता है।

संक्षिप्त खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

एलआईसी का 'आरोग्य रक्षक' बीमा प्लान


भारतीय जीवन बीमा निगम (एलआईसी) ने 19 जुलाई, 2021 को 'आरोग्य रक्षक' बीमा प्लान लॉन्च किया।

  • यह एक नॉन लिंक्ड (non-linked), नॉन पार्टीसिपेटिंग, नियमित प्रीमियम, व्यक्तिगत, स्वास्थ्य बीमा प्लान है।
  • यह कुछ निर्दिष्ट स्वास्थ्य जोखिमों के खिलाफ निश्चित स्वास्थ्य बीमा कवर प्रदान करने के साथ ही चिकित्सा आपात स्थिति के मामले में समय पर सहायता प्रदान करता है।
  • कोई भी व्यक्ति इस प्लान के तहत अपना खुद का या परिवार में पत्नी बच्चे, माता, पिता सभी का बीमा करवा सकता है। यह 18 से 65 वर्ष की आयु के प्रधान बीमित व्यक्ति/पति/पत्नी/माता-पिता और 91 दिन से 20 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए उपलब्ध है।
  • बीमा कवर अवधि 80 वर्ष तक उपलब्ध है, जबकि बच्चों के मामले में यह केवल 25 वर्ष की आयु तक ही उपलब्ध है।
  • एक ‘नॉन पार्टीसिपेटिंग’ पॉलिसी पॉलिसीधारक को अपनी जीवन बीमा योजनाओं से लाभांश प्राप्त करने की अनुमति नहीं देती है।

संक्षिप्त खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

सह-उधार प्लेटफॉर्म 'प्रथम'


बैंक ऑफ बड़ौदा और फिनटेक प्लेटफॉर्म 'यू जीआरओ कैपिटल' (U GRO Capital) ने 20 जुलाई, 2021 को एक सह-उधार प्लेटफॉर्म 'प्रथम' लॉन्च किया।

  • इस प्लेटफॉर्म के तहत देश में एमएसएमई क्षेत्र को 1,000 करोड़ रुपये का ऋण वितरित किया जाएगा।
  • ‘प्रथम’ एमएसएमई को टर्न-अराउंड टाइम (ऋण लेने की प्रक्रिया के समय ) में उल्लेखनीय कमी के साथ प्रतिस्पर्धी ब्याज दर पर अनुकूलित ऋण समाधान उपलब्ध कराएगा।
  • 50 लाख रुपये से लेकर 2.5 करोड़ रुपये तक की ऋण राशि8% ब्याज दर से शुरू होकर 120 महीने की अधिकतम अवधि के लिए दी जाएगी।
  • ‘यू जीआरओ कैपिटल’ प्रौद्योगिकी-केंद्रित लघु व्यवसाय उधार प्लेटफॉर्म है।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

वैश्विक साइबर सुरक्षा सूचकांक 2020


अंतराष्ट्रीय दूरसंचार संघ (ITU) द्वारा 29 जून, 2021 को वैश्विक साइबर सुरक्षा सूचकांक 2020 लॉन्च किया गया। यह सूचकांक का चौथा संस्करण है।

महत्वपूर्ण तथ्य: अंतरराष्ट्रीय दूरसंचार संघ द्वारा 193 ITU सदस्य देशों और फिलिस्तीन की साइबर सुरक्षा प्रतिबद्धता को मापने के लिए पहली बार 2015 में वैश्विक साइबर सुरक्षा सूचकांक लॉन्च किया गया था।

  • ITU ने प्रत्येक सदस्य देश के विकास या जुड़ाव के स्तर का पांच स्तंभों पर मूल्यांकन किया है-- कानूनी उपाय, तकनीकी उपाय, संगठनात्मक उपाय, क्षमता विकास और सहयोग।
  • अमेरिका सूचकांक में 100 अंक के साथ सबसे शीर्ष पर है, उसके बाद यूनाइटेड किंगडम और सऊदी अरब दूसरे स्थान पर, एस्टोनिया तीसरे स्थान पर तथा कोरिया गणराज्य (दक्षिण कोरिया), सिंगापुर और स्पेन संयुक्त रूप से चौथे स्थान पर हैं।

भारत का स्थान: भारत ने वैश्विक साइबर सुरक्षा सूचकांक 2020 में शीर्ष 10 में जगह बनाई है, भारत 97.5 अंक के साथ 10वें स्थान पर है।

  • इससे पहले सूचकांक के तीसरे संस्करण (2018) में भारत 47वें स्थान पर था।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

ग्लोबल स्टार्टअप इकोसिस्टम इंडेक्स 2021


स्टार्टअप इकोसिस्टम मैप और रिसर्च सेंटर 'स्टार्टअप ब्लिंक' द्वारा जून 2021 में 'ग्लोबल स्टार्टअप इकोसिस्टम इंडेक्स 2021' (Global Startup Ecosystem Index 2021) जारी किया गया।

महत्वपूर्ण तथ्य: इस सूचकांक में 1000 शहरों और 100 देशों को शामिल किया गया है।

  • स्टार्टअप ब्लिंक द्वारा ग्लोबल स्टार्टअप इकोसिस्टम इंडेक्स वर्ष 2017 से सालाना जारी किया जाता है।
  • रिपोर्ट में प्रत्येक स्थान के लिए अंकों (Score) की गणना तीन मापदंडों - मात्रा (quantity), गुणवत्ता और व्यावसायिक वातावरण (business environment) के आधार पर की जाती है।

शीर्ष देश: 1. संयुक्त राज्य अमेरिका, 2. यूनाइटेड किंगडम, 3. इजरायल, 4. कनाडा, 5. जर्मनी।

शीर्ष शहर: 1. सैन फ्रांसिस्को बे, 2. न्यूयॉर्क, 3. बीजिंग, 4. लॉस एंजिल्स क्षेत्र, 5. लंदन।

भारत की रैंकिंग: भारत शीर्ष 100 देशों में 20वें स्थान पर है। भारत 2020 में 23वें और 2019 में 17वें स्थान पर था।

  • वर्तमान में भारत के 43 शहर शीर्ष 1000 में सूचीबद्ध हैं; विश्व के शीर्ष 20 शहरों में बैंगलोर (10वें), नई दिल्ली (14वें) और मुंबई (16वें) स्थान पर हैं।
  • दुनिया भर में शीर्ष 1,000 में शामिल 43 भारतीय शहरों में से 9 ने इस साल सूची में पहली बार स्थान हासिल किया है, जिनमें विशाखापत्तनम, विजयवाड़ा, रायपुर, पटना, वाराणसी, जमशेदपुर, औरंगाबाद, उडुपी और आगरा शामिल हैं।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

क्यूबा ने विकसित किया दुनिया का पहला संयुग्मित कोविड-19 वैक्सीन


जुलाई 2021 में क्यूबा ने दुनिया का पहला संयुग्मित (conjugate) कोविड-19 वैक्सीन ‘सोबराना 2’ (Soberana 2) विकसित किया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: सोबराना प्लस (Soberana Plus) के बूस्टर शॉट के साथ सोबराना 2 वैक्सीन दिए जाने पर यह लक्षण वाले कोविड-19 मामलों के खिलाफ 91% प्रभावी है।

  • अगर इस टीके को मंजूरी मिल जाती है, तो क्यूबा कोविड-19 के खिलाफ वैक्सीन बनाने और उत्पादन करने वाला पहला लैटिन अमेरिकी देश बन जाएगा।
  • ‘सोबराना 2’ वैक्सीन को तीन खुराक में दिया जाता है। इसमें ‘सोबराना 2’ के दो शॉट और सोबराना प्लस का एक शॉट शामिल है। इसे 0-28-56-दिन में लगाया जाता है।
  • ‘सोबराना 2’ सोबराना शृंखला के तीन टीकों में से एक है। इसे फिनले इंस्टीट्यूट (Finlay Institute) द्वारा ‘सेंटर फॉर मॉलिक्यूलर इम्यूनोलॉजी एंड नेशनल बायोप्रेपरेशंस सेंटर’ (Centre for Molecular Immunology and National Biopreparations Centre) के सहयोग से विकसित किया गया है।
  • क्यूबा 60-70% दवाओं का उत्पादन करता है और 11 टीकों के साथ 13 अन्य बीमारियों के खिलाफ टीकाकरण करता है। 8 टीकों का उत्पादन क्यूबा में ही किया जाता है।

संयुग्मित (conjugate) वैक्सीन: यह वाहक के रूप में एक मजबूत एंटीजन के साथ एक कमजोर एंटीजन को संयोजित करने वाले टीके का प्रकार है, जिससे प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर एंटीजन के प्रति दृढ़ता से प्रतिक्रिया करती है।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

ग्रैंड इथियोपियन रेनेसां डैम विवाद


जुलाई 2021 में इथियोपिया द्वारा 'ब्लू नील' (Blue Nile) नदी पर निर्माणाधीन एक विशाल जलविद्युत बांध परियोजना 'ग्रैंड इथियोपियन रेनेसां डैम' (The Grand Ethiopian Renaissance Dam- GERD) के जलाशय को दूसरे वर्ष के लिए भरने का लक्ष्य हासिल कर लिया है।

नील नदी: 'ब्लू नील' नदी और 'व्हाइट नील' (White Nile) नदी ‘नील नदी’ की दो प्रमुख सहायक नदियां है। 'ब्लू नील' नदी इथियोपिया में ‘ताना झील’ से निकलती है।

  • नील नदी प्रणाली 11 देशों से होकर बहती है। 'ब्लू नील' और 'व्हाइट नील' मिस्र और भूमध्य सागर में बहने से पहले सूडान में आपस में मिल जाती हैं।

इथियोपियन रेनेसां बांध: 145 मीटर लंबे (475 फुट लंबे) इथियोपियन रेनेसां बांध के पूरा होने पर यह अफ्रीका की सबसे बड़ी जलविद्युत परियोजना होगी। 6,000 मेगावाट से अधिक की अनुमानित क्षमता वाले इस बांध का निर्माण कार्य 2011 में शुरू किया गया था।

क्या है विवाद? 1959 के एक समझौते के अनुसार मिस्र को सालाना 55.5 बिलियन घन मीटर और सूडान को 18.5 बिलियन घन मीटर पानी आवंटन निर्धारित किया गया था।

  • उस समय अन्य देशों को आवंटन नहीं किया गया था; इथियोपिया इस समझौते को मान्यता नहीं देता है।
  • मिस्र ने चिंता जताई है कि बांध संभावित रूप से इथियोपिया को नदी के पानी के प्रवाह पर नियंत्रण हासिल करने की अनुमति दे देगा। मिस्र, जिसकी 90% ताजे पानी की आपूर्ति नील नदी पर निर्भर है, का मानना है कि इथियोपिया के पानी पर नियंत्रण के परिणामस्वरूप जल स्तर कम हो सकता है।
  • सूडान, जो मिस्र के दक्षिण में और इथियोपिया के उत्तर-पश्चिम में स्थित है, ने भी जल स्तर में कमी की आशंका जताई है।

सामयिक खबरें पर्यावरण

पेगासस: जीरो-क्लिक अटैक


जुलाई, 2021 में मीडिया आउटलेट्स संघ की एक खोजी रिपोर्ट के अनुसार, दुनिया भर के हजारों कार्यकर्ताओं, पत्रकारों और राजनीतिक नेताओं को एक इजरायली स्पाइवेयर निर्माता NSO समूह के स्पाइवेयर 'पेगासस' (Pegasus) द्वारा लक्षित किया गया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: ‘पेगासस’ हमले के अधिक परिष्कृत तरीके से हमला करता है जिसे 'जीरो-क्लिक अटैक' (zero-click attacks) कहा जाता है।

जीरो-क्लिक अटैक: जैसा कि नाम से पता चलता है, हमले के लिए लक्षित फोन के उपयोगकर्ता द्वारा किसी भी कार्रवाई की आवश्यकता नहीं होती है। अर्थात Zero Click Attack में किसी मोबाइल फोन का वेबसाइट और ऐप पर क्लिक करना जरूरी नहीं होता है।

  • यह स्पाइवेयर की मदद से किसी डिवाइस में दूर से घुसपैठ कर सकता है। घुसपैठ के लिए, स्पाइवेयर ऑपरेटिंग सिस्टम में खामियों की पहचान करता है।
  • सभी हैकर बस एक व्हाट्सएप कॉल करते हैं और एक कोड लॉन्च करके डिवाइस के ऑपरेटिंग सिस्टम तक एक्सेस हासिल कर लेते हैं। मैलवेयर प्लांट करने के बाद, Pegasus कॉल लॉग को बदल देता है ताकि उपयोगकर्ता को पता न चले कि क्या हुआ था।

पेगासस क्या करता है? एक बार जब स्पाइवेयर डिवाइस में घुसपैठ कर जाता है, तो यह कॉल लॉग को ट्रैक करने, संदेश, ईमेल, कैलेंडर, इंटरनेट इतिहास पढ़ने और हमलावर को जानकारी भेजने के लिए लोकेशन डेटा एकत्र करने के लिए एक मॉड्यूल इंस्टॉल करता है।

  • यदि हैकर घुसपैठ करने के लिए सिस्टम में खामियों को खोजने में असमर्थ रहता है, तो वे एक डिवाइस में या वायरलेस ट्रांसरिसीवर पर मैन्युअल रूप से पेगासस इंस्टॉल कर सकते हैं।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित स्थल

पुरी नल द्वारा गुणवत्तापूर्ण पेयजल उपलब्ध कराने वाला भारत का पहला शहर बना


पुरी 24 घंटे सातों दिन सीधे नल से उच्च गुणवत्ता वाला पेयजल उपलब्ध कराने वाला भारत का पहला शहर बन गया है। ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने 26 जुलाई, 2021 को पुरी में 'ड्रिंक फ्रॉम टैप प्रोजेक्ट' (Drink from Tap project) का उद्घाटन किया।

  • भारत के किसी भी महानगर में अभी तक ऐसी सुविधा नहीं है। इस तरह की सुविधाएं केवल लंदन, न्यूयॉर्क और सिंगापुर जैसे विश्व स्तरीय शहरों में उपलब्ध हैं।
  • इस परियोजना से पुरी के 2.5 लाख नागरिकों और हर साल आने वाले 2 करोड़ पर्यटकों को लाभ होगा। उन्हें पानी की बोतल लेकर इधर-उधर नहीं भटकना पड़ेगा। इससे पुरी पर अब 400 मीट्रिक टन प्लास्टिक कचरे का बोझ नहीं पड़ेगा।
  • पुरी में 400 स्थानों पर पानी के फव्वारे विकसित किए गए हैं।
  • इसी तरह की एक परियोजना ओडिशा के 16 अन्य शहरी केंद्रों में कार्यान्वयन के विभिन्न चरणों में है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप नियुक्ति

राकेश अस्थाना दिल्ली के नए पुलिस आयुक्त नियुक्त


सीमा सुरक्षा बल के महानिदेशक राकेश अस्थाना को दिल्ली पुलिस का आयुक्त नियुक्त किया गया है। उन्होंने 28 जुलाई, 2021 को पदभार ग्रहण किया।

  • गुजरात कैडर के 1984 बैच के भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारी अस्थाना को सेवानिवृत्त होने से तीन दिन पहले दिल्ली पुलिस प्रमुख के रूप में नियुक्त किया गया है।
  • इससे पहले सरकार ने 30 जून, 2021 को एस एन श्रीवास्तव के सेवानिवृत्त होने के बाद बालाजी श्रीवास्तव को दिल्ली पुलिस का अतिरिक्त प्रभार दिया था।
  • भारत-तिब्बत सीमा पुलिस के महानिदेशक एस.एस. देसवाल अब सीमा सुरक्षा बल के महानिदेशक के पद का अतिरिक्त प्रभार संभालेंगे।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप नियुक्ति

एरियल हेनरी हैती के नए प्रधानमंत्री नियुक्त


कैरेबियाई देश हैती में राजनीतिक उथल-पुथल के बीच 20 जुलाई, 2021 को एरियल हेनरी (Ariel Henry) को देश का नया प्रधानमंत्री नियुक्त किया गया है।

  • 7 जुलाई को राष्ट्रपति जोवेनेल मोसे की हत्या से मची उथल-पुथल के बीच देश ने एरियल हेनरी को अपना नया प्रधानमंत्री नियुक्त किया है।
  • एरियल हेनरी एक न्यूरोसर्जन और पूर्व कैबिनेट मंत्री हैं। जोवेनेल मोसे ने हत्या से कुछ दिन पहले उन्हें प्रधानमंत्री के लिए चुन लिया था।
  • हेनरी देश का नेतृत्व तब तक करेंगे जब तक कि सितंबर 2021 में देश में होने वाले चुनावों के माध्यम से एक नए राष्ट्रपति की नियुक्ति नहीं हो जाती।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

विश्व हेपेटाइटिस दिवस


28 जुलाई

2021 का विषय/अभियान: 'हेपेटाइटिस इंतजार नहीं कर सकता' (Hepatitis can’t wait)।

महत्वपूर्ण तथ्य: इस दिवस को मनाने का उद्देश्य विश्व में हेपेटाइटिस की बीमारी के बारे में जागरूकता फैलाना है।

  • हेपेटाइटिस ‘ए’ और ‘ई’ दूषित भोजन और जल के सेवन से होता है। हेपेटाइटिस ‘बी’, ‘सी’ और ‘डी’ आमतौर पर संक्रमित रक्त और शरीर के तरल पदार्थों के संपर्क से होता है।
  • यह दिवस 28 जुलाई को नोबेल पुरस्कार विजेता डॉ. बरूच ब्लूमबर्ग के जन्म दिवस के उपलक्ष्य में मनाया जाता है। बरुच ने हेपेटाइटिस बी वायरस तथा हेपेटाइटिस बी टीके की खोज की थी।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

विश्व प्रकृति संरक्षण दिवस


28 जुलाई

महत्वपूर्ण तथ्य: प्राकृतिक संसाधनों के संरक्षण के लिए लोगों में जागरुकता पैदा करने के लिए विश्व संरक्षण दिवस मनाया जाता है। इसका मुख्य उद्देश्य उन पशुओं और वृक्षों का संरक्षण करना है, जो लुप्त होने के कगार पर है। प्राकृतिक संसाधनों का संरक्षण पृथ्वी की रक्षा के लिये महत्वपूर्ण है।

सामयिक खबरें आर्थिकी

राष्ट्रीय पशुधन मिशन का उद्यमिता विकास और नस्ल सुधार का प्रस्ताव


  • जुलाई 2021 में राष्ट्रीय पशुधन मिशन (National Livestock Mission- NLM) ने भोजन और चारा विकास सहित ग्रामीण इलाकों में कुक्कुट, भेड़, बकरी और सुअर पालन में उद्यमिता विकास और नस्ल सुधार पर गहराई से ध्यान देने का प्रस्ताव रखा है।
  • डेयरी सहकारी समितियों और किसान उत्पादक संगठनों को उनकी कार्यशील पूंजी की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए 4% का ब्याज अनुदान प्रदान किया जाएगा जाएगा, जिससे 2 करोड़ किसानों को लाभ होगा और आत्मनिर्भरता का मार्ग प्रशस्त होगा।
  • भारत सरकार द्वारा 2021-22 से शुरू होकर अगले 5 वर्षों के लिए दी जाने वाली 9800 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता से पशुधन के क्षेत्र में कुल 54,618 करोड़ रुपये के निवेश को आकर्षित किया जाएगा।

सामयिक खबरें आर्थिकी

वित्तीय स्थिरता रिपोर्ट का 23वां अंक


भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा 1 जुलाई, 2021 को 'वित्तीय स्थिरता रिपोर्ट का 23वां अंक' (23rd issue of the Financial Stability Report) जारी किया गया।

रिपोर्ट के मुख्य बिंदु: सतत नीति समर्थन, सौम्य वित्तीय स्थिति और टीकाकरण की गति एक ‘असमान वैश्विक सुधार’ का पोषण कर रही है।

  • नीतिगत समर्थन ने वैश्विक स्तर पर गैर-निष्पादित ऋण (non-performing loans) युक्त बैंकों की वित्तीय स्थिति और ऋण-शोधन क्षमता और चलनिधि को मजबूत बनाए रखने में मदद की है।
  • घरेलू मोर्चे पर, कोविड-19 की दूसरी लहर की गति ने आर्थिक गतिविधियों को प्रभावित किया है, लेकिन मौद्रिक, विनियामक और राजकोषीय नीति उपायों ने वित्तीय संस्थाओं के ऋण-शोधन क्षमता जोखिम को कम करने, बाजारों को स्थिर करने और वित्तीय स्थिरता बनाए रखने में मदद की है।
  • मार्च 2021 में अनुसूचित वाणिज्यिक बैंकों का ‘जोखिम भारित आस्तियों की तुलना में पूंजी अनुपात’ (Capital to Risk-weighted Assets Ratio- CRAR) बढ़कर 16.03% और ‘प्रावधानीकरण कवरेज अनुपात’ (Provisioning Coverage Ratio- PCR) 68.86% हो गया।
  • समष्टि दबाव टेस्ट (Macro stress tests) से संकेत मिलता है कि आधारभूत परिदृश्य के तहत अनुसूचित वाणिज्यिक बैंकों (SCBs) का सकल गैर-निष्पादित आस्ति (Gross Non-Performing Asset- GNPA) अनुपात मार्च 2021 में 7.48% से बढ़कर मार्च 2022 तक 9.80%; और गंभीर दबाव परिदृश्य के तहत 11.22% तक हो सकता है, हालांकि SCBs के पास कुल और व्यक्तिगत दोनों स्तरों पर, यहां तक कि दबाव में भी पर्याप्त पूंजी है।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

धोलावीरा यूनेस्को विश्व धरोहर स्थल के रूप में अंकित


27 जुलाई, 2021 को यूनेस्को विश्व धरोहर समिति के 44वें सत्र में गुजरात के कच्छ जिले में स्थित हड़प्पा काल के स्थल के रूप में विख्यात धोलावीरा को यूनेस्को विश्व धरोहर स्थल के रूप में अंकित किया है। यह भारत का 40वां विश्व धरोहर स्थल है।

महत्वपूर्ण तथ्य: धोलावीरा का प्राचीन शहर दक्षिण एशिया में तीसरी से मध्य-दूसरी सहस्राब्दी ईसा पूर्व काल की चंद सबसे अच्छी तरह से संरक्षित प्राचीन शहरी बस्तियों में से एक है।

  • धोलावीरा स्थल अपनी पूर्व नियोजित नगर योजना, बहु-स्तरीय किलेबंदी, परिष्कृत जलाशयों और जल निकासी प्रणाली और निर्माण सामग्री के रूप में पत्थर के व्यापक उपयोग के साथ हड़प्पा शहरी नियोजन का एक उत्कृष्ट उदाहरण है।
  • शहर से जुड़ी कला भी ध्यान देने योग्य है - विभिन्न प्रकार की कलाकृतियाँ जैसे तांबा, सीप, पत्थर, अर्ध-कीमती पत्थरों के आभूषण, टेराकोटा, सोना, हाथीदांत इस स्थल पर पाए गए हैं।
  • 1968 में खोजे गए इस स्थल को स्थानीय रूप से 'कोटदा टिम्बा' (किला टीला) के रूप में जाना जाता है।
  • चंपानेर-पावागढ़ पुरातत्व पार्क, रानी की वाव और अहमदाबाद के चारदीवारी वाले शहर के बाद, धोलावीरा यूनेस्को विश्व धरोहर टैग हासिल करने वाला गुजरात का चौथा स्थल है।
  • भारत के पास अब 32 सांस्कृतिक, 7 प्राकृतिक और 1 मिश्रित यूनेस्को धरोहर स्थल हैं।

सामयिक खबरें पर्यावरण

नासा का नया अंतरिक्ष यान ‘एनईए स्काउट’


जुलाई 2021 में नासा ने घोषणा की कि उसके नए अंतरिक्ष यान 'एनईए स्काउट' (Near-Earth Asteroid Scout or NEA Scout) ने सभी आवश्यक परीक्षण पूरे कर लिए हैं और इसे स्पेस लॉन्च सिस्टम (SLS) रॉकेट के अंदर सुरक्षित रूप से रख दिया गया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: एनईए स्काउट उन पेलोड में से एक है, जो आर्टेमिस I पर भेजा जाएगा। इसके नवंबर2021 में लॉन्च होने की संभावना है।

एनईए स्काउट क्या है?एनईए स्काउट, एक छोटा अंतरिक्ष यान है, इसका मुख्य मिशन एक निकट-पृथ्वी क्षुद्रग्रह (Near-Earth Asteroid) से डेटा एकत्र करना है।

  • यह विशेष ‘सौर सेल प्रणोदन’ (solar sail propulsion) का उपयोग करने वाला ‘अमेरिका का पहला अंतरग्रहीय मिशन’ भी होगा।
  • एनईए स्काउट स्टेनलेस स्टील मिश्र धातु बूम (stainless steel alloy booms) का उपयोग करेगा ।
  • अंतरिक्ष यान को लक्षित क्षुद्रग्रह तक पहुंचने में लगभग दो साल लगेंगे और यह क्षुद्रग्रह से भिडंत के दौरान पृथ्वी से लगभग 93 मिलियन मील दूर होगा।
  • एनईए स्काउट विशेष कैमरों से लैस है और 50 सेमी/पिक्सेल से लेकर 10 सेमी/पिक्सेल तक की तस्वीरें ले सकता है।
  • आर्टेमिस I ओरियन अंतरिक्ष यान और SLS रॉकेट की एक मानव रहित परीक्षण उड़ान है। आर्टेमिस कार्यक्रम के तहत, नासा ने 2024 में ‘पहली महिला को चंद्रमा पर उतारने’ और 2030 तक ‘स्थायी चंद्र अन्वेषण कार्यक्रम’ स्थापित करने का लक्ष्य रखा है।

सामयिक खबरें पर्यावरण

इसरो मर्चेंडाइज प्रोग्राम


जुलाई 2021 में ‘भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के अनुकूलित अंतरिक्ष-थीम वाले मर्चेंडाइज प्रोग्राम या व्यापारिक कार्यक्रम’ (ISRO’s customised space-themed merchandise programme) ने कई कंपनियों के साथ शुरुआत की है।

महत्वपूर्ण तथ्य: अब, कोई भी इसरो के मिशन और काम से जुड़े अधिकृत उत्पादों जैसे- स्केल मॉडल, टी-शर्ट, मग, स्पेस-थीम वाले शैक्षिक खेल, विज्ञान आधारित खिलौने आदि खरीद सकेगा।

  • इन उत्पादों को बनाने वाली आठ कंपनियों ने अब तक इसरो के साथ इसरो-थीम आधारित लेख / मॉडल के संबंध में पंजीकरण किया है, जिसमें इंडिक इंस्पिरेशन्स (पुणे), 1947IND (बेंगलुरू) और अंकुर हॉबी सेंटर (अहमदाबाद) शामिल हैं।
  • इसरो का मानना है कि यह ब्रांड प्रचार अंतरिक्ष विज्ञान और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में जागरूकता पैदा करने तथा छात्रों, बच्चों और जनता में रुचि पैदा करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है।
  • सटीकता और इसरो के ज्ञान को सुनिश्चित करने के लिए स्केल किए गए मॉडल, लेगो सेट (LEGO sets), जिग्सॉ पहेली आदि बनाने के लिए उपयोग किए जा रहे 3डी मॉडल और 2डी ड्रॉइंग पर विशेष ध्यान दिया जाएगा।

सामयिक खबरें पर्यावरण

पीडीएस 70


वैज्ञानिकों ने पहली बार हमारे सौर मंडल से परे एक ग्रह के चारों ओर एक चंद्रमा बनाने वाले क्षेत्र (moon-forming region) को देखा है।


महत्वपूर्ण तथ्य: शोधकर्ताओं ने चिली के अटाकामा रेगिस्तान में ALMA वेधशाला का उपयोग करते हुए पृथ्वी से 370 प्रकाश वर्ष की दूरी पर स्थित 'पीडीएस 70' (PDS 70) नामक एक युवा तारे की परिक्रमा करते हुए देखे गए दो नवजात ग्रहों में से एक के आसपास जमा होने वाली घूमती हुई सामग्री की डिस्क का पता लगाया है। एक प्रकाश वर्ष वह दूरी है, जो प्रकाश एक वर्ष में तय करता है (लगभग 9.5 ट्रिलियन किमी.)।

  • नारंगी रंग का तारा पीडीएस 70, लगभग सूर्य के समान द्रव्यमान तथा लगभग 5 मिलियन वर्ष पुराना है। दोनों ग्रह और भी छोटे हैं। दोनों ग्रह एक गैस के विशालकाय बृहस्पति के समान (हालांकि बड़े) हैं। इन दो ग्रहों में से एक, जिसे ‘पीडीएस 70 सी’ (PDS 70c) कहा जाता है, के आस-पास चंद्रमा बनाने वाली डिस्क देखी गई है।
  • हमारे सौर मंडल के बाहर 4,400 से अधिक ग्रहों की खोज की गई है, जिन्हें बहिर्ग्रह (exoplanet) कहा जाता है। अब तक कोई भी परिग्रहीय डिस्क (circumplanetary discs) नहीं खोजी गई थी क्योंकि सभी ज्ञात बहिर्ग्रह, पीडीएस 70 की परिक्रमा करने वाले दो नवजात गैसीय ग्रहों को छोड़कर, "परिपक्व" - पूरी तरह से विकसित सौर प्रणालियों में हैं।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप निधन

विख्यात कण भौतिक विज्ञानी स्टीवन वेनबर्ग का निधन


पिछले पांच दशकों से सबसे प्रभावशाली एवं विख्यात कण भौतिक विज्ञानी (particle physicist), प्रो. स्टीवन वेनबर्ग का 23 जुलाई, 2021 को ऑस्टिन, टेक्सास में निधन हो गया। वे 88 वर्ष के थे।

  • स्टीवन वेनबर्ग ने 1979 में हार्वर्ड, यू.एस.ए. के ‘शेल्डन ली ग्लासो’ और इंपीरियल कॉलेज, लंदन, ब्रिटेन के ‘अब्दस सलाम’ के साथ 'प्राथमिक कणों के बीच कमजोर और विद्युतचुंबकीय अंतःक्रियाओं के एकीकृत सिद्धांत' (Unified Theory of Weak and Electromagnetic Interactions between elementary particles) की खोज के लिए भौतिकी का नोबेल पुरस्कार जीता था।
  • स्टीवन 'थ्योरी रिसर्च ग्रुप' (Theory Research Group) के निदेशक और टेक्सास विश्वविद्यालय में प्रोफेसर थे।
  • प्राथमिक कण भौतिकी (elementary particle physics) और ब्रह्मांड विज्ञान पर उनके उत्कृष्ट शोध के लिए उन्हें भौतिकी में नोबेल पुरस्कार, विज्ञान का राष्ट्रीय पदक और अमेरिकन फिलॉसॉफिकल सोसाइटी द्वारा बेंजामिन फ्रैंकलिन मेडल, ओपेनहाइमर पुरस्कार और कई अन्य पुरस्कारों से सम्मानित किया गया था।

राज्य समाचार कर्नाटक

बसवराज बोम्मई कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री


तीन बार के विधायक और पूर्व मंत्री बसवराज बोम्मई ने 28 जुलाई, 2021 को कर्नाटक के 23वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली।

  • मैकेनिकल इंजीनियरिंग स्नातक बसवराज पहले जनता दल (यूनाइटेड) में थे और 2008 में बीजेपी में शामिल हुए थे।
  • ज्ञात हो कि बीएस येदियुरप्पा ने पदभार संभालने के ठीक दो साल बाद 26 जुलाई को अपना चौथा कार्यकाल समाप्त करते हुए मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था।
  • उत्तर कर्नाटक से लिंगायत समुदाय के नेता बोम्मई को येदियुरप्पा का करीबी माना जाता है।
  • कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री एस आर बोम्मई के बेटे बसवराज हावेरी जिले के शिगगांव से विधायक हैं। एचडी देवेगौड़ा और एचडी कुमारस्वामी के बाद पिता-पुत्र की जोड़ी का कर्नाटक का मुख्यमंत्री बनने का यह दूसरा मौका है।

राज्य समाचार उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्यपाल आनंदी बेन पटेल के साथ 22 जुलाई, 2021 को लोक भवन, लखनऊ में 'उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना' का शुभारंभ किया।

  • राज्य सरकार की यह नई योजना कोविड -19 महामारी से अनाथ हुए बच्चों के लिएहै।
  • इस योजना के तहत, राज्य सरकार प्रति माह 4,000 रुपए की वित्तीय सहायता प्रदान करेगी और अनाथ हुए बच्चों को मुफ्त शिक्षा प्रदान करेगी।
  • इसके अलावा कोविड द्वारा अनाथ हुई लड़कियों को शादी के समय 1,01,000 रुपए की धनराशि प्रदान की जाएगी।
  • पहल के शुभारंभ पर, पहली तिमाही के लिए 12,000 रुपये की राशि ऐसे 4,050 बच्चों के बैंक खातों में डिजिटल रूप से अंतरित की गई। साथ ही योजना के तहत पात्र बच्चों को टैबलेट और लैपटॉप प्रदान किए गए।

खेल समाचार चर्चित खेल व्यक्तित्व

अभिमन्यु मिश्रा शतरंज इतिहास के सबसे युवा ग्रैंडमास्टर


  • 30 जून, 2021 को भारतीय मूल के अमेरिकी अभिमन्यु मिश्रा शतरंज इतिहास के सबसे युवा ग्रैंडमास्टर बन गये हैं। अभिमन्यु ने 12 साल, 4 महीने और 25 दिन की आयु में यह उपलब्धि हासिल की।
  • उन्होंने 2002 में रूस के सर्गेई कारजाकिन द्वारा बनाए गए 12 साल और सात महीने के रिकॉर्ड को तोड़ दिया है।
  • अमेरिका के न्यू जर्सी में रहने वाले अभिमन्यु मिश्रा ने बुडापेस्ट में वेजेर्केप्जो ग्रैंडमास्टर टूर्नामेंट में अपना तीसरा और अंतिम ग्रैंडमास्टर मानदंड हासिल किया। उन्होंने 15 वर्षीय भारतीय ग्रैंडमास्टर लियोन ल्यूक मेंडोंका को हराकर यह उपलब्धि हासिल की।
  • ग्रैंड मास्टर का खिताब वैश्विक शतरंज संगठन (FIDE) द्वारा खिलाड़ियों को दिया जाता है।

पीआईबी न्यूज अंतरराष्ट्रीय

समुद्री अभ्यास 'कटलैस एक्सप्रेस 2021'


आईएनएस तलवार समुद्री अभ्यास 'कटलैस एक्सप्रेस 2021' (Cutlass Express 2021) में भाग ले रहा है। इस अभ्यास का संचालन 26 जुलाई से 6 अगस्त, 2021 तक अफ्रीका के पूर्वी तट पर किया जा रहा है।

  • यह पूर्वी अफ्रीका और पश्चिमी हिंद महासागर में राष्ट्रीय और क्षेत्रीय समुद्री सुरक्षा को बढ़ावा देने के लिए आयोजित एक वार्षिक समुद्री अभ्यास है।
  • भारतीय नौसेना अभ्यास में 'प्रशिक्षक की भूमिका' में भाग ले रही है।
  • अभ्यास के 2021 संस्करण में 12 पूर्वी अफ्रीकी देश, अमेरिका, यूनाइटेड किंगडम, भारत और अंतरराष्ट्रीय समुद्री संगठन जैसे विभिन्न अंतरराष्ट्रीय संगठन हिस्सा ले रहे हैं।
  • यह अभ्यास पूर्वी अफ्रीका के तटीय क्षेत्रों पर केंद्रित है और इसका संचालन संयुक्त समुद्री कानून प्रवर्तन क्षमता का आकलन एवं सुधार करने, राष्ट्रीय और क्षेत्रीय सुरक्षा को बढ़ावा देने तथा क्षेत्रीय नौसेनाओं के बीच अंतरप्रचालनीयता को बढ़ाने के लिए किया जा रहा है।
  • अभ्यास के हिस्से के रूप में, जहाज केन्या के मोम्बासा का दौरा कर रहा है, जिसमें केन्या नौसेना के साथ कई कार्यक्रमों की योजना है।

सामयिक खबरें आर्थिकी

आवधिक श्रम बल सर्वेक्षण वार्षिक रिपोर्ट 2019-20


23 जुलाई, 2021 को राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (NSO) द्वारा जुलाई, 2019 से जून 2020 के लिए ‘तीसरी आवधिक श्रम बल सर्वेक्षण वार्षिक रिपोर्ट’ जारी की गई।

उद्देश्य: प्रति वर्ष ग्रामीण और शहरी दोनों ही क्षेत्रों में सामान्य स्थिति (प्रमुख कार्यकलाप की स्थिति + सहायक आर्थिक कार्यकलाप की स्थिति) तथा वर्तमान साप्ताहिक स्थिति (CWS) दोनों में रोजगार और बेरोजगारी संकेतकों का अनुमान लगाना।

महत्वपूर्ण तथ्य: NSO ने अप्रैल 2017 में आवधिक श्रम बल सर्वेक्षण (PLFS) का शुभारंभ किया था। प्रथम वार्षिक (जुलाई 2017-जून 2018) रिपोर्ट मई 2019 में जारी की गई थी।

रोजगार और बेरोजगारी संबंधी प्रमुख संकेतक

  1. श्रम बल भागीदारी दर (LFPR): श्रम बल भागीदारी दर देश की कुल आबादी में श्रम बल (अर्थात कहीं कार्यरत या काम की तलाश में या काम के लिए उपलब्ध) का प्रतिशत है।
  2. कामगार जनसंख्या अनुपात (WPR): WPR को कुल जनसंख्या में नियोजित व्यक्तियों के प्रतिशत के रूप में परिभाषित किया जाता है।
  3. बेरोजगारी दर (UR): बेरोजगारी दर को श्रम बल के बीच बेरोजगार व्यक्तियों के प्रतिशत के रूप में परिभाषित किया जाता है।।

तीसरी रिपोर्ट की मुख्य बातें: 2019-20 में श्रम बल भागीदारी दर बढ़कर 40.1% हो गई है, जो पिछले दो वर्षों में क्रमशः 37.5% (2018-19) और 36.9% (2017-18) थी।

  • कामगार जनसंख्या अनुपात 2017-18 में 34.7% और 2018-19 में 35.3% की तुलना में 2019-20 में बढ़कर 38.2% हो गया है।
  • 2019-20 में बेरोजगारी दर गिरकर 4.8% हो गई। 2018-19 में यह 5.8% और 2017-18 में 6.1% थी।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

हाई स्पीड मैग्लेव ट्रेन


चीन ने 20 जुलाई, 2021 को एक हाई-स्पीड मैग्लेव ट्रेन (high-speed maglev train) का अनावरण किया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: इसकी अधिकतम रफ्तार 600 किलोमीटर प्रति घंटे की है, इसे जमीन पर दौड़ने वाला दुनिया का सबसे तेज वाहन कहा जा रहा है।

  • नई मैग्लेव परिवहन प्रणाली ने चीन के पूर्वी शेंडोंग प्रांत के तटीय शहर किंगदाओ में अपनी सार्वजनिक शुरुआत की है।
  • अक्टूबर 2016 में शुरू की गई, हाई-स्पीड मैग्लेव ट्रेन परियोजना ने 2019 में 600 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार का ट्रेन प्रोटोटाइप विकसित किया था, जिसका जून 2020 में सफल परीक्षण किया गया था।
  • ट्रेन में 2 से 10 डिब्बे लगाए जा सकते हैं तथा प्रत्येक में 100 से अधिक यात्री सवार हो सकते हैं।
  • पहियों पर चलने वाले पारंपरिक वाहनों की तुलना में, उच्च गति वाली मैग्लेव ट्रेनों का रेल पटरियों से संपर्क नहीं होता है। दक्षता और गति के मामले में ये काफी फायदेमंद हैं और बहुत कम शोर पैदा करते हैं।
  • यह ट्रेन 1,500 किमी. की सीमा के दायरे में यात्रा की दृष्टि से सर्वश्रेष्ठ समाधान प्रदान करती है।

सामयिक खबरें पर्यावरण

राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन


26 जुलाई, 2021 को जल शक्ति मंत्रालय द्वारा राज्य सभा में दी गई जानकारी के अनुसार नमामि गंगे कार्यक्रम के तहत 'राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन' (National Mission for Clean Ganga- NMCG) के लिए अब तक 15,074 करोड़ रुपए आवंटित किए जा चुके हैं।

महत्वपूर्ण तथ्य: भारत सरकार ने गंगा नदी और उसकी सहायक नदियों के प्रदूषण को कम करने, उनके संरक्षण और पुनरुद्धार के लिए 20,000 करोड़ रुपए के कुल बजटीय परिव्यय के साथ 2014 में नमामि गंगे कार्यक्रम की शुरूआत की थी।

  • जल शक्ति मंत्रालय के तहत निकाय NMCG को वित्त मंत्रालय द्वारा इसमें से मात्र 10,972 करोड़ रुपए या लगभग दो-तिहाई धनराशि जारी की गई है। NMCG यह धनराशि नदी तटवर्ती राज्यों को आवंटित करती है।
  • भविष्य की लागतों को ध्यान में रखते हुए स्वच्छ गंगा मिशन के लिए नियोजित परिव्यय 20,000 करोड़ रुपए से अधिक है।
  • कुल मिलाकर, 30,235 करोड़ रुपए लागत की 346 परियोजनाओं को स्वीकृतकिया गया था, जिसमें से 158 परियोजनाएं पूरी हो चुकी हैं।
  • उत्तर प्रदेश को 3,535 करोड़ रुपए के साथ सबसे अधिक आवंटन हुआ है, इसके बाद बिहार (2,631 करोड़ रुपए), बंगाल (1,030 करोड़ रुपए) और उत्तराखंड (1001 करोड़ रुपए) का स्थान है।
  • 30 जून, 2021 तक नमामि गंगे कार्यक्रम के तहत राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन के लिए 1040.63 करोड़ रुपये उपलब्ध थे।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित स्थल

कांडला बना पहला हरित विशेष आर्थिक क्षेत्र


देश का सबसे पुराना निर्यात क्षेत्र ‘कांडला विशेष आर्थिक क्षेत्र’ (Kandla Becomes First Green Special Economic Zone- KASEZ), औद्योगिक शहरों की श्रेणी में मौजूदा शहरों के लिए इंडियन ग्रीन बिल्डिंग काउंसिल 'ग्रीन सिटीज रेटिंग' (IGBC Green Cities Rating) के तहत जुलाई 2021 में प्लैटिनम रेटिंग प्राप्त करने वाला भारत का "पहला हरित औद्योगिक शहर" बन गया है।

  • 2019 में KASEZ में 25,000 पेड़ों की तुलना में,वर्तमान में 1000 एकड़ में 3.5 लाख पेड़ हैं। इनमें से अधिकांश पेड़ 2019 के बाद मियावाकी वनीकरण पद्धति का उपयोग करके लगाए गए हैं। पेड़ों के रोपण ने लवणता को कम करने में मदद की है और ऊपरी मृदा की गुणवत्ता में सुधार किया है।
  • इसके अलावा, KASEZ ने पानी के रिसाव को रोकने के लिए क्षेत्र के अंदर बनाए गए कृत्रिम जल निकायों को पंक्तिबद्ध करने के लिए प्लास्टिक कचरे का भी इस्तेमाल किया है।
  • गुजरात राज्य के कच्छ जिले में स्थित KASEZ का उद्घाटन मार्च 1965 में तत्कालीन प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री द्वारा ‘देश के पहले मुक्त व्यापार क्षेत्र’ के रूप में किया गया था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप निधन

प्रख्यात मराठी कवि सतीश कालसेकर का निधन


प्रख्यात मराठी कवि सतीश कालसेकर का 23 जुलाई, 2021 को महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले के पेण टाउन में उनके आवास पर दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। वे 78 वर्ष के थे।

  • कालसेकर को उनके निबंधों के संग्रह 'वाचनार्याची रोजनिशि' के लिए 2014 में साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।
  • वे ज्यादातर एक कवि के रूप में अपने काम के लिए जाने जाते थे। उनके लोकप्रिय कविता संग्रह 'इंद्रियोपनिषद', 'साक्षात' और 'विलम्बित' हैं।
  • उन्होंने साहित्य के कई रूपों में धाराप्रवाह काम किया और कविता, अनुवाद, गद्य लेखन और संपादन के क्षेत्र में योगदान दिया।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप कला/संस्कृति

5वां पूर्वोत्तर भारत पारंपरिक फैशन सप्ताह 2021


केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री, डॉ. वीरेंद्र कुमार ने 24 जुलाई, 2021 को ‘5वें पूर्वोत्तर भारत पारंपरिक फैशन सप्ताह 2021’ (5th North-East India Traditional Fashion Week: NEIFW 2021) का उद्घाटन वर्चुअल माध्यम से किया।

उद्देश्य: पूर्वोत्तर के विभिन्न जनजातियों और विशिष्ट संस्कृति वाले समूहों के दिव्यांगजनों को सशक्त बनाना एवं उनका उत्थान करना तथा वस्त्र एवं शिल्प उद्योग के प्रति समावेशी दृष्टिकोण अपनाने के लिए प्रोत्साहित करना।

  • इसका आयोजन केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय के प्रशासनिक नियंत्रण के तहत प्रमुख संगठन ‘राष्ट्रीय दृष्टि दिव्यांगजन सशक्तीकरण संस्थान, देहरादून’ (NIEPVD) द्वारा किया गया, जिसका उद्देश्य पूर्वोत्तर की दिव्यांग आबादी और हितधारकों की आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए ‘पूर्वोत्तर भारत की कलाओं’ और ‘कारीगरों’ को बढ़ावा देना है।
  • NEIFW 2021 द्वारा कौशल एवं उद्यमिता निर्माण; कारीगर प्रशिक्षण कार्यशाला; दिव्यांग कारीगरों की प्रदर्शनी; पारंपरिक ड्रेस शो और पारंपरिक सांस्कृतिक महोत्सव पर ध्यान केंद्रित किया गया।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप विविध

एनिमेशन, दृश्य प्रभाव, गेमिंग और कॉमिक्स के लिए राष्ट्रीय उत्कृष्टता केंद्र


सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय द्वारा 26 जुलाई, 2021 को राज्य सभा में दी गई जानकारी के अनुसार केंद्र सरकार ने भारतीय और साथ ही वैश्विक उद्योग के लिए भारत में एक विश्व स्तरीय प्रतिभा पूल तैयार करने के लिए 'एनिमेशन, दृश्य प्रभाव, गेमिंग और कॉमिक्स के लिए राष्ट्रीय उत्कृष्टता केंद्र' (National Centre of Excellence for Animation, Visual Effects, Gaming and Comics) स्थापित करने का निर्णय लिया है।

  • इसे भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, बॉम्बे के सहयोग से स्थापित किया जाएगा।
  • एनिमेशन और दृश्य प्रभाव (VFX) क्षेत्र में कुशल श्रमशक्ति का समर्थन करने के लिए, 'सत्यजीत रे फिल्म एवं टेलीविजन संस्थान' और ‘भारतीय फिल्म एवं टेलीविजन संस्थान' एनिमेशन और VFX पर पाठ्यक्रम संचालित करते हैं।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप विविध

राष्‍ट्रीय अनुसंधान फाउंडेशन


केन्द्रीय शिक्षा मंत्रालय द्वारा 26 जुलाई, 2021 को लोक सभा में दी गई जानकारी के अनुसार सरकार ने देश में अनुसंधान परितंत्र को सुदृढ़ बनाने के लिए एक ‘राष्ट्रीय अनुसंधान फाउंडेशन’ (National Research Foundation - NRF) के गठन का प्रस्ताव किया है।

  • NRF की परिकल्पना एक व्यापक संरचना के रूप में की जा रही है, जो अनुसंधान एवं विकास, शिक्षा क्षेत्र तथा उद्योग के बीच संपर्कों में सुधार लाएगी।
  • राष्ट्रीय अनुसंधान फाउंडेशन का प्रस्तावित कुल परिव्यय पांच वर्ष के अवधि के दौरान 50,000 करोड रुपये है।
  • NRF के मुख्य उद्देश्यों में से एक शैक्षणिक संस्थानों, विशेष रूप से विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों, जहां अनुसंधान क्षमता वर्तमान में आरंभिक चरण में है, में अनुसंधान को बढ़ावा देना, विकसित करना तथा सुविधा प्रदान करना है।

खेल समाचार चर्चित खेल व्यक्तित्व

टोक्यो ओलंपिक में भारोत्तोलक मीराबाई चानू ने दिलाया भारत को पहला पदक


भारोत्तोलक ‘साइखोम मीराबाई चानू’ ने 24 जुलाई, 2021 को महिलाओं की 49 किग्रा. वर्ग की भारोत्तोलन स्पर्धा में ‘रजत पदक’ जीतकर टोक्यो ओलंपिक में भारत को पहला पदक दिलाया।

  • उन्होंने ‘स्नैच’ में 87 किग्रा. और क्लीन एंड जर्क में 115 किग्रा. सहित कुल 202 किग्रा. भार उठाया। चीन की होउ झिहुई (Hou Zhihui) पहले स्थान पर रही, जिन्होंने 210 किग्रा भार उठाकर स्वर्ण पदक जीता।
  • मणिपुर की 26 वर्षीया चानू, वर्ष 2000 में कर्णम मल्लेश्वरी (कांस्य पदक) के बाद ओलंपिक में पदक जीतने वाली दूसरी भारतीय भारोत्तोलक हैं।
  • वह पी.वी. सिंधु (2016 रियो ओलंपिक) के बाद ओलंपिक रजत पदक जीतने वाली दूसरी भारतीय महिला भी हैं।

पुरस्कार: राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार (2018); पद्म श्री पुरस्कार (2018)।

उपलब्धियां-

  • स्वर्ण पदक: महिला 48 किग्रा, विश्व चैंपियनशिप 2017, अनाहीम (यूएसए) तथा महिला 48 किग्रा, राष्ट्रमंडल खेल 2018, गोल्ड कोस्ट;
  • रजत पदक: महिला 49 किग्रा, टोक्यो ओलंपिक 2020 तथा महिला 48 किग्रा, राष्ट्रमंडल खेल 2014, ग्लासगो;
  • कांस्य पदक: महिला 49 किग्रा, एशियाई चैंपियनशिप 2020, ताशकंद।

पीआईबी न्यूज विज्ञान और तकनीक

भारतीय विज्ञान प्रौद्योगिकी और इंजीनियरिंग सुविधाएं मानचित्र परियोजना


जुलाई 2021 में ‘भारतीय विज्ञान प्रौद्योगिकी और इंजीनियरिंग सुविधाएं मानचित्र परियोजना’ (Indian Science Technology and Engineering facilities Map: I-STEM) को 2026 तक पांच साल के लिए विस्तार दिया गया है। इसने अतिरिक्त सुविधाओं के साथ अपने दूसरे चरण में प्रवेश किया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: I-STEM अनुसंधान एवं विकास (R&D) सुविधाओं को साझा करने के लिए राष्ट्रीय वेब पोर्टल है। इसे जनवरी 2020 में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा लॉन्च किया गया था।

  • I-STEM (www.istem.gov.in) सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार के कार्यालय की एक पहल है, जो कि प्रधानमंत्री विज्ञान, प्रौद्योगिकी और नवाचार सलाहकार परिषद (PM-STIAC) मिशन के तहत काम करता है।
  • I-STEM का उद्देश्य शोधकर्ताओं को संसाधनों से जोड़कर देश में अनुसंधान और विकास का इकोसिस्टम विकसित करना है; देश में मौजूदा सार्वजनिक रूप से वित्त पोषित अनुसंधान एवं विकास सुविधाओं तक पहुंच को सक्षम करके उन्हें आवश्यक आपूर्ति और सहायता प्रदान करना है।
  • दूसरे चरण के तहत, पोर्टल एक डिजिटल कैटलॉग के माध्यम से सूचीबद्ध स्वदेशी प्रौद्योगिकी उत्पादों की मेजबानी करेगा। यह विभिन्न ‘सिटी नॉलेज एंड इनोवेशन क्लस्टर्स’ (City Knowledge and Innovation Clusters) के लिए एक मंच भी प्रदान करेगा।

सामयिक खबरें आर्थिकी

आरबीआई खुदरा प्रत्यक्ष योजना


भारतीय रिजर्व बैंक- आरबीआई (RBI) ने 12 जुलाई, 2021 को ‘खुदरा प्रत्यक्ष योजना’ (RBI Retail Direct Scheme) की घोषणा की।

  • महत्वपूर्ण तथ्य: RBI की खुदरा प्रत्यक्ष योजना व्यक्तिगत निवेशकों द्वारा सरकारी प्रतिभूतियों (G-Sec) में निवेश की सुविधा के लिए एक वन-स्टॉप समाधान है।
    • योजना के तहत, खुदरा निवेशकों को RBI के साथ नि:शुल्क ‘खुदरा प्रत्यक्ष गिल्ट खाता’ (Retail Direct Gilt Account- RDG Account) खोलने और बनाए रखने की सुविधा प्रदान की जाएगी।
    • RDG account, योजना के प्रयोजन के लिए प्रदान किए गए 'ऑनलाइन पोर्टल' के माध्यम से खोला जा सकता है।
    • ऑनलाइन पोर्टल पंजीकृत यूजर्स को सरकारी प्रतिभूतियों के प्राथमिक निर्गमन और NDS-OM तक पहुंच जैसी सुविधाएं भी प्रदान करेगा।
    • यह सुविधा सरकारी प्रतिभूतियों में खुदरा भागीदारी बढ़ाने की दिशा में जारी प्रयासों के हिस्से के रूप में शुरू की गई है। इस योजना के क्रियान्वयन की तिथि अभी घोषित नहीं की गई है।
  • गिल्ट खाता: सरकारी प्रतिभूतियों को खोलने और बनाए रखने वाला खाता, 'गिल्ट खाता' कहलाता है। यह किसी संस्था या व्यक्ति या आरबीआई द्वारा अनुमत "अभिरक्षक" (Custodian) के साथ 'भारत के बाहर निवासी व्यक्ति' द्वारा खोला जा सकता है।
  • NDS-OM: आरबीआई ने अगस्त 2005 में 'नेगोशिएटेड डीलिंग सिस्टम-ऑर्डर मैचिंग सिस्टम (Negotiated Dealing System-Order Matching system: NDS-OM) की शुरुआत की। NDS-OM सरकारी प्रतिभूतियों में लेनदेन के लिए एक इलेक्ट्रॉनिक, स्क्रीन आधारित, नाम रहित, ऑर्डर संचालित ट्रेडिंग सिस्टम है।

सामयिक खबरें आर्थिकी

भारत में नवीकरणीय का एकीकरण 2021 रिपोर्ट


नीति आयोग और अंतरराष्ट्रीय ऊर्जा एजेंसी (IAE) ने 22 जुलाई, 2021 को संयुक्त रूप से ‘भारत में नवीकरणीय का एकीकरण 2021 रिपोर्ट’ (Report on Renewables Integration in India 2021) जारी की।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह रिपोर्ट तीन राज्यों महाराष्ट्र, कर्नाटक और गुजरात की सरकारों के साथ इन नवीकरणीय समृद्ध राज्यों के सामने अक्षय ऊर्जा की तरफ बढ़ने की दिशा में आई विशेष चुनौतियों को समझने के लिये आयोजित कार्यशालाओं से मिले परिणामों के आधार पर है।

  • रिपोर्ट में इस बात पर प्रकाश डाला गया है कि भारत की बिजली प्रणाली नवीकरणीय ऊर्जा को कुशलतापूर्वक एकीकृत (2022 तक175 गीगावॉट और 2030 तक 450 गीगावॉट) कर सकती है, लेकिन इसके लिए संसाधनों की पहचान और उचित योजना, नियामक, नीति और संस्थागत समर्थन, ऊर्जा भंडारण और आधुनिक प्रौद्योगिकी पहलों की आवश्यकता होगी।
  • पर्यावरण अनुकूल बिजली प्रणालियों में ढलने के लिए भारत के राज्यों को लचीले विकल्पों की एक बड़ी शृंखला को प्रयोग में लाने आवश्यकता है- जैसे कि मांग के अनुसार प्रतिक्रिया, कोयला आधारित बिजली संयंत्रों का अधिक लचीला संचालन, भंडारण और ग्रिड सुधार।
  • कृषि में उपयोग के समय (Time of Use - ToU) को बदलकर नवीकरणीय ऊर्जा के बड़े हिस्से को बेहतर ढंग से प्रबंधित किया जा सकता है।

अन्य तथ्य: तेल आपूर्ति की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए 1974 में अंतरराष्ट्रीय ऊर्जा एजेंसी का गठन किया गया।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

संयुक्त जिला शिक्षा सूचना प्रणाली प्लस 2019-20 रिपोर्ट


केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय द्वारा 1 जुलाई, 2021 को भारत में स्कूली शिक्षा के लिए ‘संयुक्त जिला शिक्षा सूचना प्रणाली प्लस 2019-20 रिपोर्ट’ (United District Information System for Education Plus: UDISE+ 2019-20 Report) जारी की गई।

रिपोर्ट के मुख्य बिंदु: 2019-20 में पूर्व-प्राथमिक से लेकर उच्च माध्यमिक तक स्कूली शिक्षा में कुल छात्रों की संख्या 26.45 करोड़ के पार पहुंच गई, जो 2018-19 की तुलना में 42.3 लाख अधिक है।

  • स्कूली शिक्षा के सभी स्तरों पर ‘सकल नामांकन अनुपात’ में सुधार हुआ है। 2019-20 में (2018-19 से) उच्च प्राथमिक स्तर पर ‘सकल नामांकन अनुपात’ बढ़कर 89.7% (87.7% से), प्रारंभिक स्तर पर 97.8% (96.1% से), माध्यमिक स्तर पर 77.9% (76.9% से) और उच्च माध्यमिक स्तर पर 51.4% (50.1% से) हो गया।
  • स्कूली शिक्षा के सभी स्तरों पर ‘छात्र शिक्षक अनुपात’ (पीटीआर) में सुधार हुआ है। 2019-20 में प्राथमिक के लिए पीटीआर 26.5, उच्च प्राथमिक और माध्यमिक के लिए पीटीआर 18.5 और उच्च माध्यमिक के लिए पीटीआर 26.1 हो गया।
  • 2019-20 में प्राथमिक से उच्च माध्यमिक तक ‘लड़कियों का नामांकन’ 12.08 करोड़ से अधिक है। यह 2018-19 की तुलना में 14.08 लाख की वृद्धि है।
  • 2012-13 और 2019-20 के बीच, माध्यमिक और उच्च माध्यमिक दोनों स्तरों पर ‘लिंग समानता सूचकांक’ (जीपीआई) में सुधार हुआ है। उच्चतर माध्यमिक स्तर पर जीपीआई में सबसे अधिक सुधार हुआ, जो 2012-13 में 0.97 से बढ़कर 2019-20 में 1.04 हो गया।
  • 2019-20 में चालू बिजली, चालू कंप्यूटर, इंटरनेट सुविधा वाले स्कूलों की संख्या में उल्लेखनीय सुधार हुआ है।
  • 2012-13 में हाथ धोने की सुविधा वाले स्कूलों की संख्या केवल 36.3% थी; वर्ष 2019-20 में यह बढ़कर 90% से अधिक हो गई है।
  • अन्य तथ्य: स्कूलों से ऑनलाइन डेटा संग्रह की UDISE+ प्रणाली को वर्ष 2018-19 में विकसित किया गया था।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

तेलंगाना का रुद्रेश्वर मंदिर विश्व धरोहर स्थल के रूप में अंकित


25 जुलाई, 2021 को यूनेस्को विश्व धरोहर समिति के 44वें सत्र में तेलंगाना राज्य में वारंगल के पास, मुलुगु जिले के पालमपेट गाँव में स्थित रुद्रेश्वर मंदिर (जिसे रामप्पा मंदिर के रूप में भी जाना जाता है) को यूनेस्को की विश्व धरोहर स्थल के रूप में अंकित किया गया है। यह भारत का 39वां विश्व धरोहर स्थल है।

महत्वपूर्ण तथ्य: रामप्पा मंदिर, 13वीं शताब्दी का अभियंत्रिकीय चमत्कार है, जिसका नाम इसके वास्तुकार ‘रामप्पा’ के नाम पर रखा गया था।

  • रुद्रेश्वर मंदिर का निर्माण 1213 ईस्वी में काकतीय साम्राज्य के शासनकाल में काकतीय राजा गणपति देव के एक सेनापति रेचारला रुद्र ने कराया था।
  • यह मंदिर ‘भगवान शिव’ को समर्पित है और यहां के स्थापित देवता ‘रामलिंगेश्वर स्वामी’ हैं।
  • काकतीयों के मंदिर परिसरों की विशिष्ट शैली, तकनीक और सजावट काकतीय मूर्तिकला के प्रभाव को प्रदर्शित करती हैं।
  • मजबूती के लिए नींव ‘सैंडबॉक्स तकनीक’ (sandbox technique) के साथ बनाई गई है, फर्श ग्रेनाइट की है और स्तंभ बेसाल्ट के हैं। मंदिर का निचला हिस्सा लाल बलुआ पत्थर का है, जबकि सफेद गोपुरम को हल्की ईंटों से बनाया गया है जो पानी पर तैरती हैं।
  • सैंडबॉक्स तकनीक में नींव बिछाने के लिए खोदे गए गड्ढे को भरने के लिए इमारतों के निर्माण से पहले, रेत, गुड़ और करक्काया (काले हरड़ फल) के मिश्रण को मिलाया जाता है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित स्थल

सोहरा (चेरापूंजी)


25 जुलाई, 2021 को केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने अपनी मेघालय यात्रा के दौरान सोहरा (चेरापूंजी) में ‘हरित सोहरा वनीकरण अभियान’ का शुभारंभ किया। मेघालय सरकार द्वारा असम राइफल्स के सहयोग से यह वनारोपण अभियान चलाया जाएगा।

  • उन्होंने ‘ग्रेटर सोहरा जलापूर्ति योजना’ का उद्घाटन भी किया। जल जीवन मिशन के अंतर्गत पूर्वोत्तर विशेष अवसंरचना योजना के तहत पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास मंत्रालय और मेघालय सरकार 25 करोड रूपए की लागत की इस योजना से हर परिवार, हर घर तक शुद्ध पीने का पानी नल से पहुँचाया जाएगा।
  • सोहरा, जिसे पहले ‘चेरापूंजी’ के नाम से जाना जाता था, को 1982 में मेघालय के पूर्वी खासी हिल्स जिले में एक उप-मंडल के रूप में स्थापित किया गया था।
  • सोहरा को अक्सर दुनिया में सबसे नम स्थान होने का श्रेय दिया जाता है, लेकिन वर्मातन में चेरापूंजी के करीब ‘मासिनराम’ दुनिया का सबसे अधिक बारिश वाला और नम इलाका है।
  • चेरापूंजी में भारतीय ग्रीष्म मानसून की बंगाल की खाड़ी के हिस्से से वर्षा होती है।
  • बारहमासी वर्षा के बावजूद, चेरापूंजी को पानी की भारी कमी का सामना करना पड़ता है और पीने योग्य पानी के लिए निवासियों को अक्सर मीलों का सफर तय करना पड़ता है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप निधन

प्रसिद्ध अभिनेत्री जयंती का निधन


प्रसिद्ध अभिनेत्री जयंती का 26 जुलाई, 2021 को बेंगलुरू में निधन हो गया। वे 76 वर्ष की थीं।

  • 1963 में अपने अभिनय करियर की शुरुआत करते हुए, जयंती के नाम कन्नड़, तेलुगु, तमिल, मलयालम और हिंदी में 500 से अधिक फिल्में हैं।
  • 'अभिनय शारदे' या 'अभिनय की देवी' के रूप में जानी जाने वाली जयंती ने सुपरस्टार डॉ. राज कुमार, एन टी रामाराव, शिवाजी गणेशन, एमजी रामचंद्रन, रजनीकांत और शम्मी कपूर के नेतृत्व वाली फिल्मों में मुख्य किरदार निभाया।
  • कन्नड़ फिल्म निर्देशक पुत्तन्ना कनागल की 'नागरहावु' फिल्म में उन्होंने अपने छोटे से किरदार से लोगों का दिल जीत लिया था।
  • जयंती ने सात बार कर्नाटक राज्य फिल्म पुरस्कार और दो बार फिल्मफेयर पुरस्कार जीता। उन्हें डॉ. राजकुमार लाइफटाइम अवॉर्ड से भी सम्मानित किया गया था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप विविध

पूर्वोत्तर अंतरिक्ष उपयोग केंद्र


केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने 24 जुलाई, 2021 को 'पूर्वोत्तर अंतरिक्ष उपयोग केंद्र' ( North Eastern Space Applications Centre- NESAC) के बहुउद्देश्यीय कन्वेंशन सेंटर सह अंतरिक्ष प्रदर्शनी सुविधा का शिलान्यास किया।

  • NESAC, अंतरिक्ष विभाग और पूर्वोत्तर परिषद की एक संयुक्त पहल है, जो मेघालय सोसायटी पंजीकरण अधिनियम, 1983 के तहत पंजीकृत एक सोसायटी है।
  • 5 सितंबर, 2000 को अस्तित्व में आया यह केंद्र ‘उन्नत अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी’ सहायता प्रदान करके क्षेत्र में विकास प्रक्रिया को बढ़ाने में मदद करता है।
  • NESAC मेघालय की राजधानी शिलांग से लगभग 20 किमी. दूर उमियम (बारापानी) में स्थित है।
  • NESAC सोसायटी के अध्यक्ष केंद्रीय गृह मंत्री (पूर्वोत्तर परिषद के पदेन अध्यक्ष) अमित शाह हैं।
  • NESAC का उद्देश्य रिमोट सेंसिंग का उपयोग करके क्षेत्र में मौजूद प्राकृतिक संसाधनों की खोज और उपयोग करना, पूर्वोत्तर राज्यों को उपग्रह सेवाओं तक पहुंच प्रदान करना और शैक्षणिक संस्थानों के साथ गठजोड़ करके क्षेत्र में अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी में अनुसंधान को बढ़ावा देना है।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

डिजिटल एवं सतत व्यापार सुविधा पर संयुक्त राष्ट्र वैश्विक सर्वेक्षण 2021


जुलाई 2021 में भारत ने ‘एशिया प्रशांत के लिए संयुक्त राष्ट्र आर्थिक एवं सामाजिक आयोग (UNESCAP) के डिजिटल एवं सतत व्यापार सुविधा पर ताजा वैश्विक सर्वेक्षण में 90.32% अंक हासिल किये हैं।

महत्वपूर्ण तथ्य: 2019 के सर्वेक्षण में इसे 78.49% अंक हासिल हुए थे।

  • दुनिया भर की 143 अर्थव्यवस्थाओं के मूल्यांकन के बाद 2021 के सर्वेक्षण में निम्न सभी 5 प्रमुख संकेतकों पर भारत के स्कोर में महत्वपूर्ण सुधार हुआ है-
  1. पारदर्शिता- 100% (2019 में 93.33%);
  2. औपचारिकताएं- 95.83% (2019 में 87.5%);
  3. संस्थागत व्यवस्था एवं सहयोग- 88.89% (2019 में 66.67%);
  4. कागज रहित व्यापार: 96.3% (2019 में 81.48%);
  5. सीमा पार कागज रहित व्यापार: 66.67% (2019 में 55.56%)।
  • दक्षिण एवं दक्षिण पश्चिम एशिया क्षेत्र (63.12%) और एशिया प्रशांत क्षेत्र (65.85%) की तुलना में भारत सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाला देश है।
  • भारत का समग्र स्कोर भी फ्रांस, ब्रिटेन, कनाडा, नॉर्वे, फिनलैंड आदि कई ‘आर्थिक सहयोग और विकास संगठन’ (OECD) देशों के मुकाबले अधिक पाया गया है और उसका समग्र स्कोर यूरोपीय संघ के औसत स्कोर से अधिक है।

सर्वेक्षण के बारे में:डिजिटल एवं सतत व्यापार सुविधा पर वैश्विक सर्वेक्षण हर दो साल में UNESCAP द्वारा आयोजित किया जाता है। वर्ष 2021 के सर्वेक्षण में विश्व व्यापार संगठन के व्यापार सुविधा समझौते में शामिल 58 व्यापार सुविधा उपायों का आकलन शामिल है।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

भारत में निगरानी कानून


वैश्विक सहयोगी जांच परियोजना द्वारा खोज में पता चला है कि भारत में कम से कम 300 व्यक्तियों की लक्षित निगरानी के लिए इजराइली स्पाइवेयर (spyware) 'पेगासस' का इस्तेमाल किया गया है। हालांकि सरकार ने दावा किया है कि भारत में सभी कॉल इंटरसेप्शन (interception) कानूनी रूप से होते हैं।

महत्वपूर्ण तथ्य: भारत में संचार निगरानी मुख्य रूप से दो कानूनों के तहत होती है - टेलीग्राफ अधिनियम, 1885 और सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम, 2000।

  • टेलीग्राफ अधिनियम कॉल के अवरोधन (interception) से संबंधित है, वहीँ आईटी अधिनियम सभी प्रकार के इलेक्ट्रॉनिक संचार की निगरानी से निपटने के लिए अधिनियमित किया गया था।
  • टेलीग्राफ अधिनियम की धारा 5 (2) के तहत, सरकार केवल कुछ स्थितियों में कॉल को इंटरसेप्ट कर सकती है - भारत की संप्रभुता और अखंडता के हित में, राज्य की सुरक्षा के हिट में, विदेशी राज्यों के साथ मैत्रीपूर्ण संबंध या सार्वजनिक व्यवस्था बनाने में, या किसी अपराध को करने के लिए उकसाने से रोकने के लिए।

सुप्रीम कोर्ट का हस्तक्षेप: पब्लिक यूनियन फॉर सिविल लिबर्टीज बनाम भारत संघ (1996) वाद में, अदालत द्वारा अवरोधन के लिए जारी दिशा-निर्देशों में से एक समीक्षा समिति का गठन करना था, जो टेलीग्राफ अधिनियम की धारा 5 (2) के तहत किए गए प्राधिकृति (authorisations) को देख सकती है।

  • सुप्रीम कोर्ट के दिशा-निर्देशों ने 2007 में टेलीग्राफ नियमों में और बाद में 2009 में आईटी अधिनियम के तहत निर्धारित नियमों में नियम 419A को पेश करने का आधार प्रस्तुत किया था।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

भुलाए जाने का अधिकार


2008 में रियलिटी शो बिग बॉस विजेता आशुतोष कौशिक ने अपने 'भुलाए जाने के अधिकार’ (Right to be Forgotten) का हवाला देते हुए अपने नाम से वीडियो, फोटो और लेख आदि को इंटरनेट से हटाने के लिए दिल्ली उच्च न्यायालय से गुहार लगाई है।

महत्वपूर्ण तथ्य: याचिका में उल्लेख किया गया है कि एक दशक पहले उनके तुच्छ कृत्यों से उन्हें मानसिक आघात पहुंचा है, क्योंकि उनके वीडियो, फोटो और लेख आदि विभिन्न सर्च इंजन/डिजिटल प्लेटफॉर्म पर अब भी मौजूद हैं।

  • 'भुलाए जाने का अधिकार' व्यक्ति के 'निजता के अधिकार' के दायरे में आता है।
  • 2017 में, सुप्रीम कोर्ट ने अपने ऐतिहासिक फैसले (पुत्तुस्वामी मामले) में निजता के अधिकार को अनुच्छेद- 21 के तहत 'मौलिक अधिकार' घोषित किया था।
  • ‘निजता का अधिकार’ निजी डेटा संरक्षण विधेयक द्वारा प्रशासित होता है, जिसे संसद द्वारा पारित किया जाना बाकी है।
  • इस मसौदा विधेयक के अध्याय V के खंड 20 में 'भुलाए जाने का अधिकार' का उल्लेख है। इसमें "डेटा से संबंधित व्यक्ति/इकाई को डेटा न्यासियों (data fiduciary) द्वारा उनके व्यक्तिगत डेटा के निरंतर प्रकटीकरण को प्रतिबंधित करने या रोकने का अधिकार होगा"।
  • डेटा न्यासियों का अर्थ है कोई भी व्यक्ति, जिसमें राज्य, कंपनी, कोई कानूनी संस्था या कोई भी व्यक्तिगत रूप से शामिल है, जो अकेले या दूसरों के साथ मिलकर व्यक्तिगत डेटा के प्रसंस्करण के उद्देश्य और साधनों को निर्धारित करते हैं।
  • न्यायमूर्ति बी.एन. श्रीकृष्ण समिति, जिसने निजी डेटा संरक्षण विधेयक, 2018 का मसौदा तैयार किया, ने 'भुलाए जाने का अधिकार' नामक एक नया अधिकार पेश किया है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप निधन

अभिनेत्री सुरेखा सीकरी का निधन


तीन बार की राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता अभिनेत्री सुरेखा सीकरी का 16 जुलाई, 2021 को दिल का दौरा पड़ने से मुंबई में निधन हो गया। वे 75 वर्ष की थी।

  • अनुभवी अभिनेत्री ने अपने पूरे करियर में थिएटर, फिल्मों और टेलीविजन में काम किया था। सुरेखा सीकरी ने 1978 में राजनीतिक ड्रामा फिल्म 'किस्सा कुर्सी का' के साथ शुरुआत की थी।
  • उन्होंने 'तमस' (1988), 'मम्मो' (1994) और 'बधाई हो' (2018) के लिए तीन बार सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री का राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार जीता था।
  • उन्होंने टीवी धारावाहिक ‘बालिका वधू’ में निभाए उनके ‘दादी सा’ के किरदार से भी काफी लोक्रपियता हासिल की थी।
  • सुरेखा ने 1971 में राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय (NSD) से स्नातक की उपाधि प्राप्त की। 1989 में उन्हें संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप पुरस्कार/सम्मान

अलेक्जेंडर डेलरिम्पल पुरस्कार 2019


भारत सरकार के मुख्य जल-सर्वेक्षक (Chief Hydrographer) वाइस एडमिरल विनय बधवार ने 23 जुलाई, 2021 को नई दिल्ली में ब्रिटिश उच्चायुक्त एलेक्स एलिस से अलेक्जेंडर डेलरिम्पल पुरस्कार 2019 (Alexander Dalrymple award 2019) प्राप्त किया।

  • वाइस एडमिरल विनय बधवार को न केवल भारत सरकार के मुख्य जल-सर्वेक्षक के रूप में बल्कि पूरे हिंद महासागर क्षेत्र में हाइड्रोग्राफी और समुद्री मानचित्रकारी (nautical cartography) के विषयों में उनके अद्वितीय समर्पण, व्यावसायिक कुशलता और नेतृत्व को मान्यता प्रदान करने के लिए अलेक्जेंडर डेलरिम्पल पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।
  • अलेक्जेंडर डेलरिम्पल पुरस्कार का नाम ब्रिटिश एडमिरल्टी के पहले हाइड्रोग्राफर अलेक्जेंडर डेलरिम्पल के नाम पर रखा गया है और इसे 2006 में स्थापित किया गया था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप विविध

मैन पोर्टेबल एंटीटैंक गाइडेड मिसाइल


रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) ने 21 जुलाई, 2021 को स्वदेशी रूप से विकसित कम वजन वाली, "दागो और भूल जाओ" ‘मैन पोर्टेबल एंटीटैंक गाइडेड मिसाइल’ (Man-Portable Anti-Tank Guided Missile) का सफल परीक्षण किया।

  • मिसाइल में उन्नत एवियोनिक्स के साथ अत्याधुनिक 'मिनीएचराइज्ड इन्फ्रारेड इमेजिंग सीकर' (Miniaturized Infrared Imaging Seeker) को शामिल किया गया है।
  • मानव-पोर्टेबल मिसाइल को एक ट्राईपॉड का उपयोग करके लॉन्च की गई, जिसे 15 किग्रा. से कम के लॉन्च वजन के साथ अधिकतम 2.5 किमी की दूरी के लिए डिजाइन किया गया है।
  • इस परीक्षण के बाद देश स्वदेशी तीसरी पीढ़ी के मैन पोर्टेबल एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल निर्मित करने के अंतिम चरण में पहुंच गया है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

राष्ट्रीय प्रसारण दिवस


राष्ट्रीय प्रसारण दिवस (National Broadcasting Day)

23 जुलाई

महत्वपूर्ण तथ्य: 23 जुलाई, 1927 को एक निजी कंपनी 'इंडियन ब्रॉडकास्टिंग कंपनी' के तहत बॉम्बे स्टेशन से देश में पहली बार रेडियो प्रसारण किया गया था। 8 जून, 1936 को भारतीय राज्य प्रसारण सेवा 'ऑल इंडिया रेडियो' बन गई और 1956 में इसे 'आकाशवाणी' के नाम से जाना जाने लगा।

खेल समाचार चर्चित खेल व्यक्तित्व

दीपिका कुमारी ने तीरंदाजी विश्व कप चरण III में 3 स्वर्ण पदक जीते


भारत की दीपिका कुमारी ने 27 जून, 2021 को पेरिस में आयोजित तीरंदाजी विश्व कप चरण III में एक ही दिन में तीन स्वर्ण पदक अपने नाम किये।

  • उन्होंने व्यक्तिगत रिकर्व इवेंट, मिश्रित रिकर्व इवेंटऔर महिला रिकर्व टीम में स्वर्ण पदक जीता। मिश्रित रिकर्व टीम इवेंट में उन्होंने अपने पति अतनु दास के साथ मिलकर स्वर्ण पदक जीता।
  • उन्होंने 2010 राष्ट्रमंडल खेलों में व्यक्तिगत रिकर्व इवेंट और महिला टीम रिकर्व इवेंट में स्वर्ण पदक जीते थे। उन्हें वर्ष 2012 में अर्जुन अवार्ड से तथा 2016 में पद्म श्री से सम्मानित किया गया था।

खेल समाचार चर्चित खेल व्यक्तित्व

जेम्स एंडरसन ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में हासिल किए1000 विकेट


5 जुलाई, 2021 को इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में अपना 1000वां विकेट हासिल किया।

  • अनुभवी गेंदबाज ने ओल्ड ट्रैफर्ड में लंकाशायर के लिए खेलते हुए केंट के खिलाफ काउंटी मैच में यह उपलब्धि हासिल की।
  • एंडरसन ने अपने 1000वें विकेट के रूप में हीनो कुह्न को आउट किया।
  • एंडरसन ने 19 रन देकर सात विकेट लेकर लंकाशायर के लिए करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया और केंट की पहली पारी को 74 रन पर समेट दिया था।

खेल समाचार चर्चित खेल व्यक्तित्व

बांग्लादेशी क्रिकेटर महमूदुल्लाह का टेस्ट क्रिकेट से संन्यास


जुलाई 2021 में बांग्लादेश के हरफनमौला क्रिकेटर महमूदुल्लाह ने अंतरराष्ट्रीय टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा की। हरारे में जिम्बाब्वे के खिलाफ खेले गए एकमात्र टेस्ट में करियर की सर्वश्रेष्ठ 150 रन बनाने के एक दिन बाद उन्होंने यह घोषणा की।

  • महमूदुल्लाह ने जुलाई 2009 में वेस्टइंडीज के विरुद्ध अंतरराष्ट्रीय टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण किया था।
  • उन्होंने 50 टेस्ट मैचों में कुल 2914 रन बनाए हैं, जिसमें 5 शतक और 16 अर्धशतक शामिल हैं। इसके अलावा उन्होंने टेस्ट में 43 विकेट भी हासिल किए हैं।
  • वर्तमान में वे बांग्लादेश की टी-20 टीम के कप्तान हैं।

खेल समाचार विविध

ओलंपिक आदर्श वाक्य में ऐतिहासिक बदलाव को मंजूरी


20 जुलाई, 2021 को ओलंपिक के आदर्श वाक्य (motto) को “Faster, Higher, Stronger” से बदलकर “Faster, Higher, Stronger – Together” कर दिया गया है।

  • ओलंपिक आदर्श वाक्य में परिवर्तन खेल की एकीकृत शक्ति और एकजुटता के महत्व को मान्यता देता है।
  • 1894 में अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के संस्थापक पियरे डी कूबर्टिन के सुझाव पर ओलंपिक आदर्श वाक्य लैटिन में “सिटियस, अल्टियस, फोर्टियस” (Citius, Altius, Fortius) या “तेज, उच्च, मजबूत” (Faster, Higher, Stronger) अपनाया गया था।
  • अब इस वाक्य का लैटिन संस्करण “सिटियस, अल्टियस, फोर्टियस, कम्युनिटर” (Citius, Altius, Fortius, Communiter) है।

खेल समाचार विविध

लुईस हैमिल्टन ने जीती ब्रिटिश ग्रां प्री


18 जुलाई, 2021 को ब्रिटेन के मर्सिडीज चालक लुईस हैमिल्टन ने रिकॉर्ड आठवीं बार सिल्वरस्टोन सर्किट में फार्मूला वन ब्रिटिश ग्रां प्री जीत ली है। सात बार वर्ल्ड चैंपियनशिप जीतने वाले हैमिल्टन के करियर की यह 99वीं जीत थी।

रेस परिणाम-

  1. लुईस हैमिल्टन (मर्सिडीज)
  2. चार्ल्स लेक्लर (फेरारी)
  3. वाल्टेरी बोटास (मर्सिडीज)
  • ब्रिटिश ग्रां प्री यूनाइटेड किंगडम में रॉयल ऑटोमोबाइल क्लब द्वारा आयोजित ग्रां प्री मोटर रेस है, जिसे पहली बार 1926 में आयोजित किया गया था; ब्रिटिश ग्रां प्री 1948 से प्रति वर्ष आयोजित किया जाता है और 1950 से हर साल FIA फॉर्मूला वन वर्ल्ड चैम्पियनशिप का एक राउंड है।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

विशेष इस्पात के लिए उत्पादन-सम्बद्ध प्रोत्साहन योजना


केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 22 जुलाई, 2021 को विशेष इस्पात के लिए उत्पादन-सम्बद्ध प्रोत्साहन (पीएलआई) योजना को मंजूरी दी।

महत्वपूर्ण तथ्य: इस योजना की अवधि वर्ष 2023-24 से वर्ष 2027-28 तक पांच वर्षों की होगी।

  • विशेष इस्पात की पांच श्रेणियां को पीएलाई योजना के लिए चुना गया है- कोटेड/प्लेटेड इस्पात उत्पाद, मजबूत क्षमता / रगड़ प्रतिरोधी इस्पात, स्पेशियलटी रेल, मिश्र धातु इस्पात उत्पाद और इस्पात तार, इलैक्ट्रिकल स्टील।
  • पीएलआई प्रोत्साहन के तीन स्लैब हैं, निम्नतम स्लैब 4% और उच्चतम 12% है, जिसका इलैक्ट्रिकल स्टील के लिए प्रावधान किया गया है।
  • 6322 करोड़ रूपए के बजटीय परिव्यय के साथ इस योजना से करीब 40,000 करोड़ रूपए का निवेश होने और विशेष इस्पात के लिए 25 मिलियन टन क्षमता संवर्धन होने की संभावना है। वर्ष 2026-27 के अंत तक विशेष इस्पात का उत्पादन 42 मिलियन टन होने की संभावना है।
  • विशेष इस्पात को लक्ष्य सेग्मेंट के रूप में चुना गया है क्योंकि वर्ष 2020-21 में 102 मिलियन टन इस्पात के उत्पादन में से देश में मूल्य-वर्धित इस्पात/विशेष इस्पात के केवल 18 मिलियन टन का उत्पादन हुआ था।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

राष्ट्रीय किसान कल्याण कार्यक्रम कार्यान्वयन समिति


केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने 22 जुलाई, 2021 को ‘राष्ट्रीय किसान कल्याण कार्यक्रम कार्यान्वयन समिति’ के कार्यालय का उद्घाटन किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: ‘राष्ट्रीय किसान कल्याण कार्यक्रम कार्यान्वयन समिति’ पीएम-किसान योजना, किसान मानधन योजना, कृषि अवसंरचना कोष और कृषि एवं किसान कल्याण विभाग की अन्य योजनाओं के कार्यान्वयन के लिए ‘परियोजना निगरानी इकाई’ के रूप में कार्य करेगी।

  • केंद्र सरकार ने किसानों को आत्मनिर्भर बनाने तथा कृषि कार्य संबंधी व्यय हेतु प्रत्यक्ष आय सहायता उपलब्ध कराने के लिए प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम-किसान) योजना लागू की है।
  • इस योजना के तहत अब तक 11 करोड़ से अधिक किसान परिवारों के खातों में 1.37 लाख करोड़ रूपए की राशि हस्तांतरित की जा चुकी हैं।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

लद्दाख के लिए एक एकीकृत बहुउद्देश्यीय बुनियादी ढांचा विकास निगम


केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 22 जुलाई, 2021 को केंद्र- शासित प्रदेश लद्दाख के लिए एक ‘एकीकृत बहुउद्देश्यीय बुनियादी ढांचा विकास निगम’ की स्थापना को मंजूरी दे दी है।

महत्वपूर्ण तथ्य: निगम की अधिकृत शेयर पूंजी 25 करोड़ रुपये की होगी और आवर्ती व्यय लगभग 2.42 करोड़ रुपये प्रति वर्ष होगा।

  • निगम उद्योग, पर्यटन, परिवहन और स्थानीय तथा हस्तशिल्प के उत्पादों के विपणन के लिए काम करेगा। लद्दाख में बुनियादी ढांचे के विकास के लिए निगम ‘मुख्य निर्माण एजेंसी’ के रूप में भी काम करेगा।
  • अंडमान और निकोबार द्वीप समूह एकीकृत विकास निगम लिमिटेड की तर्ज पर लद्दाख एकीकृत बुनियादी ढांचा विकास निगम लिमिटेड की स्थापना की जाएगी, जो लद्दाख की खास जरूरतों के अनुसार विभिन्न विकासात्मक गतिविधियों को संचालित करेगा।
  • मंत्रिमंडल ने निगम के लिए प्रबंध निदेशक का एक पद सृजित करने को भी मंजूरी दी।

सामयिक खबरें पर्यावरण

गंगा में माइक्रोप्लास्टिक प्रदूषण


दिल्ली स्थित पर्यावरण से संबंधित गैर- सरकारी संगठन 'टॉक्सिक्स लिंक' (Toxics Link) द्वारा किए गए अध्ययन में गंगा में माइक्रोप्लास्टिक प्रदूषण का पता चला है।

माइक्रोप्लास्टिक्स: 1 माइक्रोमीटर (माइक्रोन) से लेकर 5 मिलीमीटर तक के आकार के सिंथेटिक ठोस कणों के रूप में परिभाषित माइक्रोप्लास्टिक, पानी में अघुलनशील होते हैं।

  • माइक्रोप्लास्टिक्स को समुद्री प्रदूषण के एक प्रमुख स्रोत के रूप में माना जाता है। नदी के किनारे कई शहरों से अनुपचारित वाहित मल (Untreated sewage), औद्योगिक अपशिष्ट और गैर-अपघटनीय प्लास्टिक में लिपटे धार्मिक चढ़ावा नदी में प्रदूषकों का ढेर लगाते हैं।
  • प्लास्टिक उत्पादों और अपशिष्ट पदार्थों को नदी में छोड़ दिया जाता है या फेंक दिया जाता है और अंततः वे सूक्ष्म कणों में टूट जाते हैं, जिसे नदी अंतत: बड़ी मात्रा में नीचे की ओर समुद्र में पहुंचाती है।

निष्कर्ष: यह अध्ययन, हरिद्वार, कानपुर और वाराणसी में पानी के नमूनों के विश्लेषण पर आधारित था।

  • माइक्रोप्लास्टिक की उच्चतम सांद्रता वाराणसी में पाई गई, जिसमें एकल-उपयोग वाले प्लास्टिक और द्वितीयक प्लास्टिक उत्पाद शामिल थे।
  • वाराणसी और कानपुर में माइक्रोबीड्स (प्लास्टिक के सूक्ष्म अंश) देखे गए, जबकि हरिद्वार में कोई सूक्ष्म अंश नहीं पाए गए।
  • पूर्व के अध्ययनों के अनुसार समुद्री कचरे के कारण 663 से अधिक समुद्री प्रजातियां प्रतिकूल रूप से प्रभावित होती हैं और उनमें से 11% के लिए अकेले माइक्रोप्लास्टिक का अंतर्ग्रहण (microplastic ingestion) जिम्मेदार है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप विविध

सेला सुरंग


22 जुलाई, 2021 को सीमा सड़क के महानिदेशक (DGBR) लेफ्टिनेंट जनरल राजीव चौधरी द्वारा नई दिल्ली से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से निर्माणाधीन ‘सेला सुरंग’ (Sela Tunnel) के एस्केप ट्यूब का अंतिम विस्फोट किया गया।

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 9 फरवरी, 2019 को ‘बालीपारा- चारदुआर- तवांग रोड’ (Balipara-Charduar-Tawang Road) के माध्यम से तवांग, अरुणाचल प्रदेश को हर मौसम में कनेक्टिविटी प्रदान करने के लिए सेला सुरंग की आधारशिला रखी थी।
  • नवीनतम ‘न्यू ऑस्ट्रियन टनलिंग मेथड’ (New Austrian Tunneling Method- NATM) से निर्मित सेला सुरंग 13,000 फीट से अधिक ऊंचाई पर दुनिया की सबसे लंबी बाइ-लेन सड़क सुरंग (bi-lane road tunnel) होगी।

राज्य समाचार असम

असम सृजित करेगा 'स्थानीय आस्था और संस्कृति विभाग'


असम मंत्रिमंडल ने जुलाई 2021 में “जनजातियों और स्वदेशी समुदायों के विश्वास, संस्कृति और परंपराओं" के संरक्षण और संवर्धन के लिए एक स्वतंत्र विभाग 'स्थानीय आस्था और संस्कृति विभाग' (department of indigenous faith and culture) सृजित करने का निर्णय लिया है।

  • असम में अपने अनूठे रीति-रिवाजों और धार्मिक मान्यताओं वाली कई जनजातियाँ हैं। इस नए विभाग के माध्यम से संस्थागत सहयोग से उनकी संस्कृति और आस्था को संरक्षित किया जाएगा।
  • असम में, बोडो और जेमे जैसे समुदाय 'बाथौ' (Bathou) और 'हेराका' (Heraka) जैसी स्थानीय आस्था और धर्म में विश्वास करते हैं।
  • पुरातत्व निदेशालय, संग्रहालय निदेशालय और ऐतिहासिक एवं पुरातन अध्ययन निदेशालय को प्रस्तावित स्थानीय आस्था और संस्कृति विभाग के तहत लाया जाएगा।
  • बजट में इस विभाग के लिए 100 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।
  • ऐसा विभाग सृजित करने वाला असम पूर्वोत्तर का पहला राज्य नहीं है। अरुणाचल प्रदेश ने 2017 में 'स्थानीय आस्था और संस्कृति विभाग' का गठन किया था।

राज्य समाचार मेघालय

मेघालय युवा नीति 2021


मेघालय कैबिनेट ने 19 जुलाई, 2021 को मेघालय युवा नीति 2021 को मंजूरी दे दी है।

उद्देश्य: मेघालय के युवाओं को क्षमतावान बनाना और उन्हें स्थानीय तथा वैश्विक समुदाय का व्यस्त, कुशल, रचनात्मक, जिम्मेदार और सशक्त सदस्य बनाना।

  • यह नीति मेघालय को प्रति व्यक्ति सकल राज्य घरेलू उत्पाद और सतत विकास लक्ष्य रैंकिंग में 10 वर्षों में शीर्ष 10 राज्यों में शामिल करने के सरकार के दृष्टिकोण के अनुरूप है।
  • नीति का उद्देश्य नौ पहचाने गए प्रमुख क्षेत्रों के आधार पर युवाओं के प्रमुख मुद्दों और चिंताओं का समाधान करना है-शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार, खेल, संस्कृति, उद्यमिता, पर्यावरण जागरूकता, जुड़ाव एवं नेतृत्व और परामर्श।
  • नीति ने 45 कार्यक्रमों के कार्यान्वयन की योजना बनाई है, जिसे 54 प्रदर्शन निगरानी संकेतकों द्वारा मापा जाएगा।
  • नवीनतम अनुमानों के अनुसार, मेघालय की आबादी लगभग 38.29 लाख है, जिनमें 74 फीसदी से ज्यादा आबादी यानी 28.48 लाख लोग 35 साल से कम उम्र के हैं।

खेल समाचार चर्चित खेल व्यक्तित्व

पूर्व भारतीय क्रिकेटर यशपाल शर्मा का निधन


1983 विश्व कप विजेता भारतीय क्रिकेट टीम के सदस्य रहे यशपाल शर्मा का 13 जुलाई, 2021 को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। वे 66 वर्ष के थे।

  • यशपाल शर्मा ने भारत के लिए कुल 37 टेस्ट मैच खेले, जिसमें उन्होंने 1606 रन बनाए। इसके अलावा उन्होंने भारत के लिए 42 वनडे मैच भी खेले, जिनमें 4 अर्धशतक सहित कुल 883 रन बनाए।
  • वह भारत की 1983 की ऐतिहासिक जीत में दूसरे सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी थे, उन्होंने ग्रुप चरण में वेस्टइंडीज के खिलाफ भारत की जीत में 89 और इंग्लैंड के खिलाफ सेमीफाइनल में 61 रन बनाए थे।
  • 1973 और 1993 के बीच के घरेलू करियर के दौरान, यशपाल ने पंजाब, हरियाणा और रेलवे के लिए रणजी ट्रॉफी खेली।
  • उन्होंने पहले 2004 से 2005 तक, और बाद में 2008 से 2011 तक दो बार राष्ट्रीय चयनकर्ता के रूप में भी कार्य किया था।

खेल समाचार चर्चित खेल व्यक्तित्व

क्रिस गेल टी-20 क्रिकेट में 14000 रन बनाने वाले विश्व के पहले खिलाड़ी


12 जुलाई‚ 2021 को वेस्टइंडीज के क्रिकेटर क्रिस गेल टी-20 क्रिकेट के इतिहास में 14000 रन बनाने वाले विश्व के पहले खिलाड़ी बन गए हैं।

  • उन्होंने यह उपलब्धि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ग्रॉस आइलेट, सेंट लूसिया में खेले गए तीसरे टी-20 में हासिल की।
  • सबसे अधिक टी-20 रन बनाने वालों की सूची में विराट कोहली पांचवें स्थान पर हैं। कोहली ने अब तक 311 टी-20 में 9929 रन बनाए हैं।

खेल समाचार चर्चित खेल व्यक्तित्व

अर्जेंटीना के फॉर्मूला वन के महान चालक कार्लोस रॉयटमैन का निधन


एक दशक से अधिक समय तक विश्व मोटरस्पोर्ट्स में शीर्ष पर प्रतिस्पर्धा करने वाले पूर्व फॉर्मूला वन चालक और अर्जेंटीना के राजनेता कार्लोस रॉयटमैन का 7 जुलाई, 2021 को निधन हो गया। वे 79 वर्ष के थे।

  • पांच बार के विश्व चैंपियन जुआन मैनुअल फांगियो के बाद रॉयटमैन को अर्जेंटीना का सबसे महान चालक माना जाता था।
  • उन्होंने करियर में 146 ग्रां प्री में 12 जीत और 46 पोडियम फिनिश हासिल की। 1982 में उन्होंने अचानक खेल छोड़ दिया था।

खेल समाचार फुटबॉल

इटली ने जीता यूरो 2020 का खिताब


11 जुलाई, 2021 को लंदन, इंग्लैंड में वेम्बली स्टेडियम में खेले गए फाइनल में इटली की फुटबॉल टीम ने इंग्लैंड को हराकर यूरो 2020 का खिताब जीत लिया।

  • निर्धारित समय में दोनों टीमें 1-1 की बराबरी पर रही। इटली ने पेनल्टी शूटआउट में इंग्लैंड को 3-2 से हराकर दूसरी बार यूरोपियन चैंपियनशिप अपने नाम की।
  • 11 जून से 11 जुलाई‚ 2021 के मध्य यूरोपियन फुटबॉल चैंपियनशिप ‘यूएफा यूरो 2020’ का आयोजन 11 देशों के 11 शहरों में किया गया।
  • इटली के लियोनार्डो बोनुची (34 वर्ष और 71 दिन) यूरो फाइनल में स्कोर करने वाले सबसे उम्रदराज खिलाड़ी बन गए हैं।
  • इंग्लैंड के ल्यूक शॉ ने शुरुआती 1:56 मिनट में गोल किया, जो यूरो फाइनल में सबसे तेज गोल और टूर्नामेंट के इतिहास में पांचवां सबसे तेज गोल था।
  • इटली इस प्रतियोगिता में अपराजेय रही। इस प्रतियागिता में कुल 51 मैच खेले गए जिसमें कुल 142 गोल हुए जोकि नया रिकॉर्ड है, इससे पहले 2016 यूरो कप में 108 गोल किये गए थे।
  • टूर्नामेंट का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी: जियानलुइगी डोनारुम्मा (इटली)।
  • टूर्नामेंट के युवा खिलाड़ी: पेड्री (स्पेन)।
  • अलीपे शीर्ष स्कोरर: क्रिस्टियानो रोनाल्डो (पुर्तगाल), 5 गोल और 1 असिस्ट।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

नई पीढ़ी की आकाश मिसाइल "आकाश-एनजी"


रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) ने 21 जुलाई, 2021 को ओडिशा के तट के करीब एकीकृत परीक्षण रेंज (ITR) से सतह से हवा में मार करने वाली नई पीढ़ी की आकाश मिसाइल "आकाश-एनजी" (Akash-NG) का सफलतापूर्वक परीक्षण किया।

  • मिसाइल प्रणाली को रक्षा अनुसंधान एवं विकास प्रयोगशाला, हैदराबाद द्वारा अन्य DRDO प्रयोगशालाओं के सहयोग से विकसित किया गया है।
  • सरकार ने आकाश-एनजी विकसित करने के लिए सितम्बर 2016 में मंजूरी दी थी।

विशेषताएं: हवाई खतरों को बेअसर करने के लिए उच्च स्तरीय गतिशीलता; भारतीय वायु सेना की हवाई सुरक्षा क्षमताओं को बढ़ावा।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

ऐतिहासिक शहरी परिदृश्य परियोजना


मध्य प्रदेश में, ग्वालियर और ओरछा शहरों को यूनेस्को द्वारा 'ऐतिहासिक शहरी परिदृश्य परियोजना' (Historic Urban Landscape Project) के तहत चुना गया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 20 जुलाई, 2021 को राज्य के ग्वालियर और ओरछा शहरों के लिए इस परियोजना का वस्तुतः शुभारंभ किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: इस परियोजना को वर्ष 2011 में संस्कृति और विरासत को संरक्षित करते हुए तेजी से बढ़ते ऐतिहासिक शहरों के समावेशी और सुनियोजित विकास के लिए शुरू किया गया था।

  • भारत में अजमेर और वाराणसी सहित दक्षिण एशिया के छ: शहर पहले से ही इस परियोजना में शामिल हैं। ओरछा और ग्वालियर को 7वें और 8वें शहर के रूप में शामिल किया गया है।
  • शहरों को यूनेस्को, भारत सरकार और मध्य प्रदेश सरकार द्वारा संयुक्त रूप से उनके ऐतिहासिक और सांस्कृतिक सुधार पर ध्यान केंद्रित करके विकसित किया जाएगा।
  • इस परियोजना से मध्य प्रदेश में पर्यटन को एक नया आयाम मिलेगा। पर्यटन के विकास के साथ-साथ रोजगार के अतिरिक्त अवसर भी सृजित होंगे।

सामयिक खबरें पर्यावरण

बर्ड फ्लू


21 जुलाई, 2021 को एम्स दिल्ली में H5N1 एवियन इन्फ्लुएंजा से 11 साल के एक बच्चे की मौत हो गई, जो इस साल भारत में बर्ड फ्लू से दर्ज की गई पहली मौत है।

महत्वपूर्ण तथ्य: जनवरी 2021 में, कई राज्यों में बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई थी, जिसमें प्रवासी प्रजातियों सहित हजारों पक्षी मृत पाए गए थे।

  • बर्ड फ्लू या एवियन इन्फ्लूएंजा दुनिया भर में जंगली पक्षियों में स्वाभाविक रूप से पाए जाने वाले एवियन इन्फ्लूएंजा टाइप ए वायरस के कारण होने वाली बीमारी है।
  • वायरस मुर्गियों, बत्तखों, टर्की (turkeys) सहित घरेलू मुर्गियों को संक्रमित कर सकता है; थाईलैंड के चिड़ियाघरों में सूअरों, बिल्लियों और यहां तक कि बाघों में भी H5N1 संक्रमण की खबरें आई हैं।
  • एवियन इन्फ्लुएंजा टाइप ए वायरस को उनकी सतहों पर दो प्रोटीनों के आधार पर वर्गीकृत किया जाता है - Hemagglutinin (HA) और Neuraminidase(NA)।
  • लगभग 18 HA उप-प्रकार और 11 NA उप-प्रकार हैं। इन दो प्रोटीनों के कई संयोजन संभव हैं जैसे- H5N1, H7N2, H9N6, H17N10, आदि।
  • वायरस संचरण का सबसे सामान्य मार्ग सीधा संपर्क है - जब कोई व्यक्ति मृत या जीवित संक्रमित पक्षियों के निकट संपर्क में आता है।
  • मानव H5N1 संक्रमण का पहला मामला 1997 में दर्ज किया गया था और वर्तमान में, अत्यधिक रोगजनक एशियाई एवियन इन्फ्लुएंजा H5N1 वायरस के 700 से अधिक मानव मामले 16 देशों से विश्व स्वास्थ्य संगठन को सूचित किए गए हैं।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप विविध

आलू का झुलसा रोग


जुलाई 2021में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी), मंडी के शोधकर्ताओं ने शिमला में केंद्रीय आलू अनुसंधान संस्थान, शिमला के शोधकर्ताओं के साथ मिलकर एक कृत्रिम बुद्धिमत्ता (एआई) आधारित समाधान विकसित किया है, जो आलू के पत्तों की तस्वीरों की जांच करके 'आलू के झुलसा' रोग का पता लगा सकता है।

  • झुलसा आलू की फसल का एक सामान्य रोग है, जो पत्ती के सिरे और किनारों के पास असमान हल्के हरे रंग के रूप में क्षति शुरू करता है और फिर बड़े भूरे से बैंगनी-काले धब्बों के रूप में फैल जाता है, जो अंततः पौधे की सड़न की ओर ले जाता है।
  • यदि इसका पता नहीं चला और अनियंत्रित छोड़ दिया गया, तो अनुकूल परिस्थितियों में झुलसा एक सप्ताह के भीतर पूरी फसल को नष्ट कर सकता है।
  • आईसीएआर- केंद्रीय आलू अनुसंधान संस्थान (CPRI) की स्थापना अगस्त 1949 में पटना में हुई थी। आलू के प्रजनन में संकरण कार्य को सुविधाजनक बनाने और आलू के बीज स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए संस्थान को बाद में 1956 में शिमला, हिमाचल प्रदेश में स्थानांतरित कर दिया गया।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

विश्व मस्तिष्क दिवस


22 जुलाई

2021 का विषय/अभियान: 'स्टॉप मल्टीपल स्केलेरोसिस' (Stop Multiple Sclerosis)।

महत्वपूर्ण तथ्य: विश्व मस्तिष्क दिवस मस्तिष्क स्वास्थ्य से संबंधित जागरूकता बढ़ाने और पक्ष समर्थन (brain health advocacy) को बढ़ावा देने के लिए समर्पित है। 22 जुलाई 2014 को, वर्ल्ड फेडरेशन ऑफ न्यूरोलॉजी (World Federation of Neurology- WFN) ने पहला विश्व मस्तिष्क दिवस शुरू किया।

राज्य समाचार असम

असम मवेशी संरक्षण विधेयक, 2021


असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने 12 जुलाई, 2021 को 'असम मवेशी संरक्षण विधेयक, 2021' को विधान सभा में पेश किया।

  • यह विधेयक मौजूदा असम मवेशी संरक्षण अधिनियम, 1950 की जगह लेगा, जिसमें स्थानीय पशु चिकित्सा अधिकारियों की मंजूरी के बाद 14 वर्ष से अधिक के उम्र के मवेशियों के वध का प्रावधान है।

विधेयक के प्रावधान: 'मवेशियों' में बैल, वृषभ (bullock), गाय, बछिया, बछड़े, नर और मादा भैंस और भैंस के कटड़े शामिल हैं।

  • सरकार द्वारा अनुमति प्राप्त स्थानों को छोड़कर किसी को भी किसी भी रूप में गोमांस (beef) या गोमांस उत्पाद बेचने की अनुमति नहीं।
  • हिंदू, जैन और सिख और गोमांस का उपभोग न करने वाले समुदायों के वर्चस्व वाले क्षेत्रों में या मंदिरों और 'सत्र' (वैष्णव मठ) के 5 किमी. के दायरे में गोमांस की बिक्री प्रतिबंधित।
  • प्रमाणित मवेशियों का वध केवल लाइसेंस प्राप्त और मान्यता प्राप्त बूचड़खानों में।
  • धार्मिक उद्देश्यों के लिए बछड़े, बछिया और गाय के अलावा अन्य मवेशियों के वध के लिए कुछ पूजा स्थलों को या कुछ अवसरों पर छूट।
  • मान्यता प्राप्त पशु बाजारों में मवेशियों की बिक्री विनियमित; उल्लंघन करने पर पशु बाजार का लाइसेंस रद्द और पशु बाजार में प्रवेश पर रोक और जुर्माना।
  • असम से दूसरे राज्यों के साथ-साथ राज्य के भीतर मवेशियों के परिवहन के लिए अनुमति की आवश्यकता; हालांकि, किसी जिले के भीतर मवेशियों को चरागाह या कृषि या पशुपालन उद्देश्यों तथा बिक्री और खरीद के उद्देश्य से पंजीकृत पशु बाजार से मवेशियों के परिवहन के लिए अनुमति की आवश्यकता नहीं।
  • मवेशियों के वध, बिक्री और परिवहन से संबंधित विधेयक के प्रावधानों का उल्लंघन करने पर तीन से आठ साल की कैद और 3 लाख रुपये से 5 लाख रुपये के बीच जुर्माना।

राज्य समाचार ओडिशा

ओडिशा में बाल विवाह की रोकथाम में तेज वृद्धि


जागरूकता बढ़ने और फील्ड स्तर के कर्मचारियों के बीच बेहतर समन्वय के बाद ओडिशा में पिछले चार वर्षों में बाल विवाह रोकथाम की संख्या में तेज वृद्धि देखी गई है।

  • 2017 में, समुदाय, गैर सरकारी संगठनों और फील्ड स्तर के अधिकारियों के अंतिम समय में हस्तक्षेप के बाद 324 बाल विवाह रोक दिए गए थे, वहीं 2018 में, यह संख्या मामूली रूप से बढ़कर 411 हो गई थी।
  • हालाँकि, पिछले दो वर्षों में शादियों को रोकने में भारी उछाल देखा गया। 2019 में 657 बाल विवाह रोके गए, वहीं 2020 में 1,108 बाल विवाह रोके गए। चालू वर्ष के पहले पांच महीनों में भी, 726 ऐसे विवाहों को रोका गया।
  • “बाल विवाह को समाप्त करने के लिए ओडिशा रणनीतिक कार्य योजना” के अनुसार, राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण-4 में लड़कियों के बीच बाल विवाह का प्रसार 21.3% था (राष्ट्रीय औसत 26.8%), जबकि लड़कों के लिए यह केवल 11% (राष्ट्रीय औसत 20.3%) था।

राज्य समाचार जम्मू-कश्मीर

'हौसला' पहल


जम्मू और कश्मीर सरकार ने वाणिज्य विभाग के तत्वावधान में जम्मू और कश्मीर व्यापार संवर्धन संगठन (JKTPO) के माध्यम से जम्मू और कश्मीर की महिला उद्यमियों के लिए 'हौसला' नामक पहल शुरू की।

  • यह पहल जम्मू-कश्मीर की महिला उद्यमियों के लिए JKTPO द्वारा आयोजित किया जाने वाला 5 महीने का प्रशिक्षण कार्यक्रम है।
  • JKTPO ने इन महिला उद्यमियों के उत्पादों के लिए अतिरिक्त पहुँच और मार्केटिंग समर्थन देने के लिए भारत के घरेलू ई-कॉमर्स मार्केटप्लेस फ्लिपकार्ट के साथ भागीदारी की है।

राज्य समाचार कर्नाटक

इलेक्ट्रिक बाइक टैक्सी योजना 2021


कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने 14 जुलाई, 2021 को बेंगलुरू में इलेक्ट्रिक बाइक टैक्सी योजना 2021 (Electric Bike Taxi scheme 2021) का शुभारंभ किया।

  • इस योजना का मुख्य उद्देश्य जनता को घर से बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन और मेट्रो स्टेशनों तक यात्रा करने में होने वाली ‘असुविधा’ और ‘यात्रा समय’ को कम करना है।
  • यात्रा के लिए मूल और गंतव्य स्थान के बीच की दूरी 10 किमी से अधिक नहीं होनी चाहिए और यह केवल बैटरी से चलने वाली इलेक्ट्रिक मोटरसाइकिल या इलेक्ट्रिक बाइक के लिए लागू होगी।
  • इस योजना के तहत पंजीकृत वाहन ‘परिवहन श्रेणी’ में होंगे और ‘परमिट और कर से मुक्त’ होंगे।
  • ‘पर्यावरण अनुकूल’ और ‘ईंधन संरक्षण’ को प्रोत्साहित करने वाली यह योजना स्वरोजगार पैदा करेगी और सार्वजनिक परिवहन और दैनिक यात्रियों के बीच एक सेतु का काम करेगी।

संक्षिप्त खबरें संस्थान-संगठन

राष्ट्रीय आधुनिक कला संग्रहालय


21 जुलाई, 2021 को केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय के अनुसार राष्ट्रीय आधुनिक कला संग्रहालय (National Gallery of Modern Art- NGMA) का अगले साल स्वतंत्रता के 75 वर्ष के उपलक्ष्य में जीर्णोद्धार और पुनर्गठन किया जाएगा।

  • NGMA संस्कृति मंत्रालय, भारत सरकार के तहत प्रमुख कला संग्रहालय है।
  • NGMA का उद्देश्य 1850 के दशक से आधुनिक कला के कार्यों को प्राप्त करना और संरक्षित करना है और स्थायी प्रदर्शन के लिए दीर्घाओं को व्यवस्थित, विकसित करना तथा रखरखाव करना है।
  • भारत सरकार द्वारा 29 मार्च, 1954 को नई दिल्ली में जयपुर हाउस में मुख्य संग्रहालय स्थापित किया गया था। इसकी मुंबई और बैंगलोर में दो शाखाएं हैं।
  • संग्रहालय में 2000 से अधिक कलाकारों का मौलिक संग्रह है। इनमें राजा रवि वर्मा, अबनिंद्रनाथ टैगोर, रवींद्रनाथ टैगोर, गगनेंद्रनाथ टैगोर, नंदलाल बोस, जैमिनी रॉय, अमृता शेर-गिल, थॉमस डेनियल और कुछ प्रमुख अंतरराष्ट्रीय कलाकार शामिल हैं।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

दीर्घायु वित्त हब


अंतरराष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र प्राधिकरण (IFSCA) ने 14 जुलाई, 2021 को गिफ्ट सिटी - अंतरराष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र (GIFT- IFSC) में 'दीर्घायु वित्त हब' (Longevity Finance Hub) के विकास के लिए रोड मैप की सिफारिश करने के लिए एक विशेषज्ञ समिति का गठन किया है।

उद्देश्य: सिल्वर जेनरेशन (अर्थात 60 वर्ष और उससे अधिक आयु के व्यक्तियों का एक वैश्विक समूह) के धन, स्वास्थ्य, बीमा और अन्य निवेश उत्पाद संबंधी जरूरतों को पूरा करना।

महत्वपूर्ण तथ्य: विशेषज्ञ समिति की सह-अध्यक्षता बैंक ऑफ अमेरिका की अध्यक्ष और कंट्री हेड (भारत) काकू नखाटे और न्यू इंडिया एश्योरेंस कंपनी लिमिटेड के पूर्व प्रमुख प्रबंध निदेशक गोपालन श्रीनिवासन द्वारा की जा रही है।

  • समिति के अन्य सदस्यों में बैंकिंग, बीमा, धन प्रबंधन, वित्त प्रौद्योगिकी (फिन टेक), कानूनी, अनुपालन और प्रबंधन परामर्श जैसे क्षेत्रों सहित संपूर्ण दीर्घायु वित्त इकोसिस्टम के प्रमुख व्यक्ति शामिल हैं।
  • IFSCA को भारत में अंतरराष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्रों में वित्तीय उत्पादों, वित्तीय सेवाओं और वित्तीय संस्थानों को विकसित और विनियमित करने के लिए एक एकीकृत नियामक के रूप में स्थापित किया गया है।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

बागवानी फसलों के क्षेत्र व उत्पादन का वर्ष 2020-21 का दूसरा अग्रिम अनुमान


कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय ने 15 जुलाई, 2021 को बागवानी फसलों के क्षेत्र व उत्पादन का वर्ष 2020-21 का दूसरा अग्रिम अनुमान जारी किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: वर्ष 2020-21 में बागवानी उत्पादन अब तक का सबसे अधिक 329.86 मिलियन टन होने का अनुमान है, जिसमें 2019-20 की तुलना में करीब 9.39 मिलियन टन (2.93%) की वृद्धि परिलक्षित है।

  • फलों का उत्पादन वर्ष 2019-20 में 102.08 मिलियन टन की तुलना में वर्ष 2020-21 में 102.76 मिलियन टन होने का अनुमान है।
  • सब्जियों का उत्पादन वर्ष 2019-20 में 188.28 मिलियन टन की तुलना में वर्ष 2020-21 में 196.27 मिलियन टन होने का अनुमान है।
  • प्याज का उत्पादन वर्ष 2019-20 में 26.09 मिलियन टन की तुलना में वर्ष 2020-21 में 26.92 मिलियन टन होने का अनुमान है।
  • आलू का उत्पादन वर्ष 2019-20 में 48.56 मिलियन टन की तुलना में वर्ष 2020-21 में 53.69 मिलियन टन होने का अनुमान है।

कुल बागवानी

2019-20

(अंतिम)

2020-21

(पहला अग्रिम अनुमान)

2020-21

(दूसरा अग्रिम अनुमान)

क्षेत्रफल (मिलियन हेक्टेयर)

26.48

27.08

27.23

उत्पादन (मिलियन टन)

320.47

326.58

329.86

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

ड्रोन नियम 2021 का मसौदा


नागर विमानन मंत्रालय ने 15 जुलाई, 2021 को जनता के परामर्श के लिये ड्रोन नियम, 2021 का मसौदा जारी किया है।

प्रमुख विशेषताएं: नो पर्मिशन- नो टेक-ऑफ’ (No permission – no take-off -NPNT) वास्तविक समय में ट्रैकिंग, जियो-फेंसिंग जैसे सुरक्षा तत्वों को भविष्य में अधिसूचित किया जायेगा। इसके अनुपालन के लिये छ: माह का समय दिया जायेगा।

  • डिजिटल स्काई प्लेटफार्म को व्यापार अनुकूल एकल खिड़की ऑनलाइन प्रणाली के तौर पर विकसित किया जायेगा।
  • ग्रीन जोन में 400 फीट तक और हवाई अड्डे की परिधि से 8 से 12 किमी. के बीच के क्षेत्र में 200 फीट तक उड़ान की अनुमति की आवश्यकता नहीं है।
  • भारत में पंजीकृत विदेशी कंपनियों द्वारा ड्रोन संचालन के लिये कोई बाध्यता नहीं।
  • ड्रोन नियम, 2021 के तहत ड्रोन कवरेज को 300 किग्रा. से बढ़ाकर 500 किग्रा. किया गया। इसमें ड्रोन टैक्सी को भी शामिल किया गया है।
  • माइक्रो ड्रोन (गैर-व्यावसायिक उपयोग के लिए), नैनो ड्रोन और अनुसंधान एवं विकास संगठनों के लिए किसी पायलट लाइसेंस की आवश्यकता नहीं है।
  • क्वालिटी काउंसिल ऑफ इंडिया उड़ान-योग्यता प्रमाणपत्र जारी करेगा।
  • ड्रोन नियम, 2021 के तहत अधिकतम जुर्माना घटाकर एक लाख रुपये कर दिया गया। बहरहाल, अन्य कानूनों की अवहेलना होने पर यह जुर्माना नहीं लगेगा।
  • माल ढुलाई करने वालों के लिये अलग से ड्रोन गलियारों का विकास।
  • व्यापार अनुकूल नियम बनाने के लिये ड्रोन संवर्धन परिषद् की स्थापना।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

प्रोजेक्ट-75I


रक्षा मंत्रालय ने 20 जुलाई, 2021 को 'प्रोजेक्ट-75I' (P-75I) के तहत नौसेना के लिए छ: पारंपरिक पनडुब्बियों के घरेलू निर्माण हेतु प्रस्ताव के लिए अनुरोध या औपचारिक निविदा जारी की।

महत्वपूर्ण तथ्य: परियोजना की लागत 40,000 करोड़ रुपये से अधिक है।

  • यह रणनीतिक साझेदारी (Strategic Partnership- SP) मॉडल के तहत लागू होने वाली पहली परियोजना होगी, जो घरेलू फर्मों को विदेशी मूल उपकरण निर्माता (OEMs) के साथ सहयोग करने की अनुमति देती है ताकि भारत में उच्च गुणवत्ता वाले सैन्य प्लेटफार्मों का उत्पादन किया जा सके।
  • प्रस्ताव के लिए अनुरोध मझगांव डॉक शिपबिल्डर्स लिमिटेड और लार्सन एंड टुब्रो (एलएंडटी) को जारी किया गया।
  • पांच विदेशी OEMs में देवू शिपबिल्डिंग एंड मरीन इंजीनियरिंग (दक्षिण कोरिया), नेवल ग्रुप (फ्रांस), नवांटिया (स्पेन), रोसोबोरोनएक्सपोर्ट (रूस) और टीकेएमएस (जर्मनी) शामिल हैं।
  • प्रोजेक्ट-75I में फ्यूल-सेल आधारित एयर इंडिपेंडेंट प्रोपल्शन (AIP) सिस्टम, उन्नत टॉरपीडो, आधुनिक मिसाइल और अत्याधुनिक प्रतिरोधी उपाय सिस्टम सहित समकालीन उपकरण, हथियार और सेंसर के साथ छ: आधुनिक पारंपरिक पनडुब्बियों के स्वदेशी निर्माण का लक्ष्य रखा गया है।

सामयिक खबरें पर्यावरण

बीटा टाइटेनियम मिश्र धातु


जुलाई 2021 में रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) ने वैमानिकी उपयोग के जटिल कलपुर्जे बनाने के लिए उच्च क्षमता का स्वदेशी ‘बीटा टाइटेनियम मिश्र धातु’ (Beta Titanium Alloy) विकसित किया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह वैनेडियम, आयरन और एल्युमिनियम युक्त बीटा टाइटेनियम मिश्र धातु (Ti-10V-2Fe-3Al) है, जिसे हैदराबाद स्थित DRDO की ‘रक्षा धातुकर्म अनुसंधान प्रयोगशाला’ द्वारा विकसित किया गया है।

  • इस मिश्र धातु से जो कलपुर्जे बनाए जा सकते हैं उनमें ‘स्लैट/फ्लैप ट्रैक्स (slat/flap tracks), लैंडिग गियर और लैंडिग गियर में ड्रॉप लिंक’ सहित अन्य पुर्जे शामिल हैं
  • बीटा टाइटेनियम मिश्र धातु अपनी उच्च क्षमता, लचीलापन और भंजन कठोरता (fracture toughness) के कारण अद्वितीय है, जो उसे विमान संरचनात्मक अनुप्रयोगों के लिए तेजी से आकर्षक बनाते हैं।
  • हाल के दिनों में इन मिश्र धातुओं का उपयोग कई विकसित देशों द्वारा अपेक्षाकृत भारी पारंपरिक Ni-Cr-Mo संरचनात्मक स्टील्स के लाभकारी और कम वजन वाले विकल्प के रूप में किया जा रहा है।
  • एयरोस्पेस उद्योग में कुछ लोकप्रिय मिश्र धातुओं में शामिल हैं- टाइटेनियम मिश्र धातु, एल्युमिनियम मिश्र धातु, तांबे की मिश्र धातु, स्टेनलेस स्टील, सुपरअलॉय (Superalloys) तथा अन्य विशेष मिश्र धातु।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप अभियान/सम्मेलन/आयोजन

सारंग हेलीकाप्टर प्रदर्शन टीम


भारतीय वायुसेना की ‘सारंग हेलीकाप्टर प्रदर्शन टीम’ (Sarang Helicopter Display Team) रूस के जुकोवस्की अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे में पहली बार ‘माक्स अंतरराष्ट्रीय एयर शो’ (MAKS International Air Show) में प्रदर्शन कर रही है।

  • इस द्विवार्षिक एयर शो का आयोजन 20 से 25 जुलाई, 2021 तक किया जा रहा है।
  • यह पहला अवसर है जब सारंग टीम अपने मेड इन इंडिया ‘ध्रुव’ उन्नत हल्के हेलीकॉप्टर के साथ रूस में चार हवाई करतब दिखाएगी।
  • सारंग: इस टीम का निर्माण 2003 में बेंगलुरू में हुआ था और इसका पहला अंतरराष्ट्रीय प्रदर्शन 2004 में सिंगापुर में एशियन एयरोस्पेस एयर शो में हुआ था।
  • उसके बाद से सारंग ने अभी तक संयुक्त अरब अमीरात, जर्मनी, ब्रिटेन, बहरीन, मॉरीशस तथा श्रीलंका में एयर शो तथा औपचारिक अवसरों पर भारतीय उड्डयन का प्रतिनिधित्व किया है।
  • इसके अलावा इस टीम ने उत्तराखंड में ‘ऑपरेशन राहत’ (2013), केरल में ओखी तूफान (2017) तथा केरल में ‘ऑपरेशन करूणा’ बाढ़ राहत (2018) जैसे अनगिनत मानवीय सहायता और आपदा राहत मिशनों में सक्रिय रूप से हिस्सा लिया है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप कला/संस्कृति

आदर्श स्मारक


संस्कृति मंत्री जी. किशन रेड्डी ने 20 जुलाई, 2021 को राज्य सभा को 'आदर्श स्मारक' के बारे में जानकारी दी।

  • वाई-फाई, कैफेटेरिया, विवेचन केंद्र (Interpretation centre), ब्रेल संकेतक, प्रकाश व्यवस्था आदि जैसी अतिरिक्त सुविधाएं प्रदान करने के लिए आंध्र प्रदेश के 3 स्मारकों को ‘आदर्श स्मारक’ (Adarsh Smarak) के रूप में चिह्नित किया गया है।
  • आंध्र प्रदेश के तीन स्मारक (i) नागार्जुनकोंडा (जिला- गुंटूर)(ii)सलीहुंडम में बौद्ध अवशेष(जिला- श्रीकाकुलम) और (iii) वीरभद्र मंदिर, लेपाक्षी (जिला- अनंतपुरम) हैं।
  • इसके अलावा 'गंडीकोटा का किला' सरकार की 'एक धरोहर गोद लें योजना' (Adopt-a-Heritage scheme) में शामिल किया गया है।
  • आंध्र प्रदेश राज्य में 135 केंद्रीय संरक्षित स्मारक/स्थल हैं।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप विविध

WHO- GMP/CoPP प्रमाणन


आयुष मंत्रालय, भारत सरकार के प्रशासनिक नियंत्रण के तहत उत्तराखंड के मोहान, अल्मोड़ा में स्थित 'इंडियन मेडिसिन्स फार्मास्युटिकल कॉर्पोरेशन लिमिटेड (IMPCL) ने 18 आयुर्वेदिक उत्पादों के लिए ‘WHO-GMP/COPP प्रमाणीकरण' के लिए आवेदन किया है।

GMP प्रमाणन: दवा कंपनियों को दवाएं बेचने में सक्षम होने के लिए अधिकांश वैश्विक बाजारों में WHO की 'अच्छी विनिर्माण पद्धतियां प्रमाणन' [Good Manufacturing Practices (GMP) certificate] अनिवार्य है।

  • एक निर्यातक देश के विनिर्माता को उस देश के नियामक प्राधिकरण द्वारा लाइसेंस प्राप्त होना चाहिए और WHO GMP दिशा-निर्देशों का पालन करना चाहिए।

CoPP प्रमाणन: 'फार्मास्युटिकल उत्पादों का प्रमाणन' (Certificates of Pharmaceutical Products- CoPP), जो डब्ल्यूएचओ द्वारा अनुशंसित प्रारूप में है, निर्यातक देश में दवा उत्पाद और ‘प्रमाणपत्र आवेदक’ की स्थिति को स्पष्ट करता है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप विविध

ब्रिक्स श्रम और रोजगार मंत्रियों की घोषणा


भारत की अध्यक्षता में 15 जुलाई, 2021 को 7वीं ब्रिक्स श्रम और रोजगार मंत्रियों की बैठक में 'ब्रिक्स श्रम और रोजगार मंत्रियों की घोषणा' को अपनाया गया।

  • मंत्रिस्तरीय घोषणा में बेरोजगारी, सम्माननीय कार्य की कमी और असमानता को दूर करने के प्रयासों पर कोविड-19 महामारी के नकारात्मक प्रभाव को स्वीकार किया गया।
  • ब्रिक्स राष्ट्रों के बीच सामाजिक सुरक्षा समझौतों को बढ़ावा देना; श्रम बाजारों का औपचारिककरण; श्रम बल में महिलाओं की भागीदारी; और श्रम बाजार में रोज कमाने वाले तथा अस्थायी श्रमिकों की भूमिका को बढ़ाने की प्रतिबद्धता की गई।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

विश्व शतरंज दिवस


20 जुलाई

महत्वपूर्ण तथ्य: वर्ष 1924 में पेरिस में अंतरराष्ट्रीय शतरंज महासंघ (FIDE) की स्थापना के उपलक्ष्य में संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 12 दिसंबर, 2019 को प्रतिवर्ष 20 जुलाई को इस दिवस को मनाने की घोषणा की थी।

  • FIDE की पहल के तहत, 1966 से दुनिया भर के शतरंज खिलाड़ियों द्वारा 20 जुलाई को अंतरराष्ट्रीयशतरंज दिवस के रूप में मनाया जाता रहा है।

खेल समाचार क्रिकेट

आईसीसी ने की पुरुष टी-20 विश्व कप 2021 के लिए ग्रुप्स की घोषणा


16 जुलाई, 2021 को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) ने आईसीसी पुरुष टी-20 विश्व कप 2021 के लिए ग्रुप्स की घोषणा की।

  • टी-20 विश्व कप 17 अक्टूबर से 14 नवंबर, 2021 तक भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) की मेजबानी में ओमान और संयुक्त अरब अमीरात में आयोजित किया जाएगा।
  • पहला चरण क्वालीफायर होगा जहां से चार टीमें सुपर 12 चरण में पहुंचेंगी। छ: एसोसिएट देशों के अलावा, श्रीलंका और बांग्लादेश भी क्वालीफायर में प्रतिस्पर्धा करेंगे क्योंकि वे अपनी टी-20 अंतरराष्ट्रीय रैंकिंग के कारण स्वत: ही क्वालीफाई करने में विफल रहे।
  • सुपर 12 चरण में ग्रुप 1 और ग्रुप 2 में 6-6 टीमें होंगी।
  • ग्रुप 1- इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका, वेस्ट इंडीज और दो क्वालीफाइंग देश।
  • ग्रुप 2- भारत, पाकिस्तान, न्यूजीलैंड, अफगानिस्तान और दो अन्य क्वालीफाइंग देश।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

डेयरी इन्वेस्टमेंट ऐक्सेलरेटर


जुलाई 2021 में भारत सरकार के पशुपालन एवं डेयरी विभाग ने डेयरी क्षेत्र में निवेश को बढ़ावा देने और उसे सुगम बनाने को ध्यान में रखते हुए, अपने ‘निवेश सुविधा प्रकोष्ठ’ के अंतर्गत ‘डेयरी इन्वेस्टमेंट ऐक्सेलरेटर’ (Dairy Investment Accelerator) की स्थापना की है।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह इन्वेस्टमेंट ऐक्सेलरेटर निवेशकों के साथ इंटरफेस के रूप में काम करने के लिए गठित की गई एक क्रॉस फंक्शनल टीम है, जो निवेश चक्र में निम्न तरीके से सहायता प्रदान करेगी-

    • निवेश अवसरों के मूल्यांकन के लिए विशिष्ट जानकारी प्रदान करना;
    • सरकारी योजनाओं के लिए आवेदन संबंधित सवालों का जवाब देना;
    • रणनीतिक साझीदारों के साथ जुड़ना;
    • राज्य के विभागों और संबंधित प्राधिकरणों के साथ जमीनी रूप से सहायता प्रदान करना।
  • डेयरी इन्वेस्टमेंट ऐक्सेलरेटर द्वारा निवेशकों के बीच पशुपालन अवसंरचना विकास कोष ((Animal Husbandry Infrastructure Development fund- AHIDF) के बारे में जागरूकता फैलाने का भी काम किया जाता है।
  • पशुपालन अवसंरचना विकास कोष भारत सरकार के पशुपालन एवं डेयरी विभाग की प्रमुख योजनाओं में से एक है, जिसके अंतर्गत उद्यमियों, निजी कंपनियों, एमएसएमई, किसान उत्पादक संगठनों (FPO) और संभाग 8 कंपनियों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए 15,000 करोड़ रुपये का कोष स्थापित किया गया है।
  • डेयरी क्षेत्र देश की अर्थव्यवस्था में 5% का योगदान करने वाला एकमात्र सबसे बड़ा कृषि उत्पाद है और 80 करोड़ से ज्यादा किसानों को सीधे रोजगार प्रदान करता है।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

ऑक्सफैम रिपोर्ट: भारत में स्वास्थ्य संकेतकों में भारी असमानता


ऑक्सफैम इंडिया की एक रिपोर्ट 'इंडिया इनइक्वलिटी रिपोर्ट 2021: इंडियाज अनइक्वल हेल्थकेयर स्टोरी' (India Inequality Report 2021: India’s Unequal Healthcare Story) के अनुसार, विभिन्न स्वास्थ्य संकेतकों पर विभिन्न जाति, धार्मिक, वर्ग और लैंगिक श्रेणियों में तीव्र असमानताएं मौजूद हैं।

महत्वपूर्ण तथ्य: अधिकांश स्वास्थ्य निर्धारकों, सुविधाओं और संकेतकों पर सामान्य वर्ग अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति से बेहतर है; हिंदू मुसलमानों से बेहतर हैं; अमीर गरीबों की तुलना में बेहतर हैं; पुरुष महिलाओं की तुलना में बेहतर हैं और ग्रामीण आबादी की तुलना में शहरी आबादी बेहतर है।

  • पिछले कुछ वर्षों में सामाजिक समूहों में महिलाओं की साक्षरता में सुधार हुआ है, लेकिन अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति की महिलाएं सामान्य वर्ग से क्रमशः 18.6% और 27.9% पीछे हैं।
  • स्वच्छता के मामले में, सामान्य श्रेणी में 65.7% घरों में बेहतर, गैर-साझा स्वच्छता सुविधाओं तक पहुंच है, जबकि अनुसूचित जाति के परिवार सामान्य श्रेणी से 28.5% पीछे हैं और अनुसूचित जनजाति के परिवार 39.8% पीछे हैं।
  • इसी तरह, अनुसूचित जनजाति के परिवारों में 55.8% टीकाकरण अभी भी राष्ट्रीय औसत से 6.2% कम है, और मुसलमानों में टीकाकरण की दर सभी सामाजिक-धार्मिक समूहों में सबसे कम 55.4% है।
  • भारत में संस्थागत प्रसव में अनुसूचित जनजाति के परिवार सामान्य श्रेणी से 15% पीछे और मुसलमान हिंदुओं से 12% पीछे हैं।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

शेकटकर समिति


रक्षा मंत्रालय ने 19 जुलाई, 2021 को राज्य सभा को रक्षा सुधारों से संबंधित विशेषज्ञ समिति “शेकटकर समिति” की सिफारिशों के कार्यान्वयन की स्थिति के बारे में जानकारी दी।

महत्वपूर्ण तथ्य: रक्षा मंत्रालय द्वारा लेफ्टिनेंट जनरल (सेवानिवृत्त) डीबी शेकटकर की अध्यक्षता में गठित विशेषज्ञ समिति ने सशस्त्र बलों की युद्धक क्षमता बढ़ाने और रक्षा व्यय को पुन: संतुलित करने हेतु उपायों की सिफारिश करने के लिए दिसंबर 2016 में अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत की थी।

  • मुख्य कार्यान्वयन बिंदुओं और रोडमैप तैयार करने हेतु रक्षा मंत्रालय द्वारा इस रिपोर्ट पर कार्रवाई की गई है।

समिति द्वारा अनुशंसित और कार्यान्वयन हेतु शुरू किए गए उपाय: रेडियो निगरानी कंपनियों, कोर हवाई सहायता सिग्नल रेजिमेंट, एयर फॉर्मेशन सिग्नल रेजिमेंट, समग्र सिग्नल रेजिमेंट और कोर ऑपरेटिंग और इंजीनियरिंग सिग्नल रेजिमेंट के विलय को शामिल करने के लिए सिग्नल प्रतिष्ठानों का इष्टतमीकरण (Optimization)।

  • फील्ड आर्मी में बेस वर्कशॉप, एडवांस बेस वर्कशॉप और स्टेटिक / स्टेशन वर्कशॉप को शामिल करने के लिए सेना में मरम्मत संबंधित पद सोपनकों (repair echelons) की पुनर्संरचना।
  • इन्वेंटरी नियंत्रण तंत्र को सुव्यवस्थित करने के अलावा वाहन डिपो, आयुध डिपो और केंद्रीय आयुध डिपो को शामिल करने के लिए आयुध सोपनकों (Ordnance echelons) का पुनर्नियोजन (Redeployment)।
  • आपूर्ति और परिवहन सोपानक और पशु परिवहन इकाइयों का बेहतर उपयोग।
  • शांति स्थानों पर सैन्य फार्मों और सैन्य डाक प्रतिष्ठानों को बंद किया जाना।
  • सेना में लिपिकीय कर्मचारियों और ड्राइवरों की भर्ती के लिए मानकों में बढ़ोतरी।
  • राष्ट्रीय कैडेट कोर की कार्यक्षमता में सुधार लाना।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

2020 में बिजली गिरने में 22.6% की वृद्धि


सबसे बड़े वैश्विक अति स्थानीय मौसम नेटवर्क का संचालन करने वाले 'अर्थ नेटवर्क्स' (Earth Networks) द्वारा जारी '2020 इंडिया लाइटनिंग रिपोर्ट' के अनुसार, 2019 की तुलना में 2020 में भारत में आकाशीय बिजली गिरने की घटना में 22.6% की वृद्धि हुई थी।

महत्वपूर्ण तथ्य: कंपनी के टोटल लाइटनिंग नेटवर्क द्वारा 2020 में भारत में 39.5 मिलियन से अधिक आकाशीय बिजली की पल्सेस (pulses) का पता लगाया गया। कर्नाटक और महाराष्ट्र 2020 के दौरान सबसे अधिक आसमानी बिजली की पल्सेस वाले शीर्ष 10 राज्यों में शामिल थे।

  • तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, ओडिशा, पश्चिम बंगाल और कर्नाटक में आसमानी बिजली की घटनाएं हुईं।
  • 2020 में, भारत में मानसून के मौसम के कारण मई, जून और सितंबर में आसमानी बिजली की उच्चतम घटनाएं देखी गई।
  • भूमध्य रेखा और हिंद महासागर से देश की निकटता के कारण, भारत अत्यधिक मात्रा में गर्मी और नमी का अनुभव करता है, जो पूरे दक्षिण एशिया में गंभीर और तड़ित वृष्टि (thunderstorms) में योगदान देता है।
  • राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो के एक अध्ययन के अनुसार 2001 से भारत में हर साल बिजली गिरने से 2,360 लोगों की मौत हो जाती है।

सामयिक खबरें पर्यावरण

पर्यावरण मानदंडों का उल्लंघन करने वालों के लिए माफी योजना


केंद्रीय पर्यावरण मंत्रालय ने जुलाई 2021 में पर्यावरणीय मंजूरी मानदंडों का उल्लंघन करने वाली बुनियादी ढांचा और औद्योगिक परियोजनाओं के लिए माफी योजना (Amnesty scheme) तैयार की है।

महत्वपूर्ण तथ्य: नए ‘मानक संचालन प्रक्रिया’ (SOPs) के अनुसार, जिन परियोजनाओं द्वारा बिना आवश्यक अनुमति के अपनी क्षमता में विस्तार किया गया है, उन्हें पुनर्मूल्यांकन तक पुरानी उत्पादन सीमा पर वापस लौटना होगा।

  • यदि परियोजना के लिए पूर्व पर्यावरणीय मंजूरी लेने की आवश्यकता नहीं थी, लेकिन अद्यतन मानदंडों के तहत इसे आवश्यक कर दिया गया है, तो परियोजना को अपने उत्पादन को उस सीमा तक सीमित करना होगा, जिसके लिए, दोबारा सूचित किए जाने तक, ‘पूर्व पर्यावरणीय मंजूरी’ लेने की आवश्यकता नहीं है।
  • पर्यावरणीय मानदंडों का पूर्ण उल्लंघन करने वाली वे परियोजनाएं जो कभी भी पर्यावरणीय मंजूरी के लिए पात्र नहीं थीं, उन्हें ध्वस्त या बंद कर दिया जाएगा। उदाहरण के लिए, पर्यावरण के प्रति संवेदनशील तटीय क्षेत्र में काम करने वाला अत्यधिक प्रदूषणकारी उद्योग।
  • ऐसी परियोजनाएं जो मानदंडों का उल्लंघन करती हैं, लेकिन "स्वीकार्य" हैं, उनका पर्यावरणीय क्षति के लिए आकलन किया जाएगा और एक उपचार योजना (remediation plan) विकसित की जाएगी। इन परियोजनाओं को केंद्र या राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के समक्ष 'उपचार योजना' तथा 'प्राकृतिक और सामुदायिक संसाधन वृद्धि योजना' के बराबर बैंक गारंटी जमा करनी होगी।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप पुरस्कार/सम्मान

राष्ट्रीय लॉजिस्टिक उत्कृष्टता पुरस्कार


लॉजिस्टिक क्षेत्र पर ध्यान केंद्रित करने के उद्देश्य से, केंद्रीय वाणिज्य मंत्रालय ने 19 जुलाई, 2021 को 'राष्ट्रीय लॉजिस्टिक उत्कृष्टता पुरस्कार' (National Logistics Excellence Award) शुरू करने की घोषणा की है।

  • पुरस्कार की दो श्रेणियां हैं, पहले समूह में लॉजिस्टिक इन्फ्रास्ट्रक्चर/ सेवा प्रदाता शामिल हैं और दूसरी विभिन्न उपयोगकर्ता उद्योगों के लिए है।
  • इन पुरस्कारों में प्रक्रिया मानकीकरण, तकनीक सुधार, डिजिटल बदलावों और टिकाऊ प्रक्रियाओं सहित सर्वश्रेष्ठ प्रक्रियाओं पर जोर दिया जाएगा। विजेताओं का ऐलान 31 अक्टूबर, 2021 को किया जाएगा।
  • भारतीय लॉजिस्टिक क्षेत्र 2020 में लगभग 215 बिलियन डॉलर तक पहुंचने के साथ 10.5% चक्रवृद्धि वार्षिक वृद्धि दर (CAGR) से बढ़ रहा है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप कला/संस्कृति

भारतीय विरासत संस्थान


19 जुलाई, 2021 को संस्कृति मंत्रालय द्वारा लोक सभा में दी गई जानकारी के अनुसार सरकार ने भारत की समृद्ध मूर्त विरासत के संरक्षण और अनुसंधान पर ध्यान केंद्रित करने के लिए नोएडा, गौतम बुद्ध नगर में 'भारतीय विरासत संस्थान' (Indian Institute of Heritage) स्थापित करने का निर्णय लिया है।

  • ‘भारतीय विरासत संस्थान’ को निम्न संस्थानों के शैक्षणिक स्कंध (Academic wing) को एकीकृत करके मानद विश्वविद्यालय के रूप में स्थापित किया जा रहा है।
    • पुरातत्व संस्थान (पं. दीनदयाल उपाध्याय पुरातत्व संस्थान);
    • राष्ट्रीय अभिलेखागार, नई दिल्ली के तहत अभिलेखीय अध्ययन विद्यालय;
    • राष्ट्रीय सांस्कृतिक संपदा संरक्षण अनुसंधानशाला (NRLC) लखनऊ;
    • कला, संरक्षण और संग्रहालय के इतिहास का राष्ट्रीय संग्रहालय संस्थान;
    • और इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केन्द्र, नई दिल्ली
  • ये सभी ‘भारतीय विरासत संस्थान’ के विभिन्न विद्यालय बन जाएंगे।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप विविध

अमेजन इंडिया 'डिजिटल केंद्र'


अमेजन इंडिया ने 8 जुलाई, 2021 को गुजरात के सूरत में अपना पहला 'डिजिटल केंद्र' लॉन्च किया, जो कंपनी द्वारा 2025 तक भारत के एक करोड़ सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (एमएसएमई) को डिजिटल बनाने की पहल का हिस्सा है।

  • अमेजन डिजिटल केंद्र एमएसएमई को ई-कॉमर्स के लाभों के बारे में जानकारी प्रदान करेंगे और शिपिंग और लॉजिस्टिक सहायता जैसी तृतीय-पक्ष सेवाओं का लाभ उठाने में मदद करेंगे।
  • जनवरी 2020 में, अमेजन के पूर्व सीईओ जेफ बेजोस ने छोटे और मध्यम व्यवसायों को ऑनलाइन करने में मदद करने के लिए भारत में 1 बिलियन डॉलर के निवेश की घोषणा की थी।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप विविध

स्टार्टअप इंडिया शोकेस प्लेटफॉर्म


विभिन्न क्षेत्रों के 104 स्टार्टअप वर्तमान में 'स्टार्टअप इंडिया शोकेस प्लेटफॉर्म' (Startup India Showcase Platform) पर शामिल हैं।

  • स्टार्टअप इंडिया शोकेस देश के सबसे होनहार स्टार्टअप्स के लिए एक ऑनलाइन डिस्कवरी प्लेटफॉर्म है।
  • ये नवाचार विभिन्न अत्याधुनिक क्षेत्रों जैसे फिनटेक (वित्त प्रौद्योगिकी), एंटरप्राइजटेक (उद्यम प्रौद्योगिकी), सोशल इम्पैक्ट, हेल्थटेक, एडटेक आदि में फैले हुए हैं। ईकोसिस्टम के हितधारकों ने इन स्टार्टअप्स का मूल्यांकन, समर्थन और संवारने का काम किया है।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

विंटेज मोटर वाहनों की पंजीकरण प्रक्रिया


केन्द्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने 18 जुलाई, 2021 को पुराने (विंटेज) वाहनों को बढ़ावा देने और इस विरासत को संरक्षित रखने के उद्देश्य से, विंटेज मोटर वाहनों की पंजीकरण प्रक्रिया को औपचारिक रूप दिया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने विंटेज मोटर वाहनों की पंजीकरण प्रक्रिया को औपचारिक रूप देते हुए केंद्रीय मोटर वाहन नियम, 1989 में संशोधन किया है।

मुख्य विशेषताएं: सभी 2/4 पहिया, 50+ वर्ष पुराने, अपने मूल रूप में सुरक्षित रखे गए और जिनमें कोई महत्वपूर्ण बदलाव नहीं हुआ है, उन्हें ‘विंटेज मोटर वाहन’ के रूप में मान्यता दी जायेगी।

  • राज्य पंजीकरण प्राधिकरण द्वारा 60 दिनों के भीतर फॉर्म 23ए के अनुसार पंजीकरण का प्रमाण पत्र जारी किया जाएगा।
  • पहले से पंजीकृत वाहन अपने मूल पंजीकरण चिह्न को बरकरार रख सकते हैं। हालांकि, नए पंजीकरण के लिए, पंजीकरण चिह्न "एक्सएक्स वीए वाईवाई *" (XX VA YY*) के रूप में निर्दिष्ट किया जाएगा, जहां XX राज्य कोड है, VA विंटेज के लिए है, YY दो-अक्षर की शृंखला होगी और "*" राज्य पंजीकरण प्राधिकरण द्वारा आवंटित 0001 से 9999 के बीच की संख्या होगी।
  • नया पंजीकरण शुल्क- 20,000 रुपये और बाद में पुन: पंजीकरण के लिए 5,000 रुपये है।
  • नियमित/व्यावसायिक उद्देश्यों के लिए, विंटेज मोटर वाहनों का संचालन सड़कों पर नहीं किया जा सकेगा।

पीआईबी न्यूज पर्यावरण

सतत पर्यावास का लक्ष्य: ऊर्जा दक्षता निर्माण में नई पहल 2021


केंद्रीय विद्युत और नवीन तथा नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री आर के सिंह ने 16 जुलाई, 2021 को ऊर्जा दक्षता ब्यूरो (BEE) के कार्यक्रम 'सतत पर्यावास का लक्ष्य : ऊर्जा दक्षता निर्माण में नई पहल 2021' का उद्घाटन किया।

पहल के अंतर्गत शामिल: ईको निवास संहिता 2021 के साथ निर्माण सेवाओं और सत्यापन ढांचे के लिए कोड अनुपालन दृष्टिकोण और न्यूनतम ऊर्जा प्रदर्शन आवश्यकताओं को निर्दिष्ट करना।

  • ऊर्जा दक्षता वाले भवन निर्माण हेतु भवन निर्माण सामग्री के लिए मानकीकरण की प्रक्रिया को पूर्ण करने के उद्देश्य से भवन निर्माण सामग्री की एक ऑनलाइन डॉयरेक्टरी तैयार की जाएगी।
  • निर्माण पुरस्कार (NEERMAN- National Energy Efficiency Roadmap for Movement towards Affordable & Natural Habitat Awards) की घोषणा की जाएगी, जिसका उद्देश्य BEE की ऊर्जा संरक्षण भवन संहिता के अनुरूप तैयार असाधारण रूप से कुशल ऊर्जा भवन प्रारूपों को प्रोत्साहित किया जाएगा।
  • व्यक्तिगत उपयोग वाले भवनों में ऊर्जा दक्षता और ऊर्जा बचत को बेहतर करने के लिए ऊर्जा दक्षता वाले घरों की रेटिंग के लिए ऑनलाइन स्टार रेटिंग टूल तैयार किया गया है।
  • ऊर्जा संरक्षण भवन संहिता 2017 और इको निवास संहिता 2021 के बारे में 15000 वास्तुकारों, अभियन्ताओं और सरकारी अधिकारियों को प्रशिक्षित किया जाएगा।
अन्य तथ्य: भारत सरकार ने ऊर्जा संरक्षण अधिनियम, 2001 के प्रावधान के तहत 1 मार्च, 2002 को ऊर्जा दक्षता ब्यूरो की स्थापना की है।

सामयिक खबरें आर्थिकी

राज्य विद्युत वितरण इकाइयों के लिए नौवीं एकीकृत रेटिंग और रैंकिंग


केंद्रीय विद्युत, नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री आर के सिंह ने 16 जुलाई, 2021 को ‘राज्य विद्युत वितरण इकाइयों के लिए नौवीं एकीकृत रेटिंग और रैंकिंग’ जारी की।

महत्वपूर्ण तथ्य: इस रेटिंग अभ्यास में 2019-20 की रेटिंग अवधि के लिए 22 राज्यों में फैले 41 राज्यों की विद्युत वितरण इकाइयां शामिल हैं।

  • नौवीं एकीकृत रेटिंग आईसीआरए एनालिटिक्स लिमिटेड (IAL) और केयर एडवाइजरी रिसर्च एंड ट्रेनिंग लिमिटेड (CART) द्वारा की गयी है, जबकि विद्युत वित्त निगम (PFC) द्वारा रेटिंग अभ्यास के दौरान इकाइयों, रेटिंग एजेंसियों और विद्युत मंत्रालय के साथ समन्वय किया गया।

रेटिंग मानक: कुल तकनीकी और वाणिज्यिक (एटी एंड सी) नुकसान, लागत दक्षता, वित्तीय प्रदर्शन, स्थिरता, नियामक, सुधार और सरकारी सहायता।

शीर्ष इकाइयां: गुजरात राज्य की चार विद्युत वितरण कंपनियों - उत्तर गुजरात विज कंपनी लिमिटेड, मध्य गुजरात विज कंपनी लिमिटेड, दक्षिण गुजरात विज कंपनी लिमिटेड और पश्चिम गुजरात विज कंपनी लिमिटेड ने A+की उच्चतम रेटिंग के साथ क्रमश: पहले चार स्थान हासिल किये किए।

  • ए+ की उच्चतम रेटिंग के साथ दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम लिमिटेड पांचवें स्थान पर रहा।

सबसे कम रेटिंग वाली वितरण इकाइयां: ‘C’ रेटिंग के साथ मेघालय पावर डिस्ट्रीब्यूशन कॉर्पोरेशन लिमिटेड 36वें, झारखंड बिजली वितरण निगम लिमिटेड 37वें, मणिपुर स्टेट पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड 38वें, त्रिपुरा स्टेट इलेक्ट्रिसिटी कॉर्पोरेशन लिमिटेड 39वें, तमिलनाडु जनरेशन एंड डिस्ट्रीब्यूशन कॉर्पोरेशन 40वें और जोधपुर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड 41वें स्थान पर रहे।

  • एकीकृत रेटिंग अभ्यास विद्युत मंत्रालय द्वारा अनुमोदित पद्धति के अनुसार 2012 से वार्षिक आधार पर किया जाता है।

सामयिक खबरें विज्ञान-प्रौद्योगिकी

एनबीड्राइवर


जुलाई 2021 में भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मद्रास के शोधकर्ताओं ने कोशिकाओं में कैंसर पैदा करने वाले परिवर्तनों की पहचान करने के लिए एक आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस-आधारित गणितीय मॉडल 'एनबीड्राइवर' (NBDriver- neighbourhood driver) विकसित किया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह एल्गोरिथ्म कैंसर की प्रगति के लिए जिम्मेदार आनुवंशिक परिवर्तनों को इंगित करने के लिए डीएनए संरचना का अध्ययन करने की एक अपेक्षाकृत अस्पष्टीकृत तकनीक का उपयोग करता है।

  • कैंसर कोशिकाओं को बढ़ाने में सक्षम 'चालक' उत्परिवर्तन (driver mutations) की अपेक्षाकृत कम संख्या और कैंसर की प्रगति पर कोई प्रभाव न डालने वाले 'पैसेंजर' उत्परिवर्तन(passenger' mutations) की विशाल संख्या के बीच अंतर करना कैंसर शोधकर्ताओं द्वारा सामना की जाने वाली प्रमुख चुनौतियों में से एक है।
  • यह मॉडल 89% की सटीकता के साथ कैंसर जीन से अच्छी तरह से अध्ययन किए गए चालक उत्परिवर्तन और पैसेंजर उत्परिवर्तन के बीच अंतर कर सकता है।
  • NBDriver मस्तिष्क या रीढ़ को प्रभावित करने वाले विशेष रूप से आक्रामक प्रकार के कैंसर 'ग्लियोब्लास्टोमा मल्टीफॉर्म' (Glioblastoma Multiforme-GBM) से पीड़ित रोगियों से 85% दुर्लभ चालक उत्परिवर्तन की सटीक पहचान कर सकता है।

कैंसर: यह मुख्य रूप से आनुवंशिक परिवर्तनों द्वारा संचालित कोशिकाओं की अनियंत्रित वृद्धि के कारण होता है।

  • हाल के वर्षों में, उच्च-प्रवाह क्षमता के डीएनए अनुक्रमण (high-throughput DNA Sequencing) ने इन परिवर्तनों के मापन को सक्षम करके कैंसर अनुसंधान के क्षेत्र में क्रांति ला दी है।
हालांकि, इन अनुक्रमण डेटासेट की जटिलता और आकार के कारण, कैंसर रोगियों के जीनोम से सटीक परिवर्तनों को इंगित करना बेहद मुश्किल है।

सामयिक खबरें विज्ञान-प्रौद्योगिकी

चंद्रमा के डगमगाने का प्रभाव


नासा के शोधकर्ताओं द्वारा एक नये अध्ययन के अनुसार 2030 के दशक के मध्य में, संयुक्त राज्य अमेरिका के कई तटीय शहरों में चंद्रमा के डगमगाने (Moon’s wobble) के कारण उच्च ज्वार की वृद्धि से बाढ़ का अनुभव होगा, जिससे मौजूदा जलवायु परिवर्तन के कारण बढ़ते समुद्र के स्तर में और वृद्धि होगी।

महत्वपूर्ण तथ्य: नासा के अनुसार चंद्रमा का डगमगाना कोई नई या खतरनाक चीज नहीं है और इसे पहली बार 1728 में दर्ज किया गया था। यह एक नियमित दोलन है।

  • नए अध्ययन के अनुसार चंद्रमा का डगमगाना, चंद्रमा के गुरुत्वाकर्षण खिंचाव को प्रभावित करता है, जो पृथ्वी पर ज्वार का मुख्य कारण है।
  • चंद्रमा की कक्षा में डगमगाने की प्रक्रिया में लगभग 18.6 वर्ष लगते हैं। डगमगाने की प्रत्येक चक्रीय प्रक्रिया में पृथ्वी पर ज्वार को बढ़ाने और दबाने की शक्ति होती है। चक्र के पहले भाग में, पृथ्वी के नियमित दैनिक ज्वार दब जाते हैं और दूसरे भाग में ज्वार बढ़ जाते हैं।
  • 2030 के दशक के मध्य में जब चंद्रमा चक्र के ज्वार-प्रवर्धक (tide-amplifying) भाग में आएगा तो यह पहले से ही बढ़े हुए वैश्विक समुद्र स्तर पर प्रभाव डालेगा और लगभग पूरे अमेरिका में बाढ़ का कारण बनेगा।
  • उच्च ज्वार से जुड़ी इस बाढ़ को उपद्रव बाढ़ या धूप बाढ़ (nuisance floods or sunny day floods) के रूप में भी जाना जाता है, जो क्लस्टर में हो सकती है और महीनों तक या लंबी अवधि तक भी रह सकती है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप विविध

इंटरनेशनल को-ऑपरेशन एंड कन्वेंशन सेंटर–‘रुद्राक्ष’


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 15 जुलाई, 2021 को वाराणसी में जापान की सहायता से निर्मित इंटरनेशनल को-ऑपरेशन एंड कन्वेंशन सेंटर–‘रुद्राक्ष’ (International Cooperation and Convention Centre - ‘Rudraksh’) का उद्घाटन किया।

  • वाराणसी के सिगरा क्षेत्र में लगभग 186 करोड़ रुपये की लागत से 2.87 हेक्टेयर भूमि में निर्मित इस दो मंजिला सम्मेलन केंद्र में 1200 लोगों की बैठने की क्षमता है।
  • इसमें एल्यूमीनियम के 108 बड़े "पंचमुखी रुद्राक्ष" स्थापित किए गए हैं। भवन की छत का निर्माण शिव लिंग के आकार में किया गया है। इसमें गैलरी वाराणसी की विशिष्ट संस्कृति और विरासत को प्रदर्शित करती है, जिसमें भित्ति चित्र इसकी कला और संगीत को दर्शाते हैं।
  • इसका निर्माण जापानी अंतरराष्ट्रीय सहयोग एजेंसी (JICA) की सहायता से पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए किया गया है और यह 'एकीकृत आवास मूल्यांकन के लिए ग्रीन रेटिंग' (GRIHA) के स्तर 3 के लिए उपयुक्त होगा।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप विविध

प्रधानमंत्री द्वारा वाराणसी में विभिन्न परियोजनाओं का उद्घाटन


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 15 जुलाई, 2021 को वाराणसी में 1500 करोड़ रुपये से अधिक लागत की विभिन्न परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया।

  • उन्होंने बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय (बीएचयू) में 100 बेड की मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य शाखा, गोदौलिया में मल्टीलेवल पार्किंग, गंगा नदी में पर्यटन विकास के लिए रो-रो जहाज और वाराणसी गाजीपुर राजमार्ग पर थ्री लेन फ्लाईओवर ब्रिज सहित लगभग 744 करोड़ रुपये की विभिन्न सार्वजनिक परियोजनाओं और कार्यों का उद्घाटन किया।
  • लगभग 839 करोड़ रुपये की लागत की कई परियोजनाओं और सार्वजनिक कार्यों की आधारशिला भी रखी गई। इनमें सेंट्रल इंस्टीट्यूट ऑफ पेट्रोकेमिकल इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी (CIPET) का कौशल और तकनीकी सहायता के लिए एक केंद्र, जल जीवन मिशन के तहत 143 ग्रामीण परियोजनाएं और कारखियांव में आम एवं सब्जी के लिए एकीकृत पैक हाउस शामिल हैं।

अन्य तथ्य: पहला CIPET परिसर संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (UNDP) की सहायता से भारत सरकार द्वारा 1968 में चेन्नई में स्थापित किया गया था।

राज्य समाचार ओडिशा

ओडिशा में कुष्ठ रोगियों की स्थिति का आकलन करने हेतु पैनल की नियुक्ति


ओडिशा द्वारा खुद को कुष्ठ मुक्त राज्य घोषित करने के पंद्रह साल बाद, ओडिशा उच्च न्यायालय ने कुष्ठ रोगियों की निर्वाह स्थिति (living condition) और कुष्ठ कॉलोनियों में उपलब्ध चिकित्सा सुविधाओं का आकलन करने के लिए तीन सदस्यीय अधिवक्ता समिति नियुक्त की है।

  • समिति में वरिष्ठ अधिवक्ता बिभु प्रसाद त्रिपाठी, गौतम मिश्रा और पामी रथ शामिल हैं।
  • 2006-2007 में, ओडिशा को विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के मानकों के अनुसार "कुष्ठ मुक्त" घोषित किया गया था।
  • WHO के अनुसार, प्रति 10,000 आबादी पर 1 मामले की रिपोर्ट करने वाले क्षेत्रों को 'कुष्ठ मुक्त' कहा जा सकता है।

सामयिक खबरें पर्यावरण

गुजरात साइंस सिटी एक्वेटिक्स और रोबोटिक्स गैलरी


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 16 जुलाई, 2021 को अहमदाबाद स्थित गुजरात साइंस सिटी परिसर में एक्वेटिक्स और रोबोटिक्स गैलरी (Aquatic and robotic gallery) तथा नेचर पार्क का उद्घाटन किया।

एक्वेटिक गैलरी: 15,000 वर्ग मीटर में फैली एक्वेटिक गैलरी, भारत में सबसे बड़ा जलजीवशाला (aquarium) होगी जिसमें 68 टैंक होंगे; इसमें पेंगुइन सहित 188 समुद्री प्रजातियों को प्रदर्शित किया जाएगा। एक प्रमुख आकर्षण 28 मीटर लंबी शार्क टनल है, जिसमें ग्रे रीफ शार्क, बोनटहेड शार्क और जेब्रा शार्क होंगी।

  • परियोजना को 'मरीन स्केप ईओ-एक्वेरियम (Marine Scape Eo-aquarium), न्यूजीलैंड के सहयोग से विकसित किया गया है।

रोबोटिक्स गैलरी: यह रोबोटिक तकनीक की तरक्की को प्रदर्शित करने वाली एक गैलरी है, जो आगंतुकों को रोबोटिक्स के निरंतर आगे बढ़ते क्षेत्र से परिचय कराने का मंच प्रदान करेगी।

  • गैलरी में एक स्वागत करने वाला ह्यूमनॉइड रोबोट (humanoid robot) है, जो खुशी, आश्चर्य और उत्तेजना जैसी भावनाओं को व्यक्त करते हुए आगंतुकों से संवाद करता है।

नेचर पार्क: पार्क में मिस्ट गार्डन (mist garden), चेस गार्डन (chess garden), सेल्फी पॉइंट, मूर्तिकला पार्क और एक बाहरी भूलभुलैया के अलावा वैज्ञानिक जानकारी से परिपूर्ण विलुप्त जानवरों जैसे मैमथ (mammoth), टेरर बर्ड (terror bird), सेबर टूथ लॉयन (saber tooth lion) की मूर्तियां हैं।

साइंस सिटी: यह 1999 में राज्य सरकार द्वारा विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) के तहत एक स्वायत्त निकाय के रूप में 'गुजरात काउंसिल ऑफ साइंस सिटी' की स्थापना के बाद अस्तित्व में आई। इसका उद्देश्य वैज्ञानिक दृष्टिकोण (scientific temper) के प्रोत्साहन हेतु विज्ञान शिक्षा को मनोरंजन के साथ समाविष्ट करना था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप समझौते/संधि

आयुर्वेद शिक्षण और अनुसंधान संस्थान और गुजरात सरकार के बीच समझौता ज्ञापन


15 जुलाई 2021, को 'आयुर्वेद शिक्षण और अनुसंधान संस्थान' (Institute of Teaching and Research in Ayurveda- ITRA) और गुजरात सरकार के बीच एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए।

  • आयुष मंत्रालय के अधीन आयुर्वेद शिक्षण और अनुसंधान संस्थान जामनगर में स्थित है।
  • इस समझौता ज्ञापन के माध्यम से जामनगर में आयुर्वेद परिसर में कार्यरत सभी संस्थानों को ITRA के अंतर्गत लाया गया है।
  • ITRA आयुष मंत्रालय के तहत एकमात्र संस्थान है, जिसे 'राष्ट्रीय महत्व के संस्थान' का दर्जा दिया गया है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप विविध

मकरू पुल


सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने 12 जुलाई, 2021 को मणिपुर में 16 राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया। परियोजनाओं में तामेंगलोंग जिले में मकरू नदी पर 45 करोड़ रुपये का आरसीसी पुल शामिल है।

  • मकरू पुल राज्य की राजधानी इम्फाल से 189 किमी दूर स्थित है। यह 222 किमी. के इम्फाल-जिरीबाम राजमार्ग (राष्ट्रीय राजमार्ग 37) के प्रमुख पुलों में से एक है।
  • यह असम और मणिपुर तथा मणिपुर के अंदर के अन्य महत्वपूर्ण स्थानों के बीच संपर्क में सुधार करेगा।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

नेल्सन मंडेला अंतरराष्ट्रीय दिवस


18 जुलाई

महत्वपूर्ण तथ्य: यह दिवस अंतरराष्ट्रीय स्तर पर लोकतंत्र के लिए संघर्ष और दुनिया भर में शांति को बढ़ावा देने में दक्षिण अफ्रीका के पूर्व राष्ट्रपति नेल्सन मंडेला के योगदान की याद में मनाया जाता है। संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 2009 में 18 जुलाई को इस दिवस को मनाने का प्रस्ताव अपनाया था।

राज्य समाचार उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश जनसंख्या (नियंत्रण, स्थिरीकरण और कल्याण) मसौदा विधेयक 2021


उत्तर प्रदेश राज्य विधि आयोग ने जनसंख्या नियंत्रण के लिए एक मसौदा विधेयक 'उत्तर प्रदेश जनसंख्या (नियंत्रण, स्थिरीकरण और कल्याण) विधेयक 2021' तैयार किया है, जिसके तहत दो बच्चों के मानदंड को लागू और बढ़ावा दिया जाएगा।

  • इसके तहत उत्तर प्रदेश में दो- बच्चों की नीति का उल्लंघन करने वाले किसी भी व्यक्ति को स्थानीय निकाय चुनाव लड़ने, सरकारी नौकरियों में आवेदन करने या पदोन्नति पाने और किसी भी प्रकार की सरकारी सब्सिडी प्राप्त करने से वंचित कर दिया जाएगा।

प्रोत्साहन: मसौदे के अनुसार, स्वैच्छिक नसबंदी के माध्यम से दो- बच्चों के मानदंड अपनाने पर लोक सेवकों सहित लोगों को कई प्रोत्साहन प्रदान किए गए हैं।

  • पूरे वेतन और भत्तों के साथ 12 महीने का मातृत्व या पितृत्व अवकाश;
  • राष्ट्रीय पेंशन के तहत नियोक्ता अंशदान कोष (employer‘s contribution Fund) में 3% की वृद्धि;
  • भूखंड या आवास स्थल या बने हुये घर हेतु सब्सिडी; पानी, बिजली और गृह कर जैसी उपयोगिताओं के लिए शुल्क में छूट।
  • एक बच्चे के मानदंड अपनाने वाले सरकारी कर्मचारी या आम नागरिक को मुफ्त स्वास्थ्य देखभाल सुविधा और 20 साल की उम्र तक बच्चे को बीमा कवरेज का अतिरिक्त लाभ;
  • स्वैच्छिक नसबंदी के माध्यम से एक बच्चे के मानदंड अपनाने वाले गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले दंपत्ति, लड़का पैदा होने पर एकमुश्त 80,000 रुपये और लड़की होने पर 1 लाख रुपये के भुगतान के लिए पात्र होंगे।

राज्य समाचार बिहार

केसरिया बौद्ध स्तूप


जुलाई 2021 में बिहार के कुछ हिस्सों में भारी बारिश के बाद विश्व प्रसिद्ध केसरिया बौद्ध स्तूप बाढ़ के पानी से घिर गया।

  • इसे ‘दुनिया का सबसे बड़ा बौद्ध स्तूप’ माना जाता है। यह राज्य की राजधानी पटना से लगभग 110 किमी. दूर ‘पूर्वी चंपारण जिले’ में स्थित है।
  • इसकी परिधि लगभग 400 फीट है और यह लगभग 104 फीट की ऊंचाई पर स्थित है।
  • स्थानीय लोग स्तूप को "देवालय" कहते हैं जिसका अर्थ है "देवताओं का घर"। भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण ने इसे 'राष्ट्रीय महत्व का संरक्षित स्मारक' घोषित किया है।
  • 1814 में कर्नल मैकेंजी के नेतृत्व में इसकी खोज शुरू हुई थी। बाद में, 1861-62 में जनरल कनिंघम द्वारा और 1998 में पुरातत्वविद् के.के. मुहम्मद ने इस स्थल की ठीक से खुदाई करवाई थी।
  • मूल रूप से केसरिया स्तूप को सम्राट अशोक (लगभग 250 ईसा पूर्व) के काल का कहा जाता है क्योंकि वहां अशोक स्तंभ के अवशेष मिले थे।

राज्य समाचार असम

मुख्यमंत्री कोविड-19 विधवा सहायता योजना


असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने 11 जुलाई, 2021 को एक योजना शुरू की, जिसके तहत उन महिलाओं को सामाजिक और वित्तीय सुरक्षा प्रदान की जाएगी, जिन्होंने कोविड-19 की वजह से अपने पति को खो दिया है।

  • 'मुख्यमंत्री कोविड-19 विधवा सहायता योजना' के तहत ऐसी महिलाओं, जिनकी पारिवारिक आय 5 लाख रुपये से कम है, को 2.5 लाख रुपये की एकमुश्त सहायता दी जाएगी।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

कृष्णा और गोदावरी नदी प्रबंधन बोर्ड अधिकार क्षेत्र


जल शक्ति मंत्रालय ने 15 जुलाई, 2021 को राजपत्र अधिसूचना के माध्यम से गोदावरी नदी प्रबंधन बोर्ड (GRMB) और कृष्णा नदी प्रबंधन बोर्ड (KRMB) का अधिकार क्षेत्र अधिसूचित कर दिया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: आंध्र प्रदेश पुनर्गठन अधिनियम, 2014 की धारा 87 के प्रावधानों के क्रम में, भारत सरकार ने दो राजपत्र अधिसूचनाएं जारी की, जो आंध्र प्रदेश और तेलंगाना राज्यों में क्रमशः स्थित गोदावरी और कृष्णा नदी घाटियों में परियोजनाओं के प्रशासन, नियमन, रखरखाव और परिचालन के लिए एक GRMB और दूसरी KRMB के अधिकार क्षेत्र से संबंधित है।

  • आंध्र प्रदेश पुनर्गठन अधिनियम 2014 में आंध्र प्रदेश और तेलंगाना राज्यों में नदी के जल के प्रभावी प्रबंधन के प्रावधान शामिल हैं।
  • इस अधिनियम में गोदावरी और कृष्णा नदी प्रबंधन बोर्डों का गठन व इन बोर्डों के कामकाज की निगरानी के लिए सर्वोच्च परिषद के गठन का निर्धारण किया गया है।
  • केन्द्र सरकार ने आंध्र प्रदेश पुनर्गठन अधिनियम, 2014 की धारा 85 के तहत मिली शक्तियों का प्रयोग करते हुए, गोदावरी और कृष्णा नदियों पर ऐसी परियोजनाओं के प्रशासन, नियमन, रखरखाव और संचालन के लिए 2 जून, 2014 को दो नदी प्रबंधन बोर्ड का गठन किया था।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

स्कूल नवाचार दूत प्रशिक्षण कार्यक्रम


केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और जनजातीय कार्य मंत्री अर्जुन मुंडा ने 16 जुलाई, 2021 को संयुक्त रूप से 50,000 स्कूल शिक्षकों के लिए 'स्कूल नवाचार दूत प्रशिक्षण कार्यक्रम' (School Innovation Ambassador Training Program) का शुभारंभ किया।

उद्देश्य: स्कूल शिक्षकों को नवाचार, उद्यमिता, आईपीआर, डिजाइन विचार, उत्पाद विकास, विचार सृजन आदि के बारे में प्रशिक्षण देना।

  • कार्यक्रम का लक्ष्य छात्रों को भविष्य के लिए तैयार करने के लिए शिक्षकों को परिवर्तन-एजेंट और नवाचार का दूत बनाना है।
  • यह कार्यक्रम शिक्षा मंत्रालय के नवोन्मेष प्रकोष्ठ (Innovation Cell), जनजातीय मामलों के मंत्रालय, CBSE और AICTE द्वारा एक सहयोगात्मक प्रयास है।
  • कार्यक्रम को शिक्षा मंत्रालय के नवोन्मेष प्रकोष्ठ और अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (AICTE) द्वारा स्कूली शिक्षकों के लिए ‘उच्च शैक्षिक संस्थान के संकाय सदस्यों के लिए नवाचार दूत प्रशिक्षण कार्यक्रम’ के आधार पर डिजाइन किया गया है।
  • प्रशिक्षण केवल ऑनलाइन माध्यम से दिया जाएगा। इस पहल से देश भर में बड़ी संख्या में आदिवासी बच्चों के स्कूलों को लाभ होगा।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

प्रधानमंत्री द्वारा गुजरात में कई प्रमुख रेल परियोजनाओं का उद्घाटन


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 16 जुलाई, 2021 को वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से गुजरात में रेलवे की कई प्रमुख परियोजनाओं का उद्घाटन किया और कई परियोजनाएं राष्ट्र को समर्पित की।

पुनर्विकसित गांधीनगर राजधानी रेलवे स्टेशन: गांधीनगर राजधानी रेलवे स्टेशन को 71 करोड़ रुपये की लागत से पुनर्विकसित किया गया है। इस स्टेशन को दिव्यांग अनुकूल स्टेशन बनाया गया है।

  • पूरी इमारत का डिजाइन हरित भवन रेटिंग सुविधाओं के साथ तैयार किया गया है। गांधीनगर रेलवे स्टेशन के ऊपर पांच सितारा होटल भी बनाया गया है।

मेहसाणा-वरेथा लाइन: 293 करोड़ रुपये की लागत से 55 किमी. के मेहसाणा-वरेथा गेज परिवर्तन का काम और साथ-साथ 74 करोड़ रुपये की लागत से ब्रॉड गेज विद्युतीकरण का काम पूरा किया जा चुका है।

  • इस खंड पर एक प्रमुख स्टेशन वाडनगर है, जिसे वाडनगर-मोढेरा-पाटन हेरिटेज सर्किट के अंतर्गत विकसित किया गया है। वाडनगर स्टेशन भवन को हेरिटेज रूप देने के लिए पर्यटन मंत्रालय द्वारा 8.5 करोड़ रुपये खर्च किए गए हैं। गुजरात के मेहसाणा जिले में वाडनगर प्रधानमंत्री का गृहनगर है।

सुरेंद्रनगर-पीपावाव खंड का विद्युतीकरण: ये परियोजना कुल 289 करोड़ रुपये की लागत से पूरी की गई है। ये परियोजना पालनपुर, अहमदाबाद और देश के अन्य हिस्सों से पीपावाव बंदरगाह तक बिना रुकावट के माल ढुलाई की निर्बाध आवाजाही प्रदान करेगी।

अन्य तथ्य: प्रधानमंत्री ने दो नई ट्रेनों ‘गांधीनगर राजधानी-वाराणसी सुपरफास्ट एक्सप्रेस’ और गांधीनगर और वरेथा के बीच एमईएमयू सेवा (Mainline Electric Multiple Unit- MEMU) को भी हरी झंडी दिखा कर रवाना किया।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

विशेष पशुधन क्षेत्र पैकेज


आर्थिक मामलों की मंत्रिमंडल समिति ने 14 जुलाई, 2021 को पशुपालन और डेयरी योजनाओं के विभिन्न घटकों को संशोधित और पुन: व्यवस्थित करके कई गतिविधियों से युक्त एक विशेष पशुधन क्षेत्र पैकेज (Special livestock sector package) के कार्यान्वयन को मंजूरी दी है।

महत्वपूर्ण तथ्य: 2021-22 से शुरू होने इस पैकेज के तहत केंद्र सरकार अगले पांच वर्षों के दौरान 54,618 करोड़ रुपये का कुल निवेश जुटाने के लिये 9800 करोड़ रुपये की सहायता देगी।

  • इसके आधार पर विभाग की सभी योजनाओं को तीन व्यापक श्रेणियों में समाविष्ट कर दिया जायेगा -
  1. 'विकास कार्यक्रम' में राष्ट्रीय गोकुल मिशन, राष्ट्रीय डेयरी विकास कार्यक्रम, राष्ट्रीय पशुधन मिशन और पशुधन गणना एवं एकीकृत नमूना सर्वेक्षण को उप-योजनाओं के तौर पर शामिल किया गया है।
  2. 'रोग नियंत्रण कार्यक्रम' का नाम बदलकर ‘पशुधन स्वास्थ्य और रोग नियंत्रण’ कर दिया गया, जिसमें वर्तमान पशुधन स्वास्थ्य और रोग नियंत्रण योजना और राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम शामिल हैं।
  3. 'अवसंरचना विकास निधि' में पशुपालन अवसंरचना विकास निधि और डेयरी अवसंरचना विकास निधि का विलय कर दिया गया है तथा डेयरी गतिविधियों में संलग्न डेयरी सहकारी समितियों और किसान उत्पादक संगठनों को समर्थन की वर्तमान योजना भी इस तीसरी श्रेणी में शामिल है।

पीआईबी न्यूज पर्यावरण

ध्रुवीय जीव विज्ञान के क्षेत्र में सहयोग


ध्रुवीय जीव विज्ञान के क्षेत्र में सहयोग के लिए 14 जुलाई, 2021 को पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय (MoES) और जैव प्रौद्योगिकी विभाग (DBT) के बीच एक समझौते (MoU) पर हस्ताक्षर किए गए।

महत्वपूर्ण तथ्य: दोनों संगठन एक ही जगह ध्रुवीय जीव विज्ञान के क्षेत्र में प्रासंगिक प्रश्नों के समाधान के लिए साथ मिलकर काम करेंगे। विशेष रूप से, 'ध्रुवीय जीवाणुओं के जैव प्रौद्योगिकी अनुप्रयोग' पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय और जैव प्रौद्योगिकी विभाग के बीच इस सहयोग का केंद्र बिंदु हो सकते हैं।

  • इस MoU को ‘ध्रुवीय विज्ञान के क्षेत्र में अनुसंधान के परस्पर सहमति वाले क्षेत्रों’ में सहयोग के उद्देश्य से लागू किया जाएगा।
  • ध्रुवीय क्षेत्रों में शोध को तेज करने के क्रम में पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के स्टेशनों (केंद्रों) पर ‘संयुक्त प्रयोगशालाओं’ की स्थापना की जाएगी।
  • इससे शोधकर्ताओं को नमूनों को भारत में मुख्य प्रयोगशालाओं तक पहुंचाने की जरूरत के बिना अपनी साइट पर प्रयोग करने का मौका मिलेगा और इस विशेष वातावरण में जुड़ी बहुमूल्य जानकारी और नवीन उत्पाद सामने आएंगे।

ध्रुवीय क्षेत्र: इसमें अंटार्कटिक, आर्कटिक, दक्षिणी महासागर और हिमालय शामिल है, जो अभी तक एक अस्पष्टीकृत पारिस्थितिकी तंत्र (unexplored ecosystem) के रूप में जाना जाता है।

  • यह एक अद्वितीय पारिस्थितिकी तंत्र है, जो दुनिया के बाकी हिस्सों की तुलना में अपनी चरम जलवायु के चलते खासी दिलचस्पी पैदा करता है।

सामयिक खबरें आर्थिकी

देश का पहला 'अनाज एटीएम'


जुलाई 2021 में देश का पहला 'अनाज एटीएम' (Grain ATM) पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर गुरुग्राम जिले के फर्रुखनगर में स्थापित किया गया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: 'अनाज एटीएम' एक स्वचालित मशीन है, जो बैंक एटीएम की तरह काम करती है।

  • संयुक्त राष्ट्र के 'विश्व खाद्य कार्यक्रम' के तहत स्थापित की जाने वाली इस मशीन, को 'ऑटोमेटेड, मल्टी कमोडिटी, ग्रेन डिस्पेंसिंग मशीन' (Automated, Multi Commodity, Grain Dispensing Machine) यानी ‘स्वचालित बहु-पण्य पदार्थ अनाज वितरण मशीन’ कहा जाता है।
  • अनाज की माप में त्रुटि नगण्य है और यह मशीन एक बार में 5 से 7 मिनट के भीतर 70 किलो तक अनाज निकाल सकती है।
  • यह स्वचालित मशीन टच स्क्रीन के साथ बायोमेट्रिक सिस्टम से लैस है, जहां लाभार्थी को आधार कार्ड या राशन कार्ड नंबर दर्ज करना होगा।
  • बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण पर सरकार द्वारा लाभार्थियों को निर्धारित खाद्यान्न मशीन के नीचे लगे बैग में स्वतः भर जाएगा।
  • इस मशीन के माध्यम से तीन प्रकार का अनाज - गेहूं, चावल और बाजरा वितरित किया जा सकता है।
  • गुरुग्राम जिले के फर्रुखनगर में इस पायलट प्रोजेक्ट के सफलतापूर्वक पूरा होने के बाद इन खाद्य आपूर्ति मशीनों को राज्य भर के सरकारी डिपो में स्थापित करने की योजना है।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

नदी तट पर स्थित शहरों के लिए संरक्षण योजना


राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन के एक नीति दस्तावेज में नदी तट पर स्थित शहरों को अपने मास्टर प्लान तैयार करते समय नदी संरक्षण योजनाओं को शामिल करने का प्रस्ताव किया गया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह प्रस्ताव वर्तमान में उन शहरों के लिए हैं, जो गंगा नदी की मुख्य धारा के करीब बसे हुए हैं। इन शहरों में 5 राज्यों - उत्तराखंड, उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल के 97 शहर शामिल हैं।

  • "नदी-संवेदनशील" योजनाएं व्यावहारिक होनी चाहिए और अतिक्रमण और भूमि स्वामित्व के सवालों पर विचार किया जाना चाहिए।
  • अतिक्रमण करने वाली इकाइयों के लिए एक व्यवस्थित पुनर्वास योजना की आवश्यकता है, जो पुनर्वास रणनीति के अलावा वैकल्पिक आजीविका विकल्पों पर जोर देती हो।
  • योजना को भू-स्वामित्व पर भी स्पष्टता प्रदान करनी चाहिए।
  • नदी और नदी संसाधनों के संरक्षण के लिए नदी के आसपास के क्षेत्र में हरित बफर बनाकर, कंक्रीट संरचनाओं को हटाकर "हरित बुनियादी ढांचे" को शुरू किया जाना चाहिए।

महत्व: मास्टर प्लान में नदी प्रबंधन के लिए पानी की गुणवत्ता की उपग्रह आधारित निगरानी; नदी के किनारे जैव विविधता मानचित्रण के लिए 'कृत्रिम बुद्धिमत्ता' का प्रयोग; नदी-स्वास्थ्य निगरानी के लिए 'बिग डेटा' का उपयोग तथा बाढ़ मैदानों के लिए मानव रहित विमान को शामिल किया जा सकता है।

राष्ट्रीय स्वच्छ गंगा मिशन (NMCG): इसे 12 अगस्त, 2011 को सोसायटी पंजीकरण अधिनियम 1860 के तहत एक सोसायटी के रूप में पंजीकृत किया गया था। NMCG राष्ट्रीय गंगा परिषद (इसने 2016 में ‘राष्ट्रीय गंगा नदी बेसिन प्राधिकरण’ को प्रतिस्थापित किया था) का कार्यान्वयन स्कंध है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप निधन

राष्ट्रीय डिजाइन संस्थान की सह-संस्थापक गीरा साराभाई का निधन


अहमदाबाद स्थित प्रसिद्ध राष्ट्रीय डिजाइन संस्थान (National Institute of Design -NID) की सह-संस्थापक और भारत में डिजाइन शिक्षा में अग्रणी भूमिका निभाने वाली गीरा साराभाई का 15 जुलाई, 2021 को अहमदाबाद में निधन हो गया। वे 97 वर्ष की थीं।

  • अपने भाई गौतम साराभाई के साथ, उन्होंने NID की स्थापना की और इसका शैक्षणिक पाठ्यक्रम भी तैयार किया।
  • NID के अलावा, भारत के सबसे प्रसिद्ध निजी संग्रहालयों में से एक कैलिको संग्रहालय (Calico Museum) की स्थापना में भी गीरा और गौतम दोनों शामिल थे। कैलिको उनके पिता अंबालाल साराभाई द्वारा संचालित कपड़ा मिलों में से एक थी।

राष्ट्रीय डिजाइन संस्थान: NID को 1961 में अहमदाबाद में राष्ट्रीय औद्योगिक डिजाइन संस्थान के रूप में स्थापित किया गया था और तब से डिजाइन शिक्षा, अभ्यास और अनुसंधान के लिए एक केंद्र रहा है। इसके दो अन्य परिसर गांधीनगर और बेंगलुरू में हैं।

  • NID अहमदाबाद वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय, भारत सरकार के तत्वावधान में एक स्वायत्त संस्थान है। राष्ट्रीय डिजाइन संस्थान अधिनियम 2014 के तहत इसे 'राष्ट्रीय महत्व का संस्थान' घोषित किया गया है।
  • वर्तमान में अन्य राष्ट्रीय डिजाइन संस्थान हरियाणा (कुरुक्षेत्र), आंध्र प्रदेश, असम (जोरहाट) और मध्य प्रदेश (भोपाल) में हैं।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित व्यक्ति

यूनिसेफ प्रमुख हेनरिटा फोरे ने दिया इस्तीफा


संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने 12 जुलाई, 2021 को यूनिसेफ की कार्यकारी निदेशक हेनरिटा फोरे का इस्तीफा स्वीकार कर लिया है। उन्होंने पारिवारिक स्वास्थ्य समस्या के चलते इस्तीफा दिया है।

  • हेनरिटा फोरे यूएस एजेंसी फॉर इंटरनेशल डेवलपमेंट (USAID) की प्रमुख बनने वाली पहली महिला हैं। वह 1 जनवरी, 2018 को यूनिसेफ की प्रमुख बनी थीं।
  • फोरे ने इससे पहले 2001-2005 तक यूएस मिंट के निदेशक के रूप में, 2005-2007 तक प्रबंधन के लिए यूएस अंडरसेक्रेटरी के रूप में और 2007-2009 तक तत्कालीन राष्ट्रपति जॉर्ज डब्ल्यू बुश के प्रशासन के दौरान USAID प्रशासक के रूप में कई कंपनियों को चलाया।
  • उत्तराधिकारी चुने जाने तक फोरे यूनिसेफ में पद पर बने रहेंगी।
  • यूनिसेफ के कार्यकारी निदेशक की नियुक्ति संयुक्त राष्ट्र महासचिव द्वारा संगठन के कार्यकारी बोर्ड के परामर्श से की जाती है।

यूनिसेफ: यह ‘संयुक्त राष्ट्र बाल कोष’ है, जिसे संयुक्त राष्ट्र बाल आपातकालीन कोष (UNICEF) के रूप में भी जाना जाता है। यह एक संयुक्त राष्ट्र एजेंसी है, जो दुनिया भर में बच्चों को मानवीय और विकासात्मक सहायता प्रदान करने के लिए जिम्मेदार है।

  • 11 दिसंबर 1946 को, संयुक्त राष्ट्र ने द्वितीय विश्व युद्ध में तबाह हुए देशों में बच्चों और माताओं को आपातकालीन स्थिति में भोजन और स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध कराने के उद्देश्य से यूनिसेफ की स्थापना की थी।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप नियुक्ति

शेर बहादुर देउबा पांचवीं बार नेपाल के प्रधानमंत्री


नेपाली कांग्रेस के अध्यक्ष शेर बहादुर देउबा ने 13 जुलाई, 2021 को पांचवीं बार नेपाल के प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली।

  • इससे पहले नेपाल की सुप्रीम कोर्ट की पांच सदस्यीय संवैधानिक पीठ ने एक नाटकीय फैसले में कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री के पी शर्मा ओली ने संवैधानिक सिद्धांतों का उल्लंघन किया है तथा देउबा को संविधान के अनुच्छेद 76(5) के तहत प्रधानमंत्री नियुक्त किया जाना चाहिए।
  • अनुच्छेद 76(5) के अनुसार, सदन का कोई भी सदस्य जो सदन में विश्वास मत हासिल करने का एक आधार प्रस्तुत करता है, उसे प्रधानमंत्री नियुक्त किया जाता है। इसके अलावा शपथ लेने के 30 दिनों के भीतर सदन में विश्वास मत हासिल करना जरुरी है।
  • 275 सदस्यीय प्रतिनिधि सभा में देउबा की नेपाली कांग्रेस के पास केवल 61 सीटें हैं। देउबा को 136 वोटों की जरूरत है क्योंकि वर्तमान में सदन में केवल 271 सदस्य हैं।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

विश्व सर्प दिवस


16 जुलाई

महत्वपूर्ण तथ्य: विभिन्न प्रकार की साँप प्रजातियों के बारे में जागरूकता बढ़ाने और पारिस्थितिकी संतुलन को बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए विश्व सर्प दिवस हर साल 16 जुलाई को मनाया जाता है।

राज्य समाचार महाराष्ट्र

महाराष्ट्र इलेक्ट्रिक वाहन नीति-2021


महाराष्ट्र के पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे ने 13 जुलाई, 2021 को महाराष्ट्र इलेक्ट्रिक वाहन नीति-2021 की घोषणा की।

उद्देश्य: बैटरी चालित इलेक्ट्रिक वाहन को अपनाने में तेजी लाना ताकि वे 2025 तक नए वाहन पंजीकरण में 10% का योगदान दें।

  • मुंबई, पुणे, नागपुर, औरंगाबाद, अमरावती और नासिक में 2025 तक सार्वजनिक परिवहन में 25% इलेक्ट्रिक वाहनों का प्रयोग किया जाएगा;
  • 2025 तक महाराष्ट्र राज्य परिवहन निगम के बेड़े के 15% को इलेक्ट्रिक वाहनों में परिवर्तित किया जाएगा।
  • शहरी क्षेत्रों और राजमार्गों में 2,500 चार्जिंग स्टेशन स्थापित किये जायेंगे।
  • अप्रैल 2022 से, प्रमुख शहरों में चलने वाले सभी नए सरकारी वाहन इलेक्ट्रिक होंगे।
  • नीति के तहत इलेक्ट्रिक वाहनों के खरीदारों को प्रोत्साहन दिया जाएगा। दोपहिया वाहन खरीदने वालों को 10,000 रुपये, तिपहिया के लिए 30,000 रुपये, चौपहिया के लिए 1,50,000 रुपये और ई-बसों के लिए 20 लाख रुपये की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

न्यायपालिका के लिए बुनियादी ढांचा सुविधाओं का विकास


केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने न्यायपालिका के लिए बुनियादी ढांचे से जुड़ी सुविधाओं के विकास के लिए केन्द्र प्रायोजित योजना (CSS) को 1 अप्रैल, 2021 से लेकर 31 मार्च, 2026 तक और पांच वर्षों के लिए जारी रखने की मंजूरी दी है।

महत्वपूर्ण तथ्य: इस प्रस्ताव से जिला और अधीनस्थ न्यायालयों के न्यायिक अधिकारियों के लिए 3800 कोर्ट हॉल और 4000 आवासीय इकाइयों, वकीलों के लिए 1450 हॉल आदि के निर्माण में मदद मिलेगी।

योजना का कार्यान्वयन: योजना की कुल 9,000 करोड़ रुपये की लागत में केन्द्र सरकार की हिस्सेदारी 5,357 करोड़ रुपये की होगी, जिसमें ग्राम न्यायालय योजना के कार्यान्वयन के लिए 50 करोड़ रुपये की लागत भी शामिल है।

योजना की निगरानी: न्याय विभाग ने इसरो की तकनीकी सहायता से एक ऑनलाइन निगरानी प्रणाली विकसित की है।

  • उन्नत ‘न्याय विकास-2.0’ वेब पोर्टल और मोबाइल एप्लिकेशन का उपयोग पूरी हो चुकी और चल रही परियोजनाओं की जियो-टैगिंग द्वारा CSS न्यायिक बुनियादी ढांचे से जुड़ी परियोजनाओं की वास्तविक और वित्तीय प्रगति की निगरानी के लिए किया जाता है।

अन्य तथ्य: न्यायपालिका के लिए बुनियादी ढांचे से जुड़ी सुविधाओं के विकास के लिए केन्द्र प्रायोजित योजना 1993-94 से चल रही है।

  • 2 अक्टूबर, 2009 से लागू ‘ग्राम न्यायालय अधिनियम, 2008’ को देश के ग्रामीण इलाकों में न्याय प्रणाली तक त्वरित और आसान पहुंच बनाने के उद्देश्य से ग्राम न्यायालयों की स्थापना के लिए लाया गया है।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

राष्ट्रीय आयुष मिशन को जारी रखने की मंजूरी


14 जुलाई, 2021 को केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने केंद्र प्रायोजित योजना राष्ट्रीय आयुष मिशन को जारी रखने की मंजूरी दी।

महत्वपूर्ण तथ्य: राष्ट्रीय आयुष मिशन को 1 अप्रैल, 2021 से 31 मार्च, 2026 तक 4607.30 करोड़ रुपये के वित्तीय व्यय के साथ जारी रखा जाएगा, जिसमें केंद्रीय हिस्से के रूप में 3,000 करोड़ रुपये और राज्य के हिस्से के रूप में 1607.30 करोड़ रुपये होंगे।

  • राष्ट्रीय आयुष मिशन 15 सितंबर, 2014 को शुरू किया गया था। इसे आयुष मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा सस्ती आयुष सेवाएं प्रदान करने के उद्देश्य से लागू किया जा रहा है।
  • इसका उद्देश्य आयुष अस्पतालों और औषधालयों के उन्नयन के माध्यम से व्यापक पहुंच के साथ-
  • प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों (PHCs), सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (CHCs) और जिला अस्पतालों में आयुष सुविधाओं को एक साथ मुहैया करना;
  • आयुष शैक्षणिक संस्थानों के उन्नयन के माध्यम से राज्य स्तर पर संस्थागत क्षमता को मजबूत करना;
  • 50 बिस्तरों वाले एकीकृत आयुष अस्पताल की स्थापना;
  • आयुष सार्वजनिक स्वास्थ्य कार्यक्रम और 12,500 ‘आयुष स्वास्थ्य एवं सेहत केंद्र’ (AYUSH Health and Wellness Centres) का संचालन करना है।

सामयिक खबरें आर्थिकी

भारत में वाणिज्यिक जहाजों की संचालन प्रोत्साहन योजना


14 जुलाई, 2021 को केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने मंत्रालयों और केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यमों (सीपीएसई) द्वारा जारी वैश्विक निविदाओं में भारतीय पोत परिवहन कंपनियों को सब्सिडी समर्थन उपलब्ध कराकर भारत में वाणिज्यिक जहाजों के संचालन को प्रोत्साहन देने की योजना को मंजूरी दी।

महत्वपूर्ण तथ्य: मंत्रालयों और सीपीएसई द्वारा सरकारी माल के आयात के लिए जारी वैश्विक निविदाओं में भारतीय पोत परिवहन कंपनियों को पांच साल तक 1,624 करोड़ की सब्सिडी प्रदान की जाएगी।

  • वित्त वर्ष 2021-22 के लिए पेश आम बजट के दौरान इस योजना की घोषणा की गई थी।
  • योजना के अनुसार, एक नए जहाज के लिए, जो भारत में ध्वजांकित करने की तिथि पर 10 वर्ष से कम पुराना है, सब्सिडी समर्थन एक विदेशी ध्वजांकित कंपनी द्वारा एक निविदा में सबसे कम उद्धृत बोली का 15% होगा। 10-20 साल पुराने जहाज के लिए यह सब्सिडी 10% होगी; योजना शुरू होने के बाद, यह दर हर साल 1% घटती जाएगी, जब तक कि यह क्रमशः 10% और 5% तक नहीं पहुंच जाती।
  • 20 वर्ष से अधिक पुराने जहाज योजना के तहत पात्र नहीं होंगे।
  • यदि सबसे कम बोली लगाने वाला भारतीय ध्वजवाहक जहाज हो तो इस योजना के प्रावधान उपलब्ध नहीं होंगे।
  • वर्तमान में, भारतीय बेड़े की क्षमता के लिहाज से वैश्विक बेड़े में महज 1.2% हिस्सेदारी है। निर्यात और आयात (एक्जिम) व्यापार ढुलाई में भारतीय जहाजों की हिस्सेदारी 1987-88 में 40.7% से घटकर 2018-19 में लगभग 7.8% हो गई है।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

पूर्वोत्तर आयुर्वेद और लोक चिकित्सा अनुसंधान संस्थान


केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने 14 जुलाई, 2021 को पूर्वोत्तर लोक चिकित्सा संस्थान (North Eastern Institute of Folk Medicine- NEIFM) के नामकरण और अधिदेश को 'पूर्वोत्तर आयुर्वेद और लोक चिकित्सा अनुसंधान संस्थान' (North Eastern Institute of Ayurveda & Folk Medicine Research- NEIAFMR) के रूप में बदलने को मंजूरी दी।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह संस्थान आयुर्वेद और लोक चिकित्सा (Folk Medicine) में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा और अनुसंधान प्रदान करेगा।

  • संस्थान न केवल भारत में बल्कि पड़ोसी देशों जैसे तिब्बत, भूटान, मंगोलिया, नेपाल, चीन और अन्य मध्य एशियाई देशों में आयुर्वेद और लोक चिकित्सा के छात्रों के लिए भी अवसर प्रदान करेगा।

पृष्ठभूमि: पूर्वोत्तर लोक चिकित्सा संस्थान (NEIFM) आयुष मंत्रालय, भारत सरकार के तहत एक स्वायत्त संस्थान है। संस्थान पासीघाट, अरुणाचल प्रदेश में स्थित है।

  • केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 11वीं योजना के लिए ‘आयुष पर योजना आयोग की संचालन समिति’ की सिफारिशों पर 21 फरवरी, 2008 को NEIFM की स्थापना को मंजूरी दी थी।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

दुनिया का पहला कार्बन सीमा कर


यूरोपीय आयोग 14 जुलाई, 2021 को अपने नए जलवायु लक्ष्य को पूरा करने के लिए एक कार्यक्रम के हिस्से के रूप में कार्बन-गहन स्टील, एल्यूमीनियम, सीमेंट, उर्वरक और बिजली के आयात पर 'दुनिया के पहले कार्बन सीमा कर' (world’s first carbon border tax) की योजना लेकर आयी है।

महत्वपूर्ण तथ्य: आयोग के अनुसार सीमा शुल्क को 2026 से चरणबद्ध किया जाना चाहिए। सीमा कर को यूरोपीय उद्योगों को विदेशों में उन प्रतियोगियों से बचाने के लिए डिजाइन किया गया है, जिनके निर्माता कार्बन उत्सर्जन के लिए शुल्क नहीं लिए जाने के कारण कम लागत पर उत्पादन कर सकते हैं।

  • प्रस्ताव के तहत, 2023-25 से एक बदलाव के चरण (transitional phase) में बिजली आयात करने वालों सहित आयातकों को अपने उत्सर्जन की निगरानी और रिपोर्ट करने की आवश्यकता होगी।
  • आयातकों को उनके द्वारा आयात किए जाने वाले सामानों में सन्निहित कार्बन डाइऑक्साइड उत्सर्जन के टन भार को वर्णित करने वाले डिजिटल प्रमाणपत्र खरीदने की आवश्यकता होगी।
  • प्रमाण पत्र की कीमत यूरोपीय संघ के कार्बन बाजार में प्रत्येक सप्ताह नीलाम किए जाने वाले परमिट की औसत कीमत पर आधारित होगी।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

सिंगापुर द्वारा दुनिया के सबसे विशाल तैरते सौर पैनल फार्म का अनावरण


सिंगापुर ने 14 जुलाई, 2021 को दुनिया के सबसे विशाल तैरते सौर पैनल फार्मों में से एक का अनावरण किया, जो इसके पांच जल उपचार संयंत्रों को बिजली देने के लिए पर्याप्त बिजली का उत्पादन कर सकता है।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह परियोजना सिंगापुर द्वारा जलवायु परिवर्तन से निपटने में मदद करने के लिए 2025 तक अपने सौर ऊर्जा उत्पादन को चौगुना करने के लक्ष्य को पूरा करने के प्रयासों का हिस्सा है।

  • पश्चिमी सिंगापुर में एक जलाशय पर स्थित, 60 मेगावाट-पीक सौर फोटोवोल्टिक फार्म का निर्माण सेम्बकॉर्प इंडस्ट्रीज (Sembcorp Industries) की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी द्वारा किया गया है।
  • 45 हेक्टेयर क्षेत्र में 1,22,000 सौर पैनलों से उत्पन्न बिजली सिंगापुर को दुनिया के उन कुछ देशों की कतार में शामिल कर देगी, जिनके पास सतत ऊर्जा द्वारा पूरी तरह से संचालित जल उपचार प्रणाली है।
  • यह सौर फार्म सालाना लगभग 32 किलोटन कार्बन उत्सर्जन को कम करने में मदद कर सकता है, जो सड़कों से 7,000 कारों को हटाने के बराबर है।
  • वर्तमान में, सिंगापुर में चार अन्य तैरती हुई सौर पैनल परियोजनाएं चल रही हैं।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप नियुक्ति

राष्ट्रपति बाइडेन ने किया दो प्रमुख भारतवंशी चिकित्सकों को प्रमुख भूमिकाओं के लिए नामित


अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने 13 जुलाई, 2021 को अपने प्रशासन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए एक प्रमुख भारतवंशी चिकित्सक और एक भारतवंशी सर्जन को नामित किया है।

  • वेस्ट वर्जीनिया के पूर्व स्वास्थ्य आयुक्त डॉ. राहुल गुप्ता को राष्ट्रीय औषधि नियंत्रण नीति कार्यालय के अगले निदेशक के रूप में नामित किया गया। डॉ. गुप्ता ने इबोला वायरस रोग के प्रकोप के दौरान राज्य की जीका कार्य योजना के विकास और इसकी तैयारियों के प्रयासों का भी नेतृत्व किया।
  • सर्जन और लोकप्रिय लेखक अतुल गावंडे को 'यू.एस. एजेंसी फॉर इंटरनेशनल डेवलपमेंट' (U.S. Agency for International Development) में 'वैश्विक स्वास्थ्य ब्यूरो के सहायक प्रशासक' के लिए नामित किया गया।
  • गावंडे ‘ब्रिघम एंड वीमेन हॉस्पिटल’ में सर्जरी के प्रोफेसर हैं। गावंडे ने ‘कॉम्प्लीकेशंस’, ‘बेटर’, ‘द चेकलिस्ट मेनिफेस्टो’ और ‘बीइंग मॉर्टल’ जैसी पुस्तकों का लेखन किया है, जो न्यूयॉर्क में काफी लोक्रपिय हुईं।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप विविध

ब्रायम भारतीएंसिस


पंजाब के केंद्रीय विश्वविद्यालय के भारतीय ध्रुवीय जीवविज्ञानियों ने अंटार्कटिका में लारसेमैन हिल्स (Larsemann Hills) में ‘काई’ (Moss) की एक देशी प्रजाति की खोज की है।

  • भारत और भारतीय अंटार्कटिक स्टेशन ‘भारती’ के नाम पर इस प्रजाति का नाम ‘ब्रायम भारतीएंसिस’ (Bryum bharatiensis) रखा गया है।
  • 1981 में शुरू हुए भारतीय अंटार्कटिक मिशन के चार दशकों में पहली बार किसी पादप प्रजाति की खोज की गई है।
  • तीसरे भारतीय अभियान (1983-84) के दौरान अंटार्कटिका में दक्षिण गंगोत्री नाम का पहला स्थायी भारतीय स्टेशन स्थापित किया गया था, लेकिन बर्फ की चादर में डूबे हुए स्टेशन को 1990 में त्याग दिया गया। मैत्री स्टेशन 1989 में जबकि भारती स्टेशन 2012 में चालू किया गया था। ये दोनों वर्तमान में चालू हैं।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

विश्व युवा कौशल दिवस


15 जुलाई

2021 का विषय/अभियान: 'महामारी के बाद युवा कौशल की पुनर्कल्पना' (Reimagining Youth Skills Post-Pandemic)।

महत्वपूर्ण तथ्य: रोजगार, सभ्य काम और उद्यमिता के लिए कौशल के साथ युवाओं को लैस करने के रणनीतिक महत्व के उपलक्ष्य में 2014 में, संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 15 जुलाई को 'विश्व युवा कौशल दिवस' के रूप में घोषित किया।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

कच्छ के रण में सौर पार्क


NTPC की 100 फीसदी सहायक कंपनी, एनटीपीसी रिन्यूएबल एनर्जी लिमिटेड (NTPC REL) को 12 जुलाई, 2021 को गुजरात के खवाड़ा में कच्छ के रण में 4,750 मेगावाट नवीकरणीय ऊर्जा पार्क स्थापित करने के लिए नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय से मंजूरी मिल गई है।

  • यह भारत का सबसे बड़ा सोलर पार्क होगा, जिसका निर्माण देश की सबसे बड़ी विद्युत उत्पादक कंपनी करेगी।
  • NTPC REL की इस पार्क से व्यावसायिक स्तर पर हरित हाइड्रोजन उत्पन्न करने की योजना है।
  • हाल ही में, NTPC ने आंध्र प्रदेश के सिम्हाद्री ताप विद्युत संयंत्र के जलाशय पर भारत का सबसे बड़ा 10 मेगावाट का तैरता हुआ सोलर (Floating Solar) भी चालू किया है। इसके अलावा, तेलंगाना स्थित रामागुंडम ताप विद्युत संयंत्र के जलाशय पर 100 मेगावाट की तैरती हुई सोलर परियोजना कार्यान्वयन के अग्रिम चरण में है।
  • NTPC के नवीकरणीय ऊर्जा व्यापार में तेजी लाने के लिए 7 अक्टूबर, 2020 को सहायक कंपनी NTPC REL को सम्मिलित किया गया था।

पीआईबी न्यूज पर्यावरण

देश की पहली हरित हाइड्रोजन परिवहन परियोजना


NTPC की 100 फीसदी सहायक कंपनी, ‘एनटीपीसी रिन्यूएबल एनर्जी लिमिटेड’ (NTPC REL) ने 13 जुलाई, 2021 को ‘देश की पहली हरित हाइड्रोजन परिवहन परियोजना’ (Country’s first Green Hydrogen Mobility Project) स्थापित करने के लिए केंद्र-शासित प्रदेश लद्दाख के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए।

महत्वपूर्ण तथ्य: लेह में सौर वृक्ष और सोलर कार पोर्ट के रूप में एनटीपीसी के पहले सौर प्रतिष्ठान का उद्घाटन भी किया गया।

  • समझौता ज्ञापन NTPC को अक्षय स्रोतों और हरित हाइड्रोजन के आधार पर लद्दाख को कार्बन मुक्त अर्थव्यवस्था विकसित करने में मदद करेगा। यह प्रधानमंत्री के 'कार्बन मुक्त' लद्दाख के दृष्टिकोण के अनुरूप भी है।
  • NTPC ने इस क्षेत्र में शुरुआत करने के लिए हाइड्रोजन से चलने वाली 5 बसें चलाने की योजना बनाई है। कंपनी लेह में एक सौर संयंत्र और एक हरित हाइड्रोजन उत्पादन इकाई भी स्थापित करेगी।
  • लेह जल्द ही ‘शून्य कार्बन उत्सर्जन’ के साथ हरित हाइड्रोजन आधारित परिवहन परियोजना को लागू करने वाला ‘भारत का पहला शहर’ बन जाएगा।
  • NTPC परिवहन, ऊर्जा, रसायन, उर्वरक, इस्पात आदि जैसे क्षेत्रों में हरित हाइड्रोजन आधारित समाधानों के उपयोग को बढ़ावा दे रही है।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

भूटान में भीम-यूपीआई का शुभारंभ


केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और भूटान के वित्त मंत्री ल्योंपो नामगे शेरिंग ने 13 जुलाई, 2021 को आभासी समारोह में संयुक्त रूप से भूटान में भीम-यूपीआई का शुभारंभ किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह शुरुआत 2019 में भारत के प्रधानमंत्री के भूटान के राजकीय दौरे के दौरान दोनों देशों द्वारा घोषित प्रतिबद्धता को पूरा करती है। उस यात्रा के बाद, भारत और भूटान ने पहले ही दो चरणों में एक-दूसरे के देशों में रुपे कार्ड की स्वीकृति में अंतर-संचालन को सक्षम कर दिया है।

  • भूटान अपने क्यूआर (QR) कोड के लिए भारत के एकीकृत भुगतान इंटरफेस – यूपीआई (UPI) मानकों को अपनाने वाला पहला देश बन गया। भीम ऐप के माध्यम से मोबाइल आधारित भुगतान को स्वीकार करने वाला हमारा पहला निकट पड़ोसी देश है।
  • भारत इंटरफेस फॉर मनी (BHIM) भारत का डिजिटल भुगतान एप्लिकेशन है, जो यूपीआई के माध्यम से काम करने वाली तत्काल रियल-टाइम भुगतान प्रणाली है। UPI कई बैंक खातों को एक ही मोबाइल एप्लिकेशन से जोड़ने में सक्षम बनाता है।
  • भारत की 'पड़ोस पहले नीति' के तहत भूटान में सेवाएं शुरू की गई हैं। इससे हर साल भूटान की यात्रा करने वाले बड़ी संख्या में भारतीय पर्यटकों और व्यापारियों को लाभ होगा।
  • पिछले पांच वर्षों में 10 करोड़ से अधिक UPI-QR बनाए गए हैं और वित्तीय वर्ष 2020-21 के दौरान भीम-यूपीआई ने 41 लाख करोड़ रुपये मूल्य के 22 अरब लेनदेन को पूरा करने में योगदान किया है।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

खतरनाक रसायनों के संपर्क में आने से मौतें


7 जुलाई, 2021 को जारी विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के नवीनतम अनुमानों के अनुसार, 2019 में दुनिया भर में खतरनाक रसायनों के संपर्क में आने से होने वाली मौतों में वर्ष 2016 के मुकाबले 29% की वृद्धि दर्ज की गई।

महत्वपूर्ण तथ्य: वैश्विक स्वास्थ्य निकाय के अनुसार, 2016 में 1.56 मिलियन की तुलना में 2019 में खतरनाक रसायनों के संपर्क में आने से 2 मिलियन लोगों की मृत्यु हुई।

  • खतरनाक रसायन हवा में, उपभोक्ता उत्पादों में, कार्यस्थल पर, पानी में या मिट्टी में मौजूद होते हैं। वे मानसिक, व्यावहारिक और तंत्रिका संबंधी विकार, मोतियाबिंद और अस्थमा सहित कई बीमारियों का कारण बन सकते हैं।
  • 2020 में, यूनिसेफ ने भी अपनी रिपोर्ट 'द टॉक्सिक ट्रुथ' (The Toxic Truth) में बच्चों के स्वास्थ्य पर सीसा प्रदूषण (lead pollution) के प्रभाव पर चिंता जताई थी। 3 में से कम से कम 1 बच्चे (विश्व स्तर पर लगभग 800 मिलियन तक) के रक्त में सीसे का स्तर 5 माइक्रोग्राम प्रति डेसीलीटर से अधिक पाया गया।
  • सीसे के संपर्क में आने से 0.9 मिलियन से अधिक लोगों की मौत हुई।
  • रंग को बढ़ाने, जंग को कम करने और सुखाने के समय को कम करने सहित विभिन्न कारणों से पेंट में लेड (सीसा) मिलाया जाता है।
  • दुनिया सीसा के इस्तेमाल को नियंत्रित करने में पिछड़ रही है। WHO के अनुसार, भारत सहित सिर्फ 41% देशों के पास सीसा पेंट के उत्पादन, आयात, बिक्री और उपयोग पर कानूनी रूप से बाध्यकारी नियंत्रण है।

सामयिक खबरें पर्यावरण

भारत के 35% बाघ क्षेत्र संरक्षित क्षेत्र से बाहर


वर्ल्ड वाइड फंड फॉर नेचर (WWF) और संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (UNEP) द्वारा 8 जुलाई, 2021 को जारी रिपोर्ट 'ए फ्यूचर फॉर ऑल - ए नीड फॉर ह्यूमन - वाइल्डलाइफ को-एग्जीस्टेंस' (A Future for All – A need for Human-Wildlife Coexistence) के अनुसार वर्तमान में भारत के 35% बाघ क्षेत्र (tiger ranges) संरक्षित क्षेत्रों से बाहर हैं।

महत्वपूर्ण तथ्य: रिपोर्ट में बढ़ते मानव-वन्यजीव संघर्ष पर अध्ययन किया गया। समुद्री और स्थलीय संरक्षित क्षेत्र वैश्विक स्तर पर केवल 9.67% को कवर करते हैं।

  • इनमें से अधिकांश संरक्षित क्षेत्र एक-दूसरे से अलग हो गए हैं, कई प्रजातियां अपने अस्तित्व के लिए मानव-प्रभुत्व वाले स्थानों (human-dominated spaces) और साझा परिदृश्यों (shared landscapes) पर निर्भर हैं।
  • संरक्षित क्षेत्र प्रमुख प्रजातियों जैसे बड़े शिकार करने वाले जानवरों और शाकाहारी जीवों के अस्तित्व के लिए तेजी से महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।
  • भारत के बाघों के अलावा, 40% अफ्रीकी शेर क्षेत्र और 70% अफ्रीकी और एशियाई हाथी क्षेत्र संरक्षित क्षेत्रों से बाहर हैं।
  • भारत में, पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार 2014-15 और 2018-19 के बीच मानव-हाथी संघर्ष में 500 से अधिक हाथियों की मौत हुई। इसी अवधि में 2,361 लोग हाथियों के हमले में मारे गये।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप अभियान/सम्मेलन/आयोजन

ब्रिक्स पर्यटन मंत्रियों की बैठक


पर्यटन मंत्री जी. किशन रेड्डी ने भारत की ब्रिक्स अध्यक्षता के हिस्से के रूप में 13 जुलाई, 2021 को 'ब्रिक्स पर्यटन मंत्रियों की बैठक' की अध्यक्षता की। बैठक में 'अंतर ब्रिक्स पर्यटन सहयोग' (intra BRICS Tourism cooperation) की समीक्षा की गई।

उद्देश्य: ब्रिक्स देशों के बीच पर्यटन सहयोग को बढ़ावा देने के प्रभावी तरीके विकसित करना।

  • बैठक में जिम्मेदार और दीर्घकालिक पर्यटन को बढ़ावा देने, पर्यटन बुनियादी ढांचे में निवेश, पर्यटन उद्यमों के बीच घनिष्ठ संपर्क और मानव संसाधन विकास के क्षेत्रों में पर्यटन में सहयोग को मजबूत करने के महत्व पर प्रकाश डाला गया।

हरित पर्यटन के लिए ब्रिक्स गठबंधन: भविष्य के लिए पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए, यह माना गया कि 'हरित पर्यटन के लिए ब्रिक्स गठबंधन' (BRICS alliance for Green Tourism) स्थायी रूप से पर्यटन उद्योग में तेजी ला सकता है।

  • इस गठबंधन के कुछ प्रमुख घटक पर्यटन क्षेत्र की नीतियों, संरक्षण प्रयासों, सतत विकास लक्ष्यों में स्थिरता को मुख्यधारा में लाना; ऊर्जा के नवीकरणीय स्रोत की ओर बदलाव; और हरित पर्यटन के लिए संरक्षण के प्रयास हैं, जो प्रकृति आधारित समाधानों में निवेश को प्रोत्साहित करेंगे और नाजुक पारिस्थितिकी प्रणालियों का समर्थन करेंगे।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप युद्धाभ्यास/सैन्य अभियान

ऑपरेशन संकल्प


14 जुलाई, 2021 को एक आधिकारिक बयान के अनुसार भारतीय नौसेना के 'ऑपरेशन संकल्प' (Operation Sankalp) ने खाड़ी क्षेत्र में प्रतिदिन औसतन 16 भारतीय ध्वज धारक व्यापारिक जहाजों (Indian-flagged merchant vessels) को सुरक्षित आवाजाही प्रदान की है।

  • ईरान और अमेरिका के बीच बढ़ते तनाव के बीच ओमान की खाड़ी में दो तेल टैंकर जहाजों में विस्फोट होने के बाद जून 2019 में 'ऑपरेशन संकल्प' शुरू किया गया था।
  • तब से, एक भारतीय नौसेना के जहाज को एक हेलीकॉप्टर के साथ जून 2019 से उत्तर-पश्चिम अरब सागर, ओमान की खाड़ी और फारस की खाड़ी में लगातार तैनात किया गया है।
  • भारत अपनी तेल की मांग के लगभग 85% के लिए आयात पर निर्भर है। 2019-2020 में, लगभग 66 बिलियन डॉलर मूल्य के भारत के तेल आयात का लगभग 62% खाड़ी क्षेत्र से होकर आया था।
  • उसी वर्ष, खाड़ी क्षेत्र से भारत का निर्यात और आयात क्रमश: लगभग 51 अरब डॉलर और 108.2 अरब डॉलर रहा। ये भारत के कुल निर्यात और आयात का क्रमशः 8.1% और 11.4% है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप विविध

उपराष्ट्रपति को भेंट की गईं उर्दू और तेलुगु में विभिन्न पुस्तकें


उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू को 13 जुलाई, 2021 को उर्दू और तेलुगु में विभिन्न पुस्तकें भेंट की गईं।

ऊर्दू पोएट्स एंड राइटर्स - जेम्स ऑफ डेक्कन: वरिष्ठ पत्रकार जे. एस. इफ्तिखार की लिखित यह पुस्तक

गद्य और कविता का एक संकलन है, जो दक्कन क्षेत्र के 51 उत्कृष्ट कवियों और लेखकों के जीवन व उनके कार्यों को समेटे हुए है।

  • पुस्तक हैदराबाद के संस्थापक ‘मुहम्मद कुली कुतुब शाह’ के समय से लेकर मौजूदा समय तक दक्कन की समृद्ध साहित्यिक और सांस्कृतिक परंपराओं का पता लगाती है।

मानवोत्तम राम: सत्यकाशी भार्गव की लिखित इस पुस्तक में भगवान राम के गुणों को एक आदर्श मानव के रूप में चित्रित करने का प्रयास किया गया है।

  • इसके अलावा उन्होंने तेलंगाना राज्य भाषा और संस्कृति विभाग के निदेशक ममीदी हरिकृष्णा से पूर्व प्रधानमंत्री पी.वी. नरसिम्हा राव पर लिखित पुस्तक व मल्लिकार्जुन द्वारा लिखित पुस्तक ‘नल्लागोंडा कथालू’ भी प्राप्त की।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

अंतरराष्ट्रीय व्यापार वित्त सेवा प्लेटफॉर्म


12 जुलाई, 2021 को अंतरराष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्रों (IFSCs) में व्यापार वित्त सेवाएं प्रदान करने के लिए ‘अंतरराष्ट्रीय व्यापार वित्त सेवा प्लेटफॉर्म’ (International Trade Finance Services platform - ITFS) की स्थापना और संचालन के लिए रूपरेखा जारी की गई है।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह रूपरेखा निर्यातकों और आयातकों को - ITFS जैसे एक समर्पित इलेक्ट्रॉनिक प्लेटफॉर्म के जरिए अपने अंतरराष्ट्रीय व्यापार के क्रम में लेनदेन के लिए प्रतिस्पर्धी शर्तों पर विभिन्न प्रकार की व्यापार संबंधी वित्तीय सुविधाओं का लाभ उठाने में सक्षम बनाएगी।

  • इससे उनकी व्यापारिक प्राप्य राशियों (trade receivables) को लिक्विड फंड (liquid funds) में बदलने और अल्पकालिक वित्त पोषण (फंडिंग) हासिल करने की उनकी क्षमता में मदद मिलेगी।
  • अंतरराष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्रों (IFSCs) में वित्तीय उत्पादों, वित्तीय सेवाओं और वित्तीय संस्थानों को विकसित और विनियमित करने के लिए IFSCA अधिनियम, 2019 के तहत अंतरराष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र प्राधिकरण (IFSCA) की स्थापना की गई है।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

नारकोटिक्स और नशीले पदार्थों के अनुसंधान और विश्लेषण हेतु उत्कृष्टता केंद्र


केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने 12 जुलाई, 2021 को अहमदाबाद में राष्ट्रीय फोरेंसिक विज्ञान विश्वविद्यालय के 'नारकोटिक्स और नशीले पदार्थों के अनुसंधान और विश्लेषण हेतु उत्कृष्टता केंद्र' (Center of Excellence for Research & Analysis of Narcotics and Psychotropic Substances) का उद्घाटन किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार के दूसरे कार्यकाल में दुनियाभर में राष्ट्रीय फोरेंसिक विज्ञान विश्वविद्यालय की उत्कृष्टता और प्रतिष्ठा को देखते हुए इस केंद्र को स्थापित करने का निर्णय लिया गया ।

  • देश के 7 राज्यों ने अपने यहाँ राष्ट्रीय फोरेंसिक विज्ञान विश्वविद्यालय, गुजरात के कॉलेज और उत्कृष्टता केंद्र खोलने की इच्छा जताई है।
  • इस केंद्र में स्थापित ‘साइबर रक्षा केंद्र’ और ‘बैलिस्टिक अनुसंधान केंद्र’ पूरे एशिया में अनूठे हैं और देश इस क्षेत्र में आत्मनिर्भर होने की ओर अग्रसर है।

पीआईबी न्यूज अंतरराष्ट्रीय

लोअर अरुण जल विद्युत परियोजना


केंद्रीय विद्युत मंत्रालय के अंतर्गत केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यम ‘सतलुज जल विद्युत निगम’ (एसजेवीएन) और नेपाल के निवेश बोर्ड (आईबीएन) के बीच 11 जुलाई, 2021 को नेपाल में 679 मेगावाट की ‘लोअर अरुण जल विद्युत परियोजना’ (Lower Arun Hydro Electric Project) को पूरा करने के लिये काठमांडू में एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किये गए।

महत्वपूर्ण तथ्य: लोअर अरुण जल विद्युत परियोजना, ‘अरुण-3 जल विद्युत परियोजना’ का डाउनस्ट्रीम विस्तार है।

  • लोअर अरुण जल विद्युत परियोजना नेपाल के संखुवासभा और भोजपुर जिलों में स्थित है।
  • इस परियोजना में कोई जलाशय या बांध नहीं होगा और यह 900 मेगावाट की अरुण-3 जल विद्युत परियोजना’ की पनचक्की की जल धारा (tail race) पर विकसित होगी।
  • चार फ्रांसिस टाइप टर्बाइन (francis type turbines) वाली इस परियोजना के पूरा होने पर प्रति वर्ष 2970 मिलियन यूनिट बिजली का उत्पादन होगा। इसे निर्माण शुरू होने के बाद चार साल में पूरा किया जाना है।
  • यह नेपाल में एसजेवीएन को मिलने वाली दूसरी परियोजना है, पहली परियोजना संखुवासभा जिले में अरुण-3 जल विद्युत परियोजना है।

अरुण-3 जल विद्युत परियोजना: यह परियोजना नेपाल में निगमित एसजेवीएन की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी यानी ‘एसजेवीएन अरुण-3 पावर डेवलपमेंट कंपनी लिमिटेड’ (SAPDC) के द्वारा चलाई जा रही है।

  • अरुण-3 परियोजना की आधारशिला 11 मई, 2018 को रखी गई थी। लगभग 7000 करोड़ रुपये की यह परियोजना नेपाल में सबसे बड़ी परियोजना है और नेपाल में भारत द्वारा सबसे बड़ा निवेश भी है।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

भारत और नेपाल के बीच रेल के जरिए माल ढुलाई आवाजाही


भारत और नेपाल 9 जुलाई, 2021 को सभी प्रकार के वैगनों में माल ढुलाई की अनुमति देने के लिए सहमत हो गए हैं।

महत्वपूर्ण तथ्य: भारतीय रेल नेटवर्क पर भारत के भीतर माल ढोने वाले सभी प्रकार के वैगनों में अब माल नेपाल से लाए और वहां पहुंचाये भी जा सकते हैं।

  • यह उदारीकरण नेपाल में रेल माल ढुलाई खंड में बाजार की ताकतों को आने की अनुमति देगा और इससे दक्षता और लागत-प्रतिस्पर्धा में वृद्धि होने की संभावना है, अंततः नेपाली उपभोक्ता को लाभ होगा।
  • इन माल ढुलाई ट्रेन ऑपरेटरों में सार्वजनिक और निजी कंटेनर ट्रेन ऑपरेटर, ऑटोमोबाइल फ्रेट ट्रेन ऑपरेटर, विशेष माल ट्रेन ऑपरेटर या भारतीय रेलवे द्वारा अधिकृत अन्य ऑपरेटर शामिल हैं।
  • इस कदम से ऑटोमोबाइल और कुछ अन्य उत्पादों, जिनकी ढुलाई विशेष वैगनों में होती है, की ढुलाई लागत में कमी आएगी।
  • भारत और नेपाल ने 28 जून, 2021 को ‘भारत-नेपाल रेल सेवा समझौते 2004’ के लिए एक विनिमय पत्र (Letter of Exchange - LoE) पर हस्ताक्षर किए थे।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप निधन

महान अभिनेता दिलीप कुमार का निधन


हिन्दी फिल्मों के महान अभिनेता दिलीप कुमार का 7 जुलाई, 2021 को मुम्बई के एक अस्पताल में निधन हो गया। वे 98 वर्ष के थे।

  • दिलीप कुमार का जन्म 11 दिसम्बर, 1922 को पाकिस्तान के पेशावर शहर में हुआ था। उनके बचपन का नाम ‘मोहम्मद युसूफ खान’ था।
  • दिलीप कुमार ने अपने करियर की शुरुआत 1944 में फिल्म ‘ज्वार भाटा’ से की थी, लेकिन उनकी पहली हिट फिल्म 1947 में रिलीज हुई ‘जुगनू’ थी।
  • उन्होंने ‘मेला’, ‘शहीद’, ‘अंदाज’, ‘आन’, ‘देवदास’, ‘नया दौर’, ‘मधुमति’, ‘यहूदी’, ‘पैगाम’, ‘मुगल-ए-आजम’, ‘गंगा-जमुना’, ‘लीडर’ तथा ‘राम और श्याम’ जैसी फिल्मों में भी काम किया था।
  • 1998 में बनी फिल्म ‘किला’ उनकी आखिरी फिल्म थी।
  • दुखद कथानक वाली फिल्मों में उनकी दिल दहला देने वाली, लेकिन पुरस्कार विजेता भूमिकाओं के कारण उन्हें 'ट्रेजेडी किंग' (Tragedy King) के नाम से जाना जाता है।
  • उन्हें आठ बार फिल्म फेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार मिला है, जोकि एक कीर्तिमान है।
  • भारतीय सिनेमा में उनके उत्कृष्ट योगदान के लिए उन्हें 2015 में पद्म विभूषण, 1991 में पद्म भूषण पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।
  • कुमार को 1994 में दादा साहब फाल्के पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया था। पाकिस्तान सरकार ने कुमार को 1998 में पाकिस्तान के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार 'निशान-ए-इम्तियाज' से सम्मानित किया था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित व्यक्ति

प्रोफेसर मनीषा एस. इनामदार


भारतीय स्टेम सेल एवं विकासात्मक जीवविज्ञानी प्रोफेसर मनीषा एस. इनामदार मानव ‘जीनोम संपादन’ के प्रशासन और निगरानी के लिए वैश्विक मानक विकसित करने से संबंधित ‘विश्व स्वास्थ्य संगठन की विशेषज्ञ सलाहकार समिति’ का हिस्सा रही हैं।

  • इस विशेषज्ञ सलाहकार समिति ने सुरक्षा, प्रभावशीलता और नैतिकता पर जोर देते हुए मानव जीनोम संपादन का उपयोग सार्वजनिक स्वास्थ्य के क्षेत्र में सुनिश्चित करने में मदद देने के उद्देश्य से पहली वैश्विक सिफारिशें प्रदान करने वाली दो नई सहयोगी रिपोर्टें जारी की।
  • 12 जुलाई, 2021 को जारी की गई इन रिपोर्टों में संस्थागत, राष्ट्रीय, क्षेत्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तरों पर मानव जीनोम संपादन प्रौद्योगिकी के अनुसंधान और संभावित अनुप्रयोग से जुड़े निगरानी तंत्र के लिए एक अग्रगामी सोच वाले प्रशासन से संबंधित रूपरेखा शामिल है।
  • प्रोफेसर मनीषा एस. इनामदार अपने समूह के साथ बेंगलुरू स्थित विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग के एक स्वायत्त संस्थान जवाहरलाल नेहरू सेंटर फॉर एडवांस साइंटिफिक रिसर्च, जोकि कृत्रिम परिवेश में स्टेम सेल में हेरफेर करने के लिए जीन-संपादन उपकरण का उपयोग करता है, में अनुसंधान कर रही हैं।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप विविध

एडेलगिव हुरून सदी के परोपकारियों की सूची


23 जून‚ 2021 को हुरून रिसर्च (Hurun Research) और ‘एडेलगिव फाउंडेशन’ (EdelGive Foundation) ने सदी के परोपकारियों की सूची (Philanthropists of the Century) जारी की। यह रैंकिंग पहली बार जारी हुई है।

  • यह पिछली सदी के विश्व के 50 सबसे उदार व्यक्तियों की रैंकिंग है।
  • 102.4 बिलियन डॉलर के दान के साथ, भारत के अग्रणी उद्योगपति और टाटा समूह के संस्थापक जमशेदजी नसरवानजी टाटा पिछली सदी के दुनिया के सबसे बड़े परोपकारी व्यक्ति हैं।
  • बिल और मेलिंडा गेट्स, 74.6 बिलियन डॉलर के दान के साथ सदी की परोपकारी लोगों की सूची में दूसरे स्थान पर हैं।
  • हेनरी वेलकम (56.7 बिलियन डॉलर) तीसरे‚ होवार्ड हगीज (38.6 बिलियन डॉलर) चौथे तथा वारेन बफेट (37. 4 बिलियन डॉलर) पांचवें स्थान पर हैं।
  • विप्रो के संस्थापक-अध्यक्ष अजीम प्रेमजी, जिन्होंने नेक कार्यों के लिए लगभग 22 बिलियन डॉलर दान किए, 12वें स्थान पर रहे। वे 50 वैश्विक परोपकारी लोगों की सूची में एकमात्र अन्य भारतीय हैं।
  • इन परोपकारियों को उनके कुल परोपकारी मूल्य के आधार पर रैंक किया गया है‚ जिसकी गणना आज की संपत्त्ति के मूल्य के साथ-साथ उपहार या वितरण के योग के रूप में की जाती है।
  • पिछली शताब्दी में दुनिया के सबसे परोपकारी व्यक्तियों का कुल दान 832 बिलियन डॉलर था, जिसमें से 503 बिलियन डॉलर फाउंडेशन के दान से और 329 बिलियन डॉलर दान से थे।
  • 38 अरबपति परोपकारियों के साथ अमेरिका सूची में शीर्ष पर है, इसके बाद ब्रिटेन से पांच, चीन से तीन, भारत से दो और पुर्तगाल और स्विट्जरलैंड से एक-एक परोपकारी हैं।
  • वॉरेन बफेट, जिन्हें 'द ऑरेकल ऑफ ओमाहा' (The Oracle of Omaha) के नाम से जाना जाता है, महत्वपूर्ण परोपकारी फाउंडेशन के बिना शीर्ष 10 में शामिल होने वाले एक एकमात्र व्यक्ति हैं।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

मलाला दिवस


12 जुलाई

महत्वपूर्ण तथ्य: पाकिस्तानी एक्टिविस्ट मलाला युसुफजई के जन्म दिवस 12 जुलाई को संयुक्त राष्ट्र ने इस युवा कार्यकर्ता के सम्मान में ‘मलाला दिवस’ के रूप में घोषित किया है।

  • मलाला को 2012 में महिलाओं की शिक्षा की मांग करने के कारण तालिबान के आतंकवादियों की गोली का शिकार होना पड़ा था।
  • वे दिसंबर 2014 में सबसे कम उम्र की नोबेल पुरस्कार विजेता (17 वर्ष की आयु में नोबेल शांति पुरस्कार विजेता) बनी थी।

संक्षिप्त खबरें संस्थान-संगठन

राष्ट्रीय अभिलेखागार


12 जुलाई, 2021 को संस्कृति मंत्री जी. किशन रेड्डी ने कहा कि स्वतंत्रता सेनानियों से संबंधित राष्ट्रीय अभिलेखागार के रिकॉर्ड को अगले साल स्वतंत्रता के 75 वर्ष के उपलक्ष्य में एक वर्ष के भीतर डिजिटल किया जाएगा।

  • राष्ट्रीय अभिलेखागार भारत सरकार के गैर-वर्तमान अभिलेखों का संरक्षक है। इसे 11 मार्च, 1891को कलकत्ता (कोलकाता)में इंपीरियल रिकॉर्ड विभाग के रूप में स्थापित किया गया था। यह दक्षिण एशिया का सबसे बड़ा अभिलेखीय भंडार है।
  • वर्ष 1911 में राष्ट्रीय राजधानी कलकत्ता (कोलकाता) के नई दिल्ली स्थानांतरित हो जाने के बाद वर्ष 1926में इंपीरियल रिकॉर्ड विभाग मौजूदा भवन में स्थानांतरित हो गया था।
  • वर्तमान में यह संस्कृति मंत्रालय का एक अधिनस्थ कार्यालय है तथा इसका एक क्षेत्रीय कार्यालय, भोपाल में व तीन अभिलेख केन्द्र भुनवेश्वर, जयपुर एवं पुडुचेरी में है।
  • अभिलेखागार में 800 मिलियन पृष्ठों के साथ ही 5.7 मिलियन फाइलों और 1.2 लाख मानचित्रों का रिकॉर्ड है।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

खादी ट्रेडमार्क पंजीकरण


खादी और ग्रामोद्योग आयोग (KVIC) ने विगत एक साल के दौरान तीन देशों- भूटान, संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) और मैक्सिको में अपने ट्रेडमार्क का पंजीकरण कराया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: अब तक KVIC को छ: देशों- जर्मनी, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया, रूस, चीन और यूरोपीय संघ में "खादी" शब्द का ट्रेडमार्क पंजीकरण हासिल था, जहां कुछ वर्गों में ट्रेडमार्क पंजीकरण दिए गए थे।

  • भूटान, संयुक्त अरब अमीरात और मैक्सिको में हाल ही में ट्रेडमार्क पंजीकरण के साथ, ऐसे देशों की संख्या 9 हो गई है।
  • इन देशों में, KVIC ने खादी कपड़े, खादी रेडीमेड कपड़ों और ग्रामोद्योग उत्पादों जैसे- खादी साबुन, खादी सौंदर्य प्रसाधन, खादी अगरबत्ती से संबंधित विभिन्न वर्गों में पंजीकरण हासिल किया है।
  • इन देशों के अलावा, KVIC के ट्रेडमार्क आवेदन दुनिया भर के 40 देशों में लंबित हैं, जिनमें अमेरिका, कतर, श्रीलंका, जापान, इटली, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, सिंगापुर, ब्राजील और अन्य शामिल हैं।
  • मैक्सिको में, KVIC ने ‘वन फाउंडेशन ओक्साका एसी’ (One Foundation Oaxaca Ac) के ट्रेडमार्क आवेदन को चुनौती दी, जिसने "खादी" लोगो के लिए आवेदन किया था।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

इन्क्लूसिव सिटीज सेंटर


‘नेशनल इंस्टीटयूट ऑफ अर्बन अफेयर्स’ (National Institute of Urban Affairs- NIUA) ने 10 जुलाई, 2021 को ‘इन्क्लूसिव सिटीज सेंटर’ (Inclusive Cities Center- ICC) के शुभारंभ के उपलक्ष्य में एक वेबिनार का आयोजन किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: NIUA में स्थापित इन्क्लूसिव सिटीज सेंटर का उद्देश्य समावेशिता को बढ़ावा देने के इरादे से शहर के प्राधिकारियों की संस्थागत मजबूती के लिए उपयुक्त उपकरण और ढांचा विकसित करना है।

  • ICC सभी के जीवन की गुणवत्ता और उत्पादकता में सुधार के लिए शहरों को साक्ष्य-आधारित योजना निर्माण और निवेश के क्षेत्र में सुविधा प्रदान करेगा।
  • यह शहरी गरीबों, दिव्यांगजनों, महिलाओं, बच्चों, युवाओं और बुजुर्गों सहित शहर के निवासियों के सबसे कमजोर लोगों पर ध्यान केन्द्रित करेगा।
  • ICC शहरों में स्थानिक, सामाजिक, आर्थिक और डिजिटल समावेशन से संबंधित चुनौतियों का समाधान करने के लिए विभिन्न गतिविधियों को लागू करेगा।

NIUA: 1976 में स्थापित, NIUA स्मार्ट सिटी मिशन, स्वच्छ भारत मिशन, हेरिटेज सिटी डेवलपमेंट एंड ऑग्मेंटेशन योजना- हृदय (Heritage City Development and Augmentation Yojana- HRIDAY), अटल मिशन फॉर रिजूविनेशन एंड अर्बन ट्रांसफॉर्मेशन- अमृत (Atal Mission for Rejuvenation and Urban Transformation- AMRUT) आदि जैसी शहरी विकास परियोजनाओं के सफल कार्यान्वयन के लिए नीति निर्माण, अनुसंधान और क्षमता निर्माण में भारत सरकार को सहयोग दे रहा है।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

इन्सेफेलाइटिस प्रभावित पांच राज्यों में नल के पानी की आपूर्ति


जल जीवन मिशन ने इन्सेफेलाइटिस से प्रभावित प्राथमिकता वाले 61 जिलों में सिर्फ 22 महीनों में 97 लाख से ज्यादा परिवारों को नल के पानी की आपूर्ति की है।

महत्वपूर्ण तथ्य: जल जीवन मिशन ने असम, बिहार, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल के प्रभावित जिलों में आर्थिक रूप से गरीब परिवारों को स्वच्छ नल के पानी की आपूर्ति प्रदान करके इस बीमारी के प्रसार को कम करने के लिए निवारक उपायों को काफी मजबूत किया है।

  • पांच राज्यों में, बिहार ने अपने 15 बीमारी प्रभावित प्राथमिकता वाले जिलों में ग्रामीण परिवारों को नल के पानी की आपूर्ति प्रदान करने में अच्छा प्रदर्शन किया है।
  • 15 अगस्त, 2019 को, जल जीवन मिशन की घोषणा के समय, पांच राज्यों के इन 61 जापानी इन्सेफेलाइटिस - एक्यूट इन्सेफेलाइटिस सिंड्रोम (Japanese Encephalitis – Acute Encephalitis Syndrome- JE-AES) प्रभावित जिलों में केवल 8.02 लाख (2.67%) घरों में नल के पानी की आपूर्ति थी।
  • अब बीमारी से प्रभावित इन जिलों में 1.05 करोड़ (35%) परिवारों को नल के पानी की आपूर्ति मिल रही है।
  • जल जीवन मिशन ने इन्सेफेलाइटिस निवारक उपायों को काफी मजबूत करते हुए 2021-22 के लिए JE-AES घटक के रूप में पांच राज्यों को 463.81 करोड़ रुपए आवंटित किए हैं।

जापानी इन्सेफेलाइटिस- एक्यूट इन्सेफेलाइटिस सिंड्रोम: यह एक गंभीर स्वास्थ्य खतरा है। यह रोग ज्यादातर बच्चों और युवा वयस्कों को प्रभावित करता है, जिससे रुग्णता और मौत हो सकती है। ये संक्रमण विशेष रूप से गरीब आर्थिक पृष्ठभूमि के कुपोषित बच्चों को प्रभावित करते हैं।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

चीन मलेरिया मुक्त घोषित


विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) द्वारा 29 जून, 2021 को चीन को मलेरिया मुक्त घोषित कर दिया गया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: वर्ष 1900 से अब तक 127 देशों ने मलेरिया उन्मूलन का लक्ष्य हासिल किया है। इससे पहले 25 फरवरी, 2021को अल सल्वाडोर को मलेरिया मुक्त घोषित किया गया था।

चीन ने मलेरिया का उन्मूलन कैसे किया? चीन ने कुछ विशिष्ट रणनीतियों का पालन किया, जैसे '1-3-7' प्रणाली के बाद मजबूत निगरानी- 1 दिन के भीतर मलेरिया रोग की पहचान, 3 दिन में मामले की जांच और 7 दिन का सार्वजनिक स्वास्थ्य उपचार।

  • स्वदेशी और बाहर से आए मामलों के बीच अंतर करने के लिए दवा प्रतिरोध और जीनोम आधारित दृष्टिकोण के लिए आणविक मलेरिया निगरानी (Molecular Malaria Surveillance) आयोजित की गई।
  • देश में अवांछित मलेरिया के प्रवेश को रोकने के लिए पड़ोसी देशों की सभी सीमाओं की पूरी तरह से जांच की गई।

वैश्विक मलेरिया रिपोर्ट 2020: WHO द्वारा वैश्विक मलेरिया रिपोर्ट 2020 के अनुसार, 2019 में 87 मलेरिया-स्थानिक देशों में मलेरिया के अनुमानित 229 मिलियन मामले और 409,000 मौतें दर्ज की गई, जिसमें मलेरिया से होने वाली 90% से अधिक मौतें अफ्रीका में दर्ज की गई।

  • 2019 में कुल वैश्विक मलेरिया मामलों के 2% मामले भारत में दर्ज किये गए।

सामयिक खबरें पर्यावरण

फ्लोरा ऑफ सिक्किम


भारतीय वनस्पति सर्वेक्षण (बीएसआई) द्वारा 7 जुलाई, 2021 को जारी 'फ्लोरा ऑफ सिक्किम - ए पिक्टोरियल गाइड' (Flora of Sikkim – A Pictorial Guide) के अनुसार देश में सभी पुष्पीय पौधों का 27% भारत के 1% से कम भू-भाग वाले राज्य सिक्किम में पाए जाते हैं।

महत्वपूर्ण तथ्य: 4,912 प्रजातियों के साथ, सिक्किम में 7,096 वर्ग किमी. के क्षेत्र में फैले पुष्पीय पौधों की विविधता बहुत ही अनोखी है।

  • देश में प्राकृतिक रूप से पाए जाने वाले पुष्पीय पौधों की कुल लगभग 18,004 प्रजातियां हैं।
  • सिक्किम, जो कंचनजंगा बायोस्फीयर परिदृश्य का एक हिस्सा है, में विभिन्न ऊंचाई वाले पारिस्थितिक तंत्र हैं, जो जड़ी-बूटियों और पेड़ों को बढ़ने और पनपने का अवसर प्रदान करते हैं।
  • इस प्रकाशन में जंगली ऑर्किड (wild orchids) की 532 प्रजातियों (जो भारत में पाई जाने वाली सभी आर्किड प्रजातियों का 40% से अधिक है), बुरांस या रोडोडेंड्रोन की 36 प्रजातियो, बांज या ओक की 20 प्रजातियों और उच्च मूल्य वाले औषधीय पौधों की 30 से अधिक प्रजातियों का विवरण है।

अन्य तथ्य: सिक्किम फॉरेस्ट ट्री (एमिटी एंड रेवरेंस) नियम, 2017 [Sikkim Forest Tree (Amity & Reverence) Rules, 2017] के अनुसार, "राज्य सरकार किसी भी व्यक्ति को उसकी निजी भूमि या किसी सार्वजनिक भूमि पर खड़े पेड़ों के साथ स्थानीय रूप से ‘मिथ / मित या मितिनी’ (Mith/Mit or Mitini) के रूप में प्रसिद्ध प्रथा के माध्यम से भाईचारा संबंध स्थापित करने की अनुमति देगी, जिससे लोगों को एक पेड़ को अपनाने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा"।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप कला/संस्कृति

काशी अन्नपूर्णा मंदिर


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने काशी अन्नपूर्णा मंदिर के महंत रामेश्वर पुरी के निधन पर गहरा दुख व्यक्त किया है। महंत रामेश्वर पुरी का 10 जुलाई, 2021 को निधन हो गया। वे 67 वर्ष के थे।

  • अन्नपूर्णा देवी मंदिर पवित्र शहर वाराणसी में सबसे प्रसिद्ध हिंदू मंदिरों में से एक है।
  • यह मंदिर पोषण (अन्न) के लिए हिंदू देवी अन्नपूर्णा को समर्पित है और देवी पार्वती का एक रूप है।
  • वर्तमान अन्नपूर्णा मंदिर का निर्माण 18वीं शताब्दी में मराठा पेशवा बाजीराव प्रथम द्वारा किया गया था।
  • मंदिर का निर्माण नागर वास्तुकला में किया गया है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

विश्व जनसंख्या दिवस


11 जुलाई

2021 का विषय/अभियान: 'अधिकार और विकल्प उत्तर हैं: चाहे बच्चों की जन्म दर में वृद्धि हो या गिरावट, प्रजनन दर में बदलाव का समाधान सभी लोगों के प्रजनन स्वास्थ्य और अधिकारों को प्राथमिकता देना है' (Rights and choices are the answer: Whether baby boom or bust, the solution to shifting fertility rates lies in prioritizing the reproductive health and rights of all people)।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह दिवस जनसंख्या मुद्दों की तात्कालिकता और महत्व पर ध्यान केंद्रित करने के उदेश्य से मनाया जाता है। 1989 में संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम की तत्कालीन गवर्निंग काउंसिल द्वारा इस दिवस की स्थापना की गई थी।

राज्य समाचार उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश जनसंख्या नीति 2021-2030


उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 11 जुलाई, 2021 को 'उत्तर प्रदेश जनसंख्या नीति 2021-2030' जारी की।

नई नीति का लक्ष्य: 2026 तक सकल प्रजनन दर को 2.7 से घटाकर 2.1 और 2030 तक 1.9 करना;

  • आधुनिक गर्भनिरोधक प्रसार दर को 31.7% से बढ़ाकर 2026 तक 45% और 2030 तक 52% करना;
  • पुरुष गर्भनिरोधक उपयोग के तरीकों को 10.8% से बढ़ाकर 2026 तक 15.1% और 2030 तक 16.4% करना;
  • मातृ मृत्यु दर (Maternal Mortality Rate) को (प्रति 100000 जन्म पर) 197 से घटाकर 2026 तक 150 और 2030 तक 98 करना;
  • शिशु मृत्यु दर को (प्रति 1000 जन्म पर) 43 से घटाकर 2026 तक 32 और 2030 तक 22 करना;
  • और 5 वर्ष से कम आयु के शिशु मृत्यु दर को (प्रति 1000 जन्म पर) 47 से घटाकर 2026 तक 35 और 2030 तक 25 करना।
  • जीवन प्रत्याशा को 64.3 से बढ़ाकर वर्ष 2026 तक 66 और वर्ष 2030 तक 69 करना और बाल लिंग अनुपात (0-6 वर्ष) को 899 से बढ़ाकर 2026 तक 905 और2030 तक 919 तक करना।
  • उत्तर प्रदेश सरकार ने पहली बार वर्ष 2000 में राज्य की जनसंख्या नीति शुरू की थी।

संक्षिप्त खबरें इन्हें भी जानें

चाना पॉल


भारत के मिजोरम राज्य में दुनिया के सबसे बड़े परिवार के मुखिया माने जाने वाले 76 वर्षीय जियोना चाना का 14 जून, 2021 को निधन हो गया।

  • चाना के परिवार में एक ही घर में 181 सदस्य रहते थे, जिसमें उनकी 39 पत्नियां, 94 बच्चे, 33 पोते और एक परपोता शामिल था।
  • जियोना चाना ने चुआंथर या 'चाना पॉल' (Chana Pawl) नामक ईसाई संप्रदाय का नेतृत्व किया, जिसे उनके पिता खुआंगतुहा (Khuangtuaha) ने जून 1942 में स्थापित किया था।
  • यह संप्रदाय बहुविवाह प्रथा में विश्वास करता है और इसके लगभग 2,000 सदस्य हैं, जिनमें से अधिकांश मिजोरम की राजधानी आइजोल से लगभग 55 किमी. (34 मील) दूर बकतावंग त्लंगनुआम (Baktawng Tlangnuam) गाँव में चाना के घर के आसपास रहते हैं। मिजोरम और उनका गांव, उनके परिवार की वजह से एक बड़ा और आकर्षक पर्यटन स्थल बन गया है।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

स्पर्श: सिस्टम फॉर पेंशन एडमिनिस्ट्रेशन रक्षा


रक्षा मंत्रालय ने जुलाई 2021 में रक्षा पेंशन की मंजूरी और वितरण के स्वचालन के लिए एक एकीकृत प्रणाली ‘स्पर्श: सिस्टम फॉर पेंशन एडमिनिस्ट्रेशन रक्षा’ (SPARSH: System for Pension Administration Raksha) लागू की है।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह वेब आधारित प्रणाली पेंशन दावों की प्रक्रिया को आगे बढ़ाती है और किसी बाहरी मध्यस्थ पर निर्भर हुए बिना सीधे रक्षा पेंशनभोगियों के बैंक खातों में पेंशन जमा करती है।

  • पेंशनभोगियों के लिए उनकी पेंशन संबंधी जानकारी, पहुंच सेवाएं देखने और पेंशन मामलों से संबंधित शिकायतों के निवारण के लिए एक ‘पेंशनभोगी पोर्टल’ (Pensioner Portal) उपलब्ध है।
  • स्पर्श ने किसी भी कारण से सीधे स्पर्श पोर्टल तक पहुंचने में असमर्थ पेंशनभोगियों को अंतिम छोर से कनेक्टिविटी प्रदान करने के लिए ‘सेवा केंद्रों’ की स्थापना की परिकल्पना की है।
  • रक्षा लेखा विभाग के कई कार्यालय सेवा केंद्र के रूप में काम कर रहे हैं; रक्षा पेंशनभोगियों से संबंधित दो सबसे बड़े बैंकों ‘भारतीय स्टेट बैंक’ और ‘पंजाब नेशनल बैंक’ को सेवा केंद्र के रूप में साझा तौर पर चुना गया है।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

रक्षा प्रौद्योगिकी में एम.टेक. कार्यक्रम


रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) और अखिल भारतीयत कनीकी शिक्षा परिषद (AICTE) द्वारा 8 जुलाई, 2021 को रक्षा प्रौद्योगिकी में नियमित मास्टर ऑफ टेक्नोलॉजी (एम.टेक.) कार्यक्रम शुरू किया गया है।

उद्देश्य: विभिन्न रक्षा प्रौद्योगिकी क्षेत्रों में आवश्यक सैद्धांतिक और प्रायोगिक ज्ञान, कौशल और अभिक्षमता प्रदान करना।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह एम.टेक. रक्षा प्रौद्योगिकी कार्यक्रम किसी भी AICTE से संबद्ध संस्थानों / विश्वविद्यालयों, आईआईटी, एनआईटी या निजी इंजीनियरिंग संस्थानों में संचालित किया जा सकता है।

  • रक्षा वैज्ञानिक और प्रौद्योगिकीविद संस्थान (Institute of Defence Scientists & Technologists- IDST) इस कार्यक्रम के संचालन के लिए संस्थानों को सहायता प्रदान करेगा, जिसे ऑनलाइन के साथ-साथ ऑफलाइन प्रारूप में भी संचालित किया जा सकता है।
  • इस कार्यक्रम में छ: विशेष स्ट्रीम (streams) हैं - युद्धक प्रौद्योगिकी (Combat Technology), एयरो टेक्नोलॉजी, नौसेना प्रौद्योगिकी, संचार प्रणाली और सेंसर, निर्देशित ऊर्जा प्रौद्योगिकी (Directed Energy Technology) और उच्च ऊर्जा सामग्री प्रौद्योगिकी (High Energy Materials Technology)।

सामयिक खबरें पर्यावरण

इम्वोलियो


जुलाई 2021 में जैव प्रौद्योगिकी उद्योग अनुसंधान सहायता परिषद (Biotechnology Industry Research Assistance Council- BIRAC) से सहायता प्राप्त स्टार्टअप ब्लैकफ्रॉग टेक्नोलॉजीज (Blackfrog Technologies) ने ‘इम्वोलियो’ (Emvolio) नामक उपकरण (डिवाइस) विकसित किया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह बैटरी से चलने वाला और कहीं भी ले जा सकने योग्य (Portable) चिकित्सा स्तरीय प्रशीतक उपकरण (medical-grade refrigeration device) है।

  • यह उपकरण 12 घंटे तक पूर्व निर्धारित तापमान (preset temperature) को हर स्थिति में बनाए रखते हुए टीकाकरण की दक्षता में सुधार करता है। इस प्रकार यह उपकरण अंतिम लक्ष्य तक टीकों के सुरक्षित और कुशल परिवहन को सम्भव बनाता है।
  • इम्वोलियो की क्षमता 2-लीटर है, जिससे इसमें एक दिन के टीकाकरण अभियान के लिए निर्धारित मानकों के अनुरूप 30-50 तक टीके की शीशियों को रख कर ले जाया जा सकता है।
  • इस उपकरण में निरंतर तापमान निगरानी, स्थान की ट्रैकिंग, इसके चालू हालत में होने के संकेत, लाइव-ट्रैकिंग के माध्यम से मुख्यालय के साथ संचार सम्पर्क और बेहतर कवरेज के लिए महत्वपूर्ण आंकड़े दर्ज करने की व्यवस्था का प्रबंध शामिल हैं।
  • ब्लैकफ्रॉग ISO-13485 प्रमाणित चिकित्सा उपकरणों का निर्माता है। साथ ही इम्वोलियो को ‘डब्ल्यूएचओ–पीक्यूएस ई003’ (WHO-PQS E003) मानकों के अनुसार डिजाइन किया गया है।
  • जैव प्रौद्योगिकी विभाग (DBT), भारत सरकार द्वारा स्थापित, जैव प्रौद्योगिकी उद्योग अनुसंधान सहायता परिषद एक गैर-लाभकारी धारा 8, अनुसूची बी, सार्वजनिक क्षेत्र का उद्यम है।

सामयिक खबरें आर्थिकी

सार्वजनिक उद्यम विभाग अब वित्त मंत्रालय के अधीन


केंद्र सरकार द्वारा अपने महत्वाकांक्षी विनिवेश कार्यक्रम को सुविधाजनक बनाने के लिए ‘सार्वजनिक उद्यम विभाग’ को वित्त मंत्रालय के तहत लाया गया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: इससे पहले, सार्वजनिक उद्यम विभाग 'भारी उद्योग और सार्वजनिक उद्यम मंत्रालय' का हिस्सा था।

  • इसके अलावा, यह वित्त मंत्रालय के तहत छठा विभाग होगा। पांच अन्य विभाग हैं- आर्थिक मामलों के विभाग, व्यय विभाग, राजस्व विभाग, निवेश और सार्वजनिक संपत्ति प्रबंधन विभाग और वित्तीय सेवा विभाग।

सार्वजनिक उद्यम विभाग: यह सभी केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र के उद्यमों (CPSE) के लिए नोडल विभाग है और CPSE से संबंधित नीति तैयार करता है।

  • 1965 में, तीसरी लोकसभा (1962-67) की प्राक्कलन समिति की 52वीं रिपोर्ट की सिफारिश के बाद, वित्त मंत्रालय के तहत सार्वजनिक उद्यम ब्यूरो (BPE) का गठन किया गया था। 1985 में BPE को 'उद्योग मंत्रालय' के तहत स्थानांतरित कर दिया गया।
  • 1990 में, सार्वजनिक उद्यम ब्यूरो को एक पूर्ण विभाग बनाया गया, जिसे सार्वजनिक उद्यम विभाग के रूप में जाना जाता है।

सामयिक खबरें आर्थिकी

कृषि अवसंरचना कोष के अंतर्गत वित्तपोषण सुविधा योजना में संशोधन


केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने 8 जुलाई, 2021 को ‘कृषि अवसंरचना कोष’(Agriculture Infrastructure Fund) के अंतर्गत वित्तपोषण सुविधा की केंद्रीय क्षेत्र योजना में संशोधन को मंजूरी दी है।

उद्देश्य: 1 लाख करोड़ रुपये के कृषि अवसंरचना कोष का विस्तार करना।

महत्वपूर्ण तथ्य: अब पात्रता का विस्तार राज्य एजेंसियों/कृषि उपज बाजार समितियों (APMC), राष्ट्रीय और राज्य सहकारी समितियों के परिसंघों, किसान उत्पादक संगठनों के परिसंघों (FPO) तथा स्वयं सहायता समूहों के परिसंघों (SHGs) तक किया गया है।

  • APMC के लिए एक ही बाजार यार्ड के भीतर विभिन्न बुनियादी ढांचे के प्रकारों जैसे कोल्ड स्टोरेज, छँटाई, ग्रेडिंग और परख इकाइयों आदि की प्रत्येक परियोजना के लिए 2 करोड़ रुपये तक के ऋण के लिए ब्याज सहायता प्रदान की जाएगी।
  • लाभार्थी को जोड़ने या हटाने के संबंध में आवश्यक परिवर्तन करने के लिए कृषि और किसान कल्याण मंत्री को शक्ति प्रदान की गई है ताकि योजना की मूल भावना में परिवर्तन न हो।
  • वित्तीय सुविधा की अवधि 2025-26 तक 4 वर्ष से बढ़ाकर 6 वर्ष कर दी गई है और इस योजना की कुल अवधि 2032-33 तक 10 वर्ष से बढ़ाकर 13 वर्ष कर दी गई है।

सामयिक खबरें पर्यावरण

हिमालयी याक का होगा बीमा


अरुणाचल प्रदेश के पश्चिम कामेंग जिले के दिरांग में स्थित 'राष्ट्रीय याक अनुसंधान केंद्र' ( National Research Centre on Yak- NRCY) ने ऊंचाई वाले याक का बीमा करने के लिए नेशनल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड के साथ समझौता किया है।

महत्त्वपूर्ण तथ्य: ऊंचाई वाले याक हिमालय क्षेत्र में जलवायु परिवर्तन की गर्मी को महसूस कर रहे हैं। इसके अलावा, पूरे देश में याक पालन क्षेत्रों से जलवायु परिवर्तन और मौसम के मिजाज में अकथनीय परिवर्तन (inexplicable changes) की सूचना मिली है, जिससे याक की जनसंख्या खतरनाक दर से घट रही है।

  • 2019 में उत्तरी सिक्किम में भारी बारिश के एक दौर में 500 से अधिक याक मारे गए, जिससे मालिकों पर भारी वित्तीय बोझ पड़ा।
  • एक रिपोर्ट के अनुसार 2012 और 2019 के बीच देश भर में याक की संख्या में लगभग 24.7% की गिरावट आई है।
  • बीमा पॉलिसी याक मालिकों को मौसमीय आपदाओं, बीमारियों, पारगमन दुर्घटनाओं, सर्जिकल ऑपरेशनों और हड़तालों या दंगों से उत्पन्न जोखिमों से बचाएगी।
  • भारत में याक की कुल आबादी लगभग 58,000 है। केंद्र-शासित प्रदेश लद्दाख और जम्मू और कश्मीर में लगभग 26,000 याक हैं, इसके बाद अरुणाचल प्रदेश में 24,000, सिक्किम में 5,000, हिमाचल प्रदेश में 2,000 और पश्चिम बंगाल और उत्तराखंड में लगभग 1,000 याक हैं।
  • भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद द्वारा 'राष्ट्रीय याक अनुसंधान केंद्र' 1989 में स्थापित किया गया था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप निधन

प्रसिद्ध आयुर्वेद चिकित्सक पी.के. वारियर का निधन


दुनिया भर में प्रसिद्ध आयुर्वेद चिकित्सक पी.के. वारियर का 10 जुलाई, 2021 को आर्य वैद्य शाला, कोट्टक्कल केरल में निधन हो गया। वे 100 वर्ष के थे।

  • वे कोट्टक्कल आर्य वैद्य शाला के मुख्य चिकित्सक और प्रबंध न्यासी थे, जो देश की प्रमुख आयुर्वेदिक स्वास्थ्य सेवा शृंखलाओं में से एक है।
  • 1954 से आर्य वैद्य शाला के प्रबंध न्यासी, डॉ. वारियर ने सदियों पुरानी संस्था को गौरव और प्रसिद्धि की ऊंचाइयों तक ले जाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। उनकी सात दशक लंबी सेवा ने उन्हें कोट्टक्कल आयुर्वेद का पर्याय बना दिया है।
  • 'स्मृतिपर्वम' नामक उनकी पुस्तक ने 2009 में सर्वश्रेष्ठ आत्मकथा के लिए केरल साहित्य अकादमी पुरस्कार जीता। इसका अंग्रेजी अनुवाद 'द कैंटो ऑफ मेमोरीज' (The Canto of Memories) भी बेहद लोकप्रिय था।
  • वे दो बार अखिल भारतीय आयुर्वेदिक कांग्रेस के अध्यक्ष चुने गए।
  • आयुर्वेद में उनके योगदान के लिए उन्हें 1999 में पद्म श्री और 2010 में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था। कालीकट विश्वविद्यालय ने उन्हें 1999 में डी लिट की उपाधि से सम्मानित किया था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप वेब पोर्टल/ऐप

इंडिया इंडस्ट्रियल लैंड बैंक


इंडिया इंडस्ट्रियल लैंड बैंक (India Industrial Land Bank- IILB) एक जीआईएस- आधारित पोर्टल है।

  • इस पर सभी औद्योगिक बुनियादी ढांचे से संबंधित सूचनाओं की एक ही स्थान पर जानकारी ( one-stop repository) उपलब्ध करायी गई है, जैसे- कनेक्टिविटी, आधारभूत अवसंरचनाओं, प्राकृतिक संसाधन और इलाके, खाली भूखंडों पर प्लॉट-स्तरीय जानकारी, कार्य प्रणाली और संपर्क विवरण (contact details)।
  • वर्तमान में IILB के पास 5.5 लाख हेक्टेयर भूमि के क्षेत्र में लगभग 4000 औद्योगिक पार्क हैं, जो दूरस्थ स्थानों से भूमि की तलाश करने वाले निवेशकों के लिए निर्णय लेने हेतु एक समर्थन प्रणाली के रूप में कार्य कर रहे हैं।
  • इस प्रणाली को 17 राज्यों के उद्योग आधारित जीआईएस सिस्टम के साथ एकीकृत करके जोड़ दिया गया है ताकि रियलटाइम आधार पर इस पोर्टल पर जानकारियों को अद्यतन किया जा सकेI
  • दिसंबर 2021 तक अखिल भारतीय स्तर पर एकीकरण हासिल कर लिया जाएगा।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

राष्ट्रीय मत्स्य किसान दिवस


10 जुलाई

महत्वपूर्ण तथ्य: यह दिवस दो वैज्ञानिकों डॉ. के.एच. एलिकुन्ही और डॉ. एच.एल. चौधरी की याद में मनाया जाता है, जिन्होंने 10 जुलाई, 1957 को ओडिशा के कटक में केंद्रीय अंतरस्थलीय मत्स्य अनुसंधान संस्थान (CIFRI) के पूर्ववर्ती 'ताल मत्स्यपालन प्रभाग' (वर्तमान में सेंट्रल इंस्टीट्यूट ऑफ फ्रेश वाटर एक्वाकल्चर (CIFA), भुवनेश्वर) में मछ्ली में प्रेरित प्रजनन 'हाइपोफिजेशन' (Hypophysation) तकनीक का सफलतापूर्वक प्रदर्शन किया था।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

भारत कोविड-19 आपात प्रतिक्रिया और स्वास्थ्य प्रणाली तैयारी पैकेज- चरण 2


केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 8 जुलाई, 2021 को वित्तीय वर्ष 2021-22 के लिए 23,123 करोड़ रुपये की एक नई योजना ‘भारत कोविड-19 आपात प्रतिक्रिया और स्वास्थ्य प्रणाली तैयारी पैकेज- चरण 2’ को स्वीकृति दे दी है।

उद्देश्य: बाल चिकित्सा देखभाल सहित स्वास्थ्य अवसंरचना का विकास और स्वास्थ्य प्रणाली की तैयारियों में तेजी लाना।

महत्वपूर्ण तथ्य: इस पैकेज के चरण-2 में केंद्रीय क्षेत्र और केंद्र प्रायोजित योजनाओं के घटक शामिल हैं।

केंद्रीय क्षेत्र के घटक: इसके अंतर्गत ‘राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र’ को मजबूत बनाया जाएगा।

  • देश के सभी जिला अस्पतालों में ‘अस्पताल प्रबंधन सूचना प्रणाली’ के कार्यान्वयन के लिए सहयोग किया जाएगा।
  • टेली-परामर्श की संख्या प्रति दिन 50,000 से बढ़ाकर प्रति दिन 5 लाख करने के लिए ई-संजीवनी टेली-परामर्श प्लेटफार्म के राष्ट्रीय ढांचे के विस्तार हेतु समर्थन।

केंद्र प्रायोजित योजनाओं के घटक: सभी 736 जिलों में ‘बाल चिकित्सा इकाइयां’ स्थापित करना और टेली-आईसीयू सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए हर राज्य/केन्द्र- शासित प्रदेश में ‘बाल चिकित्सा उत्कृष्टता केंद्र’ की स्थापना।

  • सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रणाली में 20,000 आईसीयू बेड (ICU beds) बढ़ाना, जिनमें से 20% बाल चिकित्सा आईसीयू बेड होंगे।
  • प्रत्येक जिले में कम से कम एक इकाई को सहयोग देने के उद्देश्य से मेडिकल गैस पाइपलाइन सिस्टम के साथ 1050 तरल मेडिकल ऑक्सीजन भंडारण टैंकों की स्थापना करना।
  • 8,800 नई एम्बुलेंस शामिल की जाएंगी।

पृष्ठभूमि: 2020 में महामारी के प्रबंधन हेतु स्वास्थ्य प्रणाली की गतिविधियों को प्रोत्साहन देने के लिए 15,000 करोड़ रुपये की ‘भारत कोविड-19 आपात प्रतिक्रिया और स्वास्थ्य प्रणाली तैयारी पैकेज’ की घोषणा की गई थी।

सामयिक खबरें आर्थिकी

थोक और खुदरा व्यापार एमएसएमई के दायरे में शामिल


केंद्र सरकार ने 2 जुलाई, 2021 को थोक और खुदरा व्यापारों को सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों- एमएसएमई (MSMEs) के दायरे में शामिल करने के लिए नए दिशा-निर्देशों की घोषणा की।

महत्वपूर्ण तथ्य: इससे ऐसे कारोबारी भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा वर्गीकृत प्राथमिकता क्षेत्र ऋण व्यवस्था के तहत ऋण के लिए पात्र हो जाएंगे।

  • संशोधित दिशा-निर्देशों के तहत अब खुदरा और थोक कारोबारियों को 'उद्यम पंजीकरण पोर्टल' पर पंजीकरण की अनुमति होगी।
  • इस कदम से कोविड-19 महामारी से पीड़ित 2.5 करोड़ कारोबारियों को लाभ होने की उम्मीद है।
  • प्राथमिकता क्षेत्र ऋण व्यवस्था के लाभ के अलावा, इन कारोबारियों को एमएसएमई को उपलब्ध कोई अन्य लाभ नहीं मिलेगा।
  • अतीत में, थोक और खुदरा व्यापार गतिविधियों को एमएसएमई के रूप में वर्गीकृत किया गया था, लेकिन 2017 में इसे बाहर कर दिया गया क्योंकि वे विनिर्माण गतिविधि की आवश्यकता को पूरा नहीं करते थे।

चिंता: एक बार यदि खुदरा और थोक कारोबारी एमएसएमई के तहत प्राथमिकता वाले क्षेत्र की ऋण श्रेणी में शामिल हो जाते हैं, तो बैंक उन्हें छोटी विनिर्माण इकाइयों के स्थान पर ऋण देना पसंद कर सकते हैं, क्योंकि वे विनिर्माण से कम जोखिम वाले होते हैं।

सामयिक खबरें पर्यावरण

वैश्विक जल और जलवायु अनुकूलन केंद्र


भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) मद्रास ने 30 जून, 2021 को एक 'वैश्विक जल और जलवायु अनुकूलन केंद्र' (Global water and Climate Adaptation Centre) का शुभारंभ किया है।

उद्देश्य: जल सुरक्षा और बदलती जलवायु अनुकूलन की वैश्विक चुनौतियों से निपटना।

महत्वपूर्ण तथ्य: इस केंद्र का मुख्य हब आईआईटी मद्रास में होगा, जबकि सैटेलाइट हब (satellite hub) एशियाई प्रौद्योगिकी संस्थान, बैंकॉक में बनाया जा रहा है।

  • इस केंद्र की संरचना 'जर्मन एकेडमिक एक्सचेंज सर्विसेज' (DAAD) द्वारा तैयार की जा रही है और जर्मन इंस्टीटयूटस ऑफ टेक्निकल यूनिवर्सिटी ड्रेस्डन और 'आरडब्ल्यूटीएच- आचेन यूनिवर्सिटी' (RWTH Aachen University) के सहयोग से स्थापित किया जा रहा है।
  • इस केंद्र का नाम 'एबीसीडी' (आचेन-बैंकाक-चेन्नई-ड्रेस्डन) है।
  • केंद्र के तीन मूलभूत स्तंभ हैं - छात्रों और विशेषज्ञों के लिए समान शिक्षण गतिविधियाँ, पीएचडी परियोजनाओं के लिए संयुक्त अनुसंधान कार्य और उन्नत ज्ञान हस्तांतरण गतिविधियों का अनुकरण।
  • इस केंद्र का नेतृत्व आईआईटी मद्रास के महासागर इंजीनियरिंग विभाग के प्रो. एस ए सन्नासिराज द्वारा किया जा रहा है।

सामयिक खबरें पर्यावरण

स्क्वायर किलोमीटर एरे ऑब्जर्वेटरी


1 जुलाई, 2021 को दुनिया के प्रस्तावित सबसे बड़े रेडियो टेलीस्कोप 'स्क्वायर किलोमीटर एरे ऑब्जर्वेटरी' (Square Kilometre Array Observatory- SKAO) के निर्माण की शुरुआत हो गई।

महत्वपूर्ण तथ्य: 2029 तक पूरी तरह से चालू हो जाने के बाद, दक्षिण अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया में बनने वाला SKAO सालाना 710 पेटाबाइट्स का खगोलीय डेटा जारी करेगा।

  • SKAO दक्षिण अफ्रीका में स्थित 197 डिश और पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया में 1,31,072 एंटेना की एक शृंखला होगी और 50 मेगाहर्ट्ज -15.3 गीगाहर्ट्ज फ्रीक्वेंसी रेंज में संचालित होगी।
  • SKAO टेलीस्कोप, विज्ञान की अज्ञात सीमाओं का पता लगाएंगे और आकाशगंगाओं के निर्माण और विकास, चरम वातावरण में मौलिक भौतिकी और जीवन की उत्पत्ति सहित प्रमुख प्रक्रियाओं की हमारी समझ को बढ़ाएंगे।
  • इस परियोजना में भाग लेने वाले 16 देशों में से ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका, यूनाइटेड किंगडम, इटली, नीदरलैंड, पुर्तगाल और चीन वर्तमान में सदस्य देश हैं। भारत, जर्मनी, फ्रांस, कनाडा, जापान, स्पेन, स्विटजरलैंड, स्वीडन और दक्षिण कोरिया वर्तमान में पर्यवेक्षक सदस्य राष्ट्र हैं और औपचारिक रूप से सदस्य राष्ट्र बनने की प्रतीक्षा कर रहे हैं।
  • इस परियोजना का नेतृत्व अब एक गैर-लाभकारी कंपनी 'स्क्वायर किलोमीटर एरे संगठन' कर रहा है। संगठन की स्थापना दिसंबर 2011 में हुई थी। फरवरी 2021 में, SKAO ने एक अंतर-सरकारी संगठन के रूप में आकार लिया है। SKAO संगठन का मुख्यालय यूनाइटेड किंगडम में है।

सामयिक खबरें पर्यावरण

फंगल केराटाइटिस


भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) दिल्ली के महिला शोधकर्ताओं की एक टीम ने आंखों में फंगल संक्रमण या फंगल केराटाइटिस (fungal keratitis) के अधिक प्रभावी उपचार के लिए एक नई 'एंटीफंगल स्ट्रैटजी' (antifungal strategy) विकसित की है।

महत्वपूर्ण तथ्य: भारत में एक विशाल कृषि आबादी है, जो खेती करते समय अक्सर वानस्पतिक आघात का शिकार हो जाती है।

  • आंख को वानस्पतिक आघात आमतौर पर संक्रमित वनस्पति पदार्थ जैसे पौधे की पत्तियों के कारण होता है, जिससे अक्सर आंखों में नेत्रपटल (cornea) का फंगल संक्रमण हो जाता है, जिसे फंगल केराटाइटिस भी कहा जाता है।
  • विकासशील देशों में फंगल केराटाइटिस एकनेत्री अंधापन (monocular blindness) यानी एक आंख में अंधापन का एक प्रमुख कारण है।
  • 2020 में लैंसेट में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, कुल सूक्ष्मजीव केराटाइटिस मामलों में से 50% से अधिक फंगल केराटाइटिस के मामलों के साथ दक्षिणी एशिया और भारत में प्रति 1 लाख लोगों पर सबसे अधिक वार्षिक केराटाइटिस मामले दर्ज किये गए हैं।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप पुरस्कार/सम्मान

कौशिक बसु को अर्थशास्त्र के लिए हम्बोल्ट रिसर्च अवॉर्ड 2021


भारतीय अर्थशास्त्री और कॉर्नेल विश्वविद्यालय में प्रोफेसर कौशिक बसु को ‘अर्थशास्त्र के लिए हम्बोल्ट रिसर्च अवॉर्ड 2021’ (Humboldt Research Award for Economics for 2021) से सम्मानित किया गया है।

  • उन्हें जर्मनी के हैम्बर्ग में बुकेरियस लॉ स्कूल के प्रोफेसर डॉ हंस-बर्न्ड शेफर द्वारा हम्बोल्ट रिसर्च अवॉर्ड के लिए नामांकित किया गया था।
  • जर्मनी स्थित अलेक्जेंडर वॉन हंबोल्ट फाउंडेशन द्वारा प्रायोजित, हम्बोल्ट रिसर्च अवॉर्ड किसी व्यक्ति के संपूर्ण करियर में उत्कृष्टता को मान्यता देता है और अनुसंधान सहयोग के अवसर प्रदान करता है।
  • बसु ने कानून और अर्थशास्त्र के साथ-साथ 'नैतिक दर्शन' (moral philosophy) और गेम थ्योरी (game theory) पर शोध करने हेतु इस अवॉर्ड का उपयोग करने का फैसला किया है।
  • लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स से स्नातक बसु ने 2012-2016 तक विश्व बैंक में सीनियर वाइस प्रेजीडेंट और मुख्य अर्थशास्त्री के रूप में कार्य किया। वे 2009 से 2012 तक तीन वर्षों के लिए भारत सरकार के मुख्य आर्थिक सलाहकार का पद भी संभाल चुके हैं।
  • बसु को इससे पहले भारत के तीसरे सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप विविध

मदुरै मल्ली


8 जुलाई, 2021 को तमिलनाडु से जीआई (भौगोलिक संकेतक) प्रमाणित ‘मदुरै मल्ली’ (Madurai malli) और अन्य पारंपरिक फूलों जैसे बटन गुलाब( button rose), लिली, चमंथी और गेंदा की खेप संयुक्त राज्य अमेरिका और दुबई को निर्यात की गई।

  • इस पहल से दुबई और संयुक्त राज्य अमेरिका में भारतीय समुदाय नियमित अंतराल पर भारत से फूलों का निर्यात जारी रहने के बाद धार्मिक और सांस्कृतिक त्योहारों को मनाते हुए घर और मंदिरों दोनों में हिंदू देवताओं को ताजे फूल चढ़ा सकेंगे।
  • मदुरै मल्ली यानी चमेली (Jasminum Officinale) दुनिया के सबसे लोकप्रिय फूलों में से एक है, जो अपनी मनमोहक खुशबू के लिए जाना जाता है। इसे मदुरै मल्ली का नाम इसके मूल स्थान, तमिलनाडु के मदुरै शहर से मिला है।
  • मदुरै मल्ली (चमेली) की खुशबू मीनाक्षी मंदिर के वैभव का पर्याय है।
  • मदुरै अपने पड़ोस में उगाई जाने वाली 'मल्लिगाई' के लिए एक प्रमुख बाजार के रूप में उभरा है औरइस प्रकार भारत की 'चमेली राजधानी' के रूप में विकसित हुआ है।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

भालिया किस्म का गेहूं


गेहूं के निर्यात को बढ़ावा देने के लिए 7 जुलाई, 2021 को, जीआई (भौगोलिक संकेतक) प्रमाणित भालिया (Bhalia) किस्म के गेहूं की पहली खेप गुजरात से केन्या और श्रीलंका को निर्यात की गई।

महत्वपूर्ण तथ्य: जीआई प्रमाणित भालिया गेहूं में प्रोटीन की मात्रा अधिक होती है और यह स्वाद में मीठा होता है।

  • भालिया फसल प्रमुख रुप से गुजरात के ‘भाल क्षेत्र’ में पैदा की जाती है। भाल क्षेत्र में अहमदाबाद, आनंद, खेड़ा, भावनगर, सुरेंद्रनगर, भरूच जिले शामिल हैं।
  • गेहूं की इस किस्म की एक विशिष्ट विशेषता यह है कि इसे बारिश के मौसम में बिना सिंचाई के उगाया जाता है और गुजरात में लगभग दो लाख हेक्टेयर कृषि योग्य भूमि में इसकी खेती की जाती है।
  • गेहूं की भालिया किस्म को जुलाई, 2011 में जीआई प्रमाणन प्राप्त हुआ था। जीआई प्रमाणीकरण का पंजीकृत प्रोपराइटर आणंद कृषि विश्वविद्यालय, गुजरात है।
  • 2020-21 में, भारत से गेहूं का निर्यात पिछले वित्त वर्ष में दर्ज किए गए 444 करोड़ रुपये से 808 फीसदी बढ़कर 4034 करोड़ रुपये हो गया।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

नये सहकारिता मंत्रालय का गठन


केंद्र सरकार ने 'सहकार से समृद्धि' के स्वप्न को साकार करने के लिए एक ऐतिहासिक कदम उठाते हुए 6 जुलाई, 2021 को एक अलग 'सहकारिता मंत्रालय' (Ministry of Co-operation) का गठन किया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह मंत्रालय देश में सहकारिता आंदोलन को मजबूत करने के लिए एक अलग प्रशासनिक, कानूनी और नीतिगत ढांचा प्रदान करेगा।

  • यह सहकारी समितियों को जमीनी स्तर तक पहुंचने वाले एक सच्चे जनभागीदारी आधारित आंदोलन को मजबूत बनाने में भी सहायता प्रदान करेगा।
  • यह मंत्रालय सहकारी समितियों के लिए 'कारोबार में सुगमता' के लिए प्रक्रियाओं को कारगर बनाने और बहु-राज्य सहकारी समितियों (Multi-State Co-operatives- MSCS) के विकास को सक्षम बनाने की दिशा में कार्य करेगा।
  • सहकारिता मंत्रालय की जिम्मेदारी गृह मंत्री अमित शाह को सौंपी गई है, जबकि बी. एल. वर्मा सहकारिता राज्य मंत्री होंगे।

पीआईबी न्यूज विज्ञान और तकनीक

डीबीजेनवोक


जुलाई 2021 में ‘नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ बायोमेडिकल जीनोमिक्स (NIBMG), कल्याणी ने मुंह के कैंसर में जीनोमिक बदलाव का एक डेटाबेस ‘डीबीजेनवोक’ (dbGENVOC) तैयार किया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह दुनिया में अपनी तरह का पहला डेटाबेस है। NIBMG ने इस डेटाबेस को सार्वजनिक तौर पर मुफ्त उपलब्ध कराया है।

  • यह मुंह के कैंसर के जीनोमिक वेरिएंट्स का ब्राउज करने योग्य ऑनलाइन डेटाबेस (browsable online database) है।
  • डीबीजेनवोक की पहली रिलीज में भारत के 100 मुंह के कैंसर रोगियों के संपूर्ण एक्सोम अनुक्रम (whole exome sequences) और 5 मुंह के कैंसर रोगियों के संपूर्ण जीनोम अनुक्रम (whole genome sequences) से प्राप्त 2.4 लाख सोमैटिक एवं जर्मलाइन वेरिएंट्स (somatic and germline variants) शामिल हैं।

मुंह का कैंसर: यह भारत में पुरुषों में पाया जाने वाला कैंसर का सबसे प्रचलित रूप है, जो मुख्य रूप से तंबाकू चबाने के कारण होता है।

  • तंबाकू चबाने से ओरल कैविटी (oral cavity) में कोशिकाओं की आनुवंशिक सामग्री में परिवर्तन होता है। ये परिवर्तन (म्यूटेशन) मुंह के कैंसर का कारण बनते हैं।

NIBMG: जैव प्रौद्योगिकी विभाग के तत्वावधान में भारत सरकार द्वारा एक स्वायत्त संस्थान के रूप में नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ बायोमेडिकल जीनोमिक्स (NIBMG) की स्थापना की गई है।

  • यह भारत का पहला ऐसा संस्थान है, जो स्पष्ट तौर पर बायोमेडिकल जीनोमिक्स में अनुसंधान, प्रशिक्षण, ट्रांसलेशन एवं सेवा (translation & service) और क्षमता निर्माण के लिए समर्पित है।
  • यह पश्चिम बंगाल में कोलकाता के समीप कल्याणी में स्थित है।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

केंद्रीय मंत्रिमंडल में फेरबदल


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूसरे कार्यकाल के लगभग बीच में ही 7 जुलाई, 2021 को केंद्रीय मंत्रिमंडल में फेरबदल करते हुए 43 मंत्रियों (15 कैबिनेट मंत्रियों और 28 राज्य मंत्रियों) को शपथ दिलाई गई, जिनमें 36 नए चहरे हैं।

  • शपथ लेने वाले 15 कैबिनेट मंत्रियों में से 7 को राज्य मंत्री से कैबिनेट मंत्री के रूप में पदोन्नत किया गया है। ये हैं- किरेन रिजिजू, राज कुमार सिंह, हरदीप सिंह पुरी, मनसुख मांडविया, परशोत्तम रूपाला, जी. किशन रेड्डी और अनुराग सिंह ठाकुर।
  • इससे पहले 12 मंत्रियों (सात कैबिनेट और पांच राज्य मंत्रियों) ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था- डी.वी. सदानंद गौड़ा, रविशंकर प्रसाद, थावरचंद गहलोत, रमेश पोखरियाल 'निशंक', डॉ. हर्ष वर्धन, प्रकाश जावडेकर, संतोष कुमार गंगवार, बाबुल सुप्रियो, संजय धोत्रे, रतन लाल कटारिया, प्रताप चन्द्र सारंगी और देबाश्री चौधरी।

वर्तमान मंत्रिमंडल सूची

  • नरेन्द्र मोदी (प्रधानमंत्री और कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन मंत्रालय, परमाणु ऊर्जा विभाग, अंतरिक्ष विभाग, सभी महत्वपूर्ण नीतिगत मुद्दे और अन्य सभी विभाग, जो किसी मंत्री को आवंटित नहीं किए गए हैं)।

1. कैबिनेट मंत्री

  • राजनाथ सिंह (रक्षा मंत्रालय), अमित शाह (गृह और सहकारिता मंत्रालय), नितिन गडकरी (सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय), निर्मला सीतारमण (वित्त तथा कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय), नरेंद्र सिंह तोमर (कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय), डॉ. सुब्रह्मण्यम जयशंकर (विदेश मंत्रालय), अर्जुन मुंडा (जनजातीय मामलों के मंत्रालय), स्मृति ईरानी (महिला एवं बाल विकास मंत्रालय), पीयूष गोयल (वाणिज्य और उद्योग; उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण; तथा कपड़ा मंत्रालय), धर्मेंद्र प्रधान (शिक्षा तथा कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय), प्रल्हाद जोशी (संसदीय कार्य, कोयला तथा खान मंत्रालय), नारायण राणे (सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय), सर्बानंद सोनोवाल (पत्तन, पोत परिवहन एवं जलमार्ग तथा आयुष मंत्रालय), मुख्तार अब्बास नकवी (अल्पसंख्यक मामलों के मंत्रालय), डॉ. वीरेंद्र कुमार (सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय), गिरिराज सिंह (ग्रामीण विकास तथा पंचायती राज मंत्रालय), ज्योतिरादित्य एम. सिंधिया (नागरिक उड्डयन मंत्रालय), रामचंद्र प्रसाद सिंह (इस्पात मंत्रालय), अश्विनी वैष्णव (रेल, संचार तथा इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय), पशुपति कुमार पारस (खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय), गजेंद्र सिंह शेखावत (जल शक्ति मंत्रालय), किरेन रिजिजू (विधि और न्याय मंत्रालय), राज कुमार सिंह (विद्युत तथा नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय), हरदीप सिंह पुरी (पेट्रोलियम, प्राकृतिक गैस तथा आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय), मनसुख मंडाविया (स्वास्थ्य और परिवार कल्याण तथा रसायन व उर्वरक मंत्रालय), भूपेंद्र यादव (पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन तथा श्रम और रोजगार मंत्रालय), महेंद्र नाथ पांडेय (भारी उद्योग मंत्रालय), परशोत्तम रूपाला (मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय), जी. किशन रेड्डी (संस्कृति, पर्यटन तथा पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास मंत्रालय), अनुराग सिंह ठाकुर (सूचना और प्रसारण तथा युवा मामले और खेल मंत्रालय)।

2. राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार)

  • राव इंद्रजीत सिंह (सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन, योजना मंत्रालय, कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय), डॉ. जितेंद्र सिंह [विज्ञान और प्रौद्योगिकी तथा पृथ्वी विज्ञान (राज्य मंत्री- स्वतंत्र प्रभार), प्रधानमंत्री कार्यालय, कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन, परमाणु ऊर्जा विभाग तथा अंतरिक्ष विभाग मंत्रालय में राज्य मंत्री]।

3. राज्य मंत्री

  • श्रीपद येसो नाइक (पत्तन, पोत परिवहन और जलमार्ग तथा पर्यटन मंत्रालय), फग्गन सिंह कुलस्ते (इस्पात तथा ग्रामीण विकास मंत्रालय), प्रहलाद सिंह पटेल (जल शक्ति तथा खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय), अश्विनी कुमार चौबे (उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण तथा पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय), अर्जुन राम मेघवाल (संसदीय कार्य तथा संस्कृति मंत्रालय), जनरल (सेवानिवृत्त) वी. के. सिंह (सड़क परिवहन और राजमार्ग तथा नागरिक उड्डयन मंत्रालय), कृष्ण पाल (विद्युत तथा भारी उद्योग मंत्रालय), दानवे रावसाहेब दादाराव (रेल, कोयला तथा खान मंत्रालय), रामदास अठावले (सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय), साध्वी निरंजन ज्योति (उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण तथा ग्रामीण विकास मंत्रालय), डॉ. संजीव कुमार बाल्यान (मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय), नित्यानंद राय (गृह मंत्रालय), पंकज चौधरी (वित्त मंत्रालय), अनुप्रिया सिंह पटेल (वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय), प्रो. एस. पी. सिंह बघेल (विधि और न्याय मंत्रालय), राजीव चंद्रशेखर (कौशल विकास और उद्यमिता तथा इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय), शोभा करंदलाजे (कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय), भानु प्रताप सिंह वर्मा (सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय), दर्शना विक्रम जरदोश (कपड़ा तथा रेल मंत्रालय), वी. मुरलीधरन (विदेश तथा संसदीय कार्य मंत्रालय), मीनाक्षी लेखी (विदेश तथा संस्कृति मंत्रालय), सोम प्रकाश (वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय), रेणुका सिंह सरुता (जनजातीय मामलों के मंत्रालय), रामेश्वर तेली (पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस तथा श्रम और रोजगार मंत्रालय), कैलाश चौधरी (कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय), अन्नपूर्णा देवी (शिक्षा मंत्रालय), ए. नारायणस्वामी (सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय), कौशल किशोर (आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय), अजय भट्ट (रक्षा तथा पर्यटन मंत्रालय), बी. एल. वर्मा (पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास तथा सहकारिता मंत्रालय), अजय कुमार (गृह मंत्रालय), देवुसिंह चौहान (संचार मंत्रालय), भगवंत खुबा (नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा तथा रसायन व उर्वरक मंत्रालय), कपिल मोरेश्वर पाटिल (पंचायती राज मंत्रालय), प्रतिमा भौमिक (सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय), डॉ. सुभाष सरकार (शिक्षा मंत्रालय), डॉ. भागवत किशनराव कराड (वित्त मंत्रालय), डॉ. राजकुमार रंजन सिंह (विदेश तथा शिक्षा मंत्रालय), डॉ. भारती प्रवीण पवार (स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय), बिश्वेश्वर टुडू (जनजातीय मामलों तथा जल शक्ति मंत्रालय), शांतनु ठाकुर (पत्तन, पोत परिवहन और जलमार्ग मंत्रालय), डॉ. मुंजापारा महेंद्रभाई (महिला और बाल विकास तथा आयुष मंत्रालय), जॉन बारला (अल्पसंख्यक मामलों के मंत्रालय), डॉ. एल. मुरुगन (मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी तथा सूचना और प्रसारण मंत्रालय) और निसिथ प्रमाणिक (गृह तथा युवा मामले और खेल मंत्रालय)।

सामयिक खबरें पर्यावरण

राजस्थान का चौथा टाइगर रिजर्व


जुलाई 2021 में राष्ट्रीय बाघ संरक्षण प्राधिकरण (NTCA) ने राजस्थान के बूंदी जिले में ‘रामगढ़ विषधारी वन्यजीव अभयारण्य’ (Ramgarh Vishdhari Wildlife Sanctuary) को राज्य के चौथे टाइगर रिजर्व में बदलने की मंजूरी दे दी है।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह रणथंभौर, सरिस्का और मुकुंदरा टाइगर रिजर्व के बाद राज्य का चौथा और देश का 52वां टाइगर रिजर्व होगा।

  • रामगढ़ विषधारी टाइगर रिजर्व पूर्वोत्तर में सवाई माधोपुर में रणथंभौर टाइगर रिजर्व और दक्षिणी तरफ कोटा में मुकुंदरा हिल्स टाइगर रिजर्व को जोड़ेगा, जिससे इसे बाघ गलियारे के रूप में विकसित किया जाएगा।
  • 1,017 वर्ग किमी. के कुल क्षेत्र को टाइगर रिजर्व के रूप में चिह्नित किया गया है, जिसमें भीलवाड़ा के दो वन खंड तथा बूंदी के क्षेत्रीय वन ब्लॉक और इंदरगढ़ शामिल हैं, जो रणथंभौर टाइगर रिजर्व के बफर जोन के अंतर्गत आता है।
  • प्रस्तावित टाइगर रिजर्व में 300 वर्ग किमी. से अधिक क्षेत्र को जानवरों के लिए एक महत्वपूर्ण आवास (critical habitat) के रूप में छोड़ दिया जाएगा, जबकि शेष एक बफर जोन होगा।
  • 2018 की बाघ गणना के अनुसार, राज्य में तीन टाइगर रिजर्व- रणथंभौर टाइगर रिजर्व, सरिस्का टाइगर रिजर्व और मुकुंदरा हिल्स टाइगर रिजर्व में 102 बाघ हैं।
  • रामगढ़ विषधारी वन्यजीव अभयारण्य को वर्ष 1982 में स्थापित किया गया था और यह 252.79 वर्ग किमी. के क्षेत्र में फैला हुआ है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप निधन

हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह का निधन


हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के दिग्गज नेता वीरभद्र सिंह का लंबी बीमारी के बाद 7 जुलाई, 2021 को शिमला में निधन हो गया। वे 87 वर्ष के थे।

  • नौ बार के विधायक और पांच बार के सांसद, सिंह छ: बार हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे।
  • सिंह ने 1983 से 1990 तक, 1993 से 1998 तक, 2003 से 2007 तक और 2012 से 2017 तक मुख्यमंत्री के रूप में कार्य किया। सिंह मार्च 1998 से मार्च 2003 तक विधान सभा में विपक्ष के नेता भी रहे।
  • वे पहली बार 1962 में लोक सभा के लिए चुने गए थे उन्होंने 1982-1983 में उद्योग राज्य मंत्री ; 2009-2011 से केंद्रीय इस्पात मंत्री; और 2011-2012 तक केंद्रीय सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्री के रूप में कार्य किया।
  • वे 1977, 1979, 1980 और 2012 में हिमाचल प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष भी रहे।
  • वे शिमला जिले के बुशहर के शाही परिवार से थे। उन्हें लोकप्रिय रूप से 'राजा साहिब' के नाम से जाना जाता है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

वर्ल्ड जूनोसेस डे


6 जुलाई

2021 का विषय/अभियान: 'आइये जूनोटिक ट्रांसमिशन की शृंखला तोड़ें' (Let’s Break the Chain of Zoonotic Transmission)।

महत्वपूर्ण तथ्य: जूनोसिस (Zoonosis) पशुजनित संक्रामक रोग है जो पशुओं से मनुष्यों में फैलता है।

  • यह दिवस फ्रांसीसी जीव-विज्ञानी लुई पाश्चर के सम्मान में मनाया जाता है, जिन्होंने 6 जुलाई, 1885 को सफलतापूर्वक रेबीज (एक पशुजनित रोग) के खिलाफ पहला टीकाकरण किया था।
  • जूनोटिक (Zoonotic) रोगजनक बैक्टीरिया, वायरस या परजीवी हो सकते हैं जो सीधे संपर्क या भोजन, पानी या पर्यावरण के माध्यम से मनुष्यों में फैल सकते हैं। एवियन इन्फ्लूएंजा, इबोला और वेस्ट नाइल वायरस जैसी बीमारियों को जूनोटिक रोग माना जाता है।

संक्षिप्त खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

बीमा पॉलिसी 'विमेंस कैंसर शील्ड'


महिलाओं की पर्सनल केयर ब्रांड 'क्लोविया' (Clovia) ने जून 2021 में एलायंस इंश्योरेंस के साथ साझेदारी में स्तन कैंसर की महिला रोगियों के लिए एक विशेष बीमा पॉलिसी, 'विमेंस कैंसर शील्ड' (Women's cancer shield) लॉन्च की है।

  • क्लोविया अपने प्लेटफॉर्म के माध्यम से उपभोक्ताओं तक बीमा पहुंचाने का काम करेगा, जबकि एलायंस इंश्योरेंस स्तन कैंसर बीमा पॉलिसी की सुविधा प्रदान करेगा।
  • एलायंस इंश्योरेंस क्लोविया की वेबसाइट से एक निश्चित मूल्य की खरीद पर 18-65 वर्ष की आयु वर्ग की महिला ग्राहकों को 25,000 रुपये का बीमा पॉलिसी कवर प्रदान करेगी।
  • पॉलिसी की अवधि एक वर्ष है, जिसमें पॉलिसी का उपयोग करने के लिए 90 दिनों की अनिवार्य प्रतीक्षा अवधि है।

संक्षिप्त खबरें इन्हें भी जानें

सी स्‍नॉट


तुर्की का मरमारा सागर (Sea of Marmara), जो काला सागर को एजियन सागर से जोड़ता है, में 'सी स्नॉट' (sea snot) का सबसे बड़ा प्रकोप देखा गया है।

  • 'सी स्नॉट' समुद्री लसलसा पदार्थ (marine mucilage) है, जो तब बनता है जब जलवायु परिवर्तन के प्रभावों के साथ जल प्रदूषण के संयोजन के परिणामस्वरूप गर्म मौसम में शैवालों में पोषक तत्वों की अति-प्रचुरता हो जाती है। '
  • सी स्नॉट' की मोटी चिकनी परत, भूरे और झागदार पदार्थ की तरह दिखती है। इससे बड़े पैमाने पर मछलियां और अन्य जलीय जीव जैसे कोरल और स्पंज मर गए हैं।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

मिश्री किस्म की चेरी


6 जुलाई, 2021 को कश्मीर घाटी से मिश्री किस्म की स्वादिष्ठ चेरी का पहला वाणिज्यिक लदान (commercial shipment) श्रीनगर से दुबई के लिए निर्यात किया गया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: मिश्री किस्म की यह चेरी न केवल स्वादिष्ट होती है बल्कि इसमें स्वास्थ्य लाभ के साथ-साथ विटामिन, खनिज और वनस्पति यौगिक भी भरपूर मात्रा में होते हैं।

  • केंद्र- शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में देश की वाणिज्यिक किस्मों की चेरी के कुल उत्पादन का 95% से अधिक उत्पादन होता है। यहां चेरी की चार किस्मों- डबल (Double), मखमली (Makhmali), मिश्री (Mishri) और इटली (Italy) का मुख्य रूप से उत्पादन होता है।
  • एपीडा-राष्ट्रीय अंगूर अनुसंधान केंद्र, पुणे स्थित एक राष्ट्रीय रेफरल प्रयोगशाला है, जिसने लदान में खाद्य सुरक्षा और गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए सहायता प्रदान की है।
  • इससे विशेष रूप से मध्य-पूर्व देशों में चेरी के ब्रांड सृजन में मदद मिलेगी।

सामयिक खबरें आर्थिकी

वन अधिकार अधिनियम कार्यान्वयन हेतु संयुक्त पत्र


पर्यावरण और जनजातीय कार्य मंत्रालयों द्वारा वन अधिकार अधिनियम के अधिक प्रभावी कार्यान्वयन के लिए 6 जुलाई, 2021 को संयुक्त पत्र पर हस्ताक्षर किए गए।

महत्वपूर्ण तथ्य: राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों को संबोधित संयुक्त पत्र, वन अधिकार अधिनियम, 2006 के अधिक प्रभावी कार्यान्वयन और ‘वनवासी अनुसूचित जनजातियों’ और ‘अन्य पारंपरिक वनों के निवासियों’ की आजीविका में सुधार की क्षमता का दोहन करने से संबंधित है।

  • आदिवासी और अन्य वनवासी जैव विविधता के संरक्षण, पर्यावरण संरक्षण और वन क्षेत्र को बढ़ाने के माध्यम से जलवायु परिवर्तन की दिशा में किए जा रहे प्रयासों में महत्वपूर्ण योगदान दे सकते हैं।

जनजातीय क्षेत्रों के विकास के लिए सरकार के प्रयास: स्वीकृत एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालयों की संख्या बढ़कर 620 हो गई है।

  • इसी प्रकार, वन धन योजना का शुभारंभ और पिछले कुछ वर्षों में न्यूनतम समर्थन मूल्य की श्रेणी में लघु वन उत्पादों (minor forest produce) की संख्या को 10 से बढ़ाकर 86 किये जाने के कदम से अनुसूचित जनजाति के लोगों को अपनी आय और आजीविका की संभावनाओं को बेहतर करने में काफी मदद मिली है।

सामयिक खबरें आर्थिकी

ओपन नेटवर्क फॉर डिजिटल कॉमर्स


जुलाई 2021 में वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के अंतर्गत उद्योग संवर्धन एवं आंतरिक व्यापार विभाग (DPIIT) ने ‘ओपन नेटवर्क फॉर डिजिटल कॉमर्स’ (Open Network for Digital Commerce project- ONDC) पर एक परियोजना शुरू की है।

उद्देश्य: किसी विशिष्ट प्लेटफॉर्म पर स्वतंत्र, खुले विनिर्देशों और खुले नेटवर्क प्रोटोकॉल का उपयोग करते हुए, ओपन-सोर्स पद्धति पर विकसित खुले नेटवर्क को बढ़ावा देना।

महत्वपूर्ण तथ्य: ONDC का कार्यान्वयन एकीकृत भुगतान इंटरफेस (यूपीआई) की तर्ज पर किया जाएगा, जो ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म द्वारा किए गए विभिन्न परिचालन पहलुओं को समान स्तर पर ला सकता है।

  • ONDC में विक्रेताओं की ऑनबोर्डिंग, विक्रेता की खोज, मूल्य की खोज और उत्पाद सूचीकरण सहित कई परिचालन पहलुओं को ओपन सोर्स बनाया जा सकता है।
  • किसी एकल या विशिष्ट ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म से स्वतंत्र ओपन-सोर्स तकनीक पर आधारित नेटवर्क के माध्यम से ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म को एकीकृत करने की परियोजना को भारतीय गुणवत्ता परिषद को सौंपा गया है।
  • ONDC से पूरी मूल्य शृंखला को डिजिटाइज करने, परिचालन का मानकीकरण करने, आपूर्तिकर्ताओं के समावेशीकरण को बढ़ावा देने, लॉजिस्टिक्स में दक्षता हासिल करने और उपभोक्ताओं के लिए मूल्य में सुधार होने की उम्मीद है।
  • ONDC को डिजाइन करने और उसे अपनाने में तेजी लाने के लिए आवश्यक उपायों पर सरकार को सलाह देने के लिए एक सलाहकार परिषद का गठन किया गया है।
  • सलाहकार परिषद के सदस्यों में शामिल होंगे- 1- आर. एस. शर्मा, सीईओ, राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण, 2- नंदन एम. नीलेकणि, इंफोसिस के गैर-कार्यकारी अध्यक्ष, 3- आदिल जैनुलभाई, अध्यक्ष, क्यूसीआई एवं क्षमता निर्माण आयोग, 4- अंजलि बंसल, संस्थापक एवं अध्यक्ष, अवाना कैपिटल, 5- अरविंद गुप्ता, सह-संस्थापक एवं प्रमुख, डिजिटल इंडिया फाउंडेशन, 6- सुरेश सेठी, एमडी एवं सीईओ, एनएसडीएल, 7- प्रवीण खंडेलवाल, महासचिव, सीएआईटी, 8- कुमार राजगोपालन, सीईओ, रिटेलर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया, 9- दिलीप अस्बे, एमडी एवं सीईओ, एनपीसीआई।

सामयिक खबरें राष्ट्रीय

‘निपुण’ भारत मिशन


शिक्षा मंत्रालय द्वारा 5 जुलाई, 2021 को बेहतर समझ और संख्यात्मक गणना कौशल के साथ पढ़ाई में प्रवीणता के लिए राष्ट्रीय पहल ‘निपुण’ (National Initiative for Proficiency in Reading with Understanding and Numeracy- NIPUN) भारत मिशन की शुरुआत की गई।

उद्देश्य: शिक्षा का एक ऐसा वातावरण तैयार करना, जिसमें बुनियादी साक्षरता और संख्या ज्ञान की नींव तैयार हो सके, जिससे प्रत्येक बच्चा 2026-27 तक ग्रेड 3 की पढ़ाई पूरी करने पर पढ़ाई, लिखाई और अंकगणित में जरूरी निपुणता हासिल कर सके।

महत्वपूर्ण तथ्य: निपुण भारत को स्कूल शिक्षा और साक्षरता विभाग द्वारा लागू किया जाएगा।

  • केंद्र द्वारा प्रायोजित ‘समग्र शिक्षा’ योजना के तहत सभी राज्यों और केंद्र-शासित प्रदेशों में राष्ट्रीय - राज्य - जिला - ब्लॉक - स्कूल स्तर पर एक पांच स्तरीय क्रियान्वन तंत्र स्थापित किया जाएगा।
  • तीन मौजूदा योजनाओं सर्व शिक्षा अभियान (SSA), राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा अभियान (RMSA) और शिक्षक शिक्षा (Teacher Education) को शामिल करते हुए 'समग्र शिक्षा' कार्यक्रम शुरू किया गया था। इस योजना का उद्देश्य स्कूली शिक्षा को पूर्व-विद्यालय से बारहवीं कक्षा तक समग्र रूप से सुनिश्चित करना है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप नियुक्ति

आठ राज्यों में राज्यपालों की नियुक्ति


राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 6 जुलाई, 2021 को आठ राज्यों के राज्यपाल नियुक्त किए।

  • ‘थावरचंद गहलोत’ को ‘कर्नाटक’ का राज्यपाल नियुक्त किया गया है। वे इससे पहले केंद्रीय सामाजिक आधिकारिता मंत्रालय का कार्यभार देख रहे थे।
  • विशाखापत्तनम से पूर्व लोक सभा सदस्य ‘डॉ. हरि बाबू कंभमपति’ को ‘मिजोरम’, गुजरात से बीजेपी नेता ‘मंगूभाई छगनभाई पटेल’ को ‘मध्य प्रदेश’ तथा गोवा विधान सभा के पूर्व अध्यक्ष ‘राजेंद्र विश्वनाथ अर्लेकर’ को ‘हिमाचल प्रदेश’ का राज्यपाल नियुक्त किया गया है।
  • मिजोरम के राज्यपाल ‘पी.एस. श्रीधरन पिल्लई’ का तबादला करके ‘गोवा’ का राज्यपाल नियुक्त किया गया है।
  • हरियाणा के राज्यपाल ‘सत्यदेव नारायण आर्य’ का तबादला करके ‘त्रिपुरा’ का राज्यपाल नियुक्त किया गया है।
  • त्रिपुरा के राज्यपाल ‘रमेश बैस’ का तबादला करके ‘झारखंड’ का राज्यपाल नियुक्त किया गया है।
  • हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल ‘बंडारू दत्तात्रेय’ का तबादला करके ‘हरियाणा’ का राज्यपाल नियुक्त किया गया है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप अभियान/सम्मेलन/आयोजन

को-विन ग्लोबल कॉन्क्लेव


प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 5 जुलाई, 2021 'को-विन ग्लोबल कॉन्क्लेव' (Co-WIN Global Conclave) का उद्घाटन किया।

उद्देश्य: एक डिजिटल सार्वजनिक हित के रूप में को-विन प्लेटफॉर्म को विश्व के सामने प्रस्तुत करना।

  • ग्लोबल कॉन्क्लेव का आयोजन स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय, विदेश मंत्रालय और राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण द्वारा संयुक्त रूप से किया गया था।
  • स्वदेशी रूप से विकसित को-विन प्लेटफॉर्म को 142 देशों के प्रौद्योगिकी एवं स्वास्थ्य विशेषज्ञों के सामने प्रस्तुत किया गया।
  • कोविन प्लेटफॉर्म को सभी देशों के लिए उपलब्ध होने वाला ओपन सोर्स बनाया जा रहा है।
  • ‘एक धरती, एक स्वास्थ्य’ ('One Earth, One Health): प्रधानमंत्री ने भारत की मानवीय नीति के मार्गदर्शी सिद्धांत की व्याख्या की।
  • को-विन प्लेटफार्म कोविड-19 के खिलाफ विश्व के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान को कार्यान्वित करने के लिए भारत में अग्रणी आईटी विशेषज्ञों द्वारा विकसित दुनिया में अपनी तरह का पहला सॉफ्टवेयर/ऐप है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप समझौते/संधि

पर्यटन मंत्रालय और यात्रा डॉट कॉम में समझौता


भारत सरकार के पर्यटन मंत्रालय ने भारत के आतिथ्य और पर्यटन उद्योग को मजबूत बनाने के लिए 2 जुलाई, 2021 को यात्रा डॉट कॉम (Yatra.com) के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए।

  • समझौता ज्ञापन का प्राथमिक उद्देश्य उन आवासीय इकाइयों (accommodation units) को विस्तृत दृश्यता प्रदान करना है, जिन्होंने खुद को ऑनलाइन ट्रैवल एजेंसी (ओटीए) प्लेटफॉर्म पर ‘साथी’ (System for Assessment, Awareness & Training for the Hospitality Industry- SAATHI) पर स्वयं को प्रमाणित किया है।
  • समझौता ज्ञापन दोनों पक्षों को ‘निधि’ (National Integrated Database of Hospitality Industry- NIDHI) और ‘साथी’ पर पंजीकरण करने के लिए इकाइयों को प्रोत्साहित करने और कोविड-19को फैलने से रोकने के लिए उचित सुरक्षा उपायों के साथ स्थानीय पर्यटन उद्योग को बढ़ावा देने को भी रेखांकित करता है।

राज्य समाचार दिल्ली

मुख्यमंत्री कोविड-19 परिवार आर्थिक सहायता योजना


दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 6 जुलाई, 2021 को कोविड-19 से अपने परिजनों को खोने वाले परिवारों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए एक सामाजिक सुरक्षा योजना और एक पोर्टल की शुरुआत की।

  • 'मुख्यमंत्री कोविड-19 परिवार आर्थिक सहायता योजना' के तहत कोविड-19 से अपने परिजन को खोने वाले प्रत्येक परिवार को 50,000 रुपये की अनुग्रह राशि दी जाएगी।
  • इसके अलावा अगर मृतक व्यक्ति परिवार में एकमात्र कमाने वाला था तो उसके परिवार को मासिक 2,500 रुपये की अतिरिक्त मदद दी जाएगी।
  • एक पोर्टल भी शुरू किया गया है, जिसके माध्यम से ऐसे लोग वित्तीय सहायता के लिए आवेदन कर सकते हैं। सरकार के प्रतिनिधि भी ऐसे परिवारों का दौरा करेंगे और आवेदन भरवाएंगे।

संक्षिप्त खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

आईडीएफसी फर्स्ट बैंक 'घर घर राशन कार्यक्रम'


आईडीएफसी फर्स्ट बैंक ने जून 2021 में अपने कम आय वाले उन ग्राहकों के लिए एक कर्मचारी-वित्त पोषित कार्यक्रम 'घर घर राशन कार्यक्रम' शुरू करने की घोषणा की है, जिनकी आजीविका कोविड-19 से प्रभावित हुई है।

  • 'घर घर राशन' कार्यक्रम हेतु कर्मचारियों ने अपनी व्यक्तिगत आय से एक दिन से लेकर एक महीने तक के वेतन का योगदान दिया है।
  • इस कार्यक्रम में ऐसे 50,000 कम आय वाले ग्राहकों को 1 माह की राशन किट की आपूर्ति की जा रही है।
  • ‘आईडीएफसी फर्स्ट बैंक’ की स्थापना 18 दिसंबर, 2018 को तत्कालीन ‘आईडीएफसी बैंक’ और तत्कालीन ‘कैपिटल फर्स्ट’ (Capital First) के विलय से हुई थी। आईडीएफसी फर्स्ट बैंक के एमडी और सीईओ वी वैद्यनाथन हैं।
  • 2014 में, भारतीय रिजर्व बैंक ने निजी क्षेत्र में एक नया बैंक स्थापित करने के लिए आईडीएफसी लिमिटेड को सैद्धांतिक मंजूरी दी थी। आईडीएफसी बैंक ने 2015 में परिचालन शुरू किया था।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

आयुष क्षेत्र पर पांच महत्वपूर्ण पोर्टल


आयुष मंत्रालय द्वारा 5 जुलाई, 2021 को भारतीय परंपरागत चिकित्सा पद्धति के तहत शोध, चिकित्सा शिक्षा से संबंधित पांच महत्वपूर्ण पोर्टल लॉन्च किये गए।

सीटीआरआई में आयुर्वेद डेटासेट: ‘क्लीनिकल ट्रायल रजिस्ट्री-इंडिया- सीटीआरआई’ (Clinical Trial Registry of India- CTRI) विश्व स्वास्थ्य संगठन के इंटरनेशनल क्लीनिकल ट्रायल्स रजिस्ट्री प्लेटफॉर्म के तहत तैयार किया गया क्लीनिकल ट्रायलों (नैदानिक परीक्षणों) का प्राथमिक रजिस्टर है।

  • सीटीआरआई में शामिल हुए आयुर्वेदिक डेटासेट से आयुर्वेद के क्षेत्र में होने वाले क्लीनिकल ट्रायलों के लिए आयुर्वेदिक चिकित्सीय शब्दावली का प्रयोग वैश्विक स्तर पर मान्य होगा।

सीसीआरएएस- रिसर्च मैनेजमेंट इन्फॉर्मेशन सिस्टम पोर्टल: इसे आईसीएमआर की मदद से केंद्रीय आयुर्वेदीय विज्ञान अनुसंधान परिषद- सीसीआरएएस (Central Council for Research in Ayurvedic Sciences- CCRAS) द्वारा विकसित किया गया है।

  • इस पोर्टल के माध्यम से अनुभवी वैज्ञानिकों, आयुर्वेद के चिकित्सकों द्वारा छात्रों/शोधार्थियों को निःशुल्क अनुसंधान मार्गदर्शन उपलब्ध होगा।

-मेधा पोर्टल: ‘ई-मेधा पोर्टल’ (electronic Medical Heritage Accession Portal- E-Medha) में नेशनल इन्फार्मेटिक्स सेंटर (NIC) के ई-ग्रंथालय प्लेटफार्म में संग्रहीत 12000 से भी अधिक भारतीय चिकित्सीय विरासत संबंधी पांडुलिपियों और पुस्तकों का कैटलॉग ऑनलाइन उपलब्ध होगा।

अमर पोर्टल: ‘अमर पोर्टल’ (Ayush Manuscripts Advanced Repository- AMAR) एक डिजिटल डैशबोर्ड है, जिसमें आयुर्वेद, योग, यूनानी, सिद्ध और सोवा-रिग्पा से जुड़ी पांडुलिपियों के देश-दुनिया में मौजूद खजाने के बारे में जानकारी मौजूद रहेगी।

शाई पोर्टल: ‘शाई पोर्टल’ (Showcase of Ayurveda Historical Imprints- SHAI) में पुरातत्व-वानस्पतिक जानकारियों, शिलालेखों पर मौजूद उत्कीर्णनों और उच्च स्तरीय पुरातात्विक अध्ययनों की मदद से आयुर्वेद की ऐतिहासिकता के प्रमाण दुनिया के सामने आते रहेंगे।

सामयिक खबरें पर्यावरण

पश्चिमी घाट में दर्ज की गई घोंघे की नई प्रजाति


'यूरोपियन जर्नल ऑफ टैक्सोनॉमी' (European Journal of Taxonomy) में प्रकाशित शोध के अनुसार पश्चिमी घाट में घोंघे की एक नई प्रजाति 'रात्रिचर अर्ध स्लग' (nocturnal semi slug) की पहचान की गई है, जो विज्ञान के लिए नई है।

महत्वपूर्ण तथ्य: इसका नाम 'वरदिया अंबोलेंसिस' (Varadia amboliensis) है, जो चमकदार भूरा या भूरा सफेद तथा गहरे अनियमित काले धब्बेदार त्वचा के साथ अधिकतम 6.9 सेमी लंबा है।

  • इस नई भू- प्रजाति का नाम भारतीय सरीसृप विज्ञानी 'वरद गिरि' के नाम पर सरीसृप के अध्ययन और संरक्षण में उनके परिवर्तनकारी योगदान के लिए रखा गया है, जबकि प्रजाति का नाम 'अंबोलेंसिस' महाराष्ट्र के सिंधुदुर्ग जिले के अंबोली क्षेत्र को संदर्भित करता है।
  • अर्ध-स्लग के खोल (shell) शरीर की तुलना में अपेक्षाकृत छोटे होते हैं, खोल अक्सर आंशिक रूप से या लगभग पूरी तरह से घोंघे की त्वचा 'मेंटल' (mantle) के विस्तार से ढके होते हैं।
  • अर्ध-स्लग उत्तरी और मध्य पश्चिमी घाट में स्थानिक है और मुख्य रूप से प्राकृतिक वनों में पाया जाता है।
  • यह रात में सबसे अधिक सक्रिय होता है और महाराष्ट्र, गोवा और कर्नाटक के कुछ ही इलाकों में पाया जाता है।

सामयिक खबरें पर्यावरण

भारत में दर्ज नई पौधे की प्रजाति है आक्रामक खरपतवार


'इंडियन एसोसिएशन फॉर एंजियोस्पर्म टैक्सोनॉमी की पत्रिका 'रिडिया' (Rheedia) में प्रकशित एक अध्ययन के अनुसार भारत में दर्ज की गई नए पौधे की प्रजाति ‘स्ट्रोबिलैन्थेस रेप्टान्स’ (Strobilanthes reptans) कहीं और आक्रामक खरपतवार है।

महत्वपूर्ण तथ्य: इसे अरुणाचल प्रदेश के पश्चिम कामेंग जिले के टिपी (Tipi) में खोजा गया था।

  • सजावटी प्रतीत होने वाला 'स्ट्रोबिलैन्थेस रेप्टान्स’ हिंद-प्रशांत द्वीपों में एक आक्रामक खरपतवार है।
  • यह पौधा प्रजाति औसत समुद्र तल से 150 मीटर ऊपर घास वाली पहाड़ी ढलानों पर 20 सेंटीमीटर लंबाई तक पाया गया।
  • जून से सितंबर तक गहरे रंग की शिराओं के साथ इस पर एकदम सफेद या हल्के बैंगनी फूल खिलते हैं, और जुलाई से दिसंबर तक फल देता है।
  • शोधकर्ताओं के अनुसार यह पौधा संभवतः म्यांमार, थाईलैंड, लाओस, वियतनाम, मलेशिया या श्रीलंका में खेती से पलायन कर गया होगा, जहां यह प्राकृतिक रूप से पाया गया था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

अंतरराष्ट्रीय सहकारिता दिवस


3 जुलाई

2021 का विषय/अभियान: 'एक साथ बेहतर पुनर्निर्माण' (Rebuild better together)।

महत्वपूर्ण तथ्य:यह दिवस 1923 से जुलाई के प्रथम शनिवार को मनाया जा रहा है। इस दिवस को मनाने का उद्देश्य सहकारी समितियों के बारे में जागरूकता बढ़ाना है।

राज्य समाचार दिल्ली

दिल्ली में सांपों की सूची में 8 और प्रजातियों को जोड़ा गया


दिल्ली विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं द्वारा पांच साल के व्यापक अध्ययन के बाद दिल्ली में सांपों की सूची में 8 और प्रजातियों को जोड़ा गया है।

  • आठ प्रजातियों को शामिल करने के साथ, दिल्ली में दर्ज सांपों की प्रजातियों की संख्या बढ़कर 23 हो गई है।
  • इसने ‘फौना ऑफ डेल्ही' (Fauna of Delhi) नामक पुस्तक में उल्लिखित सूची को अपडेट किया है, जिसका व्यापक रूप से दिल्ली की मूल प्रजातियों को ट्रैक करने के लिए उपयोग किया जाता है।
  • यह अध्ययन दिल्ली विश्वविद्यालय में पर्यावरण अध्ययन विभाग के शोधकर्ता गौरव बरहदिया द्वारा किया गया था।
  • अध्ययन में 23 प्रजातियों और नौ परिवारों में कुल 329 सांप दर्ज किए गए।
  • शामिल सांप की नई प्रजातियाँ- कॉमन ब्रोंजबैक ट्री स्नेक (common bronzeback tree snake), कॉमन कैट स्नेक (common cat snake), कॉमन ट्रिंकेट स्नेक (common trinket snake), कॉमन कुकरी (common kukri), कॉमन सैंड बोआ (common sandboa), बैरड वुल्फ स्नेक (barred wolf snake), स्ट्रीक्ड कुकरी (streaked kukri) और सॉ-स्केल्ड वाइपर (saw-scaled viper) हैं।

खेल समाचार विविध

वाको इंडिया किकबॉक्सिंग फेडरेशन


2 जुलाई, 20 21को युवा कार्यक्रम और खेल मंत्रालय ने भारत में किकबॉक्सिंग खेल के प्रचार और विकास के लिए ‘वाको इंडिया किकबॉक्सिंग फेडरेशन’ (WAKO India Kickboxing Federation) को राष्ट्रीय खेल महासंघ के रूप में मान्यता प्रदान करने का निर्णय लिया है।

  • वाको इंडिया किकबॉक्सिंग फेडरेशन ‘वर्ल्ड एसोसिएशन ऑफ किकबॉक्सिंग ऑर्गनाइजेशन्स’-वाको (World Association of Kickboxing Organizations- WAKO) से संबद्ध है, जो कि किकबॉक्सिंग खेल के लिए अंतरराष्ट्रीय महासंघ है।
  • अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (IOC) के कार्यकारी बोर्ड ने 10 जून, 2021 को अपनी बैठक में वाको को खेल के ओलंपिक परिवार का पूर्ण रूप से मान्यता प्राप्त सदस्य बनने की सिफारिश को स्वीकृति दे दी है।
  • वाको 30 नवंबर, 2018 से IOC का अस्थायी रूप से मान्यता प्राप्त सदस्य है। वाको की पूर्ण मान्यता अंतिम रूप से जुलाई 2021 में टोक्यो में आईओसी सत्र के दौरान तय की जाएगी।

संक्षिप्त खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

इंडियन बैंक व्यवसाय परामर्श कार्यक्रम 'एमएसएमई प्रेरणा'


इंडियन बैंक ने 28 जून, 2021 को महाराष्ट्र राज्य में अपना प्रमुख व्यवसाय परामर्श कार्यक्रम Business Mentoring Program) 'एमएसएमई प्रेरणा' (MSME Prerana) लॉन्च किया।

  • एमएसएमई उद्यमियों की प्रबंधकीय और वित्तीय क्षमताओं को विकसित करने के उद्देश्य से 'एमएसएमई प्रेरणा' पहल शुरू की गई है। यह कार्यक्रम नागपुर से शुरू होगा और उसके बाद महाराष्ट्र के अन्य महत्वपूर्ण शहरों में शुरू किया जाएगा।
  • इंडियन बैंक अपने 20 लाख एमएसएमई को 70,180 करोड़ रुपये से अधिक के क्रेडिट जोखिम के साथ वित्तीय सहायता प्रदान कर रहा है।
  • इंडियन बैंक एक भारत सरकार के स्वामित्व वाला बैंक है। इसकी स्थापना 1907 में हुई थी और इसका मुख्यालय चेन्नई में है। इलाहबाद बैंक के इंडियन बैंक में विलय के बाद 1 अप्रैल, 2020 से विलय इकाई का परिचालन शुरू हुआ है।

संक्षिप्त खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

आईसीआईसीआई स्टैक फॉर कॉरपोरेट्स


आईसीआईसीआई बैंक ने 16 जून, 2021 को 'आईसीआईसीआई स्टैक फॉर कॉरपोरेट्स' (ICICI STACK for Corporates) लॉन्च किया।

  • यह कॉरपोरेट्स और प्रमोटरों, समूह कंपनियों, कर्मचारियों, डीलरों, विक्रेताओं और अन्य सभी हितधारकों सहित उनके पूरे ईकोसिस्टम के लिए डिजिटल बैंकिंग समाधानों का एक व्यापक सेट है।
  • यह 15 से अधिक प्रमुख उद्योगों और उनके पूरे ईकोसिस्टम- जैसे वित्तीय सेवाओं, आईटी / आईटीईएस, फार्मास्यूटिकल्स, स्टील आदि में कंपनियों को अनुकूलित डिजिटल बैंकिंग सेवाएं प्रदान करता है।
  • आईसीआईसीआई बैंक ने आठ ईकोसिस्टम शाखाएं लॉन्च की हैं- पांच मुंबई में और तीन दिल्ली एनसीआर में। इस वित्तीय वर्ष में इसकी और चार ऐसी शाखाएं लॉन्च करने की योजना है।

संक्षिप्त खबरें बिजनेस और सार्वजनिक उपक्रम

जेरेमी केसल ट्विटर के भारत के लिए नये शिकायत अधिकारी नियुक्त


ट्विटर ने अपने वैश्विक कानूनी नीति निदेशक अमेरिकी जेरेमी केसल को भारत में यूजर्स के लिए नया शिकायत अधिकारी (grievance officer) नियुक्त किया है।

  • केसल की नियुक्ति ऐसे समय में हो रही है जब 23 मई से लागू हुए नए आईटी नियमों को लेकर माइक्रो-ब्लॉगिंग कंपनी ट्विटर की केंद्र सरकार के साथ अनबन चल रही है।
  • मार्च 2006 में स्थापित ट्विटर एक अमेरिकी माइक्रोब्लॉगिंग और सोशल नेटवर्किंग सेवा है। ट्विटर के सीईओ जैक डोर्सी हैं।

संक्षिप्त खबरें संस्थान-संगठन

समुद्री राज्य विकास परिषद


केंद्रीय पत्तन, पोत परिवहन और जलमार्ग राज्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने 24 जून, 2021 को ‘समुद्री राज्य विकास परिषद’ (Maritime State Development Council- MSDC) की 18वीं बैठक की अध्यक्षता की।

  • MSDC समुद्री क्षेत्र के विकास के लिए एक शीर्ष सलाहकार निकाय है और इसका उद्देश्य प्रमुख और गैर-प्रमुख बंदरगाहों के एकीकृत विकास को सुनिश्चित करना है।
  • इसका गठन मई 1997 में राज्य सरकारों के परामर्श से संबंधित समुद्री राज्यों द्वारा या तो सीधे या कैप्टिव यूजर और निजी भागीदारी के माध्यम से मौजूदा और नए छोटे बंदरगाहों के भविष्य के विकास का आकलन करने के लिए किया गया था।
  • इसके अलावा, MSDC समुद्री राज्यों में छोटे बंदरगाहों, कैप्टिव बंदरगाहों (captive ports) और निजी बंदरगाहों के विकास की निगरानी भी करता है।

संक्षिप्त खबरें इन्हें भी जानें

नेशेर रामला होमो


तेल अवीव विश्वविद्यालय और जेरूसलम के हिब्रू विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने लगभग 1,40,000 और 1,20,000 साल पहले के एक नए प्रकार के प्रारंभिक मानव ‘नेशेर रामला होमो’ (Nesher Ramla Homo) की पहचान की है।

  • नेशर रामला मानव 'निएंडरथल' (विशेष रूप से दांत और जबड़े) और 'पुरातन होमो' (विशेष रूप से खोपड़ी) दोनों के साथ विशेषताओं को साझा करता है।
  • साथ ही, इस प्रकार का मानव आधुनिक मानवों से बहुत अलग है, क्योंकि यह पूरी तरह से अलग खोपड़ी संरचना, बहुत बड़े दांत और बिना ठुड्डी की मुखाकृति को प्रदर्शित करता है।
  • नेशेर रामला होमो का नाम तेल अवीव के दक्षिण-पूर्वी स्थल 'नेशेर रामला' के नाम पर रखा गया है, जहाँ यह पाया गया था। शोध के अनुसार यह शायद हमारी प्रजाति, होमो सेपियन्स के साथ 1,00,000 से अधिक वर्षों तक रहा हो।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

फ्रेट स्मार्ट सिटीज


वाणिज्य मंत्रालय के लॉजिस्टिक प्रभाग ने 2 जुलाई, 2021 को 'फ्रेट स्मार्ट सिटीज' (Freight Smart Cities) पहल के लिये योजना (plan) का अनावरण किया।

उद्देश्य: शहरी माल ढुलाई दक्षता में सुधार और लॉजिस्टिक लागत में कमी के अवसर तैयार करना।

लॉजिस्टिक्स समितियां: फ्रेट स्मार्ट सिटीज पहल के तहत शहर स्तर पर ‘लॉजिस्टिक्स समितियों’ का गठन किया जायेगा।

  • इन समितियों में सरकारी विभाग और स्थानीय स्तर की एजेंसियां, राज्य, प्रतिक्रिया देने वाले केंद्रीय मंत्रालय और एजेंसियां, लॉजिस्टिक्स सेवाओं से जुड़ा ‘निजी क्षेत्र’ और ‘लॉजिस्टिक्स सेवाओं के उपयोगकर्ता’ शामिल होंगे।
  • ये समितियां स्थानीय स्तर पर ‘प्रदर्शन सुधार उपायों’ को लागू करने के लिए मिल जुल कर ‘शहर की लॉजिस्टिक्स’ योजनाओं को तैयार करेंगी।

क्यों आवश्यकता? वर्तमान में भारतीय शहरों में ‘अंतिम चरण में माल ढुलाई गतिविधियों’ (Final-mile freight movement) की लागत भारत की बढ़ती ई-कॉमर्स आपूर्ति शृंखला की कुल लागत का 50% है।

  • शहरी माल ढुलाई की मांग अगले 10 वर्षों में 140 प्रतिशत बढ़ने की उम्मीद है।

कवर किये जाने वाले शहर: तत्काल आधार पर पहचाने जाने वाले दस शहरों से लेकर, अगले चरण में सूची को 75 शहरों तक विस्तारित करने की योजना है।

  • इसके बाद इसका विस्तार पूरे देश में किया जायेगा, जिसमें सभी ‘राज्यों की राजधानी’ और ‘दस लाख से अधिक आबादी वाले शहर’ शामिल होंगे।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

‘बोल्ड’ परियोजना


सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय के तहत एक शीर्ष संगठन खादी और ग्रामोद्योग आयोग (KVIC) ने मरुस्थलीकरण को कम करने और राजस्थान में जनजातियों की आय और बांस आधारित अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए 4 जुलाई, 2021 को अनोखी परियोजना ‘बोल्ड’ (सूखे भू-क्षेत्र पर बांस मरु-उद्यान) (Bamboo Oasis on Lands in Drought- BOLD) शुरू की है।

उद्देश्य: शुष्क व अर्द्ध-शुष्क भूमि क्षेत्रों में ‘बांस-आधारित हरित पट्टी’ (bamboo-based green patches) बनाना।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह अनूठी परियोजना राजस्थान के उदयपुर जिले के निचला मांडवा (Nichla Mandwa) के आदिवासी गांव में शुरू की जाने वाली देश में अपनी तरह की पहली परियोजना है।

  • इसके लिए विशेष रूप से असम से लाए गए बांस की विशेष प्रजातियों- ‘बंबुसा टुल्डा’ (BambusaTulda) और ‘बंबुसा पॉलीमोर्फा’ (Bambusa Polymorpha) के 5,000 पौधों को ग्राम पंचायत की 25 बीघा (लगभग 16 एकड़) खाली शुष्क भूमि पर रोपा गया।
  • इस तरह खादी और ग्रामोद्योग आयोग ने एक ही स्थान पर एक ही दिन में सर्वाधिक संख्या में बांस के पौधे लगाने का विश्व रिकॉर्ड बनाया है।
  • बोल्ड परियोजना देश में ‘भूमि अपरदन को कम करने’ व ‘मरुस्थलीकरण को रोकने’ के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आह्वान के अनुरूप है।
  • खादी और ग्रामोद्योग आयोग अगस्त 2021 तक गुजरात के अहमदाबाद जिले के ‘धोलेरा गांव’ और लेह-लद्दाख में भी इसी तरह की परियोजना शुरू करने वाला है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप विविध

प्रौद्योगिकी नवाचार मंच


केंद्रीय भारी उद्योग एवं लोक उद्यम मंत्री प्रकाश जावडेकर ने 2 जुलाई, 2021 को छ: प्रौद्योगिकी नवाचार मंचों (Technology innovation platforms) का उद्घाटन किया।

  • छ: प्रौद्योगिकी मंचों का विकास आईआईटी मद्रास, सेंट्रल मैन्युफैक्चरिंग टैक्नोलॉजी इंस्टीटयूट, इंटरनेशनल सेंटर फॉर ऑटोमोटिव टेक्नोलॉजी (आईसीएटी), ऑटोमोटिव रिसर्च असोसिएशन ऑफ इंडिया, भेल और आईआईएससी बैंगलुरू के साथ एचएमटी ने किया है।
  • यह मंच भारत में विश्वस्तरीय प्रतियोगी विनिर्माण के लिए तकनीकी के विकास पर ध्यान केंद्रित करेंगे।
  • यह मंच उद्योग, स्टार्टअप, डोमेन विशेषज्ञ/पेशेवरों, अनुसंधान और विकास संस्थानों और शिक्षाविदों (कॉलेज और विश्वविद्यालयों) को विनिर्माण तकनीकी के मुद्दों पर तकनीकी समाधान, सुझाव, विशेषज्ञों की राय आदि सुविधा प्रदान करेंगे।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

चार्टर्ड एकाउंटेंट्स दिवस


1 जुलाई

महत्वपूर्ण तथ्य: 1 जुलाई, 1949 को इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (ICAI) के गठन का जश्न मनाने के लिए यह दिवस मनाया जाता है। ICAI भारत का राष्ट्रीय पेशेवर लेखा निकाय है। ICAI भारत में वित्तीय लेखा परीक्षा और लेखा पेशे का एकमात्र लाइसेंसिंग सह विनियमन निकाय है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

राष्ट्रीय चिकित्सक दिवस


1 जुलाई

2021 का विषय/अभियान: 'सेव द सेवियर्स' (Save The Saviours)।

महत्वपूर्ण तथ्य:इस दिवस को मनाने का मुख्य उद्देश्य डॅाक्टरों को उनके अमूल्य योगदान के लिए सम्मान देना है। पहली बार यह दिवस 1991 में मनाया गया था। 1 जुलाई को देश के महान चिकित्सक और पश्चिम बंगाल के दूसरे मुख्यमंत्री डॉक्टर बिधान चंद्र रॉय का जन्मदिन और पुण्यतिथि है।

सामयिक खबरें राज्य

पुष्कर सिंह धामी ने उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली


उत्तराखंड के खटीमा से दो बार के विधायक पुष्कर सिंह धामी ने 4 जुलाई, 2021 को देहरादून में 11 सदस्यीय कैबिनेट के साथ राज्य के 11वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली।

  • ज्ञात हो कि तीरथ सिंह रावत ने पदभार ग्रहण करने की तारीख से छ: माह की संवैधानिक रूप से निर्धारित समय सीमा के भीतर उत्तराखंड विधान सभा के लिए निर्वाचित होने में असमर्थ होने के कारण 3 जुलाई को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था।
  • 16 सितंबर, 1975 को पिथौरागढ़ जिले के टुंडी गांव में जन्मे 45 वर्षीय धामी, उत्तराखंड के अब तक के सबसे कम उम्र के मुख्यमंत्री हैं।
  • धामी ने अपने पूर्ववर्ती तीरथ सिंह रावत मंत्रिमंडल के सभी मंत्रियों को बरकरार रखते हुए धन सिंह रावत, रेखा आर्य और यतीश्वरानंद को राज्य मंत्री से कैबिनेट रैंक में पदोन्नत किया है।
  • धामी उधमसिंह नगर जिले के खटीमा निर्वाचन क्षेत्र से पहली बार 2012 में और दूसरी बार 2017 में विधायक चुने गए थे।
  • धामी 1990 से 1999 तक एबीवीपी छात्र संगठन से जुड़े रहे। बाद में वे 2002 से 2008 तक दो बार उत्तराखंड के भाजपा युवा मोर्चा के अध्यक्ष भी रहे।

संक्षिप्त खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

इंडसइंड बैंक ने लॉन्च किया 'इंडसईजी क्रेडिट'


'इंडसइंड बैंक' (IndusInd Bank) ने 17 जून, 2021 को 'इंडसईजी क्रेडिट' (IndusEasy Credit) लॉन्च करने की घोषणा की।

  • यह एक व्यापक डिजिटल ऋण सुविधा प्लेटफॉर्म (Digital lending platform) है, जो ग्राहकों को उनके घरों पर आराम से उनकी वित्तीय आवश्यकताओं को पूरा करने में सक्षम बनाता है।
  • इसके साथ, मौजूदा और गैर-इंडसइंड बैंक ग्राहक पूरी तरह से पेपरलेस और डिजिटल तरीके से एक ही प्लेटफॉर्म पर तुरंत व्यक्तिगत ऋण या क्रेडिट कार्ड प्राप्त कर सकते हैं।
  • इंडसइंड बैंक लिमिटेड भारत में नई पीढ़ी के निजी क्षेत्र के बैंकों में से एक है। श्रीचंद पी हिंदुजा द्वारा 1994 में स्थापित इंडसइंड बैंक का मुख्यालय पुणे में स्थित है।

संक्षिप्त खबरें बिजनेस और सार्वजनिक उपक्रम

संजीव नंदन सहाय की पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस नियामक बोर्ड के अध्यक्ष पद पर नियुक्ति की मंजूरी


जून 2021 में सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी एवं पूर्व बिजली सचिव संजीव नंदन सहाय की पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस नियामक बोर्ड (PNGRB) के नए अध्यक्ष पद पर नियुक्ति को मंजूरी दे दी गई है।

  • नीति आयोग के सदस्य (विज्ञान एवं प्रद्योगिकी) वी.के. सारस्वत की अध्यक्षता में गठित सर्च कमेटी ने उनके नाम को मंजूरी दी है। उनकी नियुक्ति मंत्रिमंडल की नियुक्ति समिति के मंजूरी के अधीन है। इस पद पर वे दिनेश के. सर्राफ का स्थान लेंगे।
  • PNGRBका गठन पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस नियामक बोर्ड अधिनियम‚ 2006के तहत 31मार्च‚ 2006को हुआ था। इसका मुख्यालय नई दिल्ली में है।

संक्षिप्त खबरें संस्थान-संगठन

अंतरराष्ट्रीय श्रम संगठन


श्रम एवं रोजगार मंत्रालय में सचिव अपूर्व चंद्रा ने अंतरराष्ट्रीय श्रम संगठन (International Labour Organisation- ILO) के शासी निकाय के अध्यक्ष के रूप में अक्टूबर 2020 - जून 2021 की अवधि तक पद धारण करने के बाद 25 जून, 2021 को अपना कार्यकाल पूरा किया।

  • संयुक्त राष्ट्र की एकमात्र त्रिपक्षीय संस्था अंतरराष्ट्रीय श्रम संगठन, श्रम मानक निर्धारित करने, नीतियां विकसित करने एवं सभी महिलाओं तथा पुरुषों के लिये सभ्य कार्य को बढ़ावा देने वाले कार्यक्रम तैयार करने हेतु 187 सदस्य देशों की सरकारों, नियोक्ताओं और श्रमिक प्रतिनिधियों को एक साथ लाता है।
  • इसे 1919में वर्साय की संधि (Treaty of Versailles) के हिस्से के रूप में स्थापित किया गया था, जिसने प्रथम विश्व युद्ध को समाप्त किया था।
  • ILO सामाजिक न्याय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मान्यता प्राप्त मानव और श्रम अधिकारों को बढ़ावा देने के लिए समर्पित है।
  • भारत, ILO का एक संस्थापक सदस्य है तथा 1922से ILO शासी निकाय का स्थायी सदस्य रहा है।
  • इसका मुख्यालय जिनेवा, स्विट्जरलैंड में है। गाय राइडर ILO के महानिदेशक हैं।

संक्षिप्त खबरें संस्थान-संगठन

बागान श्रम अधिनियम, 1951


देश में चाय और कॉफी बागानों में काम करने वाले श्रमिकों की कार्यदशा और कल्याणकारी उपाय बागान श्रम अधिनियम, 1951 (Plantation Labour Act, 1951) द्वारा शासित होते हैं।

  • अधिनियम में नियोक्ताओं को महिलाओं सहित श्रमिकों को आवास, चिकित्सा सुविधाएं, बीमारी और मातृत्व लाभ और सामाजिक सुरक्षा उपायों के अन्य रूपों को उपलब्ध कराने के आवश्यक प्रावधान हैं।
  • चाय और कॉफी बागानों में कार्य स्थलों और उसके आस-पास चाय बागान श्रमिकों और उनके परिवारों के लाभ के लिए बच्चों के लिए शैक्षणिक सुविधा, पेयजल, परिरक्षण, कैंटीन, शिशु-गृह और मनोरंजन सुविधाओं हेतु भी प्रावधान हैं।

संक्षिप्त खबरें इन्हें भी जानें

कोविड -19 का डेल्टा प्लस वेरिएंट


डेल्टा वेरिएंट, या 'बी.1.617.2' (B.1.617.2) कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर के लिए काफी हद तक जिम्मेदार रहा है और इसे पहली बार भारत में पहचाना गया था। तब से यह वेरिएंट B.1.617.2.1/ AY.1 और AY.2 में म्यूटेट (mutate) हो गया है।

  • डेल्टा द्वारा स्पाइक प्रोटीन (spike protein) में K417N नामक उत्परिवर्तन अधिग्रहण के परिणामस्वरूप डेल्टा प्लस वेरिएंट बना है।
  • K417N उत्परिवर्तन, AY.1 और AY.2 दोनों द्वारा किया गया है, बीटा वेरिएंट या B.1.351 में भी पाया गया है, जिसे पहली बार दक्षिण अफ्रीका में दर्ज किया गया था और विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) द्वारा 'चिंता के एक प्रकार' (variant of concern) के रूप में वर्गीकृत किया गया था।
  • AY.1 सबसे आम पाया जाने वाला डेल्टा प्लस वेरिएंट है, लेकिन एक अन्य AY.2 वेरिएंट भी संयुक्त राज्य अमेरिका में पाया गया है, यह अभी तक भारत में नहीं पाया गया है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित पुस्तक

चर्चित पुस्तक


  • ‘स्टारगेजिंग: द प्लेयर्स इन माई लाइफ’ (Stargazing: the players in my life) -- रवि शास्त्री
  • 'नेहरू, तिब्बत एंड चाइना' (Nehru, Tibet and China) -- अवतार सिंह भसीन
  • 'स्पेस एंड बियोंड: प्रोफेशनल वॉयेज ऑफ के कस्तूरीरंगन' (Space and Beyond: Professional Voyage of K. Kasturirangan) -- बी एन सुरेश
  • 'ग्रोइंग अप बाइडेन: एक संस्मरण' (Growing Up Biden: A Memoir) -- वैलेरी बाइडेन ओवेन्स
  • 'विल' (Will) -- विल स्मिथ और मार्क मैनसन
  • ‘द स्वीटनेस ऑफ वाटर: एन ओपरा'ज बुक क्लब पिक' (The Sweetness of Water: An Oprah's Book Club Pick) -- नाथन हैरिस
  • 'रिपब्लिक ऑफ हिंदुत्व : हाउ द संघ इज रिशेपिंग इंडियन डेमोक्रेसी' (Republic of Hindutva: How the Sangh Is Reshaping Indian Democracy) -- बद्री नारायण

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप नियुक्ति

अब्‍दुल्‍ला शाहिद को 76वें संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा सत्र का अध्‍यक्ष चुना गया


7 जून, 2021 को मालदीव के विदेश मंत्री अब्दुल्ला शाहिद को 76वें संयुक्त राष्ट्र महासभा सत्र (2021-22) का अध्यक्ष चुना गया है। संयुक्त राष्ट्र महासभा का 76वां सत्र सितंबर 2021 में शुरू होगा।

  • 193 सदस्यों की महासभा में हुए चुनाव में कुल 191 मतों में से 143 शाहिद के पक्ष में गए, जबकि उनके प्रतिद्वंद्वी, अफगानिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री जलमई रसूल को 48 मत मिले।
  • महासभा के अध्यक्ष का चुनाव प्रत्येक वर्ष गोपनीय मतदान से होता है। बारी-बारी से क्षेत्रीय प्रतिनिधित्व दिए जाने के स्थायी नियमों के अनुसार महासभा के 76वें सत्र के लिए अध्यक्ष का चुनाव एशिया-प्रशांत देशों के समूह से होना था।
  • शाहिद तुर्की के राजनयिक वोलकन बोजकिर का स्थान लेंगे।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप पुरस्कार/सम्मान

सामाजिक विज्ञान के लिए प्रिंसेस ऑफ ऑस्टुरियस अवॉर्ड 2021


26 मई‚ 2021 को भारतीय मूल के प्रसिद्ध अर्थशास्त्री एवं नोबेल पुरस्कार विजेता प्रो. अमर्त्य सेन को स्पेन के प्रतिष्ठित ‘सामाजिक विज्ञान के लिए प्रिंसेस ऑफ ऑस्टुरियस अवॉर्ड 2021’ (Princess of Asturians Award for social Science 2021) प्रदान किए जाने की घोषणा की गई।

  • उन्हें अकाल पर उनके शोध और मानव विकास के उनके सिद्धांत, कल्याणकारी अर्थशास्त्र और गरीबी के बुनियादी तंत्र तथा अन्याय, असमानता, बीमारी और अज्ञानता के खिलाफ लड़ाई में योगदान के लिए सम्मानित किया गया।
  • यह पुरस्कार ऑस्टुरियस प्रिंसेस फाउंडेशन द्वारा प्रतिवर्ष दिया जाने वाला कला‚ साहित्य, संचार और खेल सहित 8 पुरस्कारों में से एक है।
  • यह पुरस्कार स्पेनिश क्राउन प्रिंसेस लियोनोर के नाम पर रखा गया है, इस पुरस्कार के तहत 50,000 यूरो की राशि, एक डिप्लोमा, एक प्रतीक चिन्ह प्रदान किया जाता है।
  • प्रो. अमर्त्य सेन को 1998 में अर्थशास्त्र के नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप कला/संस्कृति

डॉ. भीमराव आंबेडकर स्मारक और सांस्कृतिक केंद्र


राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 29 जून, 2021 को उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा स्थापित किये जाने वाले ‘डॉ. भीमराव आंबेडकर स्मारक और सांस्कृतिक केंद्र’ की आधारशिला रखी।

  • उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा लखनऊ स्थित ऐशबाग ईदगाह के सामने 5,493 वर्ग मीटर क्षेत्रफल में इस स्मारक एवं सांस्कृतिक केंद्र का निर्माण किया जा रहा है।
  • इस परियोजना में अंबेडकर की 25 फीट ऊंची प्रतिमा होगी और इसमें 750 व्यक्तियों की क्षमता वाला एक सभागार, एक शोध केंद्र और एक संग्रहालय शामिल होगा। इसकी अनुमानित लागत लगभग 45 करोड़ रुपये होगी।

खेल समाचार टेनिस

फ्रेंच ओपन 2021


मई - जून 2021 में फ्रेंच ओपन 2021 टेनिस टूर्नामेंट (रोलैंड गैरोस) पेरिस, फ्रांस में संपन्न हुआ।

परिणाम-

  • पुरुष एकल: विजेता- नोवाक जोकोविच (सर्बिया); उपविजेता- स्टेफानोस सितसिपास (ग्रीस)।
  • महिला एकल: विजेता- बारबोरा क्रेजसिकोवा (चेक गणराज्य); उपविजेता- अनास्तासिया पावल्युचेनकोवा (रूस)।
  • पुरुष युगल: विजेता- पियरे ह्यूगस हर्बर्ट और निकोलस माहुत (दोनों फ्रांस); उपविजेता- एलेक्जेंडर बुब्लिक और आंद्रे गोलुबेव (दोनों कजाख्स्तान)।
  • महिला युगल: विजेता- बारबोरा क्रेजसिकोवा और कैटरीना सिनियाकोवा (दोनों चेक गणराज्य);
  • उपविजेता- बेथानी माटेक-सैंड्स (अमेरिका) और इगा स्वियाटेक (पोलैंड)।
  • मिश्रित युगल: विजेता-डेसिरै क्रॉजिक (अमेरिका) और जोए सेलिसबरी (ब्रिटेन): उपविजेता- एलेना वेस्नीना और असलान करात्सेव (रूस)।

संक्षिप्त खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

डिजिटल परिवर्तन में तेजी लाने हेतु एक्सिस बैंक ने किया अमेजन वेब सर्विसेज का चयन


भारत के तीसरे सबसे बड़े निजी क्षेत्र के बैंक एक्सिस बैंक ने अपने डिजिटल रूपांतर कार्यक्रम (digital transformation program) में तेजी लाने और अपनी डिजिटल बैंकिंग सेवाओं की बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए अमेजन वेब सर्विसेज (Amazon Web Services- AWS) का चयन किया है।

  • AWS, ई-कॉमर्स दिग्गज अमेजन की क्लाउड कंप्यूटिंग शाखा है। एक्सिस बैंक लिमिटेड एक भारतीय बैंकिंग और वित्तीय सेवा कंपनी है, जिसका मुख्यालय मुंबई, महाराष्ट्र में स्थित है।

संक्षिप्त खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

कोटक महिंद्रा बैंक ने लॉन्च किया 'पे योर कॉन्टैक्ट'


'कोटक महिंद्रा बैंक' ने 23जून, 2021को 'पे योर कॉन्टैक्ट' (Pay Your Contact) लॉन्च करने की घोषणा की।

  • यह 'कोटक महिंद्रा बैंक' के मोबाइल बैंकिंग ऐप पर एक अभिनव सुविधा है, जो यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (यूपीआई) प्लेटफॉर्म का उपयोग करती है और ग्राहकों को अपने किसी भी कॉन्टैक्ट (contact) को सभी भुगतान ऐप पर केवल लाभार्थी (कॉन्टैक्ट) का मोबाइल नंबर दर्ज करके पैसे भेजने या भुगतान करने की अनुमति देती है।
  • फरवरी 2003 में कोटक महिंद्रा फाइनेंस लिमिटेड को भारतीय रिजर्व बैंक से बैंकिंग लाइसेंस प्राप्त हुआ। इसके साथ, कोटक महिंद्रा फाइनेंस लिमिटेड बैंक में परिवर्तित होने वाली भारत की पहली गैर-बैंकिंग वित्त कंपनी बन गई थी।

संक्षिप्त खबरें बिजनेस और सार्वजनिक उपक्रम

टी.वी. नरेंद्रन भारतीय उद्योग परिसंघ के नए अध्यक्ष


31 मई‚ 2021 को टाटा स्टील के सीईओ एवं एमडी टी.वी. नरेंद्रन वर्ष 2021-22 के लिए भारतीय उद्योग परिसंघ (CII) के नए अध्यक्ष चुने गए। उन्होंने कोटक महिंद्रा बैंक के एमडी एवं सीईओ उदय कोटक का स्थान लिया।

  • हीरो मोटोकॉर्प लि. के अध्यक्ष एवं एवं सीईओ पवन मुंजाल CII के उपाध्यक्ष चुने गए।
  • CIIभारत का एक गैर-सरकारी‚ गैर-लाभकारी‚ उद्योग नेतृत्व तथा उद्योग प्रबंधित संगठन है। इसकी स्थापना वर्ष 1895 में हुई थी तथा इसका मुख्यालय नई दिल्ली में है।

संक्षिप्त खबरें संस्थान-संगठन

राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान


केंद्रीय शिक्षा राज्य मंत्री संजय धोत्रे ने 21 जून, 2021 को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के अवसर पर योग विज्ञान में दो वर्षीय ‘राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान-एनआईओएस’ (National Institute of Open Schooling- NIOS) डिप्लोमा पाठ्यक्रम का शुभारंभ किया।

  • राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान (NIOS) को पूर्व में राष्ट्रीय मुक्त विद्यालय (NOS) के नाम से जाना जाता था। इसकी स्थापना शिक्षा मंत्रालय (मानव संसाधन विकास मंत्रालय), भारत सरकार द्वारा 1989 में की गई थी।
  • जुलाई 2002 में इसका नाम राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान कर दिया गया।
  • यह भारत सरकार के तहत एक शिक्षा बोर्ड है, जो माध्यमिक और उच्चतर माध्यमिक शिक्षा पाठ्यक्रम/कार्यक्रम, 14+ आयु समूह के बच्चों, किशोरों और प्रौढ़ों के लिए मुक्त बेसिक शिक्षा कार्यक्रम उपलब्ध कराता है। यह हाई स्कूल के बाद व्यावसायिक पाठ्यक्रम भी प्रदान करता है।
  • NIOS भारत और विदेशों में फैले पांच विभागों, 23 क्षेत्रीय केंद्रों, दो उप-क्षेत्रीय केंद्रों, दो NIOS प्रकोष्ठों और 7400 से अधिक अध्ययन केंद्रों के नेटवर्क के माध्यम से संचालित होता है।
  • 4.13 मिलियन (पिछले 5 वर्षों के दौरान) के संचयी नामांकन के साथ NIOS विश्व की सबसे बड़ी मुक्त विद्यालयी शिक्षा प्रणाली बन गया है।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

मातृ, किशोरावस्था और बचपन के मोटापे की रोकथाम पर राष्ट्रीय सम्मेलन


नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) डॉ. वी के पॉल की अध्यक्षता और भारतीय पोषण संस्थान की निदेशक डॉ आर हेमलता की सह-अध्यक्षता में नीति आयोग द्वारा 25 जून, 2021 को ‘मातृ, किशोरावस्था और बचपन के मोटापे की रोकथाम पर राष्ट्रीय सम्मेलन’ का आयोजन किया गया।

सम्मलेन की मुख्य बातें: मोटापे को रोकने के लिए 'खाद्य-आधारित सामाजिक सुरक्षा तंत्र' में विविधता लाने की जरूरत पर जोर दिया गया।

  • 'स्वस्थ व्यवहार' को बढ़ावा देने पर सुझाव पेश किए गए तथा 'व्यवहार परिवर्तन' और एक 'अनुकूल नीति परिदृश्य' शुरू करने की जरूरत पर जोर दिया गया।
  • शारीरिक गतिविधि, स्वस्थ भोजन और जीवन शैली को प्रोत्साहित करने के लिए बेहतर 'जन संचार' तथा ‘पैकेज के आगे के हिस्से में लेबलिंग’ को विनियमित करने पर जोर दिया गया।
  • मोटापे की दोहरी चुनौती से निपटने के लिए पूरी सरकार और पूरे समाज के दृष्टिकोण की जरूरत पर भी जोर दिया गया।

सामयिक खबरें आर्थिकी

इफको ने लॉन्च किया विश्व का पहला नैनो यूरिया लिक्विड


31 मई‚ 2021 को इंडियन फार्मर्स फर्टिलाइजर कोऑपरेटिव लिमिटेड- इफको (Indian Farmers Fertiliser Cooperative Limited- IFFCO) ने किसानों के लिए विश्व का पहला ‘नैनो यूरिया लिक्विड’ (Nano Urea Liquid) लॉन्च किया।

महत्वपूर्ण तथ्य: नैनो यूरिया लिक्विड, पारंपरिक यूरिया के विकल्प के रूप में पौधों को नाइट्रोजन प्रदान करने वाला पोषक तत्व है।

  • नैनो यूरिया लिक्विड की 500 मिलीलीटर की बोतल पारंपरिक यूरिया के कम-से कम एक बैग की जगह लेगी।
  • इफको द्वारा किसानों के लिए नैनो यूरिया की कीमत 240 रुपये प्रति 500 मिलीलीटर बोतल निर्धारित की गई है। यह पारंपरिक यूरिया के एक बैग की कीमत से 10 प्रतिशत सस्ती है।
  • इफको भारत की सबसे बड़ी सहकारी समितियों में से एक है, जो पूर्णतः भारतीय सहकारी संघ के स्वामित्व में है। इसकी स्थापना 1967 में हुई थी तथा इसका मुख्यालय नई दिल्ली में है।

सामयिक खबरें पर्यावरण

हीट डोम


कनाडा और संयुक्त राज्य अमेरिका के कुछ हिस्सों में अत्यधिक तापमान से सैकड़ों लोगों की मौत हो गई है। तापमान में अचानक वृद्धि के पीछे की वजह एक जलवायु स्थिति ‘हीट डोम’ (Heat dome) है।

महत्वपूर्ण तथ्य: नेशनल ओशनिक एंड एटमॉस्फेरिक एडमिनिस्ट्रेशन (NOAA) के अनुसार, हीट डोम की स्थिति तब होती है, जब वायुमंडल गर्म समुद्री हवा को ढक्कन या टोपी की तरह ढक लेता है।

  • हीट डोम तब शुरू होता है, जब समुद्र के तापमान में जबरदस्त बदलाव होता है। एनओएए के अनुसार, संवहन के रूप में जानी जाने वाली प्रक्रिया में, प्रवणता (gradient) अधिक गर्म हवा का कारण बनती है, जो समुद्र की सतह से गर्म होकर ऊपर की ओर उठती है।
  • वायुमंडल का उच्च दबाव गर्म हवा को नीचे की ओर धकेलता है। इसके चलते गर्म हवा वातावरण में फैलने लगती है, जिसके परिणामस्वरूप ग्रीष्म लहर (heat wave) की स्थिति पैदा होती है। एक हीट डोम आमतौर पर एक सप्ताह तक रहता है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप नियुक्ति

रेबेका ग्रिनस्पैन को अंकटाड के महासचिव के रूप में नियुक्त किया गया


कोस्टा रिका की अर्थशास्त्री रेबेका ग्रिनस्पैन को व्यापार और विकास पर संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन- अंकटाड (UNCTAD) के महासचिव पद के लिए नियुक्त किया गया है। संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 11 जून, 2021 को उनके नामांकन को मंजूरी दी।

  • वे UNCTAD का नेतृत्व करने वाली पहली महिला और मध्य अमेरिकी होंगी।
  • रेबेका ग्रिनस्पैन 2014 से इबेरो-अमेरिकन जनरल सेक्रेटेरिएट (Ibero-American General Secretariat) की महासचिव रही हैं। यह सचिवालय इबेरो-अमेरिकन शिखर सम्मेलन (Ibero-American Summits) की तैयारियों का समर्थन करता है।
  • उन्होंने 2010 से 2014 तक संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम (UNDP) के उप-प्रशासक के रूप में भी काम किया है। इसके अलावा उन्होंने लैटिन अमेरिका और कैरिबियन के लिए UNDP के क्षेत्रीय निदेशक के रूप में भी काम किया है।
  • वे 1994 से 1998 तक कोस्टा रिका की उपराष्ट्रपति भी रह चुकी हैं।
  • UNCTAD को 1964 में स्थायी अंतर सरकारी निकाय के रूप में स्थापित किया गया था। यह संयुक्त राष्ट्र सचिवालय का एक हिस्सा है जो व्यापार, निवेश और विकास संबंधी मुद्दों से संबंधित है। इसका मुख्यालय जिनेवा, स्विट्जरलैंड में स्थित है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप पुरस्कार/सम्मान

पुलित्जर पुरस्कार 2021


अंतरराष्ट्रीय रिपोर्टिंग 'बजफीड न्यूज' (BuzzFeed News) की भारतीय मूल की पत्रकार मेघा राजगोपालन को अन्य दो योगदानकर्ताओं के साथ 11 जून, 2021 को नवीन खोजी रिपोर्टों के लिए पुलित्जर पुरस्कार 2021 से सम्मानित किया गया है।

  • मेघा ने अशांत शिनजियांग क्षेत्र में सैकड़ों हजारों मुसलमानों को हिरासत में लेने के लिए चीन द्वारा गुप्त रूप से बनाए गए जेलों और सामूहिक नजरबंदी शिविरों के एक विशाल बुनियादी ढांचे को उजागर किया।
  • 'टैम्पा बे टाइम्स' के भारतीय मूल के पत्रकार नील बेदी ने स्थानीय रिपोर्टिंग के लिए पुलित्जर पुरस्कार जीता। बेदी को कैथलीन मैक्ग्रोरी के साथ एक सीरीज के लिए पुरस्कार से सम्मानित किया गया है, इसमें अधिकारियों की उस पहल को उजागर किया गया है, जिसमें भविष्य के अपराध संदिग्ध लोगों की पहचान करने के लिए कंप्यूटर मॉडलिंग का उपयोग किया गया था।

पुलित्जर पुरस्कार: पुलित्जर पुरस्कार संयुक्त राज्य अमेरिका के भीतर समाचार पत्र, पत्रिका और ऑनलाइन पत्रकारिता, साहित्य और संगीत रचना में उपलब्धियों के लिए एक पुरस्कार है। इसकी स्थापना 1917 में जोसेफ पुलित्जर की वसीयत के प्रावधानों के द्वारा की गई थी।

  • पुलित्जर पुरस्कार प्रतिवर्ष इक्कीस श्रेणियों में प्रदान किए जाते हैं। बीस श्रेणियों में, प्रत्येक विजेता को एक प्रमाण पत्र और 15,000 डॉलर नकद पुरस्कार प्रदान किया जाता है। सार्वजनिक सेवा श्रेणी में विजेता को स्वर्ण पदक से सम्मानित किया जाता है।

खेल समाचार चर्चित खेल व्यक्तित्व

न्यूजीलैंड के विकेटकीपर बी जे वाटलिंग ने कहा अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा


न्यूजीलैंड के विकेटकीपर बल्लेबाज बी जे वाटलिंग ने साउथेम्प्टन में विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल में जीत के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया।

  • वाटलिंग ने 75 टेस्ट मैचों में आठ शतकों के साथ 37.52 की औसत से 3,790 रन बनाए और 267 कैच पकड़े और आठ स्टंपिंग की। उन्होंने न्यूजीलैंड की तरफ से 28 एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच और 5 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच भी खेले।

खेल समाचार क्रिकेट

न्यूजीलैंड ने जीती पहली आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप


न्यूजीलैंड ने 23 जून, 2021 को भारत को फाइनल में हराकर पहले आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का खिताब जीत लिया है।

  • न्यूजीलैंड ने दूसरी पारी में 139 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए 8 विकेट से जीत हासिल की। भारत ने पहली पारी और दूसरी पारी में क्रमश: 217 और 170 रन बनाए, जबकि न्यूजीलैंड ने पहली पारी में 249 रन बनाए थे।
  • फाइनल मैच इंग्लैंड के साउथेम्प्टन में एजेस बाउल स्टेडियम (रोज बाउल स्टेडियम) में खेला गया बारिश के कारण नियमित 5 दिनों के स्थान पर मैच 6 दिन चला, मैच का आखिरी दिन 23 जून, 2021 को खेला गया।
  • न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज काइल जैमीसन को मैच में 7 विकेट लेने के लिए ‘प्लेयर ऑफ द मैच’ चुना गया।

विश्व टेस्ट चैंपियनशिप इनामी राशि: विश्व टेस्ट चैंपियनशिप (WTC) के फाइनल में विजेता टीम को टेस्ट गदा के साथ 16 लाख अमेरिकी डॉलर दिए गए। वहीं, उप-विजेता टीम को आठ लाख डॉलर की इनामी राशि दी गई।

  • विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के पहले आयोजन में नौ टीमों ने लगभग दो साल के चक्र में टेस्ट क्रिकेट खेला है।

संक्षिप्त खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

आईसीआईसीआई बैंक की कार्डरहित ईएमआई सुविधा


आईसीआईसीआई बैंक ने 21 जून, 2021 को ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म पर ऑनलाइन खरीदारी के लिए तत्काल 'कार्डरहित ईएमआई' सुविधा शुरू की है। यह सुविधा बैंक के लाखों पूर्व-अनुमोदित ग्राहकों के लिए खरीददारी को किफायती और आसान बनाती है।

  • यह ग्राहकों को मोबाइल फोन और पैन कार्ड का उपयोग करके कुछ ही क्लिक में समान मासिक किस्तों (ईएमआई) के माध्यम से उत्पादों या सेवाओं को तुरंत ऑनलाइन खरीदने की अनुमति देती है।
  • ग्राहक पंजीकृत मोबाइल नंबर, पैन और ओटीपी दर्ज करके 5 लाख रुपये तक के लेनदेन को आसान मासिक किश्तों में परिवर्तित कर सकते हैं।


संक्षिप्त खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

उज्जीवन स्मॉल फाइनेंस बैंक और लोनटैप साझेदारी


उज्जीवन स्मॉल फाइनेंस बैंक ने जून 2021 में वेतनभोगी पेशेवरों को व्यक्तिगत ऋण प्रदान करने के लिए डिजिटल ऋणदाता लोनटैप (LoanTap) के साथ साझेदारी की है।

  • यह उज्जीवन स्मॉल फाइनेंस बैंक की 'एपीआई बैंकिंग पहल' का हिस्सा है, जिसके माध्यम से 150 से अधिक एपीआई (Application Programming Interface) डिजिटल ऋण और डिजिटल देनदारियों, फिनटेक को भुगतान के लिए तेज और सुरक्षित गठजोड़ की पेशकश कर रहे हैं।
  • उज्जीवन स्मॉल फाइनेंस बैंक लिमिटेड बैंगलोर में स्थित एक भारतीय लघु वित्त बैंक है, जिसने 1 फरवरी, 2017 को परिचालन शुरू किया।

संक्षिप्त खबरें बिजनेस और सार्वजनिक उपक्रम

ओएनजीसी ने लॉन्च किया 'ऊर्जस्विनी'


ओएनजीसी ने 23 जून, 2021 को कपंनी की महिलाओं के लिए अनुकूलित एक डिजिटल नेतृत्व विकास मॉड्यूल 'ऊर्जस्विनी' (Urjasvini) लॉन्च किया है।

  • ओएनजीसी में नेतृत्व क्षमता वाली महिलाओं को छ: महीने की गतिविधि-आधारित अनुभव के माध्यम से वरिष्ठ नेतृत्व वाले पदों के लिए तैयार किया जाएगा।
  • इस कार्यक्रम को सोसाइटी ऑफ ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट (SHRM) के साथ साझेदारी में लागू किया जाएगा, जिसकी इस क्षेत्र में 165 देशों में मौजूदगी है।

संक्षिप्त खबरें संस्थान-संगठन

राष्ट्रीय बौद्धिक दिव्यांगजन सशक्तिकरण संस्थान


केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावरचंद गहलोत ने 9 जून, 2021 को 'राष्ट्रीय बौद्धिक दिव्यांगजन सशक्तिकरण संस्थान' (National Institute for the Empowerment of Persons with Intellectual Disabilities- NIEPID), सिकंदराबाद के डॉ. बी.आर. अम्बेडकर भवन (छात्रावास भवन) का वर्चुअली उद्घाटन किया।

  • मनोविकासनगर, सिकंदराबाद में स्थित 'राष्ट्रीय बौद्धिक दिव्यांगजन सशक्तिकरण संस्थान' (NIEPID) को वर्ष 1984 में स्थापित किया गया था। इसे पूर्व में राष्ट्रीय मानसिक विकलांग संस्थान के रूप में जाना जाता था।
  • यह दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग, सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय, भारत सरकार के प्रशासनिक नियंत्रण के तहत एक स्वायत्त निकाय है।
  • राष्ट्रीय हित में बौद्धिक दिव्यांगजनों को गुणवत्तापूर्ण सेवाएं प्रदान करने के लिए समर्पित NIEPID बौद्धिक दिव्यांगजनों को सशक्त बनाने के लिए क्षमता निर्माण में उत्कृष्टता प्राप्त करने का प्रयास करता है।
  • NIEPID के तीन क्षेत्रीय केंद्र नोएडा/नई दिल्ली, कोलकाता और मुंबई में स्थित हैं। NIEPID मॉडल विशेष शिक्षा केंद्र नोएडा/नई दिल्ली में स्थित है।

पीआईबी न्यूज आर्थिक

पावरग्रिड ने की भारत के पहले वीएससी आधारित एचवीडीसी सिस्टम की पूर्ण रूप से स्थापना


पावर ग्रिड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड (पावरग्रिड) ने 8 जून, 2021 को 2000 मेगावाट पुगलूर (तमिलनाडु) - थ्रिस्सूर (केरल) वीएससी (Voltage Source Convertor- VSC) आधारित हाई वोल्टेज डायरेक्ट करंट (एचवीडीसी) सिस्टम के मोनोपोल-1 (Monopole-I) को स्थापित कर दिया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: इस परियोजना से देश के दक्षिणी क्षेत्र की विद्युत प्रणाली मजबूत हो जाएगी। 5,070 करोड़ रुपये की पुगलूर-थ्रिस्सूर एचवीडीसी सिस्टम, रायगढ़-पुगलूर-थ्रिस्सूर 6000 मेगावाट एचवीडीसी सिस्टम का हिस्सा है।

  • पावरग्रिड विद्युत मंत्रालय, भारत सरकार के अधीन आने वाला ‘महारत्न’ केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र उद्यम है।
  • वोल्टेज सोर्स कन्वर्टर्स आधारित हाई वोल्टेज डायरेक्ट करंट तकनीक मुख्य रूप से ‘इंसुलेटेड गेट बाइपोलर ट्रांजिस्टर’ (IGBT) पर आधारित होती है। VSCs टर्न-ऑन (turn‐on) और टर्न-ऑफ (turn‐off) क्षमता दोनों के साथ एक पावर इलेक्ट्रॉनिक वाल्व का उपयोग करते हैं।

सामयिक खबरें आर्थिकी

'आतिथ्य, प्रौद्योगिकी और पर्यटन उद्योग परिसंघ' का गठन


छोटी कंपनियों, यात्रा और आतिथ्य प्रौद्योगिकी कंपनियों की मदद करने के लिए जून 2021 में ऑनलाइन बुकिंग कंपनियों एयरबीएनबी (Airbnb), ईजमायट्रिप (EaseMyTrip), ओयो (OYO) और यात्रा (Yatra) ने एक नए उद्योग संघ 'आतिथ्य, प्रौद्योगिकी और पर्यटन उद्योग परिसंघ' (Confederation of Hospitality, Technology and Tourism Industry- CHATT) का गठन किया है।

महत्वपूर्ण तथ्य: यह घरेलू पर्यटन को बढ़ावा देगा और घरेलू पर्यटन के डिजिटल परिवर्तन में मदद करेगा; छोटे होटल और मकान मालिकों, यात्रा भागीदारों को शैक्षिक प्रशिक्षण प्रदान करेगा।

  • प्रत्येक सदस्य के पास CHATT संसाधनों और लाभों तक पहुंच होगी।
  • संघ के सदस्यों में एयरबीएनबी भारत, दक्षिण पूर्व एशिया, ताइवान और हांगकांग के महाप्रबंधक अमनप्रीत बजाज; EaseMyTrip.com के सह-संस्थापक और सीईओ निशांत पिट्टी; ओयो इंडिया और दक्षिण पूर्व एशिया के सीईओ रोहित कपूर; और Yatra.com के सह-संस्थापक और सीईओ ध्रुव श्रृंगी शामिल हैं।

सामयिक खबरें आर्थिकी

भारत के एमएसएमई सेक्टर के लिए विश्व बैंक की सहायता


विश्व बैंक ने 4 जून, 2021 को भारत के सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम (एमएसएमई) सेक्टर को बढ़ावा देने में मदद के लिए 500 मिलियन डॉलर के कार्यक्रम को मंजूरी दी है।

महत्वपूर्ण तथ्य:इस कार्यक्रम का लक्ष्य 5,50,000 एमएसएमई के प्रदर्शन में सुधार करना है।

  • सूक्ष्म, लघु व मध्यम उद्योग देश की अर्थव्यवस्था की रीढ़ है, जो भारत के सकल घरेलू उत्पाद में 30% और निर्यात में 40% का योगदान देता है।
  • भारत में लगभग 58 मिलियन एमएसएमईमें से 40% से अधिक के पास वित्त के औपचारिक स्रोतों तक पहुंच नहीं है।
  • इससे पहले विश्व बैंक ने जुलाई 2020 में भारत एमएसएमई के लिए 750 मिलियन डॉलर की सहायता प्रदान की थी।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

2019 में दुनिया भर में आत्महत्या रिपोर्ट


विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) द्वारा 17 जून, 2021 को '2019 में दुनिया भर में आत्महत्या' (Suicide worldwide in 2019) रिपोर्ट प्रकाशित की गई है।

रिपोर्ट के निष्कर्ष: हर साल, एचआईवी, मलेरिया या स्तन कैंसर या युद्ध और हत्या से अधिक लोग आत्महत्या के परिणामस्वरूप मरते हैं।

  • 2019 में लगभग 7,03,000 लोगों (100 में से एक) की आत्महत्या से मृत्यु हुई है।
  • 15-29 आयु वर्ग के युवा लोगों में सड़क की चोट, तपेदिक और पारस्परिक हिंसा के बाद आत्महत्या मौत का चौथा प्रमुख कारण था।
  • 2019 में 77% वैश्विक आत्महत्याएं निम्न और मध्यम आय वाले देशों में हुई हैं।
  • 2019 में दुनिया में औसतन, हर 100,000 लोगों में से 9 ने अपने जीवन को समाप्त किया है। अफ्रीका, यूरोप और दक्षिण-पूर्व एशिया में आत्महत्या की दर विश्व के औसत से अधिक है।
  • वर्तमान में केवल 38 देशों में राष्ट्रीय आत्महत्या रोकथाम रणनीति है।

लिव लाइफ दिशा-निर्देश: 2030 तक वैश्विक आत्महत्या दर में एक-तिहाई कमी लाने के सतत विकास लक्ष्य को पूरा करने हेतु देशों को मदद करने के लिए WHO द्वारा नए 'लिव लाइफ' (LIVE LIFE) दिशा-निर्देश जारी किए गए।

  • ये दिशा-निर्देश हैं- आत्महत्या के साधनों तक पहुंच सीमित करना, आत्महत्या की जिम्मेदार रिपोर्टिंग पर मीडिया को शिक्षित करना, किशोरावस्था में सामाजिक-भावनात्मक जीवन कौशल को बढ़ावा देना तथा आत्महत्या वाले विचारों और व्यवहार से प्रभावितों की प्रारंभिक पहचान कर उनकी सहायता करना।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित स्थल

सेंट विंसेंट और द ग्रेनेडाइंस


केन्द्रीय मंत्रिमंडल ने 23 जून, 2021 को भारत तथा ‘सेंट विंसेंट और द ग्रेनेडाइंस’ (St. Vincent and The Grenadines) के बीच करों के संबंध में सूचना के आदान-प्रदान व संग्रह में सहायता के लिए समझौते को मंजूरी दी है।

  • समझौते में विदेश में कर जांच के प्रावधान भी शामिल हैं, जिसके तहत एक देश, दूसरे देश के प्रतिनिधियों को व्यक्तियों का साक्षात्कार करने और कर उद्देश्यों के लिए रिकॉर्ड की जांच करने के लिए अपने क्षेत्र में प्रवेश की अनुमति दे सकता है।
  • सेंट विंसेंट और ग्रेनेडाइंस पूर्वी कैरेबियन सागर में स्थित देश है। यह सेंट विंसेंट और दक्षिण में 32 छोटे द्वीपों और कोरल के निचले किनारे के एक समूह 'उत्तरी ग्रेनेडाइंस' के द्वीप से मिलकर बना है।
  • यह लेसर एंटिल्स (Lesser Antilles) के दक्षिण-पूर्वी विंडवर्ड द्वीप समूह (southeast Windward Islands) में स्थित है।
  • इसकी राजधानी किंग्सटाउन है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप नियुक्ति

अनूप चंद्र पांडे ने नए निर्वाचन आयुक्त के रूप में पदभार ग्रहण किया


9 जून‚ 2021 को सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी अनूप चंद्र पांडे ने देश के नए चुनाव आयुक्त के रूप में पदभार ग्रहण किया।

  • 1984 बैच के आईएएस अधिकारी अनूप चंद्र पांडे उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव रह चुके हैं।
  • भारत के निर्वाचन आयोग में शामिल होने से पहले, उन्होंने उत्तर प्रदेश के राष्ट्रीय हरित अधिकरण निरीक्षण समिति के सदस्य के रूप में कार्य किया है।
  • उन्होंने ‘प्राचीन भारत में शासन’ नामक एक पुस्तक लिखी है‚ जो ऋग्वैदिक काल से 650 ईस्वी तक प्राचीन भारतीय नागरिक सेवा के विकास‚ प्रकृति‚ कार्यक्षेत्र‚ कार्यों और सभी संबंधित पहलुओं के बारे में जानकारी प्रदान करती है।
  • तीन सदस्यीय भारत निर्वाचन आयोग में अन्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार तथा मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा हैं।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप नियुक्ति

एंटोनियो गुटेरेस दोबारा संयुक्त राष्ट्र महासचिव के रूप में नियुक्त


संयुक्त राष्ट्र महासभा ने एंटोनियो गुटेरेस को 1 जनवरी, 2022 से 31 दिसंबर, 2026 तक के लिये दूसरे कार्यकाल हेतु संयुक्त राष्ट्र महासचिव (UNSG) नियुक्त किया है।

  • गुटेरेस ने 1 जनवरी, 2017 को पद की शपथ ली और उनका पहला कार्यकाल 31 दिसंबर, 2021 को समाप्त होगा।
  • गुटेरेस 1995 से 2002 तक पुर्तगाल के प्रधानमंत्री भी रह चुके हैं।
  • गुटेरेस ने जून 2005 से दिसंबर 2015 तक (एक दशक) शरणार्थियों के लिये संयुक्त राष्ट्र के उच्चायुक्त के रूप में कार्य किया था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप पुरस्कार/सम्मान

लैंड फॉर लाइफ अवॉर्ड 2021


16 जून‚ 2021 को यूएनसीसीडी (UN Convention to Combat Desertification- UNCCD) द्वारा ‘लैंड फॉर लाइफ अवॉर्ड 2021 (Land for life award 2021) की घोषणा की गई।

  • इस वर्ष यह पुरस्कार भारत के राजस्थान राज्य के पर्यावरण संरक्षण संगठन ‘फैमिलियल फॉरेस्ट्री’ (Familial forestry) को प्रदान किया गया है। फैमिलियल फॉरेस्ट्री‚ राजस्थान के बीकानेर के प्रोफेसर श्याम सुंदर ज्याणी द्वारा शुरू किया गया पर्यावरण संरक्षण अभियान है।
  • फैमिलियल फॉरेस्ट्री या पारिवारिक वानिकी का अर्थ है परिवार में पेड़ और पर्यावरण की देखभाल को स्थानांतरित करना ताकि एक पेड़ परिवार की चेतना का हिस्सा बन जाए। यह अभियान वर्ष 2003 में शुरू हुआ था।
  • लैंड फॉर लाइफ अवॉर्ड भूमि संरक्षण की दिशा में किए गए प्रयासों के तहत उत्कृष्टता तथा नवाचार को मान्यता प्रदान करता है। इसे वर्ष 2011 में यूएनसीसीडी कॉप-10 में कोरिया गणराज्य में ‘चांगवोन पहल’ (Changwon Initiative) के हिस्से के रूप में लांच किया गया था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप अभियान/सम्मेलन/आयोजन

बाढ़ प्रबंधन


केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने 15 जून, 2021 को बाढ़ प्रबंधन पर नई दिल्ली में एक उच्चस्तरीय बैठक की।

  • जल शक्ति मंत्रालय को बड़े बांधों से मिट्टी निकालने के लिए एक व्यवस्था बनाने का सुझाव दिया गया, जिससे बांधों की क्षमता बढ़ाने और बाढ़ नियंत्रण में मदद मिल सकेगी।
  • गृह मंत्री ने बिजली गिरने संबंधी भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की चेतावनी को विभिन्न माध्यमों से जनता तक शीघ्र पंहुचाने के लिए तुरंत एक SOP तैयार करने का निर्देश दिया।
  • भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के मौसम भविष्यवाणी संबंधी विभिन्न मोबाइल ऐप जैसे -‘उमंग’, ‘रेन अलार्म’ और ‘दामिनी’ का अधिकतम प्रचार करने का भी निर्देश दिया।
  • ‘दामिनी’ ऐप के माध्यम से 3 घंटे पहले बिजली गिरने संबंधी चेतावनी दी जाती है ताकि जान माल का कम से कम नुकसान हो।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

अंतरराष्ट्रीय क्षुद्रग्रह दिवस


30 जून

महत्वपूर्ण तथ्य: 30 जून, 1908 को रूस की तुंगुस्का नदी के पास बहुत बड़ा विस्फोट हुआ था, जिसे क्षुद्रग्रह के चलते धरती पर हुआ अब तक का सबसे बड़ा नुकसान माना जाता है। इसी कारण क्षुद्रग्रह के खतरे को लेकर जागरूकता के लिए यह दिवस मनाया जाता है।

खेल समाचार चर्चित खेल व्यक्तित्व

न्यूजीलैंड के डेवोन कॉनवे ने पदार्पण टेस्ट में जड़ा दोहरा शतक


3 जून‚ 2021 को न्यूजीलैंड के बल्लेबाज डेवोन कॉनवे ने लॉर्ड्स में इंग्लैंड के विरुद्ध पर्दापण टेस्ट में दोहरा शतक लगाया। उन्होंने 200 रनों की पारी खेली।

  • उन्होंने लॉर्ड्स में पर्दापण टेस्ट में सर्वाधिक स्कोर बनाने के पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली के 25 वर्ष पुराने रिकॉर्ड को तोड़ दिया। गांगुली ने वर्ष 1996 में लॉर्ड्स में टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण करते हुए 131 रन बनाए थे।
  • कॉनवे इंग्लैंड की धरती पर पर्दापण टेस्ट में सबसे बड़ी पारी खेलने वाले विश्व के पहले बल्लेबाज बन गए हैं। इससे पहले यह रिकॉर्ड इंग्लैंड की ओर से खेलने वाले दिग्गज केएस रंजीत सिंहजी के नाम था, उन्होंने 1896 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 154 नाबाद रन बनाए थे।
  • कॉनवे पदार्पण टेस्ट में दोहरा शतक लगाने वाले न्यूजीलैंड के दूसरे और विश्व के सातवें बल्लेबाज हैं। कॉनवे पदार्पण पारी में दोहरा शतक लगाने वाले छठे बल्लेबाज हैं। इनसे पहले फरवरी 2021 में वेस्टइंडीज के काइल मेयर्स ने बांग्लादेश के खिलाफ पदार्पण टेस्ट में दूसरी पारी में दोहरा शतक (210 नाबाद रन) लगाया था।
  • न्यूजीलैंड के मैथ्यू सिंक्लेयर ने सिंक्लेयर ने वर्ष 1999 में वेलिंगटन में अपने पदार्पण टेस्ट में 214 रन बनाए थे।

खेल समाचार क्रिकेट

मई 2021 के आईसीसी प्लेयर ऑफ द मंथ


अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) ने 14 जून, 2021 को 'मई 2021 के आईसीसी प्लेयर ऑफ द मंथ' (ICC Player of the Month for May 2021) पुरस्कार विजेताओं की घोषणा की।

  • बांग्लादेश के विकेटकीपर- बल्लेबाज मुशफिकुर रहीम ने श्रीलंका के खिलाफ बेहतरीन प्रदर्शन के लिए ‘मई 2021 के लिए आईसीसी मेंस प्लेयर ऑफ द मंथ’ (ICC Men’s Player of the Month for May 2021) पुरस्कार जीता।
  • मुशफिकुर ने मई माह में श्रीलंका के खिलाफ एक टेस्ट और तीन एकदिवसीय मैच खेले, जहां उन्होंने दूसरे एकदिवसीय मैच में 125 रनों की पारी खेलकर बांग्लादेश को श्रीलंका के खिलाफ अपनी पहली एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय शृंखला जीतने में मदद की।
  • महिलाओं में स्कॉटलैंड की हरफनमौला खिलाड़ी कैथरीन ब्राइस (Kathryn Bryce) ‘मई 2021 के लिए आईसीसी वूमेंस प्लेयर ऑफ मंथ’ (ICC Women’s Player of the Month for May 2021) अवॉर्ड के लिए चुनी गई।
  • कैथरीन स्कॉटलैंड की पहली पुरुष या महिला खिलाड़ी हैं, जिन्होंने हाल में जारी की गई आईसीसी प्लेयर रैंकिंग में बल्लेबाजी या गेंदबाजी सूची के शीर्ष 10 में जगह बनाई है।
  • कैथरीन ने मई माह में आयरलैंड के खिलाफ चार अंतरराष्ट्रीय टी-20 मैच खेले, जहां उन्होंने 96 रन बनाए और 4.76 की इकॉनमी रेट से 5 विकेट लिए।

संक्षिप्त खबरें बैंकिंग, फाइनेंस, सेवा और बीमा

एसबीआई 'आरोग्यम हेल्थकेयर बिजनेस लोन'


स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) ने 24 जून, 2021 को 'आरोग्यम हेल्थकेयर बिजनेस लोन' (Aarogyam Healthcare Business Loan) की घोषणा की।

  • इसके तहत संपूर्ण हेल्थकेयर इकोसिस्टम जैसे कि अस्पताल, नर्सिंग होम, डायग्नोस्टिक सेंटर, पैथोलॉजी लैब, मेडिकल डिवाइस, उपकरण निर्माता, आपूर्तिकर्ता, आयातक और महत्वपूर्ण स्वास्थ्य आपूर्ति में संलग्न लॉजिस्टिक्स फर्म 10 वर्षों में चुकाने योग्य 100 करोड़ रुपये तक के ऋण का लाभ उठा सकते हैं।
  • ऋण को विस्तार/आधुनिकीकरण का समर्थन करने के लिए सावधि ऋण के रूप में या नकद ऋण, बैंक गारंटी/साख पत्र जैसी कार्यशील पूंजी सुविधाओं के रूप में लिया जा सकता है।
  • मेट्रो केंद्रों में, 100 करोड़ रुपये तक का ऋण, टियर I और शहरी केंद्रों में 20 करोड़ रुपये तक और टियर II से टियर VI केंद्रों में 10 करोड़ रुपये तक का ऋण लिया जा सकता है।

पीआईबी न्यूज राष्ट्रीय

राष्ट्रीय सांख्यिकी दिवस 2021 के अवसर पर राष्ट्रीय पुरस्कार


29 जून, 2021 को महान सांख्यिकीविद् स्वर्गीय प्रो. पी.सी.महालनोबिस की जयंती ‘राष्ट्रीय सांख्यिकी दिवस’ के अवसर पर सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय द्वारा स्थापित राष्ट्रीय पुरस्कारों के विजेताओं की घोषणा की गई और उन्हें वर्चुअल रूप में सम्मानित किया गया।

  • राष्ट्रीय सांख्यिकी आयोग के पूर्व अध्यक्ष डॉ. आर. बी. बर्मन को लाइफटाइम एचीवमेंट (आजीवन उपलब्धियों) के लिए ‘शासकीय सांख्यिकी-2021 प्रो. पी.सी. महालनोबिस राष्ट्रीय पुरस्कार’ प्रदान किया गया।
  • ‘45 वर्ष से अधिक आयु के सेवारत शासकीय सांख्यिकीविद्’ श्रेणी में ‘शासकीय सांख्यिकी-2021 प्रो. पी.सी.महालनोबिस राष्ट्रीय पुरस्कार’ चेन्नई के गणितीय विज्ञान संस्थान के प्रोफेसर डॉ. सीताभ्रा सिन्हा को प्रदान किया गया।
  • युवा सांख्यिकीविदों के लिए प्रो. सी. आर. राव राष्ट्रीय पुरस्कार सांख्यिकी-2021 भारतीय सांख्यिकी संस्थान, कोलकाता के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. किरणमय दास को दिया गया।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

ग्लोबल लिवेबिलिटी इंडेक्स 2021


9 जून, 2021 को लंदन स्थित इकोनॉमिस्ट इंटेलिजेंस यूनिट (EIU) द्वारा दुनिया के रहने योग्य शहरों (World’s Most Liveable Cities) का वार्षिक सर्वेक्षण 'ग्लोबल लिवेबिलिटी इंडेक्स 2021’ (global liveability index 2021) जारी किया गया।

महत्वपूर्ण तथ्य: लिवेबिलिटी इंडेक्स में पिछले एक साल में व्यक्तिगत जीवन शैली के सामने पेश की गई चुनौतियों का आकलन करने के लिए दुनिया भर में 140 शहरों का परीक्षण किया गया है।

  • सूचकांक पांच व्यापक श्रेणियों में फैले 30 से अधिक गुणात्मक और मात्रात्मक कारकों को ध्यान में रखता है- स्थिरता (25%), स्वास्थ्य सेवा (20%), संस्कृति और पर्यावरण (25%), शिक्षा (10%), और बुनियादी ढांचा (20%)।
  • कोविड -19 को तेजी से नियंत्रित करने की क्षमता के कारण न्यूजीलैंड के शहर ऑकलैंड को लिवेबिलिटी रैंकिंग में सर्वश्रेष्ठ स्थान दिया गया है।
  • सीरिया में चल रहे गृहयुद्ध के प्रभाव के कारण दमिश्क दुनिया का सबसे कम रहने योग्य शहर है।

दुनिया के 10 सबसे अधिक रहने योग्य शहर: 1- ऑकलैंड (न्यूजीलैंड), 2- ओसाका (जापान), 3- एडिलेड (ऑस्ट्रेलिया), 4- वेलिंगटन (न्यूजीलैंड), 5- टोक्यो (जापान), 6- पर्थ (ऑस्ट्रेलिया), 7- ज्यूरिख (स्विट्जरलैंड), 8- जिनेवा (स्विट्जरलैंड), 9- मेलबर्न (ऑस्ट्रेलिया), 10- ब्रिस्बेन (ऑस्ट्रेलिया)।

  • 1946 में स्थापित इकोनॉमिस्ट इंटेलिजेंस यूनिट (EIU) इकोनॉमिस्ट ग्रुप का अनुसंधान और विश्लेषण प्रभाग है। यह अनुसंधान और विश्लेषण करके पूर्वानुमान और सलाहकार सेवाएं प्रदान करता है।

सामयिक खबरें अंतर्राष्ट्रीय

न्यू अटलांटिक चार्टर


अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन और ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने 10 जून, 2021 को अटलांटिक चार्टर से संबंधित दस्तावेजों का निरीक्षण किया और ‘न्यू अटलांटिक चार्टर’ (New Atlantic Charter) नामक एक दस्तावेज पर हस्ताक्षर किए।

महत्वपूर्ण तथ्य: न्यू अटलांटिक चार्टर 1941 के अटलांटिक चार्टर का एक नया संस्करण है।

न्यू अटलांटिक चार्टर के उद्देश्य: लोकतंत्र और खुले समाज के सिद्धांतों, मूल्यों और संस्थानों की रक्षा करने का संकल्प; अंतरराष्ट्रीय सहयोग को कायम रखने वाले संस्थानों, कानूनों और मानदंडों को मजबूत करना;

  • एक समावेशी, निष्पक्ष, जलवायु अनुकूल, सतत और नियम आधारित अर्थव्यवस्था निर्माण जारी रखने के लिए प्रतिबद्धता;
  • स्वास्थ्य संकटों के विनाशकारी प्रभाव और स्वास्थ्य खतरों के खिलाफ सामूहिक बचाव को मजबूत करना।
  • संप्रभुता, क्षेत्रीय अखंडता और विवादों के शांतिपूर्ण समाधान के सिद्धांतों पर एकजुट होने का प्रयास करना।
  • साइबर खतरों के खिलाफ भी सामूहिक सुरक्षा और अंतरराष्ट्रीय स्थिरता बनाए रखने का प्रयास करना।

अटलांटिक चार्टर: अटलांटिक चार्टर, अगस्त 1941 में ब्रिटिश प्रधान मंत्री विंस्टन चर्चिल और अमेरिकी राष्ट्रपति फ्रैंकलिन डी रूजवेल्ट द्वारा हस्ताक्षरित एक घोषणा है, जिसमें द्वितीय विश्व युद्ध के बाद दुनिया के लिए साझा लक्ष्य निर्धारित किये गए थे। इन लक्ष्यों में मुक्त व्यापार, निरस्त्रीकरण और सभी लोगों के आत्मनिर्णय का अधिकार (right to self-determination of all people) शामिल थे।

  • अटलांटिक चार्टर को अक्सर ट्रांस-अटलांटिक "विशेष संबंधों" की आधारशिला के रूप में उद्धृत किया जाता है।

सामयिक खबरें पर्यावरण

ग्रेट बैरियर रीफ को विश्व धरोहर स्थलों की "संकटग्रस्त" सूची में शामिल करने की सिफारिश


22 जून, 2021 को संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक और सांस्कृतिक संगठन (यूनेस्को) समिति ने ग्रेट बैरियर रीफ को विश्व धरोहर स्थलों की “संकटग्रस्त” सूची (list of “in danger” World Heritage Sites) में शामिल करने की सिफारिश की है।

महत्वपूर्ण तथ्य: जलवायु परिवर्तन के प्रभाव के कारण दुनिया की सबसे बड़ी प्रवाल भित्ति प्रणाली को सूची में शामिल करने की सिफारिश की गई है।

  • 2015 में, यूनेस्को ने उल्लेख किया था कि प्रवाल भित्ति के लिए दृष्टिकोण खराब है हालांकि तब, इसके दर्जे को अपरिवर्तित रखा गया था।
  • वैज्ञानिकों का कहना है कि तब से गंभीर समुद्री हीटवेव के कारण इसे तीन प्रमुख प्रवाल विरंजन घटनाओं का सामना करना पड़ा है।

संकटग्रस्त विश्व धरोहर स्थल सूची: शहरी और पर्यटन विकास, सशस्त्र संघर्ष, प्राकृतिक आपदाओं और परित्यक्त (abandonment) सहित खतरों की एक विस्तृत शृंखला से सुरक्षा की आवश्यकता वाले स्थलों की पहचान करने के लिए विश्व धरोहर स्थलों की संकटग्रस्त सूची 1972 के यूनेस्को कन्वेंशन के अनुच्छेद 11.4 के अनुसार तैयार की जाती है।

  • संकटग्रस्त सूची का उद्देश्य अंतरराष्ट्रीय जागरूकता बढ़ाना, प्रतिवाद को प्रोत्साहित करना और भविष्य में होने वाले नुकसान को रोकना है।

ग्रेट बैरियर रीफ: ग्रेट बैरियर रीफ का विश्व धरोहर सूचीबद्ध क्षेत्रफल 348,000 वर्ग किमी. है, जोकि 344,400 वर्ग किमी. के ‘ग्रेट बैरियर रीफ मरीन पार्क’ क्षेत्र से थोड़ा अधिक है। मरीन पार्क उत्तर-पूर्वी ऑस्ट्रेलिया में क्वींसलैंड के तट के साथ लगभग 2300 किमी. तक फैला है। ग्रेट बैरियर रीफ को 1981 में यूनेस्को की विश्व धरोहर सूची में शामिल किया गया था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित व्यक्ति

इब्राहिम रायसी ईरान के नए राष्ट्रपति निर्वाचित


जून 2021 में इब्राहिम रायसी ईरान के 8वें राष्ट्रपति निर्वाचित हुए हैं।

  • वे अगस्त 2021 में पदभार ग्रहण करेंगे। वे राष्ट्रपति के रूप में हसन रूहानी की जगह लेंगे।
  • इब्राहिम रायसी को एक रुढ़िवादी नेता माना जाता है। वे वर्तमान में ईरान के मुख्य न्यायधीश भी हैं।
  • इब्राहिम रायसी का जन्म 14 दिसम्बर, 1960 को ईरान के मशाद में हुआ था। 1980 में मात्र 20 वर्ष की आयु में करज के महा-अभियोजक (Prosecutor General) बनने पर उन्होंने ख्याति हासिल की थी।
  • बाद में वे 2004 से 2014 तक ईरान के पहले उप-मुख्य न्यायधीश रहे। इसके बाद 2014 से 2016 तक वे ईरान के महा-अभियोजक भी रहे। 2019 से वे ईरान के मुख्य न्यायधीश के रूप में कार्य कर रहे हैं।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप निधन

प्रसिद्ध कवि एवं गीतकार एस. रामेसन नायर का निधन


प्रसिद्ध कवि एवं गीतकार एस. रामेसन नायर का 18 जून, 2021 को निधन हो गया। वे 73 वर्ष के थे।

  • उन्होंने 1985 में रिलीज हुई फिल्म 'पथमुदयम' (Pathamudayam) से मलयालम फिल्मों के लिए गीत लिखना शुरू किया था।
  • कवि ने 'तिरुक्कुरल' (Tirukkural) और 'चिलपथिकरम' (Chilapathikaram) का मलयालम में अनुवाद भी किया था।
  • नायर ने राज्य भाषा संस्थान, केरल में उप-संपादक के रूप में और ऑल इंडिया रेडियो में निर्माता के रूप में भी काम किया था।
  • उनकी कविताओं के संग्रह ‘गुरुपूर्णमी’(Gurupowrnami) के लिए उन्हें वर्ष 2018 में साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।
  • उन्हें वर्ष 2010 में केरल साहित्य अकादमी पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप पुरस्कार/सम्मान

अंतरराष्ट्रीय बुकर पुरस्कार 2021


2 जून, 2021 को फ्रांस के उपन्यासकार डेविड डिओप को ‘अंतरराष्ट्रीय बुकर पुरस्कार 2021’ (International Booker Prize 2021) से सम्मानित किया गया है।

  • वह यह पुरस्कार जीतने वाले फ्रांस के पहले लेखक हैं। उन्हें यह पुरस्कार उनकी अंग्रेजी में अनुवादित पुस्तक ‘एट नाइट ऑल ब्लड इज ब्लैक’ (At Night All Blood is Black) के लिए दिया गया है।
  • वे पुरस्कार की 50,000 पाउंड की राशि को अनुवादक अन्ना मोस्कोवाकिस (Anna Moschovakis) के साथ साझा करेंगे।
  • यह पुरस्कार प्रतिवर्ष किसी भी भाषा के काल्पनिक कथा उपन्यास को दिया जाता है, जिसका अनुवाद अंग्रेजी में हुआ हो और प्रकाशन ब्रिटेन अथवा आयरलैंड में हुआ हो।
  • वर्ष 2020 में यह पुरस्कार नीदरलैंड्स की लेखिका ‘मारिके लुकास रिजनेवेल्ड’ को उनके उपन्यास 'द डिस्कम्फर्ट ऑफ इवनिंग' (The Discomfort of Evening) के लिए प्रदान किया गया था।

जीके फैक्ट: अंतरराष्ट्रीय बुकर पुरस्कार, जिसे पहले मैन बुकर अंतरराष्ट्रीय पुरस्कार के रूप में जाना जाता था, 2005 से प्रदान किया जाता है, जब इसे अल्बानियाई लेखक इस्माइल कदरे ने जीता था।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

राष्ट्रीय सांख्यिकी दिवस


2021 का विषय/अभियान: ‘सतत विकास लक्ष्य (एसडीजी) -2 : भुखमरी की समाप्ति, खाद्य सुरक्षा हासिल करना और पोषण में सुधार तथा टिकाऊ कृषि को बढ़ावा देना’।

महत्वपूर्ण तथ्य: दैनिक जीवन में सांख्यिकी के महत्व को मानते हुए और इसके उपयोग को लोकप्रिय बनाने के लिए भारत सरकार प्रसिद्ध सांख्यिकीविद् प्रो. प्रशांत चंद्र महालनोबिस की जयंती पर यह दिवस मनाती है।

संक्षिप्त खबरें सार-संक्षेप चर्चित दिवस

संसदीयता का अंतरराष्ट्रीय दिवस


30 जून

2021 का विषय/अभियान: 'आई से यस टू यूथ इन पार्लियामेंट' (I Say Yes to Youth in Parliament)।

महत्वपूर्ण तथ्य: इस दिन 1889 में संसदों का वैश्विक संगठन 'अंतर संसदीय संघ' (IPU) स्थापित किया गया था। यह दिवस संसदों और सरकार की संसदीय प्रणाली द्वारा दुनिया भर के लोगों के दिन-प्रतिदिन के जीवन में सुधार को मान्यता देता है।

खेल समाचार चर्चित खेल व्यक्तित्व

साजन प्रकाश ओलंपिक ‘ए’ कट में प्रवेश करने वाले पहले भारतीय तैराक बने


26 जून, 2021 को साजन प्रकाश आगामी टोक्यो ओलंपिक के 'ए’ स्टैंडर्ड के लिए क्वालीफाई करने वाले पहले भारतीय तैराक बन गए हैं।

  • साजन ने रोम में सेटे कोली ट्रॉफी (Sette Colli Trophy) में पुरुषों की 200 मीटर बटरफ्लाई में 1 मिनट 56.38 सेकेंड का समय निकालकर यह उपलब्धि हासिल की। 'ए’ स्टैंडर्ड के लिए क्वालिफिकेशन कट ऑफ 1 मिनट 56.48 सेकेंड था।
  • साजन प्रकाश केरल से हैं। उन्होंने 2015 में केरल में आयोजित राष्ट्रीय खेलों में 6 स्वर्ण और 3 रजत पदक जीत कर रिकॉर्ड बनाया था। उन्होंने 2016 के रियो ओलिंपिक में भी हिस्सा लिया था।